लाइफस्टाइल | बिजनेस | राजनीति | कैरियर व सफलता | राजस्थान पर्यटन | स्पोर्ट्स मिरर | नियुक्तियां | वर्गीकृत | येलो पेजेस | परिणय | शापिंगप्लस | टेंडर्स निविदा | Plan Your Day Calendar

:: राजस्थान डाइजेस्ट ::

 

रेलवे स्टेशन्स का होगा कायापलट, जयपुर जंक्शन पर होगा वीवीआईपी लॉज

8 December 2017
जयपुर। ट्रेनों में सफर करने वाले लोगों के लिए एक अच्छी खबर है। अब आपको रेलवे स्टेशनों पर सुविधाओं का स्तर सुधरा हुआ मिलेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि रेलवे बोर्ड द्वारा रेलवे स्टेशनों की कैटेगरी का निर्धारण अब नए नियमों से किया जाएगा। अभी तक रेलवे स्टेशनों को ए-वन, ए, बी, सी, डी व एफ श्रेणियों में बांटा हुआ था, लेकिन अब इन्हें तीन भागों में बांटा गया है। इसमें सब अर्बन, नॉन सब अर्बन एवं हॉल्ट स्टेशन के रूप में स्टेशनों का निर्धारण होगा। .
जानिए और इस बारे में . - रेलवे नियमों के अनुसार इन कैटेगरी के हिसाब से ही स्टेशनों पर यात्रियों की सुविधाओं का विस्तार होता है। रेलवे बोर्ड से जोनल रेलवेज के मुख्यालय को स्टेशनों पर सुविधाएं विकसित करने के लिए पैसा मिलता है। रेलवे बोर्ड के जेटी डायरेक्टर ट्रैफिक कॉमर्शियल (जी) ने रेलवे स्टेशनों की कैटेगरी का निर्धारण करने के आदेश जारी किए हैं। - बोर्ड ने हाल ही इन आदेशों की सभी जोन के मुख्यालयों पर जीएम, प्रिंसिपल चीफ कॉमर्शियल, प्रिंसिपल चीफ इंजीनियर्स, प्रिंसिपल फाइनेंस एडवाइजर, मैनेजिंग डायरेक्टर, सेंट्रर फॉर रेलवे इंफॉर्मेशन (क्रिस), डायरेक्टर आईआरआईटीएम को भेजा है। इसमें स्टेशनों के निर्धारण के नए नियमों की जानकारी दी गई है। उसी के आधार पर स्टेशनों की कैटेगरी का निर्धारण होगा।
जयपुर जंक्शन ए-वन श्रेणी में. - दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग स्थित जयपुर जंक्शन अभी ए-वन श्रेणी में शामिल है। उसी के अनुसार स्टेशन पर यात्री सुविधाएं निर्धारित की गई हैं। लिफ्ट और एसकेलेटर लगे हुए हैं। अभी तीन लिफ्ट और दो एसकेलेटर की सुविधा और शुरू की जा रही है। - प्लेटफार्म पर महिला यात्रियों के लिए अलग से एसी प्रतीक्षालय हैं। स्लीपर क्लास के यात्रियों के लिए अलग वेटिंग रूम बना है। रिटायरिंग रूम उपलब्ध हैं। फूड प्लाजा बना हुआ है। हालांकि बैटरी कार की सुविधा अभी शुरू नहीं हो पा रही है। जैसे ही इसे शुरू किया जाएगा, उसके बाद जंक्शन पर आने वाले वृद्ध व दिव्यांगों के लिए प्लेटफॉर्म बदलना राहत भरा हो जाएगा।
पहले ही ए-वन ग्रेड में, बढ़ेंगी सुविधाएं. - जयपुर स्टेशन पहले से ही ए-वन ग्रेड की श्रेणी में है। कैटेगरी के निर्धारण के तहत वार्षिक आय को भी देखा जाता है। जयपुर की वार्षिक आय निर्धारित मापदंड से काफी अधिक है। वर्ष 2016-17 में जयपुर की आय लगभग 150 करोड़ से अधिक थी। नई श्रेणी के निर्धारण के समय जयपुर में सुविधाएं महानगरों के स्टेशनों की तरह विकसित होंगी।
ये सुविधाएं मिल सकती हैं. - वीवीआईपी लॉज, यात्रियों को लगेज ट्रेन के कोच तक पहुंचाने के लिए ट्रॉली, फिल्टर वॉटर सिस्टम इत्यादि।
जयपुर मंडल की वर्तमान स्थिति. कुल स्टेशन - 117 - ए वन श्रेणी का एक स्टेशन जयपुर - ए श्रेणी के 5 स्टेशन गांधीनगर, बांदीकुई, अलवर, रेवाड़ी, फुलेरा - बी श्रेणी में 3 स्टेशन सीकर, दौसा, किशनगढ़ को पर्यटकों की संख्या के आधार पर इस श्रेणी में शामिल किया गया है। - सी सबअर्बन, इस ग्रुप का कोई स्टेशन जयपुर मंडल में नहीं हैं। - डी श्रेणी में 14 रेलवे स्टेशन हैं। इसमें चिड़ावा, ढेर का बालाजी, दुर्गापुरा, खैरथल, रिंग्स, नीम का थाना, सांगानेर, वनस्थली निवाई, आसलपुर जोबनेर आदि शामिल हैं। - ई श्रेणी में 66 रेलवे स्टेशन हैं। - एफ श्रेणी में 28 स्टेशन हैं।
बोर्ड ने बनाए नए नियम . - रेलवे स्टेशनों के कैटेगरी के निर्धारण के लिए रेलवे बोर्ड ने नए नियम बनाए हैं। इसके लिए क्राइटेरिया तय किया गया है। नॉन सबअर्बन , सबअर्बन हॉल्ट स्टेशन के आधार पर रेलवे स्टेशनों की श्रेणियों का निर्धारण होगा


कत्ल का ऐसा खौफनाक मंजर, एक हत्या करता रहा, दूसरा वीडियो बनाता रहा

7 December 2017
राजसमंद।राजसमंद में गुरुवार को लाइव मर्डर के आरोपी को पुलिस ने अरेस्ट कर लिया। वह अपनी स्कूटी से महादेव मंदिर जा रहा था कि तभी पुलिस ने उसे अरेस्ट कर लिया। एहतियात के तौर पर प्रशासन ने जिले में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी हैं। शहर सहित कई इलाकों में अतिरिक्त पुलिस जाब्ता तैनात कर दिया गया है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। उल्लेखनीय है कि राजसमंद में बुधवार को कलेक्ट्री से महज 700 मीटर दूर शंभूलाल रैगर ने 50 वर्षीय युवक की बर्बरता से हत्या कर दी थी। उसने इसका वीडियो भी बनवाया। बताया जा रहा है कि जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो शव को कुत्ते नौंच रहे थे। ... - पुलिस ने आरोपी को राजसमंद में केलवा के रेगर मोहल्ले से उसे अरेस्ट किया। - शंभूलाल रैगर दोस्ती का हवाला देकर युवक को खेत पर ले गया। वहां पीछे से गैंती से वार कर मार डाला। शव को पेट्रोल छिड़क कर जला डाला। इतना ही नहीं, इसका लाइव वीडियो भी बनवाया, फिर वायरल किया। तीन पेज का पत्र भी छोड़ा। - एसपी मनोज कुमार चौधरी ने बताया कि वीडियो में शंभूलाल लव जिहाद, देशभक्ति सहित कई मुद्‌दों पर लंबा भाषण देता दिखा। वीडियो में बोला, वह अपनी बहिन की बेइज्जती का बदला ले रहा है। वीडियो में बच्ची भी दिख रही है। पुलिस प्रथम दृष्ट्‌या मामले को आपसी रंजिश का मान रही है।
कुत्ते और कौए नोंच रहे थे शव.. दोपहर एक बजे राजनगर थानाधिकारी घटनास्थल पर पहुंचे तब कुएं पर बनी कोटड़ी के रास्ते में अधजला शव कुत्ते और कौए नोच रहे थे। मौके पर एसपी मनोजकुमार, एएसपी मनीष त्रिपाठी, डीएसपी राजेंद्रसिंह भी पहुंचे। एफएसएल टीम ने घटनास्थल से गेंती, इसका टूटा हुआ हत्था, धारिया सहित साक्ष्य जुटाए हैं।
गेंती और धारिया नए.. पुलिस का कहना है कि हत्या में प्रयुक्त गेंती, इसका हत्था और धारिया नए हैं। आशंका है कि आरोपी ने वारदात से ठीक पहले ही इन्हें खरीदा है।
और तीन विडियो भी वायरल किए.. फिल्मों के माध्यम से हमारे देवी-देवताओं को अपमानित किया जा रहा है। हमारे इतिहास को बदला जा रहा है। हमें पीके और पद्मावती जैसी फिल्में बनने से रोकनी होगी। ये पाकिस्तान में बैठकर हमें अंडर वर्ड के नाम से डरा-धमका रहे हैं।


जमीन विवाद में दो गुटों में खूनी संघर्ष, एक दर्जन लोग हुए घायल

5 December 2017
कानोता.यहां दो गुटों के बीच हुए खूनी संघर्ष के बाद सनसनी फैल गई। इस खूनी संघर्ष में कई लोग घायल हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। वहीं पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंच मामला शांत करवाया। जानें क्या है खास... - मामला राजस्थान के कानोता के पास बूज रोड पर स्थित नारनोलिया की ढाणी में बंजारों और नारनोलिया का है। जहां जमीनी विवाद को लेकर हुआ खूनी संघर्ष एक दर्जन से भी अधिक लोग घायल। - खबर मिलने पर नायला चौकी प्रभारी पन्नालाल और कई पुलिसकर्मी पूरे जाप्ते के साथ घटनास्थल पर पहुंचे। जिसके बाद मौके पर एंबुलेंस की मदद से घायलों को जयपुर अस्पताल पहुंचाया गया।


शादी में दुल्हन के पिता ने थाल में दिए 5 लाख, दूल्हे ने कर रखा था कुछ और फैसला

30 November 2017
जोधपुर. राजपूत समाज की एक शादी इस दौर में मिसाल बनकर सामने आई है। कारोबारी ऋषिराजसिंह की बेटी नीरतकंवर की मंगलवार को शादी थी। सीकर से कारोबारी भंवरसिंह शेखावत के बेटे सिद्धार्थ की बरात आई। टीका रस्म शुरू हुई तो दुल्हन के पिता ने 5 लाख रुपए दूल्हे के पिता के हाथ में रख दिए। इस पर दूल्हे ने रुपए लौटा दिए और हाथ जोड़कर कहा कि मैं यह नहीं लूंगा। हमारे लिए तो दुल्हन ही दहेज है। देना ही है तो एक रुपया शगुन के तौर पर दे दें।
दुल्हन पक्ष के लोगों ने काफी समझाया... - दुल्हन पक्ष के लोगों ने काफी समझाया भी, लेकिन वे अपनी बात पर अडिग रहे। उसके बाद भी उनके बेटे ने पांच लाख रुपए की बजाय एक रुपए का सिक्का ही टीके के शगुन के तौर पर लिया। - दूल्हे के पिता भंवरसिंह शेखावत ने बताया, कि हर लड़की को उसके पिता पढ़ा-लिखाकर बड़ा करते हैं। शादी में उन्हें दहेज की चिंता भी सताती है। लेकिन एक पिता अपनी बेटी को दे देता है, इससे बढ़कर और क्या चाहिए? उन्होंने बताया, कि वे दहेज के सख्त खिलाफ हैं। - दूसरी ओर दुल्हन के पिता ऋषिराजसिंह का कहना था, कि वे बेटी की शादी में टीका के तौर पर पांच लाख रुपए देने को तैयार थे, मगर समधीजी ने यह राशि न लेकर बड़प्पन दिखाया है। यह सभी समाज के लिए संदेश है।


पद्मावति विवाद : बड़े पदों पर बैठे लोग पद्मावती पर रोक के बयान न दें- सुप्रीम कोर्ट

29 November 2017
नई दिल्ली/पटना/ चित्तौड़गढ़/मुंबई.सार्वजनिक व बड़े पदों पर बैठे लोगों द्वारा फिल्म पद्मावती के बारे में की जा रही टिप्पणियों पर सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को सख्त नाराजगी जताई। कोर्ट ने कहा कि जब फिल्म की मंजूरी लंबित है, तो सार्वजनिक पदों पर बैठे लोगों के ऐसे बयान अवांछनीय हैं। वे कैसे कह सकते हैं कि सेंसर बोर्ड फिल्म को पास करे या नहीं? यह फिल्म के बारे में धारणा बनाने जैसा है, जिससे सेंसर बोर्ड का निर्णय प्रभावित होगा। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली बेंच ने विदेश में फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने की मांग से जुड़ी याचिका खारिज करते हुए सुबह करीब 11:30 बजे यह टिप्पणी की। इसके करीब सवा घंटे बाद ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राज्य में फिल्म बैन करने की घोषणा कर दी। भाजपा विधायक नीरज बबलू की मांग पर नीतीश ने यह ऐलान किया। इससे पहले राजस्थान, मप्र, उप्र और गुजरात के मुख्यमंत्री भी इस फिल्म को बैन कर चुके हैं।
याचिकाकर्ता को कोर्ट की फटकार. चीफ जस्टिस ने याचिकाकर्ता एमएल शर्मा को बेवजह याचिका दायर करने पर फटकार लगाई। कहा, ‘अदालत ऐसी फिल्म पर पहले से धारणा नहीं बना सकती, जिसे अभी सीबीएफसी से सर्टिफिकेट तक नहीं मिला है। वकील होने के कारण कोर्ट ने शर्मा पर जुर्माना नहीं लगाया। फिल्म पर रोक की मांग से जुड़ी याचिका 10 नवंबर को भी खारिज हो चुकी है।
चित्तौड़गढ़ में सद्‌बुद्धि हवन, फिल्म निर्माता भंसाली का पुतला फूंका. पद्मावती फिल्म के विरोध में चित्तौड़गढ़ किले के प्रवेशद्वार पाडनपोल पर 20वें दिन भी धरना जारी रहा। एनएसयूआई कार्यकर्ताओं ने महाराणा प्रताप पीजी काॅलेज के गेट पर सद‌्बुद्धि यज्ञ कर निर्माता संजय लीला भंसाली का पुतला फूंका। क्षत्रिय समाज के युवाओं ने मंगलवार को आरटीडीसी के यूनिट होटल पन्ना में पहुंच कर लाइट एंड साउंड शो में रानी पद्मिनी को कांच में दिखाने संबंधी तथ्य पर आपत्ति जताते हुए इसे हटाने की मांग दोहराई।
संसदीय समिति ने भंसाली को तलब किया पद्मावती पर विवाद पर चर्चा के लिए सूचना प्रौद्योगिकी पर बनी एक संसदीय समिति ने फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली व सेंसर बोर्ड प्रमुख प्रसून जोशी को तलब किया है। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अधिकारियों को भी तलब किया है। भाजपा सांसद अनुराग ठाकुर की अध्यक्षता में समिति की बैठक गुरुवार को होगी।


महिला की गला घोंटकर हत्या, हर तरफ था खून और बाथरूम में जेन्ट्स कपड़े

24 November 2017
मदनगंज-किशनगढ़. बुधवार को दिनदहाड़े घर में घुसकर अज्ञात लुटेरों ने महिला की गला घोंटकर हत्या कर दी। लुटेरों ने महिला की आंखों में मिर्ची डालकर और उसके बाद घसीटकर दूसरे कमरे में ले जाकर दुपट्‌टे से गला घोंट दिया। इसके बाद लुटेरे मकान की पहली मंजिल से नकदी, जेवरात लूटकर फरार हो गए। चौंकाने वाली बात ये है कि पूरी घटना की भनक आसपास में किसी को नहीं चली। वहीं वाॅशरूम में आदमी के कपड़े भी मिले हैं।
जमीन पर लाल मिर्ची बिखरी हुई मिली. - जानकारी के मुताबिक, मित्र निवास कॉलोनी में एसएन पांडे (54) का मकान है। पांडे पेशे से आर्किटेक्चर है और घर में ही उनका ऑफिस है। बुधवार दोपहर 3 बजे पांडे अजमेर विजिट के लिए रवाना हो गए। - घर में उनकी पत्नी उमा पांडे (52) अकेली थी। शाम 6.15 बजे के आसपास पति पांडे घर लौटे और पत्नी को आवाज लगाई। भीतर जाने वाले दरवाजे के पास जमीन पर लाल मिर्ची बिखरी हुई मिली। - गैलरी के पास खून के निशान और घसीटने के निशान मिले। भीतर जाने पर पांडे को उनकी पत्नी का शव का कमरे में पड़ा मिला। शव के गले में दुपट्‌टे से फंदा लगा हुआ था। ये देख पति के होश उड़ गए। - उन्होंने आसपास के लोगों और परिचितों को घटना की जानकारी दी। देखते ही देखते मोहल्लेवासियों की भीड़ जमा हो गई। घटना से मौके पर हड़कंप मच गया। घटना की सूचना पुलिस को दी गई। - पुलिस ने एफएसएल की टीम को बुलाया गया। टीम ने आकर घटनास्थल से सैंपल लिए। पुलिस आसपास की गली मोहल्ले में लगे सीसीटीवी खंगालने में जुटी है।
बाथरूम में मिले कपड़े, लाल मिर्ची भी - जानकारी के मुताबिक, वाॅशरूम में आदमी के कपड़े मिले। लुटेरे हत्या के बाद इस तरह कपड़े छोड़कर नहीं जाते। पुलिस ने कपड़े जब्त कर लिए। - इसके अलावा दरवाजे के पास पुलिस को लाल मिर्ची बिखरी हुई मिली। वह मिर्ची रसोई में मिर्ची के डिब्बे से मैच कर गई। घटना के बाद महिला के पैर में मिट्‌टी नजर आई। जबकि पूरे मकान में मार्बल लगा है और सफाई हो रखी थी। एक कमरे में उमा पांडे का शव पड़ा था। मकान की पहली मंजिल पर सामान बिखरा हुआ था। - पुलिस ने जब घटनास्थल का मौका मुआयना किया तो कीमती सामान और नकदी सभी सुरक्षित मिले। कांच की अलमारी, ड्रायर में सोेने की चूड़ियां, कीमती जेवरात थे। हत्या के बाद महिला के कान के झुमके, पैरों की चांदी की पायजेब भी मिल गई। जबकि लुटेरे कोई भी कीमती सामान और नकदी नहीं छोड़ते।
हत्या में प्रयुक्त दस्ताने भी मिले पुलिस को हत्या में प्रयुक्त दास्ताने मिल गए है। ये जानकारी भी मिल गई है कि ये दास्ताने कहां से खरीदे गए। पुलिस के शक की सुई स्थानीय और परिचित पर घूम रही है। पुलिस ने पांडे के कार्यालय में काम करने वाली युवतियों और ड्राइवर के बयान दर्ज किए।
महिला ने किया संघर्ष.. - पुलिस के मुताबिक, लुटेरों ने महिला से जैसे-तैसे दरवाजा खुलवाया। महिला ने दरवाजा खोला होगा अौर इस दौरान लुटेरों ने महिला की आंखों में मिर्ची डाल दी। जमीन पर मिर्ची बिखरी हुई है। इसके बाद लुटेरे महिला को पकड़कर भीतर ले गए। वहां जमीन पर गिराकर महिला का सिर जमीन से पटका। जिससे उसके सिर से खून बहने लगा। - इस दौरान महिला ने संघर्ष किया जिससे उसके हाथ की चूड़ियां टूटकर बिखर गई। लुटेरे महिला को घसीटकर कमरे में ले गए और दुपट्‌टे से गले में फंदा लगाकर लगाकर गला घोंट दिया। इसके बाद मकान की पहली मंजिल पर जाकर नकदी व जेवरात लूटकर ले गए।
किसी के लिए नहीं खोलती थी दरवाजा - बताया जाता है कि महिला हमेशा घर पर अकेली रहती थी। ज्यादातर उनके पति बाहर साइड विजिट पर जाते थे। कईं बार रात को भी नहीं आते थे। महिला कभी भी दरवाजा नहीं खोलती। कोई आता भी था तो पहली मंजिल की खिड़की से बात करती थी। - शाम को दूध वाले से भी रस्सी के जरिये दूध पहली मंजिल पर ले लेती थी। आर्किटेक्चर ऑफिस में करीब चार लड़कियां काम करती है। चारों लड़कियों ने बताया कि उमा कभी दरवाजा नहीं खोलती थी। ऐसेे में लुटेरों के आने पर दरवाजा कैसे खोल लिया। घटना में किसी परिचित के होने की शंका जताई जा रही है। - पांडे के 3 बच्चों में बड़ी बेटी पूनम, उससे छोटा बेटा मनीष और सबसे छोटा बेटा मयंक है। पूनम की शादी हो गई। वहीं मनीष बेंगलुरू में जाॅब करता है। मयंक दिल्ली में पढ़ाई कर रहा है। ऐसे में घर में सिर्फ एसएन पांडे और उनकी पत्नी उमा ही रहती थी। लुटेरों ने इसी मौके का फायदा उठाकर वारदात को अंजाम दिया।


आलू के नीचे छुपाकर ले जा रहे थे 25 लाख की शराब, ऐसे हुआ मामले का खुलासा

21 November 2017
पबहरोड़.आबकारी पुलिस ने सोमवार को शाहजहांपुर चेक पोस्ट पर वाहनों की जांच के दौरान चंडीगढ़ मार्का अंग्रेजी शराब से भरे ट्रक को पकड़कर दो तस्करों को गिरफ्तार किया। पकड़ी गई शराब की कीमत करीब 25 लाख रु. बताई गई। तस्कर आलू की बोरियों के नीचे शराब छुपाकर तस्करी कर गुजरात लेकर जा रहे थे
जानिए और इस बारे में .. - आबकारी थाना अधिकारी वीरेंद्र यादव ने बताया कि मुखबीर से सूचना मिली की जयपुर नंबर का ट्रक आलू की बोरियों के नीचे शराब तस्करी कर गुजरात लेकर जा रहे है। - जिस पर आबकारी चेक पोस्ट शाहजहांपुर में वाहनों की जांच की गई। वाहन जांच के दौरान RJ 14 GD 7255 नंबर के ट्रक को रोका और जांच की गई। जिसमें आलू की बोरियों के नीचे अंग्रेजी शराब छिपाकर ले जा रही थी।
676 कार्टन किए गए बरामद - आशंका जताई जा रही है कि गुजरात चुनाव के दौरान शराब का उपयोग किया जाना था। वहीं पुलिस ने ट्रक चालक बलबीर सिंह पुत्र गुरुदेव सिंह निवासी धोबियान बस्ती भटिंडा पंजाब तथा परिचालक लखविंदर पुत्र जसवंत सिंह निवासी भगवानगढ़ तलवंडी बठिंडा पंजाब को गिरफ्तार किया गया। - पुलिस थाने पर देर रात ट्रक से रात 12:00 बजे तक शराब उतारी गई। जिसमें विभिन्न ब्रांडों की 676 अंग्रेजी शराब के कार्टन बरामद किए गए पकड़ी शराब की कीमत करीब 25 लाख रुपए बताई गई।


डेम के किनारे पड़ा था बोरा, खोला तो निकली महिला की बिना सिर की लाश

20 November 2017
प्रतापगढ़। मध्यप्रदेश बॉर्डर पर रठांजनाथाना क्षेत्र के झांतला बांध के पास एक बोरे में युवती का सिर कटा शव मिला। बोरे में करीब 30 किलो वजनी पत्थर भी मिले। आशंका जताई जा रही है कि हत्या के बाद युवती का सिर काटा गया। साक्ष्य छुपाने के लिए धड़ को बोरे में बंद कर बांध में फेंक दिया गया। सिर बरामद नहीं हो पाया है साथ ही मृतका की पहचान नहीं हो पाई है।
जानिए और इस बारे में .. - गांव में किसी की मौत होने पर लोग रविवार को झांतला डेम के पास बने श्मशान पर गए थे। दाह संस्कार के बाद लोग डेम के किनारे पहुंचे तो वहां एक बोरा दिखाई दिया। संदेह होने पर पुलिस को सूचना दी गई। एसएचओ भगवान लाल मय जाब्ता मौके पर पहुंचे। पुलिस ने जब बोरे को खोला तो उसमें से सिर कटा हुआ शव मिला। बोरे में पत्थर मिलने से यह स्पष्ट हो गया कि हत्या कहीं और की गई। साक्ष्य मिटाने के उद्देश्य से शव को बोरे में पत्थर के साथ भर कर डेम में फेंक दिया गया।
पड़ोसी राज्य की हो सकती है युवती - एसएचओ भगवान लाल ने बताया कि शव दो-तीन दिन पुराना लग रहा है। मृतका के दाहिने हाथ की कलाई पर ओम, भाई लिंबू, बेन मांगुड़ी गुदा हुआ था। मृतका ने शरीर पर जामुनी रंग की ओढ़नी, कसीदा फुल स्केर लगा हरा चौकड़ीदार ब्लाउज, हरा नीला लहंगा पहन रखा था। उसका शव भी गला हुआ मिला। मृतका की उम्र 35 से 40 वर्ष के बीच बताई जा रही है। - एसएचओ भगवान लाल ने बताया कि रठांजना पुलिस जिलेभर के थाना क्षेत्र से गुमशुदा युवती की रिपोर्ट के बारे में जानकारी जुटा रही है। - घटनास्थल से पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश की दूरी भी कुछ किलो मीटर ही है। उन्होंने बताया कि हो सकता है कि युवती मध्यप्रदेश की हो। रठांजना पुलिस ने नीमच पुलिस को भी घटना और हुलिए की जानकारी दी है।
शाम को पहुंची एफएसएल टीम. - बांसवाड़ा से एफएसएल टीम देर शाम को पहुंची और घटनास्थल का निरीक्षण किया। थानाधिकारी ने बताया कि प्रथम दृष्टया पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया है साथ ही मृतका के हुलिए के आधार पर उसकी शिनाख्तगी के भी प्रयास शुरू कर दिए हैं। युवती का सिर ढूंढना भी पुलिस के लिए चुनौती बन गया है।


सलमान रुश्दी जैसा है भंसाली, पद्मावती पर अजमेर दरगाह के दीवान कही ये बात

16 November 2017
जयपुर/कोटा/अजमेर। बॉलीवुड निर्देशक संजय लीला भंसाली की अपकमिंग फिल्म पद्मावती को लेकर राजस्थान में विवाद गहराता जा रहा है। गुरुवार को इस विवादित फिल्म का राजस्थान में कोटा, जयपुर और अजमेर में विरोध किया गया। कोटा में करणी सेना के प्रदेशअध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना ने दीपिका को नाक काटने की चेतावनी दी। वहीं अजमेर में दरगाह के आध्यात्मिक प्रमुख दरगाह दीवान ने कहा कि संजय लीला भंसाली का आचरण धार्मिक भावनाएं भड़काने वाला है इसलिए पद्मावती फिल्म का विरोध जायज है। मुसलमानों को इसका समर्थन करना चाहिए। वहीं जयपुर में ब्राह्मण समाज के लोगों ने खून से हस्ताक्षर कर फिल्म का विरोध किया। कैसा रहा पूरे राजस्थान का माहौल..
अजमेर में ये कहा दरगाह दीवान ने. फिल्म पद्मावती के संबंध में गुरुवार को दरगाह दीवान ने एक बयान जारी किया। दीवान सैयद जैनुअल आबेदीन अली खान ने संजय लीला भंसाली द्वारा निर्मित फिल्म पद्मावती के विरोध का समर्थन करते हुए संजय लीला भंसाली की तुलना सलमान रुश्दी तस्लीमा नसरीन और तारिक फतेह से करते हुए कहा कि पद्मावती फिल्म के निर्माता संजय लीला भंसाली का किरदार ठीक उसी तरह है जैसे विवादित लेखक सलमान रुश्दी तस्लीमा नसरीन और तारिक फतह है, क्योंकि जिस तरह भंसाली ने इतिहास को तोड़ मरोड़ कर पद्मावती फिल्म का निर्माण करके देश के राजपूत समुदाय की धार्मिक भावनाओं को आहत किया है, उसी तरह अभिव्यक्ति की आजादी का सहारा लेकर सलमान रुश्दी और तस्लीमा नसरीन ने इस्लाम धर्म के खिलाफ अनर्गल बयानबाजी करके मुसलमानों की धार्मिक भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने की कोशिश की है। इसी तरह पद्मावती फिल्म में अलाउद्दीन खिलजी और पद्मावती के प्रस्तुत किए गए कथित चित्रण से राजपूत समुदाय की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचना स्वाभाविक है। इसलिए भंसाली और पद्मावती फिल्म का विरोध जायज है और इस विरोध में देश क मुसलमानों को राजपूतों का समर्थन करना चाहिए । - कोटा में करणी सेना के प्रदेशअध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना ने चेतावनी दी है और कहा है कि ये टीवी एक्टर भड़काऊ बयान दे रहे है। पद्मावती की एक्ट्रेस दीपिका पादुकोण ने कल बोला है कि फिल्म तो चलके रहेगी। आप भड़काने का काम मत करें। जौहर की ज्वाला में घी डालने का काम न करें। और मैं कहना चाहता हूं, हजारों साल पहले श्रीराम और उनके भाई के पास इसी तरीके से एक राक्षसी आई थी। राक्षसी ने बार-बार मना करने पर भी उन दोनों भाईयों को भड़काया था। फिर दोनों भाईयों ने उसका नाक काटकर जवाब दिया था। क्षत्रिय कभी महिलाओं पर हाथ नहीं उठाता, पद्मावती फिल्म के नाम पर हमारे समाज को भड़काने का काम नहीं करें। दीपिका जी आप भी सुरक्षित रहिएगा। राजपूत क्षत्रिय है महिलाओं पर हाथ नहीं उठाएंगे। लेकिन सूर्पणखा के जैसे नाक काटना अभी भी आता है। ऐसा सबक सिखाएंगे। पूरे देश को समझ में आ जाएगा कि राजपूत समाज को गलत तरीके से दिखाना कितना महंगा पड़ सकता है। - करणी सेना के प्रदेशअध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना ने कोटा में दोपहर को शक्तिप्रदर्शन भी किया। जहां कोटा के आकाश सिनेमा हॉल में हुई तोड़फोड़ के मामले में गिरफ्तार करनी सेना के सदस्यों को रिहा करने की मांग की गई।
जयपुर में ये रहा माहौल. - राजधानी जयपुर में आज ब्राह्मणों ने फिल्म के विरोध में खून से हस्ताक्षर किए। सर्व ब्राह्मण महासभा के अध्यक्ष पं.सुरेश मिश्रा के नेतृत्व में ब्राह्मण समाज के लोग शहर के राजमंदिर सिनेमा हॉल के सामने इक्ट्ठा हुए और पद्मावती फिल्म के डायरेक्टर संजय लीला भंसाली और फिल्म के विरोध में जमकर नारेबाजी की। - सर्व ब्राह्मण महासभा के अध्यक्ष पं.सुरेश मिश्रा ने बताया कि ऐसा पहली बार हुआ है जब ब्राह्मण समाज किसी फिल्म के विरोध में आगे आया है और खिलाफत करने के लिए अपना खून दिया है। उन्होनें कहा कि ब्राह्मणों ने हमेशा मानव सेवा ​के उद्देश्य से खून दिया है, मगर ऐसा पहली बार है कि किसी अन्य मामले में ब्राह्मण खून बहा रहा है।


एक साथ करना हमारा अंतिम संस्कार', फिर साथ ही फंदे पर लटके प्रेमी-प्रेमिका

10 November 2017
बांसवाड़ा।यहां के एक गांव में एक प्रेमी युगल ने पेड़ पर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। दोनों पिछले सात दिन से घर से गायब थे। लड़की का लिखा सुसाइड नोट भी मिला है जिसमें कहा है वे साथ जी नहीं पाए, लेकिन साथ मर रहे हैँ। वहीं दोनों ने अंतिम संस्कार एक साथ करने के लिए लिखा है। लड़का शादीशुदा तथा लड़की कुंवारी थी। .
जानिए क्या है पूरा मामला ... - परतापुर कस्बे के भगोरा मोड के पास चरवाहे अपनी बकरियां चरा रहे थे। तभी उनकी नजर पेड़ से फांसी पर लटके लड़का-लड़की पर पड़ी। उन्होंने ग्रामीणों को बुलाया। ग्रामीणों ने पुलिस को इसकी जानकारी दी। - मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को उतारा। पुलिस को मृतकों के पास से सुसाइड नोट मिला। इससे दोनों की पहचान भी हो गई। - लड़का पास के ही लोहारिया पाडा गांव का तो लड़की अडोर गांव की रहने वाली थी। लड़के का नाम किशन (25) तथा लड़की मीनाकुमारी (21) है। पुलिस ने दोनों के परिजनों को सूचित किया।
लड़का आठवीं पास तो लड़की थर्ड ईयर की स्टूडेंट.. - पुलिस के अनुसार किशन आठवीं पास था तथा मजदूरी करता था। वह शादीशुदा था। उसकी तीन साल पहले क्यारा गांव की लड़की से शादी हुई थी। दोनों के कोई संतान नहीं थी। - वहीं मीनाकुमारी ग्रैजुएशन थर्ड ईयर की स्टूडेंट थी। दोनों में काफी समय से प्रेम प्रसंग था। उनके प्रेम संबंधों के बारे में परिजनों को पता था। परिजनों ने दोनों के घर से गायब होने के संबंध में पुलिस में कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई।
यह लिखा सुसाइड नोट में. - पुलिस के मुताबिक सुसाइड नोट में लिखा है कि हम अपनी मर्जी से सुसाइड कर रहे हैं। हम पिछले सात दिन से घर से बाहर हैं। हम साथ जी नहीं पाए लेकिन साथ मर रहे हैं। हमारा अंतिम संस्कार एक साथ किया जाए। - साथ ही सुसाइड नोट में अपने परिजनों के फोन नंबर भी लिखे तथा कहा है कि उनकी मौत की सूचना उन्हें दे दी जाए।


28 साल के लड़के ने US तक फैलाया बिजनेस, अब दीक्षा लेकर बनेगा संत

9 November 2017
बाड़मेर.15 नवंबर को राजस्थान के चौहटन स्थित ल्धि निधान तीर्थ स्थल पर 28 साल के लोकेश गोलेच्छा दीक्षा ग्रहण करेंगे। छत्तीसगढ़ राज्य के जगदलपुर निवासी गोलेच्छा भौतिक सुविधाओं को नरक द्वार मानते है। वे पेशे से ग्राफिक्स डिजायनर कंपनी के मालिक है। जिनका कारोबार अमेरिका तक फैला हुआ है। ..
जानें लोकेश के परिवार के बारे में... गोलेच्छा परिवार के तीन भाई एवं एक बहन में सबसे छोटे लोकेश है। उन्होंने 6 साल पहले मुनि पीयूषसागर महाराज के प्रवचनों को सुनकर संयम पथ पर चलने का संकल्प लिया। अब आचार्य पीयूष सागर द्वारा 15 नवंबर को मुहूर्त के दौरान लोकेश को दीक्षा प्रदान करेंगे। - लोकेश की पढ़ाई के दौरान ही माता-पिता का निधन हो गया। इसके बाद चाचा-चाची ने आगे पढ़ाया। नेशनल विद्यालय एवं निर्मल विद्यालय से 12वीं की पढ़ाई पूरी कर आईटी और ग्राफिक्स में रूचि रखने वाले लोकेश ने विशाखापट्नम से विजुअल ग्राफिक्स में डिप्लोमा किया। वे अपने ग्राफिक्स अमेरिका की कंपनी फीवर डॉट कॉम से अनुबंध कर अपनी ग्राफिक्स डिजायन भेजते थे।


सेवारत डॉक्टरों की शाम को होगी सरकार के साथ बैठक, चार बजे हो सकता है फैसला

7 November 2017
जयपुर।राजस्थान के सरकारी अस्पतालों में सेवारत डॉक्टरों के हड़ताल पर चले जाने से राज्य में चिकित्सा व्यवस्था चरमरा गई है। इस मामले को लेकर सरकार और डॉक्टरों के सगठनों के बीच मंगलवार शाम चार बैठक होने वाली है। अब उम्मीद इस बात की है कि इस बैठक के बाद कोई नतीजा जरूर निकल जाएगा। कई दिनों से सामूहिक इस्तीफे की धमकी दे रहे राज्य के सेवारत डॉक्टर रविवार की रात से ही सामूहिक हड़ताल पर चले गए थे। - उधर सरकार ने रेस्मा (राजस्थान आवश्यक सेवा संरक्षण अधिनियम) लगाते हुए डॉक्टरों की हड़ताल को गैरकानूनी घोषित करते हुए सख्त कार्रवाई के आदेश दिए। - दरअसल रविवार को रात ढाई बजे तक चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ और डाक्टरों के संगठनों से वार्ता चली लेकिन बात नहीं बनी। उसके बाद राज्यभर के जिला अस्पतालों, सीएचसी, मेडिकल कॉलेज के डॉक्टर हड़ताल पर चले गए जिसकी वजह से मरीजों को आज भारी परेशानी उठानी पड़ी।
फिर से होगी बैठक.. - मंगलवार को फिर से शाम चार बजे चिकित्सा मंत्री कालीचरण सर्राफ और डाक्टरों के संगठनों से वार्ता होगी। इस वार्ता के बाद कोई नतीजा निकलने की उम्मीद है।
ये है वैकल्पिक व्यवस्था.. -हालांकि राज्य सरकार ने इससे निपटने के लिए रेलवे, आर्मी अस्पताल और बीएसएफ के डॉक्टरों की तैनाती अस्पतालों में की है। - साथ ही कहा है कि निजी अस्पतालों से भी सहयोग मांगा जा रहा है ताकि मरीजों को कोई परेशानी नहीं हो। - बता दें कि झगड़े की मुख्य वजह सरकार चिकित्सा विभाग में अतिरिक्त निदेशक के पद पर राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारियों की तैनाती करना है जबकि डॉक्टरों का कहना है कि इस पद पर सीनियर डॉक्टर तैनात होते रहे हैं और उन्हें ही तैनात किया जाए। - इसके अलावा सातवें वेतनमान की विसंगतियां, कैडर समान करने और ग्रेड पे बढ़ाने जैसी मांगे हैं। सरकार ने डॉक्टरों के एक पारी में काम करने की मांग मानने से इनकार कर दिया है।


100 करोड़ रुपए की मालकिन शुभांगना मर्डर केस में पति अरेस्ट, एक होटल में ठहरा था

3 November 2017
जयपुर। सौ करोड़ रुपए की मालकिन और दीपशिखा एजुकेशन ग्रुप के डायरेक्टर प्रेम सुराणा की बेटी शुभांगना की मौत के मामले में पुलिस ने उसके पति राजकुमार सावलानी को अरेस्ट कर लिया है। राजकुमार को अजमेर रोड पर एक होटल से पकड़ा गया। राजकुमार को शुभांगना को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में अरेस्ट किया गया है। .
जानिए और इस बारे में .. - राजकुमार को दूदू और महला के बीच चौधरी होटल से पकड़ा गया। पुलिस ने शुभांगना की मौत के मामले में जांच पूरी कर ली थी। जांच के बाद पुलिस ने आरोपी राजकुमार सावलानी को पूछताछ के लिए दो बार नोटिस दिया था। दोनों ही बार राजकुमार पूछताछ के लिए जांच अधिकारी के सामने उपस्थित नहीं हुआ। जांच अधिकारी ने राजकुमार से फोन पर संपर्क किया तो फोन भी स्विच ऑफ मिला। - जांच अधिकारी एएसपी पुष्पेन्द्र सिंह ने बताया कि राजकुमार को पूछताछ के लिए नोटिस दिया है। अभी तक पूछताछ के लिए उपस्थित नहीं हुआ है। इस मामले में मेडिकल बोर्ड एफएसएल से ओपिनियन ली जा चुकी है। जांच में सामने आया कि राजकुमार की लोकेशन अधिकतर जयपुर से बाहर रही है। वह घर पर भी नहीं रहा।
26 अगस्त को फंदे से लटकी मिली थी - गौरतलब है कि 26 अगस्त को शुभांगना सी-स्कीम स्थित बंगले पर फांसी के फंदे से लटकी मिली थी। मौत के बाद पिता प्रेम सुराणा ने बेटी की हत्या करने का आरोप लगाया था। मामले में लापरवाही पर अशोकनगर थाना प्रभारी बालाराम को पुलिस मुख्यालय ने नॉन-फील्ड पोस्टिंग पर लगा दिया। नए जांच अधिकारी एएसपी पुष्पेन्द्र सिंह ने एफएसएल मेडिकल बोर्ड से ओपिनियन ली।


ज्वैलर्स शोरूम से 2 मिनट में लूटे 14 लाख के गहने, फायरिंग कर नकाबपोश फरार

2 November 2017
अलवर।अलवर जिले के भिवाड़ी में गणपति मॉल स्थित अंशुल ज्वैलर्स शोरूम से 5 हथियारबंद बदमाश 2 मिनट में करीब 14 लाख के सोने चांदी के आभूषण लूट ले गए। शोरूम से निकलकर बदमाशों ने डराने के लिए हवाई फायरिंग की और कार में बैठकर भाग गए। शोरूम से निकल रहे ग्राहक के साथ बदमाशों ने मारपीट की और उसका पर्स भी छीन लिया। .
घटना कैद हुई सीसीटीवी में.... - पूरी घटना सीसीटीवी कैमरों में कैद हुई है। घटना के बाद पुलिस ने नाकाबंदी कराई, लेकिन बदमाशों का कोई सुराग नहीं लगा। शहर के समतल रोड़ के समीप स्थित गणपति मॉल में अंशुल ज्वैलर्स के नाम से ज्वैलरी का शोरूम है। - यहां पांच नकाबपोश हथियारबंद बदमाश मॉल में पहुंचे। इनमें से तीन जने शोरूम में अंदर दाखिल हो गए। दो जने बाहर खड़े रहे। इसी दौरान शोरूम से खरीददारी कर बाहर निकला तो उसे भीतर धकेल ले गए। - शोरूम में घुसते ही बदमाशों ने पहले ग्राहक से मारपीट की। इसके बाद शोरूम में मौजूद मालिक मनोज सोनी उनके दो कर्मचारियों पर हथियार तान दिए। बदमाशों ने उन्हें धमकाते हुए दुकान में रखे आभूषणों के बॉक्स बाहर निकालने को कहा। - व्यापारियों ने आनाकानी की तो एक बदमाश ने मनोज सोनी को निशाना बनाते हुए फायर कर दिया, लेकिन निशाना चूका और गोली काउंटर में जाकर लगी।
दो मिनट में की लूट. - शोरूम में लगे सीसीटीवी की रिकॉर्डिंग के मुताबिक पूरी वारदात दो मिनट की अवधि में हुई। मौके पर मिले लोगों ने बताया कि बाहर निकलने के बाद बदमाशों ने दो हवाई फायर भी किए। जिन्हें लोगों ने पटाखे की आवाज समझा। पूरी वारदात शोरूम में लगे सीसीटीवी कैमरों में कैद हुई है।
यह माल ले गए. - मनोज सोनी के मुताबिक बदमाश दो डिब्बों में रखे करीब 300 ग्राम के सोने तथा 10 किलो चांदी के आभूषण ले गए। जिनकी कीमत करीब 14 लाख बताई जा रही है। - शोरूम से खरीददारी कर बाहर निकल रहे एक ग्राहक प्रदीप को बदमाश वापस धकेलकर अंदर ले गए और उसके साथ मारपीट की। बदमाशों ने उसके सिर में कट्टे के बट से प्रहार भी किया और उसका पर्स छीन लिया।
लाइट बंद कर शोरुम में एंटर हुए बदमाश - समतल रोड़ शहर के व्यस्ततम इलाकों में से एक है। जिस वक्त वारदात को अंजाम दिया गया, वहां अच्छी खासी चहल पहल थी। - आसपास की दुकानें भी खुली हुई थी। लोगों ने बताया कि लाइट जाने के साथ ही बदमाश शोरूम में दाखिल हुए। - घटना की सूचना पर पहुंची पुलिस ने विद्युत निगम से संपर्क साधकर इलाके की आपूर्ति बहाल कराई। लाइट कटने और बदमाशों के वारदात करने की टाइमिंग को लेकर चर्चा लोगों के बीच रही।
नाकाबंदी कराई - वारदात की सूचना मिलने पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक राजेन्द्र प्रसाद खोथ, यूआईटी थाना प्रभारी शिवराम गुर्जर, चौपानकी थाना प्रभारी सुनील जांगिड़, भिवाड़ी मोड चौकी प्रभारी सुरेन्द्र सिंह मौके पर पहुंचे। पुलिस सीसीटीवी के आधार पर बदमाशों की तलाश में जुट गई है। क्षेत्र के प्रमुख मार्गों की नाकाबंदी भी कराई गई, लेकिन पूरी मशक्कत सांप गुजरने के बाद लकीर पीटने जैसी रही। पुलिस को कुछ हाथ नहीं लगा।
कार में आए थे बदमााश - भिवाड़ी के एएसपी राजेन्द्र प्रसाद खोथ ने बताया कि कार में सवार होकर आए हथियारबंद बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया है। रिपोर्ट मिलने पर साफ होगा कि कुल कितना सामान गया है। प्रारंभिक तौर पर दुकानदार ने करीब 14 लाख के आभूषण जाने की बात कही है। बदमाशों की तलाश में टीमें रवाना कर दी गई है। इलाके में नाकाबंदी कराई गई है।


नगर निगम में सुबह गाया जाएगा राष्ट्रगान व शाम को वंदे मातरम, अटेंडेंस मशीन के संचालन में बदलाव

31 October 2017
जयपुर।नगर निगम में मंगलवार से सुबह काम शुरू करने से पहले और शाम को घर जाने से पहले कर्मचारी और अधिकारियों में राष्ट्रभक्ति का संचार होगा। नगर निगम में अब हर सुबह 9:50 बजे राष्ट्रगान गाया जाएगा और शाम 5.55 बजे वंदेमातरम् गुनगुनाएंगे। ..
हाजिरी मशीन के संचालन में बदलाव. नगर निगम के मुख्यालय सहित सभी जोन कार्यालय में यह होगा। संभवतया पहली बार होगा जब किसी सरकारी एजेंसी में राष्ट्रभक्ति के लिए ऐसा किया जा रहा है। - इस तरह की गतिविधि चर्चा का विषय बनी हुई है, क्योंकि अभी तक किसी सरकारी कार्यालय में ऐसा नहीं हो रहा है। - कर्मचारी समय पर ऑफिस पहुंचे, इसकी सुनिश्चितता के लिए फिर से अफसर सक्रिय हो गए हैं। इसके लिए अब हाजिरी मशीन के संचालन में बदलाव किया जा रहा है।
सभी कार्यालयों में स्पीकर - मुख्यालय सहित सभी जोन कार्यालय में स्पीकर लगाए गए हैं। जोन कार्यालय में इसकी पालना सुनिश्चित करने की जिम्मेदार उपायुक्त की होगी। - वहीं, निगम मुख्यालय में अतिरिक्त आयुक्त मुख्य भूमिका में होंगे।


इंटरनेशनल पुष्कर मेला हुआ शुरू, देश-विदेश से पहुंच रहे मेहमान

28 October 2017
पुष्कर. विश्वविख्यात पुष्कर के सालाना पशु मेले का रंगारंग आगाज ध्वजारोहण के साथ हुआ। सुबह 10 बजे शंख, नगाड़ा वादन शहनाई की गूंज के बीच संसदीय सचिव मेला स्टेडियम में तिरंगा फहरा कर मेले का शुभारंभ किया। अब शाम को पुष्कर सरोवर के 52 घाटों पर दीपदान होगा। प्रमुख घाटों पर सरोवर की महाआरती की जाएगी। इसका समापन 4 नवंबर को कार्तिक पूर्णिमा पर होने वाले महास्नान के साथ होगा।
आज से सात दिनों तक रहेगी सांस्कृतिक कार्यक्रम की धूम पुष्कर मेले के दौरान आगामी 7 दिनों तक रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों प्रतियोगिताओं की धूम रहेगी। लोक, कला एवं संस्कृति की छटा बिखरेगी। मेला मैदान पर स्वदेशी ही नहीं बल्कि विदेशी कलाकार भी अपनी कला की प्रस्तुतियां देंगे। पर्यटकों को लुभाने के लिए राजस्थानी कला एवं संस्कृति से जुड़े कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। देशी-विदेशी के बीच फुटबॉल एवं लगान क्रिकेट मैच, हारमोनी मैराथन, हॉट एयर बैलून, प्रेम जोशुआ लाइव आदि कार्यक्रम होंगे। पुष्कर मेले के शुभारंभ के उपलक्ष्य में शनिवार की शाम को नगर पालिका की ओर से सरोवर के सभी 52 घाटों पर दीप दान किया जायेगा तथा गऊघाट, ब्रह्म घाट, बद्री घाट, वराह घाट, बंशी घाट आदि प्रमुख घाटों पर महाआरती की जायेगी। इस दौरान स्कूली छात्र-छात्राओं की ओर से घाटों पर आकर्षक रंगोलियां भी सजाई जाएगी।


