विश्व डाइजेस्ट Slideshow Image Script
पाठकों की पसंद
>> यमन में हाउती विद्रोहियों ने राष्ट्रपति को बनाया बंधक
इंश्योरेंस रिफार्म में देरी पर संसद का संयुक्त सत्र बुला सकती है सरकारः जेटली
ओबामा यात्रा : आतंकी हमला हुआ तो भुगतेगा पाक
फलस्तीन में कनाडा के विदेश मंत्री पर बरसाए गए अंडे और जूते
यूएस कोर्ट ने दी पीएम मोदी को राहत,नहीं चलेगा उनके खिलाफ मुकदमा
पृथ्वी से सुरक्षित गुजर जाएगा आकाशीय पिंड
चंद्रमा पर यान भेजकर वापस लाने की दिशा में आगे बढ़ा चीन
सीरिया पहुंची पेरिस हमले में शामिल महिला आतंकी
इराक के अस्तित्व पर मंडरा रहा खतरा : केरी
हज यात्रियों के लिए सहूलियतें बढ़ाने पर सुषमा का जोर


ब्राज़ील: राष्ट्रपति भवन में जबरन कार घुसाने की नाबालिग की हिमाकत, सुरक्षाकर्मियों में मचा हड़कंप- चली गोलियां
29 Jun 2017
कार चालक तेज रफ्तार से राष्ट्रपति भवन के प्रवेश द्वार को तोड़ता भीतर चला गया। सुरक्षा गार्डों ने उसे चेतावनी देते हुए पहले हवा में गोलियां चलायीं और जब वाहन नहीं रूका तो उस पर भी गोलियां चलायीं। ब्राजील में एक नाबालिग शख्स ने राष्ट्रपति निवास के प्रवेश द्वार में जबरन अपनी कार घुसाने की कोशिश की। ऐसी हरकत पर अचानक से वहां सुरक्षा में तैनात सुरक्षाकर्मियों में हड़कंप मच गया। हालांकि पुलिस ने ऐसा करने पर आरोपी नाबालिग को गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा है कि जब ये घटना हुई उस समय राष्ट्रपति माइकल टेमर भवन के अंदर मौजूद नहीं थे। राष्ट्रपति भवन सूत्रों ने बताया कि एक कार चालक तेज रफ्तार से राष्ट्रपति भवन के प्रवेश द्वार को तोड़ता भीतर चला गया। सुरक्षा गार्डों ने उसे चेतावनी देते हुए पहले हवा में गोलियां चलायीं और जब वाहन नहीं रूका तो उस पर भी गोलियां चलायीं। सूत्रों ने बताया कि बाद में वाहन चालक को दबोच लिया गया जो नाबालिग था। फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है। टेमर दूसरे सरकारी निवास में रहते हैं।
भारत को जरूरी सुरक्षा संसाधन मुहैया कराएगा अमेरिका
28 Jun 2017
वाशिंगटन। अमेरिका के उपराष्ट्रपति माइक पेंस ने कहा है कि उनका देश भारत को दक्षिण एशिया में सुरक्षा मजबूत करने के लिए भारत को जरूरी संसाधन एवं तकनीक मुहैया कराएगा। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अमेरिकी दौरे खत्म होने के बाद माइक पेंस ने ये बयान दिया। पेंस ने कहा कि आपको घोषणा से इतर देखने की जरूरत नहीं है जिसके अनुसार अमेरिका भारत को सी गाडर्यिन यूएवी, अपाचे लड़ाकू हेलीकॉप्टर और सी-17 परिवहन विमान बेचेगा। उन्होंने कहा कि अभी बेचने की मंजूरी देने की प्रक्रिया चल रही है और उन्हें उम्मीद है कि इससे पारस्परिक सुरक्षा को लेकर दोनों देशों की प्रतिबद्धता दिखेगी और सुरक्षा के लिए भागीदारी के महत्व का पता चलेगा।
ड्रेगन का दुस्साहस... सिक्किम सेक्टर में घुसे चीनी सैनिक, हमारे 2 बंकर किए तबाह
27 Jun 2017
चीनी सैनिक सोमवार को सिक्किम सेक्टर में घुस आए। चीनी सैनिकों की भारत-चीन सीमा की सुरक्षा करने वाले भारतीय सेना के जवानों के साथ नोक-झोंक भी हुई। इसके अलावा चीनी सैनिकों ने दो बंकरों को भी नष्ट कर दिया। भारतीय सैनिक सिक्किम के डोका ला में 10 दिन से चीनी सैनिकों का सामना कर रहे हैं। भारतीय जवानों ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर रोकने के लिए मानव शृंखला भी बनाई है। जवानों ने चीनी सैनिकों का वीडियो भी बनाया है। चीनी सैनिकों ने डोका ला इलाके के लालटेन में दो बंकरों को तबाह किया है। फ्लैग मीटिंग के बाद भी तनाव कम नहीं 20 जून को भारत और चीन के वरिष्ठ अधिकारियों के बीच फ्लैग मीटिंग हुई थी। इसके बाद भी तनाव कम नहीं हुआ है। भूटान और तिब्बत से सटे इस इलाके में चीनी सैनिकों ने नवंबर 2008 में भी घुसपैठ की कर भारतीय सेना के बंकर्स को तोड़ दिया था। 600 मीटर घुस आए थे पाक सैनिक गुरुवार को पाकिस्तान के सैनिक एलओसी के 600 मीटर तक अंदर घुस आए थे। भारतीय चौकियों से उनकी दूरी महज 200 मीटर की थी। जिसका जवाब भारतीय जवानों ने भी दिया था और एक हमलावर को मार गिराया था।
ट्रंप प्रशासन करना चाहता है भारत के साथ ऐसा परमाणु सौदा
24 Jun 2017
वाशिंगटन अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का प्रशासन भारत के साथ वेस्टिंग हाउस परमाणु रिएक्टर सौदे के साथ आगे बढऩा चाहता है। ट्रंप के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोमवार को प्रस्तावित मुलाकात से पहले व्हाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए कहा कि लगभग एक वर्ष पहले हुए इस समझौते को लागू करने की रफ्तार परमाणु दुर्घटना की स्थिति में देयता संबंधी चिंताओं की वजह से धीमा है। अधिकारी ने कहा कि हम अभी भी इस सौदे को आगे बढ़ाने में बहुत रुचि रखते हैं। वेस्टिंग हाउस इस परियोजना की व्यवहार्यता से खड़ा है। हम वेस्टिंग हाउस और उसके भारतीय भागीदारों के बीच जारी वार्ता को बहुत समर्थन करते हैं। गौरतलब है कि पिछले साल जून में भारतीय परमाणु ऊर्जा निगम तथा अमेरिकी कंपनी वेस्टिंगहाउस भारत में छह परमाणु बिजली रिएक्टरों के लिए इंजीनियरिंग और स्थल डिजाइन कार्य तत्काल शुरू करने तथा अनुबंधात्मक व्यवस्था एक वर्ष में पूरा करने पर सहमति जताई थी।
भीषण विस्फोट से दहला पाकिस्तान, अब तक 11 लोगों की मौत, कर्इ घायल
23 Jun 2017
इस्लामाबाद पाकिस्तान के क्वेटा शहर में शुक्रवार को हुए एक विस्फोट में 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि 16 अन्य घायल हो गए। एक पाकिस्तानी वेबसाइट के मुताबिक, विस्फोट बलूचिस्तान प्रांत के गुलिस्तान रोड पर स्थित पुलिस महानिरीक्षक एहसान महबूब के कार्यालय पास हुआ, जहां कई महत्वपूर्ण सरकारी कार्यालय हैं। पुलिस उपमहानिरीक्षक अब्दुल रज्जाक चीमा ने मृतकों की संख्या की पुष्टि की है। मरने वालों में चार पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। उन्होंने कहा कि विस्फोट किस तरह का था, उसका अभी पता नहीं चल पाया है। चीमा ने कहा, 'घटनास्थल पर लगे सीसीटीवी फुटेज को देखकर विस्फोट के कारण और उसकी प्रकृति का पता लगाया जाएगा।' पुलिस ने बताया कि घायलों को क्वेटा के सिविल अस्पताल ले जाया गया है। बताया जा रहा है कि इलाके में अब भी बचाव अभियान जारी है। विस्फोट की जिम्मेदारी फिलहाल किसी आतंकवादी संगठन ने नहीं ली है।
सऊदी अरब में परिवार रखना महंगा, 41 लाख भारतीयों पर पड़ेगा असर
22 Jun 2017
रियाद सऊदी अरब सरकार ने एक जुलाई से फैमिली टैक्स में इजाफा करने का निर्णय लिया है जिस वजह से वहां रह रहे भारतीय नागरिकों के लिए मुश्किलें बढ़ सकती हैं। ऐसे में सऊदी अरब में काम करने वाले बड़ी संख्या में भारतीय नागरिक अपने आश्रितों को वापस भारत भेजने की योजना बना रहे हैं। कइयों ने तो इसकी शुरुआत भी कर दी है। सऊदी अरब सरकार का एक जुलाई से अपने देश में रहने वाले प्रवासियों पर फैमिली टैक्स लगाने जा रही है। इसके तहत सऊदी अरब में परिवार के साथ रहने वाले दूसरे देशों के नागरिकों को प्रति आश्रित 100 रियाल (करीब 1700 रुपए) टैक्स के रूप में देने पड़ेंगे। यह वहां रहने वाले भारतीयों के लिए एक बड़ा वित्तीय बोझ है। अभी तक भारतीय विदेश मंत्रालय ने सऊदी अरब सरकार की तरफ से लगाए गए इस टैक्स के बारे में कोई बयान नहीं दिया है। एक अधिकारी ने कहा है कि इस नियम का सभी प्रवासियों पर असर पड़़ेगा। प
प्रवासियों में भारतीयों की संख्या सबसे ज्यादा एक रिपोर्ट के अनुसार सऊदी अरब में करीब 41 लाख भारतीय रहते हैं। सऊदी अरब में रहने वाले प्रवासियों में भारतीयों की संख्या सबसे ज्यादा है।
86 हजार आमदनी वालों को वीजा सऊदी सरकार पांच हजार रियाल (करीब 86 हजार रुपए) से ज्यादा आमदनी वाले प्रवासी कामगारों को फैमिली वीजा देती है। अगर पांच हजार रियाल वाले किसी परिवार में एक पति के अलावा एक पत्नी व दो बच्चे हैं तो उसे हर महीने 300 रियाल (पांच हजार रु.) टैक्स देना होगा।
इस टैक्स का करना होगा अग्रिम भुगतान सभी प्रवासी परिवारों के इस टैक्स का अग्रिम भुगतान करना होगा। यानी तीन आश्रित हैं तो 300 रियाल पहले ही टैक्स के रूप में देने होंगे।
2020 तक हर साल बढ़ेगा टैक्स सऊदी सरकार यह टैक्स 2020 तक हर साल 100 रियाल प्रति सदस्य बढ़ाती रहेगी। यानी 2020 में प्रत्येक परिवार को अपने हर सदस्य के लिए 400 रियाल (करीब 6,900 रुपए) प्रति माह देना होगा।

पाकिस्तान पर हमला करने की तैयारी में राष्ट्रपति ट्रंप, ऐसे देंगे अंजाम!
21 Jun 2017
अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप पाकिस्तान में आतंक के सुरक्षित ठिकानों के खिलाफ सख्त रुख अपनाने के मूड में हैं। अमरीका पाकिस्तान में ऐसे ठिकानों पर हवाई हमले करने की रणनीति पर काम कर रहा है। जल्द ही इसे अंतिम रूप दे दिया जाएगा माना जा रहा है कि इन हमलों में ड्रोन का इस्तेमाल किया जाएगा। ट्रंप प्रशासन इसके साथ ही गैर नाटो सहयोगियों में पाकिस्तान का दर्जा भी घटा सकता है। पाक को मिलने वाली आर्थिक मदद को रोकने पर विचार किया जा रहा है। हालांकि ट्रंप प्रशासन इस मुद्दे पर आधिकारिक रूप से इस मुद्दे पर कुछ नहीं कह रहे। हालांकि ट्रंप प्रशासन के कुछ अफसर ऐसे भी हैं, जिन्हें इन कदमों की सफलता पर संदेह है। उनका कहना है कि पाक पर इस तरह की सख्ती नहीं होगी। समीक्षा के दौरान बदली रणनीति अमरीकी अधिकारियों ने बताया कि ट्रंप पाकिस्तान के साथ सहयोग बढ़ाना चाहते हैं, उसके साथ अपने संबंध बिगाडऩा नहीं चाहते हैं। ट्रंप प्रशासन इन दिनों 16 साल से चल रहे अफगान युद्ध पर की अपनी रणनीति की समीक्षा कर रहा है। अफगानिस्तान में स्थितियां सुधारने के लिए पाकिस्तान की भूमिका महत्वपूर्ण है। ऐसे में अमरीका पाक पर सख्ती दिखाकर जोखिम नहीं लेगा। सार्वजनिक बयान से बच रहा अमरीका ट्रंप प्रशासन ने इस पूरे मामले पर फिलहाल सार्वजनिक रूप से भले ही कुछ नहीं कहा हो, लेकिन अफगान नीति की समीक्षा करना ही इस बात का संकेत है कि अमरीका अपनी अब तक की रणनीति पर पुनर्विचार कर रहा है।
आतंकियों को पनाह देने वाला मुल्क खुद ही नहीं महफूज़, पाकिस्तान में फिर हुआ आतंकी हमला, 2 सैनिकों की मौत
20 Jun 2017
एक नौसेना कर्मी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि गंभीर रूप से घायल एक अन्य ने सोमवार रात अस्पताल में दम तोड़ दिया। इस्लामाबाद। पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में आतंकवादियों ने नौसेना कर्मियों के वाहन पर हमला कर दिया, जिसमें दो की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य घायल हो गए। 'डॉन' के अनुसार, एक वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि घटना सोमवार शाम को हुई, जब मोटरसाइकिल पर सवार चार आतंकवादियों ने ग्वादर जिले के जिवानी शहर में वाहन पर अंधाधुंध गोलियां बरसानी शुरू कर दी। एक नौसेना कर्मी की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि गंभीर रूप से घायल एक अन्य ने सोमवार रात अस्पताल में दम तोड़ दिया। बलूचिस्तान के मुख्यमंत्री सनाउल्ला जहरी ने घटना की निंदा करते हुए कहा, ''हम आतंकवादियों के सामने नहीं झुकेंगे।'' फिलहाल हमले की जिम्मेदारी किसी आतंकवादी संगठन ने नहीं ली है।
लंदन में मस्जिद से नमाज पढ़कर बाहर आ रहे लोगों को गाड़ी ने मारी टक्कर, एक की मौत, आठ घायल
19 Jun 2017
लंदन। उत्तरी लंदन में एक मस्जिद के पास तेज रफ्तार वैन ने श्रद्धालुओं को कुचल दिया, जिसमें एक की मौत हो गई, जबकि आठ अन्य घायल हो गए। एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सेवन सिस्टर्स रोड पर फिन्सबरी पार्क मस्जिद के पास आधीरात के बाद हुई इस घटना में 48 वर्षीय शख्स को गिरफ्तार किया गया है। मेट्रोपॉलिटन पुलिस की ओर से जारी बयान के मुताबिक, 'घटनास्थल से वैन के चालक को हिरासत में लिया गया और बाद में उसे गिरफ्तार किया गया। वह अस्पताल में है। अस्पताल से निकलने के बाद उसे एक बार फिर हिरासत में लिया जाएगा।' बयान के मुताबिक, घटनास्थल से न ही अन्य संदिग्धों की पहचान की गई है और न ही इस संबंध में पुलिस को बताया गया है। एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, 'इस घटना की वजह से अतिरिक्त सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है, ताकि रमजान के दौरान लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके।' प्रधानमंत्री थेरेसा मे ने इस घटना की निंदा करते हुए कहा कि पुलिस मानकर चल रही है कि यह आतंकवादी हमला हो सकता है। थेरेसा ने कहा, 'मैं आज आपात बैठक की अध्यक्षता करूंगी। मेरी संवेदनाएं पीडि़तों, उनके परिवारों और मौके पर पहुंचे आपात सेवाकर्मियों के साथ हैं।' ब्रिटेन के मुस्लिम परिषद के मुताबिक, वैन जानबूझकर नमाजियों की भीड़ को कुचलती हुई आगे निकल गई। परिषद के महासचिव हारुन खान ने कहा, 'प्रत्यक्षदर्शियों ने जो कुछ भी बताया है, उससे लगता है कि आरोपी इस्लामोफोबिया से प्रेरित था।' एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि उसने किस तरह वैन के आगे से हटकर अपनी जान बचाई।उसने बताया, 'मैं चकित था। मेरे आसपास लोग पड़े थे। भगवान का शुक्र है कि मैं एक तरफ हट गया।' एक अन्य प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि उसने लोगों को चिल्लाते और चीखते देखा प्रत्यक्षदर्शी ने बताया, 'सफेद रंग की वैन फिन्सबरी पार्क मस्जिद के बाहर आकर रुकी। वैन ने नमाज पढऩे के बाद मस्जिद से बाहर आ रहे लोगों को कुचलना शुरू कर दिया।' विपक्षी लेबर पार्टी के नेता जेरेमी कोर्बिन ने ट्वीट कर कहा, 'मैं फिन्सबरी पार्क में हुई इस घटना से सकते में हूं। मैं मस्जिदों और पुलिस के संपर्क में हूं। मेरी संवेदनाएं इस भयावह घटना के पीडि़तों के साथ हैं।
खूबसूरत महिलाओं में इस देश ने मारी बाजी, इंडिया रहा इस नंबर पर
16 Jun 2017
महिला किसी भी देश की हो वो सुंदर और सम्मानित मानी जाती है, लेकिन हाल ही में हुए सर्वे में कुछ देशों की महिलाओं को सबसे ज्यादा सुंदर माना गया है। इनमें वेनेजुएला इस लिस्ट में नंबर 1 पर हैं। वेनेजुएला की लड़कियां बेहद खूबसूरत हैं। इस देश ने ब्यूटी कॉन्टेस्ट के 21 टाइटल जीते हैं। 7 मिस यूनिवर्स, 6 मिस वल्र्ड, 7 मिस इंटरनेशनल, 2 मिस अर्थ के खिताब इस देश के लड़कियां लेकर आई हैं। 40 रनर्सअप भी इस देश की लड़कियां रही हैं।
इस देश में सुंदर कुंआरी लड़कियां करती हैं ऐसा काम, 26 वर्ष की होते ही हो जाती है रिटायर
15 Jun 2017
प्योंगयांग उत्तर कोरिया कई मायनों में अनोखा देश है। उत्तर कोरिया की राजधानी प्योंगयांग में केवल सुंदर कुंआरी लड़कियों को ही ट्रैफिक अधिकारी के रूप में नियुक्त किया जाता है। इनकी यूनिफॉर्म नीले रंग की होती है, जिसके साथ ये काले रंग की हाई हील पहनती हैं। प्योंगयांग के चौराहों पर इन्हें यातायात को नियंत्रित करते हुआ देखा जा सकता है। इनका आधिकारिक नाम यातायात सुरक्षा अधिकारी है लेकिन सामान्य बोलचाल में इन्हें 'ट्रैफिक लेडिज' कहा जाता है।
नियुक्ति के लिए कड़े मापदंड अपनाए जाते हैं परमाणु संपन्न राष्ट्र होने के बाद भी उत्तर कोरिया की स्थिति आर्थिक रूप से कमजोर राष्ट्र की है, इसके बावजूद वहां के अधिकारी ट्रैफिक लेडिज के लिए ऐसे कड़े मानक अपनाते हैं। अधिकारी रिटायर्ड की जगह भरने के लिए नए ट्रैफिक लेडिज बनने के लिए तैयार लड़कियों की उपलब्धता को सुनिश्चित करते हैं।
26 में होती हैं रिटायर केवल 26 वर्ष का होते ही 'ट्रैफिक लेडिज' को रिटायर कर दिया जाता है। इससे पहले यदि किसी ट्रैफिक लेडिज ने विवाह कर लिया तो उसकी नौकरी स्वत: समाप्त हो जाती है।
कठिन है ड्यूटी ट्रैफिक नियमों का पर्यवेक्षण करने वाले सार्वजनिक सुरक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि 'ये ट्रैफिक लेडिज हमारी राष्ट्रीय राजधानी का प्रतिनिधित्व करती हैं'। कुंआरी ही क्यों योग्य मानी जाती हैं के जवाब में इस अधिकारी ने कहा कि उनकी ड्यूटी कठोर और कठिनाई से भरी है। केवल कुंआरी लड़कियां ही इतनी कठोर ड्यूटी आसानी से कर सकती हैं।

हादसों से बार-बार दहल रहा लंदन, कभी बेगुनाहों के खून से लाल हो गर्इ जमीन तो अब आग ने झुलसाया
14 Jun 2017
लंदन की 24 मंजिला ग्रेनफेल टावर में अाग लगने से हड़कंप की स्थिति बन गर्इ। आग बुझाने के लिए दो सौ से ज्यादा फायर फाइटर्स जुटे हैं।
लंदन की 24 मंजिला ग्रेनफेल टावर में अाग लगने से हड़कंप की स्थिति बन गर्इ। आग बुझाने के लिए दो सौ से ज्यादा फायर फाइटर्स जुटे हैं। आग की लपटें टाॅप फ्लोर तक उठती नजर आ रही हैं। ये पहला मौका नहीं है जब किसी हादसे ने लंदन को हिलाकर रख दिया है। पिछले कुछ महीनों में लंदन में एक के बाद एक हादसों ने यहां के लोगों को दहला कर रख दिया है। हम आपको बता रहे हैं वो हादसे जो 2017 में लंदन के साथ ही पूरी दुनिया में चर्चित रहे।
दो आतंकी हमलों से दहला था लंदन ब्रिटेन की राजधानी लंदन में 3 जून की रात को दो आतंकी हमले हुए। इनमें आठ लोगों की मौत हो गर्इ थी आैर दर्जनों लोग घायल हुए थे। लंदन ब्रिज आैर बरो मार्केट में हुए इस दोहरे हमले को तीन आतंकियों ने अंजाम दिया था। पुलिस ने तीनों को मार गिराया। वहीं इस मामले में पुलिस अब तक 21 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।
ब्रिटेन की संसद पर हमले की कोशिश 22 मार्च 2017 को ब्रिटेन की संसद के बाहर आतंकी हमले ने हर किसी को भारतीय संसद पर हुए हमले की याद दिला दी। एक हमलावर ने अंधाधुंध गोलियां बरसाते हुए लोगों को अपनी कार से रौंद दिया। आरोपी ने बाद में ससंद में घुसने की कोशिश भी की आैर संसद की दीवार से अपनी कार को टकराया। हालांकि सुरक्षाकर्मियों ने हमलावर को मार गिराया। इस घटना का सबसे दुखद पहलू 5 लोगों की मौत आैर 20 लोगों का घायल होना रहा। लंदन के अलावा ब्रिटेन के दूसरे शहर भी आतंक से पीड़ित रहे हैं। मैनचेस्टर में 23 मर्इ को आतंकी हमला हुआ था। एक म्यूजिक कंसर्ट के दौरान 22 लोगों की मौत हो गर्इ आैर 51 लोग घायल हो गए थे। वहीं हमलावर का शव घटनास्थल पर मिलने का दावा किया गया था।

इराक: सुरक्षा बलों की आतंक के खिलाफ जंग में बड़ी कार्रवाई, ISIS के 13 खतरनाक लड़ाकों को मार गिराया
13 Jun 2017
इराकी वायुसेना ने मोसुल में एक अभियान के तहत आईएस के कब्जे वाली इमारतों को लक्ष्य बनाकर कई हमले किए थे। मारे गए आतंकवादियों में संगठन का वरिष्ठ सदस्य भी शामिल हैं।
इराक के उत्तरी शहर मोसुल में सुरक्षाबलों ने इस्लामिक स्टेट (आईएस) के आतंकवादियों के खिलाफ बार फिर बड़ी कार्रवाई को अंजाम दिया है। इस बार सुरक्षा बलों ने आईएस के 13 सदस्यों को मार गिराया है। इराकी संघीय पुलिस बल ने एक बयान में दावा किया कि मारे गए आतंकवादियों में संगठन का वरिष्ठ सदस्य भी शामिल हैं। बयान में बताया गया है कि इराकी वायुसेना ने मोसुल में एक अभियान के तहत आईएस के कब्जे वाली इमारतों को लक्ष्य बनाकर कई हमले किए थे। सेना के इन अलग अलग हमलों में 13 आतंकवादी मारे गए। मारे गए आतंकवादियों में एक आईएस का वरिष्ठ सदस्य भी है।

इजराइली नर्स ने फलस्तीनी बच्चे को पिलाया दूध, खून के प्यासे रिश्तों में दूध घुला तो दुनिया हैरान
12 Jun 2017
हर वक्त एक दूसरे के खून के प्यासे नजर आने वाले इजराइल आैर फलस्तीन के बीच दुश्मनी जगहाजिर है। मगर, एक एेसा मामला सामने आया है, जिसे जानकर दुनिया हैरान हो रही है।
यरुशलम। हर वक्त एक दूसरे के खून के प्यासे नजर आने वाले इजराइल आैर फलस्तीन के बीच दुश्मनी जगहाजिर है। मगर, एक एेसा मामला सामने आया है, जिसे जानकर दुनिया हैरान हो रही है। सड़क दुर्घटना में एक फलस्तीनी महिला बुरी तरह से घायल हो गर्इ थी। हादसे में उसके पति की मौत हो गर्इ। महिला को इजराइल के करीम अस्पताल में भर्ती कराया गया। फलस्तीनी महिला के बच्चे को भूख से बिलखता देख इजराइली नर्स का कलेजा पसीज गया। उसने बच्चे को गोद में उठाया आैर स्तनपान कराने लगी। अपनी शिफ्ट के दौरान नर्स ने नवजात को पांच बार स्तनपान कराया आैर जब परिवार इस बात को लेकर चिंतित था कि नर्स के जाने के बाद क्या होगा तो उला ने उसका भी बंदोबस्त किया। नर्स ने एक फेसबुक ग्रुप पोस्ट लिखी, जिस पर हजारों जवाब आए आैर कर्इ महिलाआें ने आकर बच्चे को अपना दूध पिलाने के लिए फोन कर प्रस्ताव भी दिया। इससे पहले, इजराइली नर्स ने पहले करीब सात घंटे तक बच्चे को बाेतल का दूध पिलाने की कोशिश की लेकिन उसने रोना बंद नहीं किया। इसके बाद उसने स्तनपान कराने का फैसला किया। सोशल मीडिया पर जमकर चर्चा मानवता की मिसाल पेश करती इस तस्वीर की दुनिया भर में चर्चा हो रही है। जिस किसी की भी इस पर नजर पड़ रही है वह हैरानी जताने के साथ यह भी लिख रहा है, 'दुनिया में इंसानियत से बढ़कर कुछ भी नहीं है, सदैव इसकी जीत होती है

कतर पर भड़के ट्रंप, कहा- आतंकवाद को आर्थिक मदद देना तत्काल बंद करें
10 Jun 2017
अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खाड़ी देश कतर पर लंबे समय से आतंकवाद को बढ़ावा देने के अलावा उसे आर्थिक मदद मुहैया कराने का आरोप लगाया है।
वाशिंगटन। अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने खाड़ी देश कतर पर लंबे समय से आतंकवाद को बढ़ावा देने के अलावा उसे आर्थिक मदद मुहैया कराने का आरोप लगाया है। ट्रंप ने कतर और अन्य खाड़ी देशों से आतंकवाद का वित्त पोषण तत्काल बंद करने के लिए कहा है। रोमानिया के राष्ट्रपति क्लॉस जोहानिस के साथ व्हाइट हाउस के रोज गार्डन में आयोजित एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में ट्रंप ने कहा, 'आतंकवाद का वित्तपोषण बंद करें, हिंसा का पाठ पढ़ाना बंद करें, हत्याएं करना बंद करें'। ट्रंप ने कतर पर आतंकवाद का सबसे ज्यादा वित्त पोषण करने का आरोप लगाया है। गौरतलब है कि बहरीन, मिस्र, सऊदी अरब और संयुक्त अरब अमीरात ने कतर से संबंध खत्म कर लिए हैं और उस पर कट्टरपंथी समूहों का साथ देने का आरोप लगाया है। उधर, संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने कहा है कि कतर को कट्टरपंथियों एवं आतंकवाद का समर्थन करने और अपनी क्षेत्रीय नीतियों को ध्यान में रखते हुए उन पर पुनर्विचार करना चाहिए। अमरीका में यूएई के राजदूत युसुफ अल ओतैबा ने अपने एक वक्तव्य में यह बात कही। ओतैबा ने कतर मामले को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व का स्वागत करते हुए कहा कि कतर की ओर से आतंकवाद को समर्थन देना चिंताजनक है इसलिए उसे अपनी क्षेत्रीय नीतियों को ध्यान में रखते हुए उन पर पुनर्विचार करना चाहिए। यूएई के राजदूत ने कहा कि इससे कतर मामले को लेकर आवश्यक बातचीत के लिए मंच तैयार होगा।

ब्रिटेन चुनावः टेरीजा मे का समय से पहले चुनाव कराने का दांव पड़ा उल्टा, बहुमत से दूर, बढ़ा इस्तीफे का दबाव
9 Jun 2017
ब्रिटेन में प्रधानमंत्री टेरीजा मे को बड़ा झटका लगा है। मध्यावधि चुनावों में उनकी कंजर्वेटिव पार्टी संसद में बहुमत हासिल करने में नाकाम रही है।
ब्रिटेन में प्रधानमंत्री टेरीजा मे को बड़ा झटका लगा है। मध्यावधि चुनावों में उनकी कंजर्वेटिव पार्टी संसद में बहुमत हासिल करने में नाकाम रही है। इसके बाद ब्रेग्जिट वार्ता से पहले अनिश्चितता की स्थिति पैदा हो गर्इ है। साथ ही टेरीजा मे पर इस्तीफे का दबाव बढ़ गया है। विपक्षी पार्टियों के एकजुट होने की स्थिति में उन्हें पद छोड़ना होगा। कंजर्वेटिव पार्टी संसद में सर्वाधिक सीटें हासिल करने वाली पार्टी बनकर उभरी है। अभी तक 650 में से 645 सीटों के नतीजे आ गए हैं। इनमें कंजर्वेटिव पार्टी को 314, लेबर पार्टी को 261, स्काॅटिश नेशनल पार्टी को 35, लिबरल डेमोक्रेटस को 12, डेमोक्रेटस यूनियनिस्ट को 10 आैर अन्य को 13 सीटें मिली हैं। हालांकि चुनाव जीतने के लिए किसी भी पार्टी को 326 सीटें हासिल करने की जरूरत थी। टेरीजा मे का दांव उल्टा पड़ने के बाद अब उन पर प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा देने का दबाव है। बावजूद इसके उन्होंने इस्तीफा देने से इनकार कर दिया है। इन चुनावों में कंजर्वेटिव पार्टी को काफी नुकसान उठाना पड़ा है। साथ ही लेबर पार्टी को कर्इ सीटों का फायदा हुआ है। 2015 में हुए चुनावों में कंजर्वेटिव पार्टी जबरदस्त जीत के साथ सत्ता में आर्इ थी। अगला चुनाव 2020 में होने वाला था, लेकिन ब्रेग्जिट पर आए जनमत संग्रह के बाद टेरीजा ने 19 अप्रैल को मध्यावधि चुनाव कराने का फैसला किया था। विपक्षी लेबर पार्टी के नेता जेरमी काॅर्बिन का कहना है राजनीति बदल गर्इ है। मुझे नतीजों पर गर्व है। उन्होंने टेरीजा मे पर निशाना साधते हुए कहा कि वह जनादेश चाहती थीं आैर वे चुनाव हार गर्इ हैं।

