लाइफस्टाइल | बिजनेस | राजनीति | कैरियर व सफलता | छत्तीसगढ़ पर्यटन | स्पोर्ट्स मिरर | नियुक्तियां | वर्गीकृत | येलो पेजेस | परिणय | शापिंगप्लस | टेंडर्स निविदा | Plan Your Day Calendar



:: राजनीति ::

 


रमन सिंह
swine flu
रमन सिंह (जन्म: १५ अक्टूबर, १९५२, कवर्धा) एक भारतीय राजनेता है और छत्तीसगढ के वर्तमान मुख्यमंत्री हैं। रमन सिंह १९९० और १९९३ में मध्यप्रदेश विधानसभा के सदस्य रहे। उसके बाद सन् १९९९ में वे लोकसभा के सदस्य चुने गये। १९९९ और २००३ में उन्होंने भारत सरकार में राज्य मंत्री का भी पद संभाला। २००४ में हुये विधानसभा के चुनावों में उन्होंने सफलता पाई और छत्तीसगढ़ राज्य के मुख्यमंत्री बने।
२००८ के विधानसभा चुनावों में उन्होंने फिर से सफलता पायी और राज्य के पुनः मुख्यमंत्री बने।


कांग्रेस ने 60 साल में केवल नारे लगाए, मैं पूरी योजना बताऊंगा तो सुबह से शाम हो जाएगी- डॉ. रमन
30 May 2018
रायपुर।विकास यात्रा के पहले चरण में सीएम डॉ. रमन सिंह बुधवार को बालौदाबाजार के कसडोल विधान सभा के लवन में पहुंचे। यहां आम सभा में लोगों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने 60 सालों में केवल विकास और गरीबी हटाओ के नारे लगाए पर एक रुपए का भी विकास कार्य नहीं किया। जहां तक बीजेपी का सवाल है तो योजनाओं को गिनाने लगूं तो सुबह से शाम हो जाएगी। सीएम ने इस मौके पर बालौदा बाजार के लोगों को सूखा राहत, धान बोनस समेत करोड़ों के भूमि पूजन और लोकार्पण की सौगात दी। सीएम ने बुधवार को सुबह 11 बजे पुलिस ग्राउंड रायपुर से लवन के लिए प्रस्थान किया। वे 11:30 बजे लवन पहुंचे। यहां दोपहर 1 बजे तक आमसभा को संबोधित किया। सीएम ने कहा कि जब 2012 में बालौदा बाजार को जिला बनाया गया तो यहां कुछ नहीं था। आज यहां की तस्वीर बदल चुकी है। उन्होंने सूखा राहत के तहत किसानों को 131 करोड़ की राशि दी। इसमें 38 करोड़ की राशि कसडोल विधान सभा के किसानों के खाते में गई। - 105 करोड़ का धान बोनस देने का ऐलान किया। सीएम ने कहा कि आप घर जाइए। आपके जाने से पहले खाते में बोनस की राशि पहुंच जाएगी। इसके अलावा फसल बीमा की 123 करोड़ की राशि भी किसानों को दी। - डॉ. सिंह द्वारा 94 करोड़ 39 लाख रुपए की लागत के 27 विकासकार्यों का लोकार्पण और 105 करोड़ रुपए की लागत के 58 विकास कार्यों का भूमिपूजन किया। मुख्यमंत्री शासन की विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं के तहत 37 हजार 666 हितग्राहियों को 6107.18 लाख रुपए की सामग्री का वितरण किया गया। - गत 8 महीने पहले किसनो को पंप उर्जीकृत करने के लिए दी जाने वाली 1 लाख रुपए की अनुदान राशि को बंद कर दिया गया था। अब उसे फिर शुरू कर दिया गया है। सीएम ने भविष्य में लवन को तहसील का दर्जा देने की भी बात की।
फोन पर राहुल गांधी ने पूछा अजीत जोगी का हाल, अमित जोगी ने जताया उनका आभार
30 May 2018