ट्रक से टकराने के बाद ऐसा हुआ वैन का हाल, अंदर चिपकी मिली 3 लाशें

26 October 2017
किशनगढ़ (अजमेर)। अजमेर के किशनगढ़ में गुरुवार को एक ट्रक और मारुति वैन में आमने-सामने हुई जबरदस्त भिड़ंत में वैन में सवार तीन लोगों की मौत हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि वैन के परखच्चे उड़ गए। वैन से एक ही परिवार के आठ लोग तेजाजी के दर्शन कर भीलवाड़ा लौट रहे थे।
जानिए और इस बारे में .. एक परिवार रूपनगढ़ और किशनगढ़ के बीच सुरसुरा धाम स्थित तेजाजी के दर्शन कर वैन से भीलवाड़ा लौट रहा था। वैन में आठ पुरुष सवार थे। किशनगढ़-हनुमानगढ़ मेगा हाईवे पर रलावता गांव से इनकी वैन निकल रही थी। तभी सामने से आ रहे एक ट्रक से वैन टकरा गई। हादसा इतना भीषण था कि वैन में सवार तीन युवकों की मौके पर ही मौत हो गई। - वैन में सवार लोग वैन में फंस गए। जोर के धमाके की आवाज सुन आस-पास के ग्रामीण दौड़े-दौड़े अाए। ग्रामीणों ने मृतकों व घायलों को वैन से निकाला तथा पुलिस को इसकी सूचना दी। - थोड़ी देर में वहां पहुंची गांधीनगर थाना पुलिस ने घायलों को राजकीय अस्पताल में भर्ती कराया। हालत नाजुक होने पर घायलों को अजमेर के जेएलएन अस्पताल रेफर कर दिया गया। शवों को राजकीय अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया गया।
ट्रक ड्राइवर भागा.. - हादसा होते ही ट्रक ड्राइवर वहां से भाग गया। पुलिस ने ट्रक जब्त कर ड्राइवर की तलाश शुरू कर दी है। - हादसे के बाद वहां एक घंटे तक जाम लगा रहा। पुलिस ने वाहनों को हाईवे से हटवाया और ट्रैफिक सुचारू करवाया।


नेताओं-अफसरों को बचाने वाले ऑर्डिनेंस पर राजस्थान असेंबली में जमकर हंगामा

23 October 2017
जयपुर.राजस्थान में विधानसभा सत्र सोमवार को विपक्ष के हंगामे से शुरू हुआ। कांग्रेस ने लोकसेवकों (Public Servant) के खिलाफ केस दर्ज कराने से पहले सरकार से मंजूरी लेने संबंधी बिल में अमेंडमेंट (संधोशन) का मुद्दा उठाया। वहीं विधानसभा अध्यक्ष कैलाश मेघवाल ने कार्यवाही में बाधा नहीं पहुंचाने को कहा। उन्होंने विपक्षी सदस्यों से कहा कि वे सदन की कार्यवाही ठीक से चलने दें, लेकिन कांग्रेसी विधायक नहीं माने और नारेबाजी करने लगे। बता दें कि इस बिल के दायरे में अफसर ही नहीं, भ्रष्ट नेता भी आएंगे। लॉ एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस बिल के कई प्रोविजंस असंवैधानिक (Unconstitutional) हैं। वसुंधरा सरकार इस सत्र में CRPC में संशोधन विधेयक समेत 6 बिल पेश करना चाहती है। उधर, इस बिल के खिलाफ हाईकोर्ट में एक पीआईएल दायर की गई है
बचाव करती नजर आई सरकार..... विपक्ष के शोरशराबे के बीच सरकार बचाव करती नजर आई। वहीं कांग्रेस का अंदाज आक्रामक दिखा। सत्र शुरू हाेने से पहले बीजेपी विधायक दल की बैठक हुई जिसमें सीएम वसुंधरा राजे ने एकजुटता का मंत्र दिया। - इस सत्र में जो विधेयक पेश होने हैं, उसमें लोकसेवकों के खिलाफ केस दर्ज कराने से पहले सरकार से मंजूरी लेने संबंधी बिल के अलावा गुर्जर आरक्षण और किसानों की कर्ज माफी का मामला भी सदन में गूंजेगा। सरकार 6 विधेयक सदन में रखेगी। कांग्रेस लोकसेवकों के हित रक्षा वाले विधेयक का विरोध कर रही है। - जज, मजिस्ट्रेट और लोकसेवकों के खिलाफ परिवाद पर प्रसंज्ञान, पुलिस जांच या मीडिया रिपोर्टिंग से पहले शासन से मंजूरी लेेने के लिए सरकार 8 सितंबर को ही सीआरपीसी में संशोधन के लिए अध्यादेश (ऑर्डिनेंस) लागू कर चुकी है। चूंकि अध्यादेश की मियाद 6 महीने होती है और इस बीच विधानसभा सत्र आने पर इसे पटल पर रखना जरूरी होता है, इसलिए सरकार यह बिल ला रही है।
बिल के दायरे में कौन?. - बिल के दायरे में अफसरों के साथ ही नेता भी हैं। सरकार ने इस बिल से पहले जारी किए अध्यादेश में लोकसेवक का दायरा बढ़ा दिया। इसके तहत किसी भी कानून के तहत लोकसेवक कहलाने वाले इसमें शामिल कर दिए। यानी कि पंच-सरपंच से लेकर विधायक तक पर सरकार की मंजूरी के बिना केस दर्ज नहीं हो पाएगा।
कांग्रेस राजभवन तक निकालेगी मार्च. - बिल को लेकर विरोध बढ़ता जा रहा है। कांग्रेस सोमवार को विधानसभा से राजभवन तक मार्च भी निकालेगी। राज्यपाल के जरिये राष्ट्रपति को ज्ञापन भी भेजा जाएगा। जरूरत हुई तो पार्टी इसे हाईकोर्ट से लेकर सुप्रीम कोर्ट तक में चुनौती देगी। - बता दें कि राहुल गांधी ने रविवार को सीएम वसुंधरा राजे पर निशाना साधते हुए एक ट्वीट किया था, जिसमें लिखा था, 'मैडम चीफ मिनिस्टर, हम 21वीं सदी में रहते हैं, यह 2017 है, 1817 नहीं।' राहुल ने बिल से संबंधित खबर भी टैग की थी। - उधर, कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि राज्य की जनता ने बीजेपी को मनमानी करने के लिए प्रचंड बहुमत नहीं दिया है। यह बिल भ्रष्टों को बचाने के लिए लाया जा रहा है।
बीजेपी ने विधायकों से कहा- उपचुनाव में एकजुटता बनाए रखें. - सत्र के शुरू हाेने से पहले सीएम वसुंधरा राजे की अध्यक्षता में बीजेपी विधायक दल की बैठक हुई, जिसमें उपचुनाव में एकजुटता रखने को कहा गया। सीएम ने कहा कि विकास के कामों के जरिये विपक्ष को करारा जवाब देना होगा। सीएम ने कहा कि एकजुटता के साथ विपक्ष का मुकाबला करें।
सरकार का क्या कहना है?.. - गृह मंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कहा, "भ्रष्टाचार के खिलाफ जीरो टोलरेंस की नीति पर कायम रहते हुए सरकार ने कहीं भी भ्रष्ट पब्लिक सर्वेंट्स को प्रोटेक्शन देने की बात नहीं कही है। सरकार कि मंशा इतनी ही है कि कोई शख्स कानून का गलत इस्तेमाल कर ईमानदार और काम करने वाले पब्लिक सर्वेंट की इमेज खराब न कर सके।"
हाईकोर्ट में पीआईएल दायर. - इस बिल के खिलाफ हाइकोर्ट में एक पीआईएल दायर की गई है, जिसमें कहा गया है कि सरकार कानून बनाकर करप्शन करने वालों को बचाने की कोशिश कर रही है। राजस्थान हाइकोर्ट के सीनियर एडवोकेट ऐके जैन ने सोशल वर्कर भगवत कॉर की तरफ से ये पिटीशन दायर की। वे 5 प्रोविजंस, जिनको चुनौती दी जा सकती है
बिल में प्राेविजंस - सरकार दंड प्रक्रिया संहिता (सीआरपीसी) और भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) में संशोधन कर धारा 228 बी जोड़ने के लिए बिल ला रही है। - लोकसेवक के खिलाफ केस दर्ज कराने के लिए सरकार से अभियोजन मंजूरी (Prosecution acceptance) लेनी होगी। इसकी सीमा 180 दिन तय की गई है। - सरकार से मंजूरी के बिना पुलिस किसी लोकसेवक के खिलाफ मामला दर्ज नहीं कर सकेगी। कोर्ट भी इस्तगासे से जांच के आदेश नहीं दे सकेगी। - अब तक सिर्फ गजटेड ऑफिसर को ही लोक सेवक माना गया था, लेकिन इस अध्यादेश में सरकार ने यह दायरा बढ़ा दिया है। - सरकार से अभियोजन मंजूरी मिलने से पहले दागी लोकसेवक का नाम और पहचान उजागर करने पर दो साल तक की सजा का प्रावधान किया गया है।
लॉ एक्सपर्ट्स को एतराज. - इंदिरा जयसिंह, पूर्व एडिशनल सॉलिसिटर जनरल दुष्यंत दवे, संजय पारीख, डॉ. वी. सुरेश (तीनों सुप्रीम कोर्ट के वकील) और वकील अजय जैन के मुताबिक सरकार की ओर से यह संशोधन किया जाना इंडियन कॉन्स्टिट्यूशन के आर्टिकल 14, 19 और 21 का वॉयलेशन है। - "किसी शख्स के भ्रष्टाचार, पद के दुरुपयोग से संबंधित किसी भी मामले की निष्पक्ष जांच पिटिशनर का मूलभूत हक है।" - "सीआरपीसी की धारा 156 (3) के तहत केस दर्ज करने के लिए मामले पुलिस के पास भेजे जाते हैं, पुलिस सरकार के दबाव में एफआईआर दर्ज नहीं करती। ऐसे में कोर्ट के अलावा कोई चारा नहीं।" - "अब सरकार ने लोक सेवक के दायरे में पंच, सरपंच से लेकर विधायक तक को शामिल कर लिया है। सुप्रीम कोर्ट ने चुनावी हलफनामों में एमएलए और एमपी को आपराधिक मामलों की जानकारी देने को बाध्य किया है, वहीं राज्य सरकार उनके मामलों पर पर्दा डालने की कोशिश कर रही है।


जादू-टोने डर दिखा धमकाता था ये जैन मुनि, बोलता था- कबूतर बना दूंगा

17 October 2017
कोटा.सूरत में 19 साल की लड़की से दुष्कर्म करने के मामले में गिरफ्तार हुआ जैन मुनि शांति सागर के धीरे-धीरे नए राज सामने आ रहे हैं। मुनि बनने से पहले वो राजस्थान के कोटो शहर में चाय की दुकान चलाता था। 2 साल तक यहां रहने के बाद वो जैन संत के संपर्क में आया और मंदसौर में संत कल्याण सागर से दीक्षा ली। इसके बाद 2 बार चातुर्मास करने कोटा भी आया। उस दौरान उसकी गतिविधियों को लेकर विवाद हुआ था।
टोने-टोटके भी करता था.. जैन समाज के प्रतिनिधि बताते हैं कि कोटा में रहने के दौरान कई बार शांति सागर के टोने-टोटके की बातें भी सामने आईं थीं । वो बात नहीं मानने वाले अथवा विरोध करने वालों को कहता था कि मेरे पास वो शक्ति है कि तुम्हें कबूतर बना दूंगा। - कोटा में उसके कुछ अनुयायी भी हैं, लेकिन इस घटना के बाद कोटा के जैन समाज में उसके प्रति कोई सहानुभूति नहीं है। मध्यप्रदेश के गुना के रहने वाले शांति सागर का असली नाम गिरिराज शर्मा है। कोटा के एक व्यापारी मित्र के संपर्क में आने के बाद वो कोटा गया था। यहां उसे गिरिराज और रमेश दोनों ही नाम से जानते थे। बी. कॉम तक शिक्षा प्राप्त शांति सागर ने कोटा में 2 वर्ष तक शॉपिंग सेंटर चौपाटी पर चाय की दुकान लगाई।
रातों-रात शहर छोड़कर भाग गया था संत. वर्ष 1993 में वो मंदसौर के आचार्य श्री कल्याण सागर महाराज के संपर्क में आया और धर्म परिवर्तन कर जैन संत की दीक्षा ली। उसके बाद वर्ष 2000 2008-09 में दो बार चातुर्मास के लिए भी कोटा आया। कोटा में रहने के दौरान भी एक बार काफी विवाद हुआ था। तब भी समाज ने उससे किनारा कर लिया था और रातोरात पुलिस सुरक्षा में शहर से बाहर भेजा गया था।
ठीक नहीं थी दिनचर्या सकल दिगंबर जैन समाज के महामंत्री विनोद तोरड़ी ने बताया कि वो कोटा में भी रहे थे। संत बनने से पहले और संत बनने के बाद भी कोटा आए। जब वे संत बनकर कोटा आए थे तब उनकी दिनचर्या कुछ ठीक नहीं लगी, इसलिए यहां से उन्हें वापस भेज दिया था। समाज के लिए ये घटनाक्रम वैसा ही जैसे एक मछली पूरे तालाब को गंदा कर देती है। उन्होंने जो कृत्य किया है उसकी सजा मिलनी ही चाहिए। पुलिस अपना काम करे।


लड़की को भगाने की ऐसी सजा, कपड़े उतरवा युवकों को पीटा, गंजा कर सिर पर जूते रखे

12 October 2017
खींवसर (नागौर)।खींवसर के एक गांव में नाबालिग को शादी की नियत से बहला फुसला कर भगा ले जाने पर ग्रामीणों ने दो युवकों को बुरी तरह पीट दिया। ग्रामीणों में इतना गुस्सा था कि उन्होंने युवकों के बाल काटे और उनके कपड़े उतार कर सिर पर जूते तक रखवा दिए। दो दिन पहले हुए इस मामले में अभी तक कोई मामला दर्ज नहीं किया गया है। अब इस मामले का वीडियो वायरल हुआ है। ..
जानिए क्या है मामला...
दो घंटे तक तपती रेत में सुलाया, अचेत हुए युवक.. - ग्रामीणों ने दोनों को पकड़ा और आचीणा ले आए। वहां उनकी धुनाई कर दी। अचेत हुए युवकाें के कुछ लोगों ने बाल काट दिए। ग्रामीणों ने उनके वस्त्र उतारे, करीब दो घंटे तक रेत में सुलाए रखा और सिर पर तगारी में जूते रख दिए । करीब डेढ़ घंटे तक युवकों के साथ मारपीट की गई। ग्रामीणों ने युवकों को चेतावनी दी कि वे फिर गांव में कदम नहीं रखें। इसके बाद उन्हें छोड़ दिया गया।
छह माह गांव में घुसने नहीं देंगे.... - ग्रामीणों ने युवकों के परिजनों को बुलाया। परिजनों को भी पूरा मामला समझाया तो उन्होंने भी नाराजगी जताई। प्रकरण को लेकर अभी तक पुलिस को किसी भी पक्ष ने शिकायत दर्ज नहीं करवाई है। घटना का गांव के कुछ लोगों ने वीडियो बना लिया। वीडियों में ग्रामीण यह कहते हुए भी दिख रहे हैं कि युवकों का गांव में 6 माह तक प्रवेश वर्जित होगा।
वीडियो आने पर खुला मामला.... - इस पूरे घटनाक्रम को लेकर वीडियो वायरल होने के बाद मामले का खुलासा हुआ है। - जानकारी है कि इसके तीन से अधिक वीडियो वाट्सएप पर जारी हो चुके हैं। - इस मामले में कोई कुछ बोलने को तैयार नहीं है। वहीं दोनों युवक भी गायब हैं।


दर्दनाक: मिट्टी में दफन हो गए दो भाई, अचानक हुए हादसे ने ले ली दोनों की जान

10 October 2017
सीकर(राजस्थान).जिले के दांतारामगढ़ से करीब 10 किलोमीटर दूर खारिया की धाणी में दो मजदूरों की मिट्टी में दबने से मौत हो गई है। हादसे के बाद दोनों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया था। जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया।
जानिए क्या है मामला .... - बता दें कि हादसा उस वक्त हुआ जब अशोक कुमार और नानू राम अपने खेत में मिट्टी खोदने का काम कर रहे थे। इस दौरान अचानक ऊपर की मिट्टी ढह गई। जिसके कारण दोनों उसमें दब गए। - खेत में काम कर रहे दूसरे लोग तुरंत उनकी मदद करने पहुंचे। जिसके बाद दोनों को मिट्टी में से बाहर निकाला गया। हादसे की सूचना पाकर पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंची। - इसके बाद दोनों को दादा सीएसई अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जहां डॉक्टर ने दोनों को मृत घोषित कर दिया।
रिश्तेदार थे दोनों लड़के.... - बताया जा रहा है कि दोनों मृतक रिश्तेदार थे। अशोक कुमार बुआ का बेटा था तो वहीं नानू राम मामा का लड़का था। - इस हादसे के बाद घर में सन्नाटा पसरा है।


कपड़ा व्यापारी की गोली मारकर हत्या, काम से घर से निकला था फिर मिला शव

7 October 2017
उदयपुर।उदयपुर में एक होलसेल कपड़ा व्यापारी के मर्डर से सनसनी फैल गई। व्यापारी बीती रात को घर से निकला था और फिर लौटा नहीं। सुबह उसका शव शहर के बाहरी इलाके में सड़क किनारे खून से लथपथ मिला। सीने में गोली मारकर उसकी हत्या की गई है।
जानिए क्या है मामला .... - उदयपुर शहर से करीब पांच किलोमीटर दूर बालीचा रोड पर सरस पार्लर के पास एक ग्रामीण ने सड़क किनारे खून से लथपथ शव पड़ा देखा। पास में ही एक स्कूटर गिरा था। यह देख उसने और लोगों को बुलाया। - ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस को दी। थोड़ी देर में पुलिस वहां पहुंच गई। पुलिस ने जांच की तो पाया कि मृतक को गोली मारी गई है। उसके सीने पर दाएं तरफ गोली मारी गई है। - मृतक के पास से मिले कागजात से पता चला कि मृतक हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी निवासी राकेश हटवानी (35) है। वह अपनी पत्नी के साथ रहता था तथा उसकी मां व छोटा भाई अलग रहते हैं।
बीती रात को घर से निकला था. - पुलिस ने मृतक की पत्नी से बात की तो उसने बताया कि वह बीती रात को 10.30 बजे घर से निकला था। - पत्नी ने बताया कि राकेश कपड़ों के होलसेल का काम करता था, लेकिन उसकी कोई दुकान नहीं थी। वह ऑर्डर पर ही काम करता था। - पिछली रात वह अपने काम से ही घर से गया था, फिर लौटा नहीं। रात को उसकी पत्नी ने अपने देवर से भी बात की। दोनों उसके परिचितों से बात करते रहे, लेकिन राकेश का कुछ पता नहीं लगा।
पैसों के लेन-देन में गई जान ?. - पूछताछ में यह भी सामने आया है कि राकेश का ससुर पैसों के लेन-देन का काम करता था। राकेश इसमें उसका साथ देता था। - राकेश को बाजार में कई लोगों से पैसे लेने थे। अंदेशा है कि रात को वह पैसे लेने के लिए गया था। रात में उसकी हत्या कर दी गई।
रात को हुई हत्या - पुलिस के अनुसार हत्या रात को ही करीब दो बजे हुई है। रातभर शव खुले में पड़ा रहा जिससे खून जम गया। राकेश के चेहरे पर भी खून लगा था। - शव के पास ही उसका स्कूटर व एक बैग पड़ा था। किसी ने भी हत्यारों को आते-जाते नहीं देखा।
स्कूटर के शीशों पर मिला खून. - स्कूटर के शीशों पर खून लगा मिला है। इससे लगता है कि राकेश को गाेली तब मारी गई जब वह स्कूटर पर सवार था। आशंका है कि गोली लगते ही वह पहले आगे गिरा होगा जिससे शीशों पर खून लग गया। फिर वह स्कूटर सहित गिर गया। उसने चलने की कोशिश की होगी जिससे वह स्कूटर से थोड़ा दूर पहुंच गया।


हाउसिंग बोर्ड के इंजीनियर के ठिकानों पर एसीबी ने मारे छापे, वेबसाइट पर मिली थी शिकायत

5 October 2017
जयपुर। एसीबी ने गुरुवार को हाउसिंग बोर्ड के एक इंजीनियर के यहां छापा मारा। छापा आय से अधिक संपत्ति के मामले में मारा गया है। एसीबी की दो टीमों ने इंजीनियर के मानसरोवर व अन्य ठकानों पर कार्रवाई की ..
।जानिए क्या है मामला . - एसीबी ने हाउसिंग बोर्ड के इंजीनियर सुभाष यादव के मानसरोवर स्थित आवास व अन्य ठिकानों पर छापे मारे। सुभाष के मानसरोवर स्थित घर पर एसीबी की आठ सदस्यों की एक टीम ने सुबह छह बजे छापा मारा। - एसीबी की एक अन्य टीम ने सुभाष के अन्य ठिकानों पर छापे मारे। टीम ने सुभाष की चल व अचल संपत्ति से जुड़े दस्तावेज खंगाले। - एसीबी सूत्रों के अनुसार उनकी वेबसाइट पर सुभाष यादव के खिलाफ आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने की शिकायत मिली थी। - जांच करने पर शिकायत को सही पाया गया। अब जांच में इस बारे में खुलासा होगा। शुरूआती जांच में सुभाष के जयपुर में और भी जगह अचल संपत्ति मिली है।


कंडे के ढेर में जल रहे थे लड़का-लड़की, दोनों के ये बॉडी पार्ट थे कटे हुए

29 September 2017
अलवर(राजस्थान)।यहां के एक गांव में कंडे(उपले) के ढेर में लड़का-लड़की के अधजले शव बरामद किए गए हैं। लड़की का धड़ मिला है तो लड़के का गुप्तांग व नाक कटी हुई है। इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि दोनों की हत्या कहीं और की गई और फिर यहां लाकर जलाया गया है। ....
जानिए और इस बारे में - चंडीगढ़ अहीर गांव में कस्तूरबा स्कूल के सामने गोबर के उपलों से बने बटेवड़े (ढेर) के जलने पर ग्रामीण वहां पहुंचे। ग्रामीण वहां देख ही रहे थे कि एक जलती हुई लाश ढेर से लुढ़ककर बाहर आ गई। उन्होंने पुलिस को फोन किया। - पुलिस अधिकारियों ने एफएसएल टीम को बुला लिया। पुलिस ने देखा कि मृतक की नाक व गुप्तांग कटा हुआ था। - लड़के का शव मिलने के करीब चार घंटे बाद जलते हुए उपलों के ढेर से बदबू आना बंद नहीं हुई तो ग्रामीणों फिर पुलिस को फोन किया। पुलिस, एफएसएल व डॉग स्क्वायड टीम वहां पहुंची और जांच की। जांच में वहां से एक युवती का अधजला शव मिला। युवती का शव एक प्लास्टिक के बैग में रखा था। युवती का सिर व टांगे गायब थे।
कार में लाए थे शव. - सरपंच कृष्ण यादव के अनुसार गांव का रणवीर यादव खेत की तरफ जा रहा था तो एक कार को आते हुए देखा। उसने करीब 25 मिनट बाद कार को लौटते देखा और उपलों के ढेर में आग लगी देख सरपंच व ग्रामीणों को बुलाया।


राजस्थान: कार की टक्कर से एक ही परिवार के 7 लोगों की मौत, तीर्थ पर पैदल जा रहे थे

27 September 2017
धौलपुर. यहां के सरमथुरा थाना इलाके में कार की टक्कर से एक ही परिवार के 7 लोगों की मौत हो गई। 11 लोग जख्मी हुए हैं। ये सभी कैलादेवी जा रहे थे और रास्ते में चाय पीने के लिए रुके थे। हादसा धौलपुर-जयपुर स्टेट हाईवे नंबर 11बी पर बुधवार तड़के 4 बजे हुआ। ...
कैसे हुआ हादसा. - हादसे में मारे गए सभी लोग धौलपुर जिले के बाड़ी थाना इलाके के धनोरा रोड के रहने वाले थे। - यहां के कुशवाह परिवार के 18 लोग मंगलवार रात 11 बजे अपने गांव से कैलादेवी और बिलौनी देवी को झंडा चढ़ाने पैदल निकले थे। - बुधवार तड़के करीब 4 बजे ये लोग चाय पीने के लिए एक रेस्टोरेंट पर खड़े थे, तभी तेज रफ्तार से आ रही बोलेरो बेकाबू होकर रेस्टोरेंट में घुस गई। ये सभी इसकी चपेट में आ गए। - करौली और धौलपुर के सरकारी हॉस्पिटल में सभी घायलों का इलाज चल रहा है।
हादसे के बाद ड्राइवर फरार. - हादसे की सूचना पर धौलपुर के एसपी राजेश सिंह समेत अन्य अफसर मौके पर पंहुचे और हालात का जायजा लिया। - हादसे के बाद कार का ड्राइवर मौके से फरार हो गया है, जिसकी तलाश की जा रही है।


नींदड़रावजी के रास्ते में हालात सामान्य, दो पक्षों में हुआ था झगड़ा, पथराव

25 September 2017
जयपुर। चांदपोल के नींदड़ राव जी का रास्ता में बीती रात हुए बवाल के बाद सोमवार को शांति है। इलाके में पुलिस बल तैनात है। नींदड़ राव जी का रास्ता में देर रात कुछ युवकों द्वारा ढोल बजाने की बात को लेकर दो पक्षों में झगड़ा हो गया था। कुद ही देर में झगड़ा इतना बढ़ गया कि दोनों पक्ष के दर्जनों लोग एक- दूसरे पर पथराव करने लगे तथा मारपीट पर उतर आए। सूचना मिलते ही काेतवाली सहित आसपास के थानों की पुलिस और करीब 100 पुलिसकर्मियों का जाप्ता मौके पर पहुंचा और मामले को शांत कराया। ...
अब है यहां शांति.. - एडीशनल डीसीपी राजेश कुमार मील ने बताया कि रात 10.15 बजे नींदड़ राव जी का रास्ता में एक गली में दो युवक ढोल बजा रहे थे। गली में कुछ लोग आए और ढोल बजाने का विरोध करने लगे। युवकों से उनकी मारपीट हो गई। तभी युवकों की तरफ से भी कुछ लोग वहां पहुंचे और दोनों पक्षों में मारपीट, पथराव हो गया। पुलिस मौके पर पहुंची और मामला शांत करवाया। - पत्थरबाजी में 10 लोगों को चोटें आई हैं। एक व्यक्ति के सिर में गंभीर चोट आई है। पत्थर लगने से कुछ गाड़ियों के शीशे फूट गए। रातभर इलाके में पुलिस जाप्ता तैनात रहा। पुलिस झगड़ा करने वाले लोगों की पहचान कर रही है।


घट स्थापना के साथ शारदीय नवरात्र शुरू, पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा

21 September 2017
जयपुर। शक्ति, सामर्थ्य और सफलता के उत्सव नवरात्र गुरुवार से आरंभ हो गए। घर व मंदिरों में घट स्थापना के साथ शारदीय नवरात्र की शुरूआत हो गई जो नौ दिन तक चलेगी। अष्टमी पूजन 28 को किया जाएगा। मंदिरों में तड़के से ही भक्तों की लंबी कतारें लग गईं। जयपुर के आमेर में शिला देवी के मंदिर में बड़ी संख्या में भक्त मां के दर्शन करने पहुुंचे। देवी मंदिर मां के जयकारों से गुंजायमान हो गए। भक्तों की भीड़ को देखते हुए मंदिरों में व्यवस्थाएं की गई हैं।
जानिए घट स्थापना के सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त के बारे में......... - शास्त्रों के अनुसार घट स्थापना का समय द्विस्वभाव लग्न युक्ति प्रातःकाल को सर्वश्रेष्ठ माना गया है। सूर्योदय से चार घंटे का समय प्रथा काल होता है। 22 सितंबर : राजयोग पूरे दिन 23 सितंबर : सर्वार्थसिद्धि योग दिनभर-रात 2:15 बजे तक 24 सितंबर : रवि योग सूर्योदय पूर्व सुबह 4:26 से रात तक 25 सितंबर : सर्वार्थसिद्धि योग संपूर्ण दिन-रात, रवि योग भी 26 सितंबर : रवियोग सुबह 7:03 बजे तक 27 सितंबर : रवियोग सुबह 6:05 से 9:58 बजे तक 29 सितंबर : रवियोग दोपहर 3:48 बजे से 30 सितंबर : सर्वार्थ सिद्धि योग, रवि योग और अबूझ मुहूर्त दिन और रात
मानसिक शांति के लिए करें सरस्वती पूजन.... - शास्त्रों में शक्ति स्वरूपा मां दुर्गा के तीन रूपों का मुख्य रूप से पूजन किया करने का उल्लेख है। महासरस्वती, महालक्ष्मी और महाकाली। बुद्धि विकास और मानसिक शांति के लिए मां सरस्वती, धन ऐश्वर्य के लिए महालक्ष्मी और युद्ध विजय प्राप्ति के लिए महाकाली के पूजन का विधान है। इन तीनों को त्रिगुणित करने से नवरात्रि नवदुर्गा हो जाती हैं।
नवरात्र में कई शुभ-मांगलिक कार्यों के योग.... -यूं तो नवरात्र अपने आप में ही शुभ योग होते हैं। इन नौ दिनों में शुभ और मांगलिक कार्यों नई खरीदारी, वस्त्र, आभूषण, भूमि, भवन, वाहन, बर्तन, घर के डेकोरेशन के सामान खरीदने के लिए कई शुभ योग रहेंगे। नया व्यापार, सगाई और शादी जैसे अन्य मांगलिक कार्य भी इन दिनों में किए जा सकते हैं। खरीदारी और मांगलिक कार्यों का विशेष फल मिलेगा। सर्वश्रेष्ठ मुहूर्त : सुबह 6:18 से 7:49 बजे तक विशेष प्रथा कला : सुबह 6:18 से 10:20 बजे तक अभिजीत: दोपहर 12:00 से 12:44 बजे तक रहेगा द्विस्वभावकन्या लग्न : सुबह 6:00 से 8:18 बजे तक द्विस्वभावधनु लग्न : दोपहर 12:52 से 2:56 तक त
चौघड़िया अनुसार मुहूर्.... शुभ : सुबह 6:18 से 7:49 बजे तक चर: सुबह 10:50 से दोपहर 12:20 बजे तक रहेगा लाभ: दोपहर 12:20 से 1:50 बजे तक अमृत: दोपहर 1:51 से 3:20 बजे तक
पहले दिन होती है मां शैलपुत्री की पूजा.. - मां शैलपुत्री नवदुर्गाओं में प्रथम दुर्गा हैं। देवी वृषभ पर विराजित हैं। उनके दाहिने हाथ में त्रिशूल है और बाएं हाथ में कमल पुष्प। नवरात्र के प्रथम दिन देवी उपासना के अंतर्गत शैलपुत्री का पूजन करना चाहिए। - शैलपुत्री का अर्थ है हिमालय की बेटी। आस्था और आत्मविश्वास अगर हिमालय की तरह अचल और स्थिर हो तो सफलता जरूर मिलती है। पुराणों में देवी की महिमा और नवरात्र के महत्व पर कई प्रसंग हैं, लेकिन नवरात्र शक्ति सामर्थ्य और सफलता का उत्सव है। भगवान राम ने नवरात्र के नौ दिनों में शक्ति प्राप्त की, दसवें दिन रावण का वध कर संसार को संकट से बाहर निकाला। ये नौ दिन शक्ति की साधना के हैं और सारी शक्ति हमारी आस्था और आत्मविश्वास पर टिकी है। हम नवरात्र के पहले दिन माता के प्रति आस्था और विश्वास जताकर अपने आत्मविश्वास को पुष्ट करते हैं। इसके बाद अगले आठ दिन अलग-अलग शक्तियों की साधना कर माता को प्रसन्न करते हैं। नौ दिनों के व्रत पालन से जीवन में विजय दशमी का उत्सव आता है। मार्कण्डेय पुराण में हिमालय हमारी शक्ति, दृढ़ता का आधार स्थिरता का प्रतीक है। महत्व: हमारे जीवन में दृढ़ताएं स्थिरता आधार का महत्व सर्वप्रथम है। अत: नवरात्र के पहले दिन हमें अपने स्थायित्व शक्ति मान होने के लिए माता शैलपुत्री से प्रार्थना करनी चाहिए। शैलपुत्री की आराधना करने से जीवन में स्थिरता आती है। हिमालय की पुत्री होने से यह देवी प्रकृति स्वरूपा भी हैं। स्त्रियों के लिए उनकी पूजा करना श्रेष्ठ और मंगलकारी है। ...
ध्यान मंत्र..... वन्दे वांछित लाभाय चन्द्रार्द्वकृतशेखराम्। वृषारूढ़ा शूलधरां यशस्विनीम्।


जयपुर मेंं अतिक्रमण हटाने की सबसे बड़ी कार्रवाई, ऐसे गरजा JDA का बुलडोजर

20 September 2017
जयपुर।शहर के गोपालपुरा बाईपास पर जेडीए ने बुधवार सुबह कार्रवाई कर अतिक्रमण हटाए। जेडीए की अतिक्रमण के खिलाफ कार्रवाई से लोगों में अफरा-तफरी मच गई। जेडीए के अधिकारों के अनुसार अतिक्रमण हटाने की यह जयपुर की सबसे बड़ी कार्रवाई है। ..
ऐसे हाटाया गया अतिक्रमण..... - बुधवार को गोपालपुरा बाइपास को चौड़ा करने के लिए सड़क सीमा में रहे 400 से ज्यादा निर्माण को तोड़े गए। जेडीए इस सड़क को 160 फीट चौड़ा करेगा। - व्यापारियों स्थानीय लोगों के विरोध को देखते हुए जेडीए ने 300 से ज्यादा पुलिसकर्मियों का जाब्ता लगाया। - प्रवर्तन विंग की मशीनरी मंगलवार रात ही बाइपास पर तैनात कर दी गई थी। - बुधवार सुबह जेडीए की कार्रवाई गोपालपुरा मोड की तरफ से शुरु हुई। ऐसे में गोपालपुरा मोड से रिद्धि-सिद्धि चौराहे की तरफ जाने वाला ट्रेफिक बंद रहा। इससे लोगों काफी परेशानी हुई। - जेडीए ने जोन- 4 जोन-5 में अवैध निर्माण को लेकर 215 नोटिस दे रखे थे।
2 पोकलैंड मशीन, 15 लोकंडा सिस्टम और एक दर्जन जेसीबी आई.... - जेडीए ने निर्माण तोड़ने के लिए 2 पोकलैंड मशीन, 15 लोकंडा सिस्टम एक दर्जन से ज्यादा जेसीबी मंगवाई। - जेडीए के पुलिस अधीक्षक राहुल जैन ने बताया कि सड़क में दायरे में रहे अवैध निर्माण को हटाया जाएगा। इसके लिए ट्रैफिक का डायवर्जन भी किया जाएगा।
ऐसे किया लोगों ने विरोध.... - सड़क दायरे में रहे मकान दुकानें तोड़ने का व्यापारियों स्थानीय लोग विरोध किया। इनका कहना है कि सोसायटी के पट्टे लेकर खातेदारी जमीन पर दुकान मकान बने हैं। सड़क दायरे में आने वाली दुकानों से 700 परिवारों की जीविका चल रही है। दुकानें 25 से 40 साल पुरानी हैं। जेडीए अवाप्त की प्रक्रिया करके ही सड़क चौड़ी करे। मुआवजे के तौर पर कॉमर्शियल दुकानें दे, पुनर्वास करे। - टोंक रोड ही 160 फीट चौड़ी नहीं है, फिर गोपालपुरा को चौड़ी करने के दबाव के बारे में जेडीए सार्वजनिक जानकारी दे। सेंट्रल लाइन दुबारा तय हो, ताकि खाली 140 फीट सड़क में ही चौड़ी बनाई जा सके।


स्कूल में लड़की से एक्ट्रा क्लास के बहाने रेप करते रहे टीचर, प्रेग्नेंट हुई तो किया ये हाल

18 September 2017
अजीतगढ़ (सीकर)।सीकर के अजीतगढ़ में दो टीचर एक माह तक अपनी ही 18 साल की स्टूडेंट से सामूहिक दुष्कर्म करते रहे। इतना ही नहीं टीचर्स ने डाक्टरों से मिलीभगत कर उसका गर्भपात भी करा दिया। इस संबंध में पीड़िता के भाई ने बीती रात को सीकर के अजीतगढ़ थाने में केस दर्ज कराया है। केस दर्ज होते ही दोनों आरोपी गायब हो गए। पुलिस उनकी तलाश कर रही है। पुलिस ने इस मामले में तीन टीमें गठित की हैं। वहीं पीड़िता की हालत नाजुक बनी हुई है।
जानिए क्या है मामला .... - अजीतगढ, एसएचओ मंगलाराम ओला ने बताया कि अजीतगढ़ में हरदास का बांस गांव के जनता बाल विद्या मंदिर सीनियर सेकंडरी स्कूल की 12वीं क्लास की एक छात्रा के साथ पिछले एक महीने से दो शिक्षक दुष्कर्म कर रहे थे। - स्कूल का संचालक जगदीश यादव और टीचर जगत सिंह गूजर छात्रा को एक्स्ट्रा क्लास के नाम पर स्कूल बुलाते और उसके साथ दुष्कर्म करते थे। - बच्ची के गुमसुम रहने के बावजूद घरवाले इस सब से बेखबर रहे। छात्रा ने 20 अगस्त के बाद स्कूल जाना बंद कर दिया। पीड़िता के बड़े भाई का बेटा भी उसी स्कूल में पढ़ता था। - टीचर्स ने उससे पूछा कि तेरी बुआ स्कूल क्यों नहीं आ रही। भाई ने घर आकर यह बात बताई। इस पर छात्रा की मां ने उससे पूछा तो उसने कहा कि मेरे पेट में दर्द है।
भनक लगते ही पहुंच गए अस्पताल - मां अपने बड़े बेटे के साथ पीड़ित बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंची। - स्कूल संचालक जगदीश यादव को इसकी भनक लग गई। वह अस्पताल पहुंच गया और पीड़िता की मां व भाई से मिला और उन्हें समझाया कि यह अस्‍पताल अच्छा नहीं है, उसकी जान पहचान का शाहपुरा में अच्छा अस्पताल है वहीं बच्ची को दिखाते हैं। वहां पहचान के डाक्टर हैं तो अच्छा इलाज मिल जाएगा। - मां-बेटे इसके लिए तैयार हो गए और 25 अगस्त को पीड़ित बच्ची को लेकर रजनीश शाहपुरा अस्पताल पहुंचे। वहां जदगीश ने डाक्टरों से बात कर ली थी। रजनीश हॉस्पिटल के डाक्टर कानन शर्मा और रजनीश शर्मा ने पीड़िता का चेकअप किया और उसकी मां से कहा कि बच्ची का तुरंत आपरेशन करना पड़ेगा। घबराई मां ने कागजों पर साइन कर दिए। दोनों डाक्टरों ने ऑपरेशन के नाम पर बच्ची का गर्भपात करवा दिया।
हालत बिगड़ी, फिर भाई को बताई सारी बात - घर लाने के बाद उसकी चार सितंबर को फिर हालत बिगड़ गई। इस पर मां व भाई उसे अस्पताल ले जाने लगे। डरी सहमी बच्ची ने रास्ते में अपने भाई को दुष्कर्म की बात बताई। अस्पताल लाने पर डाक्टरों ने उसका इलाज किया लेकिन हालत में सुधार नहीं होने पर बच्ची को जयपुर रेफर कर दिया। - सात सितंबर को बच्ची को जयपुर में भर्ती कराया गया। बच्ची सदमे में है। बीती रात को भाई ने अजीतगढ़ लौट कर जगदीश और जगत सिंह के खिलाफ उसकी बहन से सामूहिक दुष्कर्म व उसका गर्भपात कराने का केस दर्ज कराय। रिपोर्ट देरी से दर्ज कराने के बारे में उसने कहा है कि वह अपनी बहन के इलाज में व्यस्त था इसलिए रिपोर्ट दर्ज नहीं करा पाया। - फिलहाल पुलिस ने धारा 376, 313, 201, 120 के तहत मामला दर्ज कर दिया है। - केस दर्ज होते ही जगदीश और जगत लापता हो गए। पुलिस ने कई जगह दबिश दी है, लेकिन दोनों का कुछ पता नहीं लगा। - डाक्टरों की भूमिका संदिग्ध होने पर पुलिस गर्भपात कराने वाले डाक्टरों से भी पूछताछ करेगी। - इस मामले की जांच डीएसपी, नीम का थाना कुशाल सिंह कर रहे हैं। इस मामले में तीन टीमें गठित की गई हैं।


6 साल की बच्ची से ज्यादती पर पुलिस चुप, पिता बोला, बेटी के साथ कुछ गलत हुआ है

15 September 2017
बाड़मेर। शहर के जैसलमेर रोड स्थित एक प्रतिष्ठित सरकारी स्कूल में पढ़ने वाली छह वर्षीय बालिका के साथ ज्यादती की सूचना से सनसनी फैल गई। बच्ची का मेडिकल बोर्ड से मेडिकल कराया गया है। अब मेडिकल रिपोर्ट के बाद ही दुष्कर्म के बारे में स्थिति स्पष्ट होगी। बच्ची से ज्यादती की सूचना पर पुलिस व प्रशासन के आला अधिकारी मौके पर पहुंचे। देर रात तक स्कूल में मासूम से ज्यादती के मामले को लेकर स्कूल प्रशासन से पूछताछ और जांच की गई, लेकिन पुलिस किसी नतीजे पर नहीं पहुंची। बच्ची का पिता बोला, बच्ची के साथ कुछ गलत हुआ है, लेकिन मुझे कानून पर पूरा भरोसा है।
जानिए पुलिस ने नहीं किया कंर्फम ... - एसपी ने दावा किया कि अभी तक ऐसी घटना को वे कंफर्म नहीं कर रहे हैं, लेकिन परिजनों का कहना है कि बालिका के साथ स्कूल में गलत काम हुआ है। मामले को संदिग्ध मान पुलिस पड़ताल में जुटी हुई है। इसको लेकर देर रात तक परिजनों की ओर से पुलिस को कोई रिपोर्ट नहीं दी गई।
यह है मामला - जानकारी के अनुसार कक्षा दो में पढ़ने वाली छह साल की बच्ची की हालत बिगड़ने पर परिजन उसे शाम को शहर के निजी अस्पताल ले गए। डॉक्टर ने जांच के बाद बच्ची के साथ कुछ गलत होने का अंदेशा जताया और पुलिस को सूचना दी। - इस पर पुलिस पहुंची और उसको जिला अस्पताल में भर्ती करवाया। इस संबंध में स्कूल के प्राचार्य को भी सूचना दी गई। इसके बाद कलेक्टर शिवप्रसाद मदान नकाते, एसपी डॉ. गगनदीप सिंगला, एएसपी रामेश्वर लाल मेघवाल सहित कई पुलिस अधिकारी स्कूल पहुंचे और मामले की जांच शुरू की गई। - रात तीन बजे तक एसपी-कलेक्टर सहित पुलिस की टीमें मामले की पड़ताल में जुटी रहीं। इस मामले को लेकर एसपी ने बताया कि अभी तक यह साफ नहीं हुआ है कि बच्ची के साथ ज्यादती हुई है। इसको लेकर जानकारी जुटाई जा रही है।
कलेक्टर-एसपी जिला अस्पताल पहुंचे, परिजनों और बच्ची से मिले - देर रात कलेक्टर-एसपी जिला अस्पताल पहुंचे, जहां बालिका के माता-पिता से मिले। परिजनों को आश्वस्त किया कि अगर कुछ गलत हुआ तो इंसाफ जरूर मिलेगा।
स्कूल में चार घंटे अधिकारियों की परेड, फुटेज खंगाले - स्कूल में बालिका के साथ ज्यादती की आशंका पर एसपी, कलेक्टर, एएसपी, स्कूल प्राचार्य, पुलिस इंस्पेक्टर सहित कई अधिकारी चार घंटे तक परेड करते रहे। एसपी ने स्कूल के सीसीटीवी फुटेज भी खंगाले और स्कूल स्टाफ से पूछताछ भी की। - रात 10.30 बजे एसपी, 11.15 बजे कलेक्टर, 11.30 बजे एएसपी, 11.35 बजे सेना पुलिस स्कूल पहुंची। अलग-अलग पहलुओं को लेकर जानकारी जुटाई और पड़ताल की, लेकिन देर रात तक कोई भी अधिकारी पुष्टि करने से बचता रहा।
पिता बोला कानून पर पूरा भरोसा - बच्ची के साथ ज्यादती की आशंका पर परिजन सकते में थे। बच्ची के पिता ने रोते हुए बताया कि बच्ची के साथ कुछ गलत हुआ है, लेकिन मुझे कानून पर भरोसा है।
डाक्टर बोले यूरिन इंफेक्शन, ज्यादती के बारे में साधी चुप्पी - डाक्टर इसे यूरिन इंफेक्शन बता रहे हैँ। डाक्टरों का कहना है कि यह सामान्य रोग है और किसी को भी हो सकता है। वे ज्यादती की बात से न तो इनकार कर रहे हैं और न ही पुष्टि। वे कह रहे हैं कि मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट में ही इसके बारे में सामने आएगा।


किसान क्रांति: कच्चा-पक्का हर रास्ता जाम, 4000 लोग बेराेजगार हुए, 40 करोड़ का कारोबार ठप