अंग्रेजों की धरती पर हमारे लोग, ब्रिटेन के चुनावी दंगल में 56 भारतवंशी प्रत्याशी
8 Jun 2017
ब्रेग्जिट के बाद ब्रिटेन में होने जा रहा चुनाव बेहद अहम माना जा रहा है। इस अहम चुनाव में भारतीयों ने चुनावी मैदान में ताल ठोंकी है। चुनाव में कुल 56 भारतीय उम्मीदवार उतरे हैं।
लंदन ब्रेग्जिट के बाद ब्रिटेन में होने जा रहा चुनाव बेहद अहम माना जा रहा है। इस अहम चुनाव में भारतीयों ने चुनावी मैदान में ताल ठोंकी है। चुनाव में कुल 56 भारतीय उम्मीदवार उतरे हैं। चुनाव में जाधवपुर यूनिवर्सिटी से पढ़ाई कर 2009 में ब्रिटेन जाने वाले 18 वर्षीय युवक समेत कई भारतीय चेहरे शामिल हैं जो शरणार्थी और दशकों से रह रहे अल्पसंख्यक समुदायों के मुद्दों पर हो रही बहस में प्रत्याशी बन चुनाव में डटे हुए हैं। भारतीय मूल के मुख्य लोगों में प्रीति पटेल, आलोक शर्मा, कीथ वाज, वीरेन्द्र शर्मा और शैलेष वारा शामिल हैं। पिछले साल कीथ वाज का नाम ड्रग्स स्कैंडल से जुड़ा था फिर भी संभावना है कि जीत उनकी झोली में ही गिरेगी। ब्रेग्जिट लहर के जरिए अपनी चुनावी वैतरणी पार लगाने वाले सांसदों में ब्रिटेन की अंतरराष्ट्रीय विकास मामलों की मंत्री प्रीति पटेल शामिल हैं। वह ब्रिटिश कैबिनेट में वरिष्ठतम सदस्य हैं। 2015 के चुनाव में 10 भारतीय मूल के लोग चुनकर ब्रिटिश संसद पहुंचे थे। दो साल बाद इस बार भारतीय मूल के चुनाव लडऩे वालों की संख्या 56 हो गई है।
तनमनजीत सिंह
लेबर पार्टी के उम्मीदवार। अगर स्लॉग सीट पर जीतते हैं तो वहीं पहली बार सांसद चुने जाएंगे।
पॉल उप्पल
कंजर्वेटिव पार्टी की ओर से वोल्वरहैम्पटन साउथ वेस्ट से अपना नामांकन भरा है।
प्रीत कौर
बर्मिंघम एजबेस्टन सीट से लेबर पार्टी की उम्मीदवार हैं। प्रीत जीत जाती हैं तो वे पहली महिला सिख सांसद होंगी।
रोहित दास गुप्ता
लेबर पार्टी उम्मीदवार ईस्ट हैम्पशायर सीट से किस्मत आजमा रहे हैं। कोलकाता के पैतृक शहर छोड़कर 2009 में लंदन आए थे।
सिखों का जलवा
66 वर्षीय, काउंसलर कुलदीप सिंह सहोता, लेबर पार्टी की लोकल टेलफोर्ड से चुनावी मैदान में ।
18 साल के रांगी
ग्रीन पार्टी के बारे में भी यह कहा जा रहा है कि उसे भी कोई सीट नहीं हासिल होगी। ग्रीन पार्टी की तरफ से एशफील्ड से उतरे 18 वर्षीय एर्रन रांगी शुक्रवार को ए लेवल का एग्जाम देने जा रहे हैं। उन्होंने कहा- मैं जीत की उम्मीद नहीं कर रहा हूं, लेकिन चुनाव लडऩा बड़ी बात है।

लंदन अटैक में शामिल था पाकिस्तानी मूल का आतंकी, जर्सी से हुई पहचान
6 Jun 2017
लंदन.कुछ दिनों पहले लंदन में आतंकी हमला करने वाले एक शख्स की पहचान हो गई है। यह शख्स पाकिस्तानी मूल का है और ईस्ट लंदन के बार्किंग एरिया में रहता था। खास बात ये है कि इस आतंकी की पहचान उसकी ही बिल्डिंग में रहने वाले एक शख्स ने उसकी जर्सी से की। हमले के वक्त इस आतंकी ने ब्रिटिश फुटबॉल क्लब आर्सेनल की जर्सी पहने हुई थी। बता दें कि तीन जून को लंदन में हुए आतंकी हमले में 7 लोगों की मौत हुई थी, जबकि कई लोग घायल हुए थे। ब्रिटिश अखबार ‘द मिरर’ के मुताबिक, जांच की वजह से इस आतंकी का नाम स्कॉटलैंड यार्ड, एमआई-5 और बाकी जांच एजेंसियां जाहिर नहीं कर रही हैं।
आतंक के खिलाफ 4 देशों ने मिलकर उठाया बड़ा कदम, 'दहशतगर्द' क़तर से सभी तरह के सम्बन्ध तोड़ने के किया ऐलान
5 Jun 2017
कतर पर आतंकवाद का समर्थन करने के आरोप में सऊदी अरब, बहरीन, मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात ने सभी तरह के कूटनीतिक संबंध तोड़ने की घोषणा की है।
दुबई। कतर पर आतंकवाद का समर्थन करने के आरोप में सऊदी अरब, बहरीन, मिस्र और संयुक्त अरब अमीरात (UAE) ने उससे सभी तरह के कूटनीतिक संबंध तोड़ने की घोषणा की है। इन देशों ने कतर पर आतंकवाद को बढ़ावा देने के अलावा अपने आंतरिक मामलों में दखलंदाजी करने का भी आरोप लगाया है। बाहरीन ने सोमवार को कतर के साथ रिश्ते तोड़ने के अपने फैसले की जानकारी दी। बाहरीन सऊदी अरब का करीबी सहयोगी है। गौरतलब है कि अलजजीरा कतर का ही चैनल है, इसकी रिपोर्ट को लेकर इन देशों को कई बार असहज स्थिति का सामना करना पड़ता रहा है। सख्त शासन व्यवस्था वाले इन देशों में स्वतंत्र मीडिया और अभिव्यक्ति की आजादी के लिए के लिए कोई स्थान नहीं है। लिहाजा, अरब जगत का सबसे लोकप्रिय न्यूज चैनल अल-जजीरा हमेशा से इन देशों के निशाने पर रहा है। हवाई व समुद्री संपर्क भी तोड़ने का ऐलान
कतर को अलग-थलग करने की रणनीति के तहत इन चारों देशों ने इसके साथ न केवल अपने कूटनीतिक और राजनयिक संबंध तोड़ लिए हैं, बल्कि हवाई व समुद्री संपर्क भी तोड़ने का ऐलान किया है। इसके साथ ही बहरीन ने कतर में रह रहे अपने सभी नागरिकों को 14 दिन के भीतर कतर छोड़ने का आदेश दिया है, जबकि कतर के राजनयिकों को 48 घंटे के अंदर बाहरीन छोड़ने को कहा गया है। इधर, सऊदी अरब ने अपने निर्णय की जानकारी देते हुए कहा कि देश को आतंकवाद और कट्टरपंथ से बचाने के लिए यह कदम उठाना लाजमी हो गया था। सऊदी की आधिकारिक न्यूज एजेंसी ने एक अधिकारिक सूत्र के हवाले से जानकारी दी है कि राष्ट्रीय सुरक्षा के मद्देनजर ऐसा किया जा रहा है। इसके साथ ही सऊदी अरब ने अपने सभी मित्र राष्ट्रों और कंपनियों से भी अपील की है कि वे भी कतर के साथ सभी तरह के संपर्क तोड़ दें। मिस्र और UAE ने भी कतर से तोड़े संबंध
बहरीन और सऊदी अरब के बाद अब मिस्र और UAE ने भी कतर के साथ सभी तरह के संबंध तोड़ने की घोषणा कर दी है। अपने इस फैसले को जायज ठहराते हुए UAE ने कहा है कि कतर पूरे पश्चिम एशिया क्षेत्र की सुरक्षा को अस्थिर करने की कोशिश कर रहा है। वहीं, मिस्र ने भी कतर पर आतंकवादी संगठनों को समर्थन देने का आरोप लगाया है।

भारतीय मूल के वराडकर बने आयरलैंड के प्रधानमंत्री, देश के सबसे युवा PM होंगे
3 Jun 2017
आयरलैंड में भारतीय मूल के लियो वराडकर को सत्ताधारी गठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी फाइन गेल का नेता चुना गया है।
डबलिन। आयरलैंड में भारतीय मूल के लियो वराडकर को सत्ताधारी गठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी फाइन गेल का नेता चुना गया है और अब वह देश के पहले समलैंगिक प्रधानमंत्री होंगे। 38 वर्षीय वराडकर ने अपने अपने प्रतिद्वंद्वी और हाउसिंग मिनिस्टर साइमन कोवेनी को 60 प्रतिशत वोटों से हराया और अब वह आयरलैंड के अब तक के सबसे युवा प्रधानमंत्री भी होंगे। उन्होंने देश के सत्ताधारी गठबंधन की सबसे बड़ी पार्टी इन गेल के नेतृत्व का चुनाव जीत लिया है और वह अगले कुछ सप्ताह में देश के प्रधानमंत्री बन जाएंगे। वराडकर ने अपनी इस शानदार जीत के बाद कहा, 'मेरा चुनावी परिणाम ही सबकुछ बयां कर रहा है। मुझे पता है कि मेरे पिता पांच हजार किलोमीटर दूर चलकर आयरलैंड में एक नए घर बनाने का सपना देखते थे। मुझे लगता है कि उन्होंने कभी यह नहीं सोचा था कि एक दिन उनका बेटा इस देश का प्रधानमंत्री होगा। आज देश में हर माता पिता को अपने बच्चे के ऊपर के गर्व होना चाहिए।' 18 जनवरी 1979 को डबलिन में पैदा हुए वराडकर के पिता अशोक मुंबई से आए एक डॉक्टर थे जिन्होंने आयरिश मूल की नर्स मरियम से शादी की थी। उन दोनों की मुलाक़ात इंग्लैंड के बर्कशर में साथ काम करते हुए हुई थी और बाद में वो दोनों 70 के दशक में आयरलैंड में बस गए थे। वराडकर ने अपना चुनावी अभियान सामाजिक और आर्थिक मुद्दों पर केंद्रित रखा। प्रधानमंत्री बनने के बाद अब उनके सामने आयरलैंड की अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाना और ब्रेक्सिट के बाद के हालात से निबटने जैसी चुनौतियां होंगी।

पेरिस क्लाइमेट डीलः ट्रम्प ने अलग होते हुए भारत पर फोड़ा ठीकरा, कहा-भारत, चीन को दी गर्इं कर्इ सहूलियतें
2 Jun 2017
अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अमरीका को पेरिस क्लाइमेट डील से अलग करने का फैसला लिया है।
अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने अमरीका को पेरिस क्लाइमेट डील से अलग करने का फैसला लिया है। ट्रम्प ने अपने इस फैसले के समर्थन में जो दलील दी है उसके मुताबिक भारत आैर चीन जैसे देशों पर इस डील में कोर्इ सख्ती नहीं की गर्इ है। हम आपको बता दें कि 2015 में हुए इस समझौते पर 195 देशों ने हस्ताक्षर किए थे। इस डील से अमरीका को अलग करने के फैसले के बाद ट्रम्प ने कहा है कि मैं इस डील को सपोर्ट कर अमरीका को सजा नहीं दे सकता हूं। ट्रम्प का दावा है कि इस क्लाइमेट डील के जरिए भारत आैर चीन जैसे देशाें को कर्इ तरह की सहूलियतें दी गर्इ हैं। अपने चुनाव प्रचार के दौरान भी उन्होंने इस डील को 'चीनी छल' करार दिया था। ट्रम्प ने कहा है कि इस डील के जरिए भारत को कोयला उत्पादन दोगुना करने की इजाजत मिल जाएगी। इस डील को लेकर उन्होंने यहां तक कह दिया है कि इसका पर्यावरण से कोर्इ लेनादेना नहीं है। इस डील का उद्देश्य कार्बन उत्सर्जन कम करना था। इसके जरिए हर देश का कार्बन उत्सर्जन का टारगेट तय कर ग्लोबल टेम्परेचर को 2 डिग्री से ज्यादा बढ़ने से रोकने की कोशिश करना था। बराक आेबामा के अमरीकी राष्ट्रपति रहते हुए ये डील की गर्इ थी। ट्रम्प के इस निर्णय की आेबामा के साथ ही दुनिया के कर्इ देशों ने निंदा की है। हम आपको बता दें कि अमरीका दुनिया का करीब 33 फीसदी कार्बन उत्सर्जन करता है। इस डील को गति देने के लिए देशों को पांच सालों का प्लान देना था, जिसमें उन्हें ये बताना था कि कैसे वे कार्बन उत्सर्जन को कम कर सकते हैं आैर कैसे क्लाइमेट चेंज को रोक सकते हैं?

Live Show में एक लड़की ने खोल दी 'जुल्मी' पाकिस्तान की पोल, Viral हुई कहानी
1 Jun 2017
पाकिस्तान में लाइव टीवी शो के दौरान एक लड़की ने भेदभाव और जुल्म की कहानी सुनाई। उसने पाकिस्तान की व्यवस्था पर सवाल खड़े किए।
इस्लामाबाद पाकिस्तान में लाइव टीवी शो के दौरान एक लड़की ने भेदभाव और जुल्म की कहानी सुनाई। उसने पाकिस्तान की व्यवस्था पर सवाल खड़े किए। तभी मशहूर टीवी होस्ट और अभिनेता साहिर लोधी ने उसे चुप करा दिया। साहिर पाकिस्तान में ट्विटर पर टॉप ट्रेंड कर रहे हैं। कुछ लोग उनकी खिंचाई कर रहे हैं तो कुछ तारीफ। मैं उस मुल्क में रहती हूं जहां औरतों की आवाज दबा दी जाती है। इस मुल्क में औरतों को इंसाफ नहीं मिलता। कभी जिंदा दफन कर दिया तो कभी कुरान से शादी करा दी गई। कभी दो चार किताबें पढऩे पर जुल्मों सितम सहना पड़ा। लोग कहते हैं कि बराबरी का जमाना है। अरे, कैसी बराबरी! कहां की बराबरी? मैं इस कौम की हर वो बेटी हूं जो चंद पैसे कमाने के लिए घर से निकलती हूं तो उसकी इज्जतों हुर्मतों का सौदा होता है। पसंद की शादी करने पर तेजाब फेंक दिया जाता है। ऐसे में दिल से एक ही शख्स को पुकारने का मन करता है कि चोर-लुटेरे कातिल सारे शहर के चौकीदार हुए हैं, हिर्सो हवस के मतवाले भी धरती के हक़दार हुए हैं, कोई नहीं ये देखने वाला, कोई नहीं ये पूछने वाला कि किन हाथों सौंप गए तुम दिल से प्यारा पाकिस्तान, कायदे आजम आओ जरा तुम देखो अपना पाकिस्तान। उस लड़की के भाषण पर लोगों ने जमकर ताली बजाई। साहिर बोले- आपकी मेरी जंग हो जाएगी । लड़की के इतना बोलते ही साहिर लोधी बुरी तरह से भड़क गए। कहा- आपकी मेरी जंग हो जाएगी। अब रूक जाइए। आप लोगों ने किस बात पर ताली बजाई? आप हमें बताइए? क्या हम कायदे आजम को ब्लेम करेंगे। कर सब हम रहे हैं और ब्लेम कायदे आजम को करेंगे?

चीन को नाराज नहीं करना चाहता भारत, इसलिए ठुकराया ऑस्ट्रेलिया के साथ संयुक्त नौसेना अभ्यास
31 May 2017
इस साल जनवरी महीने में ऑस्ट्रेलिया ने भारत के रक्षा मंत्री को चिट्ठी लिखकर अनुमति मांगी थी कि वह नौसेना के संयुक्त अभ्यास में बतौर परवेक्षक के रुप में जुड़ना चाहता है। लेकिन जिसे भारत ने मंजूरी नहीं दी।
भारत और चीन के बीच आपसी रिश्तों में बढ़ती तनाव को ध्यान रखते हुए भारत ने ऑस्ट्रेलिया के अनुरोध को ठुकरा दिया है। चीन से बढ़ते मनमुटाव के कारण भारत ने अमरीका और जापान के साथ संयुक्त नौसेना अभ्यास में शिरकत करने के अनुरोध को खारिज कर दिया। क्योंकि इस मामले पर चीन ने पहले ही चेताया था कि इलाके में ज्यादा युद्धाभ्यास नहीं किया जाना चाहिए।

दुनिया की 'महाशक्ति' अमरीका इसे मानने लगा है ISIS से भी बड़ा खतरा, लगा सकता है हमेशा-हमेशा के लिए बैन!
30 May 2017
अमरीकी सीनेट के आर्म्ड सर्विसेस कमेटी के अध्यक्ष मैक्केन ने कहा कि मेरे विचार से रूस हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती है, इसलिए हमें रूस को उसके व्यवहार के लिए प्रतिबंधित करना चाहिए।
मेलबर्न। अमरीका के सीनेटर जॉन मैक्केन ने वैश्विक सुरक्षा के लिए रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) से भी बड़ा खतरा बताया है। उन्होंने कहा है कि सीनेट को अमरीकी चुनाव में कथित रूप से हस्तक्षेप के लिए मॉस्को पर प्रतिबंध लगाना चाहिए। अमरीका में साल 2008 के राष्ट्रपति पद के चुनाव में रिपब्लिकन पार्टी की ओर से उम्मीदवार रह चुके सीनेटर जॉन मैक्केन ने ऑस्ट्रेलाई प्रसारक कॉर्प टेलीविजन से साक्षात्कार के दौरान कहा, ' मुझे लगता है कि पुतिन सबसे बड़ा और महत्वपूर्ण खतरा है। आईएस से भी बड़ा खतरा। ' उन्होंने कहा, 'अभी तक हालांकि रूस की ओर से अमरीकी चुनाव को प्रभावित करने वाले सबूत नहीं मिल पाए हैं, इसके बावजूद भी वे लोग हालिया फ्रांस चुनाव समेत अन्य चुनावों को प्रभावित करने का प्रयास कर रहें हैं।' अमरीकी सीनेट के आर्म्ड सर्विसेस कमेटी के अध्यक्ष मैक्केन ने कहा कि मेरे विचार से रूस हमारे लिए सबसे बड़ी चुनौती है, इसलिए हमें रूस को उसके व्यवहार के लिए प्रतिबंधित करना चाहिए।

यूनान के पूर्व प्रधानमंत्री कार विस्फोट में घायल, चलती कार में पार्सल बम में हुआ धमाका
26 May 2017
यूनान के पूर्व प्रधानमंत्री लुकास पापाडेमोस एक विस्फोट में घायल हो गए। पापाडेमोस की कार में पार्सल बम रखा था जिसमें विस्फोट के कारण उनके सहित कार में सवार दो अन्य लोग घायल हो गए।
यूनान के पूर्व प्रधानमंत्री लुकास पापाडेमोस एक विस्फोट में घायल हो गए। पुलिस ने बताया कि पापाडेमोस की कार में पार्सल बम रखा था जिसमें विस्फोट के कारण उनके सहित कार में सवार दो अन्य लोग घायल हो गए। यह घटना एथेंस के मध्य इलाके में घटी। विस्फोट के बाद तीन को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानकारी के मुताबिक पापाडेमोस की स्थिति खतरे से बाहर है। अस्पताल के सूत्रों ने बताया कि उनके सीने और पेट में हलके चोट के निशान है जबकि दाहिने पैर में लगी चोट गहरी है जिसका इलाज किया जा रहा। स्वास्थ्य मंत्रालय के आधिकारिक ने कहा कि यह विस्फोट उस समय हुआ जब पापाडेमोस अपनी चलती कार में एक पैकेट खोलने की कोशिश कर रहे थे। उनके सीने और पेट में चोट लगी है। पापाडेमोस को एक राजनीतिज्ञ से ज्यादा टेक्नोक्रेट थे जो कि यूनान कर्ज संकट के दौरान सोशलिस्ट्स और कंजरवेटिव्स गठबंधन के सहयोग से दिसंबर 2011 से मई 2012 के बीच के देश के कार्यवाहक प्रधानमंत्री थे। 69 वर्षीय पापाडेमोस 1994 से 2002 तक देश के सेंट्रल बैंक के प्रमुख और 2002 से 2010 तक यूरोपीय सेंट्रल बैंक के उपाध्यक्ष भी रह चुके हैं।

बहरीन में 5 शिया प्रदर्शनकारियों की पुलिस कार्रवाई में मौत, भड़की हिंसा
25 May 2017
मनामा.बहरीन में पुलिस द्वारा देश के प्रमुख शिया धार्मिक गुरु अयातुल्ला ईसा अहमद कासिम के समर्थकों पर गोलीबारी में पांच लोगों की मौत हो गई, जबकि कई अन्य घायल हो गए। सुन्नी शासित इस खाड़ी देश में तनाव की यह ताजा घटना है। गृह मंत्रालय ने घटना की जानकारी दी है। मंत्रालय ने ट्विटर पर एक संदेश में कहा कि मनामा की राजधानी के पास दिराज में ‘‘पांच लोगों की मौत हुई है।
प्रदर्शनकारियों में जेल से भागे आतंकवादी भी शामिल...
- मनामा की राजधानी दुराज में शिया समर्थक ईसा कासिम के खिलाफ कानूनी कार्रवाई का विरोध कर रहे थे। - इसी दौरान पुलिस की गोलीबारी में पांच शियाओं की मौत हो गई, जिसके बाद हिंसा भड़क गई। पुलिस ने 280 से ज्यादा समर्थकों को अरेस्ट किया है। - बहरीन मंत्रालय के मुताबिक, शिया धार्मिक गुरु अयातुल्ला ईसा के सपोर्टर्स ने प्रदर्शन के दौरान घातक हथियारों से पुलिस पर हमला किया। - बहरीन मंत्रालय ने यह भी दावा किया है कि प्रदर्शनकारियों में जेल से भागे आतंकी भी शामिल थे। इसके चलते पुलिस को गोली चलानी पड़ी। प्रदर्शकारियों और पुलिस के बीच का संघर्ष अन्य क्षेत्रों में भी फैल गया है।
कासिम पर हिंसात्मक गतिविधियों को बढ़ावा देने का आरोप
-- ईसा कासिम के समर्थक बीते 11 महीने से दुराज स्थित उनके घर के बाहर धरने पर बैठे हैं। - कासिम को हिंसात्मक गतिविधियों को बढ़ावा देने के आरोप में 21 मई को एक साल के निलंबित कारावास और 256000 जुर्माने की सजा सुनाई गई है। - जून 2016 में ईसा की बहरीन की राष्ट्रीयता छीन ली थी और उनकी राजनीतिक पार्टी अल वेफाक की मान्यता रद्द कर दी थी। - बहरीन कोर्ट के फैसले के अनुसार, ईसा कासिम की संपत्ति भी जब्त कर ली गई है, जिसमें 90 लाख डॉलर और दो घर शामिल हैं। - देश में शिया बहुसंख्यक हैं, जिन्होंने धार्मिक गुरु कासिम के समर्थन और देश के सुन्नी राजतंत्र के खिलाफ कई विरोध प्रदर्शन किए हैं। - वहीं, ‘ह्यूमन राइट्स वाच’ एनजीओ ने बहरीन की इस कार्रवाई को शांतिपूर्ण और जायज विरोध को खत्म करने के उद्देश्य से रणनीतिक शक्ति का प्रदर्शन बताया है।

ब्रिटेन में हो सकते हैं और आतंकी हमले, सभी प्रमुख जगहों पर आर्मी तैनात
24 May 2017
लंदन. ब्रिटेन के शहर मैनचेस्टर में हुए फिदायीन हमले के बाद अभी और आतंकी हमले की आशंका है। पीएम थेरेसा मे ने मैक्सिमम लेवल के खतरे को देखते हुए गंभीर चेतावनी जारी की है और सिक्युरिटी कड़े करने के इंस्ट्रक्शन दिए हैं। देश में सभी प्रमुख जगहों पर आर्मी तैनात की गई है। बता दें कि सोमवार रात मैनचेस्टर के स्टेडियम में हुए आतंकी हमले में 22 लोगों की मौत हो गई थी, जबकि 59 से ज्यादा लोग जख्मी हुए थे।
सलमान अब्दी के साथ और भी लोग जुड़े हो सकते हैं..
- न्यूज एजेंसी के मुताबिक, पीएम थेरेसा मे ने डाउनिंग स्ट्रीट ऑफिस से मंगलवार रात देश को ऐड्रेस किया। उन्होंने कहा, "सिक्युरिटी फोर्सेस ने सलमान अब्दी नाम के एक संदिग्ध को अरेस्ट किया है, जिसका हमले में हाथ बताया जा रहा है। अब्दी ब्रिटेन का ही रहने वाला है। फोर्सेस का कहना है कि उसके साथ और भी लोग जुड़े हो सकते हैं। लिहाजा खतरा अभी बरकरार है। इसलिए अहम जगहों पर आर्मी की तैनाती का कदम उठाया गया है।" - थेरेसा मे ने कहा, "हालात को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता, ऐसा हो सकता है कि मैनचेस्टर में हुए हमले में किसी बड़े ग्रुप का हाथ हो, जिसमें कई लोग शामिल हों। आतंकी हमले का खतरा बहुत ज्यादा है, इसका मतलब है कि अभी और हमले हो सकते हैं।"
ऑपरेशन टेम्परर लागू
- थेरेसा मे ने कहा, "जिस तरह का खतरा हमारे सामने है, उससे निपटने और सुरक्षित रहने के लिए पुलिस को एडिशनल रिर्सोसेस और सपोर्ट की जरूरत है। ज्वाइंट टेररिज्म एनालिसिस सेंटर से चर्चा के बाद पुलिस ने सेक्रेटरी ऑफ स्टेट फॉर डिफेंस से आर्म्ड मिलिट्री पर्सनल्स की तैनाती के बारे में पूछा था, जिसके बाद आर्मी की तैनाती का फैसला लिया गया।" - "पुलिस की ये रिक्वेस्ट ऑपरेशन टेम्परर का हिस्सा थी। ऑपरेशन टेम्परर अब देश में लागू है। इसका मतलब है कि अहम जगहों की सुरक्षा के लिए अब आर्मी जिम्मेदार होगी। आर्मी प्रमुख जगहों की निगरानी बढ़ाने के लिए पुलिस को इंस्ट्रक्शन देंगे। खास इवेंट्स या खेलों के दौरान जनता की सुरक्षा के लिए आर्मी की तैनाती से पुलिस को मदद मिलेगी।"
आर्मी के 5 हजार जवान तैनात..
- थेरेसा मे ने कहा, "मैं नहीं चाहती थी कि जनता बिना वजह परेशान और चिंतित हो, लेकिन खतरे को देखते हुए यह एक समझदारी भरा फैसला है।" - पिछले 10 साल में ऐसा पहली बार है कि ब्रिटेन में आतंकी खतरे का डर हाइएस्ट लेवल पर जताया गया है। पूरे देश में आर्मी के 5 हजार जवानों को तैनात किया गया है। - बता दें कि ISIS ने मैनचेस्टर हमले की जिम्मेदारी ली है। संगठन ने और हमलों की भी चेतावनी दी है।

14 लाख भारतीय अमेरिका गए, 30,000 वीजा खत्म होने पर भी वहीं रह गए
24 May 2017
वॉशिंगटन.पिछले साल भारत से कुल 14 लाख लोग अमेरिका गए। उनमें से 30,000 वीसा अवधि खत्म होने का बाद भी वहीं रुके रहे। ये लोग नॉन इमीग्रेंट्स के तौर पर बिजनेस, स्टूडेंट, टूरिस्ट आदि वीसा लेकर अमेरिका पहुंचे थे। यह जानकारी अमेरिका के होमलैंड सिक्युरिटी डिपार्टमेंट ने कांग्रेस (अमेरिकी संसद) में पेश अपनी सालाना रिपोर्ट में दी है।
रिपोर्ट के मुताबिक, 2016 में दुनियाभर से आए करीब 5 करोड़ नॉन इमीग्रेंट्स को अमेरिका से लौट जाना था। लेकिन इनमें से 7,39,478 लोग तय अवधि के बाद भी अमेरिका में ही रह गए। यह दर 1.47 फीसदी है। रिपोर्ट के मुताबिक इनमें से 6,28,799 का अमेरिका में रुकना संदिग्ध है क्योंकि इन विदेशी नागरिकों के बारे में कोई रिकॉर्ड नहीं मिला।
बाकी लोग तय अवधि खत्म होने के बाद ही सही लेकिन स्वदेश लौट गए। इसके अनुसार, तय अवधि से ज्यादा समय तक रुके 30,000 भारतीयों में से करीब 3,000 कानूनी तौर पर बाद में स्वदेश लौट गए।

मैनचेस्टर में ब्लास्ट: 30ft दूर जा गिरे लाेग; IS ने सोशल मीडिया पर मनाया जश्न
23 May 2017
मैनचेस्टर शहर में सोमवार की रात आतंकी हमला हुआ। इसमें 22 लोगों की मौत हो गई। वहीं, 59 से ज्यादा लोग जख्मी हैं। हमला उस वक्त हुआ, जब यहां के मैनचेस्टर एरिना में अमेरिकी सिंगर अरियाना ग्रांडे का कॉन्सर्ट खत्म हो गया था। हमले के बाद स्टेडियम में अफरा-तफरी मच गई।
दलोग एग्जिट गेट की तरफ भागने लगे। वहीं, स्टेडियम के बाहर अपने बच्चों का इंतजार कर रहे पेरेंट्स और दूसरे लोगों ने अपनों को खोजने के लिए सोशल मीडिया पर मदद मांगी। एक शख्स ने बताया कि मैं ब्लास्ट से करीब 30 फीट दूर जाकर गिरा। इस्लामिक स्टेट (आईएस) के सपोर्टर्स ने सोशल मीडिया पर जश्न मनाया
पेरेंट्स बाहर इंतजार कर रहे थे...
- अरियाना ग्रांडे के कॉन्सर्ट में बड़ी तादाद में यूथ मौजूद थे। स्टेडियम के बाहर कई लोग अपनों का इंतजार कर रहे थे। - मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, शो का आखिरी गाना चल रहा था। तभी स्टेडियम के बाहर विंडो के पास धमाका हुआ। यह खबर स्टेडियम और बाहर इंतजार कर रहे लोगों के बीच पहुंची। लोग स्टेडियम से बाहर निकलने के लिए दौड़ने लगे। बाहर इंतजार कर रहे पेरेंट्स और रिश्तेदारों में डर फैल गया। सभी एक-दूसरे से अपनों की जानकारी लेने लगे। - बीबीसी के मुताबिक, एंडी होली अपनी पत्नी और बेटी का इंतजार कर रहे थे। उन्होंने बताया- "मैं बेटी और पत्नी का इंतज़ार कर रहा था कि तभी तेज धमाका हुआ। मैं एक दरवाजे के पास से तीस फीट दूर दूसरे दरवाजे के पास जा गिरा। जब मैं उठा तो मैंने शवों को देखा। मेरे दिमाग में आया कि मैं एरिना में अंदर जाऊं और अपनी पत्नी और बेटी के बारे में पता लगाऊं।"
- "जब मैं उन्हें नहीं खोज सका तो मैं बाहर पुलिस के पास गया और कुछ लोगों की बॉडी के बीच उन्हें पहचानने की कोशिश की। हालांकि, बाद में पता चला कि दोनों सुरक्षित हैं।" - बता दें कि लंदन से मैनचेस्टर करीब 260 किमी की दूरी पर है।
सोशल मीडिया पर लोगों से अपील की
- एक महिला ने सोशल मीडिया पर अपनी बहन के बारे में जानकारी देने की अपील की। उन्होंने कहा कि मेरी छोटी बहन एमा कॉन्सर्ट में थी। वह जवाब नहीं दे रही है। मेरी मदद करें। - एक यूजर एरिन ने कहा- मेरी बहन को खोजने में मेरी मदद कीजिए। वह पिंक शर्ट और ब्लू जींस पहने है। उसका नाम व्हिटनी है। - एक और यूजर ने लिखा कि मेरा बेटा मैनचेस्टर एरिना में है। वह फोन नहीं उठा रहा है। इस मैसेज के साथ उसने अपने बेटे की फोटो भी पोस्ट की।

उत्तर कोरिया ने किया परमाणु परीक्षण, अमेरिका ने कुछ कंपनियों, अधिकारियों को किया प्रतिबंधित
3 December 2016
उत्तर कोरिया की ओर से 9 सितंबर को किए गए परमाणु परीक्षण के बाद अमेरिका ने सरकारी विमानन कंपनी एयर कोरयो सहित देश की 23 कंपनियों तथा अधिकारियों को काली सूची में डाल दिया है. संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् ने एशियाई देश को राजनीतिक और आर्थिक रूप से अलग-थलग करने के लक्ष्य से प्योंगयांग के खिलाफ अभी तक के सबसे कठोर प्रतिबंधों वाला प्रस्ताव पारित किया था. उसके बाद अमेरिका ने यह फैसला किया है. अमेरिका के वितत विभाग ने शुक्रवार को यह प्रतिबंध लगाए हैं. इनका लक्ष्य कंपनियों और व्यक्तियों को वैश्विक वित्तीय प्रणाली से बाहर करना है. इसमें उत्तर कोरिया के कई बैंक, विनिर्माण कंपनियां, वाणिज्यिक कंपनियां और एक तेल कंपनी भी शामिल है. अमेरिकी प्रतिबंध सूची में एयर कोरयो नया नाम है. वित्त विभाग ने इसे उत्तर कोरिया के सैन्य नेटवर्क का हिस्सा बताया है क्योंकि उसके एक विमान ने जुलाई 2013 में ‘‘विक्टरी डे सैन्य परेड’’ में उड़ान भरी थी. विभाग का कहना है कि विमानन कंपनी ने उत्तर कोरिया के एससीयूडी-बी बैलिस्टिक मिसाइल प्रणाली के लिए कलपुजरे तथा अन्य उपकरणों का परिवहन किया था. साथ ही देश के नेता किम जोंग उन एयर कोरयो के चिन्ह वाले निजी विमान का प्रयोग करते हैं. वित्त विभाग का कहना है कि नए प्रतिबंधों के तहत एयर कोरयो के 16 विमानों को ‘‘ब्लॉक’’ किया गया है, हालांकि उसने विस्तृत जानकारी नहीं दी.