रायपुर।कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने फोन कर छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का हाल-चाल जाना। उन्होंने पत्नी डॉ. रेणु जोगी से अजीत जोगी की तबीयत को लेकर काफी देर तक बात की। इसके बाद अमित जोगी ने ट्वीट कर राहुल गांधी का आभार जताया है - राहुल गांधी ने दोपहर में डॉ. रेणु को फोन किया और उनसे अजीत जोगी के बारे में बात की। उन्होंने अजीत जोगी के जल्द स्वस्थ होने की कामना की और अपनी शुभकामनाएं दी। हालांकि डॉ. रेणु से क्या-क्या बात हुई इस बारे में ज्यादा जानकारी नहीं मिल सकी है। - वहीं राहुल गांधी के इस फोन के बाद शाम को उनके बेटे और विधायक अमित जोगी ने ट्वीट किया कि मेरी मां डॉ. रेणु जोगी और मैं इंडीयन नेशनल कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी के आभारी हैं कि उन्होंने आज दोपहर मम्मी को फ़ोन करके पापा और जनता कांग्रेस के अध्यक्ष अजीत जोगी के स्वास्थ-लाभ के लिए अपनी शुभकामनाएं दीं। पूरे प्रदेश में हो रही पूजा-अर्चना - पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के स्वास्थ्य में सुधार के लिए पूरे प्रदेश में पूजा-अर्चना की जा रही है। अजीत जोगी की तबीयत बिगड़ने पर उन्हें मंगलवार रात रायपुर के अस्पताल से गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में भर्ती किया गया था। अब उनकी हालत में सुधार है और उनको वेंटिलेटर से हटा दिया गया है। - प्रदेश के अलग-अलग मंदिरों में उनके लिए पूजा की जा रही है। जनता कांग्रेस की ओर से भी प्रदेश के अलग-अलग मंदिरों में पूजा और अर्चना की तैयारी की गई है। शाम को भी मंदिरों में पूजन का कार्यक्रम रखा गया है। अस्पताल ने जारी किया बुलेटिन -गुरु ग्राम के मेदांता अस्पताल ने अजीत जोगी के स्वास्थ्य को लेकर हेल्थ बुलेटिन जारी किया है। इसमें बताया गया है कि उनके स्वास्थ्य में अब सुधार हो रहा है। अगले 24 घंटे के दौरान उन्हें किसी से मिलने की इजाजत नहीं है। - अस्पताल के चिकित्सक इस बात का प्रयास कर रहे हैं कि उन्हें दोबारा निमोनिया का इंफेक्शन न हो। पिछले दिनों निमोनिया बिगड़ने के कारण ही उनके फेफड़ों में पानी भर गया था। जिसके बाद उन्हें एयर लिफ्ट कर मेदांता भेजना पड़ा। यहां पर उनका उपचार डाॅ. यतींद्र मेहता और डाॅ. त्रेहन की देखरेख में हाे रहा है। - अजीत जोगी के साथ उनकी पत्नी रेणु जोगी, अमित जोगी और ऋचा जोगी साथ भी मौजूद है। अजीत जोगी कुछ दिनों से लगातार बीमार चल रहे हैं। जोगी को रायपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उनके साथ अजीत जोगी के निजी चिकित्सक डॉ रमन जोगी भी हैं। बनाया गया था ग्रीन कॉरिडोर -पूर्व सीएम अजीत जोगी को एयर एंबुलेंस से ले जाने के लिए शहर में मंगलवार रात ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया था। इस दौरान रामकृष्ण अस्पताल से एयरपोर्ट तक ग्रीन कॉरिडोर घोषित कर दिया गया। इस दौरान पचपेड़ी नाका से एयरपोर्ट तक ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया। उनके ले जाते समय इस मार्ग के ट्रैफिक को रोक दिया, जिससे ट्रैफिक के कारण समय खराब न हो। - जोगी के साथ उनकी पत्नी डॉ रेणु जोगी एयर एंबुलेंस में साथ गईं, जबकि उनके बेटे अमित जोगी और बहू ऋचा जोगी नियमित विमान से दिल्ली गए। अमित ने कहा है कि अजीत जोगी दवाओं से नहीं बल्कि दुआओं से स्वस्थ्य होकर लौटेंगे।