13 September 2017
सीकर.कर्ज माफी सहित 11 मांगों को लेकर अखिल भारतीय किसान सभा का चक्काजाम दूसरे दिन भी जारी रहा। दो दिन तक चक्काजाम होने के चलते आमजन को भारी परेशानी हो रही है। किसान राष्ट्रीय राजमार्ग 52, सहित कस्बे व जिले के सभी कच्चे-पक्के रास्ते जाम कर बैठे हुए हैं। इससे रोडवेज, निजी बस, ट्रक, निजी वाहन सब ठप हैं। किसानों ने शांतिपूर्ण तरीके से चक्काजाम किया और जिलेभर में कहीं कोई अव्यवस्था नहीं फैली। अत्यावश्यक सेवाओं में शामिल एबुलेंस, मरीजों के वाहनों, बारात को हर जगह से निकाला गया। बाजारों में अन्य दिनों की बजाय खरीदारी आधी से भी कम रही। बहुत से व्यापारियों ने बंद नहीं होने के बावजूद अपने प्रतिष्ठान स्वत: ही बंद रखे
500 से ज्यादा पुलिकर्मियों का फोर्स तैनात रहा... - बड़े नेताओं के जयपुर में वार्ता के लिए जाने के बाद भी महापड़ाव पर किसान बैठे रहे। किसानों के बीच कविता पाठ का दौर चलता रहा। किसानों ने कविताओं के जरिए सरकार के प्रति नाराजगी जताई। दी बार एसोसिएशन ने महापड़ाव के समर्थन में न्यायिक कार्य का बहिष्कार किया। एसोसिएशन अध्यक्ष वीरेंद्र सिंह ने बताया कि जिलेभर में न्यायिक कर्मचारी किसानों के समर्थन में शामिल रहे। - जयपुर रोड पर सोमवार रात तक 500 से ज्यादा पुलिकर्मियों का फोर्स तैनात रहा। जिसमें एसटीएफ, आरएसी, कोबरा व पुलिस के जवान शामिल थे। मंगलवार को करीब 50 पुलिसकर्मियों का फोर्स ही मौजूद रहा। बाजार में भी पुलिस ने बेरिकेट्स हटाए। जिससे दिनभर मुख्य सड़कों पर वाहनों की आवाजाही रही।
मंडी में आवक नहीं होने से सब्जियों के भाव हुए दोगुने, दूध भी 70 से 80 रु. किलो बिका - दो रोज से शहर के चार हजार लोग बेरोजगार हैं, क्योंकि चक्का जाम के कारण शहर में तीन हजार ऑटो, 70 सिटी बस नहीं चल पा रही है। - 700 थड़ी चालक, 600 फेरी वाले काम पर नहीं जा सके। वहीं 300 टी स्टॉल नहीं लग पाई। ये सभी लोग रोजमर्रा की आमदनी से परिवार चलाते हैं। - वहीं खरीदारी नहीं होने के कारण दो रोज में करीब 40 करोड़ रुपए का कारोबार प्रभावित हो चुका है। चक्का जाम के दूसरे दिन दोपहर तक आम आदमी पर इसका असर सामने आने लगा। - पेट्रोल पंप पर स्टॉक खत्म होने की ओर है। क्योंकि ऑयल डिपो से सप्लाई देने वाली गाडिय़ां पंप तक नहीं पहुंच पा रही है। बाजार में कई दुकानदार दूध-सब्जी सहित अन्य रोजमर्रा की चीजों पर तय कीमत से ज्यादा पैसा वसूल कर रहे हैं। - दो दिन से किसान जयपुर रोड पर चक्का जाम किए हुए हैं। इसके अलावा किसानों ने बाहरी इलाके सील कर रखे हैं। करीब एक हजार चालक दूर दराज से आकर शहर में रह रहे हैं। जो ऑटो किराए पर लेकर मजदूरी कर रहे हैं। कमाई नहीं होने के बावजूद ऑटो मालिक को रोजाना पैसा देना पड़ रहा है। ऐसे में इन्हे दोगुना नुकसान उठाना पड़ रहा है।
- दूध-सब्जी.. दो दिन से चक्काजाम के चलते पलसाना सरस डेयरी में संकलन केंद्रों से दूध नहीं पहुंच पा रहा है। वहीं कृषि उपज मंडी सीकर सहित अन्य मंडियों में सब्जियां, फल व अन्य कृषि जींस नहीं पहुंच पा रहे हैं। इससे सब्जियों के दाम दोगुने हो गए हैं। आमजन को सबसे ज्यादा दूध के लिए परेशान होना पड़ रहा है। बाजार में दूध 70 से 80 रुपए प्रति किलो तक बिका। अन्य रोजमर्रा की वस्तुएं भी डेढ़ गुना दाम पर बिकी।
- स्कूल-कॉलेज... दो रोज से स्टूडेंट स्कूल, कॉलेज, कोचिंग नहीं जा पा रहे हैं। बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। प्रतियोगी परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों एक से दूसरे स्थान पर नहीं पहुंच पाए।
- वाहन.. दूसरे दिन मंगलवार को भी सिल्वर जुबली रोड सील रही। बजरंग काटा के पास से कल्याण सर्किल तक बैरिकेडिंग लगी रही। हालांकि पुलिस जाब्ते में कुछ कमी की गई।
- सरकारी कार्यालय.. सरकारी ऑफिसों में भी कामकाज करवाने वालों की संख्या में पहले की तुलना कमी आ रही है। क्योंकि जिला मुख्यालय पर बाहरी इलाकों से लोग नहीं पहुंच पा रहे हैं। सीकर सहित 6 जिलों में आवागमन बाधित सीकर में चक्का जाम के कारण चूरू, झुंझुनूं, बीकानेर, श्रीगंगानगर, नागौर जाने वाले रास्तों पर आवागमन बाधित रहा। इन जिलों में किसान चक्का जाम व प्रदर्शन कर रहे हैं। इधर, बारात की गाड़ियों को पास व स्टीकर लगाकर जाम से निकाला जा रहा है। पूर्व पार्षद एडवोकेट कय्यूम कुरैशी ने बताया कि सीकर से मंगलवार को एक बारात लोसल गई और दो बारात चौमूं व नवलगढ़ से सीकर आई। बारातियों की बसों और वाहनों को एक साथ आने को कहा गया।


कर्फ्यू के बीच हुआ हिंसा में मारे गए लड़के का अंतिम संस्कार, मिलेंगे 10 लाख रुपए

11 September 2017
जयपुर। आखिरकार आदिल के शव का सोमवार को अंतिम संस्कार कर दिया गया। घाटगेट स्थित कब्रिस्तान में आदिल के शव को पुलिस प्रशास व करीब दो सौ लोगों की मौजूदगी में सुपुर्दे खाक किया गया। इससे पहले सरकार आैर आदिल के परिवार के बीच बीती रात तीन बजे बनी सहमति के बाद पोस्टमार्टम करवाकर आदिल का शव उसके परिजनों को सौंप दिया गया था। उल्लेखनीय है कि शहर के रामगंज इलाके में हुई हिंसा में आदिल की मौत हो गई थी। प्रशासन ने सोमवार को कर्फ्यू में दो घंटे की ढील दी।
जानिए कर्फ्यू में दी दो घंटे की ढील ..... - रामगंज में हुई हिंसा में मरने वाले मोहम्मद रईस उर्फ आदिल (22) के शव का सोेमवार को पोस्टमार्टम करवाया गया। सरकार और आदिल के परिवार में सहमति बनने के बाद शव का पोस्टमार्टम कराया गया। देर रात 2:30 बजे मुस्लिम फोर्म के पदाधिकारियों और प्रशासन के बीच समझौता वार्ता हुई। इसमें आदिल के पोस्टमार्टम सहित अन्य मांगों पर सहमति बन गई। इसके बाद पोस्टमार्टम करवाकर शव उसके परिजनों को सौंप दिया गया।
पुलिस-प्रशासन ने समझौते के बारे में यह कहा. - मृतक के परिजनों को दस लाख रु. का मुआवजा दिया जाएगा। नौकरी के लिए रिव्यू किया जाएगा। पुलिस के खिलाफ धारा 302 में एफआईआर दर्ज होगी और जो दोषी होगा उस पर कार्रवाई होगी। - वहीं चारा थाना क्षेत्रों में जारी कर्फ्यू सोमवार को चौथे दिन भी जारी है। हालात की समीक्षा के बाद इस पर निर्णय किया जाएगा। इन इलाकों में इंटरनेट सेवा अभी भी बंद है, लेकिन 23 थाना इलाकों में से अब 9 में मोबाइल इंटरनेट सुविधा बहाल कर दी गई जबकि 14 थाना इलाकों में सोमवार रात 12 बजे तक इंटरनेट बंद रहेगा।
यहां इंटरनेट सोमवार को रहेगा बंद - नॉर्थ जिले में कोतवाली, शास्त्रीनगर, भट्टा बस्ती, गलता गेट, रामगंज, सुभाष चौक, ब्रह्मपुरी, जालूपुरा, संजय सर्किल, माणक चौक नाहरगढ़ इलाके में। ईस्ट जिले में लालकोठी, ट्रांसपोर्ट नगर, आदर्शनगर मोतीडूंगरी इलाके में।
इन इलाकों में स्कूल बंद - कर्फ्यू प्रभावित इलाकों में स्कूल सोमवार को बंद रहे। कलेक्टर सिद्धार्थ महाजन द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार जिन स्कूलों में परीक्षाएं हैं, वे खुलेंगे और छात्र-छात्राओं को स्कूल जाने की छूट रहेगी।
यह थी आदिल के परिजनों की मांग मांग 1 : भीड़ के खिलाफ मुकदमे वापस लिए जाएं। 2: परिजनों को एक करोड़ का मुआवजा नौकरी दें। 3: फायरिंग करने वालों को निलंबित किया जाए।
रात 2:30 बजे ऐसे हुई सुलह - दिन में मृतक आदिल के परिजनों ने पुलिस कमिश्नरेट तक रैली निकालने की योजना बनाई, लेकिन अनुमति नहीं मिली। रामगंज थाने में समझौता वार्ता हुई। सहमति नहीं बनी। रात 12 बजे मंत्री यूनुस खान के साथ फिर समझौता वार्ता हुई, लेकिन फेल रही। रात 2:30 बजे आदिल के पोस्टमार्टम सहित अन्य मांगों पर सहमति बन गई।
कर्फ्यू में दी 2 घंटे की ढील - प्रशासन ने सोमवार दोपहर 3.30 से 5.30 बजे तक कर्फ्यू में दो घंटे की ढील दी


जयपुर में मामूली विवाद के बाद उपद्रव: गोलियां चलीं, 1 की मौत; 4 थानों में कर्फ्यू

9 September 2017
जयपुर. यहां के रामगंज में शुक्रवार को कॉन्स्टेबल द्वारा रिक्शा हटाने के दौरान बाइक सवार कपल को डंडा लगाने के बाद लोग भड़क गए। भीड़ ने एक पावर हाउस के अलावा पुलिस के चेतक वाहन, एंबुलेंस समेत 5 गाड़ियों में आग लगा दी और 21 गाड़ियों में तोड़फोड़ की। गुस्साई भीड़ ने रामगंज थाने में घुसने की भी कोशिश की। पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे और कई राउंड हवाई फायर कर भीड़ को रोका। घटना में 8 पुलिसकर्मी जख्मी हो गए और फायरिंग में एक शख्स की गोली लगने से मौत हो गई। वहीं एक पुलिसकर्मी की हालत नाजुक है। देर रात 1 बजे 4 थाना इलाकों में कर्फ्यू लगाया गया है। रात दो बजे से पूरे शहर में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई।
मामूली विवाद यूं बना बवाल.... - रामगंज चौपड़ के पास सड़क लगने वाले ठेलों से रोड जाम होने की शिकायत पर रामगंज पुलिस अतिक्रमण हटवाने के लिए गई थी। इस दौरान साजिद नाम का शख्स अपनी पत्नी अरसी और बेटी के साथ बाइक से जा रहा था। - उनका आरोप है कि वहां खड़े पुलिसकर्मी का उनकी पत्नी और बेटी को डंडा लग गया। इसके बाद पुलिसकर्मी से कहासुनी हो गई। रात करीब 9 बजे युवक रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए थाने पहुंचा। तभी रामगंज थाने के सामने भीड़ इकट्टी होना शुरू हो गई और पथराव शुरू हो गया। - भीड़ ने नारेबाजी करते हुए आरोपी पुलिसकर्मी के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। पुलिस मामले को लेकर बातचीत कर रही थी कि कुछ लोगों ने थाने में घुसने की कोशिश की। नाराज भीड़ को काबू में करने के लिए पुलिस ने हवाई फायर किए। इसके बाद भीड़ ने 108 एंबुलेंस, बाइक समेत 5 गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। - पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हलका लाठीचार्ज भी किया। भीड़ ने पत्रकारों और फाेटो पत्रकारों से मारपीट की व कैमरे छीन लिए। आरएसी की कंपनी, एसटीएफ, पुलिस जाप्ता, वज्र वाहन को इलाके में तैनात किया गया है। भास्कर के फोटोग्राफर अनिल शर्मा से मारपीट की गई और कैमरा छीन लिया गया। - पथराव और लाठी चार्ज की घटना में पुलिसकर्मियों के अलावा भीड़ में शामिल लोग भी घायल हुए। घायलों के देर रात तक अस्पतालों में पहुंचने का सिलसिला जारी था। मौके पर मौजूद लोगों के अनुसार करीब एक दर्जन लोगों को चोटें अाईं।
कर्फ्यू वाले इलाकों में आज स्कूल बंद.. - रामगंज, माणक चौक, सुभाष चौक और गलता गेट थाना इलाकों में रात करीब 1 बजे कर्फ्यू लगा दिया गया। इन इलाकों में शनिवार को स्कूल समेत दूसरे इंस्टीट्यूट बंद रहेंगे।
दिल्ली-आगरा की ओर जाने वाली गाड़ियों का रूट डायवर्ट.. - सिंधी कैंप से दिल्ली-आगरा की ओर जाने वाली बसों और दूसरी गाड़ियों को डायवर्ट कर दिया गया है। - दिल्ली जाने वाली गाड़ियों को आमेर से नहीं निकालकर एक्सप्रेस हाइवे से निकाला गया। वहीं आगरा रोड पर जाने वाली गाड़ियों को कड़ी सिक्युरिटी में ट्रांसपोर्ट नगर से निकाला गया। लोगों के गुस्से काे देखते हुए दिल्ली बाईपास पर ट्रैफिक रोक दिया गया।
भास्कर अपील.. शांति और प्रेम ही जयपुर की पहचान है। कुछ घटनाएं ऐसी हो जाती हैं जो गुलाबी परंपरा के लिए चुनौती बन जाती हैं। रामगंज की घटना भी कुछ ऐसी ही है। बात मामूली थी। अफवाहों ने इस घटना को इतना विकराल बना दिया। कई फेक वीडियो और अफवाहें चल रही है। अफवाहों पर ध्यान न दें, न ही फॉरवर्ड करेंं।


कोचिंग इंस्टीट्यूट रेजोनेंस के जयपुर सहित 18 ठिकानों पर आयकर विभाग के छापे

7 September 2017
जयपुर। कोचिंग संस्थान रेजोनेंस के देशभर में 18 ठिकानों पर इनकम टैक्स ने गुरुवार को एक साथ छापे मारे। आयकर विभाग की विजिलेंस विंग ने जयपुर, बेंगलुरू और कोटा में छापे मारे। आयकर विभाग की टीमें कोटा स्थित रेजोनेंस के डायरेक्टर आरके वर्मा के घर पर भी छापा मारा।
जानिए क्या है मामला .. - आयकर विभाग की टीमों ने रेजोनेंस के जयपुर में गोपालपुरा व वैशालीनगर स्थित कोचिंग सेंटर्स व ऑफिस पर छापे मारे। इसके अलावा कोट में झालावाड़ रोड स्थित रेजोनेंस के ऑफिस सहित दो स्थानों पर छापा मारा। आयकर की टीमों ने रेजोनेंस के डायरेक्‍टर आरके वर्मा के घर पर भी छापा मारा। - टीमों ने ने यहां से दस्तावेज की पड़ताल की। छापों के दौरान किसी को भी भीतर नहीं जाने दिया गया न ही भीतर से बाहर जाने दिया गया।


घरवाले शादी के लिए राजी नहीं थे, प्रेमी युगल ने ट्रेन के आगे कूद कर जी जान

4 September 2017
पालीबंगा (हनुमानगढ़)। हनुमानगढ़ के पीलीबंगा में सोमवार को एक प्रेमी युगल ने ट्रेन के आगे कूद कर जान दे दी। दोनों में काफी समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था जिसका परिजन विरोध कर रहे थे। बीती रात दोनों घर से भागे और ट्रेन के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली।
जानिए क्या है मामला .. - जीआरपी सूरतगढ़ चौकी प्रभारी जगदीश मेघवाल ने बताया की सोमवार तड़के अहमदाबाद-जम्मूतवी हनुमानगढ़ के पीलीबंगा से गुजर रही थी। तभी एक युवक और लड़की पटरी पर आ गए। ड्राइवर ने हॉर्न बजाकर उन्हें सचेत किया, लेकिन वे नहीं हटे और ट्रेन से कट गए। - ड्राइवर ने गाड़ी रोकी और गार्ड ने जीआरपी को हादसे के बारे में बताया। इस पर जीआरपी के अधिकारी वहां पहुंचे। - हादसा होने के थोड़ी देर में वहां स्थानीय लोग एकत्र हो गए। पुलिस ने आस-पास के लोगों से पूछताछ की तो लोगों ने बताया कि मृतक राजेश उर्फ राजकुमार (30) पुत्र ताराचंद मेघवाल पक्का सहारण का रहने वाला था तथा मृतका सुलोचना (22) पुत्री बालचंद मेघवाल कालीबंगा की रहने वाली थी।
काफी समय से था प्रेम प्रसंग... - पुलिस ने दोनों के परिजनों को फोन कर हादसे की जानकारी दी। इस पर उन्होंने बताया कि राजेश और सुलोचना में काफ समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था। दोनों शादी करना चाहते थे, लेकिन परिजन इसका विरोध कर रहे थे। काफी मनाने व समझाने के बाद भी दोनों शादी करने पर अड़े थे। - रात को राजेश व सुलोचना अपने घरों से निकल गए। परिजन उन्हें तालशते रहे और वे रावतसर फाटक पर पहुंच गए। तड़के उन्होंने ट्रेेन के आगे कूद कर जान दे दी।


रैली के कारण 2 घंटे जाम, क्योंकि प्रशासन भांप नहीं पाया किसानों की संख्या

2 September 2017
अखिल भारतीय किसान महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमराराम ने कहा कि औद्योगिक घरानों को 11 हजार करोड़ रुपए बांट दिए जाते हैं। किसान ऋण न चुकाएं तो जमीन नीलाम कर देते हैं। सभा में अखिल भारतीय किसान महासभा के प्रदेशाध्यक्ष पूर्व विधायक पेमाराम ने कहा कि चाहे केंद्र की सरकार हो या राज्य की, किसानों का दर्द किसी ने नहीं समझा। जबकि चुनावी वादों में तो किसानों का दर्द दिखाई दे गया। हम पार्टी के लिए नहीं पेट की लड़ाई के लिए महापड़ाव डालने आए हैं। 62 किसान संगठनों ने एक राय होकर एक मांग तय की है कि खेतों में खेती करने वाले किसान चाहे वह महिला हो या पुरुष सभी को 60 साल की अवधि पूरी होने के बाद पांच हजार रुपए महीने की पेंशन मिले। किसानों ने महापड़ाव के लिए पूरी तैयार की है। महापड़ाव के दौरान 800 गांवों के किसानों ने करीब 6.40 करोड़ रुपए का अन्न संग्रह किया है। प्रत्येक गांव से करीब 50-50 बोरी अनाज की बोरी ली। इस तरह 40 हजार अनाज की बोरी इकट्ठा की गई है।
3 माह से आंदोलन जारी, 15 दिन से किसान चेता रहे थे महापड़ाव के लिए, कोई तैयारी नहीं की प्रशासन ने
शौचालय : नेता बोले-स्वच्छता अभियान की धज्जियां उड़ेंगी.. कृषि मंडी में किसानों के लिए प्रशासन ने शौचालय की कोई व्यवस्था नहीं की है। पूर्व विधायक पेमाराम ने कहा कि प्रशासन मंडी परिसर में सुबह तक चल शौचालयों की व्यवस्था करवाएं, नहीं तो हमने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के स्वच्छता अभियान का ठेका नहीं ले रखा है।
जाम : अंदाजा ही नहीं लगा सके कि रैली निकालेंगे.. 30 अगस्त को माकपा ने एसडीएम को भी पत्र देकर महापड़ाव के बारे में बता दिया था। इसके बाद भी पुलिस व प्रशासन ने कोई तैयारी नहीं की। पूर्व विधायक अमराराम ने घोषणा कि रैली निकालकर फिर से ज्ञापन देंगे। ही नहीं था। रैली के दौरान दो घंटे तक दो किमी का जाम लग गया।
पानी : किसानों ने व्यवस्था नहीं होने पर जताया आक्राेश... कृषि मंडी में प्रशासन की तरफ से पेयजल के भी कोई बंदोबस्त नहीं किए। इसे लेकर भी किसानों ने आक्रोश जताया। मंडी परिसर की सफाई भी नहीं होने से किसानों ने कहा कि प्रशासन ने हद ही कर रखी है। किसानों को टैंकर मंगा पानी का इंतजाम करना पड़ा।
2000 करोड़ का कर्ज, बारिश नहीं होने से 2307 करोड़ की फसल खराब... 2000 करोड़ रुपए का कर्ज हैं किसानों पर। 03 लाख किसान चाहते हैं कि उनका कर्ज माफ किया जाए। 40 हजार किसानों की जमीन को कुर्की कर सकते हैं बैंक। 25 दिन तक बारिश नहीं होने की वजह से खरीफ फसलों पर 2307 करोड़ रुपए का खराबा होने का संकट मंडराने लगा है। 90 फीसदी दलहन की फसलें पूरी तरह हो चुकी हैं चौपट।


हमें तो चुनौतियों को चुनने और उन्हे चुनौती देने की आदत: पीएम मोदी

30 Aug 2017
उदयपुर।प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी मंगलवार को एक दिवसीय यात्रा पर उदयपुर के खेलगांव पहुंचे। इस दौरान लोगों को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि उन्हे चुनौतियों को चुनने और चुनौतियों को चुनौती देने की आदत है। इसके साथ उन्होंने ये भी कहा कि देश में बुराइयां इतनी बढ़ गई हैं कि कोई ढीला ढाला आदमी होता तो डर जाता। सीएम वसुंधरा राजे और राज्यपाल कल्याण सिंह डबोक एयरपोर्ट पर उनका स्वागत किया। इस दौरान केंद्र मंत्री नितिन गडकरी भी पीएम मोदी के साथ हैं। इसके बाद पीएम मोदी ने खेलगांव पहुंचे। यहां सीएम वसुंधरा ने पीएम मोदी को शॉल भेंट की। वहीं गुलाब चंद कटारिया ने पीएम को मेवाड़ी पगड़ी पहनाई। - पीएम मोदी ने राजस्थान में सभी को संबोधित करते हुए कहा कि ये महाराणा प्रताप और मीरा की भूमी है। - इसके साथ उन्होंने कहा कि आप इतनी बड़ी संख्या में आशिर्वाद देने आए इसके लिए आपका आभार व्यक्त करता हूं। - बाढ़ पर पीएम मोदी बोले की राजस्थान में कई जगह ये संकट आया। राज्य सरकार ने अपना एक प्रतिवेदन भारत सरकार को भेजा है। राजस्थान के लोगों को विश्वास दिलाता हूं की इस संकट की स्थिती में भारत सरकार आपके साथ खड़ी रहेगी। इस संकट से बाहर निकलकर के हम सब आगे बढ़े। इसके लिए मिलजुल कर प्रयास करेंगे।
हमें चुनौतियों को चुनौती देने की आदत है.... - चुनाव के वक्त वादे करना। अखबारों में हैडलाइन बनना। ये सारे खेल देश भलीभांती देखता आया है। सालों से यही चला है। हमारे सामने ये सबसे बड़ी चुनौती यही है। इन बुराइयों को खत्म करने में इनती ताकत लगती है जिसकी कल्पना भी नहीं की जा सकती। ऐसे हालात छोड़ कर गए हैं कि बुराइयां इतनी बढ़ गई हैं। अगर कोई ढीला ढाला आदमी होता तो डर जाता, लेकिन हमे चुनोतियों को चुनने की भी आदत , चुनोतियों को चुनौती देने की भी आदत है और उनसे लड़ने की भी आदत है। - हमें समय सीमा में काम करना है। हमें व्यवस्थाओं को आधुनिक बनाना होगा। - राजस्थान की कायापलट होकर रहेगी। हमने जो वादे किए उन्हें पूरा करके रहेंगे। - इसके साथ 9 हजार करोड़ की लागत से सड़के बनेंगी। जो किसानों को सीधा फायदा पहुंचएंगी।
5600 करोड़ का प्रोजेक्ट तीन साल में पूरा कर दिया - पीएम मोदी ने चंबल के ब्रिज का जिक्र करते हुए कहा कि 2006 से 2017। 11 साल और बजट कितना 300 करोड़ से भी कम। सरकार सरकार में फर्क क्या होता है, काम करने वाली सरकार किसको कहते हैं। ये समझने के लिए काफी है कि एक छोटा सा ब्रिज साल या डेढ़ साल में बन जाए। 11 साल बीत गए। - ''आज 5600 करोड़ का वो प्रोजेक्ट हमने तीन साल में पूरा कर दिया। काम करने की लगन होनी चाहिए। हम उस संस्कृति को लाए हैं कि जिस कार्य की शुरुआत हम करेंगे, तो उसे खत्म भी हम ही करेंगे
टूरिज्म पर भी बोले - "राजस्थान की रोड तो पैसे उगलने की ताकत रखती हैं। क्योंकि राजस्थान में दूरियां बहुत हैं। यहां टूरिज्म बहुत है। दुनिया के टूरिस्ट पुष्कर आना चाहते हैं। वो जोधपुर आना चाहते हैं। यही जैसलमेर के बारे में है। अनगिनत स्थान हैं और इसकी ताकत भी यही है।" - ''राजस्थान में टूरिज्म बड़ी ताकत है। पर्यटक आता है तो अपनी जेब खाली कर दुसरों की भरकर जाता है। इनके आने से फूल वाले से लेकर चाय वाले तक सब कमाएंगे।'' - ''राजस्थान के कोने-कोने में पर्यटक को आकर्षित करने का काम किया जाएगा।''
शहर और गांव का फर्क खत्म होगा - ऑप्टिकल फाइबर तकनीक से बदलेंगे शिक्षा की तस्वीर। इससे शहर और गांव का फर्क खत्म होगा। - उज्जवला योजना से गरीब महिलाओं को हुआ फायदा। इससे लाखों महिलाओं को मदद मिली। इस योजना ने गरीबी की तस्वीर बदली। - राजस्थान के अफसर जीएसटी को लेकर अभियान चलाएं। छोटे व्यापारियों को लाभ दिलाने की हो कोशिश। वसुंधरा राजे- पीएम मोदी के साहस और नीतियों की वजह से देश आगे बढ़ रहा है। - सीएम वसुंधरा राजे ने पीएम मोदी के साथ सभी मंत्रियों का स्वागत करते हुए कहा कि पीएम मोदी के साहस और नीतियों की वजह से देश आगे बढ़ रहा है। - हमने शिक्षा के विकास को हाथ में लिया। 9800 ग्राम पंचायत 1 से 12 के स्कूल बनाने का संकल्प लिया। जिसमें अब तक 8000 ग्राम पंचायत में 1 से 12 स्कूल बन चुके हैं। - इसके साथ सरकारी स्कूल का प्रदर्शन भी अच्छा हुआ है। - बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ को आगे बढ़ाते हुए राजश्री योजना। - नारी शक्ति को हमने मुखिया बना कर भामाशाह योजना शुरू की। जिससे पैसे सीधी अकाउंट में पहुंचाया जा रहा है। - 25 हजार राशन की दुकान पोश की मशीनों के जरिए जुड़ चुकी हैं। जिससे चोरी रुकी है। - भामाशाह स्वास्थ भीमा योजना के तहर 3 लाख तक सरकारी और निजी अस्पताल में इलाज करवाया जा सकता है। - 600 से ज्यादा स्टॉर्टअप राजस्थान में शुरू किए गए। इसके साथ स्किल इंडिया और डेवलप इंडिया का सपना पूरा करने का काम जारी है। - साथ ही जल स्वाबलंबन के जरिए जल संरक्षण किया जा रहा है। मार्च 2018 तक पूरा राजस्थान odf करने की तैयारी है।
पीएम मोदी ने ये सौगातें दी - एनएचआई : कोटा - चंबल नदी पर बना 6 लेन हैंगिंग ब्रिज : लागत 278 कराेड़, उदयपुर - गाैमती से उदयपुर 4 लेन रोड : लागत 1129 करोड़, राजसमंद - भीलवाड़ा से राजसमंद 4 लेन रोड : लागत 1360 करोड़, टू लेन रोड भीम - पारसोली 89 करोड़ पारसोली - गुलाबपुरा 98 करोड़, लांबिया - रायपुर 192 करोड़ लाडनूं-डेगाना-मेड़ता 301 करोड़, बागुंडी से बाड़मेर 200 करोड़, फतहपुर से सालासर होकर हरियाणा 672 करोड़, जाेधपुर से पोकरण 365 करोड़, जोधपुर से पचपदरा 244 करोड़, नागौर से नेतरा 301 करोड़, एनएचआई के अन्य कार्य 381 करोड़ - किशनगढ़़ से उदयपुर होकर अहमदाबाद 6 लेन, किशनगढ-गुलाबपुरा 1184 करोड़, गुलाबपुरा - चित्तौड़ 1378 करोड़, चित्तौड़ - देबारी 1223 करोड़, देबारी - काया बायपास 850 करोड़, काया -श्यामला जी 1616 करोड़, जयपुर रिंग रोड - 1668 करोड़, उदयपुर शहर एलिवेटेड रोड - 400 कराेड़, बीकानेर शहर एलिवेटेड रोड - 400 करोड़, बालोतरा - सांडेराव पैकेज -1 - 178 करोड़, बालोतरा - सांडेराव पैकेज -2 - 164 करोड़
स्क्रीन से ऑनलाइन संवाद बारह जिलों के लोग स्क्रीन से उदयपुर से प्रसारित कार्यक्रम देखेंगे। मोदी चाहेंगे तो उनसे ऑनलाइन संवाद कर सकेंगे।


छात्रसंघ चुनाव : कोटो व अजमेर में भिड़े छात्र गुट, अब चुनाव परिणाम का इंतजार

28 Aug 2017
जयपुर। राजस्थान के सात सरकारी विश्वविद्यालय और 175 सरकारी कॉलेजों में छात्रसंघ चुनाव के लिए मतदान एक बजे खत्म हो गया। कोटो में चाकू चलने एक पूर्व छात्र नेता घायल हो गया वहीं अजमेर व भिलवड़ाा में भिड़े दो छात्र गुटों को पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर भगाया। पीएम नरेंद्र मोदी की यात्रा को देखते हुए उदयपुर संभाग को छोड़कर शेष प्रदेश में छात्रसंघ चुनाव मतदान प्रक्रिया पूरी हुई। उदयपुर संभाग में चार सितंबर को मतदान होगा। जयपुर में छात्रसंघ चुनाव में एक हजार पुलिसकर्मी तैनात किए गए थे। कोट व अजमेर की घटनाओं को छोड़कर राज्य में मतदान शांतिपूर्वक रहा।
जानिए और इस बारे में ..... कोटा : कोटा, यूनिवर्सिटी, लॉ कॉलेज, संस्कृत कॉलेज में वोटिंग हुई। कोटा यूनिवर्सिटी में 74.07 प्रतिशत, लॉ कॉलेज में 73.64 प्रतिशत, संस्कृत कॉलेज में 52 प्रतिशत वोटिंग हुई। गवर्नमेंट कॉमर्स कॉलेज में 52.9 प्रतिशत तो गवर्नमेंट आर्ट कॉलेज में 35. 96 प्रतिशत वोटिंग हुई। सुबह करीब 10.30 बजे तक मतदान प्रतिशत धीमा रहा इसके बाद वोटिंग में तेजी आई। वहीं छात्रों के दो गुटों में हुए झगड़े में एक पूर्व छात्र नेता प्रेम शंकर मीणा की आंख के ऊपर चाकू लगने से वह घायल हो गया। इस झगड़े में पूर्व सरपंच नंदबिहारी मीणा भी घायल हो गया। वह उपाध्यक्ष पद के लिए चुनाव लड़ रहे अपने भतीजे दिलखुश मीणा के समर्थन में वहां मौजूद था। सीकर : सीकर के राजकीय कॉमर्स कॉलेज में 66.03 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां 2370 वोटर्स में से 1565 वोटर्स ने मतदान किया। वहीं राजकीय विज्ञान महाविद्यालय में 52 प्रतिशत मतदान हुआ। यहां 2470 वोटर्स में से 1352 वोटर्स ने मतदान किया। अजमेर : अजमेर में छात्रों के दो गुटाें में मामूली झड़प हुई। हालांकि पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर छात्रों को तितर-बितर कर दिया। भीलवाड़ा : भीलवाड़ा के एमएलवी कॉलेज में भी छात्रों के दो गुट झगड़ पड़े। उन्हें हटाने के लिए पुलिस ने हल्का बल प्रयोग किया
यह होगा इन व्यवस्थाओं का असर. - इस बार विश्वविद्यालयों के पीजी डिपार्टमेंट्स या शिक्षण केंद्रों के लिए वोट नहीं पड़ेंगे। इनमें पढ़ने वाले छात्र सिर्फ विश्वविद्यालय छात्रसंघ के लिए ही वोट डाल सकेंगे। डिपार्टमेंट्स और शिक्षण केंद्रों में बगैर वोटिंग के कक्षा प्रतिनिधि का चुनाव कराया जाएगा। असर : पिछली बार से वोट प्रतिशत घटेगा। कैंपस में प्रत्याशियों को अस्थाई टैंट : प्रत्याशियों के चुनाव प्रचार के लिए पहली बार पॉलिसी बनी कि कैंपस में चुनाव प्रचार हो। प्रत्याशियों को अस्थाई टैंट देने का प्रावधान जोड़ा गया। कार्रवाई भी हुई। असर : जिन पर कार्रवाई हुई वे छात्रनेता एबीवीपी और राज्य सरकार के इशारे पर कार्रवाई को बताकर मतदाताओं से सहानुभूति बटोर रहे हैं। शोध प्रतिनिधि के चुनाव पहली बार : कई विश्वविद्यालयों में शोध प्रतिनिधि के चुनाव पहली बार होंगे। हालांकि राजस्थान विवि सहित कुछ विश्वविद्यालय में शोध प्रतिनिधि के चुनाव हो रहे हैं। असर : इससे रिसर्च का प्रतिनिधित्व सामने आएगा और रिसर्च से जुड़े डवलपमेंट के लिए कामकाज को बढ़ावा मिलने की उम्मीद है। प्रचार के लिए 12 दिन : चुनाव घोषणा से मतदान तक इस बार प्रत्याशियों और विश्वविद्यालयों को 12 दिन मिले। इसमें 5 छुट्टियां रही। प्रत्याशियों को छात्रों के बीच जाकर प्रचार का समय नहीं मिला। असर : चुनावी हंगामों से आम छात्र को फायदा हुआ। प्रत्याशियों को भी ज्यादा मशक्कत नहीं करनी पड़ी। लिंगदोह के पालन के लिए पहली बार जिम्मेदारी : सरकार ने चुनावों में लिंगदोह कमेटी की सिफारिशों के पालन के लिए पहली बार जिम्मेदारी तय की। प्रत्येक विश्वविद्यालय और कॉलेजों में डीएसडब्ल्यू या चुनाव संयोजक को इसकी व्यक्तिगत जिम्मेदारी दी गई है। असर: यूनिवर्सिटी या कॉलेजों के अधिकारी और जिम्मेदारी से काम रहे हैं।


देखते ही देखते बह गई नाले को पार कर रही कार, बह रहा था छह फीट पानी

25 Aug 2017
जयपुर। जयपुर में करतारपुरा नाले पर शुक्रवार को एक व्यक्ति कार के साथ बह गया। कार को पानी से निकाल लिया गया हालांकि किसी के बहने की खबर की पुष्टि नहीं हो पाई। इस हादसे की जानकारी मिलते ही प्रशासन हरकत में आ गया। प्रशासन ने रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू कर दिया
जानिए और इस बारे में ..... - करतारपुरा नाले पर पानी का वेग काफी तेज था। नाले पर छह फीट पानी बह रहा था। किसी ने अपनी कार पानी के इतने वेग में उतार दी। कार पानी में बह गई। इसकी सूचना मिलते ही प्रशासन हरकत में आ गया। जिला कलेक्टर सिद्धार्थ महाजन ने रेस्क्यू के लिए सिविल डिफेंस की टीम मौके के लिए रवाना कर दी। टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन चला कर कार को निकाल लिया, लेकिन उसमें कोई भी व्यक्ति नहीं मिला। - प्रशासन ने यहां का रास्ता डायवर्ट कर दिया ताकि कोई और हादसा नहीं हो। - फायर कंट्रोल रूम को इस बारे में सूचना मिली थी। एनडीआरएफ की टीम के सदस्य पानी में उतरे और गाड़ी की तलाश की, लेकिन उसमें कोई नहीं मिला। - रेस्क्यू टीम के अनुसार प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि कार सवार एक व्यक्ति बह गया है। कार आई 10 है। - जयपुर में सुबह से ही बरसात का दौर जारी है। कई जगहों पर पानी भर गया है।
बरसात से दो दिन पहले ही बिगड़े थे हालात. - दो दिन पहले हुई तीन इंच की बरसात से शहर में कई जगह जाम लग गया था। जगह-जगह पानी भर गया था। टोक रोड सहित कई स्थानों पर लंबा जाम लग गया था। - सड़कें बनी दरियां


बर्थडे के 6 दिन पहले ऐसे हुई इस लड़के की मौत, सीसीटीवी में कैद हुआ ये सब

23 Aug 2017
जयपुर। जयपुर में टोंक रोड़ के यूनिवर्सिटी तिराहे पर एक लो फ्लोर बस ने रेड सिग्नल तोड़कर एक लड़के को मार डाला। इस लड़के का 6 दिन बाद बर्थडे था। इसके लड़के के घरवाले और फ्रेंड्स बर्थडे को सेलीब्रेट करने के प्लान बना रहे थे, लेकिन जिंदगी ने कुछ और ही सोच रखा था। - विशाल जिओ बाबू का 28 अगस्त को बर्थडे आने वाला था। अपने बर्थडे को लेकर विशाल बहुत एक्साइटेड था। विशाल के फ्रैंड्स और वह खूद बर्थडे सेलीब्रेट करने का प्लान बना रहे थे। - इस बीच यह हादसा हो गया। विशाल के पेरेंट्स ने बताया कि लो फ्लोर बस ने उनके घर के चिराग को बुझा दिया। - विशाल के घर वालों ने उसके जन्मदिन के सेलिब्रेशन के लिए पूरी तैयारी की थी। विशाल की फैमिली उसका बर्थडे यादगार बनाने वाली थी, लेकिन बर्थडे से पहले ही लो फ्लोर बस ने मौत का तोहफा उसे गिफ्ट कर दिया।
कोचिंग से लौट रहा था घर... - विशाल कॉमर्स कालेज में सेंकेंड इयर की पढ़ाई कर रहा था। लालकोठी में कोचिंग से पढ़कर घर लौट रहा था। तभी बेकाबू लो फ्लोर बस ने उसे कुचल दिया। - विशाल को कुचलने से पहले बस ने जेब्रा क्रॉसिंग से सड़क पार कर रही एक 25 साल की वंदना को रौंद दिया। - युवती को करीब 35 फीट घसीटती हुई बस यूनिवर्सिटी की तरफ से आने वाले वाहनों में जा घुसी और किनारे खड़े स्कूटी सवार विशाल को कुचल डाला। - राहगीरों ने तुरंत ही बस को एकसाथ मिलकर उठाया और नीचे फंसे दोनों घायलों को निकाला। - विशाल की हादसे में मौत हो गई, लेकिन चमत्कारिक रूप से वंदना की जान बच गई। देर रात उसे इलाज के बाद एसएमएस अस्पताल से छ़ु़ट्टी भी मिल गई।
फेसबुक पर फ्रेंड्स ने लिखा, भाई कहां गया, मिलकर भी नहीं गया. - विशाल के फ्रेंड्स को जब उसकी मौत का पता चला, तो उन्होनें उसके फेसबुक पर लिखा। भाई कहां गया, मिलकर भी नहीं गया। विशाल के एक फ्रेंड ने लिखा भाई तेरी बहुत याद आ रही है। भाई मिस यू, कहां चला गया यार। भाई अभी तो बहुत आगे जाना था, तु कहां चला गया।


एटीएम में कैश डालने जा रही कार हुई पंक्चर, बाइक से आए बदमाश 57 लाख यूं ले उड़े

21 Aug 2017
भीलवाड़ा। भीलवाड़ा शहर के बीचोबीच दो बाइक सवार बदमाश एटीएम में कैश डालने जा रही एक कार से 57 लाख रुपए ले उड़े। कार पंक्चर हुई थी और तभी बदमाश आए और कार का दरवाजा खोलकर रुपयों से भरा बैग ले गए। इसमें 54 लाख पीएनबी और तीन लाख एसबीआई के थे। पुलिस ने कहा, यह जांच का विषय है कि कार से कैश क्यों ले जा रहे थे।
जानिए कैसे दिया वारदात को अंजाम ... - भीलवाड़ा में कोर्ट के पास पीएनबी बैंक की कार एटीएम में कैश डालने जा रही थी। रास्ते में गाड़ी का टायर पंक्चर हो गया। - ड्राइवर व गार्ड पंक्चर लगाने उतरे। तभी बाइक पर दो बदमाश आए और रुपयों का बैग गाड़ी से निकालकर लेकर चंपत हो गए। - ड्रावर को जब इसका पता चला तो उसके होश उड़ गए। उसने इसकी सूचना पुलिस को दी।
कार से जमा कराने जा रहे थे कैश. - एएसपी गोपाल मेवाडा ने बताया कि पीएनबी से कैश लेकर एक कंपनी के दो कर्मचारी एटीएम में कैश डालने जा रहे थे। बैंक ने इस कंपनी को टैंडर दिया हुआ है। इसमें 54 लाख पीएनबी के थे तथा तीन लाख रुपए लैंडमार्क स्थित एसबीआई ब्रांच से लाए थे। - कैश कार में पीछे की सीट पर रखा था। तभी एक बाइक पर दो बदमाश आए और रुपयों से भरा बैग लेकर चले गए। - यह पूछे जाने पर कि कैश ले जाने के लिए बख्तरबंद गाड़ी होती है फिर कार में कैसे कैश ले जा रहे थे। इस पर मेवाडा ने कहा कि बैंक ने जिस कंपनी को यह काम सौंपा है उसके साथ क्या नियम व शर्तें हैं यह जांच का विषय है। कार का दरवाजा लॉक क्यों नहीं था या क्या लापरवाही बरती गई यह जांच में सामने आएगा। अभी सबसे पहले जो बात है वो यह है कि वारदात हुई है और उसका पता जल्द से जल्द लगाना है।


आए थे भगवान के दर्शन करने, जंगल में गर्ल्स संग रेव पार्टी करते मिले लड़के

17 Aug 2017
उदयपुर. यहां नाथद्वारा के दर्शन करने आए लड़के बुधवार को एक फार्म हाउस में रेव पार्टी करते हुए पकड़े गए। इनके साथ 3 लड़कियों को भी पुलिस ने पकड़ा है। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए दो कमरों में चल रही रेव पार्टी में गुजरात के 8 लड़कों और पुणे मुंंबई की 3 लड़कियों को गिरफ्तार किया है। 25 लोग फरार हो गए।
जंगल के अंदर बना था फार्म हाउस... - डीवाईएसपी माधुरी वर्मा ने बताया कि घने जंगल के अंदर स्थित फार्म हाउस में रेव पार्टी में शराब पराेसी जा रही थी। - मौके से एक कार जब्त कर थाने लाई गई है, जो गुजरात नंबर की है। - गिरफ्तार लोगों में संजय पुत्र नरसिंह भाई पटेल के रूप, विजय पुत्र कांतिलाल पटेल राजकोट, प्रफुल्ल पुत्र शांतिलाल पटेल, राजकोट, राजेश पुत्र देवराज पटेल, मोर्वी गुजरात, नीलेश पुत्र रामजी पटेल, रमेश पुत्र पुरुषोत्तम पटेल, राजेंद्र पुत्र वसल भाई पटेल, प्रवीण पुत्र अमर सिंह पटेल सभी गुजरात निवासी शामिल हैं। - इन लोगों के पास से नगदी के साथ मोबाइल बरामद किए हैं। पुलिस कार्रवाई रात 3 बजे के बाद तक भी जारी रही।
पकड़े गए युवक-युवतियां.. - गुजरात-राजस्थान सीमापर स्थित होटलों में जुआ और रेव पार्टी पकड़ने के मामले लगातार आते रहते हैं। - पिछले माह भी पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए एक होटल में जुआ खेलते कई लोगों को गिरफ्तार किया था। - गिरफ्तार लोगों में अधिकतर आरोपी गुजरात के थे। पुलिस ने 48 लाख से ज्यादा की नगदी के साथ एक करोड़ का हिसाब भी बरामद किया था। - पुलिस के अनुसार इसे लेकर बड़ी चेन है। सीमा पर स्थित होटल मालिकों और रेव पार्टियां कराने वालों में साठगांठ की बात भी पहले सामने चुकी है जहां सीमा पर स्थित होटलों को भारी पैसे देकर जुआ और रेव पार्टियां कराते हैं।
पुलिस के आते ही मची अफरा-तफरी, अंधेरे का फायदा उठा भागे... - कुकड़े श्वरमहादेव के जंगलों में स्थित फार्म हाउस में देर रात पुलिस कार्रवाई करने पहुंची तो पार्टी में शामिल युवक युवती 5 फीट की दीवार फांदकर जंगल में फरार हो गए। - पुलिस ने उनका पीछा भी किया लेकिन सभी फरार हो गए। पुलिस ने फार्म हाउस के सभी कमरों तलाश ली और सभी को जब्त कर लिया।


नदी में बहती मिली शराब की 1000 बोतलें, मिनटों में उठाकर ले गए गांव वाले

14 Aug 2017
टिब्बी.यहां नदी में शराब की पेटियां मिलने के बाद पुरे गांव में हलचल मच गई है। बड़ी संख्या में लोग यहां से शराब की पेटियां उठाकर ले जा रहे हैं। दरअसल देररात हो रही चैकिंग के डर से कोई यहां नजर में शराब की पेटियां फैंक गया है। जानें पुरा मामला... - मामला हनुमानगढ़ के पास मसानी गांव का है। जबां घग्धर नदी में ये शराब की पेटियां पड़ी मिली हैं। - बताया जा रहा है कि देररात पुलिस चैकिंग के डर से कोई ट्रक या ट्रोला ड्राइवर कच्चे रास्ते के जरिए शराब की यहां फेंक गया होगा। - सुबह ये खबर फैली तो असपास के किसान बड़ी संख्या में यहां पहुंच गए। जो शराब की पेटियां उठाकर ले गए। - घटनास्थल पर पुलिस के पहुंचने से पहले ही शराब की सभी पेटियां लोग उठाकर ले गए। - कहा जा रहा है कि करीब शराब की 1000 बोलतें नदी में पड़ी थीं
हिमाचल के ब्रांड की है शराब - फिलहाल घटना में किसी तरह का मामला दर्ज नहीं किया गया है। - ये शराब हिमाचल की रॉकस्टार ब्रांड की बताई जा रही है। जिसे राजस्थान में नहीं बेचा जा सकता। - पुलिस उन लोगों को ट्रेस कर रही है जो यहां से शराब की पेटियां उठकर ले गए हैं। - साथ ही उस ट्रक-ट्रोले के बारे में भी जानकारी ली जा रही है।


हाईकोर्ट को बम से उड़ाने की सूचना से मचा हड़कंप, जांच में जुटी सुरक्षा एजेंसियां

10 Aug 2017
जोधपुर। राजस्थान हाईकोर्ट की मुख्य पीठ में गुरुवार दोपहर बम की सूचना से हड़कंप मच गया। किसी व्यक्ति ने पत्र भेज आज हाईकोर्ट परिसर को बम से उड़ाने की धमकी दी। इसके बाद आनन-फानन में सभी सुरक्षा एजेंसियां सहित प्रशासनिक अमला पूरे लवाजमें के साथ मौके पर पहुंच गया। हाईकोर्ट परिसर की गहन जांच की जा रही है और अंदर से लोगों को पूरी जांच के बाद बाहर निकाला जा रहा है।
ऐसे पहुंचे अधिकारीं - जिला न्यायालय ग्रामीण में मिले एक पत्र में हाईकोर्ट परिसर को आज बम से उड़ाने की धमकी दी गई। इसके बाद हरकत में आए हाईकोर्ट प्रशासन ने पुलिस को सूचित किया। - राजस्थान हाईकोर्ट में बम की सूचना मिलते ही प्रशासन में खलबली मच गई। सभी आला अधिकारियों के साथ सुरक्षा एजेंसियों का लवाजमा हाईकोर्ट पहुंच गया। - साइरन बजाते हुए एक के बाद एक गाड़ियों के वहां पहुंचने से लोगों में एक बार हड़कंप मच गया। हाईकोर्ट परिसर के चप्पे-चप्पे की तलाशी ली जा रही है। - मौके पर डॉग स्कवॉड सहित बम निरोधक दस्ता पहुंच चुका है और गहन जांच की जा रही है। दमकल और दो एम्बुलैंस भी हाईकोर्ट परिसर में खड़ी है। - पुलिस कमिशनर अशोक राठौड़ ने बताया कि जोधपुर जिला न्यायालय(ग्रामीण) में एक पत्र मिला था। इसमें आज हाईकोर्ट परिसर को बम विस्फोट कर उड़ाने के बारे में लिखा था। - इसे ध्यान में रख हाईकोर्ट परिसर की गहन जांच की जा रही है। फिलहाल जांच जारी है और जांच पूरी हो जाने के पश्चात इस बारे में और जानकारी उपलब्ध करवा दी जाएगी। - स्थिति की गंभीरता को ध्यान में रख पुलिस ने हाईकोर्ट के बाहर से रास्ते को डायवर्ट कर दिया। इस कारण परिसर के बाहर वाहनों का जाम लगा हुआ है और पुलिस ने मोर्चा संभाल रखा है।


सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री सांवर लाल जाट का निधन, दिल्ली के एम्स में ली अंतिम सांस

9 Aug 2017
जयपुर। भारतीय जनता पार्टी के अजमेर से सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री सांवर लाल जाट का बुधवार को दिल्ली में निधन हो गया। वे पिछले कुछ वक्त से बीमार चल रहे थे। पिछले महीने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की जयपुर में एक मीटिंग के दौरान वे बेहोश हो गए थे। उनको दिल का दौरा पड़ा था। सांवर लाल जाट 62 साल के थे। उनके निधन से सभी ओर शोक की लहर छा गई। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, सीएम वसुंधरा राजे सहित राजनितक क्षेत्र की सभी हस्तियों ने सांवरला के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया। राज्य सरकार ने गुरुवार को एक दिन का राजकी य शोक घोषित किया है - किसान आयोग के अध्यक्ष व किसानों के बड़े जाट नेता के रूप में मशहूर सांवरलाल जाट को जयपुर के सवाईं मान सिंह अस्पताल में भर्ती करवाया गया था, लेकिन हालत में सुधार ना होने पर उनको दिल्ली एम्स में शिफ्ट किया गया था। उनकी हालत में फिर भी कोई सुधार नहीं था। सांवर लाल मोदी सरकार में जल संसाधन राज्य मंत्री रह चुके हैं।
मीटिंग में बिगड़ी थी हालत . भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह जयपुर में विधायकों व सांसदों की बैठक ले रहे थे। बैठक में सांवर लाल बोलने के लिए खड़े हुए और तभी बेहोश होकर गिर गए थे। - उन्हें बेहोशी की हालत में एसएमएस अस्पताल लाया गया तो पल्स और ब्लड प्रेशर नॉन रिकॉर्डेबल थी। - इसके बाद कार्डिक एक्सपर्ट की टीम ने उन्हें 2 बार डीसी शॉक देकर संभाला। फिर उन्हें ऑब्जर्वेशन में रखा गया। - स्वास्थ्य मंत्री कालीचरण सराफ ने बताया था कि सांवर लरल की दोनों किडनियां खराब हो चुकी थीं। इसके साथ ही उन्हें शुगर की भी प्रॉब्लम भी थी। उस दिन वे डायलिसिस कराने के बाद अमित शाह की मीटिंग में पहुंचे थे। - ऐसा कहा जा रहा है कि मीटिंग में किसानों की समस्याओं को लेकर बातचीत चल रही थी। सांवरलाल जाट ने भी अपनी बात रखी। फिर अपनी सीट की तरफ बढ़े। तभी उन्हें बैचेनी हुई और वे उठकर दरवाजे की तरफ जाने लगे। फिर लड़खड़ाकर गिर गए और बेहोश हो गए। - कुछ वक्त के लिए मीटिंग में मौजूद लोग के बीच अफरा-तफरी मच गई। सीएम वसुंधरा राजे ने फौरान अफसरों को उन्हें हॉस्पिटल पहुंचाने के आदेश दिए। सीएम खुद ऑफिस से बाहर आ गईंं। - ग्रीन कॉरिडोर बनाया गया और उन्हें सवाई मान सिंह हॉस्पिटल पहुंचाया गया था। हेल्थ मिनिस्टर कालीचरण सराफ, राजेंद्र राठौड़ और श्रीचंद कृपलानी एंबुलेंस से उनके साथ एसएमएस अस्पताल पहुंचे। - उन्हें हॉस्पिटल में कार्डिक यूनिट-1 में रखा गया। डॉक्टर एसएम शर्मा की देखरेख में उनका इलाज चला। - उल्लेखनीय है कि ग्रीन कॉरिडोर के वक्त ट्रैफिक को क्लीयर करा दिया जाता है ताकि किसी मरीज को बिना किसी रुकावट के हॉस्पिटल पहुंचाया जा सके।
जानिए उनके बारे में -- सांवरलाल 62 वर्ष के थे, उनका जन्म एक जनवरी 1955 को हुआ। - सांवरलाल जाट अजमेर से लोकसभा सांसद थे। वे मोदी सरकार में जल संसाधन राज्य मंत्री भी रहे। नौ नवंबर 2014 से 5 जुलाई 2016 तक उन्होंने जल संसाधन राज्य मंत्री के रूप में केंद्र में काम किया है। - सांवरलाल का जन्म सन 1955 में राजस्थान के अजमेर जिले के गोपालपुरा नामक गांव में हुआ। उन्होंने वाणिज्य में स्नातकोत्तर करने के बाद राजस्थान विश्वविद्यालय में शिक्षक का कार्य किया। वे राजस्थान के अजमेर जिले की भिनाई विधानसभा क्षेत्र से तीन बार विधायक रह चुके हैं। - सांवर लाल 1993, 2003 और 2013 में वे राजस्थान सरकार में मंत्री भी रह चुके हैं। 2014 में अजमेर से लोकसभा चुनाव जीतने के बाद उन्हें मंत्री बनाया गया था, लेकिन बाद में मंत्रिमंडल में फेरबदल के दौरान हटा दिया गया था। - सांवरलाल जाट अजमेर से सांसद हैं। उन्होंने 2014 लोकसभा चुनाव में सचिन पायलट को हराया था। इसके साथ ही वे राज्य किसान आयोग के अध्यक्ष भी रहे।


ट्रेलर में घुसी श्रद्धालुओं की जीप, सड़क पर बिखर गईं महिलाओं की लाशें, सात ने तोड़ा दम

4 Aug 2017
चित्तौड़गढ़/ उदयपुर। राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में शुक्रवार को एक टैम्पो ट्रैक्स ने खड़े ट्रेलर में पीछे से टक्कर मार दी। हादसे में पांच महिलाओं की मौके पर ही मौत हो गई तथा ड्राइवर सहित सात घायल हो गए। हादसा इतना भीषण था कि महिलाएं गाड़ी से सड़क पर गिर गईं। बाद में एक की चित्तौड़गढ़ तथा एक की उदयपुर में मौत हो गई। घायल तथा मृतक सभी महिलाएं डूंगरपुर जिले के सागवाड़ा के रहने वाले हैं तथा कैलादेवी दर्शन कर सावलियांजी जा रही थीं। जानिए कैसे हुआ हादसा .... - डूंगरपुर में सागवाड़ा के सलाडवाडा की रहने वाली 24 महिलाएं दो टैम्पो ट्रैक्स से करौली जिले में कैला देवी के दर्शन करने गई थीं। वहां दर्शन करने के बाद ये सभी चित्तौड़गढ़ स्थित सावलियाजी के दर्शन के लिए जा रही थीं। - उदयपुर-चित्तौड़गढ़ हाईवे पर बागडौरा चाैराहे पर एक ट्रेलर खड़ा था। वहां से गुजरते समय टैम्पो ट्रेक्स अनियंत्रित हो गई तथा तेजी से उस ट्रेलर में जा घुसी। हादसा इतना भीषण था कि टैम्पो ट्रैक्स के परखच्चे उड़ गए। जोर का धमाका सुनकर ट्रकों में बैठे ड्राइवर तथा दूसरी जीप में सवार ड्राइवर व महिलाएं मदद को आए तथा पुलिस को फोन किया। - थोड़ी देर में पुलिस वहां आ गई तथा घायलों को सावलिया चिकित्सालय पहुंचाया जहां डाक्टरों ने पांच महिलाओं को मृत घोषित कर दिया। छह महिलाएं व गाड़ी का ड्राइवर गंभींर घायल हो गए। इतनी संख्या में घायलों व शवों तथा पुलिस व प्रशासन के अधिकारियों के पहुंचने से अस्पताल में हड़कंप सा मच गया। बाद में अस्पताल में एक महिला ने और दम तोड़ दिया।
सात को किया उदयपुर रेफर . - टैम्पो ट्रैक्स में 12 महिलाएं व एक ड्राइवर सवार था। हादसे में छह महिलाओं की मौत हो गई तथा ड्राइवर समेत सात महिलाएं घायल हो गईं। घायलों की हालत नाजुक होने पर सभी को उदयपुर रेफर कर दिया गया। - हादसे के बाद वहां जाम लग गया। पुलिस व प्रशासन के अधिकारी वहां पहुंचे तथा लोग घायलों को अस्पताल पहुंचाने लगे। इससे ट्रैफिक जाम हो गया। इस पर पुलिस ने क्रेन से क्षतिग्रस्त गाड़ी को वहां से हटवाया।
इसलिए हुआ हादसा. - उदयपुर-चित्तौड़गढ़ हाइवे पर सावलियसा प्राकट्य स्थल मंदिर है। यहां चौराहे पर अक्सर ट्रक खड़े रहते हैं। ये ट्रक जानलेवा साबित होते आए हैं। यहां इससे पहले भी कई एक्सीडेंट हो चुके हैं। - यह दुर्घटना भी ट्रैफिक की इसी अव्यवस्था का नतीजा है।


राजस्‍थान का स्‍वाधीनता आंदोलन

4 Aug 2017
संपूर्ण भारत वर्ष की तरह राजस्‍थान में भी दासता से मुक्ति के प्रयास 19वीं शताब्‍दी से ही प्रारंभ हो गए थे। यहां की जनता अंग्रेजी की हुकूमत की बेडि़यों में तो जकड़ी थी ही, साथ ही उन्‍हें यहां के शासकों एवं जागीरदारों के दमनकारी कृत्‍यों से भी जूझना पड़ता था। इस दोहरी मार के फलस्‍वरूप ऐसे अनेक जन आंदोलन हुए जिनका प्रभाव स्‍वतंत्रता की अंतिम लड़ाई पर भी स्‍पष्‍ट दिखाई दिया।
किसान आंदोलन . राजस्‍थान में अहिंसक आंदोलन की शुरूआत बिजोलियां के किसान आंदोलन से हुई। राजस्‍थान के शासकों ने 19वीं शताब्‍दी के प्रारंभ में अंग्रेजी से संधि कर ली थी जिससे उन्‍हें बाहरी आक्रमणों एवं मराठों के आतंक से मुक्ति मिल गई थी। निर्भय हो जाने के कारण इन राजाओं ने आम जनता पर नए-नए करों का बोझ डालना प्रारंभ कर दिया। इससे जनता में असंतोष बढ़ता गया और पहला विस्‍फोट हुआ सन 1897 में मेवाड़ की जागीर क्षेत्र बिजालियां में।विभिन्‍न लगानों के विरूद्ध बिजोलिया के किसानों ने 2-3 छोटे आंदोलन किये। वर्ष1916 में राजस्‍थान के महान सपूत श्री विजय सिंह पथिक ने आंदोलन की बागडोर संभाली और असहयोग आंदोलन प्रारंभ किया। उनके आह्वान पर जनता ने लगान तथा अन्‍य प्रकार के कर देना बंद कर दिया। इसके कारण बड़ी संख्‍या में किसान दमन के शिकार हुए और जेल गए। अधिकांश बड़े नेता या तो निर्वासित किए गए या जेल भेजे गए। यह आंदोलन 1941 में किसानों की जीत के साथ समाप्‍त हुआ। बिजोलिया के किसान आंदोलन का प्रभाव मेवाड़ तथा आसपास की रियासतों पर भी पड़ा। बेगूं के किसानों ने भी लाग बाग के विरूद्ध एक संगठित आंदोलन शुरू किया। इसको दबाने के लिए सरकार ने बल प्रयोग किया जिससे रूपाजी और करमाजी नामक दो किसान शहीद हुए। इसके साथ ही बूंदी, सिरोही, अलवर, भोमठ, सीकर और दुधवारिया में किसान आंदोलन हुए जिसमें अंतत: विजय किसानों की हुई। भोमठ और सिरोही के भील बहुल क्षेत्र में किसानों पर की गई गोलीबारी में लगभग 2 हजार किसान मारे गए। इस आंदोलन का नेतृत्‍व ‘’मेवाड़ के गांधी’’ के नाम से प्रसिद्ध श्री मोती लाल तेजावत ने किया।
राजस्‍थान में 1857 की लड़ाई . हालांकि राजस्‍थान के कई राजाओं ने 1857 की क्रांति में अंग्रेजों की मदद की थी लेकिन कुछ क्षेत्रों में बगावत भी हुई। 21 अगस्‍त, 1857 में जोधपुर राज्‍य में स्थित एरिनपुरा छावनी में ब्रिटिश फौज के कुछ भारतीयों ने बगावत कर दिल्‍ली की ओर कूच किया। रास्‍ते में वे बागी सैनिक आउवा पर ठहरे, जहां के ठाकुर कुशल सिंह चापावत उनके नेता बने। आसपास के अन्‍य ठाकुर भी अपनी सेना लेकर उनके साथ हो गए। अजमेर के चीफ कमिश्‍नर सर पैट्रिक लारेंस ने जोधपुर के महाराजा से सेना भेजने की प्रार्थना की। उन्‍होंने जो सेना भेजी वह बागी सैनिकों से हार गई। उसके बाद सर पैट्रिक लारेन्‍स और जोधपुर का राजनीतिक एजेंट मेसन सषैत्‍य आउवा पहुंचे। दोनों सेनाओं में युद्ध हुआ जिसमें अंग्रेजी सेना हार गई । गवर्नर जनरल लार्ड कैनिंग को जब यह पता चला तो उसने जनवरी, 1858 को पालनपुर और नसीराबाद से एक बड़ी सेना आउवा भेजी । क्रांतिकारी इस सेना का सामना नहीं कर पाए और उन्हें जान माल की भारी क्षति हुई । इस प्रकार कोटा एवं अजमेर - मेरवाड़ा की नसीराबाद स्थित सेना के सैनिकों ने भी मेरठ में सैनिक विद्रोह का समाचार सुनकर विद्रोह कर दिया । राजस्थान में सशस्त्र क्रांति का प्रारंभ शाहपुरा के केसरीसिंह बारहठ ने किया। उन्होंने अर्जुनलाल सेठी एवं खरवा राव गोपालसिंह के साथ एक क्रांतिकारी संगठन ’’अभिनव भारत समिति’’ की स्थापना की। उन्होंने एक विद्यालय भी खोला जहां युवकों को प्रशिक्षण दिया जाता था। इनमें से कुछ युवकों को प्रशिक्षण के लिए रास बिहारी बोस के साथी मास्टर अमीचन्द के पास दिल्ली भेजा जाता था। दिल्ली में केसरीसिंह बारहठ के भाई जोरावरसिंह एवं पुत्र प्रतापसिंह रास बिहारी बोस के नेतृत्व में गवर्नर जनरल लार्ड हार्डिंग्स पर फेंके गए बम की घटना में सम्मिलित हुए ।
प्रजा मंडल . राज्यों के प्रति कांग्रेस की नीति महात्मा गांधी द्वारा 1920 में बनाई गई । 1938 में हरिपुरा कांग्रेस ने राज्यों को भारत का अभिन्न अंग मानते हुए इन राज्यों में अपने-अपने संगठन स्थापित करने तथा स्वतंत्रता आंदोलन चलाने का प्रस्ताव पारित किया। इसके बाद प्रजा मंडलों की स्थापना हुई । अप्रैल, 1938 में श्री माणिक्यलाल वर्मा ने अपने कुछ साथियों के सहयोग से उदयपुर के मेवाल प्रजा मंडल की स्थापना की। इसके अध्यक्ष श्री बलवंत सिंह मेहता थे। संस्था को प्रारंभ से ही गैर-कानूनी घोषित कर दिया गया। सरकार ने प्रजा मंडल पर जो पाबंदी लगाई थी, उसको हटाने की मांग करते हुए 4 अक्टूबर, 1938 को सत्याग्रह आंदोलन किया गया। मेवाड़ सरकार द्वारा सितम्बर, 1941 में प्रजा मंडल पर से पाबंदी हटा दी गई । हालांकि जयपुर में प्रजा मंडल की स्थापना 1931 में हो गई थी लेकिन इसकी गतिविधियां 1938 में सेठ जमना लाल बजाज के नेतृत्व संभालने के बाद ही शुरू हो पाई। सरकार ने सेठ जमना लाल बजाज के जयपुर प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया लेकिन उन्होंने इन आदेशों की अवहेलना कर एक फरवरी, 1939 को जयपुर में प्रवेश किया । उनकी गिरफ्तारी हुई और राज्य में सत्याग्रह शुरू हुआ । यह सत्याग्रह 18 मार्च, 1939 तक चला और इसी वर्ष अगस्त में हुए एक समझौते के बाद श्री जमनालाल बजाज व उनके साथियों को रिहा किया गया। कोटा प्रजा मंडल की स्थापना 1936 में की गई। इस संस्था द्वारा साक्षरता, दवाइयों की आपूर्ति, सिंचाई के लिए जल की आपूर्ति, आदि कुछ अन्य प्रस्ताव भी पारित किए गए। कोटा प्रजा मंडल ने उत्तरदायी शासन के लिए हड़ताल व सत्याग्रह भी किए। अलवर एवं भरतपुर में 1938 प्रजा मंडलों की स्थापना की गई । बीकानेर में 1936 और 1942 में प्रजा मंडलों की स्थापना के प्रयास किए गए लेकिन वे राज्य की नीतियों के कारण असफल हो गए । जैसलमेर में महारावल की दमनकारी नीतियों के कारण वहां कोई संगठन बनाना अत्यंत कठिन कार्य था। सागर मल गोपा ने अपने राजनीतिक अधिकारों के लिए आवाज उठाई। जब 1939 में प्रजा मंडल की स्थापना हुई तो उस पर पाबंदी लगाई गई। 1941 में सागर मल गोपा को गिरफ्तार किया गया। जेल में जुल्मों को सहन करते हुए 3 अप्रैल, 1946 को उनकी मुत्यु हो गई । राज्य के कोने-कोने में स्थापित प्रजा मंडलों ने राजस्थान में स्वाधीनता आंदोलन को सही दिशा प्रदान की ।


यहां हेमा मालिनी का हुआ था एक्सीडेंट, वहीं दो ट्रकों की ऐसी हुई हालत

2 Aug 2017
जयपुर / दौसा।दौसा के मिड वे पर बुधवार को तीन वाहनों में भिड़ंत हो गई जिससे दो लोग घायल हो गए। दो ट्रकों और जेसीबी में हुई भिड़ंत में तीनों वाहन बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गए। यहां कई एक्सीडेंट होते हैं। एक्ट्रेस एवं सांसद हेमामालिनी की गाड़ी का भी यहीं एक्सीडेंट हुआ था। इसमें उनके सिर में चोट आई थी तथा दूसरी कार में सवार एक बच्ची की मौत हो गई थी।
जानिए कैसे हुई दुर्घटना ... . - एक ट्रक दौसा से जयपुर जा रहा था। उसी समय एक ट्रक जयपुर से दौसा की आेर जा रहा था। इसके पीछे एक जेसीबी चल रही थी। दौसा जा रहा ट्रक जैसे ही तिराहे पर मुड़ा उसकी दूसरे ट्रक से टक्कर हो गई। - दोनों की भिड़ंत होते ही पीछे चल रही जेसीबी भी आगे चल रहे ट्रक से टकरा गई। इससे तीनों वाहन अापस में गुत्थम-गुत्था हो गए तथा दोनों ट्रक चालक घायल हो गए। हादसा होते ही लोग मदद को आए। - लोगों ने दोनों ड्राइवरों को अस्पताल पहुंचाया तथा पुलिस को सूचना दी।
इस तिराहे को हेमा मालिनी तिराहा भी कहा जाता है. - अभिनेत्री और भाजपा सांसद हेमामालिनी की गाड़ी का भी जुलाई 2015 में यहीं एक्सीडेंट हुआ था। जयपुर-आगरा हाईवे पर लालसोट बाइपास तिराहे पर हेमामालिनी की मर्सिडीज कार एक अल्टो कार से टकरा गई थी। हादसे में अल्टो कार सवार डेढ़ साल की बच्ची चिन्नी की मौत हो गई थी जबकि हेमामालिनी के ड्राइवर सहित पांच लोग घायल हो गए थे। इनमें बच्ची के माता-पिता और भाई भी थे। हेमामालिनी को जयपुर के फोर्टिस अस्पताल में भर्ती कराया गया था। - हेमामालिनी मर्सिडीज में भरतपुर से जयपुर आ रही थीं। इस हादसे में हेमा के सिर पर गहरी चोट आई थी। इसके अलावा उनके हाथ और कमर में भी चोट लगी थी। तभी से इस तिराहे का नाम हेमामालिनी तिराहा पड़ गया।


भिड़ंत से पिकअप-गेटवे के उड़े परखच्चे, 1 की मौत व 6 स्कूली बच्चों सहित 18 घायल

31 July 2017
पोकरण (जैसलमेर)। जैसलमेर के पोकरण में स्कूल की पिकअप और गेटवे की आमने-सामने भिड़ंत में स्कूल के संस्थापक की मौत हो गई तथा 12 स्कूली बच्चों सहित 18 लाेग घायल हो गए। गाड़ी स्कूल का संस्थापक ही चला रहा था। हादसा इतना भीषण था कि दोनों वाहनों के परखच्चे उड़ गए। जानिए कैसे हुआ हादसा .... - सांकड़ा पुलिस एसएचओ खेताराम सियोल ने बताया कि बोनाड़ा व अन्य गांवों व ढाणियों से बच्चों को लेकर जगदंबा पब्लिक स्कूल की बस राजगढ़ आ रही। बस को स्कूल का संस्थापक महेंद्र सिंह (35) पुत्र जालम सिंह चला रहा था। विपरीत दिशा से एक गेटवे गाड़ी आ रही थी। - सांकड़ा थाना क्षेत्र के राजगढ़ गांव के पास दोनों गाड़ियों में आमने-सामने की जोरदार भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी भीषण थी कि दोनों गाड़ियों के परखच्चे उड़ गए तथा पिकअप चालक की मौके पर मौत हो गई। पिकअप में सवार 18 लोग घायल हो गए जिनमें 12 स्कूली बच्चे हैं।
मची चीख-पुकार.. . - एक्सीडेंट होते ही वहां चीख-पुकार मच गई। बच्चो रोने लगे। आस-पास मौजूद लोग मदद को आए तथा पुलिस को फोन किया। लोग घायलों को सांकड़ा अस्पताल ले गए जहां छह घायलों को जोधपुर रैफर कर दिया गया। अन्य घायलों को पोकरण अस्पताल भेज दिया गया। - पिकअप में बच्चों के अलावा छह लोग भी थे। इन्हें स्कूल संस्थापक ने रास्ते में गाड़ी में बैठा लिया था। हादसे में ये लोग भी घायल हुए हैं।
केस दर्ज कराया . - स्कूल की ओर से गेटवे गाड़ी चालक के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। रिपोर्ट में कहा है कि गेटवे के ड्राइवर ने लापरवाही से गाड़ी चलाते हुए उनके वाहन को टक्कर मार दी। इससे एक की जान चली गई तथा 18 लोग घायल हो गए।


पानी में डूब गया रेलवे ट्रैक, ऐसे हैं राजस्थान में बाढ़ के हालात

28 July 2017
जयपुर।भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक, 30 जुलाई से भारी बारिश से निजात मिलने की संभावना है। राजस्थान में भारी बारिश के कारण सड़क और रेल यातायात अभी भी बुरी तरह से प्रभावित है। मध्यप्रदेश की सीमा से लगे हुए राजस्थान के चौमहला में बारिश अपना कहर ढा रही है। यहां शुक्रवार को सुबह 2 बजे से ही बारिश हो रही है, जिससे रेलवे ट्रैक पर पानी चलने लगा है
ये है राजस्थान में बाढ़ की स्थिति.... . -झालावाड़ जिले के चौमहला में बीते 12 घंटों में लगभग 98 इंच बारिश हो चुकी है। भारी बारिश के चलते शहर की सड़के दरिया में तब्दील हो गई है और रेलवे ट्रैक पर ट्रेन की जगह पानी बह रहा है। - भारी बारिश से सिरोही, पाली अौर जालौर के दर्जनों गांवो का सम्पर्क टूट चुका है, बांध और पुल टूट गए है। वायु सेना के जवान हेलीकॉप्टर के जरिए फंसे हुए लोगो को निकाल रहे है। - अब तक सेना ने बाढ़ में फंसे साढ़े तीन हजार लोगों को राजस्थान में रेस्क्यू कर सुरक्षित जगहों पर पहुंचा दिया है। - माउंट आबू की निचली बस्तियों में पानी भरने की संभावना है, इस कारण लोगों से सुरक्षित स्थान पर जाने की अपील की गई है। जिले के स्कूलों में छुट्टी तक घोषित हो चुकी है।
ऐसा रह सकता है मौसम . मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों में राजस्थान के उदयपुर डिवीजन में भारी बारिश की चेतावनी है। वहीं अजमेर, जयपुर और बीकानेर में भी बारिश की संभावना है राजस्थान में बीते 24 घंटों में प्रदेश के सिरोही के माउंट आबू में 15, जालौर के रानीवाड़ा में 9, जालौर के बागोड़ा में 7, चित्तौड़गढ़ के बडेसर में 5, डूंगरपूर के गलियाकोट में 5, बूंदी के हिंडोली में 4, पाली के सुमेरपुर में 4, जालौर में 4, चित्तौड़गढ़ के बड़ी सादड़ी में 3, सिरोही के पिंडवाड़ा में 3, जैसलमेर के सुम में 3, पाली के मेवाड़ जंक्शन में 3, बांसवाड़ा के शेरगढ़ में 3, सिरोही में 3, भीलवाड़ा के रायपुर में 3 सेंटीमीटर के करीब बारिश हुई है।


शोरूम में खरीदारी करने आईं 5 महिलाएं चोर थीं, सीसीटीवी में कैद हुई चोरी

27 July 2017
जयपुर। शोरूम में कपड़े खरीदने आईं महिलाओं ने बड़े ही सफाई से एक लाख 35 हजार रुपए के कपड़े चुरा लिए। इन महिलाओं को यह जरा भी भान नहीं था कि उनकी यह होशियारी सीसीटीवी में कैद हो गई है। अब पुलिस फुटेज के आधार पर इनकी तलाश में जुटी है।
जानिए कैसे किए कपड़े चोरी . - वैशालीनगर इलाके में प्रिंस रोड भान नगर स्थित एक कपड़े के शोरूम में पांच महिलाएं आईं। ये महिलाएं शोरूम में घूम-घूम कर कपड़े देखती रहीं। - शोरूम के कर्मचारियों को जरा भी नहीं लगा कि ये महिलाएं यहां कपड़े खरीदने नहीं बल्कि चोरी करने आई हैं। - थोड़ी देर में महिलाएं वहां से चली गईं। कर्मचारी भी अपने काम में लग गए। शोरूम मालिक को नहीं पता था कि उसे अच्छी खासी चपत लग चुकी है। - शाम को काउंटिंग के समय कपड़े कम मिले तो शोरूम मालकिन मधु शर्मा ने सीसीटीवी कैमरों के फुटेज चेक किए। फुटेज में चोरी होने की घटना सामने आने के बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी। - पुलिस वहां पहुंची और सीसीटीवी देखे। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज करके महिलाओं की तलाश शुरू कर दी है।
ऐसे ले गईं कपड़े . - फुटेज के आधार पर ये मंगलवार को 4:25 बजे पांच महिलाएं कपड़े खरीदने के बहाने प्रिंस रोड स्थित बंजारा बुटिक पर आईं। इनमें से कुछ महिलाओं ने सेल्समैन को बातों में उलझाकर रखा। इसका फायदा उठा अन्य महिलाओं ने काउंटर से लेडीज सूट-कुर्ते चुरा लिए। ये अपने कपड़ों में चोरी के कपड़े छुपाकर ले गईं।


बीती रात से 7 लोग पेड़ पर फंसे हैं, हेलिकॉप्टर दो बार चक्कर काट खाली लौटा

24 July 2017
जालौर।जालौर में सियाणा के पास सात लोग पानी में फंसे हुए हैं। ये लोग बीती रात से ही एक पेड़ पर चढ़े हुए हैं। इनके इर्द-गिर्द करीब दो सौ फीट पानी है और तेज बहाव से चल रहा है। वहीं पास के चांदना गांव में पांच लोग पहाड़ी पर फंसे हैं। इन्हें निकालने के सभी प्रयास फेल होने के बाद प्रशासन ने हेलीकॉप्टर मंगवाया। तेज बारिश के कारण हेलिकॉप्टर भी मदद नहीं कर पा रहा है। ये लोग रात आठ बजे से पेड़ पर फंसे हैं। जालौर में बीते दो दिनों से हो रही मूसलाधार वर्षा के कारण नदी नाले उफान पर हैं। जिले में आम जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है
जानिए और इस बारे में . - सियाणा में सात लोग खेत के रास्ते दूसरे गांव जा रहे थे। वहां बरसात के कारण पानी भरा हुआ था। रात में अचानक पानी तेज हो गया और ये लोग घिर गए। इन्हें पेड़ पर शरण लेनी पड़ी। - प्रशासन ने भारी बारिश के कारण हाई अलर्ट कर दिया है। जिला कलेक्टर लक्ष्मीनारायण सोनी, एसडीएम राजेन्द्रसिंह सिसोदिया, डीएसपी डॉ दुर्ग सिंह टीम के साथ निरीक्षण कर रहे हैं। - उधर, सियाणा के पास चांदना गांव में रात को पानी का भराव हो गया है। करीब आधे गांव के घरों में पानी भर गया जिस कारण लोगों को स्कूल में ठहराना पड़ा। कई ग्रामीण पहाड़ी पर बैठे हुए हैं। - गांव के दोनों और खारी नदी और सुकड़ी नदी तेज वेग से चल रही हैं। इस कारण पानी का स्तर बढ़ रहा है। प्रशासन लोगों को सुरक्षित स्थान पर ले जाने की तैयारी में जुटा है। गुजरात में लगातार बारिश से एनडीआरएफ की मदद नहीं मिल पा रही। - लगातार हो रही वर्षा के कारण पानी लगातार बढ़ रहा है। साथ ही पानी का वेग भी तेज है। - बारिश व पहाड़ी इलाको होने के कारण हेलिकॉप्टर दो बार उड़ान भर कर खाली ही लौट आया।


अमित शाह जयपुर पहुुुंचे, एयरपोर्ट से भाजपा मुख्यालय तक हुआ भव्य स्वागत

21 July 2017
जयपुर। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह अपनी तीन दिवसीय राजस्थान यात्रा पर शुक्रवार को जयपुर पहुुुंचे। सांगानेर एयरपोर्ट पर उनका भव्य स्वागत किया गया। सांगानेर एयरपोर्ट पहुंचने पर सीएम वसुंधरा राजे सहित राज्य कैबिनेट के सदस्य व प्रदेश पदाधिकारियों ने शाह का स्वागत किया। भाजपा में आगामी चुनावों के लिए नई जान फूंकने के लिए पार्टी सुप्रीमो अमित शाह राजस्थान आए हैं। एयरपोर्ट पर स्वागत सत्कार की परंपरा निभाई गई। महिला कार्यकर्ताओं ने उनकी गाड़ी पर फूल बरसा कर स्वागत किया। महिलाओं के साथ सीएम राजे, प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी व वी सतीश भी मौजूद रहे। पधारौ म्हारै देस गीत के बीच उनका स्वगात किया गया। - इसके बाद अलग-अलग विधानसभा क्षेत्रों के कार्यकर्ताओं ने उनका स्वागत किया। उनके काफिले के आगे बाइकर्स चले। बाइकर्स में युवा मोर्चा के कार्यकर्ता शामिल थे। रास्ते में उनकी गाड़ी पर फूल बरसाए जाते रहे। रास्ते में कड़ी सुरक्षा के बीच उनका काफिला रेंगता रहा। - एयरपोर्ट से लेकर प्रदेश मुख्यालय तक 8 स्थानों पर उनका अभिनंदन किया गया। - रास्ते में आई तेज बारिश में शाह का काफिला गुजरता रहा। - गांधी सर्किल पर उनका काफिला रुका। यहां शाह ने गांधीजी की प्रतिमा पर माल्यार्पध किया। - एयरपोर्ट से भाजपा मुख्यालय पहुंचने में उन्हें एक घंटे का समय लगा।
ई लाइब्रेरी का किया शुभारंभ . - भाजपा मुख्यालय पहुंचने पर शाह ने ई लाइब्रेरी का शुभारंभ किया। - ई लाइब्रेरी में 7 हजार पांच सौ से अधिक किताबें हैं। शाह इन तीन दिनों में संगठन के सबसे छोटे पदाधिकारी से लेकर प्रदेश स्तर और विधायक-सांसदों से लेकर निगम-बोर्ड अध्यक्षों विभाग-प्रकल्पों तक के ओहदेदारों की 14 बैठकें करेंगे। वे 22 जुलाई को राष्ट्रपति के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए दिल्ली जाएंगे और रात को ही जयपुर लौट आएंगे। वे जयपुर प्रवास के दौरान पार्टी मुख्यालय में ही रात्रि विश्राम करेंगे। प्रदेश मुख्यालय पर मंत्रिमंडल के सदस्यों के साथ बैठक करेंगे। इसके बाद राष्ट्रीय पदाधिकारी, प्रदेश कोर कमेटी, सांसदों, विधायकों और प्रदेश पदाधिकारियों, मोर्चा अध्यक्षों, प्रकोष्ठ प्रदेश संयोजकों, विभाग प्रदेश प्रमुख, प्रकल्प प्रमुख, पार्टी के जिलाध्यक्षों के साथ बैठक करेंगे। शाम को बिड़ला ऑडिटोरियम में सीए, वकील, डॉक्टर, लेखक सहित प्रदेशभर के प्रबुद्धजनों से सीधा संवाद स्थापित करेंगे। शाम साढ़े छह बजे आईटी, सोशल मीडिया प्रदेश मीडिया टीम के साथ बैठक करेंगे। शाम साढ़े सात बजे आजीवन सहयोग निधि कार्यालय कोष लेखा-जोखा की बैठक होगी। 22 जुलाई को सुबह 9 से 10 बजे तक विभिन्न समाजों के अध्यक्षों और साधु-संतों से होटल शकुन में मुलाकात का कार्यक्रम रखा गया है। इसी दिन मोर्चा-प्रकोष्ठों, प्रकल्प-विभाग और सांसदों-विधायकों से व्यक्तिगत चर्चा भी करेंगे। इसके बाद दोपहर ढाई बजे प्रेस वार्ता को संबोधित करेंगे। प्रेस वार्ता के बाद अमित शाह दिल्ली चले जाएंगे। वहां राष्ट्रपति के कार्यक्रम में भाग लेने के बाद रात को ही जयपुर लौट आएंगे। परनामी ने बताया कि 23 जुलाई को सुबह नौ बजे प्रदेश कोर कमेटी की बैठक, दस बजे पं. दीनदयाल उपाध्याय जन्म शताब्दी वर्ष समिति, विस्तारक कार्ययोजना समिति की बैठक होगी। इसके बाद 11 बजे शाह आरएसएस कार्यालय जाएंगे। वहां से लौटकर प्रदेश मुख्यालय में बोर्ड-निगम, आयोगों, महापौर, जिला प्रमुख, पंचायत समिति प्रधान नगर निकाय अध्यक्षों से बैठक करेंगे। इसके बाद दोपहर दो बजे लोकसभा चुनाव को लेकर प्रदेश कोर कमेटी चुनाव प्रबंधन कमेटी की बैठक करेंगे। इसके बाद करीब चार बजे वे एयरपोर्ट से दिल्ली के लिए रवाना होंगे।


बेड पर पड़ी थी पति की लाश, नीचे बिना कपड़ों के पड़ी थी पत्नी की डेड बॉडी

17 July 2017
कोटा।शहर में रेलवे कॉलोनी थाना क्षेत्र के कैलाशपुरी कॉलोनी में शनिवार देर रात पति और पत्नी की गला रेतकर मर्डर करने का मामला सामने आया है। पति की लाश बेड पर तो उसकी पत्नी की लाश पंलग के पास नीचे बिना कपड़ों के पड़ी हुई थी। पुलिस ने मामला दर्ज जांच शुरू कर दी है। - रेलवे से रिटायर्ड बजरंग सिंह नरुका के घर से रात डेढ़ बजे के करीब घर से शोर सुनाई दे रहा था। इसके थोड़ी देर बाद ही एक लड़के को पड़ोसियों ने घर से कूदकर भागते हुए देखा। - इसके बाद पड़ोसियों ने नरुका के घर का दरवाजा खटखटाया और नीचे रहने किराएदार को जगाया। - वहां पर नरुका और उनकी पत्नी साधना सिंह का शव पड़ा मिला। - इसकी सूचना पर रेलवे कॉलोनी थाना पुलिस मौके पर पहुंची। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनंत कुमार और पुलिस उप अधीक्षक भगवान सिंह गोदारा मौके पर पहुंचे। पुलिस ने शवों को मॉर्चरी में रखवाया है।
वेपन किया बरामद . - पुलिस ने मौके से हत्या में प्रयुक्त हथियार बरामद कर लिया है। पुलिस का कहना है कि लूट जैसा कोई मामला नहीं है, केवल हत्या का मामला लग रहा है। - पड़ोसियों का कहना है कि नरुका और उनकी पत्नी ऊपर अकेली ही रहती थीं। उनकी एक बेटी है जो शादी के बाद जयपुर में रहती है।


दो दिन बाद नहीं चला SDM का पता, बेटा बोला- ढूंढने सेना क्यों नहीं बुलाई

15 Jul 2017
कुशलगढ़ (बांसवाड़ा)। बांसवाड़ा में बाकड़ी नदी में जीप सहित बहे एसडीएम रामेश्वर दयाल मीणा (59) का 26 घंटे बाद भी कुछ पता नहीं चला है। उदयपुर से आई एनडीआरएफ टीम ने शुक्रवार को सर्च आॅपरेशन चलाया था, लेकिन सफलता नहीं मिली। इसके बाद शनिवार को गुजरात से रेस्क्यू टीम बुलाई गई है। एसडीएम बेटे ने कहा है कि अगर मेरे पिता का शव नहीं मिला तो वो विधानसभा के बाहर धरना देगा। उसने कहा कि बोरवेल में बच्चे गिर जाते हैं तो सेना बुला ली जाती है। यहां क्यों नहीं बुलाई गई - कुशलगढ़ के एसडीएम रामेश्वर दयाल मीणा ड्राइवर शुक्रवार सुबह 8 बजे कलिंजरा के पास बाकड़ी नदी में सरकारी जीप सहित बह गए थे। यह नदी बांसवाड़ा के कोटियांबा से निकलती है और हिरण नदी में मिलती है। गाड़ी में 2 लोग सवार थे। ड्राइवर तो ढाई किमी के बाद बच निकला, लेकिन मीणा का देर रात तक पता नहीं चला। उनकी तलाश शनिवार को भी जारी है। जिला कलेक्टर भगवती प्रसाद व एसपी कालूराम रावत सहित सरकारी अधिकारी मौके पर जुटे हुए हैं। एसडीएम मीणा अलवर जिले के राजगढ़ के रहने वाले हैं। - घटना की सूचना मिलने के बाद जिला कलेक्टर और एसपी समेत दूसरे अफसर मौके पर पहुंच गए थे। देर रात बारिश और अंधेरे के चलते रेस्क्यू के काम को रोकना पड़ा। सुबह फिर से मीणा की तलाश शुरू हुई।
बेटा बोला, शव नहीं मिला तो धरना दूंगा . - एसडीएम रामेश्वर दयाल मीणा का बेटा शनिवार को मौके पर पहुंच गया। वह बोला अगर मेरे पिता का शव नहीं मिला तो मैं विधानसभा के बाहर धरना दूंगा। उसने कहा कि अलवर में बोरवेल में बच्चे गिर जाते हैं तो सेना बुला ली जाती है। यहां जो रेस्क्यू टीम है उसका स्टाफ कम है और सेना भी नहीं बुलाई गई है। कैसे हुआ हादसा? - एसपी कालूराम रावत ने बताया "एसडीएम कुशलगढ़ लौट रहे थे। रास्ते में बागीदौरा और कुशलगढ़ के बीच एक पुलिया पर करीब पांच से सात फीट पानी था। इसके बावजूद ड्राइवर ने गाड़ी पानी में उतार दी, लेकिन तेज बहाव में वह गाड़ी को संभाल नहीं सका और गाड़ी बह गई। दोनों गाड़ी से निकल गए और बहने लगे। करीब दो किमी दूर ड्राइवर एक पेड़ के सहारे अटक गया, लेकिन एसडीएम आगे निकल गए। उसके बाद उनका कुछ पता नहीं चला।" जीप को शाम को निकाल लिया गया - नदी का यह पाट करीब 50 फीट का है। नदी के दूसरी ओर शाम को पानी कम होने पर जीप रेत में धंसी दिखी। शाम को क्रेन से जीप को निकाल लिया गया, लेकिन एसडीएम उसमें नहीं मिले। कल पानी का बहाव तेज होने के कारण सर्च ऑपरेशन में दिक्कत आई।


जंगल में मिली पेड़ पर लाश, कर्ज में डूबे किसान ने पत्नी की साड़ी से लटककर किया सुसाइड

11 Jul 2017
जयपुर।दौसा जिले में ब्याज पर कर्ज लेकर खेती करने वाले एक किसान ने कर्ज से परेशान होकर आत्महत्या कर ली। किसान सोमवार को बैंक गया था और तभी से परेशान था। किसान शाम को घर से पत्नी की साड़ी लेकर जंगल की ओर निकल गया था। जिसका शव मंगलवार को जंगल में पेड़ पर लटका हुआ मिला। - सूचना पर पहुंची पुलिस ने किसान के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। - जानकारी के अनुसार, दौसा जिले के भाड़ रेज की ढाणी में बाबू लाल बैरवा अपने परिवार के साथ रहता था। बाबू लाल सोमवार को अपने बैंक गया था। घरवालों के अनुसार वह तब से ही परेशान था। - शाम को बाबूलाल अपनी पत्नी की साड़ी लेकर जंगल की तरफ गया था। देर रात तक बाबूलाल घर नहीं पहुंचा तो घरवालों ने उसे खोजना शुरु किया। लेकिन वह कहीं नहीं मिला। - मंगलवार को सुबह जंगल में बाबूलाल की लाश पेड़ से लटकी मिली
परिवार हाे गया बेसहारा. . किसानी कर अपने परिवार पालन पोषण करते थे। बाबूलाल की आत्महत्या के बाद अब इस परिवार का अब कोई सहारा नहीं बचा है। - मृतक के चचेरा भाई ने बताया कि बाबूलाल ने गांव के लोगों के खेतों पर मजदूरी का काम करता था। खेतों की बुआई करने के लिए उसके पास पैसे नहीं थे इसके लिए उसने बैंक से ब्याज पर कर्ज लिया था। लेकिन वह उसे चुकता नहीं कर सका। इस बार बाबूलाल के खेत में फसल तो बोई लेकिन खेती बर्बाद हो गई यह देख कर वह परेशान रहने लगा। - ब्याज न चुका पाने के चलते वह दुखी और परेशान हो गया और उसने जंगल में पेड़ पर लटककर आत्महत्या कर ली।


आनंदपाल के अंतिम संस्कार पर फैसला नहीं, समाज के लोगों का धरना जारी

10 Jul 2017
जयपुर/ सांवराद (नागौर)। गैंगस्टर आनंदपाल सिंह के शव के अंतिम संस्कार को लेकर कोई निर्णय नहीं हो पाया है। सरकार और समाज के लोगों के बीच वार्ता के बाद भी अंतिम संस्कार पर सहमति नहीं बन पाई है। अानंदपाल का शव नागौर जिले में उसके पैतृक गांव सांवराद स्थित घर में डीप-फ्रिज में रखा हुआ है। परिजन घर में शोकसभा में बैठे हैं वहीं, रावणा राजपूत और राजपूत समाज के लोग घर के पास खेत में टेंट लगाकर धरने पर बैठे हैं।
जानिए और इस बारे में . . -- आनंदपाल के परिजनों की मांग है कि पूरे मामले की सीबीआई जांच हो। इसके अलावा छह और मांगे हैं, लेकिन सरकार मांगों पर गौर नहीं कर रही है। राजपूत और रावणा राजपूत समाज के लोग भी परिजनों के साथ हैं। सरकार पर दबाव बनाने के लिए करणी सेना ने प्रदेशभर से समाज के लोगों से 12 जुलाई को सांवराद पहुंचने का आह्वान किया है। - करणी सेना के संयोजक लोकेंद्र सिंह कालवी ने हाल ही डीडवाना में कहा था कि सरकार पर दबाव बनाने के लिए समाज एकजुट होगा
पुलिस चौकस मेगा हाइवे से सांवराद जाने वाले रास्ते पर अस्थाई चौकी बनाकर पुलिस हर गतिविधि पर नजर रख रही है। गांव जाने वाले सभी वाहनों की जांच की जा रही है। प्रशासनिक अधिकारियों और सरकार के स्तर पर कई बार बातचीत के बावजूद इस मामले में कोई हल नहीं निकला है।


ओवरटेक कर रही क्रूजर ने ऑटो को मारी टक्कर, सड़क पर सामान की तरह बिखरे शव

5 Jul 2017
बांसवाड़ा। बांसवाड़ा के खेड़ा गांव में बुधवार को एक क्रूजर और ऑटो की आमनेे-सामने की भिड़ंत में एक महिला सहित चार लोगों की मौत हो गई तथा सोलह लोग घायल हो गए। टक्कर इतनी भीषण थी कि ऑटो बुरी तरह टूट-फूट गया तथा उसकी छत उड़ गई। मृतक एक ही गांव के थे तथा किसी के निधन पर शोक करने जा रहे थे। ऑटो में 20 लोग सवार थे।
जानिए कैसे हुआ हादसा . - खेड़ा गांव से एक क्रूजर गुजर रही थी। बांसवाड़ा की ओर जा रही क्रूजर ने परतापुर रोड पर एक वाहन को तेजी से ओवरटेक किया। उसी एमय सामने से एक ऑटो आ गया। - क्रूजर और ऑटो में तेजी से भिड़ंत हो गई। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि ऑटो बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। ऑटो में सवार एक महिला तथा चार युवकों ने मौके पर दम तोड़ दिया वहीं 16 लोग घायल हो गए। - हादसा होते ही टैंपों से लोग गिरकर सड़क पर इधर-उधर सामान की तरह बिखर गए। घटनास्थल पर चीख-पुकार मच गई। - आस-पास से गुजर रहे लोग मदद को अाए तथा पुलिस को सूचित किया। थोड़ी देर में पुलिस वहां पहुंच गई तथा घायलाें को अस्पताल पहुंचाया जहां डाक्टरों ने एक महिला सहित चार को मृत घोषित कर दिया।
शोक में शामिल होने जा रहे थे. - ऑटो में सवार लोग भीमसोर गांव के थे। ये लोग साकरियां के पूर्व सरपंच के परिजन की मौत पर शोक करने जा रहे थे। ऑटो में 20 लोग सवार थे। चूंकि शोक में जा रहे थे इसलिए कोई भी बच्चा इनमें नहीं थी।


जान जोखिम में डाल पुल कर रहे थे पार, नदी में बही जीप, ऐसे बची 3 की जान

3 Jul 2017
जयपुर/रानीवाड़ा (जालौर)। राजस्थान के कई जिलों में पिछले सप्ताह भर से मानसून सक्रिय है। बीती देर रात विभिन्न स्थानों पर बारिश होने के साथ सोमवार को भी कुछ स्थानों पर बारिश का दौर जारी रहा। वहीं जालौर के रानीवाड़ा कस्बे में शनिवार से हो रही तेज बारिश से रानीवाड़ा मार्ग स्थित कोडी नदी के तेज बहाव में रविवार को जीप पलट गई। चालक सहित दो लोग पलटी जीप के ऊपर चढ़ गए।
जानिए कैसे हुआ हादसा . रानीवाड़ा मार्ग स्थित कोडी नदी में बारिश के पानी के तेज बहाव मेें रानीवाड़ा से भीनमाल की ओर एक जीप आ रही थी। पानी का बहाव तेज था। जीप में तीन लोग सवार थे। - उसी समय एक और जीप सामने से आ गई। दोनों जीप ने एक साथ क्रॉस किया। रानीवाड़ा से आने वाली जीप लेफ्ट साइड में थी जहां ढलान होने के कारण पानी ज्यादा था। अचानक जीप का इंजन बंद हो गया। उसी दौरान नदी में तेज वेग से पानी आने के कारण जीप पलट गई। - जीप नदी में पलट गई। इससे उसमें सवार जीप चालक जेरण निवासी अर्जुन देवासी तथा दो लोग पलटी हुई जीप की छत पर चढ़ गए। - दूर से यह देख रहे लोग तुरंत बचाव में आ गए। उन्होंने पुलिस को बुला लिया। सूचना मिलते ही उपखंड अधिकारी दौलतराम चौधरी, डिप्टी धीमाराम विश्नोई, थानाधिकारी कैलाशचंद्र मीणा चौकी प्रभारी डूंगराराम चौधरी भी पहुंच गए। - लोगों ने रस्सियां मंगवा लीं तथा नदी में फंसे लोगो को एक-एक कर बाहर निकाल लिया। करीब आधे घंटे में उनको बचा लिया गया। बाद में प्रशासन ने क्रेन मंगवाकर जीप को नदी से निकाला।