पाकिस्तान के प्रति ट्रम्प के रुख में बदलाव की संभावना नहीं : अमेरिका
3 December 2016
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के साथ डोनाल्ड ट्रम्प की बातचीत के संदर्भ में अमेरिका के एक प्रभावशाली कांग्रेस सांसद ने कहा कि नवनिर्वाचित राष्ट्रपति के अपना कार्यकाल संभालने के बाद पाकिस्तान के प्रति उनके रुख में बदलाव की संभावना नहीं है. इराक और अफगानिस्तान युद्धों के मामले में दिग्गज रिपब्लिकन सांसद एडम किनजिंगर ने ‘सीएनएन’ को दिए एक साक्षात्कार में कहा, ‘‘मैं नहीं समझता कि किसी को भी यह आशंका है कि डोनाल्ड ट्रम्प पाकिस्तान के प्रति अपने रूख में तब्दीली लाएंगे. वह इसके लेकर बहुत स्पष्ट हैं.’’ शरीफ के साथ फोन पर हुई उनकी बातचीत के बारे में पूछे जाने पर किनजिंगर ने कहा, ‘‘इस मामले में आपके पास उस प्रतिलिपि से मिला बयान है जो हो भी सकता है अथवा नहीं भी. बहरहाल, बतौर अमेरिकी राष्ट्रपति इन अहम मुद्दों पर डोनाल्ड ट्रम्प कैसे होंगे, मुझे नहीं लगता यह उस बात को प्रदर्शित करता है.’’ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के अनुसार ट्रम्प ने शरीफ को एक ‘‘शानदार शख्स’’ बताते हुए कहा था कि आप (शरीफ) मेरी जो भी भूमिका चाहते हैं उसके लिए मैं तैयार हूं और उसे निभाने की इच्छा रखता हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘अमेरिका में विदेश नीति के कई विश्लेषकों ने इसके लिए ट्रम्प की आलोचना की है. मुझे लगता है कि किसी से यह कहना कि आप मुझसे जो भी भूमिका चाहते हैं उसे मैं निभाऊंगा, थोड़ा अनुचित है.’’

पाक सेना प्रमुख बाजवा ने छेड़ा कश्मीर राग, सैनिकों से पूरी ताकत से जवाब देने को कहा
3 December 2016
पाकिस्तान के नवनियुक्त सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने अपने सैनिकों को संबोधित करते हुए पहली बार कश्मीर मुद्दा उठाया और उनसे भारत द्वारा प्रत्येक संघर्षविराम उल्लंघन का 'पूरी ताकत से' जवाब देने को कहा. सेना की मीडिया शाखा 'इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस' (आईएसपीआर) ने एक बयान में कहा कि 'भारतीय सैनिकों द्वारा हालिया उल्लंघनों और बढ़ते तनाव तथा पाकिस्तान के जवाब को लेकर' बाजवा को नियंत्रण रेखा पर सुरक्षा स्थिति से अवगत कराया गया. उन्होंने इस सप्ताह सेना की कमान संभालने के बाद पहली बार नियंत्रण रेखा पर अग्रिम मोर्चों पर जवानों से मुलाकात की. बाजवा ने नियंत्रण रेखा के इर्द-गिर्द अग्रिम ठिकानों पर 10 कोर रावलपिंडी के दौरे पर कहा, 'किसी भी तरह के हर उल्लंघन का सबसे असरदार तरीके से पूरी ताकत से जवाब दिया जाना चाहिए.' बयान के अनुसार उन्होंने कहा कि भारत के 'आक्रामक रुख' का मकसद दुनिया का ध्यान 'कश्मीर में भारतीय सैनिकों द्वारा किए जा रहे अत्याचार' से हटाना है.


बराक ओबामा के पाकिस्तान न जाने के पीछे व्हाइट हाउस ने यह बताई वजह
2 December 2016
निवर्तमान अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने अपने कार्यकाल की शुरुआत में पाकिस्तान जाने की इच्छा जताई थी, लेकिन वह ऐसा नहीं कर सके. व्हाइट हाउस ने इसके पीछे पाकिस्तान के साथ अमेरिका के 'पेचीदा संबंधों' को कारण बताया है. व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव होज़े अर्नेस्ट ने नियमित संवाददाता सम्मेलन में कहा, 'उनके राष्ट्रपति कार्यकाल के एक चरण में, मुझे याद है कि राष्ट्रपति बराक ओबामा ने पाकिस्तान यात्रा पर जाने की इच्छा जताई थी. लेकिन विभिन्न कारणों से, जिनमें से कुछ की वजह बीते आठ वर्षों में किसी समय दोनों देशों के बीच जटिल संबंध थे, राष्ट्रपति बराक ओबामा अपनी यह इच्छा पूरी नहीं कर पाए.' अर्नेस्ट पाकिस्तान के बयान पर आधारित सवाल का जवाब दे रहे थे. पाकिस्तान ने नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के हवाले से दावा किया था कि उन्होंने प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से कहा है कि वह देश के दौरे पर आना चाहेंगे. उन्होंने कहा, 'एक बात हमें पता होनी चाहिए कि जब अमेरिका के राष्ट्रपति किसी देश के दौरे पर जाते हैं तो इसका देश की जनता तक बड़ा महत्वपूर्ण संदेश जाता है. यह उस देश के लिए भी सही है, जो हमारा सबसे करीबी सहयोगी है और साथ-साथ पाकिस्तान जैसे उस देश पर भी लागू होता है, जिसके साथ हमारे संबंध कहीं ज्यादा उलझे हुए हैं.'

ठोस अपशिष्ट प्रबंधन : 2016 के दुनिया के सर्वश्रेष्ठ शहरों में कोलकाता, पुरस्कार मिला
2 December 2016
वाशिंगटन: ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के सिलसिले में प्रेरणादायी और अभिनव कार्यक्रम चलाने के लिए कोलकाता और दुनिया के दस अन्य शहरों को इस श्रेणी में वर्ष 2016 के सर्वश्रेष्ठ शहर का पुरस्कार दिया गया है. लाखों की आबादी वाले शहरों के मेयरों के अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के मौके पर जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि कोलकाता ठोस अपशिष्ट प्रबंधन सुधार परियोजना ने स्रोत पर ही कचरे को अलग करने और स्थानांतरण केन्द्रों पर अपशिष्ट पदार्थों के निपटारे की दिशा में 60-80 फीसदी का लक्ष्य प्राप्त किया. इस सम्मेलन में भारत के कोलकाता, मुंबई, चेन्नई और नई दिल्ली जैसे शहरों ने हिस्सा लिया. विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘इससे आगे की बात यह है कि परियोजना का लक्ष्य खुले में कचरा फेंकने और अपशिष्ट पदार्थों को जलाने का उन्मूलन करना और लैंडफिल वाले स्थानों पर उत्सर्जित होने वाले मीथेन गैस की मात्रा में कमी लाना है.’’ यह प्रतिष्ठित सम्मान प्राप्त करने वाला कोलकाता एकमात्र भारतीय शहर है. मैक्सिको सिटी में आयोजित सी40 मेयर सम्मेलन में उसे यह पुरस्कार दिया गया.

अमेरिका छोड़ कर विदेश जाने वाली कंपनियों पर लगाया जाएगा भारी जुर्माना : डोनाल्ड ट्रंप
2 December 2016
अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने धमकी देते हुए कहा है कि जिन अमेरिकी फर्मों की इच्छा देश छोड़कर विदेश जाने की होगी, उन्हें इसकी सजा भुगतनी पड़ेगी. राष्ट्रपति ने देश में नौकरियां बनाए रखने के लिए एयर कंडिशनिंग कंपनी करियर के साथ सहमति बनने की घोषणा की है. राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद पहली बार सार्वजनिक टिप्पणी करते हुए ट्रंप ने इंडियानापोलिस स्थित करियर प्लांट के कर्मचारियों से कहा, 'अब बिना परिणाम भुगते कंपनियां अमेरिका छोड़ कर बाहर नहीं जा पाएंगी. यह अब नहीं होने जा रहा है.' ट्रंप ने कहा, 'कंपनिया बेहतर डील की तलाश में एक राज्य से दूसरे राज्य जा सकती हैं, लेकिन देश छोड़ कर जाना अब काफी मुश्किल होगा.' राष्ट्रपति चुनाव के विजय अभियान के दौरान ट्रंप ने बार-बार धमकी देते हुए कहा था कि जो फर्म देश छोड़कर, सस्ते श्रमिकों वाली जगहों जैसे मेक्सिको या एशिया जाएंगी तो उन पर भारी जुर्माना थोपा जाएगा. ट्रंप ने खास तौर पर यूनाइटेड टेक्नोलॉजिज कॉरपोरेशन के ब्रांड करियर की ओर इशारा करते हुए कहा कि वह इस कंपनी को हजारों नौकरियां मेक्सिको नहीं ले जाने के लिए प्रोत्साहित कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि अगर कंपनी ऐसा करती है तो उनका प्रशासन करियर के उत्पादों पर भारी जुर्माना थोपेगा.


डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान की सारी समस्याएं हल करने की इच्छा जताई
1 December 2016
अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से कहा कि पाकिस्तान चाहे तो वह उसके सामने निरंतर बनी हुई समस्याओं का समाधान निकालने के लिए कोई भी भूमिका निभाने को तैयार हैं. दरअसल पाकिस्तानी प्रधानमंत्री शरीफ ने ट्रंप की हालिया जीत पर उन्हें बधाई देने के लिए फोन किया था, उसी दौरान ट्रंप ने यह आश्वासन दिया. शरीफ के दफ्तर की ओर से जारी बयान के मुताबिक, ट्रंप ने शरीफ से कहा, 'पाकिस्तान के सामने मौजूद सारी सारी समस्याओं का हल तलाशने के लिए आप मुझसे जिस भी भूमिका की उम्मीद करते हैं, मैं उसके लिए इच्छुक और तैयार हूं. यह एक सम्मान की बात होगी और मैं निजी तौर पर यह करना चाहूंगा. आप बेझिझक मुझे किसी भी वक्त, यहां तक कि 20 जनवरी को राष्ट्रपति का पदभार संभालने से पहले भी मुझे फोन कर सकते हैं.

मिस्र में 296 मुर्सी समर्थकों को 25 साल तक की कैद
1 December 2016
मिस्र की एक सैन्य अदालत ने पूर्व इस्लामिक राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी के 296 समर्थकों को हिंसा भड़काने के आरोप में एक साल से लेकर 25 साल तक की कैद की सजा सुनाई है. मुर्सी समर्थकों को यह सजा राजधानी काहिरा के पूर्वोत्तर में स्थित इस्लामिया प्रांत की एक अदालत में सुनाई गई. सरकारी समाचार वेबसाइट 'अल अहराम' की रिपोर्ट के अनुसार, मुर्सी के प्रतिबंधित संगठन मुस्लिम ब्रदरहुड के प्रमुख मोहम्मद बादी और तीन अन्य को 10-10 साल कैद की सजा सुनाई गई है. मुर्सी को एक साल के शासन के दौरान बड़े पैमाने पर जनता के विरोध का सामना करना पड़ा था, जिसके मद्देनजर जुलाई 2013 में सेना ने उन्हें पद से हटा दिया था. बाद में उनके संगठन मुस्लिम ब्रदरहुड को काली सूची में डाल दिया गया.


भ्रष्टाचार के खिलाफ महत्वपूर्ण कदम है नोटबंदी : मार्क टोनर
1 December 2016
अमेरिका के विदेश मंत्रालय के उप प्रवक्ता मार्क टोनर ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले का समर्थन करते हुए इसे भ्रष्टाचार और कर चोरी पर लगाम लगाने के लिए एक 'महत्वपूर्ण व जरूरी' कदम बताया. टोनर ने बुधवार को दैनिक ब्रीफिंग के दौरान एक संवाददाता के सवाल के जवाब में कहा कि भारत सरकार ने यह कदम भ्रष्टाचार और कर चोरी से इकट्ठा किए गए अवैध धन पर लगाम लगाने के लिए उठाया है. उन्होंने कहा, 'हम मानते हैं कि नोटबंदी का फैसला इस तरह के अवैध या गैर-कानूनी कार्यों के खिलाफ उठाया गया महत्वपूर्ण और जरूरी कदम है.' टोनर ने हालांकि माना कि इस कदम से भारतीयों और भारत में रह रहे अमेरिकी नागरिकों को थोड़ी असुविधा हुई है, लेकिन उन्होंने इस पर जोर दिया कि इस संदर्भ में 'थोड़ा सामंजस्य बिठाने की जरूरत है.' वह नोटबंदी के फैसले को पिछले दो वर्षों में मोदी सरकार द्वारा 'काला धन के कारोबार' को रोकने की दिशा में उठाए गए विभिन्न सुधारवादी कदमों के तौर पर देखते हैं.

घोटालों के आरोपों में घिरी दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति ने जल्द पद छोड़ने की इच्छा जताई
30 November 2016
घोटालों के आरोपों में घिरी दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति पार्क ग्वेन हाई ने कहा कि वह जल्द इस्तीफा देने की इच्छुक हैं और संसद को उनकी किस्मत का फैसला करने दिया जाए. हालांकि आलोचकों का इस पर कहना है कि यह कदम आसन्न महाभियोग की प्रक्रिया में विलंब करने के प्रयास के तहत उठाया गया है. पार्क का राष्ट्रपति के तौर पर कार्यकाल इन आरोपों के साथ विवादों के घेरे में आ गया, जिसमें कहा गया कि 'कोरिया के रासपुतिन' के नाम से मशहूर उनके करीबी वफादार चोई सून सिल ने सैमसंग समेत देश की कुछ शीर्ष कंपनियों से छह करोड़ रुपये से अधिक की राशि रिश्वत के तौर पर वसूल की. इसको लेकर दक्षिण कोरिया में लोगों में काफी गुस्सा है और हजारों लोग उन्हें पद से हटाने की मांग को लेकर सड़कों पर उतर गए हैं.

सहयोग बढ़ाने के लिए वार्ता करें भारत एवं पाकिस्तान : अमेरिका
30 November 2016
अमेरिका ने आज कहा कि वह सहयोग बढ़ाने एवं क्षेत्र में शांति स्थापित करने के लिए भारत एवं पाकिस्तान के बीच वार्ता होते देखना चाहता है. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता जॉन किर्बी ने अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, हम सहयोग, संवाद एवं साझे खतरों के खिलाफ साझा प्रयास बढ़ाने के लिए भारत एवं पाकिस्तान के बीच वार्ता एवं चर्चा होते देखना चाहते हैं. उन्होंने एक प्रश्न के उत्तर में कहा, हमने क्षेत्र में अतिवाद के खतरे के बारे में बात की है. यह दोनों पक्षों में सभी को प्रभावित करता है


40 दिन तक भूखी रहीं, मरते-मरते बचीं : बोको हराम के कब्जे से निकली लड़कियों ने बयां किया दर्द
30 November 2016
नाइजीरिया के बोको हराम ने दो साल से भी अधिक समय पहले चिबोक के एक स्कूल से जिन 200 से अधिक छात्राओं का अपहरण किया था, उनमें से कुछ मुक्त होने के बाद अपने परिवारों के पास पहुंचीं और अपनी पीड़ा के बारे में बताया. राजधानी अबुजा में अपने स्वागत के लिए इसाई समुदाय द्वारा आयोजित समारोह में इन छात्राओं ने बताया कि उन्हें 40 दिनों तक खाना नहीं मिला. ज्यादातर छात्राएं ईसाई हैं, लेकिन अपहरण के बाद बोको हराम ने इनका धर्म परिवर्तन करके इन्हें मुस्लिम धर्म अपनाने के लिए बाध्य कर दिया. एक छात्रा ग्लोरिया दामे ने बताया कि 40 दिन तक भूखे रहने के अलावा एक बार तो वह मरते-मरते भी बची. ‘‘मैं लकड़ियों के ढांचे में थी और बिल्कुल पास में विमान से बम गिराया गया, लेकिन मैं बाल-बाल बच गई. उसने स्थानीय हाउसा

विद्रोहियों के कब्जे वाले अलेप्पो का एक तिहाई हिस्सा अब सीरियाई बलों के नियंत्रण में
29 November 2016
सरकारी बलों ने विद्रोहियों के कब्जे वाले अलेप्पो शहर के एक तिहाई हिस्से को अपने नियंत्रण में ले लिया है. सीरिया के इस दूसरे शहर को अपने कब्जे में लेने के लिए सरकारी सुरक्षा बलों के आक्रमण के कारण तकरीबन 10,000 नागरिकों को यहां से पलायन करना पड़ा. समूचे शहर को अपने अधिकार में लेने की मुहिम के तहत शासन बलों ने सप्ताहांत तक पूर्वी अलेप्पो के सबसे बड़े शहर मासाकेन हानानो सहित विद्रोहियों के कब्जे वाले अलेप्पो के छह पूर्वी जिलों को अपने अधिकार में ले लिया है. सीरियन ऑब्जर्वेट्री फॉर ह्यूमन राइट्स ने बताया कि अभियान के 13वें दिन कल उन्होंने जबाल बदरा और बादीन के आस पास के इलाकों और तीन अन्य को भी फिर से अपने कब्जे में ले लिया.

क्रांति को बचाने के लिए क्यूबाई लोगों ने किए शपथ पर हस्ताक्षर, कास्त्रो को श्रद्धांजलि
29 November 2016
क्यूबा के सैकड़ों स्कूलों, अस्पतालों और सार्वजनिक भवनों में लोगों ने कम्यूनिस्ट नेता फिदेल कास्त्रो की मौत के बाद क्रांति को बचाए रखने के लिए ‘‘औपचारिक शपथ’’ पर हस्ताक्षर किए. शोक पुस्तिका में संदेश लिखने के अलावा क्यूबा के लोगों को कास्त्रो द्वारा सन 2000 के एक भाषण में परिभाषित किए गए ‘क्रांति की अवधारणा’ को समर्थन देने के लिए बुलाया गया था. इसके छह साल बाद, बीमारी के कारण कास्त्रो ने अपने भाई राउल कास्त्रो को सत्ता सौंप दी थी. कास्त्रो के मरने के तीन दिन बाद क्यूबाई लोगों ने ‘‘शपथ’’ पर हस्ताक्षर किए. इसमें लिखा था, ‘‘हम इन विचारों के लिए लड़ते रहेंगे, हम शपथ लेते हैं.’’ हवाना के एक स्कूल में सेवानिवृत्त कर्नल रिगोबर्तो सेरोलियो ने कहा, ‘‘हस्ताक्षर इस समाजवादी क्रांति को अपरिवर्तनीय बनाने की क्यूबा के लोगों की इच्छा प्रदर्शित करते हैं.’’ देश भर में शपथ पर हस्ताक्षर करने के लिए लोग कतारों में खड़े रहे.


अलेप्पो में बमबारी का भयावह मंजर : बच्ची ने किया ट्वीट, 'यह है आखिरी संदेश
29 November 2016
सीरिया के अलेप्पो शहर में रहने वाली सात-वर्षीय बाना अलाबेद माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर पिछले दो-तीन महीने से बता रही है कि युद्ध झेल रहे शहर में उनकी ज़िन्दगी में रोज़ाना क्या-क्या घट रहा है, वे क्या-क्या झेल रहे हैं... लेकिन अब उसके ट्वीट में विद्रोहियों के कब्ज़े वाले इलाकों पर सरकारी फौजों की बमबारी का ऐसा ज़िक्र है, जिसे पढ़कर ही रोंगटे खड़े हो जाते हैं, और यह सोच-सोचकर ही रूह कांप जाती है कि बाना और उसके जैसे लाखों लोग क्या-क्या देख और बर्दाश्त कर रहे हैं... बाना के ट्वीट लोगों को इस कदर अपनी ओर खींचते रहे हैं कि अब तक उसके फॉलोअरों की गिनती 1,37,000 हो चुकी है... @AlabedBana हैंडल से बने उसके एकाउंट को उसकी मां फातिमा चलाती हैं, और अब तक वह टेक्स्ट संदेशों के अलावा बहुत-से फोटो और वीडियो भी अपलोड करती रही हैं..

डोनाल्ड ट्रंप का दावा : हिलेरी क्लिंटन के लिए ‘लाखों ने किया अवैध मतदान’
28 November 2016
मेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अभूतपूर्व आरोप लगाते हुए कहा है कि आठ नवंबर को हुए चुनाव में ‘‘लाखों लोगों’’ ने हिलेरी क्लिंटन के लिए अवैध मतदान किया और उन तीन राज्यों में गंभीर धांधली हुई जहां उन्हें (ट्रंप को) हार मिली थी. ट्रंप ने अपने इन दावों के समर्थन में कोई सबूत पेश नहीं किया. उन्होंने कहा कि ‘‘यदि आप अवैध मतदान करने वाले लाखों लोगों के मतों को हटा दें’’ तो वह अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में लोकप्रिय मतों के मामले में भी विजयी रहते. उन्होंने कल शाम कई ट्वीट करते हुए कहा, ‘‘यदि आप अवैध मतदान करने वाले लाखों लोगों के मतों को हटा दें तो मैं निर्वाचन मंडल के मतों के मामले में शानदार जीत हासिल करने के साथ ही लोकप्रिय मतों के मामले में भी विजयी रहता.’’ उन्होंने आरोप लगाया कि वर्जीनिया, न्यू हैम्पशायर और कैलिफोर्निया में मतदान संबंधी गंभीर धोखाधड़ी हुई थी. इस राज्यों में उन्हें हार मिली थी.

नेपाल में भूकंप के झटके महसूस किए गए, रिक्टर पर 5.5 मापी गई तीव्रता
28 November 2016
नेपाल में आज तड़के भूकंप के झटके महसूस किए गए जिनकी तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 5.5 मापी गई. पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय की इकाई राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र ने बताया कि भूकंप सुबह पांच बजकर पांच मिनट पर 10 किलोमीटर की गहराई में आया. नेपाल के नेशनल साइज्मोलॉजिकल सेंटर ने बताया कि भूकंप का केंद्र काठमांडो से करीब 150 किलोमीटर पूर्व में एवरेस्ट क्षेत्र के निकट सोलुखुम्बु जिले में था. भूकंप की तीव्रता 5.6 मापी गई. भूकंप पीड़ित हिमालयी देश में अप्रैल 2015 में आए भूकंप के बाद से चार से अधिक तीव्रता के 475 झटके महसूस किए है. जानमाल के किसी प्रकार के नुकसान की तत्काल कोई रिपोर्ट नहीं है. काठमांडो और मध्य एवं पूर्वी नेपाल के अन्य हिस्सों में भी भूकंप के झटके महसूस किए गए.


चीन ने मुसलमानों से चरमपंथ का विरोध करने और समाजवाद से जुड़े रहने को कहा
28 November 2016
चीन ने मुसलमान नागरिकों से चरमपंथ का विरोध करने और चीन की विशेषताओं के साथ समाजवाद से जुड़े रहने को कहा है. दरअसल, इसने अशांत मुस्लिम बहुसंख्यक शिंजियांग प्रांत में कठोर कदमों के साथ सुरक्षा व्यवस्था को सख्त किया है. धार्मिक मामलों के राज्य प्रशासन प्रमुख वांग जुओन ने कहा कि चीनी मुसलमानों को दृढ़ता से धार्मिक चरमपंथ का विरोध करना चाहिए. सरकारी शिन्हुआ समाचार एजेंसी की खबर के मुताबिक वांग ने 10 वें नेशनल कांग्रेस में चीनी मुसलमानों को संबोधित करते हुए कहा कि चीन में इस्लाम के विकास को चीनी विशेषताओं वाले समाजवाद से जुड़ा रहना चाहिए. वांग ने कहा कि मुस्लिम मान्यताओं और रीति रिवाजों का सम्मान किया जायेगा लेकिन राजनीति, न्याय और शिक्षा के क्षेत्र में धार्मिक हस्तक्षेप को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. उन्होंने इस बात की पुरजोर हिमायत की कि नये मस्जिदों को चीनी विशेषताओं और राष्ट्रीय खूबियों को प्रदर्शित करना चाहिए ना कि जानबूझ कर विदेशी वास्तुकला शैलियों का . उन्होंने कहा कि वह पिछले पांच साल के दौरान 'इस्लामिक एसोसिएशन ऑफ चाइना' के किए काम की भी सराहना करते हैं.

इस्राइल के येरूसलम के पास जंगल में लगी भयावह आग, हजारों लोगों को बाहर निकाला गया
26 November 2016
इस्राइल में येरूसलम के पास शुक्रवार को जंगल में भयावह आग लगी, जिसके मद्देनजर उत्तरी इस्राइल के हजारों लोगों को अपना घर छोड़ कर सुरक्षित स्थानों पर जाना पड़ा. येरूसलम पहाड़ियों में रहने वाली पूरे 'नताफ' समुदाय को शुक्रवार को एक बार फिर बाहर निकाला गया. गौरतलब है कि सोमवार से ही इलाके में आग लगी है. इस्राइल के तीसरे सबसे बड़े शहर हेफा में स्थानीय निवासियों को घर लौटने को कहा गया है, इससे पहले ही 60,000 लोग घर लौट चुके हैं जो हेफा की आबादी का लगभग एक-चौथाई है. इस्राइल के अग्निशमन एवं बचाव सेवा के मुताबिक, जंगल के चार स्थानों पर फैली इस आग में हेफा के 600 से अधिक घर जलकर खाक हो गए. अमेरिका के दर्जनभर दमकलकर्मियों ने बचावकार्यों के लिए शुक्रवार को इस्राइल का रुख किया. इसके साथ ही विदेशी दमकलकर्मियों के 13 विमान घटनास्थल पर पहुंच गए हैं.

अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव : ग्रीन पार्टी ने विस्कॉन्सिन में मतों की फिर से गणना का आवेदन दिया
26 November 2016
अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में ग्रीन पार्टी की उम्मीदवार रहीं जिल स्टीन ने विस्कॉन्सिन में मतों की फिर से गणना का अनुरोध करने के लिए आवेदन किया है. विस्कॉन्सिन उन तीन अहम राज्यों में से एक है जहां डोनाल्ड ट्रंप ने जीत हासिल की थी. विस्कॉन्सिन चुनाव आयोग ने कल कहा कि वह जिल के अनुरोध के अनुरूप ‘‘अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में मतों की राज्य स्तर पर फिर से गणना करने की तैयारी कर रहा है.’’ आयोग ने कहा कि पुन: मतगणना पूरी करने की अंतिम समय सीमा 13 दिसंबर है इसलिए उसके कर्मियों को तेजी से काम करना होगा. उसने कहा कि वह अभी इस बात की गणना कर रहा है कि पुन: गणना के कठिन कार्य को करने के लिए जिल की पार्टी से कितना शुल्क लिया जाएगा. जिल ने कहा कि उनकी पेनसिल्वेनिया और मिशिगन में भी राष्ट्रपति पद के चुनाव परिणाम को चुनौती देने की योजना है जहां ट्रंप ने जीत प्राप्त की थी.


ओबामा प्रशासन ने कहा, वह चुनाव के परिणाम स्वीकार करता है
26 November 2016
ओबामा प्रशासन ने कहा है कि वह अमेरिकी राष्ट्रपति पद के लिए संपन्न चुनाव के परिणामों को स्वीकार करता है क्योंकि ये परिणाम अमेरिकियों की इच्छा को स्पष्ट तौर पर जाहिर करते हैं. साथ ही ओबामा प्रशासन का यह भी मानना है कि चुनाव साइबर सुरक्षा के परिप्रेक्ष्य में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष हुए. ओबामा प्रशासन ने अमेरिकी चुनाव परिणाम के पक्ष में यह बात ऐसे समय पर कही है जब हैकिंग की आशंका है और रूस से हैकिंग किए जाने के आरोप लग रहे हैं. प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा ‘‘क्रेमलिन को शायद अपेक्षा थी कि अमेरिकी राजनीतिक संगठनों सहित अमेरिकियों एवं प्रतिष्ठानों के ईमेल खातों से रूस सरकार के निर्देश पर हुए समझौते के बाद हुए खुलासे के बाद तेज हुई चर्चा के कारण चुनाव प्रक्रिया की सत्यता को लेकर सवाल उठेंगे जिससे राष्ट्रपति के निर्वाचन की वैधता पर असर पड़ सकता है.’’

बोको हराम के जिहादियों ने नाइजारिया के तीन गांवों पर किया हमला, पांच लोगों की हत्या की
25 November 2016
बोको हराम के जिहादियों ने उत्तरपूर्वी नाइजीरिया के तीन गावों में हमला करके पांच लोगों की हत्या कर दी और कई मकानों एवं खेतों में आग लगा दी. स्थानीय निवासियों ने यह जानकारी दी. प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि चरमपंथी बोको हराम के हथियारबंद सदस्य बुधवार को मोटरबाइक पर सवार होकर हुयुम, साबोनगारिन हुयुम और वसाडा गांवों में घुसे और उन्होंने पांच ग्रामीणों की हत्या कर दी. इसके बाद उन्होंने लोगों की संपत्ति लूट ली और मकानों एवं खेतों में आग लगा दी. हुयुम निवासी बाला जोनाह ने कहा, हथियारबंद लोग शाम करीब 4 बजे गांव में घुसे और उन्होंने हमें चार घंटों तक बंधक बनाए रखा. उन्होंने कहा, हथियारबंद जिहादियों ने पांच व्यक्तियों की हत्या कर दी और हमारे मकानों एवं खेतों में आग लगा दी. कुछ दिन बाद हम अपने खेतों में फसल बोने वाले थे. वसाडा गांव के स्थानीय अधिकारी ने इन मौतों की पुष्टि की है.

ऑस्ट्रेलिया में सौर संयंत्र पर अडाणी का 30 करोड़ डॉलर निवेश, भूमि समझौता हुआ
25 November 2016
ऊर्जा क्षेत्र में काम करने वाले भारत के अडाणी समूह ने ऑस्ट्रेलिया में दो सौर संयंत्रों की स्थापना के लिए भूमि समझौतों को पूरा कर लिया है. इन दोनों संयंत्रों से अगले पांच सालों में 1500 मेगावाट की नवीकरणीय ऊर्जा का उत्पादन होगा जिन पर समूह संयुक्त तौर पर 30 करोड़ डॉलर का निवेश करेगा. इसके अलावा एक अदालत ने आज समूह की 16 अरब डॉलर की कोयला एवं खान परियोजना के खिलाफ अपील को खारिज कर दिया. कंपनी ने बताया कि यह संयंत्र पूर्वी ऑस्ट्रेलिया में मोरानबाह और दक्षिणी ऑस्ट्रेलिया के व्हायला क्षेत्र में स्थापित किए जाएंगे. इनमें से प्रत्येक की लागत 20 करोड़ ऑस्ट्रेलियाई डॉलर (लगभग 15 करोड़ अमेरिकी डॉलर) होगी. इन दोनों संयंत्रों पर अगले साल काम शुरू होगा. व्हायला परियोजना को एक वर्ष में पूरा कर लिया जाएगा और इससे करीब 350 नौकरियां पैदा होंगी. इसमें 120 मेगावाट क्षमता का सौर ऊर्जा उत्पादन संयंत्र होगा जिसकी अधिकतम क्षमता 150 मेगावाट होगी. कंपनी ने बताया कि इस परियोजना के लिए उसने व्हायला के नगर प्रशासन के साथ एक भूमि समझौता किया है.