पुलिस ने कड़ी सुरक्षा में परिजनों को सौंपा आनंदपाल का शव, रविवार को हो सकता है अंतिम संस्कार

1 Jul 2017
जयपुर/ डीडवाना (नागौर)। आनन्दपाल के शव का रतनगढ़ के बाद चूरू में पोस्टमार्टम कराने के बाद रतनगढ़ डीएसपी नारायणदान द्वारा आनन्दपाल के शव को शनिवार को भारी पुलिस लवाजमे के साथ गांव सांवराद लाया गया जहां आनन्दपाल की पुत्री योगिता व उसके काका की मौजूदगी में शव शनिवार को परिजनों को सौंप दिया गया। आनन्दपाल का शव आते ही घर में हाहाकार मच गया। परिजनों ने पुलिस की इस कार्रवाई का विरोध तो किया मगर शव ले लिया एवं बर्फ पर शव को घर के मुख्य कक्ष में रखा दिया गया। अंतिम संस्कार संभवतया रविवार को किया जाएगा।
जानिए और इस बारे में . - पुलिस प्रशासन द्वारा आनन्दपाल के शव को लाने की तैयारियां शुक्रवार रात्रि को कर ली गई थीं, तीन जिलों के इंटरनेट सेवाएं बंद करवा दी गईं। आईजी मालिनी अग्रवाल ने सांवराद में डेरा डाल दिया था। गांव में भारी पुलिस बल तैनात किया हुआ है। नोटिस भी आनन्दपाल के घर पर चस्पा कर दिया गया था। अवधि समाप्त होने के बाद ही शनिवार सुबह सात बजे रतनगढ़ पुलिस द्वारा परिजनों को यह कहकर शव सुपुर्द कर दिया कि या तो आप अंतिम संस्कार करें अन्यथा पुलिस को मजबूरन शव का अंतिम संस्कार करना पड़ेगा। परिजनों ने शव ले लिया।
हो सकता है अंतिम संस्कार. - आनन्दपाल के अंतिम संस्कार की तैयारियां वैसे तो परिवार की ओर से शव लेने के बाद ही शुरू कर दी गईं मगर अभी भी परिजन पूर्व की मांगों पर ही अड़े हुए हैं जिसमें आनन्दपाल की पत्नी, मां, बेटी द्वारा यही कहा जा रहा है कि शव का अंतिम संस्कार मंजीत व विक्की की मौजूदगी में किया जाएगा जिनको बेल दिलाने के लिए आनन्दपाल के अधिवक्ता एपी सिंह लगे हुए हैं। अगर कोर्ट इजाजत देता है तो दोनों भाइयों को लाया जाएगा। साथ ही आनन्दपाल की बड़ी बेटी चरणजीत सिंह उर्फ चीनू के दुबई से आने की संभावना है। परिजन शव के साथ बैठे हुए हैं और घर के बाहर पुलिस का पहरा लगा हुआ है।
सांवराद बना छावनी, हटा धरना . - आनन्दपाल के गांव में शव को नहीं लेने की मांग को लेकर सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के नेतृत्व में सात दिन से धरना प्रदर्शन चल रहा था जिसे पुलिस द्वारा धारा 144 का हवाला देते हुए हटा दिया गया है। इस आंदोलन का नेतृत्व कर रहे करणी सेना के सुखदेव सिंह गोगामेड़ी को पाबंद करने के बाद प्रदर्शनकारियों को भी हटा दिया गया था। धरने का टेंट हट गया और धरनास्थल पुलिस छावनी के रूप में तब्दील हो गया। गोगामेड़ी न ही धरनास्थल और न ही गांव में दिख रहे हैं। लोग अलग-अलग कयास लगा रहे हैं जिसमें गोगामेड़ी को नजरबंद या गिरफ्तार करने की भी चर्चाएं चल रही हैं। - सांवराद जाने वाला प्रमुख मार्ग गांव तक का पूरा रास्ता छावनी के रूप में बदल गया। अजमेर आईजी मालिनी अग्रवाल, नागौर एसपी पारिस देशमुख, जोधपुर एसपी, नागौर व डीडवाना के एएसपी, 4 डीएसपी, 10 सीआई, 10 एसआई सहित 550 पुलिस का जाब्ता जिसमें आरएसी, क्यूआरटी, एसटीएफ के जवान तैनात हैं, वहीं डीडवाना एडीएम छगनलाल गोयल, एसडीएम उत्तमसिंह शेखावत, नावां, जायल एसडीएम सहित अनेक अधिकारियों ने सांवराद में डेरा डाला हुआ है। वहीं जिला कलेक्टर नागौर ने लाडनूं में डेरा डाल रखा है।
दोबारा हुआ पोस्टमार्टम . - आनंदपाल के शव का रतनगढ़ एडीजे कोर्ट के आदेश पर चूरू के भरतिया अस्पताल में तीन डॉक्टरों के मेडिकल बोर्ड ने शुक्रवार को दोबारा पोस्टमार्टम किया। इसके लिए आनंदपाल की मां ने याचिका लगाई थी। आनंदपाल के परिजन सीबीआई जांच सहित 7 अन्य मांगों को लेकर शव नहीं लेने पर अड़े थे। पुलिस ने शनिवार को परिजनों को शव लेने के लिए दूसरा नोटिस जारी किया था। इससे पहले बुधवार को भी पुलिस ने नोटिस दिया था।
सीएम को भेजे मांगपत्र में यह हैं मांगें . - आनंदपाल एनकाउंटर की जांच सीबीआई से कराई जाए। - आनंदपाल के दाह संस्कार में शामिल होने के लिए आ रहे समाज के लोगों को पुलिस झूठे मुकदमों में फंसा रही है। उन्हें छोड़ा जाए। - ढाई साल पहले बीकानेर जेल में बंद आनंदपाल पर की गई फायरिंग की सीबीआई जांच कराई जाए। - आनंदपाल की बेटी व अन्य परिजनों पर मुकदमे दर्ज कर जेलों मेें ठूसने के साथ ही भय का वातावरण बनाया जा रहा है जिसे रोका जाए। - आनंदपाल के दाह संस्कार में उसके भाई मनजीत सिंह, रूपेंद्रपाल सिंह व देवेंद्रपाल सिंह उर्फ गट्‌टू की मौजूदगी सुनिश्चित की जाए। ऐसा इसलिए क्योंकि हिंदू रीति रिवाज के अनुसार आनंदपाल बड़े भाई के साथ पिता का भी दर्जा रखता था। - एनकाउंटर में आनंदपाल की मौत के दोषी पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए। मांग पत्र में लिखा है कि उपरोक्त बिंदुओं पर विचार कर उचित निर्णय किया जाए ताकि आनंदपाल का अंतिम संस्कार किया जाए।


जीएसटी लागू होने से पहले दुकानें-कारखाने रहे बंद, थमे ट्रक्रों के पहिए

30 Jun 2017
जयपुर।एक जुलाई से लागू होने वाले गुड्स एंड सर्विस टैक्स (जीएसटी) के विरोध में भारत बंद के चलते शुक्रवार को राजस्थान बंद रहा। जयपुर सहित प्रदेश में 50 लाख से ज्यादा दुकानें, कारखाने व कृषि उपज मंडियां नहीं खुले। बंद में ट्रकों के पहिए भी थम गए। एक दिन की सांकेतिक हड़ताल से प्रदेश में 10,000 करोड़ रुपए से ज्यादा का कारोबार प्रभावित होने की आशंका है।
जानिए और इस बारे में . - भारत बंद का आह्वान राष्ट्रीय उद्योग एवं बाजार मंडल ने किया है। भारत बंद को समर्थन देने के लिए फैडरेशन ऑफ राजस्थान ट्रेड एंड इंडस्ट्री (फोर्टी), राजस्थान चैंबर ऑफ कामर्स एंड इंडस्ट्री, जयपुर व्यापार महासंघ तथा राजस्थान खाद्य पदार्थ व्यापार महासंघ के नेतृत्व में प्रदेश के 1,000 से ज्यादा उद्योग व्यापार संगठनों ने कारोबार बंद रखने का फैसला किया है। - फोर्टी के अध्यक्ष सुरेश अग्रवाल के अनुसार राजस्थान में एक हजार से ज्यादा उद्योग व्यापार संगठनों के बंद में शामिल होने से कारोबार ठप हो गया। वहीं, प्रदेश की सभी कृषि उपज मंडियां अब चार जुलाई को ही खुलेंगी।
बंद को सफल बनाने के लिए 70 टीमें. - जयपुर में बंद को सफल बनाने के लिए व्यापारियों की 70 से अधिक टीमें बनाई गई हैं। व्यापारियों ने छोटी चौपड़ से बड़ी चौपड़ तक रैली निकाली फिर वहां विरोध-प्रदर्शन किया। - जयपुर सर्राफा ट्रेडर्स कमेटी के अध्यक्ष कैलाश मित्तल, श्री राजस्थान सर्राफा संघ के अध्यक्ष सुभाष गुप्ता ने भी सभी ज्वैलर्स से कारोबार बंद रखने की अपील की है। इनका कहना है कि जीएसटी व्यवस्था में अभी कई पेचीदगियां हैं। फोर्टी की ओर से जीएसटी के विरोध में शनिवार को प्रस्तावित बंद का व्यापारी संगठनों के साथ-साथ जयपुर खुदरा विक्रेता संघ ने समर्थन किया है, साथ ही बंद को सफल बनाने की अपील भी की है। फोर्टी के बंद के समर्थन में जयपुर के सभी खुदरा विक्रेताओं ने भी समर्थन किया है।
थमे ट्रकों के पहिए . - ट्रक ऑपरेटर्स संगठन के नेता इंद्रजीत चढ्ढा ने भी राजस्थान बंद को समर्थन किया। इसके चलते ट्रकों के पहिए भी थम गए। लोडिंग वाहन भी नहीं चले। - राजस्थान खाद्य पदार्थ व्यापार महासंघ के अध्यक्ष बाबूलाल गुप्ता के मुताबिक ब्रांडेड अनाज पर पांच फीसदी जीएसटी के विरोध में प्रदेश की सभी कृषि उपज मंडियां चार दिन तक बंद रहेंगी। अब मंडियों में कारोबार चार जुलाई से ही शुरू होगा। इससे करोड़ों रुपए का कारोबार प्रभावित होने की आशंका है। मंडियों में काम करने वाले हम्मालों-श्रमिकों को भी चार दिन तक बेरोजगारी झेलनी पड़ेगी। - व्यापार संगठनों के मुताबिक ब्रांडेड अनाज पर जीएसटी व्यवस्था के तहत पांच फीसदी टैक्स लगा दिया गया है। प्रदेश के सभी प्रमुख उत्पादों पर टैक्स की ऊंची दर रखी गई है। व्यापारियों को जीएसटी की तैयारी के लिए पर्याप्त समय नहीं दिया गया। वहीं, सरकार के स्तर पर भी जीएसटी लागू करने की तैयारी पूरी नहीं है। ।


राजस्थान में मूसलाधार बारिश, पाली में बने बाढ़ जैसे हालात

28 Jun 2017
जयपुर।राजस्थान के कुछ जिलों में मंगलवार शाम से मूसलाधार बारिश देखने को मिल रही है। जयपुर में बुधवार को बारिश के बाद से मौसम सुहावना बना हुआ है। वहीं पाली जिले में बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं
ऐसा रहा जयपुर में मौसम. - जयपुर में बुधवार सुबह से आसमान में काले बादल छाए हुए हैं। - जयपुर में मंगलवार शाम होने से पहले ही तेज हवा के साथ हुई बारिश ने लोगों को राहत पहुंचाई। - खातीपुरा मोड़ के पास नीम का पेड़ गिरने से चार राहगीर जख्मी हो गए। तेज हवा के साथ हुई बारिश के चलते पेड़ धराशायी हो गया।
कोलायत विधायक भंवर सिंह भाटी की कार तेज बहाव में बही. मंगलवार को बीकानेर के कोलायत से विधायक भंवर सिंह भाटी नाले पर तेज बहाव में आ रहे पानी के बीच से ही गाड़ी निकाल रहे थे। विधायक भंवर सिंह भाटी उस वक्त मुसीबत में फंस गए जब उनकी कार पानी के तेज बहाव में फंस गई। - नाले में बारिश के पानी का बहाव इतना तेज था कि विधायक की कार धीरे धीरे पानी के साथ बहने लग गई। ये नजारा देख सड़क के दोनों ओर लोग खड़े लोगों की सांसें अटक गर्इ। - संसाधनों के अभाव में दोनों आेर खड़े लोग कुछ भी नहीं कर सके। ऐसे में विधायक भंवर सिंह भाटी ने कार से कूद कर अपनी जान बजाई। थोड़ी ही देर बाद पूरी कार पानी के तेज बहाव के साथ गड्डे में समा गई।
आकाशीय बिजली गिरने से युवक की मौत . - पाली जिले के सेंदड़ा थाना क्षेत्र के गिरी गांव में श्रीकृष्णा गोशाला के पास आकाशीय बिजली गिरने से नया गांव सुमेल के रहने वाले आजाद काठात की मौत हो गई। - रणकपुर सहित कुंभलगढ़ अभयारण्य में हुई झमाझम बारिश के बाद इस इलाके के बरसाती नाले पूरे वेग से बह रहे हैं। रणकपुर के समीप मघई नदी भी बहने लगी है। ।


आनंदपाल के गांव से 127 लोगों को किया गिरफ्तार, एनकाउंटर की जांच कराने पर अड़ा परिवार

27 Jun 2017
सांवरदा(नागौर). आनंदपाल के एनकाउंटर के 3 दिन बीतने के बाद भी अंतिम संस्कार को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं हो पाई है। यहां गांववाले और परिजन एनकाउंटर की सीबीआई जांच के साथ 6 मांगों पर अड़े हैं। गांव आने वाले हर गाड़ी की जांच की जा रही है। इस कार्रवाई में कल 48 लोगों को गिरफ्तार किया गया था। ये आंकड़ा अब तक 127 तक पहुंच चुका है। परिजन अब भी शव लेने से इनकार कर रहे हैं। इसी बीच आनंदपाल के वकील एपी सिंह दिल्ली राजनाथ सिंह से मिलने पहुंचे। गृहमंत्री राजनाथ सिंह के साथ 15 मिनट की बातचीत में एपी सिंह 7 मांगे गृहमंत्री के सामने रखीं। एपी सिंह ने कहा कि उन्होंने एक साल पहले हाइकोर्ट में लिखित रूप में कहा था कि पुलिस राजनीतिक दबाव में आनंदपाल का एनकाउंटर कर सकती है। उनके साथ अखिल क्षत्रिय महासभा के पदाधिकारी भी साथ रहे। बता दें कि वे इस पूरे एनकाउंटर की जांच कराना चाहते हैं।
कटारिया बाेले, किसी भी एजेंसी से करा लो जांच. -- आनंदपाल के परिवार ने एनकाउंटर की जांच सीबीआई से कराने की मांग की है। इस पर गृहमंत्री गुलाबचंद कटारिया ने कहा, सीबीआई सहित चाहे जिस एजेंसी से जांच करा लो। उन्होंने कहा कि आनंदपाल को सरेंडर करने के लिए कहा गया था, लेकिन उसने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। आनंदपाल की बेटी भी पहुंची - आनंदपाल की बेटी योगिता सिंह भी सोमवार को जयपुर से सांवरदा पहुंच गई।
ये डटे हुए हैं गांव में . - अखिल राजस्थान रावणा राजपूत महासभा प्रदेशाध्यक्ष वीरेंद्र सिंह रावणा, उपाध्यक्ष गणपत सिंह रावणा पडियार भीलवाड़ा, युवा अध्यक्ष एडवोकेट हिम्मत सिंह सोलंकी, अनिल सिंह बडगूजर, अध्यक्ष मुकेश सिंह जोधा, अजमेर जिला अध्यक्ष राजवीर सिंह, तहसील समाज मेड़ता रतन सिंह सोलंकी, करणी सेना अध्यक्ष सुखदेव सिंह गोगामेड़ी, हजारों रावणा राजपूत यहीं बेठे हुए हैं।
सीएम को भेजे मांगपत्र में यह हैं मांगें . - आनंदपाल एनकाउंटर की जांच सीबीआई से कराई जाए। - आनंदपाल के दाह संस्कार में शामिल होने के लिए आ रहे समाज के लोगों को पुलिस झूठे मुकदमों में फंसा रही है। उन्हें छोड़ा जाए। - ढाई साल पहले बीकानेर जेल में बंद आनंदपाल पर की गई फायरिंग की सीबीआई जांच कराई जाए। - आनंदपाल की बेटी व अन्य परिजनों पर मुकदमे दर्ज कर जेलों मेें ठूसने के साथ ही भय का वातावरण बनाया जा रहा है जिसे रोका जाए। - आनंदपाल के दाह संस्कार में उसके भाई मनजीत सिंह, रूपेंद्रपाल सिंह व देवेंद्रपाल सिंह उर्फ गट्‌टू की मौजूदगी सुनिश्चित की जाए। ऐसा इसलिए क्योंकि हिंदू रीति रिवाज के अनुसार आनंदपाल बड़े भाई के साथ पिता का भी दर्जा रखता था। - एनकांउंटर में आनंदपाल की मौत के दोषी पुलिस अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए। मांग पत्र में लिखा है कि उपरोक्त बिंदुओं पर विचार कर उचित निर्णय किया जाए ताकि आनंदपाल का अंतिम संस्कार किया जाए। ।


उदयुपर-अहमदाबाद हाइवे पर फिल्मी स्टाइल में लूटा डेढ़ किलो सोना और 470 किलो चांदी

23 Jun 2017
उदयपुर। उदयपुर में पिस्तौल की नोक पर लूट का मामला सामने आया है। उदयपुर -अहमदाबाद नेशनल हाईवे पर एक टोल बूथ के पास दो गाड़ियों में आए लुटेरों ने तीन व्यापारियों से सोना-चांदी लूट लिया। लुटेरों ने व्यापारियों की आंख में मिर्च पाउडर भी डाल दिया। बाजार भाव के अनुसार सोना 43.56 लाख रुपए तथा चांदी 1.83 करोड़ रुपए की है।
जानिए कैसे दिया लूट को अंजाम.. . - राकेश सहित तीन व्यापारी सोने-चांदी के ट्रांसपोर्ट का काम करते हैं। ये लोग गुजरात के राजकोट से उत्तरप्रदेश के आगरा में कीमती धातु की डिलीवरी करते हैं। - एक पिता उसका बेटा और उनका दामाद राजकोट से रात को कार से डिलीवरी लेकर चले थे। इनके पास 470 किलो चांदी और डेढ़ किलो सोना था। यह एक पार्सल में पैक्ड था। - रात को करीब दो बजे ये उदयपुर में एक टोल से गुजरे। टोल के थोड़ा आगे चलते ही पीडि की नाल के पास धड़धड़ाती हुई दो गाड़ियां आईं और इनकी कार के आगे लगा दी। - लुटेरे स्कॉर्पियो और एक कार में सवार थे। उन्होंने व्यापारियों को कार से उतारा और उनकी तरफ पिस्तौल तान दी। एक लुटेरे ने व्यापािरयों की आंख में मिर्ची डाल दी। - यह सब इतनी तेजी से हुआ कि व्यापारियों को कुछ समझ नहीं आया। फिर लुटेरे इनकी गाड़ी में सवार हो गए तथा उन्हें अपनी गाड़ी में बिठा लिया। - थोड़ी दूर जाकर लुटेरे रुके और व्यापारियों से उनके मोबाइल ले लिए तथा उन्हें गाड़ी से उतार कर रफूचक्कर हो गए। - ये लोग घबराए से थोड़ी देर वहीं खड़े रहे। वहां एक बस आई। ये लोग बस से थाने पहुंचे और वहां सारी बात बताई। - पुलिस ने नाकाबंदी कराई तथा टोल के सीसीटीवी खंगाले। पुलिस के अनुसार लुटेरों को जल्द पकड़ लिया जाएगा।
लुटेरों को पूरी जानकारी थी . - लुटेरों को इसकी पूरी जानकारी थी कि व्यापारियों के पास सोना और चांदी है। वे पूरी योजना के साथ आए। बाजार में सोने चांदी की ।


सीएम वसुंधरा राजे से घबराए मंत्री कालीचरण सराफ, पूरे समय योग में लड़खड़ाते रहे

21 Jun 2017
जयपुर। योग दिवस पर प्रदेशभर में योग-ध्यान के आयोजनों में लाखों लोगों ने हिस्सा लिया। यहां प्रदेशस्तरीय कार्यक्रम में सीएम वसुंधरा राजे समेत कई मंत्रियों, प्रमुख लोगों और प्रदेश भाजपा के पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया। यहां सीएम वसुंधरा राजे और चिकित्सा मंत्री कालीचरण सराफ के बीच एक ऐसा वाकया हो गया कि फिर पूरे योग के समय सराफ के पांव डगमगाते रहे।
सीएम ने यूं दिखाया गुस्सा... . - सीएम वसुंधरा राजे के साथ प्रदेश भर के प्रमुख लोग और राजधानी के बड़ी संख्या में लोगों ने यहां एसएमएस स्टेडियम में योग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में हिस्सा लिया। - सीएम राजे के एक ओर मंत्री कालीचरण सराफ और दूसरी ओर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष अशोक परनामी थे। - सभी योग की अलग-अलग मुद्राएं कर रहे थे। - इसी दौरान एक अभ्यास के दौरान कालीचरण सराफ का हाथ सीएम वसुंधरा राजे के हाथ से टच हो गया। - इससे गुस्साई वसुंधरा राजे ने सराफ की ओर एकदम से इस तरह देखा कि मंत्री घबरा गए। - जैसे ही हाथ टच हुआ, कालीचरण सराफ ने अपना हाथ नीचे कर लिया। इसके बाद सीएम की गुस्साई निगाहें सराफ की ओर पड़ीं।
फिर ठीक से नहीं कर पाए योग . - हाथ टच होने के बाद से लगातार सराफ एक बार भी योग की सभी मुद्राएं ठीक से नहीं कर पाए। - जब भी वे किसी अभ्यास के लिए हाथ आजू-बाजू करते, वे कॉन्सियश हो जाते और फिर मुस्कराकर हाथ नीचे कर लेते। - एक पांव पर खड़े होने वाले योगाभ्यास में तो बार-बार सराफ के पांव जमीन पर ही टिक रहे थे। - उन्हें बार-बार सीएम की गुस्साई निगाहें ही नजर आती रहीं और वे अपना संतुलन पूरे योग के समय तक नहीं बना पाए। ।


जंगल से ले आया पैंथर का बच्चा, बोला- घर में खेलते रहेंगे बच्चे

19 Jun 2017
नाथद्वारा (राजसमंद)। राजसमंद जिले में नदी किनारे मिले एक पैंथर के शावक को एक ग्रामीण अपने घर ले आया। ये सूचना जब गांववालों को मिली तो वहां बड़ी संख्या में ग्रामीण जुट गए। गांववालों ने उसे समझाया कि बच्चे की की तलाश में उसकी मां गांव आ सकती है, और लोगों पर हमला कर सकती है। इस पर पैंथर लेकर आने वाले शख्स ने कहा कि मुझे क्या मालूम ये कौनसा जानवर है, जंगल में रो रहा था तो मैं इस अपने घर बच्चों के खेलने के लिए लेकर आ गया।
जानिए क्या है मामला . राजसमंद के कुंचोली गांव का एक व्यक्ति रविवार को जंगल गया था। बनास नदी के किनारे एक गुफा के पास से गुजरने के दौरान उसे किसी जंगली जानवर की आवाज आई। - उसने वहां झांका तो देखा गुफा में पैंथर का शावक था। आस-पास कोई और पैंथर नहीं था। थोड़ी देर इधर-उधर देखने के बाद वह गुफा में गया और शावक को उठा कर अपने घर ले आया। - शावक को घर लाते ही गांव में यह खबर पूरे गांव में फैल गई। उसके घर के बाहर भीड़ लग गई। इस बीच उसे लाने वाले ने शावक को दूध पिलाया।
लोगों ने समझाया, संकट में पड़ जाएगा . - शावक घर लाने वाले को ग्रामीणों ने समझाया कि वह शावक को ले तो आया है, लेकिन मुसीबत में पड़ना तय है। एक तो वन विभाग उसके खिलाफ कार्रवाई कर सकता है वहीं दूसरी ओर इसकी मां भी शावक को तलाशती हुई यहां आ गई तो कइयों की जान संकट में पड़ सकती है। इसलिए वह शावक को वहीं छोड़ आए जहां से लाया है। - युवक बोला- मैं तो समझा कि छोटा सा जानवर है, बच्चे खेल लेंगे इसके साथ। मुझे क्या पता कि इतनी बड़ी मुसीबत आ सकती है। - बात समझ में आने पर वह उसे जंगल में छोड़ आया। शावक को गुफा में ही छोड़ा। इसके बाद ग्रामीणों ने इसकी जानकारी वन विभाग को दे दी। ।


जेट एयरवेज की जयपुर में इमरजेंसी लैंडिंग, दिल्ली में होल्ड पर रखा, फ्यूल अलर्ट पर किया डायवर्ट

16 Jun 2017
जयपुर। जयपुर एयरपोर्ट पर शुक्रवार को एक विमान की इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई। लैंडिंग के दौरान विमान में 20 मील का ही फ्यूल बचा था। विमान को दिल्ली से जयपुर डायवर्ट किया गया था।
जानिए क्या है मामला . - जयपुर एयरपोर्ट पर एक विमान की इमरजेंसी लैंडिंग कराई गई। - जेट एयरवेज का एक विमान 125 यात्रियों को लेकर लेह से दिल्ली जा रहा रहा था। - दिल्ली में एयर ट्रेफिक कंजेक्शन के कारण फ्लाइट को काफी देर होल्ड पर रखा गया। - पायलट के फ्यूल कम होने का अलर्ट करने पर उसे जयपुर डायवर्ट कर दिया गया। - जयपुर पहुंचते ही विमान को तुरंत लैंड कराया गया। - लैंडिंग के समय विमान में 20 मील का ही फ्यूल बचा था। हालांकि विमान सुरक्षित उतार लिया गया। विमान में सवार सभी यात्री सुरक्षित हैं।
एक बजे टेक ऑफ किया . - विमान जयपु से ईंधन भरने के बाद एक बजे रवाना हो गया। ।


हंसते-खेलते बाजार को निकले दो भाई, एक दिन बाद नदी में तैरते मिले शव

13 Jun 2017
झाड़ोल (उदयपुर)। उदयपुर के झाड़ोल में घर से बाजार को निकले दो भाइयों की नदी में डूबने से मौत हो गई। दोनों सोमवार से गायब थे तथा मंगलवार को उनके शव नदी में तैरते मिले। राहगीरों ने पानी में शव देखे।
जानिए क्या है मामला . - झाड़ोल के मगवास में पार्थ जोशी (15) पुत्र प्रभाष जोशी व उसकी बुआ का लड़का खेरवाड़ा निवासी जीत व्यास (15) पुत्र राकेश व्यास निवासी रेटा नयागांव खेरवाड़ा सोमवार को घर से निकले। दोनों बाजार गए थे। दोनों ने हाल ही 10 वीं की परीक्षा पास की थी। - शाम तक दोनों बच्चे घर नहीं लौटे तो परिजनों ने तलाश शुरू की। रात होते-होते परिजनों की चिंता बढ़ गई और उन्होंने पुलिस थाने में बच्चों की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई। साथ ही उन्होंने साेशल मीडिया पर इस बारे में मैसेज भी भेजे।
राहगीरों ने परिजनों को दी सूचना . - बच्चों के गायब होने की सूचना आस-पास के लोगों को थी। मानसी नदी कतलिया धरा के पास से गुजर रहे राहगीरों ने तट पर कपड़े व चप्पल देखे। शक होने पर नदी में देखा तो उसमें बच्चों के शव तैर रहे थे। उन्होंने लोगों को इसकी जानकारी दी। - थोड़ी ही देर में बच्चों के परिजन व अास-पास के लोग तथा पुलिस भी वहां पहुंच गई। घटना की खबर लगते की वहां बड़ी संख्या में ग्रामीण जुट गए। पुलिस ने शवों को मोर्चरी भिजवाया। ।


Rajasthan Board : इस बार लड़कों का पासिंग परसेंटेज लड़कियों से रहा ज्यादा, यहां देखें रिजल्ट

8 Jun 2017
राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की ओर से आयोजित 10वीं बोर्ड परीक्षा 2017 का परिणाम गुरुवार शाम चार बजे घोषित कर दिया गया। इस बार पासिंग प्रतिशत 78.96 प्रतिशत रहा। इस बार लड़कों का पासिंग परसेंटेज लड़कियों से बेहतर रहा। -- इस बार लड़कों का पासिंग पर्सेंटेज 79.01 प्रतिशत रहा। वहीं लड़कियों का पासिंग पर्सेंटेज78.89 रहा। - शिक्षा राज्यमंत्री वासुदेव देवनानी ने अजमेर स्थित बोर्ड परिसर में यह परिणाम घोषित किया। शिक्षा राज्यमंत्री ने बताया कि इस बार 10 लाख 98 हजार 655 परीक्षार्थी बोर्ड परीक्षा के लिए पंजीकृत थे। - इनमें 6 हजार 284 प्राईवेट स्टूडेंट थे, बाकी सभी स्टूडेंट रेगुलर थे। इसमें से 10वीं के एग्जाम में जो स्टूडेंट्स अपीयर हुए उनकी संख्या 10 लाख 72 हजार 799 थे। - इस बार 10वीं के परीक्षा परिणाम में लड़को ने बाजी मारी है। लड़को का इस बार पासिंग प्रतिशत है, 79.01 और लड़कियों का पासिंग प्रतिशत रहा 78.89। - 10वीं 2017 के परीक्षा परिणामों में औसत प्रतिशत 78.96। गत वर्ष की तुलना में 3.07 बढ़ा है। गत बार परिणाम 75.89 था। - गत वर्ष की तुलना में सरकारी स्कूलों को परिणाम 3.74 प्रतिशत सुधरा है। - वहीं प्राईवेट स्कूलों का 82.49। ये गत वर्ष था 79.85 प्रतिशत था। इसमें 2.64 की वृद्धि हुई। - बोर्ड 12वीं के रिजल्ट पहले ही जारी कर चुका है।


RCA के नए प्रेसिडेंट होंगे सीपी. जोशी, ललित मोदी के बेटे को 5 वोट से हराया

2 Jun 2017
जयपुर.सीपी. जोशी राजस्थान क्रिकेट एसोसिएशन यानी RCA के नए प्रेसिडेंट होंगे। जोशी ने ललित मोदी के बेटे रुचि मोदी को 5 वोट से हराया। RCA की 6 पोस्ट्स में से जोशी खेमे के चार जबकि मोदी गुट के 2 कैंडिडेट जीते। इलेक्शन ऑब्वर्जर के तौैर पर एके. पांडे और लोकपाल ज्ञानसुधा मिश्रा मौजूद थे। पूर्व सीएम अशोक गहलोत ने जोशी को जीत पर ट्वीट कर बधाई दी। कुल 33 वोट थे। जोशी को 19 और रुचिर को 14 वोट मिले। नांदू को भी जीत... - सेक्रेटरी के लिए आरएस नांदू इलेक्शन जीते। वो मोदी गुट के हैं और उन्हें 17 वोट मिले। - वाइस प्रेसिडेंट इलेक्शन में इकबाल को जीत मिली। महेंद्र नाहर ज्वॉइंट सेक्रेटरी होंगे। RCA के सामने ये चैलेंज - RCA से जुड़े कई जिला क्रिकेट संघों के कोर्ट केस चल रहे हैं। ये बीसीसीआई से सस्पेंशन खत्म कराने में दिक्कत पैदा कर सकते हैं। - बता दें कि बीसीसीआई ने तीन साल पहले RCA को बोर्ड से सस्पेंड किया था। जोशी के सामने सबसे बड़ा चैलेंज बीसीसीआई से सस्पेंशन रद्द कराना होगा। ललित मोदी अब भी नागौर जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष हैं। लिहाजा, सस्पेंशन खत्म कराना आसान नहीं होगा। - राजस्थान की डोमेस्टिक क्रिकेट में भी RCA की वजह से दिक्कतें हैं। अंडर 19 चैंपियनशिप अटकी हुई है। इसके अलावा जून में कोल्विन शील्ड होनी है। इसी शील्ड के बेस पर राजस्थान की रणजी टीम सिलेक्ट होती है। - सूत्रों के मुताबिक, RCA के पास फंड की भी काफी दिक्कतें हैं। उसके इम्प्लॉईज को दो महीने से सैलेरी भी नहीं मिली है


स्कूल में पढ़ने आई स्टूडेंट को प्रिंसिपल ने बेचा, 2 लाख रुपए में करवाना चाहता था लड़की की शादी

3 December 2016
राजस्थान के सीकर जिले की दादीया थाना पुलिस ने स्टूडेंट को शादी के लिए बेचने के आरोप में एक टीचर को गिरफ्तार किया है। स्टूडेंट आरोपी के प्राईवेट स्कूल में पढ़ने आई थी। टीचर ने उसे दो लाख रुपए में बेचा था। यह है पूरा मामला... - पुलिस के अनुसार करीब सात महीने पहले दादीया थाने मे पीड़ित स्टूडेंट के पेरेंट्स ने मुकदमा दर्ज करवाया था। पुलिस उपाधीक्षक एससीएसटी जयसिंह तंवर के अनुसार गिरफ्तार टीचर आनंदपाल गिरोह के गिरफ्तार आरोपी सुभाष बराल का चाचा हरदेवा राम है। -पुलिस के अनुसार हर देवाराम बराल गांव का रहने वाला है और वर्तमान मे नानी गांव की स्कूल में पदस्थापित है। हर देवाराम की सांगरवा गांव मे एक प्राईवेट स्कूल भी है। -चैनपुरा दादली गांव के रहने वाले एक व्यक्ति ने हर देवाराम की सांगरवा स्थित स्कूल मे अपनी नाबालिग बेटी का एडमिशन करवाया था। - कुछ दिनों बाद जब पिता अपनी बेटी से मिलने गया तो उसे बेटी से नहीं मिलने दिया गया। बाद मे जानकारी मिलने पर उसने दादीया थाने दुष्कर्म का मामला दर्ज करवा दिया था। -मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस ने हर देवाराम की बहन और एक अन्य आरोपी को पहले ही गिरफ्तार कर लिया था। - वही करीब सात महीने बाद हर देवाराम को पुलिस ने दुष्कर्म में सहयोग और पोस्को और एससीएसटी एक्ट में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।


आंखों में मिर्च डाल 14 लाख रुपए लूटे, जानिए कहां हुआ ऐसा

2 December 2016
प्रतापगढ़ जिले में छोटीसादड़ी मार्ग पर एनएच 113 जाखमिया के पास सोमवार को बाइक सवार लुटेरों ने पिस्तौल दिखा कर सहकारी बैंक के कैशियर से 14 लाख रुपए लूट लिए। वारदात के बाद जिले भर में नाकाबंदी की गई। प्रतापगढ़ पुलिस ने पड़ोसी जिले नीमच की पुलिस से भी संपर्क किया। यह है पूरा मामला... - निंबाहेड़ा शाखा में कैशियर बाबूलाल खटीक और उनके साथ काम करने वाले विनोद वैष्णव रुपए लेने के लिए प्रतापगढ़ शाखा आए थे। प्रतापगढ़ से 16 लाख रुपए की राशि लेकर वे वापस कार से निंबाहेड़ा लौट रहे थे। - एनएच 113 पर जाखमिया धामनिया के बीच दोपहर करीब 3 बजे दो बाइक पर चार जने आए। एक बाइक पर सवार दो युवकों ने कार के आगे बाइक खड़ी कर दी और पिस्तौल तान कर दोनों को धमकाया। - इस दौरान एक अन्य बाइक पर बैठे दो युवकों में से एक ने उनकी आंखों में मिर्च झौंक कर गाड़ी में रखें बैग को ले गए। इस वारदात के बाद उन्होंने पुलिस को सूचना दी जिस पर छोटीसादड़ी एसएचओ प्रदीप बिट्टू और धोलापानी थाने से पुलिस मौके पर पहुंची। सूचना के बाद एएसपी गोपाल स्वरूप मेवाड़ा भी मौके पर पहुंच गए।


बैंक के बाहर कतार में खड़े रिटायर्ड फौजी की मौत, भीड़ इतनी कि 10 मिनट पता भी नहीं चला

1 December 2016
नोटबंदी के बाद पुराने नोट जमा कराने और नए नोट बैंक से लेने के लिए बैंकों के सामने लगने वाली कतारें कम नहीं हो रही है। यहां एसबीबीजे की स्थानीय शाखा के बाहर सोमवार सुबह बैंक खुलने से पहले ही लाइनें लग गई। इसी दौरान यहां कतार में लगे एक व्यक्ति की मौत हो गई। गांव दूजार निवासी भूतपूर्व सैनिक प्रह्लाद सिंह राठौड़ (70) पुत्र कल्याण सिंह राजपूत बैंक से चैक के जरिए 10 हजार रुपए निकलवाने के लिए सुबह 8.55 बजे एसबीबीजे बैंक पहुंचा तथा वहां बुजुर्गों के लिए लगी लाइन में पीछे जाकर खड़ा हो गया। वहां आए हुए 10 ही मिनट हुए थे कि उनका जी घबराया और खून की उलटी हुई। चक्कर आने से वहीं बैठ गए। उन्हें तत्काल ही पास के करणी हॉस्पिटल ले गए, जहां चिकित्सकों ने उन्हें हृदयाघात के कारण मौत होना बता दिया गया।


ट्रक में सो रहे ड्राइवर क्लींजर जिंदा जले, ऐसे ले जाई गईं दोनों की लाशें

30 November 2016
यहां हाइवे पर एक ढाबे के बाहर खड़े कोयले से भरे एक ट्रेलर बीती आधी रात को अचानक आग भभक उठी। इससे ट्रेलर के केबिन में सो रहे चालक और खलासी जिंदा जल गए। ढाबे पर खड़े दूसरे ट्रक चालकों ने उन्हें बाहर निकालने के लिए भी दौड़े, लेकिन ट्रेलर का केबिन अंदर से लॉक होने के कारण वे भी बचा नहीं सकें। जानिए पूरी घटना… - हादसा रविवार आधी रात करीब 12 बजे नेशनल हाइवे आठ पर बिछीवाड़ा लेहणा घाटी पर हुआ। - ट्रेलर गुजरात के जामनगर से कोयला लेकर निंबाहेड़ा जा रहा था। रात करीब 10 बजे लेहणा घाटी पर जयकिशन ढाबे पर ट्रेलर रोका।


बिहार से खरीद कर लाए गए थे ये ये नाबालिग, चूड़ी फैक्ट्री में होता था इनके साथ जुल्म

29 November 2016
।शहर के भट्टा बस्ती में इलाके में सोमवार को पुलिस की कार्रवाई में 5 नाबालिगों की जिंदगी बर्बाद होने से बच गई। इनका बचपन चूड़ी के कारखाने और वहां की यातनाओं में गुजर रहा था। ये सभी नाबालिग बिहार के हैं और इन्हें यहां खरीदकर लाया गया है। जानिए पूरी घटना… - पिछले दिनों सूचना पर चाइल्ड लाइन हेल्प लाइन की ओर से पुलिस को नाबालिगों से बाल श्रम कराने की सूचना पुलिस की दी गई। - सोमवार को भट्टा बस्ती थाने की पुलिस ने यहां के मकान नंबर 4 जी 13 में रेड मारी तो 5 नाबालिग चूड़ियां बनाते हुए पकड़े गए। - मकान मालिक वसिम खान को मौके से हिरासत में ले लिया गया और इन बच्चों को चाइल्ड लाइन हेल्प लाइन को सौंप दिया गया।


दरगाह बम ब्लास्ट केस : अभियोजन पक्ष के गवाहों के बयान पूरे, आरोपियों के शुरू

29 November 2016
एनआईए मामलों की विशेष कोर्ट में सोमवार को नौ साल पहले अजमेर की दरगाह में हुए बम ब्लास्ट केस के दो आरोपी चन्द्र शेखर लेवे और देवेन्द्र गुप्ता के बयान दर्ज हुए। दोनों ने बयानों में कहा कि उन्हें मामले में राजनीतिक दुर्भावना से फंसाया है। मामले में पिछली सुनवाई पर अभियोजन पक्ष के करीब 150 गवाहों के बयान पूरे हो गए थे जिसके बाद सोमवार को आरोपियों के बयान दर्ज कराए गए। इस मामले में अभियोजन के अधिकतर गवाह पक्षद्रोही हो गए थे। सैयद सरवर चिश्ती ने दरगाह थाने में 11 अक्टूबर 07 को रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि शाम को तोप चलने पर सभी जायरीन रोजा इफ्तार कर रहे थे। उसी समय एक पेड़ के पास धमाका हुआ, जिसमें दो मारे गए 15 घायल हुए।


बादशाहो को शूट करने जोधपुर पहुंचे अजय देवगन

29 November 2016
फिल्म अभिनेता अजय देवगन अपनी आगामी फिल्म बादशाहो की शूटिंग में भाग लेने मंगलवार दोपहर जोधपुर पहुंचे। एयर पोर्ट पर बड़ी संख्या में उनके समर्थक उमड़ पड़े। बाद में उनके सुरक्षा कर्मियों ने बड़ी मुश्किल से अजय को वहां से निकाल कार में बैठाया। भाग लेंगे शूटिंग में... - अजय देवगन के मुख्य रोल वाली फिल्म बादशाहो देश में वर्ष 1975 में लागू की गई आपातकाल से जुड़े किसी घटनाक्रम पर आधारित है। - मिलन लूथरिया के डायरेक्शन में बनने वाली इस फिल्म में अजय के अलावा इमरान हाशमी का भी महत्वपूर्ण रोल है। जबकि फिल्म की लीड एक्ट्रेस के रोल में ईशा गुप्ता और इलियाना डी क्रूज के नाम की चर्चा चल रही है। - अजय जोधपुर में छह दिन तक ठहरेंगे। उनकी फिल्म की अधिकांश शूटिंग प्राचीन जोधपुर की तंग गलियों में की जाएगी।


लड़कियां बंद कमरे में लड़के के साथ कर रही थी ये काम, एक तरफ टंगे थे सारे कपड़े

28 November 2016
अजमेर में फिर से एक सेक्स रैकेट पकड़ा गया है। रैकेट चलाने वाला कोई आदमी नहीं, बल्कि एक 18 साल की लड़की थी, जो एक घर में यह धंधा चला रही थी। बोगस ग्राहक बनाकर जब पुलिस मौके पर पहुंची तो हैरान रह गई, क्योंकि यहां जिस हाल में दो लड़कियां एक लड़के के साथ मिली, वो देखने लायक स्थिति नहीं थी। जानिए किस हाल में थीं ये दो लड़कियां... - मामला अजमेर के केसरगंज स्थित रावण की बगीची के पास का है। - यहां एक मकान में यह रैकेट चलाया जा रहा था। - गुरुवार को पता चला कि रैकेट चलाने वाली धुरी नामक लड़की ने दो कॉलगर्ल्स को बुला रखा है और एक-दो ग्राहक भी घर में प्रवेश कर चुके हैं।


महिलाओं-बच्चों को नहाता देख उतर गया तालाब में, फिर ऊपर नहीं आया

28 November 2016
कुंवारिया (राजसमंद)।राजसमंद के कुंवारिया कस्बे में नाड़ी में नहाने उतरे एक व्यक्ति की डूबने से मौत हो गई। वहां नहा रही महिलाओं के शोर मचाने पर गांववाले आए। एक घंटे के पयास के बाद भी उन्हें शव नहीं मिला। जानिए फिर क्या हुआ ...... - थानाधिकारी पारसमल वीरवाल ने बताया कि खाखलिया खेड़ा निवासी मुकेश (31) पुत्र डालचंद पुलिस फायरिंग रेंज के पास नाड़ी (छोटा तालाब) पर गया था। - नाड़ी में महिलाएं और बच्चे नहा रहे थे।
- वह भी नहाने के लिए नाड़ी में उतर गया और नहाते-नहाते गहरे पानी में चला गया। उसने पानी में डुबकी लगाई। - थोड़ी देर तक वह ऊपर नहीं आया तो महिलाओं ने शोर मचा दिया। इस पर वहां ग्रामीण आ गए। - ग्रामीणों ने एक घंटे तक पानी में उसे तलाश, लेकिन पानी उथला होने के कारण वह नहीं मिला। - इस पर उन्होंने पुलिस को सूचित किया। पुलिस ने भी ग्रामीणों के सहयोग से तलाशा, लेकिन मुकेश का कुछ पता नहीं चला।


एक दूल्हे को मिले ढाई लाख तो दूसरे को मिले महज 24 हजार

28 November 2016
नोट बैन के बाद केन्द्र सरकार और रिजर्व बैंक की तरफ से रोजाना बदले जा रहे नियमों के कारण कई लोग सांसत में फंस गए है। एक ही बैंक में कल एक दूल्हे को ढाई लाख रुपए खाते से निकालने दिए गए। वहीं आज उसी बैंक में एक अन्य दूल्हे को सिर्फ 24 हजार रुपए ही निकालने की अनुमति मिली। इस कारण हो रही है परेशानी... - नोट बैन के पश्चात शादी वाले घरों की दिक्कतों को ध्यान में रख केन्द्र सरकार ने गुरुवार को दूल्हा-दुल्हन या उनके परिजनों को अपने खातों से ढाई लाख रुपए एक मुश्त निकालने की अनुमति देने की घोषणा की। - इसके अगले दिन लोग बैंक पहुंचे तो बताया गया कि उन्हें अभी तक रिजर्व बैंक से इस बारे में किसी प्रकार के निर्देश नहीं मिले। - एक दिन बाद बैंकों को रिजर्व बैंक से निर्देश मिल गए। इस पर सोमवार को शहर में कुछ लोगों ने अपने खातों से ढाई लाख रुपए निकाले। - रिजर्व बैंक ने कल एक बार फिर शादी वाले घर के लोगों को प्रदान की गई राहत में कुछ बदलाव कर दिया। - नए नियम के तहत अब आठ नवम्बर से पहले जिसके खाते में ढाई लाख रुपए जमा है वो ही लोग इसे निकाल पाएंगे। इसके बाद राशि जमा कराने वालों को किसी प्रकार की राहत नहीं मिलेगी।


बोरिंग से निकल रही रहस्यमय आग, पानी के साथ उठ रहे गुबार

26 November 2016
यहां एक स्थान पर खुदे बोरिंग से लगातार तीन दिन से आग के गुबार निकल रहे हैं। आग इतनी तेज है कि कई बार कई मंजिला तक पहुंच रही है। रहस्यमय रूप से आग के निकलने से यहां कौतूहल बना हुआ है। लोगों की भीड़ जमा हो गई है। क्या है जमीन की स्थिति और हकीकत... - असल में यह स्थान चंबल नदी के किनारे पर है, जहां बोरिंग में आग निकल रही है। - बोरिंग से निकल रही आग कई-कई मंजिला तक ऊपर जा रही है। - इससे लोगों के लिए यह कौतूहल का विषय बना हुआ है। - रहस्यमय रूप से निकल रही आग के पीछे फिलहाल कोई वैज्ञानिक कुछ स्पष्ट नहीं कर पा रहा है। - राज्य में पहला मौका है जब ऐसी कोई घटना सामने आई है।