इराकी सैनिकों ने इस्लामिक स्टेट आतंकियों को मोसूल में चारो तरफ से घेरा
25 November 2016
इराकी सुरक्षा बलों और उनकी सहयोगी अर्धसैनिक इकाइयों ने बुधवार को मोसूल शहर को पूरी तरह से घेर लिया. जवानों ने इस्लामिक स्टेट (आईएस) आतंकियों को मोसूल के अंदर और बाहर के इलाके से हटाने का अपना अभियान जारी रखा. समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने इराकी संयुक्त अभियान कमान (जेओसी) के जारी बयान के हवाले से कहा कि शिया बाहुल्य हशद शाबी सैन्य इकाइयों ने आईएस के कब्जे वाले तल अफार के पश्चिम में कब्जा जमाया है. यह मोसूल से 70 किमी पश्चिम में है. इसके तहत छह गांवों को कब्जे में लेकर तल अफार और पास के कस्बे सिंजार के मुख्य मार्ग को कब्जे में ले लिया गया है. बयान में कहा गया है कि इस कार्रवाई में हशद शाबी इकाइयों को मोसुल के पश्चिम तरफ से आईएस की आपूर्ति को रोकने में मदद मिली है.

बराक ओबामा ने ‘थैंक्सगिविंग’ परंपरा के तहत अपने कार्यकाल में आखिरी टर्की को दिया जीवनदान
24 November 2016
मेरिका के राष्ट्रपति ओबामा ने थैंक्सगिविंग परंपरा के तहत अपने कार्यकाल में आखिरी बार टर्की पक्षियों को जीवन दान दिया. ‘थैंक्सगिविंग’ सालाना आयोजित की जाने वाली एक परंपरा है जिसमें अमेरिकी नेता दो टर्की पक्षियों को जीवनदान देता है. इससे पहले थैंक्सगिविंग में हर साल ओबामा के साथ खड़ी होने वाली उनकी बेटियां साशा और मालिया इस साल इस अवसर पर मौजूद नहीं थीं. इस अवसर पर ओबामा के साथ उनकी बेटियों की जगह उनके भतीजे आस्टिन एवं आरोन रॉबिन्सन शामिल हुए. ओबामा ने हंसी के ठहाकों के बीच कहा, ‘‘मालिया एवं साशा की तरह वाशिंगटन ने अभी उन्हें परेशान नहीं किया है.’’ ओबामा ने इस साल के अपने दोनों टर्की से सभी को परिचित कराया. इस बार परंपरा में शामिल किए गए टर्की पक्षियों का नाम टेटर एवं टोट है. इन पक्षियों की आयु 18 सप्ताह है और उनका वजन 40 पौंड है.

चीन में निर्माणाधीन टॉवर गिरा, मृतकों की संख्या 40 पहुंची
24 November 2016
पूर्वी चीन के जियांगक्सी प्रांत में एक ऊर्जा संयंत्र में निर्माणाधीन चबूतरा (प्लेटफॉर्म) गिर जाने से आज 40 से अधिक लोगों की मौत हो गई. सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ ने खबर दी है कि यह हादसा सुबह 7 बजे के करीब उस समय हुआ जब एक कूलिंग टावर का चबूतरा ध्वस्त होकर जमीन पर गिर गया. इसके मलबे के नीचे फंसने वाले लोगों की सही संख्या के बारे में जानकारी नहीं है. निर्माणाधीन फेनचेंग ऊर्जा संयंत्र के कूलिंग टावर के चबूतरे के गिर जाने के बाद 40 से अधिक लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है. शहर के सुरक्षा विभाग के मुताबिक, घटनास्थल पर कामगार अभी भी फंसे हुए हैं. चिकित्सा और दमकल कर्मी वहां पहुंच गए हैं. चीन के सुरक्षा प्रशासन के मुताबिक जिस समय हादसा हुआ उस समय इस चबूतरे (प्लेटफॉर्म) पर करीब 68 लोग काम कर रहे थे. 200 से अधिक दमकल कर्मियों को तलाश और बचाव अभियान में लगाया गया है. सरकारी टीवी पर दिखाए गए सीसीटीवी फुटेज की तस्वीरों से पता चला है कि दर्जनों बचाव कर्मचारी मलबे के नीचे दबे श्रमिकों की तलाश कर रहे हैं.

मध्य अफ्रीका : संघर्ष में 16 की मौत, हजारों विस्थापित- संयुक्त राष्ट्र
24 November 2016
मध्य अफ्रीकी गणराज्य में विरोधी सशस्त्र समूहों के बीच हुए संघर्ष का हवाला देते हुए संयुक्त राष्ट्र ने जातीय समूह फुलानी को चेतावनी दी है और कहा है कि विरोधियों के बीच हुए इस संघर्ष में कम से कम 16 लोगों की मौत हो गई और हजारों नागरिक विस्थापित हो गए. संयुक्त राष्ट्र के शांतिरक्षक बल एमआईएनयूएससीए के प्रवक्ता व्लादिमीर मोंटीरो ने एक बयान में कहा, कम से कम 16 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है और हजारों लोग विस्थापित हुए हैं. बंगुई से 400 किलोमीटर पूर्वोत्तर में स्थित ब्रिया शहर में सोमवार को पूर्व ‘सेलेका’ मुस्लिम विद्रोही समूह के विरोधी धड़ों के बीच हिंसा भड़क उठी थी. एमआईएनयूएससीए ने मंगलवार को बताया कि संघर्ष के दौरान उनके एक शिविर में आग लग गई थी. उन्होंने वहां शरण लिए करीब 5,000 नागरिकों की सुरक्षा के लिए अतिरिक्त बल भेजने की घोषणा की. संघर्ष पॉपुलर फ्रंट फॉर द रीनेसेंस ऑफ द सेंट्रल अफ्रीकन रिपब्लिक (एफपीआरसी) और यूनियन फॉर पीस इन सेंट्रल अफ्रीका (यूपीसी) के बीच हुआ था.

सीरिया में आतंकवादियों ने किया रासायनिक हथियारों का इस्तेमाल : रूस
23 November 2016
रूसी रक्षा मंत्रालय ने सोमवार को दावा किया कि सीरिया के शहर अलेप्पो में आतंकवादियों ने क्लोरीन और सफेद फास्फोरस जैसे विषाक्त रसायनों का इस्तेमाल किया था. मंत्रालय के प्रवक्ता मेजर जनरल इगॉर कोनाशेंकोव ने एक बयान में कहा कि परमाणु, जैविक और रासायनिक संरक्षण दस्ते के वैज्ञानिक केंद्र के विशेषज्ञों ने बारूदों के नमूनों के प्रयोगशाला परीक्षण के बाद यह नतीजा निकाला. अलेप्पो की पश्चिमी सीमा में इस महीने की शुरुआत में एकत्र नमूनों के परीक्षण के दौरान इनमें क्लोरीन और सफेद फास्फोरस की उपस्थिति का पता चला था.


डोनाल्ड ट्रंप ने जलवायु परिवर्तन और हिलेरी को जेल भेजने पर लिया यू-टर्न
23 November 2016
चुनावी जीत के दो सप्ताह बाद अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने कई प्रमुख चुनावी वादों और बयानों पर यू-टर्न के संकेत दिए हैं. इन मुद्दों में जलवायु परिवर्तन पर उनका कड़ा रुख, बंदियों को प्रताड़ना और हिलेरी क्लिंटन को जेल भेजे जाने का संकल्प शामिल है. द न्यूयॉर्क टाइम्स के संवाददाताओं और संपादकों को दिए एक साक्षात्कार के दौरान ट्रंप ने इस बात के पर्याप्त संकेत दिए कि खुद को अपने कारोबार से दूर रखने, अपने शासन में परिवार के सदस्यों से जानकारी लेने और प्रेस के साथ संबंध के मामले में एक गैर-पारंपरिक राष्ट्रपति साबित होंगे. अखबार ने ट्रंप के साथ साक्षात्कार के बाद कहा कि ट्रंप ने आश्वासन दिए कि उनका इरादा कुछ क्षेत्रों में चरमपंथी रुख अपनाने का नहीं है. ट्रंप ने पिछले सप्ताहांत पर वाशिंगटन में एक श्वेत राष्ट्रवादी सम्मेलन को ‘पूरी तरह खारिज’ कर दिया था. ट्रंप ने राष्ट्रपति चुनाव में अपनी प्रतिद्वंद्वी हिलेरी क्लिंटन के कथित ईमेल स्कैंडल की जांच के लिए विशेष अभियोजक नियुक्त करने का वादा किया था. उन्होंने इस चुनावी वादे पर भी यू-टर्न ले लिया. ’

अमेरिका ने यूरोप में आतंकवादी हमलों की चेतावनी दी
23 November 2016
अमेरिका ने अपने नागरिकों को चेतावनी दी है कि यूरोप में क्रिसमस के बाजारों और अन्य मौसमी छुट्टियों के दौरान आतंकवादी हमले होने की काफी आशंका है. टेलीग्राफ की रिपोर्ट के मुताबिक, अमेरिकी विदेश विभाग ने कहा है कि उसके पास विश्वसनीय जानकारी है कि इस्लामिक स्टेट (आईएस) और अलकायदा आगामी छुट्टियों के मौसम में हमले करने की योजना बना रहे हैं. अमेरिका ने अपने नागरिकों को छुट्टियों के उत्सवों, समारोहों और बाजारों में खास सतर्कता बरतने को कहा है. आईएस के खिलाफ अमेरिका के नेतृत्व वाले गठबंधन के प्रवक्ता कर्नल जॉन डोरियन ने कहा, 'हमें नहीं लगता कि वे ऐसे संगठन हैं जो रक्का और मोसुल के छिन जाने के बाद कोई खतरा नहीं बनेंगे.' डोरियन ने कहा, 'वे ऐसे आतंकी संगठन बने रहेंगे, जैसा हम उनके बारे में जानते हैं और आत्मघाती हमलावरों के जरिए हमले करते रहेंगे.' विदेश विभाग की चेतावनी 2015 में पेरिस में हुए हमलों की बरसी के एक सप्ताह बाद आई है. पेरिस हमलों में 130 लोग मारे गए थे.

कार्यकाल के पहले दिन टीपीपी से अमेरिका का नाम वापस ले लूंगा : डोनाल्ड ट्रंप
22 November 2016
अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अपने कार्यकाल के पहले ही दिन ट्रांस पैसिफिक पार्टनरशिप (टीपीपी) से अमेरिका का नाम वापस लेने का संकल्प लिया और इस साझेदारी को ‘‘देश के लिए संभावित आपदा’’ करार दिया. अमेरिका का राष्ट्रपति चुने जाने के बाद अपने पहले वीडियो संदेश में ट्रंप ने उन ठोस कदमों को रेखांकित किया जो वह नुकसान पहुंचाने वाली चीजों को वाशिंगटन डीसी से दूर करने और व्यापार, ऊर्जा, विनियमन, राष्ट्रीय सुरक्षा, आव्रजन और नैतिकता में सुधार के मामलों पर ध्यान केंद्रित कर अमेरिका को पहले रखने के लिए उठाएंगे. ट्रंप ने कहा, ‘‘मेरा एजेंडा सरल मूल सिद्धांतों पर केंद्रित होगा और वह है : अमेरिका को पहले रखना. भले ही वह इस्पात पैदा करने, कार निर्माण या बीमारियों का उपचार करने की बात हो, मैं चाहता हूं कि अगली पीढ़ी जो उत्पादन एवं नवोन्मेष करे, वह यहां हमारे महान देश अमेरिका में हो जिससे अमेरिकी कर्मियों के लिए धन एवं नौकरियां पैदा हों.’’ उन्होंने उनकी ओर से उठाए जाने वाले कुछ अहम कदमों का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘इस योजना के तहत मैंने अपने सत्ता हस्तांतरण दल से कार्यकारी कदमों की एक सूची तैयार करने को कहा है जो हम हमारी नौकरियां वापस लाने और हमारे कानूनों की पुन: स्थापना के पहले दिन उठा सकते हैं. यह समय की बात है.’’


मिशेल ओबामा के खिलाफ नस्लवादी टिप्पणी पर अमेरिकी पुलिसकर्मी बर्खास्‍त
22 November 2016
अमेरिका के एक पुलिस अधिकारी को फेसबुक पर नस्लवादी टिप्पणी करने के मामले में बर्खास्‍त कर दिया गया है. इनमें से एक टिप्पणी अमेरिका की प्रथम महिला मिशेल ओबामा के बारे में थी . पुलिसकर्मी को बर्खास्‍त किए जाने से कुछ दिन पहले ''एप इन हील्स'' टिप्पणी को लेकर एक मेयर को भी हटाया जा चुका है . ट्रंप के समर्थक पुलिस अधिकारी जोएल हस्क को उसकी टिप्पणी के कारण बर्खास्‍त कर दिया गया . उसने मेलिना ट्रंप की तस्वीर पर लिखा था, ''स्लोवेनियन, अंग्रेजी, फ्रेंच, सर्बियन और जर्मन भाषा में धारा प्रवाह.'' उसने मिशेल की तस्वीर पर लिखा था,''अश्वेतों की भाषा में धाराप्रवाह.'' वाशिंगटन पोस्ट ने सिटी मैनेजर पैट्रिक ब्रियांट के हवाले से कहा कि टल्लैडेगा, अलबामा में काम करने वाले पुलिस अधिकारी हस्क को विभाग के सोशल मीडिया और आचार संहिता नीतियों के उल्लंघन के आरोप में बर्खास्‍त कर दिया गया. उन्होंने कहा, ''हम किसी भी कर्मचारी के ऐसे व्यवहार को सहन नहीं कर सकते . हम हर किसी के साथ समानता का व्यवहार करने की अपनी जिम्मेदारी को बहुत गंभीरता से लेते हैं. हमें कदम उठाना सुनिश्चित करना होगा, ताकि समुदाय हम पर विश्वास कर सके.'' ब्रियांट ने कहा कि वह सोशल मीडिया पर हस्क की टिप्पणियों को लेकर ''बहुत निराश और हताश'' हैं .

चीन में 56 वाहनों के एक-दूसरे से टकराने से 17 लोगों की मौत, 37 घायल
22 November 2016
उत्तरी चीन के साकंशी प्रांत में एक्सप्रेस-वे पर बर्फ के चलते 56 वाहनों के एक-दूसरे से टकराने के कारण कम से कम 17 लोगों की मौत हो गई और 37 अन्य घायल हो गए. स्थानीय अधिकारी ने बताया कि दुर्घटना बीजिंग-कुन्मिंग एक्सप्रेसवे पर बर्फ और बारिश के मौसम के कारण हुई. घायलों की स्थिति चिकित्सीय-उपचार मिलने के बाद अब स्थिर है. शिन्हुआ समाचार एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, स्थानीय पुलिस, दमकलकर्मी, डॉक्टर और अधिकारी बचाव कार्य में जुटे हैं. रिपोर्ट के अनुसार, टकराने वाले वाहनों में अधिकतर ट्रक थे. इस हादसे में 17 लोगों की मौत हो गई और 37 अन्य लोग घायल हुए हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक, चीन में हर साल करीब 2,00,000 लोगों की मौत सड़क हादसे में होती है. सरकार ने हाल ही में सड़क सुरक्षा में सुधार लाने के लिए ट्रकों के क्षमता से अधिक भरे जाने पर कार्रवाई की थी.

सीरिया के निकट भविष्य को लेकर ‘आशान्वित नहीं’ हैं अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा
21 November 2016
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा है कि वह सीरिया के निकट भविष्य के बारे में ‘आशान्वित नहीं’ हैं क्योंकि प्रशासन अपने रूसी समर्थकों के साथ मिलकर अलेप्पो में नागरिकों पर लगातार बमबारी कर रहा है. ओबामा ने पेरू में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘मैं लघु अवधि में सीरिया में संभावनाओं को लेकर आशान्वित नहीं हूं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘रूस और ईरान ने (बशर अल) असद के क्रूर अभियान को समर्थन देने का निर्णय जब एक बार ले लिया था.. तो यह बहुत मुश्किल हो गया था कि प्रशिक्षित एवं प्रतिबद्ध विपक्ष लंबे समय तक टिका रह सके.’’


चीन में कोयला खदान में विस्फोट, चार की मौत
21 November 2016
चीन के मध्य में स्थित हुनान प्रांत की एक कोयला खदान में हुए गैस विस्फोट के कारण कम से कम चार लोग मारे गए हैं. यह जानकारी अधिकारियों ने दी है. सरकारी समाचार एजेंसी शिन्हुआ की खबर के अनुसार, शाओदोंग प्रांत स्थित कोयला खदान में कल स्थानीय समयानुसार दोपहर तीन बजे विस्फोट हुआ, जिसके कारण पांच खनिक वहीं फंस गए. तीन लोगों को कल शाम तक खान में से बाहर निकाला गया. इनमें से दो की मौत की पुष्टि हो चुकी है और एक गंभीर रूप से घायल है. स्थानीय अधिकारियों ने कहा कि शेष दो पीड़ित मृत पाए गए थे.

शी चिनफिंग, शिंजो आबे के बीच द्विपक्षीय संबंधों पर वार्ता
21 November 2016
चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने लीमा में एशिया प्रशांत आर्थिक सहयोग (एपेक) बैठक से इतर वार्ता की. चीन प्रतिनिधिमंडल के प्रवक्ता ने रविवार को बताया कि यह वार्ता जापान के आग्रह के बाद ही हुई. प्रतिनिधिमंडल के प्रवक्ता लु कांग ने कहा कि राष्ट्रपति शी ने चीन, जापान संबंधों पर चीन के सिद्धांतों और रुख को व्यक्त किया.


फ्रांस : बम अलर्ट के बाद पेरिस का अस्पताल बंद
19 November 2016
फ्रांस के पेरिस में बम की चेतावनी के बाद एहतियात के तौर पर शुक्रवार को एक निजी अस्पताल को बंद कर दिया. समाचार एजेंसी सिन्हुआ ने पब्लिक असिस्टेंस-पेरिस हॉस्पीटल्स के हवाले से बताया, "जॉर्जेस पॉम्पीडू यूरोपीयन हॉस्पिटल (एचईजीपी) को आए एक अनाम कॉल के बाद पुलिस प्रशासन की सहमति से सुरक्षा के मद्देनजर एहतियात के तौर पर एचईजीपी को बंद करने का फैसला किया गया." अस्पताल के भीतर मरीजों का आवागमन सीमित कर दिया गया है. पुलिस संदिग्ध पैकेज या सामान की तलाश कर रही है. फ्रांस में जनवरी 2015 में हास्य व्यंग्य पत्रिका 'शार्ली हेब्दो' पर हुए हमले के बाद से ही हाई अलर्ट है. सरकार ने सुरक्षा का स्तर अधिकतम कर दिया है और देशभर में सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए 10,000 सैनिकों की तैनाती की है.

आतंकी समूहों के खिलाफ पाकिस्तान और प्रभावी कदम उठाए : अमेरिका
19 November 2016
व्हाइट हाउस ने कहा है कि पाकिस्तान अपनी धरती से संचालित आतंकी समूहों के खिलाफ और प्रभावी कदम ‘‘उठा सकता है और उसे कदम उठाना चाहिए’’ क्योंकि किसी भी देश को दूसरे देशों में आतंकी हमले करने के लिए अपने क्षेत्र का इस्तेमाल करने की अनुमति नहीं देना चाहिए. कल व्हाइट हाउस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, ‘‘हम जानते हैं कि कुछ उग्रवादी और आतंकवादी नेटवर्कों से लड़ाई में पाकिस्तान की जनता और सुरक्षा बलों को कई बलिदान देने पड़े हैं. लेकिन राष्ट्रपति बराक ओबामा इस बात पर जोर देते हैं कि पाकिस्तान को अपनी धरती से संचालित आतंकी समूहों के खिलाफ और प्रभावी कदम उठाना चाहिए.’’ ‘‘वी द पीपल’’ नाम से एक ऑनलाइन अर्जी पर प्रतिक्रिया में उन्होंने कहा, ‘‘राष्ट्रपति ने साफ तौर पर कहा है कि किसी भी देश को अपने क्षेत्र का आतंकियों द्वारा दूसरे देश में हमले करने के लिए इस्तेमाल करने की इजाजत नहीं देनी चाहिए.’’ इस अर्जी पर 6,65,769 लोगों ने हस्ताक्षर किए हैं.

मोरक्को जलवायु परिवर्तन सम्मेलन का समापन : 2018 तक बनेंगे पेरिस समझौते के कायदे
19 November 2016
मोरक्को में चल रहा जलवायु परिवर्तन सम्मेलन शुक्रवार देर रात इस वादे के साथ खत्म हुआ कि पेरिस समझौते को लागू करने के लिए कायदे 2018 तक बना लिये जायेंगे और इसमें पारदर्शिता बरती जायेगी. भारत ने विकसित देशों से दोहा समझौते को लागू कर तुरंत अपने कार्बन उत्सर्जन कम करने को भी कहा है. पेरिस डील इसी साल 4 नवंबर को लागू हुई है जिसके तहत धरती को गर्म होने से रोकने के लिए सभी देशों को कदम उठाने हैं. चिंता की बात यह है कि सात साल पहले कोपनहेगन में सभी देशों ने धरती का तापमान 1.5 डिग्री से अधिक न बढ़ने देने के लिए कदम उठाने की बात की थी लेकिन अब तक कार्बन उत्सर्जन को रोकने के लिए कोई बड़े प्रयास नहीं किए गये. धरती का तापमान तेज़ी से बढ़ रहा है और विश्व मौसम संगठन यानी WMO ने इसी सम्मेलन के दौरान जो रिपोर्ट जारी की उसके मुताबिक वह करीब सवा डिग्री बढ़ चुका है. गरम होती धरती की वजह से बाढ़, चक्रवाती तूफान और सूखे जैसी आपदाएं बढ़ रही हैं. भारत ने इस सम्मेलन में अमीर देशों से अपील की है वे अपने कार्बन उत्सर्जन कम करें और इस बात पर चिंता जताई कि विकासशील देशों की मदद के लिये बनाये जा रहे ग्रीन क्लाइमेट फंड में विकसित देशों ने कोई रकम जमा नहीं की है.


ऑस्ट्रेलिया में एक व्यक्ति ने बैंक में आग लगा दी, 20 से अधिक लोग घायल
18 November 2016
ऑस्ट्रेलिया में एक व्यक्ति ने कॉमनवेल्थ बैंक की एक शाखा में आज आग लगा दी जिसमें 20 से अधिक लोग घायल हो गए. इनमें से कुछ की हालत गंभीर है. एक एम्बुलेंस प्रवक्ता ने बताया कि मौके पर चिकित्सा-सहायकों ने 21 लोगों का इलाज किया. इनमें से अधिकतर लोगों को सांस लेने में तकलीफ हो रही थी लेकिन पांच लोग गंभीर रूप से जल गए थे. विक्टोरिया राज्य की पुलिस ने बताया कि हमें यह सूचना मिली थी कि एक व्यक्ति ने स्प्रिंगवेल रोड स्थित बैंक में कथित तौर पर आग लगा दी, हम इस पर कार्रवाई कर रहे हैं. घटनास्थल के पास मौजूद एक व्यक्ति एरिक स्लेराइट ने मेलबर्न एज समाचार पत्र को बताया, ‘‘पुलिस की निगरानी में एक व्यक्ति को गंभीर हालत में अस्पताल में ले जाया गया.’’ उन्होंने कहा, ‘‘यह घटना बहुत भयानक है. मुझे इस पर विश्वास नहीं हो रहा है’’

पेरिस डील को प्रभावशाली तरीके से आगे बढ़ाने में नाकाम रहा मोरक्को सम्मेलन
18 November 2016
मोरक्को में चल रहा जलवायु परिवर्तन का सम्मेलन आखिरी दिन आते-आते किसी भी बड़ी कामयाबी से कोसों दूर दिख रहा है. गुरुवार शाम को सम्मेलन में जो प्रस्ताव पास किया गया, वो काफी ढीला-ढाला और बेअसर दिखा. इस सम्मेलन में वार्ता ग्लोबल वॉर्मिंग से लड़ने के लिए पास की गई पेरिस डील को आगे बढ़ाने के बजाय तमाम देशों की आपसी खींचतान में फंस गई है. इसके अलावा इस बात का भी कोई ज़िक्र नहीं है कि अमीर देश अपनी ज़िम्मेदारी कैसे निभाएंगे. एक्शन एड के हरजीत सिंह ने कहा कि "मोरक्को सम्मेलन में विकसित देश 2020 तक कार्बन उत्सर्जन कम करने की ज़िम्मेदारी से भागते नज़र आए हैं और पेरिस डील के तहत जो मदद दी जानी है, उस पर अमल करने के बजाय आंकड़ों की बाजीगरी करते दिख रहे हैं.


अमेरिका के शीर्ष खुफिया अधिकारी जेम्स क्लैपर ने इस्तीफा दिया
18 November 2016
अमेरिका के शीर्ष खुफिया अधिकारी जेम्स क्लैपर ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया. डोनाल्ड ट्रंप के नेतृत्व में नई सरकार के गठन से पहले वे पद छोड़ने वाले ओबामा प्रशासन के पहले शीर्ष अधिकारी हैं. क्लैपर ने कांग्रेस की सुनवाई के दौरान सदन की खुफिया समिति के सदस्यों से कहा, 'मैंने कल रात अपना इस्तीफा पत्र दे दिया, ऐसा कर मुझे काफी अच्छा लगा'. क्लैपर ने कहा, 'मेरे पास 64 दिन बचे हैं और (पद ना छोड़ने पर) उसके बाद मुझे और मेरी पत्नी को मुश्किल समय का सामना करना पड़ता'. उनके इस्तीफा देने की पहले से ही संभावना थी, क्योंकि वह पूर्व में निवर्तमान राष्ट्रपति बराक ओबामा के दूसरे एवं आखिरी कार्यकाल के अंत में पद छोड़ने का इरादा जता चुके थे.

हिलेरी क्लिंटन ने अपने समर्थकों से कहा, हौसला न हारें
17 November 2016
अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप के हाथों हार झेलने के बाद पहली बार सार्वजनिक रूप से सामने आईं हिलेरी क्लिंटन ने भावुक होते हुए अपने समर्थकों से आज कहा कि वे दिल छोटा नहीं करें और गहरे ‘‘मतभेदों’’ के बावजूद देश को बेहतर बनाने के लिए काम करना जारी रखें. 69 वर्षीय हिलेरी ने वाशिंगटन डीसी में कहा, ‘‘मैं यह स्वीकार करूंगी कि यहां आना मेरे लिए आसान नहीं था.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस बीते सप्ताह में ऐसा कई बार हुआ जब मेरा मन किया कि मैं केवल एक अच्छी किताब पढ़ते हुए या अपने कुत्तों के साथ समय बिताऊं और कभी घर से बाहर नहीं निकलूं.’’ पूर्व विदेश मंत्री ने अपने समर्थकों से ‘‘हार नहीं मानने’’ और राजनीति से ‘‘जुड़े रहने’’ को कहा. हिलेरी ने कहा, ‘‘मैं जानती हूं कि चुनाव के परिणाम से आप में से कई लोग बहुत निराश हैं. मैं भी बहुत निराश हूं. मैं इतनी निराश हूं कि मैं इसे शब्दों में बयां भी नहीं कर सकती.’’ उन्होंने कहा, ‘‘अपने देश पर भरोसा रखिए. अपने मूल्यों के लिए लड़िए और कभी भी हार नहीं मानिए.’’ हिलेरी ने कहा कि वह अतीत में वापस जाकर अपनी मां डोरोथी को अपनी उपलब्धियों के बारे में बताना चाहती हैं.

नोबेल पुरस्कार समारोह में शामिल नहीं होंगे बॉब डिलन, यह बताई वजह
17 November 2016
इस साल के साहित्य के नोबेल पुरस्कार विजेता अमेरिकी गायक-गीतकार बॉब डिलन स्टॉकहोम में आयोजित होने वाले पुरस्कार समारोह में व्यक्तिगत तौर पर शामिल नहीं होंगे. उन्होंने इसकी वजह पूर्व निर्धारित प्रतिबद्धताएं बताई हैं. समाचार एजेंसी 'सिन्हुआ' के मुताबिक, स्वीडिश एकेडमी ने बुधवार को एक बयान में कहा, 'निजी पत्र में उन्होंने (डिलन) पहले से तय प्रतिबद्धताओं के चलते समारोह में नहीं शामिल हो पाने का जिक्र किया है. उन्होंने कहा है कि वह दिसंबर में स्टॉकहोम की यात्रा करने में असमर्थ हैं और इसलिए नोबेल पुरस्कार समारोह में नहीं शामिल होंगे. उन्होंने एक बार फिर कहा कि वह वास्तव में बेहद सम्मानित महसूस कर रहे हैं.' एकेडमी ने साफ किया है कि पुरस्कार अब भी बॉब डिलन का ही है और विजेताओं द्वारा पुरस्कार समारोह में शामिल नहीं हो पाने में कुछ भी असामान्य नहीं है, बल्कि पूर्व में भी ऐसा होता रहा है. एकेडमी ने कहा, 'हम डिलन के नोबेल भाषण की प्रतीक्षा कर रहे हैं, जो उन्हें अवश्य देना चाहिए. यही एकमात्र आवश्यकता है. उन्हें छह माह के भीतर ऐसा करना होगा, जिसकी अवधि 10 दिसंबर, 2016 से शुरू होगी.'

पाकिस्तानी विदेश नीति के प्रमुख सरताज अजीज आएंगे भारत, 'तनाव घटाने' का दिया संकेत
17 November 2016
पाकिस्तान की विदेश नीति के प्रमुख सरताज अजीज ने कहा है कि वह 3 दिसंबर को भारत में आयोजित हो रहे हार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन में शामिल होने की योजना बना रहे हैं. इसके साथ ही उन्होंने इस यात्रा के जरिये परमाणु हथियार संपन्न दोनों पड़ोसियों के बीच तनाव कम करने की कोशिश की बात भी कही. अजीज ने मंगलवार को 'पीटीवी' से इस बात की पुष्टि की और कहा, 'भारत ने पाकिस्तान में प्रस्तावित दक्षेस सम्मेलन से अलग होकर उसे पलीता लगाया था, लेकिन पाकिस्तान ठीक इसके उलट 3 दिसंबर को भारत के अमृतसर में आयोजित होने जा रहे हार्ट ऑफ एशिया सम्मेलन में शामिल होगा.' सरताज ने कहा कि वह खुद इस सम्मेलन में हिस्सा लेंगे. सरताज ने हालांकि कहा कि यह अभी पुख्ता नहीं है कि वह सम्मेलन से अलग अपने भारतीय समकक्ष से मुलाकात करेंगे या नहीं. सरताज के मुताबिक, 'इस तथ्य को जानते हुए कि भारतीय सेना ने सोमवार को नियंत्रण रेखा पर हमारे सात सैनिकों को मार गिराया, पाकिस्तान इस सम्मेलन का बहिष्कार नहीं करेगा.'