इस लड़की ने झाड़ू से की पैंथर की पिटाई, फिर छिप गया घर के कोने में

25 November 2016
यहां रलावता गांव में घुसे पैंथर ने हड़कंप मचा दिया है। पैंथर ने एक लड़की पर हमला कर दिया, लेकिन लड़की ने पैंथर से खुद की जान बचा ली। जयपुर जू से वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई है और ऑपरेशन पूरा कर लिया है। लड़की को गंभीर होने पर जयपुर के एसएमएस अस्पताल भेजा गया है। यह हुआ घटनाक्रम... - यहां जयपुर-सीकर रोड स्थित खंडेला के पास ही यह गांव है। यहां अचानक एक पैंथर घुस आया। लोगों ने देखा तो एक-एक कर बड़ी संख्या में लोग यहां इकट्ठा हो गए। - इसके बाद अचानक पैंथर ने यहां घर के काम में लगी एक लड़की गुड्डी पुत्री मदनलाल पर हमला कर दिया। - हमले के दौरान गुड्डी के हाथ में झाडू थी, उसने पैंथर पर उसी से वार करना शुरू कर दिया। जमीन पर लोट-पोट होकर अपनी जान बचाती रही। इस बीच गांव वालों के शोर के बीच पैंथर वहां से भागा।


3 हजार रुपए में अपने ही मासूम बेटे को गडरिये के पास रख दिया गिरवी

24 November 2016
मामूली रकम की खातिर अपने ही मासूम को भेड़ें चराने वाले बुजुर्ग के पास गिरवी रखने का एक और सनसनीखेज मामला सामने आया है। इस बार गनोड़ा के नजदीक मंडेला गांव के एक पिता ने अपने ही 10-12 साल के मासूम बेटे को 3 हजार रुपए महीने की शर्त पर गडरिये के पास गिरवी रख दिया, लेकिन, मासूम की किस्मत अच्छी थी। क्या हुआ यहां, क्यों दिया गिरवी... - असल में इस बच्चे को लेकर गडरिया एक बस में जा रहा था। - बस में रोता देख एक युवक पंकज ने उससे बात की तो बालक ने पूरा माजरा पता चला। - युवक ने बस रुकवाई और पुलिस को खबर दी। पुलिस पहुंची और बालक, गडरिया और युवक को लेकर थाने पहुंची। - पिता को बुलवाया गया और जमकर लताड़ लगाई गई। मासूम के पिता ने रोते हुए गरीबी को इसके पीछे की वजह बताई।


हर तरफ है जिस सोनम की बेवफाई की चर्चा उस पर बन रही है ये फिल्म

23 November 2016
सोनम गुप्ता बेवफा है। इस एक वाक्य ने सोशल मीडिया ने उस सोनम गुप्ता को जबरदस्त फेमस कर दिया है, जिसे कोई नहीं जानता। सोशल मीडिया के हर मीडियम में यह ट्रेंड कर रहा है। फेसबुक से लेकर ट्विटर, वाट्सएप और यू-ट्यूब पर भी सोनम गुप्ता को लेकर चर्चाएं तेज हैं। जिसे सब खोज रहे हैं, वो सोनम गुप्ता जयपुर में क्या कर रही है? जानिए कहां मिली सोनम गुप्ता... - सोनम गुप्ता को न्यूज चैनल्स से लेकर सोशल साइट्स और यहां तक कि न्यूज वेबसाइट्स पर खूब भुनाया जा रहा है। - हर न्यूज चैनल का टॉपिक बन चुका है यह नाम। अब जयपुर के फिल्म मेकर भी इसमें दिलचस्पी दिखा रहे हैं। - क्रिसेन्ट पिक्चर्स ने एक शॉर्ट फिल्म शूट की है, जिसका टाइटल भी सोनम गुप्ता बेवफा है, रखा है।


बर्ड फ्लू जांच को बड़ी मुश्किल से काबू में आए पक्षी

23 November 2016
देश में बर्ड फ्लू को लेकर जारी अलर्ट के बाद से राजस्थान सहित कई प्रदेश में एक भी केस रिपोर्ट नहीं हुआ है। लेकिन एहतियात के तौर पर नमूने एकत्र कर जांच की जा रही है। - जोधपुर जन्तु आलय में मंगलवार सुबह विशेष जांच टीम पहुंची और यहां रहने वाले करीब साढ़े तीन सौ पक्षियों में से कुछ के खून के नमूने एकत्र किए गए। - नमूने एकत्र करने के लिए पक्षियों को पकड़ने की कवायद के दौरान उनमें हड़कंप मच गया। वे अपने पिंजरों में इधर-उधर उड़ने लगे। उन्हें बड़ी मुश्किल से पकड़ा गया। - जन्तु आलय के चिकित्सक डा. श्रवणसिंह राठौड़ ने बताया खून के नमूने कुछ दिन पूर्व में भी लिए गए थे। अभी तक यहां के किसी पक्षी में बर्ड फ्लू के लक्षण नजर नह८ीं आ रहे है। ं।


देखिए इस तरह आगे बढ़ रहे है बाबा रामदेव के भक्त

22 November 2016
जोधपुर। माह भादवा शुरू होते ही लोक देवता बाबा रामदेव के जातरूओं के जत्थे जोधपुर में नजर आना शुरू हो गए है। जैसलमेर जिले के रामदेवरा में स्थित बाबा रामदेव के मंदिर पहुंचने के लिए कोई पैदल तो कोई बाइक और ट्रैक्टर में सवार होकर आगे बढ़ा जा रहा है। पाली से आए कुछ जातरू 170 फीट लम्बी ध्वजा लेकर बाबा के दर्शन करने गुरुवार सुबह जोधपुर से होकर निकले। जोधपुर के लोग भी दिल खोलकर बाबा के भक्तों का स्वागत कर रहे है। जगह-जगह राम रसोड़े शुरू हो गए है। ऐसे बढ़ रहे है जातरू... - हजारों लोग सैकड़ों किलोमीटर की पद यात्रा कर बाबा रामदेव के दर्शन करने रामदेवरा जाते है। शहर में अब पद यात्रियों के जत्थों की बहार आई हुई है। - वहीं इस बार मोटर साइकिल पर भी सवार होकर बड़ी संख्या में लोग आगे बढ़ रहे है। एक साथ कई मोटर साइकिलों पर बाबा की ध्वजा लगा आगे बढ़ते जत्थे अलग ही नजर आ जाते है। -
पाली जिले से १७० फीट लम्बी ध्वजा लेकर आगे बढ़ते लोगों का समूह आज शहर में आकर्षण का केन्द्र बना रहा। - बाबा के भक्तों का शहर के लोग दिल खोलकर स्वागत कर रहे है। जगह-जगह पर राम-रसोड़े(लंगर) शुरू हो गए है। - इन रामरसोड़ों के बाहर लोग खड़े होकर बाबा के प्रत्येक भक्त को रोक उनकी जमकर खातिरदारी कर रहे है। - अगले कुछ दिन में बाबा के जातरुओं की संख्या में और तेजी आने का अनुमान है। सभी फोटो एल देव जांगिड़


चुनाव के बाद कॉलेज के बाहर गर्माया माहौल, पुलिस ने छात्रों पर कुछ ऐसे भांजी लाठियां

22 November 2016
अजमेर। सम्राट पृथ्वीराज चौहान राजकीय महाविद्यालय में बुधवार देर शाम छात्रसंघ चुनावों का परिणाम घोषित होते ही माहौल गर्मा गया। जीत के जश्न में डूबे कांग्रेसजन आैर एनएसयूआई कार्यकर्ताओं की पुलिस से नोक-झोंक हो गई। देखते ही देखते ही धक्कामुक्की की नौबत आ गई।
इसी बीच किसी शरारती ने पुलिस पर पत्थर फेंक दिया। पत्थर से क्विक रिस्पांस टीम (क्यूआरटी) के कमांडो बह्मदत्त के सिर में गंभीर चोट लगी और उसके सिर से खून बहने लगा। इसे देख साथी पुलिसकर्मियों ने वहां मौजूद नेताओं तथा छात्रों पर लाठियां बरसानी शुरू कर दी। लाठी-भाटा जंग में 7 कांग्रेस नेताओं सहित कई युवक घायल हो गए। पूर्व छात्रसंघ उपाध्यक्ष टेकचंद कलोशिया मौके पर ही बेहोश हो गया।
कांग्रेस नेताओं ने तुरंत घायल साथियों को पास ही के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। लाठीचार्ज में कांग्रेस नेत्री रागिनी चतुर्वेदी भी घायल हो गई। पुलिसकर्मी काे भी इसी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया। एसपी डॉ. नितिन दीप ब्लग्गन का कहना है कि जमा भीड़ ने पथराव किया था, जिससे एक कमांडो घायल हुआ है। आरोपी को आईडेंटिफाई किया जा रहा है, पुलिसकर्मी की आेर से क्लॉक टावर थाने में प्रकरण दर्ज कराया जाएगा।


छात्र संघ चुनाव : परिणाम देखने के लिए यहां क्लिक करें, दोनों संगठनों में कड़ी टक्कर

21 November 2016
जयपुर।राज्य के जयपुर और उदयपुर को छोड़ सभी जिलों में हो रहे यूनिवर्सिटीज और कॉलेजों के छात्र संघ चुनाव के परिणाम आना शुरू हो गए हैं। शाम तक लगभग सभी कॉलेजों के चुनाव परिणाम सामने आ जाएंगे। सभी कॉलेजों में एबीवीपी और एनएसयूआई के बीच सीधा मुकाबला है। कहीं- कहीं निर्दलीय प्रत्याशी भी टक्कर दे रहे हैं। इसके अलावा एसएफआई भी कुछ स्थानों पर अस्तित्व में दिखाई दे रही है।इस तरह आ रहे चुनाव परिणाम... - राज्य में चल रहे छात्र संघ चुनावों के परिणाम देर शाम तक सभी जगह के आ जाएंगे। - इससे पहले सबसे पहला परिणाम अलवर के लॉ कॉलेज का आया है। - अजमेर में सबसे बड़ा परिणाम सामने आया है। यहां एमडीएस यूनिवर्सिटी के पूरे पैनल पर एनएसयूअाई ने कब्जा कर लिया है।


स्टेशन पर ‌‌‌हजार और 500 के नोट के 16 लाख रु. के साथ युवक अरेस्ट, हो रही है जांच

21 November 2016
नोटबंदी के बाद पांच सौ व एक हजार के पुराने नोटों को खपाने के लिए लोग वैध-अवैध तरीके अपना रहे हैं। जीआरपी ने बुधवार को रेलवे स्टेशन पर 16 लाख के नोटों की गड्डियों के साथ आगरा निवासी एक युवक को गिरफ्तार किया है। युवक पुलिस को इस बारे में कोई संतोषजनक जवाब या साक्ष्य नहीं दे सका कि यह राशि किस मंशा से वह परिवहन कर रहा था। प्रारंभिक पूछताछ में आरोपी युवक ने खुद को जूता कारोबारी बताया था, उसका कहना है कि यह कारोबारी राशि है, लेकिन इस बारे में वह कोई रसीद या कागजात पेश नहीं कर सका। जीआरपी ने 16 लाख रुपए धारा 102 में जब्त कर लिए हैं। मामले में जांच की जा रही है। जीआरपी थाना प्रभारी सुरजीत सिंह के अनुसार रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म संख्या 2 व 3 पर कांस्टेबल जनक सिंह और जोगेंद्र सिंह गश्त के दौरान संदिग्ध व्यक्तियों और वस्तुओं को चेक कर रहे थे। इस दौरान आगरा नाई की मंडी निवासी विशाल लालवानी पुत्र दिलीप लालवानी एक ट्रॉली बैग लेकर ट्रेन आगरा फोर्ट में इंजन की तरफ बढ़ता नजर आया। पुलिस के अनुसार विशाल बार-बार बैग को चेक कर रहा था।


प्रदेशभर के निजी स्कूल संचालक आज जयपुर में जुटेंगे, करेंगे सरकार का विरोध

21 November 2016
प्रदेशभर के निजी स्कूल संचालक गुरुवार को जयपुर में जुटेंगे। वे यहां विभिन्न मांगों के समर्थन में संबंधित अफसरों और मंत्री से मुलाकात करेंगे। इससे पहले भी अपनी मांगों के लिए स्कूल संचालक आंदाेलन कर चुके हैं। क्या हैं इनकी मांगे... - असल में पिछले काफी समय से निजी स्कूलों के संचालकों पर फीस को लेकर दबाव बनाया जा रहा है। - अभिभावकों की डिमांड को देखते हुए सरकार निजी स्कूल संचालकों पर फीस के अलावा अन्य मामलों में भी दबाव बनाती रही है। - अब निजी स्कूल संचालकों का कहना है कि उनके स्कूल के टीचर्स और अन्य खर्च को देखते हुए उनकी ओर से ली जा रही फीस ज्यादा नहीं है। - वे उसी स्तर की सुविधाएं भी मुहैया करा रहे हैं। ऐसे में सरकार उन पर दबाव नहीं बनाए। - सरकार और अभिभावकों का कहना है कि स्कूल में ही बुक्स, यूनिफार्म व अन्य सामग्री बेचने से भी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ रहा है। - जो किताब बाजार में जितने की आती है, उससे ज्यादा कीमत स्कूल से ली जा रही है। ऐसे में निजी स्कूल्स के लिए एक नियत गाइडलाइन होनी चाहिए।


कूड़े के ढेर में मिले 500-1000 के असली नोट, जानिए लोगों ने क्या किया

19 November 2016
राजस्थान के झुंझुनूं जिले के नवलगढ़ में 500 और 1000 रुपये के लाखों नोट काटकर कूड़े के ढेर में फेंकने का मामला सामने आया है। मिश्रा वाली गली में नोटों को कूड़े के ढेर में डालने से पहले तीन टुकड़े में काटा गया था। जब तक पुलिस की टीम मौके पर पहुंची तो वहां पर केवल 50 हजार रुपये ही पड़े थे।सारे नोट थे असली... - कोई नवलगढ़ के मेन मार्केट में बुधवार को 500 और 1000 रुपये के लाखों के नोट काटकर कूड़े के ढेर में फेंक गया। लोगों ने जैसे ही नोटों को देखा तो थैलियों में भर कर ले गए। - हाल में पीएम मोदी ने देश के लोगों को संबोधित करते हुए 500 और 1000 के नोटों को बंद करने का ऐलान किया था। - ये नजारा तब काफी चर्चा में था। .

 


जेल में आसाराम की मौत की अफवाह से मचा हड़कंप, सेवादार ने कहा वह ठीक हैं

18 November 2016
शहर में गुरुवार सुबह एक अफवाह से हड़कंप मच गया. सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने संदेश चला दिया कि जेल में आसाराम की मौत हो चुकी है। इसके बाद जेल अधीक्षक के फोन नहीं उठाने से अफवाहों को और अधिक बल मिला। अफवाह फैलते ही कई लोग जेल के बाहर पहुंच गए। बाद में आसाराम के सेवादार शिवा ने इसे अफवाह बताते हुए कहा कि आसाराम ठीक है। ऐसे फैली अफवाह... - जोधपुर शहर में कल रात कुछ लोगों के पास ऐसे संदेश आए कि जोधपुर जेल में तीन साल से बंद आसाराम की मौत हो चुकी है। - कई दिन से बीमार चल रहे आसाराम की मौत के समाचार को लोगों ने विश्वास नहीं किया, लेकिन आज सुबह एक बार फिर ऐसे संदेश प्रसारित होने के बाद हड़कंप मच गया। - अफवाह के बीच जेल अधीक्षक विक्रमसिंह के फोन नहीं उठाने से ऐसी अफवाह को कुछ बल मिला कि हो सकता है कि कुछ गड़बड़ है। - अफवाह के बीच बड़ी संख्या में मीडियाकर्मी जेल के बाहर जा पहुंचे, लेकिन उन्हें किसी स्तर से सूचना नहीं मिल पाई। इससे अफवाह और बढ़ गई।


राजस्थान : जयपुर समेत कई जिलों में भूकंप के झटके, हिलने लगे तो टूटी नींद

16 November 2016
राजधानी समेत राज्य के कई जिलों में गुरुवार तड़के करीब 4:28 बजे भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए। भूकंप के झटके करीब 30 सैकंड तक आए, जिसके कारण लोग सड़कों पर उतर आए। क्या रही तीव्रता... - राजस्थान के कई जिलों में तड़के करीब 4:28 से 4:40 बजे के बीच भूकंप के झटके महसूस किए गए। - इसकी तीव्रता विक्टर स्केल पर करीब 4.4 बताई गई है। - फिलहाल राज्य के जिलों में जहां-जहां झटके महसूस किए गए हैं, उनमें किसी तरह के नुकसान की जानकारी नहीं है, लेकिन कुछ जगह मामूली नुकसान बताया जा रहा है। - यह भूकंप, जयपुर, अलवर, सीकर समेत कई जिलों में आया है। - भूकंप के झटके के साथ ही अलवर, सीकर, जयपुर, सीकर के नीमका थाना क्षेत्र में लोग सड़कों पर आ गए। - अलवर से राहुल ने बताया कि झटके इतने तेज महसूस किए गए कि खिड़की दरवाजे बजने लगे। अलमारियों के कांच से भी आवाजें आने लगी।


पराया ‘कालाधन’ अपने खाते में नहीं कराएं जमा, हर खाते और ट्रांजेक्शन पर नजर

16 November 2016
नोटबंदी के बाद कालाधन रखने वालों के लिए कदम-कदम नई मुसीबतें खड़ी हो रही हैं। चालबाजी, धोखेबाजी आैर टैक्स चोरी कर अमीर हुए लोग अब अपने घर-प्रतिष्ठानों के नौकरों के आगे कालेधन को सफेद करने के लिए हाथ फैला रहे हैं। शहर में कई ऐसे मामले सामने आ रहे हैं जिसमें टैक्स चोर अपने नौकरों, रिश्तेदारों, पड़ोसियों आैर परिचितों के खाते में पैसे जमा करने की जुगत में जुटे हैं। लालच दिया जा रहा है कि 1 लाख रुपए जमा करवा दो, 20 हजार आप रख लेना। 2 लाख रुपए जमा कराने की एवज में 40 हजार रुपए आपके। इस लालच के फेर में कई लोग फंस रहे हैं, लेकिन आपको सावधानी बरतने की जरूरत है। आयकर विभाग सभी बैंकों से नियमित रूप से रोजाना के ट्रांजेक्शन आैर किसके खाते में कितना पैसा, इसकी जानकारी ले रहा है। बैंक स्टेटमेंट में यदि आपके खाते से 5-10 हजार का ट्रांजेक्शन शो हो रहा है आैर आपने एक साथ खाते में लाखों रुपए जमा करवा दिए तो आयकर विभाग जानकारी लेगा।


देखिए बाइक को उछाल पलटी कार का कैसे निकला कचूमर

16 November 2016
शहर में कलेक्ट्रेट के बाहर बुधवार देर रात तेज रफ्तार के साथ एक बाइक सवार को चपेट में लेते हुए एक कार पलट गई। कार की टक्कर से बाइक सवार उछल कर दूर जा गिरा। वहीं डिवाइडर के ऊपर से होते हुए दूसरी तरफ जाकर पलटी कार का कचूमर निकल गया। ऐसे हुआ हादसा.. - कलेक्ट्रेट के मोड़ पर देर रात तेज गति से आ रही कार का चालक नियंत्रण खो बैठा। इसके बाद कार एक बाइक को चपेट में लेते हुए कार डिवाइडर के ऊपर से उछलते हुए दूसरी तरफ जाकर कई पलटी खा गई। - पलटी खाने के बाद कार का पूरी तरह से कचूमर निकल गया। इसकी हालात देख ऐसा लगता नहीं कि इसमें सवार लोग बच पाए होंगे। - कार की टक्कर लगने से बाइक सवार युवक बुरी तरह से घायल हो गया। वहीं कार पलटने से उसमें सवार तीनों युवक अंदर ही फंस गए। - जोरदार धमाके के साथ कार पलटने से वहां कई लोग पहुंच गए उन्होंने कार में फंसे युवकों को बाहर निकाल अस्पताल पहुंचाया। - बताया जा रहा है कि कार में सवार युवक एक शादी समारोह में भाग लेकर लौट रहे थे। मस्ती के मूड में तेज रफ्तार से कार भगाने के कारण यह हादसा हो गया।


ब्रिक्स सम्मेलन - रूस और ब्राजील की महिला सांसदों का दल पहुंचा जयपुर

16 November 2016
जयपुर। ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लेने रूस और ब्राजील की महिला सांसदों के दल शुक्रवार सुबह जयपुर पहुंचे। महिला सांसदों का जयपुर एयरपोर्ट पर स्वागत किया गया। महिला सांसदों का ब्रिक्स सम्मेलन शनिवार से जयपुर में शुरू हो रहा है। यूं किया गया स्वागत... - नगरीय विकास मंत्री राजपालसिंह शेखावत ने रूस के प्रतिनिधि दल की अगवानी की।
- दल प्रमुख गलीना कारेलोवा को बुके भेंट कर अभिनंदन किया।
- दल के अन्य सदस्यों का स्वच्छता मिशन की निदेशक आरुषि ए मलिक ने स्वागत किया। - बालिकाओ ने सभी सदस्यों का तिलक लगाया और माला पहनाई।
- जयपुर में 20 और 21 अगस्त को होने वाले ब्रिक्स महिला सांसदों के सम्मेलन में ब्राजील, रूस, भारत, चीन एवं दक्षिण अफ्रीका देशो की महिला सांसद भाग ले रही हैं


बहन को बोला था पापा को भी स्कूटी चलाना सिखा देना, अगली बार उनके लिए भी गाड़ी लेंगे

16 November 2016
जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर में पाक सैनिकों की गोलाबारी के दौरान शुक्रवार को बांसवाड़ा के हर्षित भदौरिया शहीद हो गए। वे बीएसएफ की राजपूत रेजीमेंट 1851 में तैनात थे। बांसवाड़ा के सपूत की पार्थिव देह सोमवार को उसके घर लाया गया। यहां राजकीय सम्मान से अंतिम संस्कार होगा। मिल मजदूर का बेटा है शहीद... - बांसवाड़ा में शहीद के जुलूस में लगभग 25 हजार लोग शामिल हुए है। हर किसी के दिल में शहीद के सम्मान है। - शहीद हर्षित भदौरिया के पिता राजकुमार भदौरिया कपड़ा मिल में काम करते हैं। - राजकुमार भदौरिया के दो बच्चे है, जिनमें बड़े हर्षित और छोटी बेटी दिव्या है। - शहीद के पिता राजकुमार ने बताया कि सीमा पार से चल रही गोलीबारी के दौरान शुक्रवार शाम सवा सात बजे हर्षित की गर्दन पर गोलियां लगी, जिसमें वे शहीद हो गए। - पठानकोट में प्रशिक्षण के बाद भदौरिया एक माह पहले ही कुपवाड़ा में तैनात हुए थे।


जयपुर के अटल परिवार में ब्याहे थे पंडित नेहरू, पाकिस्तान में हाई कमिश्नर थे इनके दामाद

15 November 2016
।भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू का विवाह जयपुर के एक परिवार में ही हुआ था। जिस परिवार से पंडित नेहरू की पत्नी कमला नेहरू थीं, उनकी जमीनें, हवेली आज भी जयपुर में मौजूद हैं। हालांकि नेहरू के ससुराल वालों ने सालों पहले उन्हें अन्य लोगों को बेच दी थीं। नेहरू के जन्म दिन पर जानिए कहां है नेहरू का मूल ससुराल... - असल में जवाहरलाल नेहरू का विवाह कमला नेहरू से हुआ जो जयपुर के मोतीलाल अटल परिवार की बेटी थीं। - अटल परिवार की जयपुर के चौड़ा रास्ता में हवेली थी। अटल परिवार की यह हवेली बाद में रामेश्वर प्रसाद धामाणी ने खरीद ली। - इसके बाद जिस रास्ते में यह हवेली बनी हुई है, उस हवेली का नाम भी धामानी हवेली और रास्ते का नाम भी धामानियों का रास्ता हो गया।


कुएं में गिरा रणथंभौर का टाइगर, पानी में यूं तैरकर बचाता रहा जान,

14 November 2016
राजस्थान के रणथंभौर नेशनल पार्क में एक टाइगर एक कुएं में गिर गया। रणथंभौर पार्क की सीमा पर मौजूद खवा गांव के लोगों की जब नींद खुली और वे कुएं पर गए तो यह नजारा देख उनके होश उड़ गए। कुएं में गिरा टाइगर टी-83 है। आखिर कैसे गिरा कुएं में... - यह गांव रणथंभौर अभयारण्य की सीमा पर है, जहां संभवत: यह टाइगर पानी पीने के उद्देश्य से आया था। - सोमवार सुबह-सुबह जब लोग यहां कुएं पर पहुंचे तो उन्होंने यह नजारा देखा। - गांव के लोगों ने पुलिस और वन विभाग को सूचना दी। इसके बाद टीम ने मौके पर पहुंच रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया। - टाइगर करीब चार घंटे तक कुएं के पानी में तैर-तैर कर अपनी जान बचाने की कोशिश में जुटा रहा। - गांव के लोग भी उसे बचाने के भरसक प्रयास कर रहे थे, लेकिन अब वन विभाग की टीम ने आधे घंटे के रेस्क्यू आॅपरेशन में ही उसे बाहर निकाल लिया। - आखिरकार टाइगर ने खुद और विभाग की टीम के प्रयासों से जान बच गई।


पैसे नहीं दिए तो तलवार से काट डाली गर्दन, फिर ये बताई पुलिस को कहानी.

12 November 2016
राजस्थान के टोंक जिले के घाड़ ग्राम पंचायत के ठीकरिया गांव में एक बुजुर्ग की गला काटकर हत्या कर दी। हत्यारा बेखौफ तलवार लहराता हुआ मेन मार्केट से निकल गया। जब पुलिस की पकड़ में आया तभी उसके चेहरे पर डर के बजाए हंसी थी और पुलिस के पकड़ते ही बेखौफ पूरी घटना की जानकारी देकर अपना जुर्म कबूल कर लिया। यह था पूरा मामला... - दूनी तहसील के घाड़ ग्राम पंचायत के ठीकरिया गांव में रहने वाला दीनदयाल विजय किराने की छोटी दुकान चलाकर पत्नी के साथ रहता था। - इसी गांव में रहने वाला कालूराम गोस्वामी एक दिन तलवार लेकर दीनदयाल के घर आया और पैसे मांगने लगा। - दीनदयाल ने हाथ जोड़कर कालूराम से कहा कि उसके पास पैसे नहीं है, इस बात से कालूराम नाराज हो गया। - कालूराम तलवार की नोक पर दीनदयाल को बाहर ले आया और बाहर लाकर उनके सामने थोड़ी देर तक फिर से तलवार लहराने लगा। - इसके बाद उसने दीनदयाल की गर्दन पर तलवार रखी और उसे काट डाला। मौके पर ही उसकी मौत हो गई।


नाबालिग बेटी से पिता करता था दुष्कर्म, चाची ने रात में देखा तो हुआ खुलासा

12 November 2016
एक महिला ने अपने ही पति के खिलाफ दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है। महिला के मुताबिक उसका पति उसका पति खुद की नाबालिग बेटी से पिछले 4 सालों से दुष्कर्म कर रहा था। वह बेटी को जान से मारने की धमकी देकर लगातार देह शोषण करता रहा। जब घर वालों को पता चला इस कलयुगी पिता के करतूत की कहानी सबके सामने आ गई। मामला दर्ज होने के बाद से ही आरोपी फरार हैपीड़िता की मां के मुताबिक आरोपी वर्ष 2012 में खेत में बनी ढाणी में मवेशी की रखवाली के लिए नाबालिग बेटी को साथ ले गया था। - उस रात आरोपी ने पुत्री के साथ दुष्कर्म किया और किसी को बताने पर जान से मारने की धमकी देकर डराया। - धमकी से भयभीत बेटी ने मामले की जानकारी किसी को नहीं दी, लेकिन मानसिक रूप से परेशान रहने लगी। - दिसंबर, 2013 की रात नाबालिग और उसकी चाची खेत में थी। - रात को आरोपी फिर से बेटी को मवेशियों के बाड़े में ले गया और दुष्कर्म करने लगा। - नाबालिग के चिल्लाने की आवाज सुनकर उसकी चाची टॉर्च लेकर मवेशी के बाड़े में गई। - टार्च की रोशनी से देखा तो आरोपी पुत्री के साथ दुष्कर्म कर रहा था। - पोल खुलने के डर से आरोपी महिला को जान से मारने की धमकी देने लगा। - सुबह नाबालिग की चाची ने यह बात अपने पति व परिवार के अन्य लोगों को बताई। - सभी ने आरोपी को समझाया और दोबारा ऐसा नहीं करने को कहा। - इसके बाद नाबालिग को भोजरासर पढ़ाई के लिए भेज दिया गया।


लड़कों को घर बुला बातों-बातों में बंद करती थी रूम, फिर शुरू होता था ये खेल

11 November 2016
राजस्थान के चिड़ावा में पुलिस ने लड़कियों की एक ऐसी गैंग का पर्दाफाश किया है जो युवकों को फंसाकर दुष्कर्म का मामला दर्ज कराने की धमकी देती थीं। इसके बाद वो ब्लैकमेल कर मोटी रकम वसूल करती थीं। पुलिस ने पीड़ित की मदद से पैसे की वसूली करते इस गैंग की मुख्य सरगना एक 32 वर्षीय महिला और 22 वर्षीय युवती को हिरासत में ले लिया है। पिलानी थाना इलाके के खेड़ला का बास का रहने वाले मनोज ने 10 नवंबर को थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी। - रिपोर्ट के मुताबिक मनोज एक ऐसी गैंग का शिकार हो गया जो युवकों को फंसाकर पैसे ऐंठती थी। - इस गैंग की एक लड़की ने मनोज को अपने घर बुलाया। घर पहुंचने पर कुछ मिनट तो बातचीत की और फिर एक कमरे में बैठने को कहा। - इसके बाद इस कमरे को बंद कर दिया। फिर इन युवतियों ने कई तरह के आरोप लगाना शुरू कर दिए। मनोज के साथ जमकर मारपीट कर डाली। - मनोज ने छोड़ देने की दुहाई दी तो गैंग की लड़कियों ने बोला- पहले एक सादे कागज पर साइन करके दे दो, हम छोड़ देंगे। - अपनी जान और इज्जत बचाने के लिए उसने सादे कागज पर साइन कर दिए। - दस्तखत करने के बाद गैंग की महिला ने दो लाख रुपए की मांग की। - मनोज क्या करता, उसने इन लड़कियाें को 50 हजार रुपए दिए और अपनी जान बचाई।


बेहोशी की हालत में बाबा के साथ थी ये महिला, बोला- मेरे वश में है यह

11 November 2016
भरतपुर रेलवे स्टेशन पर बाबा के साथ एक महिला को संदिग्ध अवस्था में पाए जाने पर लोगों ने पकड़ लिया। लोगों ने पुलिस को सूचित कर दिया। पूछताछ में पता चला कि बाबा ने इस महिला को करौली में हिंडौन के बस स्टैंड से तीन दिन पहले अगवा किया था। बाबा ने बताया कि उसने महिला को सम्मोहित कर रखा है। जानिए क्या है मामला ... - सरसैना हलैना निवासी राधा (25) पत्नी हेतराम अपने पीहर करौली जिले के गांव खेड़ी हैवत हिंडौन 10 नवंबर को गई थी। - हिंडौन बस स्टैंड पर एक बाबा ने उसके सिर पर हाथ फेरा और सम्मोहित कर लिया। - महिला का कहना है कि उसके बाद उसे कुछ पता नहीं है। वह बाबा के साथ हो ली। - शनिवार दोपहर को वह उसे कहीं लेकर जाने की फिराक में था। - रोजाना अपने घर अप-डाउन करने वाले एक निजी नर्सिंग होम के कम्पाउंडर मदनमोहन निवासी खेड़लीगंज तथा एमएसजे कालेज का छात्र गजेंद्र सिंह धाकड़ निवासी बयाना अपने घर जाने के लिए स्टेशन पर पहुंचे थे। - उन्होंने बाबा से बात की। उससे महिला से संबंध पूछा तो उसने भतीजी बताया। - भतीजी बनाई महिला से अपने चाचा का नाम पूछा तो वह कुछ नहीं बता पाई।


5000 में तय हुआ था सौदा, कॉलगर्ल के साथ इस हालत में पकड़ाए लड़के

11 November 2016
राजस्थान के पुष्कर में मेले की आढ़ में बड़े पैमाने पर सेक्स रैकट चलाए जा रहे हैं। इस बात की जानकारी के बाद पुलिस ने एक रेड मारी तो कॉलगर्ल के साथ अंडर गारमेंट्स पहने हुए लड़के बाहर निकले। पुलिस ने 3 तीन कॉल गर्ल्स के साथ 1 दलाल और कई ग्राहक पकड़े हैं। इन लड़कियों का सौदा 5 हजार रुपए में तय हुआ थामेले की चकाचौंध के बीच शहर के रिहाइशी इलाके में लड़कियों की सौदेबाजी का मामला सामने आया है। - स्थानीय लोगों की शिकायत पर देव नगर रोड स्थित अंबेडकर कॉलोनी में दिनेश के घर में पुलिस ने शनिवार को सुबह 10 बजे के करीब रेड की कार्रवाई की। - रेड की सूचना मिलते ही मकान मालिक दिनेश मौके से फरार हो गया। पुलिस ने तीन लड़कियों 6 लोगों को धर दबोचा। - पुलिस जब पहुंची, उस वक्त एक लड़की का सौदा तय किया जा रहा था कुछ आपत्तिजनक हालत में मिली। - पूछताछ में पता चला कि मकान मालिक पश्चिम बंगाल के दलाल के जरिए लड़कियां मंगवाता था। - वो इन्हें पुष्कर में डिमांड के हिसाब से सप्लाई कराता था। एक लड़की पर कम से कम 5 हजार रुपए लिए जाते थे। - इसमें दलाल और मकान मालिक के साथ लड़कियों को भी हिस्सा दिया जाता था। - मेले को ध्यान में रखते हुए बाहर से लोगों के लिए इन लड़कियों को यहां जिस्मफरोशी के लिए बुलाया गया था। - पुलिस के मुताबिक एक लड़की भट्टा मोहल्ला कटनी मध्यप्रदेश निवासी 27 वर्षीय युवती , एक गाजियाबाद निवासी , तीसरी पश्चिम बंगाल के पचागड़ निवासी पकड़ी गईं।


राजस्थान के वरिष्ठ आईएएस अधिकारी पर भ्रष्टाचार निरोधक विभाग का छापा

11 November 2016
जयपुर। राजस्थान में एक और आईएएस पर भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने छापा मारा है। नीरज के.पवन नाम के इस आईएएस अधिकारी पर राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिषन (एनआरएचएम) के अतिरिक्त निदेशक रहने के दौरान टेंडर देने में अनियमितताओं का आरोप लगा है। एसीबी ने बुधवार सुबह 28 टीमें बना कर पूरे राजस्थान में नीरज के. पवन से जुडे 10-12 ठिकानों पर छापेमारी की है। पवन इस समय कृषि आयुक्त पद पर कार्यरत है।
नीरज के.पवन राजस्थान के वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों में गिने जाते है। खान विभाग के घूसकांड में आईएएएस अधिकारी अषोक सिंघवी के बाद नीरज के.पवन राजस्थान के दूसरे बडे अधिकारी है जिन पर एसीबी की गाज गिरी है। हालांकि एक पूर्व आईएएस अधिकारी जी.एस.संधु भी इन दिनों एसीबी की गिरफ्त में हैं। नीरज के पवन के खिलाफ एनएचआरएम में अपने चहेतों को टेंडर देने का आरोप लगा है। यह षिकायत करीब छह माह पहले आई थी। इसके बादसे एसीबी सबूत जुटाने में लगी थी। बुधवार सुबह एसीबी ने 28 टीमों का गठन कर नीरज के पवन के जयपुर स्थित निवास सहित एक साथ कई स्थानों पर दबिश देकर दस्तावेज व अन्य सामान जब्त कर लिया है।
एसीबी के आईजी वीके सिंह ने बताया कि वर्तमान में कृषि आयुक्त नीरज के पवन के खिलाफ टेंडर में घपले की शिकायतें मिल रही थीं। ऐसे में उसके आवास व अन्य स्थानों पर दबिश देकर दस्तावेज व अन्य सबूत जुटाए जा रहे है। करीब दस स्थानों पर कार्रवाई चल रही है।f


दबोचने पर 1 लाख के नोट लेकर दौड़ा रिश्वतखोर और नाले में डाल दिए

11 November 2016
बारां के छबड़ा में एसीबी ने बुधवार को छबड़ा नगर पालिका (नपा) चेयरमैन के पति को एक लाख की रिश्वत लेते रंगे हाथों दबोच लिया। रंगे हाथों पकड़े जाने पर रिश्वतखोर नोट लेकर वहां से भाग छूटा। इसके बाद एसीबी ने नपा चेयरमैन को भी अरेस्ट कर लिया। नपा चेयरमैन के पति ने यह रिश्वत प्लाट व कॉलोनी कनवरजन के नाम पर ली थी। एसीबी अब नपा कर्मचारियों की भूमिका के बारे में भी जांच कर रही है। जानिए क्या है मामला .... - भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो सीआई नीरज गुप्ता ने बताया कि छबड़ा निवासी राजमल सोनी ने ढ़ाई माह पहले छबड़ा पालिका में अपने प्लाट व कॉलोनी के कनवरजन का प्रार्थना पत्र दिया था। - इस पर पालिका अध्यक्ष पिंकी साहू ने अपने पति जितेंद्र साहू से बात करने को कहा। - सोनी ने पालिका अध्यक्ष पति व हाल ही सवरित पार्षद बने जितेन्द्र साहू से बात की। - जितेन्द्र ने कई नियम कायदे बताते हुए इसे करने से मना कर दिया। - काफी निवेदन करने पर जितेंद्र ने इस काम के लिए 25 लाख रिश्वत की मांग की। ।


दो महिलाएं ट्रैक पर ऐसी कटीं कि एक दूसरे से यूं मिक्स हो गई बॉडी,

11 November 2016
रेलवे स्टेशन पर दो महिलाओं को बिना फुट ब्रिज के पटरी पार करना महंगा पड़ गया। महिलाएं अंधेरे में प्लेटफार्म नंबर 1 से 2 पर जा रही थीं। अचानक मिडिल ट्रैक पर एक तेज रफ्तार से आ रही गाड़ी ने दोनों को चपेट में ले लिया। दोनों महिलाओं की बॉडी एक दूसरे से बुरी तरह मिक्स हो गई। जानिए पूरी घटना… - सुबह भोपाल से आने वाली ट्रेन पकड़ने के लिए लोग प्लेटफार्म नंबर 2 पर इंतजार कर रहे थे। - इसी बीच दो महिलाएं बिना फुट के बिना ही पटरी पार कर प्लेटफॉर्म नंबर दो की ओर जाने लगीं। - उसी समय मिडिल ट्रैक से एक सुपर फास्ट ट्रेन गुजर रही थी। - ट्रेन की चपेट में आने से महिलाओं की बॉडी के चिथड़े उड़ गए। - दोनों की बॉडी खून और लोथड़ों से सनी एक दूसरे से लिपट गई थी।


राजस्थान में 36 से 80 हजार रुपया प्रति तोला बढ़ा गोल्ड का भाव

10 November 2016
कालेधन पर लगाम लगाने के लिए मोदी सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए मंगलवार आधी रात से 500 और 1000 रुपये के नोट बंद कर दिए। मोदी सरकार के इस फैसले के बाद राजस्थान में सोने के भावों में भारी उछाल आया है। यह है पूरा मामला... - पूरे राजस्थान में आधी रात से सोने की कीमत में भी भारी उछाल आया है। जयपुर सर्राफा बाजार में बुधवार को सोने के भाव ही नहीं खोले गए। सोना बचने वाले अपने मन के अनुसार 36 से 80 हजार रुपया प्रति तोला कर दिए है। - सर्राफा ट्रेडर्स कमेटी जयपुर के अध्यक्ष कैलाश मित्तल का कहना है कि सरकार के फैसले से ज्वैलरी कारोबार पर भारी असर पड़ रहा है। - छोटे व्यापारियों ने फिलहाल व्यापार बंद कर दिया है और बड़े व्यापारी भी केवल चैक और 100 रुपये पर ही डील कर रहे है।


गरीब नवाज की दरगाह में जायरीन से लिए जा रहे हैं 500 और 1000 के नोट

9 November 2016
देश भर में भले ही 500 और 1000 रुपए के नोट नहीं लिए जा रहे हों, लेकिन महान सूफी संत हजरत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती की दरगाह में ये नोट लिए जा रहे हैं। दरगाह नाजिम कार्यालय ने दान देने वाले जायरीन का नाम व पता नोट कर 500 और 1000 रुपए के नोट लेने का निर्णय किया है। नोटों पर भी जायरीन का नाम व रसीद नंबर लिखा जा रहा है। इसका फायदा यही होगा कि नकली नोट आने पर संबंधित व्यक्ति को पकड़ा जा सकेगा। साथ ही कमेटी भी बैंक में हिसाब दे सकेगी। इस शर्त पर ले रहे हैं नोट... - दरगाह नाजिम लेफ्टिनेंट कर्नल मंसूर अली खान ने इस संबंध में मंगलवार को कमेटी स्टाफ को दिशा-निर्देश जारी किए। - भारत सरकार के केंद्रीय अल्पसंख्यक मामलात मंत्रालय के अधीन कार्य करने वाली दरगाह कमेटी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्णय को देखते हुए दरगाह में दान देने आने वाले जायरीन की सुविधा के लिए यह कवायद की है। - नाजिम खान ने स्टाफ काे पाबंद कर दिया है कि जो भी जायरीन दान की राशि में जितने नोट दे रहा है, उसमें हजार रुपए के कितने हैं अौर 500 रुपए के कितने हैं।


मां और बेटे को ट्रक ने मारी टक्कर, सड़क पर ऐसे फैल गई महिला की लाश

9 November 2016
राजधानी में प्रतापनगर के इंडिया गेट के पास मंगलवार को सुबह ट्रक ने बाइकसवार मां और बेटे को टक्कर मार दी। दर्दनाक हादसे में मां की मौके पर ही मौत हो गई। ट्रक की टक्कर से बेटे की हालत नाजुक है। घायल का उपचार महात्मा गांधी अस्पताल में चल रहा है। यह है पूरा मामला.... - घटना सुबह करीब 10:15 बजे की है। सांगानेर के सुभाष नगर में रहने वाला नसीरुद्दीन और उसकी मां ख़ातून बेगम जयपुर से टोंक की तरफ जा रहे थे। - सुबह वह घर से टोंक के लिए निकल थे। वह प्रतापनगर के पास पहुंचे ही थे कि भी पीछे से आ रहे एक ट्रक ने बाइक को चपेट में ले लिया। परिवार सड़क पर आ गिरा। - ट्रक का पहिया ख़ातून बेगम के ऊपर से गुजर गया। नसीरुद्दीन गिरने से गंभीर रूप से घायल हो गए। - यह देख आसपास मौजूद लोग जमा हो गए। सूचना पुलिस को दी। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम गृह भेज दिया। हादसे की जानकारी पर परिवार में कोहराम मच गया।


ये लेडी है चरस, गांजा और अफीम की डॉन, दरगाह के पास कर रही थी खेल

7 November 2016
राजस्थान में एक और लेडी डॉन सामने आई है। युवाओं के साथ एक खतरनाक खेल की व्यूह रचना रचने वाली ये लेडी डॉन इस बार अजमेर से पकड़ी गई है। अजमेर के दरगाह इलाके में यह अपने खेल को अंजाम देकर उनका कॅरियर चौपट करने की फिराक में थी। कौन है यह लेडी डॉन, क्या कर रही थी यहां... - आधी रात को जब पुलिस अजमेर के दरगाह इलाके पहुंची तो यहां एक खतरनाक खेल को अंजाम दिए जाने की तैयारी चल रही थी। - एक युवती अपने पति के साथ यहां एक ऐसी खेप लेकर आई हुई थी कि देखकर पुलिस के रौंगटे खड़े हो गए। - इस युवती के पास चरस, गांजा और अफीम भारी मात्रा में मौजूद थे। - युवती का साथ उसका पति भी दे रहा था। - अजमेर और पुष्कर में नशे के कारोबार काे अंजाम देने वाले थे। - पुलिस भी मुस्तैद थी और आधी रात को दोनों धर लिए गए।


शादी अटेंड करने आया दामाद चाय की दुकान पर बैठा था, कइयों को कुचलती यूं आई मौत

7 November 2016
सिकंदरा थाना इलाके में सुबह एक सवारियों से भरी जीप ने ऐसा कहर बरपाया कि कइयों को अस्पताल पहुंचा दिया। घटना में दो लोगों की हालत नाजुक है और गांव में शादी अटेंड करने आए दामाद और एक अन्य ग्रामीण की मौत हो गई है। सिकंदरा चौराहे से बांदीकुई की ओर जा रही एक सवारी जीप ने मोड़ पर मोटरसाइकिल सवार को टक्कर मार दी। - इसके बाद जीप अनियंत्रित हो गई और पास ही एक चाय की दुकान में चाय पी रहे लोगों को रौंदती हुई आगे बढ़ गई। - वहां एक दीवार पर चढ़ गई जहां खड़ी एक बाइक क्षतिग्रस्त हो गई। - इस घटना के बाद जीप का चालक कूदकर मौके से फरार हो गया। - इस घटना में 5-6 लोग घायल हो गए जिसमें दो लोगों की हालत नाजुक बताई जा रही है। - ससुराल में शादी अटेंड करने आया दामाद मोहरपाल सैनी चाय की दुकान पर बैठ चाय पी रहा था। - घटना में वो बुरी तरह से घायल हो गया जिसकी दौसा में इलाज के दौरान मौत हो गई।


प्रेमी के साथ बिताई दिवाली की रात और बना डाला पति के मर्डर का प्लान

5 November 2016
दिवाली के दिन जहां लोग अपने घर-परिवार के लोगों के साथ खुशियां मना रहे थे, उसी समय एक विवाहिता अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति के मर्डर की प्लानिंग कर रही थी। दोनों ने मगंलवार को साजिश को अंजाम पर भी पहुंचा दिया। दो दिन बाद ही उनका राज खुल गया और पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। ये है पूरा मामला... - मंगलवार की रात नागौर में पांचौड़ी थाना क्षेत्र के चारणीसरा गांव निवासी कुशालाराम जाट की पांचू थाना क्षेत्र में कटार से गोदकर हत्या कर दी गई थी। - पुलिस को उसका शव चंदोलाई नाड़ी ओरण में कच्ची सड़क पर पड़ा मिला था। - पुलिस पूछताछ में सामने आया कि कुशालाराम की पत्नी नेनू और उसके भाई के साले संतोष जाट के नाजायज संबंध थे। - वे दोनों कुशालाराम को मारना चाहते थे। - दोनों ने दिवाली वाले दिन मिलकर योजना बनाई और संतोष ने कुशालाराम पर कटार से ताबड़तोड़ वार कर उसकी हत्या कर दी।


यहां ऊंटों को यूं देख तय करते हैं मालिक की हैसियत, बहुत पुरानी परंपरा है यह

5 November 2016
पहले ऊंट के बाल काटे जाते हैं। इसके लिए अनेक तरह की डिजाइन का इस्तेमाल किया जाता है। - अक्सर डिजाइन ऐसा हो जिससे कोई अच्छा मैसेज जाए या ऊंट पर वह खूब फबे। - इसके लिए उसकी बॉडी पर पणिहारिन, शेर, बिल्ली, झंडा लिए जवान, जैसी डिजाइन बनाई जाती है। इस डिजाइन के हिसाब से ही उसके बाल काटे जाते हैं। - बाल काटने के बाद उसकी बॉडी पर एक डिजाइन उभरकर सामने आ जाती है। ये उसकी खूबसूरती में चार चांद लगा देता है। दुल्हन से भी ज्यादा होता है इनका श्रृंगार - पुष्कर मेले में ऊंटों की सजावट के लिए प्रसिद्ध अशोक टांक ने बताया कि सबसे पहले गले का श्रृंगार होता है। - इसमें गोरबंद का इस्तेमाल किया जाता है। गले में ही चांदी और जरी की कसीदाकारी पट्टियां भी लगाई जाती हैं। - पैरों में नेवरी बांधी जाती है घुंघरू पहनाया जाता है। पीठ का होता है अलग श्रृंगार - ऊंट के पीठ पर पहले काठी पहनाई जाती है। इसमें दो लोगों के बैठने की जगह होती है। - इसके नीचे गद्दियां और ऊपर छेवटी रखी जाती है। काठी के सबसे ऊपर गादी रखी जाती है जो बैठने वालों के लिए बेहद आरामदेह होती है।


मंदिर में शराब पार्टी कर खंडित की प्रतिमा, गुस्साए लोगों ने ये कर डाला

4 November 2016
किशनगढ़ शहर के वार्ड 7 स्थित सुंदर नगर क्षेत्र में देर रात को असामाजिक तत्वों ने शिव मंदिर की प्रतिमा खंडित कर दी। दीवार पर लगी तस्वीरों में आग लगा दी। मंदिर में चारों और चप्पलों को जलाकर फेंका और परिसर में ही शराब पार्टी की। यह है पूरा मामला... - इस घटना के बाद किशनगढ़ के गुस्साए लोगों ने कॉलोनी में जमकर विरोध जताया। आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की। - सूचना पर पुलिस उपाधीक्षक जगदीश राव और गांधीनगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और समझाने का प्रयास किया। - लेकिन क्षेत्रवासी आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़ गए। - गुस्साए क्षेत्रवासियों ने पुलिस को दो दिन का समय दिया और दो दिन में आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने पर किशनगढ़ बंद की चेतावनी दी है। - क्षेत्रवासियों ने आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने तक खंडित मूर्ति की मरम्मत कराने से भी इनकार कर दिया। - उनका आरोप है कि इस क्षेत्र में सभी वर्ग के लोग रहते हैं, ऐसे में इस प्रकार की घटनाओं से तनाव फैल सकता है। ऐसे में पुलिस को तेजी से कार्रवाई करते हुए अपराधियों पर अंकुश लगाना चाहिए। - पुलिस के आश्वासन के बाद लोग शांत हुए। मौके पर एफएसएल की टीम बुलाकर घटनास्थल से नमूने लिए गए। पुलिस मामले की जांच कर रही है।


छुट्टी पर आईं थीं कॉल गर्ल्स, पुलिस ने मारी रेड तो 20 लड़कों के साथ थीं 25

3 November 2016
दिवाली का त्योहार की छुट्टी में अपने घर आई मुंबई की हाई प्रोफाइल कॉर्ल गर्ल्स को पुलिस ने ग्राहकों के साथ आपत्तिजनक हालत में पकड़ा है। एक नहीं दो नहीं पूरी 25 कॉर्ल गर्ल्स 20 लड़कों के साथ ऐसा काम कर रही थीं कि पुलिस पहुंची तो वह भौचक रह गई। पकड़ी गईं तो घूंघट निकाल कर बैठ गईं। यूं एक-एक कर निकली बाहर... - मामला बगरू थाना इलाके में अजमेर एक्सप्रेस हाइवे के नजदीक नंदलालपुरा गांव का है। - यहां शुक्रवार रात देह व्यापार में लिप्त इन 25 महिला सहित 45 लोगों को पकड़ा गया। - जब पुलिस मौके पर पहुंची तो ये युवतियां लड़कों के साथ ऐसी हालत में थे कि पुलिस भी कुछ नहीं कह पा रही। - गिरफ्तार की गई युवतियों में कुछ मुंबई से यहां लाई गई थीं और कुछ इसी गांव की थीं। - सभी मिलकर इस प्रकार के धंधे में लगी हुई थीं।

देवर ने भाभी के साथ बनाए अवैध संबंध, अश्लील फोटो खींच कर रहा ब्लैकमेल

3 November 2016
आदर्शनगर थाना क्षेत्र में पति की मौत के बाद अकेली रह रही विधवा तीन माह पूर्व एक युवक के संपर्क में आई और उसके साथ रहना शुरू कर दिया। दोनों के बीच शादी करने के लिए रजामंदी भी हो गई थी। एकाएक युवती आदर्श नगर थाने पहुंची और युवक के खिलाफ दुराचार, अश्लील फोटोग्राफी कर ब्लैकमेल करने और अप्राकृतिक कृत्य जैसे गंभीर आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज करने की गुहार की। पढ़े कैसे देवर भाभी आया करीब... - पुलिस ने आरोपी को थाने बुलाया और दोनों को आमने-सामने बैठाकर तफ्तीश की। - युवती ने आरोप लगाया कि युवक ने उसे शादी का झांसा देकर दुराचार का शिकार बनाया है और अब वह शादी करने से टालमटोल कर रहा है। - इसपर युवक का कहना है कि वह तो तुरंत शादी करने के लिए तैयार है, लेकिन युवती उससे पांच लाख रुपए की डिमांड कर रही है।


महिला के कटे अंग मिलने से फैल गई सनसनी, कहीं कटे हाथ मिले तो कहीं पैर

2 November 2016
अलवर।शहर के कोतवाली थाना इलाके में सोमवार को एक महिला के कटे पैर और हाथ मिलने से सनसनी फैल गई है। पुलिस हत्या की आशंका जता रही है। अभी महिला के बाकी अंग नहीं मिले हैं। महिला की शिनाख्त होने के बाद ही हत्या के पीछे के कारणों का खुलासा हो सकेगा। जानिए पूरी घटना… - कोतवाली थाना इलाके में चावड़ पाली मोहल्ले में सोमवार को एक अज्ञात महिला का कटा हुआ हाथ मिला। - वहीं बाल भारती स्कूल के पीछे एक पैर और पास ही में एक और पैर मिले हैं। - अभी तक महिला के दो पैर और एक हाथ मिल चुके हैं। पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंच गए और कटे अंगों को कब्जे में ले लिया। - पुलिस हत्या की आशंका जता रही है। महिला के बाकी अंगों की तलाश हो रही है। - इस घटना के बाद इलाके में सनसनी फैल गई है। - महिला होने की पहचान उसके कटे पैर में बिछुआ और नाखूनों नाखून पॉलिश से हुई है।


यहां मुआवजे के इंतजार में नहीं करते अंतिम संस्कार, घर में सड़ती रहती है लाश

2 November 2016
राजस्थान में आज भी आदिवासियों में अजब-गजब परंपराएं हैं जो जिनसे कई परिवार बर्बाद हो रहे हैं। उन्हीं में से एक है मौताणा। राज्य के उदयपुर, पाली, सिरोही और बांसवाड़ा इलाके में इस परंपरा ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है। यहां डेड बॉडी से भी रुपए कमाने की ये परंपरा लोगों के लिए नासूर बन गई हैराज्य के उदयपुर, पाली, सिरोही और बांसवाड़ा जिले के आदिवासियों में ये परंपरा फिलहाल खूब फलफूल रही है। - पुराने समय में इस परंपरा की शुरुआत न्याय को ध्यान में रखकर की गई थी। - तब इस समुदाय में किसी का मर्डर करने पर मृतक के परिजनों को मुआवजा देना पड़ता था। ये मुआवजा मारने वाले का परिवार देता था। - मुआवजा नहीं देना पर चढ़ोतरा किया जाता था, जिसमें समुदाय के लोग कातिल के घर को लूट लेते थे और उसके घर को जला भी देते थे। अब इस प्रथा ने गलत दिशा पकड़ ली है। किसी की अस्वाभाविक मृत्यु के बाद उसके मौत का दोष किसी और के ऊपर मढ़कर जबरदस्ती उससे मुआवजे की मांग की जाती है।


हाइ-वे पर हुआ भयंकर हादसा, कार के गेट में फंसी बॉडी ऐसे 20 फीट दूर गिरी

1 November 2016
कोटा-बारां नेशनल हाइ-वे 27 पर तेज रफ्तार ट्रक ने कार सवार एक परिवार की दिवाली की खुशियां खत्म कर दी। इस भीषण हादसे में एक व्यक्ति की मौत और छह लोग गंभीर घायल हो गए। हादसा इतना खतरनाक की कार के उड़े परखच्चे उड़ गए। कार में आगे की सीट पर बैठा एक आदमी गेट समेत 20 फीट दूर जा गिरा।ऐसे हुआ हादसा... - हादसा कितना दर्दनाक था कि मौके पर पहुंचे पुलिसकर्मी भी दहल गए। - टक्कर के बाद गुजरात के नंबर की कार हाइवे के नीचे उतरकर पलट गई और कार सवार एक व्यक्ति कार की फाटक समेत दूर जा गिरा। - हाइवे पेट्रोलिंग पुलिस के अनुसार ये परिवार गुजरात का रहने वाला था जो राजस्थान से होता हुआ बिहार जा रहा था। - कार बारां के भंवरगढ़ के पास पहुंची ही थी कि अचानक ओवरटेक करने की जल्दबाजी में ट्रक ने कार को जोरदार टक्कर मार दी। - टक्कर इतनी जोरदार थी कि कार सामने की तरफ से पूरी तरह पिचक गई। और एक व्यक्ति की कार की फाटक में अटक कर मौत हो गई, जबकि छह लोग घायल हो गए। - घायलों का इलाज बारां के हॉस्पिटल में चल रहा है।


अकेली देख 4 लोग कर रहे थे गैंगरेप, चिल्लाने लगी तो मारी सिर में गोली

26 October 2016
राजस्थान के बाड़मेर में सिवाना थाना क्षेत्र के खाखरलाई रोड़ पर एक लड़की की गोली मार कर हत्या कर दी गई। गोली मारने से पहले लड़की साथ चार लोगों ने दुष्कर्म करने की कोशिश की। जब लड़की चिल्लाने लगी लगी तो उसका भाई बचाने दौड़ा। आरोपियों ने लड़की के भाई को आता देख उसे गोली मार दी। यह है पूरा मामला... - मंगलवार को बाड़मेर के सिवाना में संगीता भील खेत पर गई थी। इसी बीच लड़की के कुछ जानकार वहां आ गए। संगीता को खेत पर अकेला देखकर, उन्होंने उसके साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया। - संगीता चिल्लाने लगी और अपने साथ होते दुराचार का विरोध करने लगी। इसी दौरान संगीता का भाई ओमाराम भी वहां आ गया। - ओमाराम संगीता को बचाने के लिए दौड़ा और चिल्लाने लगा, मेरी बहन को बचा लो। इसी दौरान संगीता के भाई को देखकर आरोपियों ने संगीता के सिर पर देशी कट्टे से गोली चलाई, जिससे उसका भेजा ही बाहर आ गया। - संगीता की मौके पर ही मौत हो गई और आरोपी वहां से भाग गए। -संगीता के भाई ओमाराम ने युसुफ खान सहित चार लोगों के खिलाफ अपनी बहन संगीता का मर्डर करने की रिपोर्ट दर्ज करवाई है। -घटना की जानकारी मिलने पर सिवाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया।


झोपड़ी में सो रहे थे बच्चे, दादी बना रही थी चाय, यूं काल बनकर ऊपर गिरा ये ट्रक

25 October 2016
अल सुबह दादा के पास पोता और पोती सो रहे थे। इधर दादी उनके लिए चाय बना रही थी। तभी कॉटन से भरा एक ट्रक अनियंत्रित होकर इनकी झोपड़ी पर पलट गया। सुबह लोगों ने पलटे हुए ट्रक को देखा, लेकिन किसी को पता नहीं था कि इस ट्रक के नीचे 4 जिंदगियां दबी हुई हैं। यूं निकाला गया लाशों को… - बांसवाड़ा के घाटोल के डेढ़ किमी पहले प्रतापगढ़ की ओर से आ रहा कॉटन से भरा ट्रक अनियंत्रित होकर पलट गया। - ट्रक सड़क के किनारे बने गाडोलिया लुहार के झोपड़े पर गिर गया। - ट्रक नदी के किनारे टर्न पर पलटा था। - ट्रक पलटने के बाद ट्रक चालक मौके से फरार हो गया। - इधर जब क्रेन से ट्रक को हटाया गया तो नीचे दादा, दादी और पोती का शव मिला। दादी के पास चाय की केतली मिली। - छोटी सादड़ी निवासी 65 वर्षीय दादा कालू, 14 वर्षीय पोती सोमा, 12 वर्षीय पोते मदन सो रहे थे। - ट्रक पलटने से नींद में ही दादा और पोती की मौत हो गई जबकि पोते मदन का एक पांव कट गया। - मदन को स्थानीय अस्पताल ले जाया गया जहां उसे तुरंत उदयपुर रैफर कर दिया गया। - पुलिस ने दादा, दादी और पोती के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। - पुलिस ने ट्रक के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया और ट्रक को कब्जे में ले लिया।


तहसीलदार को दुष्कर्म के केस में फंसाने की धमकी, मांगे 7 लाख

24 October 2016
जयपुर। जयपुर की पुलिस ने दो ऐसी महिलाओं को पकड़ा है जो अलवर में तैनात एक नायब तहसीलदार को दुष्कर्म के मामले में फंसाने की धमकी देकर 7 लाख रुपए मांग रही थी। पुलिस ने इनसे 7 लाख रुपए भी बरामद किए है। पुलिस दोनों से पूछताछ कर रही है। इस संबंध में नायब तहसीलदार ने 25 अप्रैल को ब्लैकमेल करने का मामला दर्ज करवाया था।
पुलिस ने इस मामले में चंचल कंवर और उसकी सहेली प्राची को पकड़ा है। इनके खिलाफ नायब तहसीलदार संदीप कुमार ने मामला दर्ज कराया था। पुलिस के मुताबिक चंचल कई महीने से संदीप को दुष्कर्म के झूठे मामले में फंसाकर रुपए मांग रही थी। पहले 15 लाख रूपए मांगे, फिर 11 लाख रूपए की मांग करने लगी। बाद में सौदा 7 लाख रूपए में तय हुआ।
दोनों युवतियों ने तहसीलदार को 7 लाख रुपए लेकर वैशाली नगर में नर्सरी सर्किल पर बुलाया था। वहां दोनों युवतियां स्कूटी से रुपए लेने आई और रुपए लेकर जाने लगी। इस दौरान पुलिस ने दोनों को रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया।
पुलिस ने बताया कि नाायब तहसीलदार का अपनी पत्नी से विवाद चल रहा है और चंचल का अपने पति से विवाद चल रहा है। दोनों का एक ही एडवोकेट है। इसी के यहां दोनों की मुलाकात हुई थी। मोबाइल नंबर शेयर होने के बाद चंचल संदीप को फोन करने लगी। नायब तहसीलदार ने मिलने से मना किया तो चंचल ने ब्लैकमेलिंग का खेल शुरु कर दिया। चंचल एडवोकेट के घर एक सीडी देकर आ गई और संदीप को कहा कि सीडी सुन लेना। उस सीडी में चंचल ने दुष्कर्म में फंसाने की धमकी देकर पहले पांच लाख रुपए मांगे थे और बाद में डिमांड बढ़ती चली गई। इसी से परेशान हो कर संदीप ने मामला दर्ज कराया।


दो भाइयों ने जमीन में गाड़ दिया तीसरे को, बेटियों ने कई दिन बाद खोदकर निकाली बॉडी

24 October 2016
उदयपुर के गोगुंदा थाना क्षेत्र में एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसने दिल दहला दिया है। यहां दो भाईयों ने तीसरे काे जमीन में गाड़ दिया। चौथे ने मृतक की दो बेटियों के सामने पोल खोल दी। इसके बाद बेटियों ने पुलिस को सूचना दी और फिर बॉडी को जमीन खोदकर बाहर निकाला। गांव में कोहराम मचा है। यूं हुआ घटनाक्रम... - यह घटना गोगुंदा थाना में यशवंतगढ़ के वीरपुरा गांव की है। - माना पुत्र लाला गमेती के दो बेटियां हैं, चंदा और पूजा। - माना की दोनों बेटियां अपने पिता से मिलने गांव आईं। - गांव में जब पिता नहीं मिले तो दोनों ने आसपास से पूछताछ की तो कुछ पता नहीं चला। - पता चला कि उसके काका प्रेमा की तबीयत खराब है, वो तो अस्पताल में भर्ती हैं। - इसके बाद दोनों अस्पताल में भर्ती माना के एक भाई प्रेमा के पास पहुंचीं।


जयपुर में डबल मर्डर, दंपत्ति के अंगूठों से कागजों पर लगवाए निशान

22 October 2016
राजधानी के विश्वकर्मा औद्योगिक क्षेत्र स्थिति एक मकान में एक दंपत्ति का मर्डर कर दिया गया है। शुक्रवार सुबह इस घटना ने क्षेत्र में सनसनी फैला दी है। फिलहाल पुलिस ने चार लोगों को हिरासत में ले लिया है। कैमरे भी लगे थे घर में... - घटना विश्वकर्मा औद्योगिक क्षेत्र स्थिति बढ़ारना की है। - पुलिस की प्रारंभिक जानकारी के अनुसार जिस दंपत्ति की हत्या की गई है, वह औद्योगिक क्षेत्र में एक फैक्ट्री का संचालन करने वाले उद्यमी के माता-पिता हैं। - दंपत्ति प्रभातीलाल कुमावत और सरजू देवी यहां अपने दिव्यांग बेटे के साथ इसी मकान में रहते थे। - किसी ने दोनों की इस बेटे के सामने ही हत्या कर दी। - बेटा मंदबुद्धि होने के कारण कुछ भी बताने की स्थिति में नहीं है।।


अपने ही परिवार को डंडों से पीटकर मार डाला, मां-बेटी-पत्नी किसी को नहीं छोड़ा

21 October 2016
जबाड़मेर के एक टीचर ने अपनी मां, दो बेटियों और पत्नी की हत्या कर दी। फिर थाने पहुंच गया। पुलिस को शुक्रवार सुबह जब इसकी सूचना मिली तो वह गांव पहुंची। प्रारंभिक जांच में सामने आ रहा है कि टीचर ने पारिवारिक विवाद के बाद ऐसा किया। क्या है पूरा मामला... - घटना बाड़मेर के राणासर गांव की है। यहां के एक टीचर राणाराम ठाकराराम विश्नोई ने घर में पत्नी, दो बेटियों और अपनी मां की हत्या कर दी। - गुरुवार रात पूरा परिवार सो रहा था। राणाराम ने देर रात एक मोटा डंडा लेकर सभी को मार डाला। - मरने वालों में 70 साल की मां लाली देवी, पत्नी पार्वती देवी, एक बेटी 14 साल की देवी और 12 साल की संतोष शामिल हैं। - घटना को अंजाम देने के बाद राणाराम विश्नोई सुबह थाने पहुंच गया और सरेंडर कर दिया। मंदबुद्धि बताया जा रहा है टीचर - पुलिस के मुताबकि आरोपी टीचर मंदबुद्धि है। उसने इस तरह का कदम क्यों उठाया इसका पता लगाने की कोशिश की जा रही है।


भाभी पर जादू कराने का शक था, छोटे भाई और भतीजी का कुल्हाड़ी मार कर दिया घायल

20 October 2016
झालावाड़ में खानपुर में एक भाई ने अपने ही छाटे भाई और भतीजी पर जानलेवा हमला कर घायल कर दिया। दोनों की हालत नाजुक होने पर उन्हें झालावाड़ के अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जानिए क्या है मामला ...... - बिरदीलाल (50) अपने परिवार के साथ पिपलाद के खानपुर गांव में रहता है। - बिरदीलला के परिवार में उसकी पत्नी और बेटा जितेंद्र तथा पवन हैं। - गांव मेंं ही उसका छोटा भाई रामकिशन (45) और अपने परिवार के साथ रहता है। - रामकिशन के परिवार में उसकी पत्नी और एक बेटी नीलू बाई (18) है। भाभी पर जादू टोने का आरोप - बिरदीलाल और रामकिशन में बनती नहीं है। - बिरदीलाल का आरोप है कि रामकिशन ने उसकी पत्नी पर जादू-टोना करवा रखा है। - इसी बात पर दाेने में झगड़ा होता रहता था।


मसाज पार्लर में देह व्यापार करती 5 युवतियां, दलाल गिरफ्तार

20 October 2016
शहर के शोभागपुरा क्षेत्र में चल रहे मसाज पार्लर में हो रहे देह व्यापार का भंडा फोड़ कर स्पेशल टास्क फोर्स ने इस अवैध धंधे में लिप्त पांच लड़कियां और एक दलाल को मंगलवार शाम को छापा मार कर गिरफ्तार किया। देह व्यापार के रैकेट में पकड़ी गई दो लड़किया मुंबई, एक हुगली व दलाल बंगाल का रहने वाला है। जबकि दो लड़कियां लोकल हैं। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सुधीर जोशी के निर्देशन में सुखेर पुलिस और स्पेशल टास्क फोर्स ने संयुक्त रूप से शोभागपुरा में चल रहे स्टार स्पा एंड मसाज पार्लर पर छापा मारा। पुलिस ने एक सिपाही को बोगस ग्राहक बना कर भेजा था। दो मुंबई, एक हुबली, दो उदयपुर की लड़कियां, दलाल बंगाल का प्रिया सर्खिल (25) पत्नी रंजीत निवासी सुगंधा गोटू, थाना पोलबा जिला हुगली। निकिता मराठी (28) पत्नी सलीम सैयद निवासी गोरेगांव वेस्ट मुंबई । सहु साधना मराठी (40) पत्नी भोले नाथ कारन डे मराठी निवासी गोरेगांव वेस्ट मुंबई। रिया जैन(24) पुत्री दिनेश जैन निवासी देवाली पुल के पास थाना अंबा माता । सीमा सोनी (45) पत्नी राजकुमार सोनी निवासी कुम्हारवाड़ा उदयपुर । दलाल देविन दोरो नाथ पुत्र विदान बंगाली निवासी हेमंत बॉसो कॉलोनी थाना चुचुरा जिला हुबली


भाई के सामने बहन से गैंगरेप, दौड़कर थाने पहुंचा तो पुलिस ने किया ये

20 October 2016
राजस्थान के बूंदी रेलवे स्टेशन के पास एक 16 साल लड़की के साथ उसके भाई के सामने गैंगरेप का मामला सामने आया है। भाई ने बहन के साथ ज्यादती होते देखी तो वह दौड़कर थाने पहुंचा लेकिन पुलिस ने उसे टरका दिया। पीड़िता मध्य प्रदेश के भोपाल में रहने वाली है। वह अपने 8 साल के भाई के साथ बूंदी रेलवे स्टेशन पर पहुंची थी। कोटा का दशहरा मेला देखने आए थे भाई-बहन.... - भोपाल से दो भाई-बहन कोटा का दशहरा मेला देखने आए थे। मेला देखकर दोनों वापस भोपाल जाने के लिए ट्रेन में बैठ गए। कोटा से चित्तौड़गढ़ के रास्ते में टिकट नहीं होने के कारण टीटी ने इन्हें बूंदी रेलवे स्टेशन पर उतार दिया गया था। - बूंदी पहुंचे भाई-बहन से स्टेशन पर एक युवक ने पहचान बढ़ाई और बच्चे को मोटर साइकिल पर घुमाया भी। खाना खिलाने के बहाने साथ लिया - इसी दौरान पीड़िता और उसके भाई को खाना खिलाने के बहाने से युवक अपने साथ ले गया और पास ही सुनसान इलाके में लड़की के साथ गैंगरेप को अंजाम दिया गया। - मासूम भाई के सामने ही 16 साल की बालिका के साथ रेप किया और रात होने पर सुनसान खंडहर में छोड़ भाग गए


नाकाबंदी तोड़ कर भाग रहा था ट्रक, कांस्टेबल ने पीछा किया तो उसे ही घसीटता ले गया

19 October 2016
राजधानी में रात को पुलिस भी सुरक्षित नहीं है। यहां एक कांस्टेबल ने नाकाबंदी तोड़ कर भाग रहे ट्रक का पीछा किया, लेकिन ट्रक उसे ही घसीटता हुआ 300 मीटर दूर तक ले गया। फिर क्या हुआ, जानिए... - मामला जयपुर के माणक चौक थाना क्षेत्र का है। - यहां पुलिस ने कई तरह की नाकाबंदी कर रखी थी। - देर रात जब पुलिस इस नाकाबंदी के दौरान वाहनों-संदिग्धों पर नजर रख रही थी, तब ही एक ट्रक तेजी से आया। - पुलिसकर्मियों ने उसे हाथ देकर रुकने का इशारा किया। - ट्रक नहीं रुका तो कांस्टेबल हरिनारायण ने हिम्मत दिखाते हुए उसका पीछा किया। - इसी दौरान ट्रक में लटक रहे रस्से में में कांस्टेबल का पांव फंस गया। - ट्रक चालक को पता भी चल गया, लेकिन उसने ट्रक रोका नहीं और कांस्टेबल 300 मीटर तक घिसटता चला गया। - कांस्टेबल हरिनारायण को गंभीर चोटें आई हैं। अस्पताल में भर्ती कराया गया है। - घटना रात एक बजे बाद की है।या।


एक कंटेनर ने मारी दूसरे को पीछे से टक्कर, दो लोगों की मौत, जाम में अटके वाहन

18 October 2016
यहां अजमेर रोड पर कवलियास टोल नाके के पास अनियंत्रित कंटेनर ने दूसरे कंटेनर को टक्कर मार दी। इससे दो लोगों की मौत हो गई है। काफी देर बाद तक भी पुलिस मौके पर नहीं पहुंची है। ये है पूरा मामला... - घटना भीलवाड़ा से अजमेर के बीच नेशनल हाईवे-79 की है। - यहां एक टैंकर भीलवाड़ा से अजमेर की ओर जा रहा था। - इसी दौरान इस टैंकर ने आगे चल रहे टैंकर को टक्कर मार दी। - इस टक्कर में टैंकर के चालक और खलासी की मौत हो गई है। दोनों की फिलहाल शिनाख्त नहीं हो पाई है।

 


कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट बोले, सरकार दलित और किसान विरोधी

17 October 2016
प्रदेश में किसानों व कृषि की बिगड़ती स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि भाजपा सरकार के शासन के लगभग तीन साल के कार्यकाल में राजस्थान कृषि के क्षेत्र में अत्यधिक पिछड़ चुका है, सरकार किसान व कृषि के प्रति गंभीर नहीं है। और क्या कहा पायलट ने... - उन्होंने कहा कि पिछले तीन सालों में बिजली के दाम बढ़ाने के साथ ही खाद् व बीज समय पर समुचित मात्रा में उपलब्ध नहीं करवाकर सरकार ने किसानों की कमर तोडऩे का काम किया है। - सरकार को ऋण, बिजली, खाद् व बीज की उपलब्धता जैसे मुद्दों पर ध्यान देकर किसानों को राहत पहुंचानी चाहिए। - उन्होंने कहा जनता को विश्वास हो गया है कि वर्तमान भाजपा सरकार दलित और किसान हितों की विरोधी है।


2 कार में 3 लड़कों के साथ थीं 4 Girls, पुलिस ने पकड़ा तो सामने आई ये कहानी

17 October 2016
राजस्थान के पुष्कर में 4 लड़कियों को 3 लड़कों के साथ संदिग्ध हालत में पकड़ा गया है। पुलिस ने जब इन लोगों को पकड़ा तो वे कार में संदिग्ध अवस्था में थीं। पुलिस को देह व्यापार के लिए इनके यहां आने की सूचना थी। सूचना के आधार पर देर रात बूढ़ा पुष्कर बाईपास मार्ग पर दो लग्जरी कारों में सवार इन लोगों को संदिग्ध अवस्था में धर-दबोचा। फिर क्या-क्या हुआ... - पुलिस के मुताबिक चारों लड़कियों को होटलों में सप्लाई करने के लिए लाया गया था। - पुलिस ने सातों को गिरफ्तार कर उनकी दोनों कार जब्त कर ली है। - बूढ़ा पुष्कर बाईपास मार्ग पर खड़ी इन दोनों लग्जरी कारों की तलाशी के दौरान आरोपियों से पूछताछ की गई। - इनमें से एक भी पुलिस को संतोषजनक जवाब नहीं दे पाई।


पिता ने बेच दिया था बेटी को, 6 महीने होता रहा इस नाबालिग के साथ ये काम

17 October 2016
शहर के रेलवे स्टेशन पर घूमती मिली दो लड़कियों की कहानी बेहद खौफनाक है। लोग अपने धर का रास्ता भूल जाते हैं तो घर पहुंचाने की गुहार लगाते हैं। वहीं, ये दोनों लड़कियां रेलवे पुलिस के सामने गिड़गिड़ाते हुए कह रहीं हैं कि प्लीज हमें हमारे घर मत भेजिए। सोमवार की सुबह धौलपुर रेलवे स्टेशन के आरपीएफ को स्टेशन पर टहलती हुई दो नाबालिग लड़कियां मिली। - आरपीएफ चौकी प्रभारी ज्ञानचंद ने बताया कि दोनों लड़कियां संदिग्ध दिखीं तो पूछताछ की गई। - पूछताछ में इन लड़कियों ने जो खुलासा कि वो चौंकाने वाला था। लालची बुआ ने रखा गिरवी - 11 वर्षीय कल्पना (बदला हुआ नाम) ने बताया कि वह यूपी के मैनपुरी की रहने वाली है। - उसके माता-पिता उसे पढ़ा लिखाकर उसकी शादी कराना चाह रहे थे। - अचानक एक दिन कल्पना की मां की मौत हो गई। - कल्पना अपनी बहन के साथ दिल्ली में रह रही बुआ के घर आ गई। - यहां कुछ दिनों बाद कल्पना की बहन की भी डेथ हो गई। - उधर मजदूरी कर रहे पिता का एक्सीडेंट हो गया और वे अपाहिज हो गए। - कल्पना की लालची बुआ ने उसे बेच दिया। - वह पिछले 4 महीने से दिल्ली के मॉडल टाउन के मुकुंदपुर में बर्तन मांजने और पोछा लगाने का काम करती थी। - इस दौरान वो दो युवक उसके साथ छेड़छाड़ करने के अलावा मरते-पीटते भी थे।


राजधानी के पॉश इलाके में पेड़ पर लटकी मिली लाश, खून से लथपथ है चेहरा

13 October 2016
राजधानी के पॉश इलाके मालवीय नगर में एक व्यक्ति की लाश पेड़ पर लटकी मिलने से सनसनी फैल गई है। यहां जब लोग सुबह घर के बाहर निकले तो भरी कॉलोनी के बीच पेड़ पर लटकी लाश को देखकर हैरान रह गए। पुलिस ने लाश को पेड़ से उतरवा ली है और मोर्चरी में रखवाया है। हत्या का अंदेशा भी... - मालवीय नगर में मिली इस लाश की अभी तक शिनाख्त नहीं हुई है। - फिलहाल पुलिस ने इसे मोर्चरी में रखवाया है। - जब पोस्टमार्टम होगा तो मामले का कुछ खुलासा हो सकता है। - हालांकि जिस कंडीशन में लाश दिखाई दे रही है, उससे उसकी हत्या से इनकार नहीं किया जा सकता, लेकिन अभी पुलिस इसे हत्या नहीं मान रही। - लाश की स्थिति को देखने से उसकी हत्या की आशंका जाहिर हो रही है। - उसका चेहरा खून से सना हुआ है और चेहरे पर धारियों के निशान दिखाई दे रहे हैं।


बच्चों के पास सो रही थी मां, मामूली बात पर पति ने पत्नी का गला घोट दिया

13 October 2016
भीलवाड़ा।यहां एक व्यक्ति ने मामूली बात पर गला घोट कर पत्नी की ही हत्या कर दी। घर की दूसरी मंजिल पर बने कमरे में रात को बच्चे सो रहे थे। पत्नी से कोई बात हुई और यह घटना हो गई। क्या है पूरा मामला... - मामला भीलवाड़ा बिजोलिया क्षेत्र के छतरी खेड़ा गांव का है। - यहां एक व्यक्ति भवाना भील ने नशे की हालत में इस मर्डर को अंजाम दिया। - बच्चे घर में ही एक साथ सो रहे थे कि उसने मामूली बात पर पत्नी की गला घोटकर हत्या कर दी। इसके बाद यहां से भाग गया। - बिजोलिया थानाप्रभारी पांचूराम ने बताया की छतरी खेड़ा में रहने वाले भवाना भील का नशा की हालत में था। - पत्नी सीता के साथ किसी बात को लेकर विवाद हुआ। - सीता और भवाना मकान की दूसरी मंजिल पर सोए हुए थे। - सीता के दो पुत्र और एक पुत्री हैं। पुलिस फरार आरोपी की तलाश में जुटी है।


ओवरटेक करने के कंपीटिशन में टकराई बस, एक जायरीन की मौत,

13 October 2016
भरतपुर।यहां आगरा जयपुर नेशनल हाईवे पर एक हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई है। 13 लोग घायल हो गए, जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। नेशनल हाईवे पर एक बस और ट्रक एक-दूसरे से आगे निकलने की होड़ कर रहे थे, कि दोनों टकरा गए। इसके बाद जो हुआ उसमें एक की मौत हो गई। दरगाह से मत्था टेक कर लौट रहे थे जायरीन... - असल में पश्चिम बंगाल की एक बस में जायरीन बैठे हुए थे। - ये सभी अजमेर स्थित दरगाह में दर्शन कर लौट रहे थे। - हादसे में इनमें से एक बुजुर्ग व्यक्ति की मौत हो गई और 13 लोग घायल हो गए। - घटना तड़के 5 बजे के आसपास हुई। इसके बाद काफी देर तक हाईवे पर जाम लग गया। - घटना के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंच कर घायलों को अस्पताल पहुंचाया। - घटनास्थल पर लगे जाम को भी खुलवाया।


वसुंधरा के मंत्रिमंडल में कोई भी शामिल नहीं होना चाहता, मौजूदा मंत्रियों की ही हो रही दुर्गति

12 October 2016
मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे अपने मंत्रियों की कद्र नहीं करतीं। उनके मंत्रियों की हालत बहुत खराब है। ऐसे में मंत्री बनने वाला अब हर विधायक यह सोचेगा कि वह मंत्री बने या नहीं। क्योंकि मौजूदा मंत्रियों की जिस तरह से दुर्गति हो रही है, वह किसी से छिपी नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मंत्रिमंडल विस्तार की बात पर यह बात कही। और क्या-क्या बोले गहलोत... - पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि राजस्थान में हालात बहुत खराब हैं, मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे खुद ही मान बैठी दिखती हैं, इसलिए उनको कोई परवाह नहीं। -गहलोत ने 11 माह गुजर जाने के बावजूद भाजपा कार्यकारिणी का गठन नहीं हो पाने के सवाल पर कहा कि यह मुख्यमंत्री और उनके पार्टी अध्यक्ष दोनों को रास आ रहा है। - ये उनकी पार्टी का अंदरूनी मामला है, उनके फैसले उनको मुबारक। - गहलोत ने प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में आज एक कार्यक्रम में शिरकत करने के बाद मीडियाकर्मियों से बातचीत करते हुए कहा कि तबादलों को लेकर हर सरकार में तबादला उद्योग के आरोप लगते रहे हैं। - अब समय आ गया है कि तबादलों की कोई नीति बननी चाहिए, जिससे कम से कम तबादलों के हकदार (मानवीय दृष्टिकोण) लोगों के ही तबादले हों। किसी के परिवार में कोई समस्या है या फिर स्वास्थ्य कारण हो। ताकि शिकायतें बंद हों।


रावतभाटा प्लांट में जहरीली गैस का रिसाव, कई किलोमीटर तक हड़कंप,

12 October 2016
रावतभाटा।भारी पानी संयंत्र में उपयोग में आने वाली एचटूएस गैस के वाल्व में रिसाव हो गया। इससे कई किलोमीटर के क्षेत्र में अभी तक हड़कंप मचा हुआ है। इस हादसे में तीन कमचारियों की हालत गंभीर बनी हुई है। एक को कोटा रैफर किया गया है, जबकि दो को अटोमिक पावर प्लांट के ही अस्पताल में भर्ती कराया गया है। ये हुई घटना... - भारी पानी संयंत्र के जीएम वीपी नेमा ने बताया कि भारी पानी संयंत्र में वाल्व चेक करने एवं अन्य तकनीकी जांच के लिए भारी पानी संयंत्र के टेक्नीकल कर्मचारी पीएम जैन, भावेश, एसएल नवफूले गए थे, कि रिसाव हो गया। - इसकी चपेट में एसएल नवफूले आ गए। जीएम के अनुसार एसएल नवफूले को बेहतर इलाज के लिए कोटा ले जाया गया। - जबकि 2 कर्मचारियों को रावतभाटा में भर्ती कराया गया है। जीएम के अनुसार घटना तब हुई जब कर्मचारी एचटूएस गैस के एक्सचेंज यूनिट में 14 मीटर ऊंचे प्लेटफार्म पर सामान्य काम कर रहे थे। - जरूरी सुरक्षा उपकरण साथ थे। इसी दौरान रिसाव हुआ तो, एसएल नवफूले चपेट में आ गए, जिसे सीडियों से पीएम जैन, भावेश ने उतारा तो, उतारते समय पीएम जैन, भावेश के भी चोटें लगी। - इससे दोनों को आरएपीपी अस्पताल में भर्ती कराया गया। - दोनों को एचटूएस का असर नहीं बताया गया है। दोनों कर्मचारियों की स्थिति सामान्य है। - सूचना मिलने पर भारी पानी जीएम वीपीनेमा, डीएजएम पीके मलिक एवं अन्य कर्मचारी अस्पताल पहुंच गए थे। - घटना की जांच के आदेश दे दिए गए है। भारी पानी संयंत्र की निगरानी संस्था एईआरबी को भी घटना की जानकारी दे दी गई है।ै।


राजस्थान : फिर झमाझम बारिश, पुष्कर में सड़कों पर नदियां, जयपुर में दिन में हुआ अंधेरा

6 October 2016
लौटते मानसून ने राजस्थान में एक बार फिर जोर दिखा दिया है। यहां कई जिलों में तेज बारिश ने सड़कों पर नदियां बहा दी हैं। दो घंटे तक हुई तेज बारिश ने पुष्कर की गलियों में जाम लगा दिया। पानी में छोटा-मोटा सामान बह गया। घरों में पानी घुस गया। अलवर, भरतपुर, जयपुर, बारां आदि में भी बारिश का दौर चल रहा है। जयपुर में कैसे हो गया दिन में अंधेरा... - कई दिन से लगातार तेज गर्मी का प्रभाव बुधवार सुबह से ही नदारद था। राजधानी जयपुर में सुबह से आसमान में बादल छाए हुए हैं। - दोपहर में बारिश की फुहारें शुरू हो गई। छितराई बारिश के बावजूद दिन में अंधेरा छा गया और पूरा शहर इन बादलों के पीछे जैसे छिप ही गया। - फिलहाल जयपुर में कहीं बारिश तेज तो कहीं धीमी हो रही है। - फिर से बदले मौसम के कारण तापमान में भी गिरावट आई है।े।


रात में भारत-पाक बॉर्डर पर रहेंगी सीएम वसुंधरा, दो दिन रुकेंगी जैसलमेर में

6 October 2016
सर्जिकल स्ट्राइक के बाद राजस्थान में भारत-पाक सीमा पर भी तनाव बरकरार है। इसी तनाव के बीच राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे एक रात बॉर्डर पर सैनिकों के बीच काटेंगी। वे यहां बॉर्डर के हालात पर बातचीत भी करेंगी। राजे के दो दिवसीय कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह आएंगे, जो यहां चार राज्यों के सीएम व गृहमंत्रियों की बैठक भी लेंगे। क्या है पूरा कार्यक्रम... - मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे 6 और 7 अक्टूबर को जैसलमेर के दौरे पर रहेगी। - कलेक्टर मातादीन शर्मा के अनुसार मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से 6 अक्टूबर को दोपहर 3:30 बजे उदयपुर से रवाना होकर दोपहर 4 बजे जैसलमेर एयरपोर्ट पहुंचेगी। - हेलीकॉप्टर से ही तनोट जाएंगी। यहां तनोट माता के दर्शन कर पूजा अर्चना करेंगी और स्थानीय कार्यक्रमों में हिस्सा लेंगी। - बॉर्डर पर स्थित तनोट में ही वे रात्रि विश्राम करेंगी


नाबालिग के लिए करते थे बुकिंग, मोबाइल पर डील कर बताते थे रूम नंबर

5 October 2016
बारां शहर में होटल्स में फल-फूल रहे देह व्यापार के धंधे पर पुलिस ने नकेल कसनी शुरु कर दी है। शहर के चारमूर्ति स्थित होटल में रेड के दौरान एक नाबालिग और दलाल को इस धंधे में लिप्त पाया। इस रैकेट के पकड़े जाने के बाद पुलिस शहर के दूसरे होटल्स पर भी नजर रखनी शुरु कर दी है।जानिए क्या है पूरा मामला… - पुलिस को सूचना मिली कि शहर के चारमूर्ति चौराहे पर स्थित होटल्स में देह व्यापार का धंधा फल-फूल रहा है। - पुलिस ने देर रात जब होटलों में रेड मारी तो एक में दलाल और ग्राहक व दूसरे होटल में एक नाबालिग पकड़ी गई। - नाबालिग खुद को कोलकाता की रहने वाली बता रही है। - दलाल का कहना है कि वो इसे दिल्ली से लेकर आया था।।


चलती हुई बस अचानक फिसलकर नदी में जा गिरी, दो हुए जख्मी

5 October 2016
यहां एक निजी बस जवाई नदी के रपटे पर फिसल गई और नदी में जा गिरी। संयोगवश बस में काफी कम लोग थे। नदी में बस पलट गई जिसे जेसीबी मंगाकर सीधा किया गया और नदी से बाहर निकाला गया। घायलों को पुलिस ने अस्पताल पहुंचाया। जानिए पूरी घटना… - बुधवार को जवाई नदी के रपटे से होती हुई एक निजी बस जा रही थी। - अचानक रपटे पर फिसलन के चलते बस फिसलने लगी। ऐसे में ड्राइवर बस पर संतुलन खो बैठा और बस नदी में जा गिरी। - इस घटना में ड्राइवर समेत 2 लोग घायल हो गए। - मौके पर पहुंची पुलिस ने जेसीबी मंगाकर बस को सीधा कराया और नदी से बाहर निकलवाया। - रपटे पर काफी गड्ढा और फिसलन होने से ये हादसा हुआ। - इस हादसे के बाद आस-पास के गांव के लोगों की भीड़ लग गई।


हनीमून पर गई लुटेरी दुल्हन, फिर शादी के लिए पुलिस ने यूं दूल्हा बन फंसाया

4 October 2016
शादी का हसीन ख्वाब देख चांद-सी दुल्हन के साथ जिंदगी गुजारने का सपना देखने वाले दो युवकों को ये बंधन भारी पड़ गया। इस मामले में दुल्हन सुहागरात के दिन नहीं, बल्कि हनीमून से लौटने के बाद बाकायदा 23 दिन तक दूल्हे के साथ रहने के बाद भागी हैं। इन लुटेरी दुल्हनों ने युवकों को अपने प्रेम जाल में इस कदर फंसाया कि इन्हें लगा जैसे ये रिश्ता सात जन्मों का हो। पुलिस ने यूं दूल्हा बन फंसाया… - सदर थाना प्रभारी आशा सिंह ने बताया कि पाठेड़ा निवासी कौशल माली की शादी नहीं हो रही थी। - इसी गांव के जितेंद्र की शादी जबलपुर की माधुरी (19) से हुई थी। - कौशल का जितेंद्र के यहां आना-जाना था। कौशल ने जितेंद्र की पत्नी माधुरी से भी अपने लिए लड़की तलाशने की बात कही। - इधर माधुरी ने जबलपुर पहुंचकर एक महिला रिंकू (40) को कौशल के बारे में बताया। रिंकू ने अपनी बेटी नेहा (19) से शादी का प्रस्ताव रखा।


दिन में मारा था सांप को पत्थर, रात में उसने दो सगे भाइयों से ऐसे लिया बदला

4 October 2016
भरतपुर के एक गांव में सांप के डसने से दो बच्चों की मौत हो गई। दोनों बच्चे अपने घर में सो रहे थे तभी सांप ने उन्हें डस लिया। दरअसल दिन में एक सांप को बच्चों ने पत्थर मारा था। इस पर सांप चला गया, लेकिन रात को सोए हुए बच्चों को डस लिया। जानिए कहीं यह बदला तो नहीं लिया नाग ने .... - मामला भरतपुर के पास नैवाड़ा गांव का है। गांव के अपने खेत में दो भाई सचिन (12) और बलराम (14) खेल रहे थे। - अचानक उन्हें पास में एक सांप दिखाई दिया। उसे देखते ही उनमें से एक भाई ने उस पर पत्थर फेंककर मारा। - पत्थर लगते ही सांप वहां से चला गया। इसके बाद दोनों भाई अपने घर आ गए। नवरात्र के कारण जमीन पर सो रहे थे - सचिन और बलराम चार भाई-बहन हैं। दोनों से बड़ी एक बहन है और सबसे बड़ा भाई है वह 19 साल का है। - इनकी एक चचेरी बहन नवरात्र कर रही है। इसलिए वह इन दिनों जमीन पर सोती है। - बलराम, सचिन, उसकी बहन और चचेरी बहन रविवार रात को एक कमरे में जमीन पर सो रहे थे। - दोनों भाई बीच में थे और दोनों कोनों पर बहनें सो रही थीं। - रात को 11 बजे सचिन के हाथ पर सरसराहट होने पर उसकी आंख खुली। - उसकी आंख खुल गई। नजारा देखकर उसके होश उड़ गए। वहां एक सांप था। जब तक वह संभल पाता तब तक काफी देर हो चुकी थी।।


नदी पार करने के लिए रास्ता नहीं था, वरना लाहौर में फहराते तिरंगा

4 October 2016
सर्जिकल स्ट्राइक के बाद से पर तनाव है, लेकिन गांव के लोगों में नहीं। गांव के लोगों काे 1971 के युद्ध की यादें ताजा करने का मौका चाहिए। वे गांव खाली करने को तैयार नहीं, बोल रहे हैं- तब यदि नदी पार के लिए रास्ता होता तो लाहौर में तिरंगा फहरा दिया होता।कहां से आया जुनून, क्या कर रहे गांव के लोग, जानिए उनकी जुबानी... - 73 साल के गुरचरण सिंह भी सेना से रिटायर होकर गांव में ही रह रहे हैं। - उनकी 1971 के युद्ध में पंजाब के अमृतसर सेक्टर में अजनाला बार्डर पर ड्यूटी थी। पंद्रह दिन युद्ध हुआ। - आर्मी को एमनेशन सप्लाई कर रहे थे। लाहौर के इस तरफ रावी नदी तक भारतीय सेना पहुंच गई थी। - नदी के उस पास पाक सेना थी। नदी पार करने के लिए लिए कोई रास्ता नहीं था। नहीं तो लाहौर भी तिरंगा फहरा दिया जाता। - उस्मान खेड़ा और इसके साथ लगते गांव 1947 से पहले मुसलमानों के ही थे। - इन गावों ने हर लड़ाई को देखा ही नहीं झेला भी है। भले ही सरकार ने गांव खाली करने के लिए तैयार रहने को कहा हो लेकिन गांव से कोई जाने वाला नहीं है। - गांव में ऐसा माहौल भी कहीं नजर नहीं आया जिससे लगे कि लोग इस खौफ में हों।कराई है।


घड़साना में किसानों का महापड़ाव, सरकार के खिलाफ नई रणनीति का हो सकता है ऐलान

3 October 2016
यहां के किसानों ने एक बार फिर सरकार के खिलाफ हल्ला बोल का ऐलान कर दिया है। सोमवार को इसी के तहत घड़साना में महापड़ाव कर नई रणनीति का ऐलान किया जाने वाला है। घड़साना पूर्व में भी किसान आंदोलन के कारण चर्चा में आ चुका है। क्या होगा महापड़ा में... - गंगानगर के घड़साना में किसान सोमवार को महापड़ाव कर रहे हैं। - किसानाें का नेतृत्व करने वाले नेताओं का कहना है कि सरकार भले ही कुछ भी कहे, किसानों के हित में कोई बदलाव नहीं किया जा रहा। - किसान आत्महत्या करें या भूखा मरें, कोई भी सरकार आए, आंसू कोई नहीं पौंछता। - यही कारण है कि किसानों को खेत छोड़ आंदोलन की राह पकड़नी पड़ती है। - कोई ठोस नीति नहीं बनाए जाने के कारण किसानों को ऐसे आंदोलन करने पड़ रहे हैं।