डोनाल्ड ट्रंप ने अपने सलाहकारों में मतभेद होने की बात से इनकार किया
16 November 2016
अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आज उन खबरों से इनकार किया जिनमें मंत्रिमंडल की महत्वपूर्ण नियुक्तियों को लेकर उनके सलाहकारों में मतभेद तथा उनकी सत्ता हस्तांतरण टीम के पुनर्गठन की बात कही गई है. उन्होंने कहा कि मंत्रियों की नियुक्ति के लिए एक बहुत ही व्यवस्थित प्रक्रिया चल रही है. ट्रंप ने एक ट्वीट में कहा, ‘‘मंत्रिमंडल और अन्य पदों पर मेरे फैसले के संबंध में अत्यंत व्यवस्थित प्रक्रिया चल रही है. मैं एकमात्र व्यक्ति हूं जो यह जानता है कि किसे नियुक्त किया जाना है.’’ सत्तर वर्षीय ट्रंप का ट्वीट ऐसे समय आया है जब मीडिया में खबरें आई हैं कि मंत्रिमंडल में नियुक्तियों को लेकर उनकी टीम में मतभेद हैं.

अचानक हो गया था दो मंज़िल गहरा गड्ढा, सिर्फ एक हफ्ते में फिर चालू हुई सड़क
16 November 2016
दक्षिणी जापान के व्यस्त शहर फुकुओका में पिछले मंगलवार, यानी 8 नवंबर को मुख्य हकाटा रेलवे स्टेशन के पास पांच लेन की जो मुख्य सड़क पूरी तरह अंदर धंस गई थी, उसे पूरे हफ्ते चौबीसों घंटे मरम्मत जारी रखकर इस मंगलवार को यातायात के लिए खोल दिया गया. लगभग 30 मीटर चौड़े और 15 मीटर गहरे गड्ढे ने पिछले मंगलवार को पूरी सड़क को ही निगल लिया था, और लगभग दो मंज़िल गहरे इस गड्ढे की वजह से आसपास की इमारतों की नींव में लगे कॉलम दिखने लगे थे, जिससे उन इमारतों के ढहने की आशंका होने लगी थी. धुर दक्षिण में स्थित मुख्य जापानी द्वीप क्यूशू के सबसे बड़े शहर फुकुओका में इस सड़क के नज़दीक ही एक सबवे लाइन में हो रहे विस्तार की वजह से संभवतः यह गड्ढा बन गया था. इसके बाद मज़दूरों ने पूरे हफ्ते लगातार काम कर इस गड्ढे में सीमेंट और रेत भरकर इसे ठीक किया, और बिजली, गैस व पानी के कनेक्शन भी सुधारे. फुकुओका के मेयर सोइचिरो ताकाशिमा के बयान के मुताबिक सड़क को मंगलवार सुबह 5 बजे दोबारा शुरू किया गया. यह वक्त घटना के ठीक एक हफ्ते बाद का है.


भ्रष्टाचार प्रकरण में दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति पार्क ग्युन हे से पूछताछ होगी
16 November 2016
भ्रष्टाचार और पद के दुरुपयोग मामले में अभियोजन पक्ष दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति पार्क ग्युन हे से पूछताछ करेगा. भ्रष्टाचार मामले को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है और हजारों लोग सड़क पर उतरकर राष्ट्रपति से इस्तीफे की मांग कर रहे हैं. सियोल स्थित राष्ट्रपति भवन (ब्लू हाउस) के एक प्रवक्ता ने समाचार एजेंसी एफे न्यूज से कहा कि इस सप्ताह अभियोजन पक्ष द्वारा की जाने वाली पूछताछ के संदर्भ में राष्ट्रपति ने मंगलवार को मानवाधिकार आयोग की स्थाई समिति के एक पूर्व सदस्य और अधिवक्ता यू योंग हा को अपने कानूनी प्रतिनिधि के रूप में नामित किया. प्रवक्ता ने कहा कि राष्ट्रपति के वकील पूछताछ के लिए अभियोजन पक्ष के साथ एक दिन और समय तय करने के लिए समन्वय करेंगे. अपुष्ट मीडिया रपटों के अनुसार, अभियोजन पक्ष संभवत: बुधवार को राष्ट्रपति से पूछताछ करेगा. अगर पार्क अभियोजन पक्ष के समक्ष पूछताछ के लिए पेश होती हैं तो देश के इतिहास में पहली बार किसी राष्ट्रपति से अभियोजन पक्ष द्वारा पूछताछ की जाएगी.

डोनाल्ड ट्रंप के व्यवहार की कुछ चीजें उनके लिए अच्छी नहीं रहेंगी : बराक ओबामा
15 November 2016
अमेरिका के अगले राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रति ‘विभिन्न मुद्दों’ को लेकर अपनी चिंताएं जाहिर करते हुए निवर्तमान राष्ट्रपति बराक ओबामा ने कहा कि नवनिर्वाचित राष्ट्रपति को जल्द ही अहसास होगा कि अगर वह अपने स्वभाव की कुछ चीजें ठीक नहीं करते तो ये उनके लिए अच्छी नहीं रहेंगी. बराक ओबामा (55) ने कहा, मुझे लगता है कि नवनिर्वाचित राष्ट्रपति यदि अपने स्वभाव की कुछ बातों को पहचानकर ठीक नहीं करते हैं, तो वे उनके लिए अच्छी साबित नहीं होंगी. ओबामा ने कहा, आप उम्मीदवार होने के दौरान कुछ गलत या विवादित बात कहते हैं तो इसका असर उस समय की तुलना में कम पड़ता है, जब आप अमेरिका के राष्ट्रपति होते हैं. दुनिया का हर व्यक्ति गौर कर रहा है. बाजार हिल जाते हैं. राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दों के लिए सटीकता का एक स्तर जरूरी होता है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि आप गलतियां नहीं कर रहे. मुझे लगता है कि वह इस बात को समझते हैं कि यह (राष्ट्रपति बन जाना) अलग है और अमेरिकी जनता भी ऐसा ही मानती है. चुनाव प्रचार के दौरान, यहां तक कि पिछले सोमवार को भी ओबामा ने कहा था कि 70 वर्षीय ट्रंप स्वभावगत तौर पर देश का राष्ट्रपति बनने के अयोग्य हैं.

ट्रंप की जीत अमेरिका आने वाले अंतरराष्ट्रीय छात्रों को रोक सकता है : विशेषज्ञ
15 November 2016
राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप की जीत उच्चतर अध्ययन के लिए अमेरिका आने वाले अंतरराष्ट्रीय छात्रों को रोक सकता है. इससे अमेरिकी अर्थव्यवस्था में करीब 35 अरब डॉलर का जुड़ना जोखिम में पड़ जाएगा. राष्ट्रपति चुनाव के प्रचार के दौरान आव्रजन रोकने, मेक्सिको की सीमा पर एक दीवार बनाने और मुसलमानों को पंजीकरण कराने के लिए बाध्य करने के ट्रंप के संकल्प को उच्चतर शिक्षा के विशेषज्ञ छात्रों के लिए एक प्रतिकूल संदेश के रूप में देख रहे हैं, जो अमेरिका को अपने लिए अनुकूल देश के तौर पर देखते हैं. चुनाव प्रचार के दौरान अंतरराष्ट्रीय छात्रों के बीच किए गए सर्वेक्षणों से पता चलता है कि ट्रंप के राष्ट्रपति बनने पर कई लोग अमेरिका आने में कम रुचि लेंगे. यह सर्वेक्षण 118 देशों के 40,000 छात्रों के बीच किया गया.

स्वीडन के अधिकारियों ने लंदन स्थित इक्वाडोर दूतावास में जूलियन असांजे से पूछताछ की
15 November 2016
एक वरिष्ठ स्वीडिश अभियोजक ने सोमवार को चार साल से अधिक समय से लंदन स्थित इक्वाडोर दूतावास में शरण लिये विकीलीक्स के संस्थापक जूलियन असांजे से यौन उत्पीड़न के आरोपों पर पूछताछ की. छह साल पहले स्टॉकहोम में एक महिला ने उन पर बलात्कार का आरोप लगाया था. असांजे (45) अपनी विवादित वेबसाइट द्वारा अफगानिस्तान और इराक में युद्धों पर पांच लाख गोपनीय सैन्य फाइलें जारी करने पर अमेरिका प्रत्यर्पित होने तथा पूछताछ के डर के बीच इक्वाडोर द्वारा राजनीतिक शरण मंजूर होने के बाद साढ़े चार साल से अधिक समय से दूतावास में रह रहे हैं. स्वीडन की उपमुख्य अभियोजक इनग्रिड इस्ग्रेन सुबह साढ़े नौ बजे एक अन्य महिला के साथ दूतावास पहुंची जहां दर्जनों फोटोग्राफर सहित अन्य उनसे मिले. वह तस्वीर के लिए कुछ पलों के लिए रुकीं लेकिन संवाददाताओं से कोई बात नहीं की. स्वीडिश अभियोजकों की तरफ से एक बयान में कहा गया कि जांच जारी है जिसे गोपनीय रखा जाना है. यह गोपनीयता दूतावास में जांच उपायों के लिए इक्वाडोर के कानून के अनुसार लागू होती है. इसलिए अभियोजक पूछताछ के बाद जांच से जुड़ी जानकारियां उपलब्ध नहीं करा सकते.

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा - 30 लाख अवैध प्रवासियों को अमेरिका से फौरन बाहर कर देंगे या जेल में डाल देंगे
14 November 2016
आव्रजन पर अपने कड़े रुख के तहत अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने 30 लाख अवैध प्रवासियों को तुरंत प्रत्यर्पित करने का संकल्प जताते हुए कहा, 'हम उन्हें अपने देश से बाहर कर देंगे या उन्हें जेल में बंद करेंगे.' ट्रंप ने सीबीएस न्यूज से कहा, 'हम अपराधियों या आपराधिक रिकॉर्ड वाले लोगों, गिरोह के सदस्यों, नशे के डीलरों पर शिकंजा कसेंगे, ये 20 लाख या 30 लाख लोग हो सकते हैं, हम उन्हें देश से बाहर निकाल देंगे या उन्हें जेलों में बंद कर देंगे.' व्यवसायी से नेता बने 70-वर्षीय ट्रंप ने साक्षात्कार के प्रसारित होने से पहले जारी संक्षिप्त हिस्से में कहा, 'हम उन्हें देश से बाहर निकालने जा रहे हैं, वे यहां अवैध रूप से रह रहे हैं. बहरहाल सदन के अध्यक्ष और रिपब्लिकन पार्टी के नेता पॉल रयान ने अलग सुर अपनाते हुए कहा कि ट्रंप के प्रचार में इस बात पर जोर देने के बावजूद सांसद बिना दस्तावेज वाले प्रवासियों को पकड़ने और प्रत्यर्पित करने के लिए प्रत्यर्पण बल का गठन करने को तैयार नहीं हैं. रयान ने सीएनएन से कहा, 'हम प्रत्यर्पण बल का गठन करने की योजना नहीं बना रहे हैं. डोनाल्ड ट्रंप उस पर योजना नहीं बना रहे हैं.' उन्होंने कहा, 'मेरा मानना है कि हमें लोगों को तनाव नहीं देना चाहिए - हमारा ध्यान उस पर नहीं है. हम सीमा की सुरक्षा पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं. हमारा मानना है कि हमारी प्राथमिकता वहां है और फिर उसके बाद ही हम आव्रजन के किसी मुद्दे पर सोचेंगे. हमें मालूम है कि कौन देश में आ रहा है और कौन देश से बाहर जा रहा है- हम सीमा की सुरक्षा करेंगे.'

न्यूजीलैंड में भूकंप में दो की मौत, कई लोगों के हताहत होने की आशंका, सूनामी के डर से भागे लोग
14 November 2016
न्यूजीलैंड में रविवार को 7.8 की तीव्रता वाले भूकंप में कम से कम दो लोगों के मरने की खबर है और कई लोगों के हताहत होने की आशंका है. वहीं सूनामी की चेतावनी के बाद समुद्र तट के किनारे रहने वाले लोग वहां से भाग खड़े हुए. सुबह होते ही दक्षिण आईलैंड के कई ग्रामीण इलाकों से भूकंप के झटके महसूस होने की खबरें मिलने लगीं. भूकंप के तगड़े झटके कई घंटे तक महसूस किए गए. प्रधानमंत्री जॉन की ने भूकंप आने के करीब सात घंटे बाद पुष्टि की कि दो लोगों की मौत हुई है. उन्होंने कहा कि "हम इस बात से इनकार नहीं कर सकते" कि यह संख्या और बढ़ सकती है. पुलिस उत्तर क्राइस्टचर्च से करीब 150 किलोमीटर दूर एक घर में एक व्यक्ति की मौत के बाद वहां तक पहुंचने का प्रयास कर रही है जबकि एक व्यक्ति की मौत कैकुरा गांव में हुई. की ने कहा, "इस समय हम मौत की कारण का ब्योरा देने की स्थिति में नहीं हैं." उन्होंने कहा कि संचार की दिक्कतों के कारण सूचना नहीं मिल पा रही है. उन्होंने कहा कि हेलीकॉप्टर बचाव अधिकारियों को बुरी तरह प्रभावित इलाके तक ले जा रहे हैं.

69 सालों के बाद पृथ्वी के सबसे करीब आएगा चंद्रमा : नासा
14 November 2016
अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने कहा है कि सोमवार को निकलने वाला पूर्ण चंद्रमा (सुपरमून) पिछले 69 सालों के बाद पृथ्वी के सबसे करीब होगा. नासा ने यह भी कहा है कि पृथ्वी के लोगों को इस तरह की घटना के दीदार के लिए साल 2034 तक इंतजार करना पड़ सकता है. पृथ्वी के चारों ओर चंद्रमा की कक्षा अंडाकार है, जो दो वस्तुओं के बीच समयानुसार दूरी बनाता है. जब पूर्ण चंद्रमा पृथ्वी के सबसे निकट होगा तो यह सामान्य से अधिक बड़ा और चमकदार दिखाई देगा और इसीलिए हमने इसे सुपरमून की संज्ञा दी है. नासा के अनुसार, यह सुपरमून सामान्य पूर्ण चंद्रमा से 14 से 30 प्रतिशत अधिक चमकदार हो सकता है.

अफगानिस्तान के बगराम में अमेरिकी एयरबेस पर धमाका, 3 की मौत, 13 घायल
12 Nov. 2016
काबुल. अफगानिस्तान में अमेरिका के सबसे बड़े मिलिट्री बेस पर धमाका हुआ है। एजेंसी की खबरों में नाटो और अफगान अफसरों के हवाले से बताया गया है कि इसमें कम से कम 3 लोगों की मौत हुई है, जबकि 13 लोग घायल हुए हैं। बता दें कि इस बेस के करीब दिसंबर में भी सुसाइड अटैक हुआ था, जिसमें अमेरिका के 6 सैनिकों की मौत हो गई थी।
- बगराम के डिस्ट्रिक्ट गवर्नर अब्दुल शोकोर कोदोसी ने बताया कि धमाका शनिवार सुबह खाने-पीने वाली जगह के करीब हुआ।
- नाटो की अगुआई वाले रिसॉल्यूट सपोर्ट मिशन ने कहा, "हम कन्फर्म कर सकते हैं कि बगराम एयरफील्ड पर सुबह 5:30 बजे (भारतीय वक्त से शुक्रवार शाम 6:30 बजे) एक धमाका हुआ है।"
- "लोग घायल हुए हैं। हमारी फोर्स और मेडिकल टीम हालात से निपटने में जुटी हैं।"
- बता दें कि अफगानिस्तान में अभी अमेरिका के 10000 जवान मौजूद हैं। उसके सबसे ज्यादा जवान बगराम एयरफील्ड पर ही हैं।
- अभी तक किसी आतंकी संगठन ने इस धमाके की जिम्मेदारी नहीं ली है।
सर्दी से पहले तालिबान करता रहा है हमले
- अफगानिस्तान में कमजोर पड़ता तालिबान अक्सर सर्दियों से पहले ऐसे हमले करता रहा है।
- अफगानिस्तान में करीब दो साल पहले नाटो औपचारिक रूप से अपने ऑपरेशन को खत्म कर चुका है।
- इसके बाद से यहां ऐसे हमले बढ़े हैं। इससे सिक्युरिटी पर खतरा नजर आ रहा है।
दिसंबर में यहीं हुआ था सुसाइड अटैक
- बगराम एयरफील्ड राजधानी काबुल से लगा हुआ है। इस पर तालिबान आतंकी हमले करते रहे हैं।
- दिसंबर में बगराम मिलिट्री बेस पर मोटरसाइकिल सवार तालिबान सुसाइड बॉम्बर ने हमला किया था, जिसमें अमेरिका के छह जवान मारे गए थे।
- अफगानिस्तान में विदेशी सेना पर 2015 का यह सबसे बड़ा हमला था।

ट्रम्प के H-1B वीजा मुद्दे से भारत-US के रिश्तों पर पड़ेगा असर : एक्सपर्ट
12 Nov. 2016
वॉशिंगटन. डोनाल्ड ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन भारत-अमेरिका के रिश्ते मजबूत बनाने के लिए काम करेगा। आतंकवाद पर दोहरी पॉलिसी के लिए पाकिस्तान पर सख्ती भी मुमकिन है। लेकिन एच-1बी वीजा का मुद्दा भारत-अमेरिका के रिश्तों पर खासा असर डाल सकता है। टॉप अमेरिकन थिंक टैंक हेरिटेज फाउंडेशन की लीसा कर्टिस ने ये बात कही। वे इस फाउंडेशन में अमेरिका के सिक्युरिटी और रीजनल जियोपॉलिटिक्स के मसलों को देखती हैं।
- लीसा कर्टिस ने कहा, “ऐसा लगता है कि ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन भारत-अमेरिका के दो साल में बेहतर हुए रिश्तों को बनाए रखेगा।”
- उन्होंने कहा, “अमेरिका में माना जाता है कि जब एशिया-पैसिफिक में अमेरिका अपना मकसद पाना चाहता है तो भारत एक अहम रोल निभाता है।”
- “ट्रम्प ने अपने चुनावी कैम्पेन में भारत पर कई पॉजिटिव कमेंट्स किए हैं। ये मजबूत साझेदारी के लिए उनके सपोर्ट को जाहिर करते हैं।”
पाकिस्तान पर सख्त होंगे ट्रम्प
- कर्टिस ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ ट्रम्प का रवैया ज्यादा सख्त होगा। वे पाक स्थित आतंकी गुटों के हमलों से नाराज भारतीयों के बीच अपना समर्थन तलाशेंगे।
- कर्टिस ने कहा, “उम्मीद है कि ट्रम्प एडमिनिस्ट्रेशन इलाके में आतंकवाद से मुकाबला करने के लिए भारत के ज्यादा करीब आएगा। वहीं, आतंकवाद पर दोहरी पॉलिसी की वजह से पाकिस्तान से कम नरमी बरतेगा।”
- “हालांकि, एच-1बी वीजा पॉलिसी ऐसा मसला है, जिस पर दोनों देशों के बीच टकराव मुमकिन है।”
- उन्होंने कहा, “अभी यह साफ नहीं है कि अमेरिकियों की जॉब बचाने का वादा ट्रम्प के ग्लोबल बिजनेस पर कैसा असर डालेगा।”
क्या कहा था ट्रम्प ने?
- इलेक्शन कैंपेन के दौरान डोनाल्ड ट्रंप ने कहा था कि कंपनियां एच-1बी वीजा वालों को कम सैलरी पर नौकरी दे रही हैं।
- ऐसे में वे इस वीजा के नियमों में बदलाव करके अमेरिकी लोगों की जॉब बचाएंगे।
- बता दें कि एच-1बी वीजा अमेरिका में दूसरे देशों से नौकरी करने गए लोगों को दिया जाता है।
- ऐसे में इसके नियमों में सख्ती अमेरिका में रहने वाले कई भारतीयों पर असर डालेगी।

जुकरबर्ग सहित कई फेसबुक यूजर्स जीते जी मृत घोषित
12 Nov. 2016
सन फ्रांसिस्को, फेसबुक ने गलती से अपने संस्थापकों में से एक जुकरबर्ग सहित कई यूजर्स को मृत घोषित कर दिया। बाद में उसने अपनी गलती स्वीकार करते हुए इसे 'भयावह चूक' बताया। इसके बाद गलती सुधार दी गई।
फेसबुक के प्रवक्ता ने बताया, 'थोड़ी देर के लिए श्रद्धांजलि संदेश गलती से दूसरों के खातों में पोस्ट हो गया। यह एक भयावह चूकी हुई थी जिसे अब दुरुस्त कर लिया गया है।'
मीडिया की खबरों में कहा गया था कि श्रद्धांजलि वाले करीब 20 लाख संदेश लोगों की प्रोफाइल में पोस्ट हो गए। फेसबुक ने खेद प्रकट करते हुए इस भूल को जल्द से जल्द ठीक करने की बात कही थी।
सर्च इंजन लैंड के एडीटर डैनी सुलिवान ने ट्विटर पर एक संदेश में लिखा था। 'फेसबुक पर खुद को जीवित दिखाने के लिए मुझे फेसबुक लाइव का इस्तेमाल करना चाहिए था।' फेसबुक का लाइव फीचर वीडियो के जरिए रियल टाइम में लोगों से बातचीत का जरिया है।



अफगानिस्तान के मजार ए शरीफ में जर्मन वाणिज्य दूतावास पर तालिबान का हमला
11 November 2016
उत्तरी अफगानिस्तान के मजार ए शरीफ शहर में स्थित जर्मन वाणिज्य दूतावास पर गुरुवार रात एक आत्मघाती कार बम हमला किया गया, जिससे कम से कम एक व्यक्ति की मौत हो गई और 29 अन्य घायल हो गए. अधिकारियों ने यह जानकारी देते हुए बताया कि तालिबान उग्रवादियों ने हमले का दावा किया है. स्थानीय पुलिस प्रमुख सैयद कमाल सादात ने बताया 'आत्मघाती हमलावर ने विस्फोटक से लदी अपनी कार शहर में स्थित जर्मन वाणिज्य दूतावास की दीवार में घुसा दी.'.

ओबामा ने व्हाइट हाउस में की ट्रम्प की मेजबानी, कहा-अगर ट्रंप सफल होंगे तो देश सफल होगा
11 November 2016
राष्ट्रपति बराक ओबामा ने सत्ता के सुचारू ढंग से हस्तांतरण पर चर्चा करने के लिए शुक्रवार को व्हाइट हाउस में अपने उत्तराधिकारी डोनाल्ड ट्रम्प की मेजबानी की. 70 वर्षीय ट्रम्प अपने निजी जेट विमान से न्यूयार्क से रवाना हुए और राष्ट्रीय राजधानी के ठीक बाहर रीगन नेशनल एयरपोर्ट पर उतरे. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने गुरुवार को व्हाइट हाउस में अपने उत्तराधिकारी डोनाल्ड ट्रंप से पहली बार मुलाकात की और उन्हें अपना सहयोग देने का संकल्प जताया. दोनों नेताओं ने कांटे की टक्कर वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के बाद सत्ता हस्तांतरण की तरफ एक कदम बढ़ाने के लिए घरेलू और विदेश नीति मुद्दों पर चर्चा की. दोनों के बीच बैठक 90 मिनट चली. ओबामा ने ट्रंप के साथ बैठक को 'शानदार' और कई विषयों वाली बताया.

ट्रंप को लताड़ने वाले सऊदी राजकुमार ने राष्ट्रपति बनने पर दी बधाई
11 November 2016
वह अरबपति सऊदी राजकुमार ने अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को बधाई दी है. गौरतलब है कि यह वही राजकुमार हैं जिन्होंने कुछ वक्त पहले ट्रंप को नकारते हुए कहा था कि उन्हें चुनाव की इस रेस से पीछे हट जाना चाहिए. बुधवार को ट्रंप की अनेपक्षित जीत के बाद राजकुमार अलवलीद बिन तलाल ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट में लिखा कि 'डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति चुने गए. अतीत में मतभेद रहे लेकिन अमेरिका ने अपनी बात रखी. बधाई.'आमतौर पर कम बोलने के लिए पहचाने जाने वाले सऊदी शाही परिवार में अलवलीद अपनी बात साफ तौर पर करने के लिए जाने जाते हैं. वह किंगडम होल्डिंग कंपनी के प्रमुख हैं जिसके सिटी ग्रुप और टाइम वॉर्नर जैसी बड़ी अमेरिकी कंपनियों में सरोकार हैं. बता दें कि पिछले साल ट्रंप ने एक बयान में कहा था कि सभी मुसलमानों पर अस्थाई तौर पर अमेरिका में घुसने से रोक लगा देनी चाहिए. अलवलीद ने इस बयान को 'मुसलमानों के खिलाफ' बताते हुए ट्रंप को ट्वीट किया था कि 'आप सिर्फ रिपब्लिकन पार्टी के लिए ही नहीं, पूरे अमेरिका के लिए कलंक हैं. अमेरिकी चुनावी रेस से पीछे हट जाएं क्योंकि आप कभी नहीं जीतने वाले.'


डोनाल्ड ट्रंप की जीत के खिलाफ प्रदर्शन के लिए समूचे अमेरिका में लाखों लोग सड़कों पर उतरे
10 November 2016
अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप की जीत के खिलाफ प्रदर्शन के लिए समूचे अमेरिका में लाखों लोग सड़कों पर उतरे और उनके कट्टर व नस्लवादी विचारों की आलोचना करते हुए आव्रजन और मुस्लिमों पर चुनावी घोषणाओं के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया. अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव में हिलेरी क्लिंटन के खिलाफ जीत दर्ज करने के महज एक दिन बाद ही सभी उम्र, धर्म एवं राष्ट्रीयताओं के लोग न्यूयॉर्क, शिकागो, फिलाडेल्फिया, बोस्टन, कैलिफोर्निया, कोलोराडो, सीएटल और अन्य शहरों के प्रमुख स्थानों पर इकट्ठा हुए और ट्रंप के खिलाफ प्रदर्शन किया. कई तख्तियां थामे प्रदर्शनकारी सड़कों और राजमार्गों पर चलती यातायात के बीच चलते दिखाई दिए और 'और घृणा नहीं' और 'ट्रंप हमारे राष्ट्रपति नहीं' जैसे नारे लगाते हुए अपनी नाराजगी जाहिर कर रहे थे. न्यूयॉर्क में प्रदर्शनकारी फिफ्थ एवेन्यू की 14वें स्ट्रीट से करीब 40 स्ट्रीट तक चलकर गए, जहां ट्रंप के प्रचार अभियान का मुख्यालय 'द ट्रंप टावर्स' स्थित है. प्रदर्शन के चलते टॉवर के आस पास की सड़कें पूरी तरह से बंद हो गई थीं.


सिएटल में ट्रंप-विरोधी रैली के पास पांच लोगों को गोली मारी गई, एक की हालत गंभीर
10 November 2016
सिएटल में बुधवार शाम को एक बंदूकधारी ने बहस होने के बाद पांच लोगों को गोली मार दी, जिनमेम से एक की हालत गंभीर है. वारदात उस जगह के नज़दीक हुई, जहां अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रिपब्लिकन प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप की हैरान कर देने वाली जीत के विरोध में प्रदर्शन हो रहा था. सिएटल पुलिस डिपार्टमेंट के सहायक प्रमुख रॉबर्ट मर्नर ने बताया कि गोलीबारी की घटना का ट्रंप-विरोधी रैली से कोई लेना-देना नहीं लगता है, बल्कि यह आपसी विवाद का नतीजा था. मर्नर ने पत्रकारों को बताया, "लगता है कि कोई बहस हुई थी... फिर यह व्यक्ति से भीड़ से अलग जाकर पलटा, और भीड़ की तरफ गोलियां चला दीं..." उन्होंने कहा कि इसके बाद संदिग्ध वहां से पैदल चलते हुए ही फरार हो गया, और एक घंटा बीत जाने के बाद भी अब तक पकड़ा नहीं गया है. सबसे ज़्यादा गंभीर रूप से घायल व्यक्ति को नज़दीकी हार्बरव्यू मेडिकल सेंटर में भर्ती कराया गया, जहां बुधवार रात को उसे गंभीर हालत में घोषित किया गया.

संबंधों का ‘नया दौर’ तय करने के लिए मेक्सिको के राष्ट्रपति मिलेंगे डोनाल्ड ट्रंप से
10 November 2016
मेक्सिको के राष्ट्रपति एनरिक पेना नीटो ने अमेरिका के नव-निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को मुबारकबाद दी है और उनसे मिलने पर सहमति जताई है. प्रवासियों के खिलाफ ट्रंप की बयानबाजी से मेक्सिको के लोगों में गुस्सा पैदा हो गया था. पेना नीटो ने कहा कि ट्रंप के साथ फोन पर हुई ‘सौहार्दपूर्ण, मैत्रीपूर्ण एवं सम्मानजनक’ बातचीत के दौरान उन्हें डेमोक्रेट हिलेरी क्लिंटन पर उनकी चुनावी जीत की बधाई दी. पेना ने अपने आधिकारिक आवास से कहा, मैंने नव निर्वाचित राष्ट्रपति से मिलने पर सहमति जताई ताकि वह दिशा स्पष्ट की जा सके, जिसमें दोनों देशों का रिश्ता आगे बढ़ेगा. प्राथमिकता यह रहेगी कि बैठक सत्तांतरण की अवधि के दौरान हो.

रिपब्लिकन डोनाल्ड ट्रंप बने अमेरिका के 45वें राष्ट्रपति, डेमोक्रेट हिलेरी क्लिंटन हारीं
9 November 2016
अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेट प्रत्याशी हिलेरी क्लिंटन को पछाड़ते हुए रिपब्लिकन प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप देश के 45वें राष्ट्रपति चुन लिए गए हैं. यह जानकारी यूएस नेटवर्क्स ने दी है. इससे पहले, अमेरिका में मंगलवार को हुई वोटिंग के खत्म होने के साथ ही आने शुरू हुए एक्ज़िट पोलों में लगभग शुरू से ही डोनाल्ड अपनी प्रतिद्वंद्वी हिलेरी पर बढ़त बनाए हुए थे. डोनाल्ड ट्रंप की जीत में फ्लोरिडा, उत्तरी कैरोलिना तथा ओहायो जैसे अहम राज्यों में मिली जीत का महती योगदान रहा. इससे पहले, अमेरिका के 240 साल के इतिहास में प्रथम महिला राष्ट्रपति बनने का सपना देख रहीं डेमोक्रेट प्रत्याशी हिलेरी क्लिंटन को ज़ोरदार झटके देते हुए रिपब्लिकन प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप प्रमुख राज्य ओहायो के बाद फ्लोरिडा और उत्तरी कैरोलिना में भी जीत हासिल की थी.

लेडी गागा ने हिलेरी के प्रचार अभियान का समापन किया
9 November 2016
पॉप गायिका लेडी गागा ने हिलेरी क्लिंटन के प्रचार अभियान के समापन पर डोनाल्ड ट्रंप के समर्थकों से सुलह की अपील की. मतदान से कुछ घंटे पहले मध्यरात्रि की एक रैली में युवाओं की भीड़ से बात करते हुए 30 वर्षीय गायिका ने हिलेरी की तारीफ वंचित तबके के हिमायती के रूप में की. गागा ने नार्थ कैरोलीना राज्य में हिलेरी के फौलाद से बने होने की सराहना करते हुए कहा कि यह मायने नहीं रखता कि ट्रंप कितनी बेहूदगी और नीचता पर उतरते हैं, लेकिन हिलेरी बहादुरी से मुस्कुराती है और ऐसा करते रहती हैं. हलांकि उन्होंने कहा, ‘‘हमें ट्रंप के समर्थकों से नफरत करने की जरूरत नहीं है.’’ काले रंग के तंग लिबास में गागा भीड़ के बीच अपना गाना ‘कम टू ममा’ गाने के लिए मंच से उतरीं.


भारतीय अमेरिकी कमला ने इतिहास रचा, अमेरिकी सीनेट सीट जीती
9 November 2016
कैलिफोर्निया की अटॉर्नी जनरल कमला हैरिस ने राज्य से अमेरिकी सीनेट सीट जीतकर आज इतिहास रच दिया. यह सफलता हासिल करने वाली वह पहली भारतीय-अमेरिकी हैं. डेमोक्रेट लॉरेटा सानचेज को हराने वाली 51 वर्षीय हैरिस अमेरिकी सीनेट में चुनी जाने वाली छठी अश्वेत हैं, पांचवे अश्वेत अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा थे. बीते दो दशकों से भी ज्यादा समय में उच्च सदन में पहुंचने वाली वे पहली अश्वेत महिला हैं. उनकी मां श्यामला गोपालन चेन्नई से यहां विज्ञान की पढ़ाई करने आई थीं. उनके पिता जैमेका में पले-बढ़े हैं. कमला का जन्म कैलिफोर्निया के ऑकलैंड में हुआ था. दो बार अटॉर्नी जनरल रह चुकी हैरिस ने अपनी ही पार्टी की लॉरेटा को हराया है. वह बारबरा बॉक्सर की जगह लेंगी, जिन्होंने दो दशकों तक सीनेट में रहने के बाद 2014 में सेवानिवृत्ति ले ली थी.
ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे तीन दिवसीय दौरे पर भारत पहुंचीं
7 November 2016
ब्रिटेन की प्रधानमंत्री थेरेसा मे रविवार रात यहां अपनी तीन दिवसीय यात्रा पर पहुंची जिसका उद्देश्य व्यापार, निवेश, रक्षा और सुरक्षा के प्रमुख क्षेत्रों में भारत और ब्रिटेन के संबंधों को मजबूत करना है. यूरोपीय संघ से ब्रिटेन के बाहर होने के बाद थेरेसा मे ने जुलाई में प्रधानमंत्री का कामकाज संभाला था और उसके बाद यूरोप के बाहर यह उनका पहला द्विपक्षीय दौरा है. इस दौरान वह भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सोमवार को मुलाकात करेंगी. वह मोदी के साथ संयुक्त रूप से भारत-ब्रिटेन प्रौद्योगिकी सम्मेलन का उद्घाटन भी करेंगी. लंदन से रवाना होने से पहले थेरेसा मे ने भारत को ब्रिटेन का 'सर्वाधिक महत्वपूर्ण और करीबी' मित्र करार दिया और दुनिया की अग्रणी महाशक्ति कहा. उन्होंने कहा, ''हम ब्रिटेन की सर्वश्रेष्ठ चीजों को प्रोत्साहित करेंगे, यह संदेश देंगे कि हम कारोबार के लिए तैयार हैं.''

ईमेल मामले में एफबीआई ने चुनाव से एक दिन पहले हिलेरी क्लिंटन को दी क्लीनचिट
7 November 2016
एफबीआई ने हिलेरी क्लिंटन को क्लीन चिट देते हुए आज कहा कि विदेश मंत्री रहने के दौरान हिलेरी द्वारा निजी ईमेल सर्वर के इस्तेमाल के मामले में नई जांच के बाद उसने अपनी पहले की राय में बदलाव नहीं किया है. इस घटनाक्रम को अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार के लिए पासा पलटने वाला माना जा रहा है. एफबीआई के निदेशक जेम्स बी कोमे ने अमेरिकी कांग्रेस के नेताओं को एक पत्र में कहा, हमारी समीक्षा के आधार पर हमने हमारे उन निष्कर्षों में कोई बदलाव नहीं किया है, जो हमने हिलेरी के संबंध में जुलाई में व्यक्त किए गए थे. इससे पहले कोमे ने कांग्रेस को एक पत्र भेजकर कहा था कि एफबीआई ने हिलेरी की निकट सहयोगी हुमा अबेदिन के लैपटॉप से हिलेरी संबंधी जांच से जुड़े कुछ प्रासंगिक ईमेल मिलने के बाद जांच फिर से खोलने का निर्णय लिया है. हुमा के पूर्व पति एंटनी वीनर ने ये ईमेल साझा किए थे.
जापान से 1.5 अरब डॉलर के 12 बचाव विमान खरीदेगा भारत
7 November 2016
भारत सोमवार को जापानी विमान निर्माता शिनमायवा (ShinMaywa) इंडस्ट्रीज़ से 1.5-1.6 अरब अमेरिकी डॉलर कीमत के 12 ऐसे बचाव विमान खरीदने के लिए सहमति देने जा रहा है, जो धरती और पानी पर चलने में सक्षम हैं. यह जानकारी एक जापानी दैनिक समाचारपत्र ने रविवार को दी. जापान और भारत इस सौदे को लेकर दो साल से बातचीत कर रहे हैं, और जापानी प्रधानमंत्री शिन्जो एबी द्वारा हथियारों के निर्यात पर से 50 साल पुराने प्रतिबंध के हटाए जाने के बाद यह जापान का पहला सैन्य उपकरण सौदा होगा. इस सौदे से दोनों देशों के बीच बढ़ते रक्षा संबंधों के भी संकेत मिलते हैं. जापानी समाचारपत्र 'निक्केई' ने रक्षा मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के हवाले से बताया, मंत्रालय सोमवार को होने जा रही डिफेंस एक्विज़िशन्स काउंसिल की बैठक में 12 यूएस-2 विमानों की खरीद को मंज़ूरी देगा.
चुनावी रैली में डोनाल्ड ट्रंप के समर्थक पर जब चिल्लाई भीड़, बचाव में आगे आए बराक ओबामा
5 November 2016
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने डेमोक्रेटिक पार्टी की एक रैली में रिपब्लिकन पार्टी के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप के एक समर्थक का बचाव किया. रैली में यह व्यक्ति जैसे ही ट्रंप के समर्थन वाला निशान लेकर खड़ा हुआ, लोगों ने उसके ऊपर चिल्लाना शुरू कर दिया. हिलेरी क्लिंटन के समर्थकों ने ट्रंप के समर्थन वाला निशान लेकर खड़े हुए इस व्यक्ति पर चिल्लाना शुरू कर दिया. इसके बाद ओबामा ने भीड़ से बार-बार ‘शांत हो जाइए , शांत हो जाइए’ के लिए कहा. वह व्यक्ति सेना की वर्दी में था और रैली में मंच के करीब ही एक ओर खड़ा था. उसने सामान्य आकार वाला ट्रंप समर्थक निशान ले रखा था. हालांकि उसने कुछ नहीं कहा. ओबामा ने रैली में उपस्थित समर्थकों से कहा, ‘‘नहीं ..रुको..रुको...रुक जाइये.. रुकिए.. रुक जाइए.’’ हालांकि लोगों ने उनकी बात पर ध्यान नहीं दिया. समर्थक हिलेरी... हिलेरी.... हिलेरी.. के नारे लगाते रहे.


लीक हुए ईमेल का मामला : हिलेरी क्लिंटन ने अपनी सहयोगी से अमिताभ बच्चन के बारे में पूछा था
5 November 2016
डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से अमेरिका के राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन के लीक हुए एक ईमेल से पता चला है कि उन्होंने एक बार अपनी करीबी सहयोगी हुमा अबेदीन से हिंदी सिनेमा के महानायक अमिताभ बच्चन के बारे में पूछा था. द वॉशिंगटन पोस्ट अखबार के राष्ट्रीय राजनीतिक रिपोर्टर जोस ए डेलरियल ने ट्विटर पर हिलेरी के लीक हुए एक ईमेल की तस्वीर डाली जिसमें दिख रहा है कि पूर्व अमेरिकी विदेश मंत्री ने अपनी पाकिस्तानी मूल की सहयोगी हुमा से बच्चन के बारे में पूछा था

नासा के क्यूरियोसिटी रोवर ने मंगल ग्रह पर खोजा दुर्लभ ‘एग रॉक’
4 November 2016
मंगल ग्रह के रहस्यों को सुलझाने की कोशिश कर रहे नासा के क्यूरियोसिटी रोवर ने उसकी सतह पर गोल्फ की गेंद के आकार का एक गोल पत्थर खोजा है और इस बात की पुष्टि हो चुकी है कि आयरन और निकल वाला यह उल्कापिंड लाल ग्रह के आकाश से गिरा है. इस पत्थर का नाम ‘एग रॉक’ रखा गया है. नासा ने बताया कि पृथ्वी पर आम तौर पर अंतरिक्ष से गिरे उल्कापिंड आयरन और निकल तत्वों के ही बने होते हैं. मंगल में भी पहले इस तरह के उदाहरण देखे गए हैं लेकिन यह पहला अवसर है जब एग रॉक का अध्ययन लेजर युक्त स्पेक्ट्रोमीटर से किया गया है. इस तरह के अध्ययन के लिए रोवर की टीम ने क्यूरियोसिटी के केमिस्ट्री एंड कैमरा (चेमकैम) उपकरण का उपयोग किया. मंगल विज्ञान प्रयोगशाला (मार्स साइंस लेबोरेटरी- एमएसएल) परियोजना के वैज्ञानिक ही रोवर का संचालन कर रहे हैं और उन्होंने क्यूरियोसिटी के मास्ट कैमरा (मास्टकैम) से ली गई तस्वीरों में एग रॉक को पहली बार देखा. यह तस्वीर लाल ग्रह पर उस जगह की है जहां रोवर 27 अक्टूबर को गया था.

अमेरिका में एक कंटेनर में पालतू पशु की तरह बंधी हुई मिली महिला, अगस्‍त से थी बंद
4 November 2016
अगस्‍त माह से लापता एक महिला गुरुवार को दक्षिण कैरोलिना के ग्रामीण इलाके में घातु के एक कंटेनर में किसी पालतू पशु की तरह बंधी हुई मिली. अधिकारियों ने यह जानकारी दी. एक स्‍थान की तलाशी के वारंट के साथ पहुंची पुलिस ने एक कंटेनर को अंदर से तेजी से पीटे जाने की आवाज सुनी. इसके बाद 30 साल की काला ब्राउन को खोज निकाला गया. यह संपत्ति एक यौन अपराधी टॉड कोहलहेप की है, सीएनएन और डब्‍ल्‍यूवायएफएफ की रिपोर्ट के अनुसार, टॉड को गिरफ्तार कर लिया गया है. स्‍पार्टनबर्ग काउंटी के शेरिफ चक राइट के अनुसार,, हमने महिला को किसी पालतू पशु की तरह बंधा हुआ देखा, वाकई यह बेहद भावुक कर देने वाला क्षण था. उन्‍होंने कहा कि चेन इस महिला के गले में चेन बंधी हुई थी. इसे ईश्‍वरीय कृपा ही कहा जाएगा कि हमने महिला को जीवित पाया.


उत्तर कोरिया के खिलाफ एकजुट है पूरा अंतरराष्ट्रीय समुदाय : अमेरिका
3 November 2016
वॉशिंगटन: व्हाइट हाउस ने चीन समेत पूरे अंतरराष्ट्रीय समुदाय को पांचवां परमाणु परीक्षण करने वाले उत्तर कोरिया के खिलाफ एकजुट बताते हुए कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा इस खतरे को गंभीरता से ले रहे हैं और वह अमेरिकी जनता के हितों की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध हैं. व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जोश अर्नेस्ट ने कहा, 'मैं जानता हूं सप्ताहांत पर सुरक्षा परिषद की ओर से यह बयान आया था, जिसमें यह संकेत दिया गया था कि वे उत्तर कोरिया द्वारा सुरक्षा परिषद के विभिन्न प्रस्तावों के लगातार और स्पष्ट उल्लंघनों के चलते उसके खिलाफ और अधिक आर्थिक प्रतिबंधों पर विचार करने वाले हैं'. ऐसा कोई बयान आने के लिए सुरक्षा परिषद में सर्वसम्मत समझौते की जरूरत पर जोर देते हुए अर्नेस्ट ने कहा कि यह इस बात का संकेत है कि उत्तर कोरिया की स्थिति को लेकर अंतरराष्ट्रीय समुदाय कितना एकजुट है. वह वहां की स्थिति को लेकर सतर्क हैं और उत्तर कोरिया को पहले से भी ज्यादा अलग-थलग करने के अतिरिक्त कदमों पर विचार कर रहा है.

आखिर अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए भारत में सुरक्षा सलाह क्यों जारी की
3 November 2016
अमेरिका ने भारत में अपने नागरिकों के लिए सुरक्षा के जो निर्देश जारी किए हैं उसमें भारतीय मीडिया की रिपोर्ट को आधार बनाया गया है. लेकिन क्या भारतीय मीडिया रिपोर्ट ही आधार है या इसके पीछे कुछ ख़ुफ़िया जानकारी भी? एनडीटीवी ने जो जानकारी जुटाई है उसके मुताबिक़ - जुलाई के पहले हफ्ते में बंगाल के बर्धमान में मोहम्मद मसीउद्दीन उर्फ मूसा समेत तीन लोगों को ग़िरफ्तार किया था. मूसा ने एनआईए की पूछताछ में ख़ुलासा किया था कि वह आईएसआईएस से ऑनलाइन निर्देश लिया करता था. उसे अमेरिकी, इंग्लैंड, कनाडा और इजराइल के नागरिकों को निशाना बनाना था. इसके लिए उसने कोलकाता में मदर टेरेसा और डल झील पर रेकी की थी. उसे हमले में चाकू का इस्तेमाल करना था. इस मिशन में वो अकेला था यानि लोन वुल्फ हमलावर. एनआईए ने आईएसआईएस के इस माड्यूल से पूछताछ की और कुछ तथ्यों तक पहुंची. यूसुफ अल हिंदी उर्फ शफी अरमर भारत में आईएसआईएस समर्थकों को हमले के लिए उकसा रहा है. वह टेलिग्राम पर विंड ऑफ विक्टरी के नाम से ग्रुप बना कर युवाओं से संपर्क साध रहा है. इसमें किए गए चैट से ख़ुलासा हुआ कि वो विदेशी नागरिकों को निशाने पर लेने को कह रहा है. विदेशी न मिलें तो बीजेपी आरएसएस नेताओं को भी निशाना बनाने की बात कही. इसमें अमेरिकी नागरिकों पर ख़ास ज़ोर था.
आखिर अमेरिका ने अपने नागरिकों के लिए भारत में सुरक्षा सलाह क्यों जारी की
2 November 2016
अमेरिका ने भारत में अपने नागरिकों के लिए सुरक्षा के जो निर्देश जारी किए हैं उसमें भारतीय मीडिया की रिपोर्ट को आधार बनाया गया है. लेकिन क्या भारतीय मीडिया रिपोर्ट ही आधार है या इसके पीछे कुछ ख़ुफ़िया जानकारी भी? एनडीटीवी ने जो जानकारी जुटाई है उसके मुताबिक़ - जुलाई के पहले हफ्ते में बंगाल के बर्धमान में मोहम्मद मसीउद्दीन उर्फ मूसा समेत तीन लोगों को ग़िरफ्तार किया था. मूसा ने एनआईए की पूछताछ में ख़ुलासा किया था कि वह आईएसआईएस से ऑनलाइन निर्देश लिया करता था. उसे अमेरिकी, इंग्लैंड, कनाडा और इजराइल के नागरिकों को निशाना बनाना था. इसके लिए उसने कोलकाता में मदर टेरेसा और डल झील पर रेकी की थी. उसे हमले में चाकू का इस्तेमाल करना था. इस मिशन में वो अकेला था यानि लोन वुल्फ हमलावर. एनआईए ने आईएसआईएस के इस माड्यूल से पूछताछ की और कुछ तथ्यों तक पहुंची. यूसुफ अल हिंदी उर्फ शफी अरमर भारत में आईएसआईएस समर्थकों को हमले के लिए उकसा रहा है. वह टेलिग्राम पर विंड ऑफ विक्टरी के नाम से ग्रुप बना कर युवाओं से संपर्क साध रहा है. इसमें किए गए चैट से ख़ुलासा हुआ कि वो विदेशी नागरिकों को निशाने पर लेने को कह रहा है. विदेशी न मिलें तो बीजेपी आरएसएस नेताओं को भी निशाना बनाने की बात कही. इसमें अमेरिकी नागरिकों पर ख़ास ज़ोर था.
अमेरिका का अगला राष्ट्रपति पद के लिए ट्रंप ‘अयोग्य’ और ‘‘अक्षम’ :
2 November 2016
डोनाल्ड ट्रंप पर हमले तेज करते हुए डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ने कहा है कि रिपब्किलन पार्टी के उनके प्रतिद्वंद्वी अमेरिका का अगला राष्ट्रपति बनने के लिए ‘अक्षम’ और ‘अयोग्य’ हैं. आम चुनाव से एक सप्ताह पहले 69 वर्षीय हिलेरी ने अपने पिछले तीन दशक से ज्यादा के तजुर्बे का हवाला देकर राष्ट्रपति पद के लिए अपनी जोरदार दावेदारी पेश की. डेल सिटी में हिलेरी ने कहा, आज से एक हफ्ते बाद, हम अपना अगला राष्ट्रपति और अमेरिका का कमांडर-एन-चीफ चुन रहे होंगे. मैं नहीं समझती कि पसंद कोई और स्पष्ट हो सकती है. डेल सिटी फ्लोरिडा के ओरलेंडो से 70 मील दूर है. यह आठ नवंबर को होने वाले चुनाव के लिए प्रमुख राज्य है. हिलेरी ने अपना पूरा दिन फ्लोरिडा में प्रचार कर बिताया और राज्य में तीन रैलियों को संबोधित भी किया. उन्होंने कहा, मैंने बच्चों और परिवारों के लिए लड़ते हुए अपना करियर बिताया है. मैंने अमेरिकी सीनेट में सेवा दी है, सीनेट की सशस्त्र सेवा समिति में सेवा दी है. मैं तब सिचुएशन रूम में थी जब ओसामा बिन लादेन को इंसाफ के दायरे में लाया गया था.


वर्ष 2030 तक कैंसर से हर साल होगी 55 लाख महिलाओं की मौत : रिपोर्ट
2 November 2016
कैंसर के कारण वर्ष 2030 तक हर साल करीब 55 लाख महिलाओं (डेनमार्क की कुल आबादी के करीब) की मौत की आशंका जताई गई है. इस आंकड़े पर गौर करें तो पता चलता है कि दो दशक से भी कम समय में ऐसे मामलों में करीब 60 प्रतिशत की वृद्धि होगी. मंगलवार को एक रिपोर्ट में कहा गया कि वैश्विक आबादी में इजाफे के साथ गरीब और मध्यम आय वाले देशों में मरने वालों में सबसे अधिक संख्या महिलाओं की होगी. रिपोर्ट के अनुसार इनमें से अधिकतर की मौत कैंसर के कारण होगी, जो बड़े पैमाने पर रोके जाने लायक है. दवा कंपनी मर्क के साथ यह रिपोर्ट तैयार करने वाली अमेरिकी कैंसर सोसायटी के वैश्विक स्वास्थ्य मामलों की उपाध्यक्ष सैली कोवल ने कहा कि 'अधिकतर मृत्यु युवा या मध्यम आयु वर्ग के लोगों में देखने को मिलती है', जिसका परिवार और राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था पर बहुत अधिक भार पड़ता है. रिपोर्ट में कहा गया है कि विश्व भर में हर सात में से एक महिला की मौत कैंसर की वजह से होती है. यह कारक हृदय रोग से होने वाली मौतों के बाद दूसरे स्थान पर है. सबसे अधिक घातक स्तन, कोलोरेक्टल, फेफड़े और गर्भाशय ग्रीवा के कैंसर का पता आसानी से लगाया जा सकता है और सफल उपचार होने पर इससे अधिकतर मामलों में रोगी को बचाया जा सकता है.

ब्रिटिश खुफिया एजेंसी के प्रमुख ने रूस के 'आक्रामक' रुख को लेकर आगाह किया
1 November 2016
ब्रितानी खुफिया एजेंसी एमआइ-5 के प्रमुख एंड्रयू पार्कर ने आगाह किया है कि रूस पश्चिमी देशों के विरोध में, आक्रामक तरीकों को तेजी से बढ़ाते हुए और नई प्रौद्योगिकियों का इस्तेमाल करते हुए काम कर रहा है. पार्कर ने गार्जियन अखबार से कहा, 'यह तेजी से आक्रामक तरीके से अपनी विदेश नीति को आगे बढ़ाने के लिए अपनी शक्तियों और सभी सरकारी तंत्रों को पूरी तरह से इस्तेमाल कर रहा है. इन आक्रमक तरीकों में दुष्प्रचार, जासूसी और साइबर हमले आदि शामिल हैं. उन्होंने कहा, 'आज के समय में रूस यूरोप और ब्रिटेन में काम कर रहा है और यह काम एमआई5 का है.' ब्रिटेन की घरेलू सुरक्षा के महानिदेशक एक ऐसे समय पर बात कर रहे थे, जबकि इस महीने की शुरुआत में ही ब्रितानी युद्धपोतों ने उत्तरी सागर से होकर गुजरते एक रूसी विमान वाहक समूह का पीछा किया था. यह पूर्वी भूमध्यसागर की ओर जा रहा था. पार्कर ने कहा कि रूस पश्चिम के खिलाफ तेजी से स्थापित कर रहा है और इसके लिए वह गैर पारंपरिक तरीकों का इस्तेमाल भी कर रहा है.

60-सेकंड के फ्लाईपास्ट के साथ चीन ने दुनिया के सामने रखा अपना जे-20 स्टेल्थ लड़ाकू विमान
1 November 2016
चीन ने अपनी धरती पर विमान निर्माताओं और खरीदारों के अब तक के सबसे बड़े जमावड़े 'एयरशो चाइना' की शुरुआत अपनी सैन्य ताकत दिखाते हुए की, और मंगलवार को अपने चेंगदू जे-20 स्टेल्थ लड़ाकू विमान का पहली बार सार्वजनिक रूप से प्रदर्शन किया. दक्षिणी शहर शुहाई में आयोजित 'एयरशो चाइना' के ज़रिये चीन नागरिक उड्डयन के क्षेत्र में भी अपनी महत्वाकांक्षाओं को दुनिया के सामने रखने जा रहा है, और रक्षा क्षेत्र से जुड़ी महत्वाकांक्षाओं को भी. माना जा रहा है कि अगले एक दशक में चीन ही उड्डयन के क्षेत्र में अमेरिका को पछाड़कर दुनिया का सबसे बड़ा बाज़ार बन जाएगा. शुहाई में आयोजित शो की शुरुआत में ही दो जे-20 जेट विमान मौजूद मेहमानों के ऊपर से कानों के पर्दे फाड़ देने वाली आवाज़ करते हुए गुज़रे, और सिर्फ 60 सेकंड की उड़ान में ही उन्होंने न सिर्फ मेहमानों को तालियां बजाने पर मजबूर कर दिया, बल्कि वहां मौजूद पार्किंग लॉट में खड़ी गाड़ियों के अलार्म भी ज़ोर-ज़ोर से बजने लगे. चीन से जुड़े मामलों का अध्ययन करने वाले और एविएशन वीक से जुड़े ब्रैडली पेरेट ने कहा, "चीन की लड़ाकू क्षमता के लिहाज़ से यह साफ तौर पर एक बहुत बड़ा कदम है..."


अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव : ताजा पोल में डोनाल्‍ड ट्रंप अब हिलेरी क्लिंटन से महज एक प्‍वाइंट पीछे
1 November 2016
अमेरिकी राष्‍ट्रपति चुनाव के मतदान का दिन जैसे-जैसे करीब आ रहा है, वैसे-वैसे दोनों प्रमुख उम्‍मीदवारों के बीच व्‍हाहट हाउस की रेस भी कांटे की टक्‍कर में तब्‍दील होती दिख रही है. इसी कड़ी में एक नए पोल में हिलेरी क्लिंटन की बढ़त घट गई है और अब प्रतिद्वंद्वी डोनाल्‍ड ट्रंप उनसे महज एक प्‍वाइंट के मामूली अंतर से पीछे हैं. दरअसल हिलेरी के ईमेल विवाद में इसी हफ्ते नया मोड़ आ गया है. उनके कुछ और ईमेल सार्वजनिक होने के बाद एफबीआई उस मामले की पड़ताल फिर से करने जा रही है. उसके बाद डोनाल्‍ड ट्रंप के हमलों से हिलेरी की बढ़त कमजोर हुई है. एबीसी न्‍यूज/वाशिंगटन पोस्‍ट के नए पोल में हिलेरी क्लिंटन और डोनाल्‍ड ट्रंप के बीच अंतर 46-45 प्रतिशत का हो गया है. यानी अब डेमोक्रेटिक पार्टी की उम्‍मीदवार हिलेरी महज एक प्‍वाइंट से आगे हैं. उल्‍लेखनीय है कि शुक्रवार को एफबीआई के डायरेक्‍टर जेम्‍स कोमी ने सांसदों को पत्र लिखकर सूचित किया है कि नए ईमेल सामने आने के बाद उनके एजेंट इस मामले की समीक्षा कर रहे हैं.

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनने की प्रक्रिया है भारत से बिल्कुल अलग, जानें राष्ट्रपति चुनाव का पूरा ब्योरा
26 October 2016
अमेरिका में इस साल 8 नवंबर को राष्ट्रपति पद के लिए वोटिंग होनी है. इस बार रिपब्लिकन उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप और डेमोक्रेट हिलेरी क्लिंटन के बीच मुकाबला है. चुनाव अभियान के दौरान दोनों उम्मीदवारों के बीच हुई बहस और आरोप-प्रत्यारोप ने दुनिया भर का ध्यान इस चुनाव की ओर खींचा है. दुनिया में सबसे ताकतवर माने जाने वाले इस मुल्क के सबसे ताकतवर व्यक्ति का चुनाव काफी लंबा, पेचीदा और घुमावदार होता है, जो कि भारत से बिल्कुल अलग है. ऐसे में हम यहां आपको बता रहे हैं अमेरिका में राष्ट्रपति का चुनाव किस तरह होता है... इलेक्टोरल कॉलेज के जरिये चुने जाते हैं राष्ट्रपति अमेरिकी संविधान के अनुच्छेद-2 में राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव प्रक्रिया का जिक्र है. इसमें 'इलेक्टोरल कॉलेज' के जरिये अमेरिकी राष्ट्रपति के चुनाव की व्यवस्था है. हालांकि अमेरिकी संविधान निर्माताओं का एक वर्ग चाहता था कि राष्ट्रपति चुनने का अधिकार संसद को मिले, जबकि दूसरा धड़ा सीधी वोटिंग के जरिये चुनाव के हक में था. इन दोनों धड़ों के बीच हुए समझौते के बाद तब यह तरीका वजूद में आया.

क्वेटा हमले के दौरान जान बचाने के लिए खिड़कियों, छतों से कूद-कूदकर भाग रहे थे
26 October 2016
पाकिस्तानी शहर क्वेटा में पुलिस अकादमी पर सोमवार को हुए आतंकवादी हमले में बच गए लोगों ने गोलीबारी और विस्फोटों के बीच बीते दहशतभरे लम्हों को याद करते हुए बताया कि आतंकी जिस किसी को देखते थे, गोली मार देते थे, और उनसे बचने के लिए पुलिस कैडेट खिड़कियों और छतों से कूद-कूदकर भाग रहे थे. बलोचिस्तान की राजधानी क्वेटा से सटे इलाके में बने पुलिस ट्रेनिंग कॉलेज पर सोमवार देर रात चार घंटे तक जारी रहे हमले की ज़िम्मेदारी दो अलग-अलग गुटों ने ली है, जिनमें से एक तालिबान से अलग हुआ आतंकवादी गुट है, और दूसरा आईएसआईएस से जुड़ा है. अर्द्धसैनिक बल फ्रंटियर कॉर्प्स के प्रवक्ता वसय खान ने कहा कि मारे गए और 123 घायलों में से ज़्यादातर कैडेट और सैनिक थे. हमला करने आए तीन में से दो आतंकवादियों ने खुद को उड़ा लिया था, जबकि तीसरा सेना की गोलीबारी में ढेर हो गया. पूरे पाकिस्तान में हमले के बाद दहशत का माहौल है, और लोग रह-रहकर वर्ष 2014 में पेशावर में सेना के स्कूल पर हुए तालिबान आतंकवादियों के हमले को याद कर रहे हैं, जिसमें 150 लोग मारे गए थे, जिनमें ज़्यादातर बच्चे थे.


पड़ोसियों पर हमला करने वाले आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई करे पाक
26 October 2016
सिडनी: ऑस्ट्रेलिया के दक्षिण पश्चिमी मैक्वेरी आइलैंड में आज 6.3 तीव्रता का भूकंप आया. बहरहाल इस भूकंप से किसी तरह के नुकसान की खबर नहीं है. ऑस्ट्रेलिया का इस आइलैंड में एक छोटा अंटार्कटिक बेस है. यूएस जियोलॉजिकल सर्वे के अनुसार, 6.3 तीव्रता वाले इस भूकंप का केंद्र मैक्वेरी आइलैंड से करीब 29 किमी दूर, आस्ट्रेलिया एवं अंटार्कटिका के बीच प्रशांत महासागर में करीब 10 किलोमीटर की गहराई पर था. ऑस्ट्रेलिया अंटार्कटिक डिवीजन की प्रवक्ता ने एएफपी को बताया, हम अंटार्कटिक बेस के संपर्क में हैं और उन्होंने भूकंप के झटके महसूस किए हैं, लेकिन यह बहुत धीमे थे. वहां सभी लोग सुरक्षित हैं और किसी तरह का नुकसान नहीं हुआ है.’ किसी प्रकार की सुनामी की चेतावनी भी जारी नहीं की गई. मैक्वेरी आइलैंड की लंबाई 34 किमी चौड़ाई केवल पांच किमी है. इस संकरी भूमि पर ही ऑस्ट्रेलिया का एक स्थायी अंटार्कटिक बेस है

इजरायल का गाजा पर अगला 'युद्ध' अंतिम होगा, हम उन्‍हें तबाह कर देंगे : मंत्री लिबरमैन
25 October 2016
इजरायल के रक्षा मंत्री एविगदोर लिबरमैन ने एक इंटरव्‍यू में कहा है कि गाजा पट्टी पर आतंकियों के खिलाफ अगला युद्ध निर्णायक और अंतिम होगा क्‍योंकि हम उन्‍होंने पूरी तरह तबाह कर देंगे. लिबरमैन ने एक फलस्‍तीनी अखबार से बात करते हुए यह बात कही. हालांकि लिबरमैन ने साफ किया कि गाजा में नया युद्ध छेड़ने का उनका कोई इरादा नहीं है. यह 2008 के बाद ये यहां चौथा हमला होगा. इजरायल के मंत्री ने फलस्‍तीन से हमास पर उसकी 'पागलपन भरी नीतियां' रोकने लिए दबाव बढ़ाने को कहा है. येरूशलम स्थित समाचार पत्र अल कुद्स से बात करते हुए लिबरमैन ने कहा, 'रक्षा मंत्री होने के नाते मैं साफ करना चाहता हूं कि अपने पड़ोसी के खिलाफ गाजापट्टी, लेबनान या सीरिया पर नई जंग छेड़ने का हमारा कोई इरादा नहीं है लेकिन वे गाजा को इजरायल से अलग करना चाहते हैं. अगर उन्‍होंने इजरायल पर अगला युद्ध थोपा तो यह उकना अंतिम होगा. यह उनका अंतिम संघर्ष होगा क्‍योंकि हम उन्‍हें पूरी तरह तबाह करके रख देंगे.'

अगर मैं तीसरी बार राष्ट्रपति बन सकता होता, तो मिशेल मुझे तलाक दे देती :
25 October 2016
अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने सोमवार को एबीसी चैनल पर देर रात प्रसारित होने वाले 'जिमी किमेल लाइव' शो के दौरान माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर का जमकर इस्तेमाल करने वाले रिपब्लिकन पार्टी के प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप के 'घटिया ट्वीट' का मज़ाक उड़ाया. अमेरिकी राष्ट्रपति ने डोनाल्ड ट्रंप द्वारा किए कई ट्वीट पढ़े, जिनमें से आखिरी था, "राष्ट्रपति ओबामा संभवतः अमेरिका के इतिहास के सबसे बुरे राष्ट्रपति के रूप में दर्ज किए जाएंगे..." ओबामा ने शो के दौरान इसका जवाब देते हुए कहा, "कम से कम मैं राष्ट्रपति के रूप में दर्ज तो किया जाऊंगा..." किमेल ने भी शो पर डोनाल्ड ट्रंप के उस बयान का मज़ाक उड़ाया, जिसमें वह कहते रहे हैं कि 8 नवंबर को होने वाले चुनाव में उनके खिलाफ धांधली होने वाली है. किमेल ने कहा कि ओबामा को शो में आने के लिए 'चुनाव में धांधली में मदद करने के काम से वक्त निकालना पड़ा होगा...' ऑस्ट्रेलिया के सबसे बड़े थीम पार्क में राइड के दौरान हादसा, कम से कम तीन की मौत


पाकिस्तान ने 5100 संदिग्ध आतंकियों के बैंक खातों को फ्रीज किया
25 October 2016
पाकिस्तान में अधिकारियों ने जैश-ए-मोहम्मद प्रमुख मसूद अजहर समेत 5100 संदिग्ध आतंकवादियों के बैंक खाते से लेनदेन पर रोक लगा दी है. इन खातों में 40 करोड़ रुपये से अधिक राशि थी. अजहर भारत में पठानकोट हवाई ठिकाने पर आतंकवादी हमले के बाद से 'एहतियातन हिरासत' में है. स्टेट बैंक ऑफ पाकिस्तान (एसबीपी) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, 'गृह मंत्रालय के अनुरोध के बाद हमने अल्ला बख्श के बेटे मसूद अजहर समेत सभी शीर्ष संदिग्ध आतंकवादियों के बैंक खाते से लेन-देन पर रोक लगा दी है.' 'द न्यूज' ने अधिकारी के हवाले से बताया कि गृह मंत्रालय ने हजारों संदिग्धों की तीन अलग-अलग सूची भेजी, जिसमें कुछ प्रतिबंधित संगठनों के सरगना भी शामिल हैं. समाचार पत्र के अनुसार तकरीबन 1200 संदिग्ध जिनके बैंक खाते से एसबीपी ने लेनदेन पर रोक लगाई है, उन्हें आतंकवाद निरोधक अधिनियम, 1997 के तहत 'ए' श्रेणी के तहत रखा गया है. गृह मंत्रालय और एसबीपी के अधिकारियों ने बताया कि अजहर को शीर्ष संदिग्धों की सूची में शामिल किया गया है, जिनके बैंक खाते से लेनदेन पर एसबीपी ने रोक लगाई है.

कैलिफोर्निया में बस और ट्रक की टक्कर में 13 की मौत, 31 घायल
24 October 2016
दक्षिणी कैलिफोर्निया के एक राजमार्ग पर रविवार सुबह एक पर्यटक बस ने एक ट्रक को पीछे से टक्कर मार दी, जिसमें 13 लोगों की मौत हो गई और कम से कम 31 लोग घायल हो गए. कुछ की हालत गंभीर है. कैलिफोर्निया हाइवे पेट्रोल बॉर्डर डिवीजन के प्रमुख जिम एबेल ने संवाददाताओं को बताया कि बस की रफ्तार ट्रक से कहीं ज्यादा थी. लेकिन अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि क्या यह अंतरराज्यीय मार्ग 10 पर चल रही थी जो सहारा रेगिस्तान के उत्तर पाम स्प्रिंग्स शहर में है. एबेल ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, बस की रफ्तार का अंदाजा इससे लगाया जा सकता है कि ट्रक 15 फीट अंदर तक बस में धंस गया था. एबेल ने बताया कि इस बात की जानकारी नहीं मिली है कि हादसे की वजह शराब, ड्रग्स था या थकान थी. यह घटना लॉस एंजिलिस से 100 मील की दूरी पर हुई है. बस में सवार अमेरिकी यात्री बस पाम स्प्रिंग्स से 25 मील दक्षिण पूर्व में थर्मल में रेड अर्थ कैसिनो देखकर वापस लॉस एंजिलिस लौट रहे थे. बस चालक की मौत हो गई और ट्रक चालक जख्मी हुआ है.

क़तर के पूर्व अमीर खलीफा बिन हमद अल थानी का 84 साल की उम्र में निधन
24 October 2016
महल में तख्तापलट में अपदस्थ किए गए कतर के पूर्व अमीर खलीफा बिन हमद अल थानी का रविवार को निधन हो गया. वह 84 साल के थे. कतर ने उनके निधन के बाद तीन दिन के राष्ट्रीय शोक की घोषणा की है. शाही महल के एक आधिकारिक बयान के मुताबिक मौजूदा अमीर तमीम बिन हमद अल थानी के दादा और पूर्व शासक का रविवार को निधन हो गया. 1972 से लेकर 1995 तक उनके शासन में आधुनिक कतर एक ऊर्जा समृद्ध देश बना. गैस और ऊर्जा निर्यात से मिले धन ने इस छोटे से खाड़ी देश की सूरत ही बदल दी. आधिकारिक बयान में कहा गया है कि 'शेख खलीफा बिन हमद अल थानी का रविवार शाम 23 अक्तूबर 2016 को 84 वर्ष की आयु में निधन हो गया. शेख तमीम बिन हमद अल थानी ने देश में तीन दिवसीय शोक मनाए जाने का आदेश दिया है.’ हालांकि इस बारे में विस्तृत जानकारी नहीं दी गई कि उनका निधन किस किन वजहों से हुआ है.


यमन में हवाई हमले तेज, यूएन के संघर्षविराम के आह्वान को नजरअंदाज किया गया
24 October 2016
यमन में सरकार समर्थक अरब गठबंधन ने रविवार को ईरान समर्थित विद्रोहियों पर हवाई हमले तेज कर दिए और जमीनी संघर्ष भी तेज हो गए, जबकि दोनों पक्षों ने नए संघर्ष विराम का संयुक्त राष्ट्र का आह्वान नजरअंदाज कर दिया. 72 घंटे का संघर्षविराम बुधवार की मध्यरात्रि से ठीक पहले शुरू हुआ था, जिसके तहत यमन में सहायता पहुंचाने की मंजूरी दी गई. देश में युद्ध से हजारों लोग मारे गए हैं और लाखों लोगों बेघर एवं भूखे हैं. संघर्षविराम शनिवार मध्यरात्रि को आधिकारिक रूप से खत्म हो गया. यमन में संयुक्त राष्ट्र के विशेष दूत इस्माइल ओल्द चेक अहमद ने नए संघर्षविराम की अपील करते हुए कहा था कि संघर्षविराम के दौरान मानवीय मदद उन जगहों तक पहुंची, जहां पहले मदद पहुंचाना संभव नहीं था. लेकिन यमन के विदेश मंत्री अब्दुलमलिक अल मेखलफी ने आह्वान को 'बेकार' बताया और विद्रोहियों पर संघर्षविराम को नजरअंदाज करने का आरोप लगाया.

संयुक्त राष्ट्र ने इस कॉमिक कैरेक्टर को बनाया अपना विशेष दूत, जानिए क्यों हो रहा विरोध
22 October 2016
संयुक्त राष्ट्र संघ ने कॉमिक बुक कैरेक्टर 'वंडर वुमन' के 75वें जन्मदिन पर उसे महिला और बालिका सशक्तिकरण के लिए अपना विशेष (ऑनररी) एंबेसडर नियुक्त किया. हालांकि कई लोग यूएन के इस फैसले का विरोध कर रहे हैं. विरोधियों का कहना है महिलाओं को असल एंबेसडर की आवश्यकता है. कार्यक्रम के दौरान यूएन के करीब 50 कर्मियों ने प्रदर्शन भी किया. इस दौरान कैस दुरंत नाम के एक यूएन कर्मी ने कहा, 'आपको लगता है कि एक काल्पनिक कॉमिक बुक चरित्र, जो प्लेबॉय के मैग्ज़ीन जैसे कपड़े पहनती है, को राजदूत बनाकर हम लड़कियों को वह मैसेज सही तरीके से दे पाएंगे जो हम देना चाहते हैं?" महिला सशक्तिकरण, लिंग आधारित हिंसा और सार्वजनिक जीवन में महिलाओं की भूमिका से संबंधित संदेश देने के लिए यूएन के सोशल मीडिया अकाउंट्स में वंडर वुमन की तस्वीरों का उपयोग किया जाएगा. यूएन के इस प्रयास का 'वंडर वुमन' कॉमिक बुक निकालने और टीवी सीरीज़ बनाने वाले डीसी एंटरटेनमेंट और वार्नर ब्रोस समर्थन कर रहे हैं. यह पहली बार नहीं है जब यूएन ने किसी मीडिया समूह के साथ पार्टनरशिप की है इससे पहले क्लाइमेट चेंज का सामना करने के लिए यूएन ने 'एंग्री बर्ड्स' मोबाइल गेम के लीडर रेड को नियुक्त किया है. यह कैम्पेन सोनी पिक्चर्स एंटरटेनमेंट के साथ पार्टनरशिप में चल रहा है.

रूस का MI-8 हेलीकॉप्टर साइबेरिया में दुर्घटनाग्रस्त, 21 लोगों की मौत
22 October 2016
रूस के साइबेरिया में शुक्रवार रात खराब मौसम की वजह से एमआई-8 हेलीकॉप्टर के दुर्घटनाग्रस्त होने से 21 लोगों की मौत हो गई, जबकि तीन अन्य घायल हो गए. रूस के पश्चिमोत्तर यामालो-नेनेट्स क्षेत्र में बचाव दलों ने हेलीकॉप्टर के दो ब्लैक बॉक्स बरामद कर लिए हैं. रूस के संघीय एजेंसी के अधिकारी ने बताया, 'दोनों ब्लैक बॉक्स (फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर और वॉयस रिकॉर्डर) मिल गए हैं. इनकी जांच की जाएगी.' अधिकारी ने बताया कि जिस समय हेलीकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हुआ तब उसमें 22 यात्री और चालक दल के तीन सदस्य सवार थे. घायलों में से एक ने अपने मोबाइल फोन से आपातकाल विभाग को फोन कर घटना की जानकारी दी. स्थानीय आपातकाल विभाग ने दुर्घटनास्थल पर 140 लोगों के प्रथम खोज एवं बचाव दल को भेजा है.


ब्रैड पिट ने अब तक नहीं दिया एंजलीना जोली की तलाक की अर्ज़ी का जवाब
22 October 2016
हॉलीवुड अभिनेता ब्रैड पिट ने अब तक एंजलीना जोली की तलाक की अर्ज़ी का जवाब नहीं दिया है, जबकि इसकी समय सीमा बीत चुकी है. खबरों की मानें तो ब्रैड कानूनी लड़ाई से बचना चाह रहे हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि इसका उनके बच्चों पर बुरा असर पड़ सकता है. अमेरिका की सेलिब्रिटी गॉसिप वेबसाइट यूएस वीकली और टीएमज़ेड के अनुसार 52 वर्षीय अभिनेता तब तक आधिकारिक जवाब पेश नहीं करेंगे जब तक उनके और एंजलीना के वकील बच्चों की कस्टडी को लेकर किसी सहमति पर नहीं पहुंच पाते. ब्रैड बच्चों की लीगल और फिजिकल कस्टडी पाना चाहते हैं लेकिन इसके लिए वह कोर्ट की लड़ाई से बचना चाह रहे हैं. जोली ने 19 सितंबर को कोर्ट में तलाक के पेपर फाइल किए जिसमें उन्होंने दोनों के बीच कभी खत्म न होने वाली अंतर को कारण बताते हुए बच्चों की कस्टडी मांगी थी. इस सप्ताह की शुरुआत में ब्रैड पिट ने अपने 15 वर्षीय बेटे मैडोक्स से प्लेन में हुई घटना के बाद पहली बार मुलाकात की थी. ब्रैड पर आरोप है कि एक प्राइवेट प्लेन में अपने बच्चों के साथ फ्रांस से छुट्टियां मनाकर लौटते वक्त वह बच्चों पर चिल्लाए थे. एफबीआई ने कहा है कि अभिनेता के खिलाफ जांच शुरु करने से पहले वह इस घटना के संबंध में जानकारी जुटा रही है. हालांकि प्लेन में क्या-क्या हुआ इस संबंध में एफबीआई ने पूरी जानकारी नहीं दी है..

व्यापारिक रिश्तों पर बहुत बुरा असर डालेगी सऊदी अरब की वीसा फीस में बढ़ोतरी
21 October 2016
सऊदी अरब ने व्यापार करने के लिए आने वाले लोगों से ली जाने वाली वीसा फीस में सात गुणा बढ़ोतरी कर अपने यहां पहुंचने वाले विदेशी निवेश को खतरे में डाल दिया है. तेल-आधारित अर्थव्यवस्था में सुधार की राह तलाशते सऊदी अरब के बारे में यह बात राजनयिकों तथा अन्य सूत्रों ने कही. लेकिन एक वरिष्ठ सऊदी व्यापारी ने इन चिंताओं को सिरे से खारिज कर दिया, और कहा कि उनका देश जिन बिज़नेस पार्टनरों के साथ काम करने का सबसे ज़्यादा इच्छुक है, वे आसानी से इस नई फीस को बर्दाश्त कर सकते हैं. फीस में इसी महीने लागू किए गए परिवर्तन के बारे में रियाद में मौजूद एक राजनयिक का कहना है कि इस पर यकीन करना मुश्किल है और यह बहुत नज़दीकी फायदा सोचने वाली बात है. नाम न छापने की शर्त पर उन्होंने कहा, "उनकी हालत बहुत ज़्यादा खराब है, और वे जितना हो सके, उसकी कीमत विदेशियों से वसूल करना चाहते हैं... लेकिन दरअसल, उन्हें वीसा भुगतान से जितना फायदा होगा, उससे कहीं ज़्यादा वह नुकसान में रहेंगे..."

अलेप्पो में बमबारी से करीब 500 लोगों की मौत, मरनेवालों में अधिकतर बच्चे
21 October 2016
संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की मून ने कहा है कि अलेप्पो में रूस और सीरियाई बलों की बमबारी के भयावह परिणाम सामने आए हैं, क्योंकि करीब 500 लोगों की मौत हो गई है और इस माह के अंत तक वहां खाद्य सामग्री की भी घोर किल्लत होने की आशंका है. बान ने संयुक्त राष्ट्र महासभा की एक विशेष बैठक में कहा कि 22 सितंबर को सीरिया सरकार द्वारा, पांच साल से जारी गृह युद्ध में विद्रोहियों के खिलाफ अब तक का सर्वाधिक तेज अभियान शुरू किए जाने के बाद अलेप्पो के पूर्वी हिस्से में हवाई हमले किए गए. पूर्वी अलेप्पो पर विद्रोहियों की पकड़ है. बान के अनुसार, इन हवाई हमलों के भयावह नतीजे सामने आए हैं. हमले में कम से कम 500 लोगों की जान चली गई और करीब 2,000 घायल हो गए हैं. मरने वालों में ज्यादातर बच्चे हैं. बान ने चेताया कि 7 जुलाई के बाद से अलेप्पो में संयुक्त राष्ट्र का कोई राहत काफिला नहीं पहुंच पाया और अक्तूबर के अंत तक वहां राशन तथा आवश्यक वस्तुओं की घोर किल्लत हो जाएगी. उन्होंने यह भी कहा कि भूख का युद्ध के हथियार के तौर पर उपयोग किया जा रहा है


इराकी सैन्य बलों ने आईएस के कब्जे वाले मोसुल के निकट बढ़त बनाई
21 October 2016
इराक के सैन्य बलों ने गुरुवार को मोसुल के पूर्वी छोर वाले शहर को दोबारा अपने कब्जे में ले लिया है. वहीं कुर्दिश लड़ाकों ने जिहादियों को पीछे धकेलने के लिए एक नया मोर्चा खोल दिया है. प्रधानमंत्री हैदर-अल-अब्दी ने पेरिस में हुए अंतरराष्ट्रीय बैठक में कहा है कि चार दिन पुरानी आक्रामकता उम्मीद से ज्यादा थी. फ्रांस और इराक, मोसुल के भविष्य पर बैठक की सह अध्यक्षता कर रहे थे. पर्यवेक्षकों ने चेतावनी दी है कि यहां पहले से भी ज्यादा मानवीय संकट पैदा हो सकते हैं. आतंकवाद से मुकाबला सेवा (सीटीएस) इराक की सबसे प्रशिक्षित और अनुभवी सैन्‍य बल ने बरटाला पर पूरी तरीके से कब्जा कर लिया है. यह शहर पूर्वी मोसुल से 15 किमी से भी कम दूरी पर है. सीटीएस कमांडर तालेब शेहगाती अल-केनानी ने शहर से संवाददताओं को बताया, ''हम बरटाला और मोसूल के लोगों को घोषणा करते हुए बताते हैं कि हमने पूरी तरह से बरटाला पर कब्जा कर लिया है.'' कमांडर एक छोटे इसाई शहर से बोल रहे थे, जिस पर अगस्त 2014 में आइएस ने कब्जा कर लिया था.

मैक्सिको के राष्ट्रपति के साथ बैठक के दौरान ट्रंप की बोलती बंद हुई : हिलेरी
20 October 2016
अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ने अपने प्रतिद्वंद्वी एवं रिपब्लिकन पार्टी के प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप पर आरोप लगाया है कि मैक्सिको के राष्ट्रपति एनरिक पेना नीटो के साथ मुलाकात के दौरान ट्रंप की बोलती उस वक्त बंद हो गई थी, जब वह अमेरिका की दक्षिणी सीमा पर दीवार बनाने के अपने वादे के लिए मैक्सिको के राष्ट्रपति पर दबाव बनाने में नाकाम रहे. तीसरे एवं निर्णायक प्रेसिडेंशियल डिबेट के दौरान हिलेरी (68) ने कहा, "बात जब दीवार बनाने की आई तो ट्रंप मैक्सिको गए और वहां उन्होंने मैक्सिको के राष्ट्रपति से मुलाकात की, लेकिन वह तो उनके सामने मामला ही नहीं उठा पाए... वहां उनकी घिग्घी बंध गई, जिसके बाद उनका ट्विटर युद्ध छिड़ गया... अलबत्ता मैक्सिको के राष्ट्रपति ने यह कह दिया कि हम लोग दीवार बनाने के लिए रकम अदा नहीं करने जा रहे हैं..." हिलेरी ने कहा कि दीवार बनाने की ट्रंप की यह योजना और सख्त निर्वासन नीति देश को तोड़ने वाली होगी और यह देश के मूल्यों के साथ मेल नहीं खाती. हिलेरी ने कहा, "हम लोग अप्रवासियों और कानूनी नागरिक, दोनों के राष्ट्र हैं और इसके लिए हम इसके मुताबिक कार्य कर सकते हैं और यही कारण है कि मैं नागरिकता के लिए मार्ग प्रशस्त करते हुए शुरुआती 100 दिन के अंदर एक व्यापक आव्रजक सुधार को शुरू करने जा रही हूं..." .

उत्तर कोरिया का एक और मिसाइल परीक्षण असफल : दक्षिण कोरिया
20 October 2016
उत्तर कोरिया ने हफ्ते में दूसरी बार आज मध्यम दूरी की शक्तिशाली मिसाइल का परीक्षण किया, जो असफल रहा. विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि इस मिसाइल को अगले साल तक तैनात किया जा सकता है. दक्षिण कोरिया और अमेरिकी सैन्य पर्यवेक्षकों का कहना है कि मध्यम दूरी की मुसुदन मिसाइल में स्थानीय समयानुसार सुबह लगभग साढ़े छह बजे उड़ान भरने के कुछ ही देर विस्फोट हो गया. यह मिसाइल परीक्षण ऐसे समय किया गया जब अमेरिकी राष्ट्रपति पद के लिए तीसरी बहस शुरू होने में कुछ ही घंटों का वक्त बचा था. अमेरिका के अगले राष्ट्रपति के लिए उत्तरी कोरिया के तेजी से बढ़ रहे परमाणु हथियार कार्यक्रमों की बड़ी चुनौती रहेगी. इस परीक्षण के बाद वॉशिंगटन में अमेरिका और दक्षिण कोरिया के रक्षा तथा विदेश मंत्रियों की बैठक हुई जिसमें अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन कैरी ने जोर देकर कहा कि उत्तर कोरिया द्वारा परमाणु हथियारों के इस्तेमाल का ‘‘प्रभावी और जोरदार जवाब’’ दिया जाएगा.


मंगल ग्रह पर उतरे यूरोपीय यान से नहीं मिला कोई संकेत, अभियान असफल होने की आशंका
20 October 2016
पृथ्वी पर मौजूद नियंत्रक मंगल पर जीवन से जुड़ी साहसिक खोज के तहत वहां उतरने वाले यूरोप के एक छोटे यान की स्थिति को लेकर समाचार मिलने का व्याकुलता एवं घबराहट से इंतज़ार कर रहे हैं, लेकिन संभवत: यान मंगल के प्रभाव को सहन नहीं कर पाया. छोटे बच्चों के खेलने के लिए बने पैडलिंग पूल जितने आकार के 'शियापारेल्ली' लैंडर यान को मंगल पर अंतरराष्ट्रीय समयानुसार बुधवार दोपहर दो बजकर 48 मिनट पर उतरना था. यूरोपीय स्पेस एजेंसी (ईएसए) ने कुछ ही घंटों बाद विमान के मंगल पर उतरने की पुष्टि की, लेकिन उसने साथ ही कहा कि यान कोई संकेत नहीं दे रहा है, जिसने इस अभियान के असफल रहने की आशंका को जन्म दे दिया है. ईएसए के शियापारेल्ली प्रबंधक थिएरी ब्लांक्वैर्ट ने एएफपी से कहा, "यान मंगल पर उतर गया है, यह बात निश्चित है..." उन्होंने दारमस्ताद में अभियान नियंत्रण कक्ष से कहा, "मैं यह नहीं जानता कि वह सही-सलामत मंगल पर उतरा है, या वह किसी चट्टान से टकरा गया है या वह केवल संचार स्थापित नहीं कर पा रहा है..." उन्होंने कहा कि वह इस बात को लेकर 'बहुत आशावान' नहीं है कि यान सही सलामत है.

सऊदी अरब : शाही खानदान के शहजादे तुर्की बिन सऊद अल-कबीर को दी गई मौत की सजा
19 October 2016
सऊदी अरब ने मंगलवार को हत्या के जुर्म में शाही खानदान के एक सदस्य को मौत की सजा दे दी. यह एक दुर्लभ घटना है जिसमें 'हाउस ऑफ सऊद' के हजारों सदस्यों में से किसी एक को मौत की सजा दी गई है. देश के गृह मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि प्रिंस तुर्की बिन सऊद अल-कबीर को राजधानी रियाद में मौत की सजा दी गई. अल-कबीर पर सऊदी नागरिक आदिल अल-मोहम्मद की गोली मारकर हत्या करने का आरोप था. मंत्रालय के बयानों के आधार पर एएफपी की गिनती के मुताबिक, कबीर 134वें स्थानीय या विदेशी थे जिन्हें इस साल मौत की सजा दी गई. अरब न्यूज ने नवंबर, 2014 में खबर दी थी कि रियाद की एक अदालत ने अपने दोस्त की हत्या के जुर्म में एक अनाम शहजादे को मौत की सजा सुनाई.


डोनाल्ड ट्रंप से ज्यादा हिलेरी क्लिंटन को पसंद करते हैं अधिकतर भारतीय अमेरिकी
19 October 2016
सिलिकॉन वेली के एक थिंक टैंक का कहना है कि आव्रजन, धार्मिक स्वतंत्रता और आउटसोर्सिंग के मुद्दे की बात आने पर अधिकतर भारतीय-अमेरिकी डोनाल्ड ट्रंप की बजाय हिलेरी क्लिंटन को अमेरिका के अगले राष्ट्रपति के तौर पर देखना चाहते हैं. भारतीय-अमेरिकी थिंक टैंक ने अपने हालिया सर्वेक्षण का हवाला देते हुए कहा कि हालांकि जब अमेरिका की भारत-केंद्रित विदेश नीति या आतंकवाद से लड़ने की बात आती है तो ट्रंप को हिलेरी की तुलना में ज्यादा पसंद किया जाता है. अमेरिका के राष्ट्रपति पद के दो उम्मीदवारों को लेकर भारतीय-अमेरिकियों की राय जानने के लिए कराए गए सर्वेक्षण के नतीजे जारी करते हुए फाउंडेशन ऑफ इंडिया एंड इंडियन डायस्पोरा स्टडीज ने कहा कि सर्वेक्षण में जवाब देने वाले अधिकतर लोगों ने आव्रजन (59 से 29 प्रतिशत), धार्मिक स्वतंत्रता (67 से 27 प्रतिशत), आउटसोर्सिंग (52 से 22 प्रतिशत) और विश्वास संबंधी मुद्दों (40 से 17 प्रतिशत) पर ट्रंप की तुलना में हिलेरी को पसंद किया. हालांकि आतंकवाद (48 से 43 प्रतिशत) और भारत को लेकर रणनीतिक गठबंधन (47 से 40 प्रतिशत) के मामले में ट्रंप हिलेरी से थोड़ा आगे हैं.

आईएसआईएस आतंकी मोसुल निवासियों का 'मानव ढाल' के रूप में कर रहे इस्‍तेमाल
19 October 2016
आतंकी संगठन इस्‍लामिक स्‍टेट (आईएसआईएस) के कब्जे वाले मोसुल के सीमावर्ती गांवों में इराकी और कुर्दिश फौजों की बढ़ती ताकत के बीच इस शहर के लोगों का कहना है कि अपनी जान बचाने के लिए आतंकी नागरिकों को 'मानव ढाल' के रूप में इस्‍तेमाल कर रहे हैं. माना जा रहा है कि आईएस के शीर्ष नेता और विस्‍फोटक सामग्री बनाने वाला मुख्‍य एक्‍सपर्ट समेत हजारों आतंकी मोसुल में मौजूद हैं और इस शहर पर गठबंधन सेनाओं के कब्‍जे के लिए किए जाने वाले किसी भी जमीनी हमले के लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं. टेलीफोन पर लोगों ने बताया कि अभी इराकी फौजें शहर से 20-30 किमी दूर हैं और करीब 100 परिवारों ने हमले के लिहाज से सर्वाधिक खतरे वाले दक्षिण और पूर्वी हिस्‍से से हटकर शहर के मध्‍य हिस्‍सों में जाना शुरू कर दिया है. आईएसआईएस के आतंकी लोगों को मोसुल से भागने से रोक रहे हैं और एक शख्‍स ने तो बताया कि आतंकी उन इमारतों में रहने के लिए नागरिकों से कह रहे हैं जिनमें वे खुद अभी तक रह रहे थे..

इंडोनेशिया में शरिया कानून : वह छड़ी से पिटती रही, दर्द से चीखती रही
18 October 2016
कड़े प्रांतीय इस्लामिक कानूनों को तोड़ने की सज़ा के तौर पर इंडोनेशिया के एचे शहर में एक महिला को छड़ी से पीटा गया, और उसे सज़ा पाते देख वहां मौजूद भीड़ उत्साहित होकर चिल्लाती रही. दुनिया में सबसे ज़्यादा मुस्लिम आबादी वाले इंडोनेशिया देश में एचे एकमात्र प्रांत है, जहां इस्लामी शरिया कानून लागू हैं. कई अपराधों - जुआ खेलना, शराब पीना या समलैंगिक संबंध बनाना - के लिए वहां कोड़ों से पीटे जाने की सज़ा सुनाई जाती है. यह महिला 21 से 30 वर्ष की उम्र के उन 13 लोगों (सात पुरुष, छह महिलाएं) में से एक थी, जिन्हें सोमवार को प्रांतीय राजधानी बांदा एचे में एक मस्जिद में छड़ी से पीटकर दंडित किया गया, और भीड़ उन्हें देख-देखकर शोर मचाती रही. छह जोड़ों को आत्मीयता से जुड़े उन इस्लामी कानूनों को तोड़ने का दोषी पाया गया, जिनके तहत अविवाहित व्यक्तियों को एक-दूसरे को छूने, गले लगाने या चूमने की इजाज़त नहीं होती. एक पुरुष को एक कम गंभीर अपराध के लिए छड़ी से पीटा गया, जो किसी महिला के साथ छिपकर इस तरह ऐसी जगह पर वक्त बिताने का दोषी था, जिससे विवाहेतर संबंधों को बढ़ावा मिल सकता है.


चुनाव में गड़बड़ी करना चाहता है अमेरिकी मीडिया : माइक पेंस
18 October 2016
अमेरिकी उप राष्ट्रपति पद के रिपब्लिकन उम्मीदवार माइक पेंस ने आरोप लगाया है कि अमेरिकी मीडिया अपने ‘‘पक्षपातपूर्ण कवरेज’’ से आम चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रहा है और अपने मतदाताओं से कहा कि वे ‘‘मतदाताओं में छलकपट’’ की आशंका से खबरदार रहें. पेंस ने मियामी में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए दावा किया कि मीडिया ‘‘अपने पक्षपातपूर्ण कवरेज से इस चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रहा है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इस देश में कोई वोटर फ्रॉड को बरदाश्त नहीं करेगा. मांग करें कि हमारे सरकारी अधिकारी वोट की ईमानदारी बुलंद करें, लेकिन आप इस प्रक्रिया में सम्मानजनक रूप से शामिल होने और इसके नतीजे सुनिश्चित करने के लिए जो कुछ कर सकते हैं, करें.’’ उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति पद के चुनाव ऐसी चीजों पर होते हैं जो हर अमेरिकी और उनके परिवारों को प्रभावित करते हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा और उनकी पूर्व विदेश मंत्री की विदेश नीति ने दुनिया को असुरक्षित किया है.

पीएम के पाक को 'आतंकवाद की जननी' करार देने वाले बयान पर टिप्पणी से अमेरिका का इंकार
18 October 2016
भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा हाल ही में गोवा में संपन्न हुए ब्रिक्स देशों के शिखर सम्मेलन के दौरान पाकिस्तान को 'आतंकवाद की जननी' (मदरशिप ऑफ टेरर) करार देने पर अमेरिका ने टिप्पणी करने से बचते हुए कहा है कि दोनों देशों को अपने मतभेदों को शांति से सुलझाना चाहिए. ब्राज़ील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका की सदस्यता वाले ब्रिक्स शिखर सम्मेलन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की इस टिप्पणी के बाद चीन ने भी सोमवार को अपने पुराने सहयोगी पाकिस्तान का बचाव किया था. व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव जॉश अर्नेस्ट पत्रकारों से बातचीत के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टिप्पणी पर जवाब मांगे जाने पर कहा, "मुझे अभी इस टिप्पणी के बारे में बताया नहीं गया है... वैसे मैं इतना ही कह सकता हूं कि हमने भारत और पाकिस्तान को इस बात के लिए प्रोत्साहित किया है कि वे विभिन्न मुद्दों पर अपने बीच लंबे समय से मौजूद मतभेदों को शांतिपूर्वक हल करने का रास्ता तलाश करें..." चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की टिप्पणी पर जवाब मांगे जाने पर सोमवार को कहा था, "हम भी आतंकवाद को किसी देश, नस्ल या धर्म से जोड़े जाने का विरोध करते हैं..."

सीरिया में विद्रोहियों के कब्जे वाले इलाकों में हवाई हमले, 31 लोग मरे
17 October 2016
सीरिया के अलेप्पो में विद्रोहियों के कब्जे वाले जिलों में किए गए हवाई हमलों में 31 लोगों की मौत हो गई. सीरियन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट्स के अनुसार, हवाई हमले रविवार को कतरजी, सुक्कारी और बाब अल-नसर सहित अन्य इलाके किए गए. विद्रोहियों के कब्जे वाले इन इलाकों में कुल चार हवाई हमले किए गए. ब्रिटेन स्थित निगरानी संस्था ने बताया कि इस हमले के बाद करीब 10 परिवार मलबे के नीचे दब गए हैं, जिससे मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है. संस्था ने हवाई हमलों और गोलाबारी के लिए सीरिया सरकार के सैनिकों को जिम्मेदार ठहराया है. निगरानी संस्था के मुताबिक, सरकारी बलों ने खान तुमान क्षेत्र में विद्रोहियों के कब्जे से जगह खाली कराने में प्रगति हासिल की है. इस इलाके में विद्रोहियों के साथ उनका संघर्ष जारी है. अंतरराष्ट्रीय मंच पर अमेरिका और उसके सहयोगी अलेप्पो की स्थिति को लेकर सीरिया तथा रूस पर प्रतिबंध लगाने पर विचार कर रहे हैं. अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने रविवार को लंदन में ब्रिटेन, फ्रांस, जर्मनी के मंत्रियों के साथ बैठक के दौरान कहा, हम कूटनीतिक प्रयास कर रहे हैं.


40 दिन तक भूखी रहीं, मरते-मरते बचीं : बोको हराम के कब्जे से निकली लड़कियों ने बयां किया दर्द
17 October 2016
नाइजीरिया के बोको हराम ने दो साल से भी अधिक समय पहले चिबोक के एक स्कूल से जिन 200 से अधिक छात्राओं का अपहरण किया था, उनमें से कुछ मुक्त होने के बाद अपने परिवारों के पास पहुंचीं और अपनी पीड़ा के बारे में बताया. राजधानी अबुजा में अपने स्वागत के लिए इसाई समुदाय द्वारा आयोजित समारोह में इन छात्राओं ने बताया कि उन्हें 40 दिनों तक खाना नहीं मिला. ज्यादातर छात्राएं ईसाई हैं, लेकिन अपहरण के बाद बोको हराम ने इनका धर्म परिवर्तन करके इन्हें मुस्लिम धर्म अपनाने के लिए बाध्य कर दिया. एक छात्रा ग्लोरिया दामे ने बताया कि 40 दिन तक भूखे रहने के अलावा एक बार तो वह मरते-मरते भी बची. ‘‘मैं लकड़ियों के ढांचे में थी और बिल्कुल पास में विमान से बम गिराया गया, लेकिन मैं बाल-बाल बच गई. उसने स्थानीय हाउसा

मोसुल में जारी मिशन आईएस विरोधी अभियान में ‘निर्णायक पल’ : अमेरिका
17 October 2016
अमेरिकी विदेश मंत्री एश्टन कार्टर ने कहा है कि इराकी शहर मोसुल को आतंकी समूह इस्लामिक स्टेट के कब्जे से वापस लेने के लिए चलाया जा रहा अभियान इस जिहादी समूह को हराने की दिशा में अहम कदम हैं. कार्टर ने इराक के लिए समर्थन जारी रखने का वादा करते हुए एक बयान में कहा ‘‘आईएसआईएल को परास्त करने के लिए यह एक निर्णायक पल है.’’ उन्होंने कहा ‘‘हमें पूरा विश्वास है कि हमारे इराकी भागीदार मोसुल और शेष इराक को आईएसआईएल के क्रूर शिकंजे से मुक्त कराने में एवं हमारे साझा शत्रु के खिलाफ अवश्य जीतेंगे.’ कार्टर ने जोर देते हुए कहा ‘‘इस कठिन लड़ाई में अमेरिका और शेष अंतरराष्ट्रीय गठबंधन इराकी सुरक्षा बलों, पेशमेरगा लड़ाकों और इराक की जनता के साथ खड़े हैं.’’ इराक के उत्तरी शहर मोसुल में जून में आईएस प्रमुख अबु बकर अल बगदादी ने खलीफा शासन लगाने का ऐलान किया था तथा इराक और सीरिया के बड़े हिस्से पर आईएस ने कब्जा कर लिया था. तब से ईरान और अमेरिका नीत गठबंधन के सहयोग से इराकी बलों ने आईएस के कब्जे से काफी हिस्से को मुक्त कराते हुए अपना नियंत्रण स्थापित कर लिया है. मोसुल इराक में इस चरमपंथी समूह का अंतिम बड़ा गढ़ है.

कनेक्टिकट में 'जानबूझकर' किया गया था प्लेन क्रैश, अब जांच कर रही है एफबीआई
13 October 2016
अमेरिकी राज्य कनेक्टिकट में 'जानबूझकर' किए गए उस प्लेन क्रैश की जांच फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेशन (एफबीआई) कर रही है, जिसमें जोर्डन के एक छात्र की मौत हो गई थी, और अमेरिकी फ्लाइट प्रशिक्षक ज़ख्मी हो गया था. यह जानकारी अधिकारियों तथा अमेरिकी मीडिया ने बुधवार को दी. मंगलवार को न्यूयार्क से लगभग 120 मील (192 किलोमीटर) उत्तर-पूर्व में स्थित ईस्ट हार्टफोर्ड में यह प्लेन क्रैश होकर आग के गोले में तब्दील हो गया था. 'न्यूयार्क टाइम्स' के अनुसार, क्रैश में बचे फ्लाइट प्रशिक्षक ने जांचकर्ताओं को बताया है कि यह हादसा नहीं था. मारे गए व्यक्ति की पहचान ट्रेनी पायलट 28-वर्षीय फेरास फ्रेतेक के रूप में हुई है, जो समाचारपत्र के अनुसार जोर्डन का नागरिक था. समाचारपत्र के मुताबि, उसे पिछले ही साल निजी पायलट के रूप में सर्टिफिकेट जारी किया गया था, और वह एक इंजन वाले विमान को उड़ाने के लिए अधिकृत था.


हांगकांग के विद्रोही सांसदों ने महात्मा गांधी को याद करते हुए दे डाली चीन को चुनौती
13 October 2016
हांगकांग के विद्रोही सांसदों ने बुधवार को लेजिस्लेटिव काउंसिल की हंगामेदार पहली बैठक में शपथग्रहण के समय 'निरंकुशता' के खिलाफ आवाज़ उठाते हुए नारे लगाए, जिससे चीन से अलग होने की मांग को और बल मिला. नगर में पिछले महीने आयोजित चुनाव में कई ऐसे सांसद जीतकर पहुंचे हैं, जो हांगकांग को अधिक स्वायत्तता या आज़ादी दिए जाने की मांग कर रहे हैं. दरअसल, वर्ष 1997 में ब्रिटेन द्वारा हांगकांग शहर चीन को लौटाए जाने के वक्त हुई 'एक देश, दो व्यवस्था' डील के तहत शहर को अर्द्ध-स्वायत्त दर्जा हासिल है. इसके ज़रिये 50 साल तक हांगकांग की आज़ादी सुरक्षित है, लेकिन चीन के पकड़ मजबूत करते चले जाने की वजह से इस आज़ादी के खो जाने को लेकर चिंता बढ़ती जा रही है. आधिकारिक रूप से लेजिस्लेटिव काउंसिल सदस्य घोषित किए जाने से पहले सांसदों को शपथ ग्रहण करनी होती है, जिसमें कहना पड़ता है कि हांगकांग राज्य चीन का 'विशेष प्रशासनिक क्षेत्र' है. सरकार ने पहले ही सांसदों को चेतावनी दी थी कि यदि शपथ ग्रहण उचित तरीके से नहीं किया गया, तो उनकी सदस्यता रद्द कर दी जाएगी.

डोनाल्‍ड ट्रंप अगर चुने गए तो 'खतरनाक' साबित होंगे : संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख
13 October 2016
संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार प्रमुख ने आज चेतावनी दी कि डोनाल्ड ट्रंप के बयान यह दिखाते हैं कि यदि वह अमेरिकी राष्ट्रपति पद का चुनाव जीत जाते हैं तो 'खतरनाक' हस्ती के रूप में उभरेंगे. जिनीवा में एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान संयुक्त राष्ट्र में मानवाधिकार उच्चायुक्त जैद राद अल हुसैन ने कहा कि 'किसी राजनीतिक चुनाव में हस्तक्षेप करने में उनकी कोई दिलचस्पी या मंशा नहीं है'. उन्होंने कहा, 'लेकिन अमेरिकी राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार की 'परेशान' और 'चिंतित' करने वाली टिप्पणियों के बाद चेतावनी देना उचित ही है'. जैद ने कहा, 'डोनाल्ड ट्रंप ने अभी तक जो कुछ भी कहा है, और यदि उनमे बदलाव नहीं होता है, तो ऐसे वह चुने जाने पर अंतरराष्ट्रीय दृष्टिकोण से खतरनाक साबित होंगे'. वह पूछताछ करने की उन तरीकों को वापस लाने संबंधी ट्रंप के बयानों का हवाला दे रहे थे, जिन्हें कानून विशेषज्ञ प्रताड़ना की श्रेणी में रखते हैं.

मोसूल को लेकर इराक-तुर्की के बीच तनाव कम करने की कोशिश कर रहा अमेरिका
12 October 2016
मोसूल के बाहर तुर्की सेना की तैनाती को लेकर एक दूसरे को नीचा दिखाने की कोशिश कर रहे तुर्की और इराक के बीच तनाव कम करने की कोशिश में अमेरिका ने अपने दोनों सहयोगियों से अनुरोध किया है कि शहर में कोई भी बड़ी अप्रिय घटना हो उससे पहले वे अपने मनमुटाव को दूर कर लें. इस्लामिक स्टेट समूह के कब्जे से मोसूल को आजाद करवाने के लिए इराक लड़ाई की तैयारी कर रहा है. इस लड़ाई में अमेरिका और अंतरराष्ट्रीय साझेदार उसे सहयोग दे रहे हैं. हालांकि कई बार इराक और अंतरराष्ट्रीय साझेदारों के बीच संबंध कटु हो जाते हैं. लड़ाई की तैयारी पर तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन और इराकी प्रधानमंत्री हैदर अल अब्दी के बीच का तनाव भारी पड़ रहा है. अब्दी चाहते हैं कि तुर्की उत्तरी शहर के इलाके में तैनात अपने जवानों को हटा ले. यह इलाका केवल नाम के लिए इराक का है लेकिन इस पर नियंत्रण कुर्द बलों का है. एर्दोगन बलों को हटाने से इनकार कर रहे हैं. उनका कहना है कि शहर को जिहादियों से मुक्त करवाने में तुर्की की भी भूमिका है. दोनों देशों के प्रमुखों के बीच तनाव बढ़ने के बाद से दोनों एक दूसरे को अपमानित करने पर उतर आए हैं.


हिलेरी ने अमेरिका से कहा - जलवायु परिवर्तन को खारिज करने वाले को न भेजें व्हाइट हाउस
12 October 2016
जलवायु परिवर्तन को एक छलावा बताने वाले अपने प्रतिद्वंद्वी डोनाल्ड ट्रंप को चुनौती देते हुए डेमोक्रेटिक उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ने अमेरिकी जनता से अपील की है कि वे एक ऐसे व्यक्ति को व्हाइट हाउस भेजने का जोखिम न लें, जो ‘जलवायु को नजरअंदाज’ करता है. हिलेरी ने कल फ्लोरिडा के मियामी में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘हम एक ऐसे व्यक्ति को व्हाइट हाउस भेजने का जोखिम नहीं उठा सकते, जो जलवायु को नजरअंदाज करता है. हमें एक ऐसा राष्ट्रपति चाहिए, जो विज्ञान में यकीन रखता है और जिसके पास इस खतरे का सामना करते हुए अमेरिका का नेतृत्व करने की, अच्छे रोजगार पैदा करने की और हां, हमारे ग्रह को बचाने की योजना है.’’ हिलेरी ने कहा कि अमेरिका, जर्मनी और चीन ऐसे तीन देश हैं, जो 21वीं सदी में स्वच्छ ऊर्जा महाशक्ति बन सकते हैं. इस संदर्भ में उन्होंने कहा, ‘‘21वीं सदी में जर्मनी, चीन या अमेरिका स्वच्छ ऊर्जा महाशक्ति बन सकते हैं और मैं चाहती हूं कि यह हम बनें. मैं चाहती हूं कि आप ऐसा करने में योगदान करें.’’ हिलेरी ने कहा कि अमेरिका को स्वच्छ ऊर्जा आधारित अर्थव्यवस्था की ओर तेजी से कदम बढ़ाने होंगे, ज्यादा वेतन वाले रोजगार पैदा करने होंगे, ज्यादा सौर पैनल एवं पवन ऊर्जा से संचालित टरबाइन बनाने और लगाने होंगे.

हवाई अड्डा पर दो विमान के डैने टकराए, किसी के हताहत होने की खबर नहीं
12 October 2016
अमेरिका के न्यूजर्सी के नेवार्क लिबर्टी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर दो विमान के डैने एक-दूसरे से टकरा गए. मंगलवार को की इस घटना में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है. दोनों ही विमान को मामूली नुकसान पहुंची है. हवाई अड्डे का संचालन करने वाली कंपनी ‘न्यूयॉर्क एवं न्यूजर्सी का पोर्ट प्राधिकरण’ इसकी जांच कर रही है. उसका कहना है कि यूनाइटेड एयरलाइन्स का विमान बीजिंग से जब इस हवाई अड्डे पहुंचा तब वहां पहले से ही खाली खड़े लुफ्थांसा विमान से टकरा गया. इस घटना की जांच की जा रही है. हवाई अड्डे के अधिकारियों ने कहा कि यह घटना किसी विमान के देर होने की वजह से नहीं हुई है.

पुर्तगाल के एंटोनियो गुटेरेस संयुक्‍त राष्‍ट्र के नए सेक्रेट्री जनरल बनने की राह पर
6 October 2016
पुर्तगाल के पूर्व प्रधानमंत्री एंटोनियो गुटेरेस के संयुक्‍त राष्‍ट्र के नए सेक्रेट्री-जनरल बनने की राह आसान हो गई है. कूटनयिकों के मुताबिक बुधवार को छठे गुप्‍त मतदान के दौरान संयुक्‍त राष्‍ट्र के वीटो पॉवर वाले सुरक्षा परिषद के पांचों सदस्‍यों में से किसी ने भी उनके खिलाफ मतदान नहीं किया. 15 सदस्‍यीय सुरक्षा परिषद के सभी 10 प्रत्‍याशियों ने 'प्रोत्‍साहित करने', 'हतोत्‍साहित करने' और 'कोई विचार नहीं' विकल्‍पों के आधार पर अपना गुप्‍त मतदान किया. गुटेरेस को 13 मत 'प्रोत्‍साहित करने वाले' और दो मत 'कोई विचार नहीं' विकल्‍प पर मिले. इसकी घोषणा करते हुए रूस के संयुक्‍त राष्‍ट्र में एंबेसडर विटाली चरकिन ने कहा, ''आज छठे मतदान के बाद हमारी स्‍पष्‍ट पसंद सामने आई और उनका नाम एंटोनियो गुटेरेस है.'' जब उन्‍होंने यह बयान दिया तब उनके साथ परिषद के 14 सदस्‍य खड़े थे.


पेरिस जलवायु समझौता 30 दिन में लागू हो जाएगा : संयुक्त राष्ट्र
6 October 2016
वैश्विक ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन का 56 फीसदी से अधिक उत्सर्जन करने वाले 72 देशों द्वारा मंजूरी दिए जाने के बाद ऐतिहासिक पेरिस जलवायु समझौता 30 दिन में लागू हो जाएगा. संयुक्त राष्ट्र के जलवायु संबंधी निकाय 'यूएनएफसीसी' ने बुधवार को अपनी वेबसाईट पर ऐलान किया 'पांच अक्टूबर 2016 को पेरिस समझौते के कार्यान्वयन के लिए प्रवेश की राह प्रशस्त हो गई.' दुनिया के 195 देशों ने दिसंबर में इस समझौते पर फ्रांस की राजधानी के बाहर हस्ताक्षर किए थे. दुनिया की पहली सार्वभौमिक जलवायु संधि में, बढ़ते तापमान को दो डिग्री तक सीमित रखने की बात शामिल है. इस समझौते के लागू होने के लिए, ग्रीनहाउस गैसों के 55 फीसदी हिस्से का उत्सर्जन करने वाले कम से कम 55 देशों की अनुमति की आवश्यकता है. फ्रांसीसी पर्यावरण मंत्री सेगोलीन रायल ने बताया, 'यूरोपीय संघ और यूरोपीय देशों ने राष्ट्रीय स्तर पर समझौते को पहले ही मंजूरी दे दी है और इससे संबंधित दस्तावेज वह संयुक्त राष्ट्र को दे चुके हैं.' इस कदम की व्यापक सराहना हुई है.

व्हाइट हाउस ने इस्राइल पर लगाया विश्वासघात करने का आरोप
6 October 2016
व्हाइट हाउस ने पश्चिमी तट पर इस्राइल द्वारा सैकड़ों नए घर बनाने की योजनाओं का कड़ा विरोध करते हुए बुधवार को इस्राइल पर विश्वासघात का आरोप लगाया. हालांकि कुछ ही दिन पहले अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने इस्राइल को 38 अरब अमेरिकी डॉलर के सैन्य सहायता पैकेज को मंजूरी दी थी, और वह येरूशलम में इस्राइल के पूर्व राष्ट्रपति शिमोन पेरेज़ के अंतिम संस्कार में भी शामिल हुए थे, लेकिन अब व्हाइट हाउस ने उस ज़मीन पर 300 घरों के निर्माण पर आपत्ति जताई, जो 'इस्राइल की तुलना में जोर्डन के ज़्यादा करीब है...' अमेरिका ने चेताया है कि इस फैसले से मध्यपूर्व में शांति लाने की पहले से मुश्किल संभावना कतई खटाई में पड़ जाएगी, और इससे इस्राइल की खुद की सुरक्षा भी खतरे में आ जाएगी. प्रेस सेक्रेटरी जॉश अर्नेस्ट ने इसके अलावा यह भी कहा कि इस कदम से इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू का वादा सवालों के घेरे में आ गया है. उन्होंने कहा, "हमें इस्राइली सरकार ने सार्वजनिक रूप से जो आश्वासन दिए थे, यह घोषणा उनसे बिल्कुल उलट है..."

डोनाल्ड ट्रंप के 'जीतने' से पहले अमेरिका से रक्षा सौदे को निपटाना चाहता है
5 October 2016
भारत कोशिश कर रहा है कि सैन्य निगरानी के लिए अमेरिका से प्रीडेटर ड्रोन विमान खरीदने का सौदा अमेरिका के राष्ट्रपति बराक ओबामा का कार्यकाल खत्म होने से पहले जल्दी ही पूरा हो जाए. यह जानकारी समाचार एजेंसी रॉयटर ने दिल्ली में बैठे अनाम सरकारी सूत्रों के हवाले से दी है. रॉयटर का दावा है कि जून में भारत की ओर से 22 प्रीडेटर गार्जियन ड्रोन विमान खरीदने के लिए किए गए सौदे पर बातचीत अंतिम चरण में है. नाम नहीं छापने की शर्त पर एक अधिकारी ने रॉयटर को बताया, "यह बढ़िया चल रहा है... मकसद यह है कि मुख्य प्रक्रिया को अगले कुछ महीनों में खत्म कर लिया जाए..." हाल के वर्षों में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ काफी करीबी व्यक्तिगत संबंध स्थापित कर लिए हैं, और इस बीच अमेरिका भी भारत को हथियारों की आपूर्ति के मामले में रूस से आगे निकल चुका है. अमेरिकन फॉरेन पॉलिसी काउंसिल में एशिया सिक्योरिटी प्रोग्राम्स के निदेशक जेफ स्मिथ ने कहा, "सरकार जितना हो सके, ज़्यादा से ज़्यादा काम जल्दी से जल्दी खत्म करने के लिए उत्सुक है... सरकार का मानना है कि दोनों देशों की राजधानियों में हालात भी, और अधिकारी भी यही चाहते हैं, और चाहते हैं कि इस प्रगति को मजबूत कर लिया जाए..." अमेरिका में रिपब्लिकन पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद के प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप की 'अमेरिका फर्स्ट' पर आधारित विदेश नीति से जुड़े बयानों के मद्देनज़र भारत तथा अन्य एशियाई देशों में अटकलों का बाज़ार गर्म है कि ट्रंप के जीतने की स्थिति में एशिया में अमेरिका की उपस्थिति कम की जा सकती है. ट्रंप ने कहा है कि अमेरिका के सहयोगी देश जापान और दक्षिण कोरिया को अपनी रक्षा के लिए ज़्यादा रकम खर्च करनी चाहिए. उन्होंने मार्च महीने में 'न्यूयार्क टाइम्स' को दिए एक साक्षात्कार में कहा था कि वह जापान में बने बेसों से अमेरिकी फौज को वापस बुला सकते हैं, और उन्होंने इस विचार को भी हवा दी थी कि वह जापान और दक्षिण कोरिया को खुद का परमाणु शस्त्रागार विकसित करने दे सकते हैं. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चुनाव प्रचार अभियान के दौरान संचार निदेशक की हैसियत में काम कर चुके लंदन में बसे राजनैतिक रणनीतिकार मनोज लाडवा का कहना है कि ट्रंप ने भारत को विरोधाभासी संदेश भेजे हैं. उन्होंने बताया, "एक तरफ ट्रंप का कहना है कि वह भारत के साथ व्यापारिक संबंधों को महत्व देते हैं, लेकिन साथ ही भारतीय कॉल सेंटर में काम करने वालों का मज़ाक भी उड़ाते हैं, और उस प्रतियोगी माहौल की अनदेखी करते हैं, जो भारत के साथ सहयोग करने पर अमेरिका को हासिल हो सकता है... इसलिए उनके विचारों का स्पष्ट नहीं होना ऐसी दुनिया में चिंताजनक है, जहां मजबूत और परिपक्व राजनय की ज़रूरत है..." वैसे, सैन्य सहयोग के मामले में भारत के लिए अमेरिका की वह मदद सबसे ज़्यादा महत्वपूर्ण है, जो अमेरिका उसे अपना सबसे बड़ा विमानवाहक पोत बनाने में दे रहा है. अमेरिका ने वह फ्लाइट लॉन्च तकनीक भारत को दी है, जो वह खुद अपने विमानवाहक पोतों में लगा रहा है, ताकि ज़्यादा बड़े लड़ाकू विमान भी पोत से ही उड़ान भर सकें. इससे भारतीय नौसेना को तकनीक की दुनिया में आगे बढ़ने में काफी मदद मिलेगी. जून माह में अमेरिका के साथ भारत का समझौता हो गया था, जिसके तहत विमानवाहक पोत बनाने से जुड़ी गोपनीय जानकारी का आदान-प्रदान किया जाना है. गौरतलब है कि परमाणु संधि पर दस्तखत नहीं करने


चीन में मेगी तूफान के कारण आए भूस्खलन में 10 की मौत
5 October 2016
पूर्वी चीन में झेजियांग प्रांत के एक गांव में एक सप्ताह पूर्व हुए भूस्खलन के कारण कम से कम 10 लोगों की मौत हो गई है. यह भूस्खलन मेगी तूफान के कारण आया था. इस तूफान के कारण 3.15 लाख को स्थानांतरित करके सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है. प्रांतीय सरकार ने बताया कि 17 लोग अब भी लापता हैं. तलाशी और बचाव अभियान का कल सातवां दिन था. बचावकर्ता अब भी लापता लोगों की तलाश कर रहे हैं. मेगी तूफान के कारण बारिश के साथ आंधी आने से करीब 4,00,000 घन मीटर मलबा नजदीकी पहाड़ियों से नीचे गिरा था. इसके कारण गत बुधवार को सुइचांग काउंटी के सुकुन गांव में 20 मकान तबाह हो गए थे.

फिलीपींस ने दी अमेरिका से रिश्ते खत्म करने की धमकी, कहा- रूस, चीन से दोस्ती बढ़ाएंगे
5 October 2016
फिलीपींस के राष्ट्रपति रॉड्रिगो दुतेर्ते ने कहा कि वह अमेरिका के साथ संबंध समाप्त कर देंगे. दुर्तेते ने मनीला में कहा, 'मैं अपनी विदेश नीति में बदलाव करूंगा. हम सही समय पर अमेरिका के साथ संबंध समाप्त कर देंगे और इसके बजाए रूस या चीन के साथ संबंधों को आगे बढ़ाएंगे.' दुतेर्ते का कहना है कि वह अमेरिका के साथ अपनी मौजूदा सुरक्षा व्यवस्थाओं की समीक्षा करेंगे. गौरतलब है कि अमेरिका और फिलीपींस नौसैनिकों और नाविकों ने इस साल मंगलवार को संयुक्त सैन्याभ्यास शुरू किया था. दुतेर्ते का कहना है कि यह सैन्याभ्यास 12 अक्टूबर को समाप्त हो रहा है.

ISIS प्रमुख अबु बकर अल-बगदादी को खाने में दिया गया जहर, हालत गंभीर
4 October 2016
आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) प्रमुख अबु बकर अल-बगदादी के खाने में कथित तौर पर जहर मिला दिया गया. इसके बाद से उसकी हालत गंभीर है. 'डेली मेल' की सोमवार की एक रिपोर्ट के मुताबिक, निनेवेह के बेआज जिले में बगदादी तथा आईएस के तीन अन्य कमांडरों के लिए बने भोजन में कथित तौर पर जहर मिला दिया गया था. 'डेली मेल' ने इराक की एक समाचार एजेंसी के हवाले से कहा, 'बगदादी सहित चार आतंकवादी गंभीर रूप से जहर के असर में हैं और उन्हें किसी अज्ञात जगह पर भेजा गया है'. कहा जा रहा है कि आईएस ने खाने में जहर मिलाने वाले को पकड़ने के लिए एक अभियान की शुरुआत की है. तीन अन्य कमांडरों की पहचान का पता नहीं चल पाया है. बगदादी को आतंकी संगठन अल-कायदा को तोड़कर आईएस के रूप में स्वतंत्र संगठन बनाने का जिम्मेदार माना जाता है, जो दुनिया का सबसे कुख्यात व धनी जेहादी संगठन है.


जापान के योशिनोरी ओसुमी को 'ऑटोफैगी' चिकित्सा में रिसर्च के लिए मिला नोबेल पुरस्कार
4 October 2016
नोबेल पुरस्कारों को देने वाली संस्था ने सोमवार को चिकित्सा के क्षेत्र में योगदान के लिए जापान के योशिनोरी ओसुमी को नोबेल देने की घोषणा की है. ओसुमी सेल बायोलॉजिस्ट हैं. योशिनोरी ओसुमी को ऑटोफैगी के क्षेत्र में रिसर्च के लिए यह नोबेल दिया गया है. ऑटोफैगी एक ऐसी प्रक्रिया है, जिसमें कोशिकाएं ‘‘खुद को खा जाती हैं’’ और उन्हें बाधित करने पर पार्किनसन और मधुमेह जैसी बीमारियां हो सकती हैं. ऑटोफैगी कोशिका शरीर विज्ञान की एक मौलिक प्रक्रिया है जिसका मानव स्वास्थ्य एवं बीमारियों के लिए बड़ा निहितार्थ है. अनुसंधानकर्ताओं ने सबसे पहले 1960 के दशक में पता लगाया था कि कोशिकाएं अपनी सामग्रियों को झिल्लियों में लपेटकर और लाइसोजोम नाम के एक पुनर्चक्रण कंपार्टमेंट में भेजकर नष्ट कर सकती हैं.

सर्जिकल स्ट्राइक : भारत के समर्थन में रूस ने कहा- हर देश को अपनी सुरक्षा का अधिकार
4 October 2016
रूस ने पाक अधिकृत कश्मीर (POK) में आतंकियों के लॉन्च पैड्स पर भारत की ओर से की गई सर्जिकल स्ट्राइक्स का समर्थन किया है. रूस का कहना है कि हर देश को अपनी सुरक्षा करने का अधिकार है. रूस ने पाकिस्तान से सीमा पार से आतंकवाद रोकने को भी कहा है. भारत में रूस के राजदूत एलेक्जेंडर एम कदाकिन ने कहा कि सिर्फ उनका ही देश था जिसने सीधे शब्दों में कहा था कि आतंकवादी पाकिस्तान से आए थे. सीमापार के आतंकवाद से निपटने में उनका देश हमेशा से भारत के साथ रहा है. उन्होंने कहा कि जब भी आतंकवादी भारत के निर्दोष नागरिकों या सैन्य ठिकानों को निशाना बनाते हैं तो ये मानवाधिकारों का सर्वाधिक उल्लंघन होता है. एलेक्जेंडर ने भारत को आश्वस्त करते हुए कहा कि रूस और पाकिस्तान के संयुक्त सैन्य अभ्यास से भारत को चिंतित होने की जरूरत नहीं है. यह अभ्यास भारतीय राज्य जम्मू-कश्मीर के पाकिस्तानी कब्जे वाले इलाके में नहीं किया गया है.

इथोपिया में सरकार विरोधी प्रदर्शन में मची भगदड़, 52 लोगों की कुचलकर मौत
3 October 2016
थोपिया के ओरोमिया क्षेत्र में रविवार को सरकार विरोधी प्रदर्शन कर रहे लोगों पर पुलिस के आंसू गैस के गोले और रबड़ की गोलियां दागीं. इससे वहां भगदड़ मच गई और कम से कम 52 लोगों की कुचलकर मौत हो गई. ओरोमिया के क्षेत्रीय प्रशासन ने 52 लोगों की मौत की पुष्टि की है. प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार बिशोफ्तू में वार्षिक इर्चा धन्यवाद उत्सव में करीब 20 लाख लोग पहुंचे थे. लोग सरकार के खिलाफ नारे लगा रहे थे. नारेबाजी कर रही भीड़ मंच की ओर बढ़ी, जहां धार्मिक नेता संबोधित कर रहे थे. कुछ लोगों ने पत्थर और प्लास्टिक फेंके. पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे और रबड़ की गोलियां चलायीं. लोगों ने भागने की भी कोशिश की.


चीन ने सीमा शुल्क अधिकारियों के तौर पर रोबोट्स तैनात किए, संदिग्‍ध लोगों का पता लगाने में सक्षम
3 October 2016
चीन ने दक्षिण गुआंतोंग प्रांत में तीन बंदरगाहों पर सीमाशुल्क अधिकारियों के तौर पर 10 बुद्धिमान रोबोट्स तैनात किए हैं, जो संदिग्ध लोगों का पता लगा सकते हैं और इसकी सूचना दे सकते हैं. इससे पहले इनका इस्तेमाल एक हवाई अड्डे पर सुरक्षा के लिए किया गया था. बुद्धिमान रोबोट्स की पहली खेप के ये रोबोट्स है, जिनका इस्तेमाल चीनी सीमाशुल्क विभाग द्वारा गोन्गबेई, झुहाई शहर में हेंगकिन और झोंगशान की बंदरशाहों पर किया जा रहा है. सरकारी शिन्हुआ समाचार एजेंसी ने खबर दी है कि शिआओ नाम के रोबोट्स में आधुनिक अवधारणा प्रौद्योगिकी है और सुनने, बोलने में, सीखने, देखने तथा चलने में सक्षम हैं. विशेष सुरक्षा डेटाबेस के आधार पर ये रोबोट्स कैटोनीज़, मंदारिन, अंग्रेजी और जापानी सहित 28 भाषाओं और बोलियों में सवालों के जवाब दे सकते हैं. ’

मुस्लिम धर्मगुरुओं ने साथ बैठने से इनकार किया तो US एयरलाइन ने बदल दी महिला की सीट
3 October 2016
अमेरिका की यूनाइटेड एयरलाइन के विमान में सवार एक महिला ने भेदभाव की शिकायत की है. महिला का आरोप है कि उसकी पहले से बुक सीट को दो "मुस्लिम धर्मगुरूओं" के लिए बदल दिया गया क्योंकि वे किसी महिला के पास नहीं बैठना चाहते थे. मैरी कैंपोस कैलिफोर्निया से ह्यूस्टन जाने वाले विमान में सवार थीं. उन्होंने बताया कि एयरलाइन ने उनकी सीट इसलिए बदली क्योंकि "वह महिला हैं और दो पुरूष एक महिला के नजदीक नहीं बैठना चाहते थे." सीबीसी लोकल की रिपोर्ट के मुताबिक मैरी को नया बोर्डिंग पास देते वक्त इसकी वजह यह बताई गई कि दो यात्री अपनी "धार्मिक मान्यताओं" के चलते किसी महिला के पास नहीं बैठ सकते हैं और न ही वे किसी महिला से बात कर सकते हैं. मैरी को बताया गया कि लंबे नारंगी रंग के शर्ट पहने पुरूष पाकिस्तानी धर्मगुरू हैं. मैरी के मुताबिक महिला कर्मचारियों द्वारा उन दो पुरूषों को भोजन भी नहीं परोसने दिया गया. उन्होंने कहा, "किसी दूसरे देश की मान्यताओं के आधार पर यहां की आधी आबादी के साथ भेदभाव नहीं किया जा सकता." रिपोर्ट ने मैरी के हवाले से कहा है, "मेरा मानना है कि हम ऐसी संस्कृति में रहते हैं जहां महिलाओं को पुरूषों के बराबर माना जाता है." इसमें कहा गया है कि इस घटना से मैरी स्तब्ध थीं लेकिन नई सीट लेने के अलावा और कोई विकल्प भी नहीं था.

संपादकीय

मध्यप्रदेश जनसंपर्क करे संपूर्ण पारदर्शिता की पहल
उम्मीद की किरण की तरह है चौटाला पिता पुत्र को मिली सज़ा
मध्य प्रदेश में भी सुरक्षित नहीं महिलाएं
देवी को पूजने वाले देश में औरतों की आबरू सुरक्षित नहीं
अभी से करनी होगी पानी की चिंता
मोदी का कद बढ़ने से भाजपा मे घमासान
कॉमन एंट्रेंस टेस्ट के फ़ैसले ने खड़े किए कई सवाल