सरकार गरीब सवर्णों को 14 प्रतिशत आरक्षण दे: जयुपर कूच से पहले बोले किरोड़ी लाल

1 October 2016
लालसोट विधायक डॉ. किरोड़ी लाल मीणा ने प्रदेश में भ्रष्टाचार खत्म करने व जन समस्याओं के निराकरण की मांग को लेकर रविवार को कार्यकर्ताओं की भारी फौज के साथ जयपुर कूच किया। कूच में बड़ी तादात में वाहनों में सवार कार्यकर्ता सरकार विरोधी नारे लगाते हुए शामिल हुए। इस दौरान हाइवे पर यातायात जाम हो गया। इस मौके पर किरोड़ी ने राजस्थान सरकार पर जमकर हमला बोला। जानिए कूच के बारे में ... - कूच में डॉ. किरोड़ी रथ पर सवार होकर निकले। उनके पीछे कार्यकर्ताओं के वाहनों का काफिला चला, तो सड़कों पर वाहनों को निकलने के लिए जगह नहीं बची। - सुंदरदास स्मारक से शुरू हुए जयपुर कूच से पहले डॉ. किरोड़ी ने कहा कि प्रदेश में भ्रष्टाचार को समूल नष्ट करके ही दम लेंगे। - उन्होंने कहा कि सरकार गरीब सवर्णों को 14 प्रतिशत आरक्षण दे तथा आरक्षित वर्ग को 9वीं अनुसूची में शामिल करे। - बेरोजगारों को 10 हजार रुपए महीना भत्ता दिया जाए। डॉ. मीणा ने कहा कि अन्य राज्यों की तरह राजस्थान में भी पूर्ण शराबबंदी लागू हो। - प्रदेश के लोगों की विभिन्न समस्याओं का समाधान व गरीबों तथा दलितों पर हो रहे जुल्म के खिलाफ यह कूच किया है। - किरोड़ी ने कहा कि भाजपा सरकार के कार्यकाल में प्रदेश में भ्रष्टाचार चरम पर पहुंच गया है। गरीबों व दलितों पर जुल्म बढ़े हैं। - प्रदेश में आए दिन आपराधिक घटनाएं हो रही हैं। महंगाई ने लोगों की कमर तोड़ दी, लेकिन सरकार को जनता की कोई परवाह नहीं है।


मां के साथ जबरदस्ती बना रहा था रिलेशन, बेटे ने ये देखा तो पिता ने उसका ये किया हाल

30 September 2016
यहां रावतभाटा के एक कामवासना में डूबे एक बाप ने बेटे को इसलिए मार डाला क्योंकि वह मां के साथ जबरदस्ती होता नहीं देख पाया। यह जबदरस्ती कोई और नहीं बल्कि वह बाप ही कर रहा था। नशे में धुत होकर आया था रात में घर पर। तब दिया उसने इस वारदात को अंजाम। जानिए आखिर क्यों पिता ने बेटे को मारा... - रावतभाटा में नानूराम भील अपने परिवार के साथ रहता था। 24 सितम्बर को नानूराम शराब पीकर आया और पत्नी कालीबाई को गालियां देने लगा। ऐसा वो आमतौर पर करता था। - मुंह से शराब की दुर्गंध आ रही थी, जुबान पर गालियां थीं, फिर भी वह पत्नी के साथ फिजिकल रिलेशन की बात करने लगा। - पत्नी कालीबाई इससे खासी खफा थी, लेकिन पति के जबरदस्ती करने पर उसके आगे कुछ नहीं कर पा रही थी। - वह चीखती रही, लेकिन नानूराम नहीं मान रहा था। - मां की चीख सुन कर बेटा जाग गया। बेटे प्रहलाद ने जब पिता की इस हरकत को देखा, तो नानूराम से रहा नहीं गया। - वह बेटे से लड़ने लगा तो मां को बचने का मौका मिल गया।


इस युवक ने इशारों में लड़की से कहा- चलती है क्या, फिर हुआ कुछ ऐसा

27 September 2016
एक शख्स को अश्लील इशारा करना महंगा पड़ गया। लड़की ने युवक को सरेराह जमकर पीट दिया। लात-घूसों से पीटती हुई लड़की ने युवक की बाइक तक को गिरा दिया। अपनी सहेली से फोन कर युवक को जेल में डालने की बात कहने वाली लड़की ने इकट्ठा लोगों से कहा कि ये मनचला है। इसका इलाज कर रही हूं। हांफते हुए शख्स ने ये कहा… - शहर में लड़की हर रोज की तरह अपनी सहेली के साथ निकली थी। - जल चक्की चौराहे पर बाइक से आ रहे मनचले ने उसे साथ चलने का इशारा किया। - लड़की इस मनचले से तंग आ चुकी थी। अश्लील इशारों से लड़की ने आपा खो दिया। - लड़के की और दौड़ी। जब तक वह कुछ समझ पाता लड़की ने उसे लात-घूसों से मारना शुरु कर दिया।


मां की लाश के पास लगी थी अगरबत्ती, पलंग पर पड़ा था बच्चे का शव

26 September 2016
पाली के एक गांव में किराए के मकान में मां और नवजात बच्चे का क्षत-विक्षत शव बरामद हुआ है। विवाहिता की अर्धनग्न बॉडी के पास जली हुई अगरबत्ती मिली और गेहूं के बिखरे हुए दाने मिले हैं। वहीं बच्चे का शव एकदम काला पड़ गया है। पुलिस के मुताबिक मामला जादू-टोने का लगता है। जानिए क्या है मामला... - सांडेराव थाना क्षेत्र के बिरामी गांव में एक मकान में विवाहिता और नवजात का 3-4 दिन पुराना शव बरामद हुआ है। - पुलिस के मुताबिक मकान मालिक को जब उसके मकान से दुर्गंध मिली तो वह किराएदार घनश्याम के कमरे की ओर गया। कमरा भीतर से बंद था और सड़न की दुर्गंध आ रही थी। - जब मकान मालिक ने खिड़की से झांककर देखा तो भीतर फर्श पर उसे खून दिखा। - उसने पुलिस को इस बात की सूचना दी। पुलिस ने दरवाजा तोड़ा तो एक पलंग पर कंबल से ढकी अर्धनग्न लाश थी। - पास वाली चारपाई पर डाइपर पहने नवजात का शव था। शव बिल्कुल काला पड़ चुका था। - मकान मालिक ने बताया कि विवाहिता का पति घनश्याम 4 दिन पहले उसकी मोटरसाइकिल लेकर गया और फिर लौटा नहीं। - पुलिस के मुताबिक किसी को शक न हो इसलिए आरोपी मुख्य दरवाजे को भीतर से बंद कर पिछे के दरवाजे से फरार हो गया है


शादी के 6 महीने बाद हो गया बच्चा, हैरान पति बोला- ये कैसे हो गया

26 September 2016
राजस्थान के कोटा के जेकेलोन हॉस्पिटल में शनिवार को एक अजीब मामला सामने आया। एक महिला ने नॉमर्ल डिलीवरी से बेटी को जन्म दिया। पूरे परिवार ने इस बेटी को अपनाने से मना कर दिया। वजह यह थी कि महिला की शादी को अभी सिर्फ 6 महीने ही हुए हैं। बच्चे को छोड़कर जा रहा था परिवार... - पति प्रसव से पहले ही साफ कह चुका था कि शादी काे 6 महीने ही हुए हैं तो बच्चा कैसे हो गया। मैं इसे नहीं अपना सकता। होने वाला बच्चा मेरा नहीं है। - जब पति ने मना किया तो महिला ने भी कह दिया कि मैं बच्चे को कहां रखूंगी। उसके घर वालों ने भी हाथ खड़े कर दिए। - पूरा परिवार बिना किसी सूचना के बच्चे को छोड़ जाने की तैयारी में था, इसी बीच जेकेलोन हॉस्पिटल के सिक्युरिटी इंचार्ज बीएल मीणा को भनक लग गई। - उन्होंने महिला के पिता से बात की तो सारा सच पता चल गया। इसके बाद उन्होंने अस्पताल प्रशासन को सूचना दी।ै।


बड़े भाई से करती थी प्यार, छोटे भाई से तय हुई शादी तो कपल ने ऐसे दी जान

24 September 2016
बाड़मेर के गिड़ा थाना क्षेत्र के संतरा में एक प्रेमी जोड़े ने टांके (पानी की टंकी) में कूद कर आत्महत्या कर ली। युवक शादीशुदा था और उसके दो बच्चे हैं वहीं प्रेमिका महज 17 साल की थी। प्रेमिका युवक के छोटे भाई की मंगेतर थी। जानिए क्या है मामला ... - बाड़मेर में बायतू के गोमाराम का परिवार रहता है। - सोमाराम का बेटा ईश्वर लाल (30) शादीशुदा है। उसके दो बच्चे हैं। एक ढाई साल व एक पांच साल का है। - ईश्वर के छोटे भाई जितेंद्र की नाराड़ूं की रहने वाली मोहनलाल की 17 साल की बेटी से मंगनी हो गई थी। - छोटे भाई की मंगेतर से ईश्वर के प्रेम संबंध हो गए। - दोनों को लगा कि दोनों के परिवार उनका प्रेम संबंध स्वीकार नहीं करने वाले। - यही सोचकर दोनों शनिवार को संतरा पंचायत के झुंड गांव में मिले और इस वारदात को अंजाम दिया।


एक लाख आर्टिस्ट ने एक साथ किया वंदेमातरम का वंदन, गिनीज बुक में रिकॉर्ड हुआ दर्ज

24 September 2016
राजधानी में बुधवार का दिन ऐतिहासिक है। जयपुर का नाम एक और रिकॉर्ड के लिए गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड्स में दर्ज किया गया है। यहां एक साथ एक लाख कलाकारों ने वंदेमातरम का वंदन किया है। इसके साथ ही गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज किया गया है। यूं चल रहा कार्यक्रम... - जयपुर के अमरूदों के बाग में यह कार्यक्रम वॉइस ऑफ यूनिटी है, जिस हिंदू आध्यात्मिक एवं सेवा फाउंडेशन आयोजित कर रहा है। - इसका संगीत निर्देशन पंडित आलोक भट्ट ने किया है। - उनके नेतृत्व में एक लाख से ज्यादा लोग, संगीतकार, स्टूडेंट्स ने सामूहिक वंदेमातरम का वंदन किया। - इसमें करीब 18 वाद्यों को भी एक साथ बजाया गया है। - इसके लिए संगीत संस्थान और राजस्थान यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट्स भी तीन माह से तैयारी कर रहे थे।ै।


जयपुर में चार साल से घूम रहा है शिखर धवन का डुप्लीकेट, अब न्यूजीलैंड दौरे पर आएगा नजर

22 September 2016
डियन क्रिकेट टीम में ओपनिंग बल्लेबाज शिखर धवन आक्रामक बल्लेबाजी के साथ अपने खास अंदाज और लुक के लिए पहचान रखते हैं। ऐसी ही पहचान जयपुर में मौजूद गुलाबी नगरी के शिखर धवन भी रखते हैं। यह हैं जय लाल मुंशीजी का रास्ता निवासी 32 वर्षीय ईश्वर नायक, जो पिछले चार साल से शिखर धवन के डुप्लीकेट के रूप में फेमस हैं। वे न केवल शिखर धवन के फैन हैं, बल्कि उनके डुप्लीकेट भी हैं। यूं बने ईश्वर से शिखर... - ईश्वर ने बताया, मैं चार साल पहले कॉल सेंटर में जॉब करता था। - वहां दोस्त ने बताया, कि शिखर का चेहरा तुझ में मिलता है। - फिर मैंने मजाक-मजाक में मैंने मूंछें, दाढ़़ी और हेयर स्टाइल शिखर की तरह रखना शुरू कर दिया। - जब हेयर स्टाइलिश के पास गया तो उसने मैंने लुक को और फाइन कर दिया।


ब्लैकलेस पहनकर स्टेज पर किया अश्लील डांस, तालियां बजाकर झूमते रहे लोग

22 September 2016
बालाजी का नाम जिस देश में श्रद्धा और पवित्रता से लिया जाता है वही भीड़ जुटाने के नाम अश्लीलता परोसी जा रही है। वह भी बंद कमरे में नहीं बल्कि सार्वजनिक कार्यक्रम में खुलेआम। अजमेर के किशनगढ़ में अर्द्ध नग्न हालत में आपत्तिजनक एक्शन करने वाली लड़कियों को देखकर लोग हूटिंग और तालियां बजाकर झूमते रहते है। स्टार नाइट कार्यक्रम में हुआ अर्द्ध नग्न डांस.... - किशनगढ़ में हुए इस समारोह में ना सिर्फ बच्चे, युवा से लेकर बुजुर्ग तमाशबीनों की महफिल में सरेआम उड़ती भारतीय संस्कृति की धज्जियां में शरीक रहते है। - यहां नेता, जनप्रतिनिधी से लेकर प्रशासनिक अधिकारी तक मौजूद रहते है। अजमेर के किशनगढ़ में बालाजी मेला कमेटी की ओर से आयोजित फिल्म स्टार नाइट के कार्यक्रम में रातभर अश्लील डांस होता रहा।


आधी रात को भागकर पहुंची प्रेमी के घर, सुबह घरवालों ने देखा इस हालत में

21 September 2016
राजस्थान।जिले के पीलीबंगा थाना इलाके में मंगलवार को एक प्रेमी जोड़ा फांसी के फंदे पर झूल गया। लड़का और लड़की दोनों लड़की के दुपट्टे से बने एक ही फंदे पर झूलते मिले। बताया जा रहा है कि लड़की सोमवार रात अपने घर से भागकर लड़के के घर पहुंची थी। यहां दोनों ने रात में ही सुसाइड कर लिया। सुबह जब लड़के का दरवाजा खोला गया तो कमरे का नजारा देखकर हरकोई सन्न रह गया। दूसरे लड़के से हो गई थी लड़की की सगाई … - जानकारी के मुताबिक पीलीबंगा थाना इलाके के खरलियां गांव की रहने वाली 18 वर्षीय सुमन 22 वर्षीय विक्रम से प्यार करती थी। - विक्रम और सुमन पिछले 6 महीने से एक दूसरे से छुप-छुपकर मिला करते थे।


नर्स से लड़ा रहा था इश्क, पत्नी ने आपत्ति की तो मारकर मिट्‌टी में गाड़ दी लाश

20 September 2016
नवलगढ़ में पत्नी का मर्डर कर उसके शव को मिट्टी में दबा देने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने शव बरामद कर आरोपी पति को गिरफ्तार कर लिया है। पति ने पत्नी का मर्डर अपनी लवर से शादी करने के लिए किया है। पत्नी को शॉपिंग के बहाने ले गया था बाजार... - पत्नी के मर्डर में आरोपित प्रदीप उर्फ संदीप सीकर जिले के गांव गुंगारा का रहने वाला है। प्रदीप की पत्नी मृतका निर्मला झुंझुनूं जिले के खिरोड़ कस्बे की रहने वाली थी। - पुलिस की प्रारंभिक जांच में हत्याकांड की वजह प्रदीप का किसी और से प्रेम प्रसंग भी माना जा रहा है। -नवलगढ़ थानाधिकारी नवल सिंह मीणा के अनुसार प्रदीप और निर्मला की शादी तीन साल पहले हुई थी। - प्रदीप का एक नर्स से अफेयर चल रहा था। इस बात को लेकर प्रदीप और उसकी पत्नी निर्मला के बीच मनमुटाव भी था। - पिछले कई दिनों से निर्मला अपने पीहर खिरोड़ आई हुई थी। 17 सितम्बर को प्रदीप खिरोड़ गया और उसे कपड़ों की शॉपिंग करवाने के बहाने बुलाया। इसके बाद वह उसे पिपराली व गुंगारा के पास ले गया, जहां गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी। - प्रदीप ने निर्मला के शव को मिट्टी में दबा दिया। वारदात को अंजाम देने के बाद प्रदीप देर रात अपने घर चला गया।


चांदी की ईंट से सिर में किए ताबड़तोड़ वार, कर दी ज्वैलर की हत्या, वीडियो आया सामने

19 September 2016
चौमू (जयपुर)। एक व्यक्ति ने ज्वैलरी शोरूम से चांदी की ईंट निकाली। ज्वैलर के पीछे-पीछे बेसमेंट में चला गया। उसी ईंट को हथियार बना इस चोर ने ज्वैलर की हत्या कर दी। घटना 13 सितंबर की है, लेकिन अब उस घटना का वीडियो सामने आ गया है। कैसी है यह दर्दनाक घटना... - घटना जयपुर के चौमूं की है। यहां मेन बाजार ज्वैलरी शोरूम है, जहां यह हत्या की गई। - श्रीशिवम ज्वैलर्स के मालिक मूलचंद पुत्र हरिनारायण सोनी की 13 सितंबर को किसी ने चांदी की ईंट से मार-मार कर हत्या कर दी थी। - पुलिस ने दुकान में लगे सीसीटीवी कैमरों को खंगाला, जिसमें दुकान बंद करने से पहले मालिक के साथ एक व्यक्ति दिखाई दे रहा है। - एसीपी दीपक शर्मा ने बताया कि घटना व सीसीटीवी फुटेज देखने से प्रथम दृष्टि में लगता है कि जो शख्स फुटेज में दिख रहा है, उसी ने वारदात को अंजाम दिया हो सकता है।


ये बर्ड करती है Kiss, पीती है चाय, नाम से बुलाने पर यूं दिखाती है दुलार

19 September 2016
जयपुर।आपने चिड़िया को दाना चुगते, घोंसले में चोंच खोलकर मां के मुंह से दाना लेते या खुले आसमान में पंख फैलाकर उड़ते देखा होगा। क्या आपने ऐसी चिड़िया देखी है जो किसी घर में एक सदस्य की तरह रहती हो। वो पिंजरे में नहीं बल्कि आजादी से पूरे घर में घूमती हो। शहर के झोटवाड़ा इलाके में ऐसी एक बर्ड है। जानिए इस बर्ड की पूरी कहानी… - यूं तो इस बर्ड का नाम बाबू है, लेकिन लोग इसे किसिंग बर्ड के नाम से भी जानने लगे हैं। - जैसे ही इसकी ओनर कहती हैं बाबू किस्सी कर दो तो ये बर्ड अपनी चोंच फैलाकर उनके होठों को चूम लेती है। - जैसे वे अपना मुंह खोलती हैं ठीक वैसे बर्ड भी अपनी चोंच फैला लेती है। - बर्ड की ओनर मुस्कान ने बताया कि एक दिन अचानक ही उनके अपार्टमेंट में ये बर्ड आ गई थी। - तब ये बिल्कुल छोटी थी और उड़ नहीं पाती थी। उसकी फैमिली के लोग आते और इसे दाना चुगाकर चले जाते थे। - इसका पूरा ध्यान रखना पड़ता था। बिल्ली और कुत्तों की नजर से भी बचाना पड़ता था।


स्कूल के पास आ गया 10 फीट लंबा अजगर, बच्चों की अटक गईं सांसें

17 September 2016
राजसमंद।राजसमंद जिले के एक स्कूल के पास सोमवार को अजगर आ जाने से हड़कंप मच गया। बच्चे वहां से गुजर रहे थे कि अचानक एक बड़े अजगर को देख उनके होश उड़ गए। ग्रामीणों ने एक एक्सपर्ट को बुलाकर अजगर को पकड़वाया। अजगर 10 फीट लंबा और 19 किलो वजनी था। जानिए फिर क्या हुआ .... - गलवा गांव के आदर्श उच्च माध्यमिक विद्यालय में रोज की तरह स्कूल लगा हुआ था। - स्कूल के आस-पास गहमा-गहमी थी। बच्चे व लोग वहां से गुजर रहे थे। - बच्चे स्कूल आ रहे थे। अचानक वहां से गुजर रहे बच्चों की नजर एक बड़े अजगर पर पड़ी। - अजगर उनके बिल्कुल पास था। अजगर को देख वह घबरा कर पीछे हट गए और चिल्लाए। - उनके चिल्लाने पर लोग वहां आ गए और बड़े अजगर को देखकर हैरान रह गए। - थोड़ी ही देर में वहां स्कूल के बच्चे भी आ गए। - इस पर ग्रामीणों ने सांप पकड़ने वाले सोहनलाल भील को बुला लिया। - सोहनलाल को जहरीले सांप पकड़े का 15 साल अनुभव है। - सोहनलाल ने आधे घंटे की मशक्कत के बाद अजगर को पकड़ लिया। - थोड़ी देर में वहां वन विभाग की टीम पहुंच गई। - वन विभाग की टीम ने बताया कि अजगर 19 किलो वजनी है तथा करीब 10 फीट लंबा है।।


भैंस चराने जंगल गए किसान का मिला शव, डेडबॉडी देख हैरान रह गई पुलिस

17 September 2016
झालावाड़। झालावाड़ के मनोहरथाना में एक किसान का कुछ लोगों ने बड़ी ही बेरहमी से मर्डर कर दिया। शव पर फरसे जैसे धारदार हथियार से काटने के निशान हैं। किसान का शव एक दिन बाद रविवार को जंगल में मिला। किसान को धारदार हथियार से बुरी तरह काटा गया है। जानिए क्या है मामला .... - मनोहर थाना पंचायत समिति में रघुनाथ भील अपने परिवार के साथ रहता है। - रघुनाथ का बेटा तखत सिंह (45) शनिवार को भैंस चराने जंगल की ओर गया था। - वह शाम तक घर नहीं लौटा तो उसके परिवार वालों को चिंता हुई। - थोड़ी ही देर में भैंसे घर आ गईं। भैंसों के साथ गया तखत सिंह नहीं लौटा। - इस पर परिजनों ने खोजबीन की। रात तक भी वह घर नहीं आया तो परिजनों ने पुलिस में शिकायत की। - आस पास के लोग भी तखत के परिवार के साथ मदद को लगे रहे।


महिला की डेडबॉडी के पास पड़ी मिली जींस, बेटे का कमरा था बाहर से बंद

16 September 2016
देसूरी। देसूरी उपखंड के नाड़ोल में मर्डर का मामला सामने आया है। मेघवालों के बड़ा बास में रह रही अंसी मेघवाल पत्नी स्व. भोलाराम मेघवाल की हत्या से सनसनी फैल गई। खून में सनी उसकी लाश रविवार को घर से बरामद हुई। महिला की लाश पास मिली जींस... - पुलिस के अनुसार लाश दो खाट के पास पेट के बल पड़ी थी। पास में एक खाट पर एक धारदार हथियार भी पड़ा था। इसी हथियार से गर्दन और हाथ पर वार किए गए हैं। - लाश के पास एक जींस भी मिली है, जिससे पुलिस को महिला के साथ हत्या से पहले दुष्कर्म का भी शक है। - हत्या के समय महिला कमरे में अकेली थी। उसकी लाश दरवाजे पर पड़ी थी और फर्श पर काफी खून बिखारा हुआ था। - घर में इधर-उधर भी खून के छीटें पड़े थे। लाश को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजने के साथ ही पुलिस ने आस-पास के लोगों से पूछताछ की। - घटना के वक्त महिला का एक बीस वर्षीय बेटा अशोक दूसरे कमरे में सोया हुआ था। हत्यारे ने अशोक के कमरे को बाहर से बंद कर दिया था।।


सुबह पिता ने लिखाई लग्न, शाम को दिया बेटे की अर्थी को कंधा

15 September 2016
एक पिता जब अपने जवान बेटे की शवयात्रा में कंधा दे तो इससे बड़ा दुख किसी इंसान के लिए क्या हो सकता है। एेसा ही कुछ हुआ गुरुवार को बांसवाड़ा जिले के परतापुर कस्बे में। जहां एक पिता ने अपने बेटे की शादी के लिए सुबह लग्न लिखाई और परिवारजनों और गांव वालों के साथ बेटे की शादी की खुशियां बांटी। लेकिन चंद घंटों में ही सारी की सारी खुशियां गम में बदल गईं और हंसी के ठहाके चीख-चीत्कार में।
हुआ यूंकि वजवाना गांव के दो युवकों की जान ले ली। इनमें शामिल एक युवक की गुरुवार को ही लग्न लिखाई की रस्म पूरी हुई थी। आठ दिन बाद शादी तय थी। ऐसे में घर दुखों का पहाड़ टूटा।
पुलिस के अनुसार हादसा शाम करीब साढ़े चार बजे कार की टक्कर से हुआ। गढ़ी से अगरपुरा की ओर जा रही कार की सामने से आती बाइक से टक्कर हो गई।
इससे बाइक सवार वजवाना निवासी दिलीप पुत्र विजयपाल पाटीदार एवं निलेश पुत्र किशनलाल पाटीदार गंभीर घायल हुए। उन्हें परतापुर सामुदायिक चिकित्सालय लाया गया,जहां उनकी मौत हो गई। सूचना पर गढ़ी सीआई गोपाल चंदेल, एसआई सज्जनसिंह, एएसआई प्रहलादसिंह एवं आरक्षी विजयसिंह भी चिकित्सालय पहुंचकर जानकारी ली।
पुलिस ने मृतक दिलीप के पिता विजयपाल पुत्र कचरू पाटीदार की रिपोर्ट पर कार चालक के खिलाफ केस दर्ज किया। बाद में पोस्टमार्टम करवाकर शव परिजनों को सुपुर्द किए गए।
इकलौता बेटा था निलेश

मृतक निलेश परिवार में इकलौता बेटा था। 29 अपै्रल को घर में उसकी शादी होने से घर में तैयारियां अंतिम दौर में थी। गुरुवार को ही लग्न की रस्म के चलते रिश्तेदारों का मेला सा लगा था। ऐसे में मौत की खबर अदा हुई थी। परिवार में इकलौते निलेश की मौत से शादी की खुशियां काफूर हो गईं। जानकारी पर भागते-दौड़ते पहुंचे परिजन युवकों के शव देखकर इस कदर विलाप करने लगे कि चिकित्सालय का वातावरण हृदयविदारक हो गया।

माता-पिता के साथ रोया पूरा गांव

आठ दिन बाद जिस घर से बारात सजनी थी, उस सजे-संवरे घर में चहुंओर विलाप। शव पहुंचे, तो भीतर कलपती महिलाएं और बाहर द्रवित पूरे गांव के पुरुष। बजवाना में स्थिति यह रही कि नीलेश और दिलीप के परिजनों को ढांढस बंधाने वाले लोगों की आंखें भी झरने लगीं। इकलौते बेटे निलेश का शव मां गोकेल व पिता कुरिया ने देखा, तो कलेजा कांप उठा। छोटा गणेश व शादी का धागा बंधने की रस्म की खुशी देख चुके मित्रगण व रिश्तेदार भी उनके साथ बिलख-बिलख कर रोए।
परतापुर के पास लोड़दा में अपराह्न तक लग्न लिखाई के समारोह में सभी परिजन उल्लासित थे। अपने काका-बाबा के भाई दिलीप के साथ निलेश शादी की तैयारियों के लेकर ही लोड़दा से परतापुर गया था। लौटते समय हुए हादसे ने जीवन के साथ सब खत्म कर दिया। ऐसे माहौल में मौतबीर बुजुर्गों ने बमुश्किल परिजनों को सम्भाला और जल्द अंत्येष्टि की तैयारियां करवाकर अंतिम यात्रा निकाली। दोनों की एक साथ उठी अर्थियों को देखकर आसपास के गांवों में लोग भी रो पड़े। रात दस बजे सभी ने श्मशान से वापसी की।


ये है आरयू के छात्रसंघ अध्यक्ष, जीत के जश्न में खो बैठे होश, करने लगे हवाई फायर

14 September 2016
जयपुर।जीत का नशा किसी नेता को किस कदर चढ़ जाता है, वह नियम-कानून ही भूल बैठता है। इसका उदाहरण हाल ही राजस्थान यूनिवर्सिटी के अध्यक्ष पद पर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में जीते अंकित धायल ने पेश कर दिया। उन्होंने अपने सम्मान समारोह में एक अन्य युवक की पिस्टल निकाली और हवाई फायर शुरू कर दिए। इस फायरिंग ने सबके होश उड़ा दिए। आखिर क्या रहा घटनाक्रम... - अब उनकी इस फायरिंग की घटना का वीडियो भी वायरल हो गया है। - इसके बाद अंकित समझ नहीं पा रहे कि आखिर वे क्या कर बैठे। - आरयू प्रेसिडेंट का ताज पहनने के बाद अंकित शेखावाटी के चिड़ावा में जश्न मनाने गए थे। - वहां जश्न के दौरान भीड़ में एक समर्थक की पिस्तौल लेकर अंकित ने बाकायदा हवाई फायरिंग कर दी। - इसके बाद इस नजारे को किसी ने मोबाइल में कैद कर लिया। - अब उसे वायरल भी कर दिया है।


33 हजार रुपए कम होने पर नहर में कूदा, सुसाइड नोट में लिखा- उन्हें जरूर सजा देना

14 September 2016
हनुमानगढ़ जिले के गांव सूरेवाला रोही में आईजीएनपी में एक ईंट भट्टा मुनीम ने नहर में छलांग लगा दी। पुलिस के अनुसार उसके ईंट-भट्टे पर कार्य करने के दौरान बैग से 33 हजार रुपए कम होने की बात सामने आई है। इसको लेकर वह परेशान था। उसने अपने सुसाइड नोट में लिखा है - मैं आपको हमेशा के लिए छोड़ कर जा रहा हूं। जिसने भी रुपए निकाले हैं उसे कड़ी सजा दें। जानिए क्या है मामला ..... - टिब्बी से 10 किलोमीटर दूर बणी रोड स्थित इंदिरा गांधी नहर पर बने पुल के पास से एक राहगीर गुजर रहा था। - उसे नहर के किनारे एक बाइक खड़ी दिखाई दी। बाइक के आसपास कोई नहीं था। - बाइक के पास चप्पलें और मोबाइल भी पड़ा था। उसने इसकी सूचना पुलिस को दी। - सूचना पर सूरेवाला पुलिस चौकी प्रभारी एएसआई गिरधारीलाल मौके पर पहुंचे। - आस-पास तलाशने पर वहां एक सुसाइड नोट मिला। - सुसाइड नोट के आधार पर उसकी शिनाख्त नाईवाला निवासी रवि शर्मा (22) नरेश शर्मा के रूप में हुई। - पुलिस ने परिजनों को सूचना दी। थोड़ी ही देर में परिजन भी वहां पहुंच गए। - उन्होंने बाइक, माेबाइल चप्पलों एवं रवि की ओर से लिखे गए सुसाइड नोट की पहचान की।।


कई बार नाम पुकारने के बाद भी कॉल रूम में नहीं पहुंचे सुंदर, हो गए पैरालिंपिक से बाहर

14 September 2016
जयपुर।रियो में चल रहे पैरालिंपिक में भारत को तीसरी कामयाबी हाथ लगी है। राजस्थान के दो एथलीट सुंदर सिंह गूजर और देवेंद झांझड़ियां खेलों के इस महांकुंभ में शामिल होने रियो गए थे। वहां 35 साल के देवेंद्र झाझरिया ने मंगलवार देर रात जेवेलिन थ्रो में देश के लिए गोल्ड जीता वहीं सुंदर सिंह गूजर तय समय में मैदान में ही नहीं पहुंच पाए। इस कारण उन्हें कंपीटीशन में हिस्सा लेने से रोक दिया गया। जानिए कहां हुई गफलत .... - सुंदर के पूर्व कोच आरडी सिंह के अनुसार सुंदर तय समय में कॉल रूम में पहुंच ही नहीं पाए। इस कारण उन्हें प्रतियोगिता से बाहर कर दिया गया। - सिंह के अनुसार खिलाड़ी को प्रतियोगिता शुरू होने के दो घंटे पहले कॉल रूम में पहुंचना होता है। - कॉल रूम में खिलाड़ियों के कुछ जरूरी टेस्ट होते हैं। इसमें खिलाड़ी का यूरीन, ब्लड आदि लिया जाता है। - इसके बाद खिलाड़ी को प्रतियोगिता शुरू होेने के 10 मिनट पहले इवेंट रूम में ले जाया जाता है। - सिंह के अनुसार सुंदर कॉल रूम में ही नहीं पहुंचे। उनका कई बार नाम भी पुकारा गया।


अलवर के उद्योगपति की फैक्ट्री में ही मौत, रिनोवेट की जा रही दीवार में दबे साथ में 4 और लोग

13 September 2016
अलवर। फैक्ट्री के भीतर एक 5 फीट की दीवार तुड़वाकर कर रिनोवेशन का काम करा रहे जसोरिया फूड प्रोडक्ट के मालिक सुरेश जसोरिया की दीवार में दबने से मौत हो गई। इस दुर्घटना में 4 मजदूरों की भी दीवार में दबने से मौत हो गई, जबकि 2 अन्य घायल हो गए। पास वाली दीवार भरभराकर गिर गई… - सुरेश जसोरिया ने हाल ही में अपनी फैक्ट्री के पास वाला प्लांट खरीदा था। इसमें वे एक 5 फीट ऊंची दीवार को गिराकर कुछ निर्माण कराना चाह रहे थे। - मंगलवार को वे मजदूरों से बात कर रहे थे। इधर 5 फीट वाली दीवार गिरने से उससे सटी 7 फीट लंबी दीवार अचानक भरभराकर गिर गई। - इस दीवार में 5 मजदूरों समेत सुरेश जसोरिया दब गए। - इस घटना में सुरेश जसोरिया समेत 30 वर्षीय गोपाल, 33 वर्षीय ओमप्रकाश और 50 वर्षीय रमकी देवी की मौत हो गई। - मलबे को हटाने में दूसरे मजदूरों के साथ एडिशनल एसपी पारस जैन और एडीएम सिटी मोहन लाल रत्नू भी जुट गए। - इस दुर्घटना में कमलेश और रामसिंह गंभीर रूप से घायल हो गए जिन्हें अस्पताल पहुंचाया गया। बाद में एक ने दम तोड़ दिया।


हाथ में सांप लेकर घूमता रहा ये शख्स, 138 साल चली आ रही ये परंपरा

13 September 2016
बूंदी।राजस्थान के बूंदी जिले के आंतरदा गांव में एक शख्स हाथ में वाइपर स्नेक लेकर ऐसे घूम रहा था जैसे कोई खिलौना हो। सांप को हाथ में लेकर वह घंटों घूमता रहा। इस दौरान वाइपर स्नेक भी उसके हाथों और सिर पर बड़े ही आराम से घूम रहा था। यह नजारा देखने काफी संख्या में लोगों की भीड़ भी जुट गई।ये परम्परा है 138 साल पुरानी.... - हाड़ौती क्षेत्र में तेजादशमी के दिन दहेलवालजी की देह रूप की सवारी निकाली जाती है। सवारी की परम्परा 138 साल से बदस्तूर है। - देहरूपी सर्प की सवारी के दर्शन के लिए गांवों से श्रद्धालुओं का हुजूम उमड़ पड़ा। राजपरिवार के नेतृत्व में भोपा द्वारा दौरान बताए स्थान के लिए रवाना हुए। - पंच-पटेल अलगोजे की तान पर नाचते-गाते गद्दी, झालर, झंडी, छड़ी और पूजा सामग्री लिए जुलूस के रूप में एक किमी दूर खेड़ी मोड़, दड़ा के भैरू जी के पास रावण के टीलों तक पहुंचे।


थाने की खिड़की के 3 सरिए निकाल कर भाग गया चोर, पुलिस सकते में

13 September 2016
हिंडौन सिटी थाने की खिड़की तोड़कर भागा बदमाश अभी तक पुलिस के हाथ नहीं आया है। शांतिवीर नगर के श्री दिगंबर जैन मंदिर से चांदी के छत्र चोरी के मामले पकड़ा गए बदमाश को पुलिस ने सोमवार को पकड़ा था। वह मंगलवार सुबह थाने की खिड़की तोड़कर फरार हो गया। जानिए क्या है मामला ..... - कस्बे के शांतिवीर नगर के श्री दिगंबर जैन मंदिर से तीन दिन पहले चांदी के छत्र चोरी हो गए थे। - इस मामले में पुलिस ने सोमवार को भोंटवाडा निवासी पिंटू उर्फ जितेंद्र मीणा को गिरफ्तार किया था। - थाने की पुलिस ने पिंटू मीणा की गिरफ्तारी को अपनी बड़ी कामयाबी बताया था और उसके साथ पुलिस जवानों ने फोटो खिचवाकर मीडिया को जारी किए थे। - पुलिस की यह कामयाबी मंगलवार को मीडिया में प्रकाशित हुई, उससे पहले ही मंगलवार को तड़के पिंटू पुलिस पहरे को धता बताकर थाने से फरार हो गया। - मंगलवार रात कांस्टेबल मुकेश, बिहारी व मैनवीर सिंह की डयूटी संतरी के रूप में चार-चार घंटे के लिए लगाई गई थी। - सुबह करीब पांच बजे कांस्टेबल मैनवीर सिंह संतरी के रूप में डयूटी पर तैनात था। - तभी पिंटू ने संतरी मैनवीर सिंह से शौच जाने के लिए कहा। - संतरी मैनवीर ने उसे लॉकअप से निकाला और थाना परिसर में ही बने शौचालय में शौच के लिए भेज दिया। - करीब पांच मिनट बाद तक पिंटू शौचालय से बाहर नहीं आया तो संतरी मैनवीर उसे देखने के लिए शौचालय पहुंचा। - वहां पिंटू दिखाई नहीं दिया तो शौचालय के पास थाने की रसोई में जाकर देखा। - रसोई में लगी लकड़ी की खिड़की के तीन सरिए निकले हुए दिखाई दिए। इसी खिड़की को तोड़कर पिंटू उर्फ जितेंद्र मीणा थाने से गंभीर नदी की तरफ निकल गया और फरार हो गया। - इस पर संतरी मैनवीर ने थानाप्रभारी जितेंद्र सिंह को सूचना दी।


पिकअप से आए, खेत पर सो रहे किसान का कर दिया मर्डर, साथ ले गए 70 बकरियां

12 September 2016
कुठानियां (झूंझुनू)। झुंझुनू जिले में अपने खेत पर सो रहे एक किसान की नींद में ही हत्या कर दी गई। हत्यारे किसान की जान लेकर वहां बंधी 70 बकरियां ले गए। हत्या का पता सुबह चला जब उसका बेटा अपने पिता के लिए चाय लेकर आया। जानिए क्या है मामला .... - झूंझुनू जिले में कुठानियां के सिंघाना गांव में एक किसान लीलाराम गुर्जर (60) खेत पर बने बकरियों के बाड़े पर अकेला रहता है। - उसका परिवार खेत से करीब 50 मीटर दूर रहता है। उसके परिवार में पत्नी व तीन लड़के हैं। - बाड़े में करीब 100 बकरियां हैं। - बीती रात को लीलाराम बाड़े के बाहर खुले आसमान के नीचे सोया था। - सुबह उसका लड़का चाय लेकर आया। उसने अपने पिता को आवाज दी लेकिन वह जागा नहीं। - इस पर उसने लीलाराम को हिलाया तो भी उसे कोई प्रतिक्रिया नहीं दी। - बेटे ने आवाज देकर परिवार के लोगों को बुला लिया। - उन्होंने देखा कि लीलाराम के पैर में खून लगा था तथा उसकी टांगों पर चोट के निशान थे। - थोड़ी ही देर में वहां और गांव वाले भी आ गए। उन्होंने पुलिस को बुला लिया। - घरवालों ने देखा कि बाड़े से करीब 70 बकरियां भी गायब थीं।


पहले गीले किए डांसर के कपड़े, फिर पुलिस अफसर के सामने हुआ ऐसा डांस

12 September 2016
जयपुर। बूंदी जिले में देई कस्बे के आजाद रंगमंच पर आयोजित एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में पुलिस के आला अधिकारियों की मौजूदगी में आर्केस्ट्रा पार्टी के कलाकारों ने अश्लील डांस कर दर्शकों को शर्म से पानी-पानी कर दिया। कलाकारों की फूहड़ हरकतों और अश्लील डांस से पाण्डाल में बैठी लड़कियां और महिलाएं इतना शर्मिंदा हुई कि उन्हें घर जाना पड़ा। ऐसे डांस स्टेप किए कि वहां बैठे लोगों को आने लगी शर्म... - देई कस्बे में शानिवार को सांस्कृतिक कार्यक्रम बाबा बख्तावर मेले के समापन पर आयोजित किया गया था। - इस दौरान आर्केस्ट्रा पार्टी के कलाकारों ने डांस किया, डांस के दौरान जो हरकतें की, वे मंच की गरिमा के अनुरूप नहीं थी। दो कलाकारों ने फिल्मी गीत 'टिप-टिप बरसा पानी... पर ऐसे-ऐसे डांस स्टेप किए, जिसके चलते वहां बैठे लोगों को उठकर जाना पड़ा। - सामाजिक कार्यक्रम के दौरान ऐसे डांस के प्रदर्शन को दर्शकों ने जमकर विरोध किया। कई महिला-पुरुष उठकर चले गए। - इस कार्यक्रम में चीफ गेस्ट नैनवां के पुलिस डिप्टी सुपरिन्टेन्डेन्ट महेन्द्र मेघवंशी थे। अध्यक्षता नैनवां थानाधिकारी रामानंद यादव ने की। कार्यक्रम में सरपंच गीता सोनी भी मौजूद थी।


165 किलो चांदी के रथ में सवार होते हैं सांवलियाजी सेठ, देखने वालों की लगती है भीड़

10 September 2016
सांवलियाजी (चित्तौडगढ़)। इस चांदी के रथ को गौर से देख लीजिए। यह रथ भी इतिहास के पन्नों में दर्ज होने जा रहा है। यह रथ हर साल लगने वाले चित्तौड़ के विश्वप्रसिद्ध सांवलियाजी मेले में शोभायात्रा में शामिल होता है। संभवतया यह रथ आखिरी बार इसमें शामिल होगा। जानिए क्या है कारण .... - सुविख्यात कृष्णधाम में 12 से 14 सितम्बर तक भगवान श्रीसांवलिया सेठ के जलझूलनी एकादशी तीन दिवसीय मेला लगेगा। - मेले में इस रथ की अपनी ही शोभा है। यह रथ मेले में किसी मोती की तरह दमकता है


विवाहिता का बाल पकड़कर घुमाया और गर्म चिमटे से दागा, देख बेहोश हो गई मां

10 September 2016
रीगंगानगर। भाई को राखी बांधने पीहर आई विवाहिता के साथ इतना बुरा सलूक होगा ये कभी उसने सपने में भी नहीं सोचा था। विवाहिता के बुखार को बुरी आत्मा का साया बताकर उसके भाई के दोस्त ने पूरे परिवार के सामने न केवल बाल पकड़ की घसीटा बल्कि गर्म चिमटे से उसके शरीर को दाग दिया। जब जले हुए हिस्से में इन्फेक्शन हो गया तब इस घटना का खुलासा हुआ। जानिए पूरी घटना… - विवाहिता लक्ष्मी जवाहर नगर थाना क्षेत्र स्थित अपने पीहर रक्षा बंधन पर आई थी। - इधर कुछ दिनों से उसे बुखार आ रहा था। बुखार के चलते वह काफी कमजोर हो गई थी। - 6 सितंबर को उसे चक्कर आ गया। इधर उसके भाई महेंद्र का दोस्त गगनदीप आया और भूत-प्रेत का साया होने की बात की। - उसकी बातों में सब आ गए। उसने विवाहिता का आल पकड़कर बेरहमी से घुमाया और उसके बॉडी को गर्म सरिए से दाग दिया। - इधर ये सब देख लक्ष्मी की मां बेहोश होकर गिर गई। ये सब करने के बाद विवाहिता की तबियत और बिगड़ गई। - इधर पीहर वाले बात खुलने के डर से उसका इलाज खुद से ही करते रहे।


इस मां ने अपने दुधमुंहे बच्चे को गर्म सरिए से दाग दिया, बोली मोटा करने के लिए ऐसा किया

9 September 2016
ब्यावर (अजमेर)। अजमेर के पास ब्यावर में एक मां ने अपने ही जिगर के टुकड़े को गर्म सरिए से दाग दिया। ऐसा उसने अंधविश्वास के कारण झाड़-फूंक के नाम पर किया। चार बार गर्म सरिए से दागने के बाद मासूम दर्द और पीड़ा से बार-बार चीख उठता है। जानिए मां ने क्यों किया ऐसा ... - मामला ब्यावर के पास के गांव कालाकोट का है। यहां ओम सिंह अपने परिवार के साथ रहता है। - ओम सिंह पत्नी विमला और एक साल के बेटे बालवीर उर्फ बलवीर के साथ रहता है। ओमसिंह गुजरात में मजदूरी करता है। - बालवीर कुपोषण के कारण पिछले कुछ दिनों से लगातार बीमार चल रहा था। - वहीं काम के कारण ओम सिंह गांव नहीं आ पा रहा था। इस पर विमला बच्चे को लेकर गांव के ही एक भोपा के पास चली गई। - भोपा ने बच्चे को देखा और मासूम पर ऊपरी हवा होने की बात कहते हुए उसके गले में ताबीज बांध दिया। - भोपा ने हवा का प्रकोप हटाने के लिए मासूम को गर्म सरिए से दागने की सलाह दी। - भोपा ने विमला को बताया कि अगर उसके पेट पर गर्म सरिए से त्रिशूल उकेर दिया जाए


पति से झगड़कर पत्नी ने ऐसा किया काम, देखकर लोगों के होश उड़ गए

8 September 2016
कोटा। गुमानपुरा थाना इलाके में आपसी कहासुनी को लेकर एक विवाहिता ने स्वयं पर केरोसिन डालकर आग लगा ली। हादसे में महिला की उपचार के दौरान मौत हो गई। वहीं सूचना के बाद अस्पताल पहुंची पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवा दिया है। चार महीने पहले ही हुई थी शादी... - सीली गुड़ी निवासी महिला तुलसी की पांच माह पहले तरुण बंगाली से शादी हुई थी। शादी के बाद से ही विवाहिता ओर पति के बीच झगड़ा चल रहा था। - शनिवार सुबह भी महिला का उसके पति से किसी बात पर झगड़ा हो गया। इसके बाद परिजनों के बाहर जाने पर महिला के खुद पर केरोसिन डालकर आग लगा ली। - महिला के शोर मचाने पर परिवार जनों ने आग बुझाई और तत्काल एमबीएस अस्पताल लेकर गए। - उपचार के दौरान महिला ने दम तोड़ दिया। वहीं पुलिस ने शव को मोर्चरी में रखवा दिया है। - इस संबंध में पुलिस ने मृतका के परिजनों को सूचना दे दी है


अपनी ही स्टूडेंट से किया था इसने रेप, लड़की को दे रहा था करोड़ों रुपए देने का अॉफर

6 September 2016
जयपुर। निम्स यूनिवर्सिटी के चेयरमैन डॉ बी एस तोमर को रांची पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पिछले साल यौन शोषण की एफाअाईआर दर्ज होने के बाद से तोमर भागता फिर रहा था। अपने की कॉलेज की स्टूडेंट से फिजिकल रिलेशन बनाने के बाद से उसे लगातार तंग कर रहा था। कौन हैं तोमर, क्या है उनका पूरा बैकग्राउंड ... - निम्स यूनिवर्सिटी के चेयरमैन के खिलाफ रांची के चुटिया थाने में यौन शोषण का मामला 6 फरवरी 2015 को दर्ज किया गया था। - यह मामला तोमर की यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करने वाली एक स्टूडेंट ने ही दर्ज कराया था। - तोमर के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट जुलाई 2015 से ही जारी किया जा चुका था, लेकिन जब भी पुलिस उसे पकड़ने जाती, वह विदेश भाग जाता।


डिप्रेशन में आकर पिता ने अपना व मासूम का काटा गला, बहन की शादी के लिए पैसे नहीं जुटा पाया था

6 September 2016
अजमेर। शहर के संत कंवरराम कॉलोनी इलाके में रहने वाले एक पिता ने डिप्रेशन में आकर अपने 6 साल के बेटे पर चाकू से हमला कर उसे गंभीर घायल कर दिया, बाद में उसने खुद को भी चाकू से जख्मी कर लिया। दोनों को जेएलएन अस्पताल में भर्ती किया गया है। डॉक्टरों ने बच्चे की हालत नाजुक बताई है। उसके गले पर गहरा जख्म है। यह है पूरा मामला... - संत कंवरराम स्कूल के निकट रहने वाले रवि खर्रा ने सोमवार देर रात उसके 6 साल के बेटे मोंटी पर चाकू से हमला कर दिया। - कॉलोनी के लोगों ने लहूलुहान हालत में दोनों को जेएलएन अस्पताल में भर्ती कराया। - रवि ने पूछताछ में बताया कि वह पड़ाव स्थित किराना व्यवसायी की फर्म में नौकरी करता है। उसकी माली हालत ठीक नहीं है। वह बहन की शादी घर के खर्च के लिए रुपए नहीं जुटा पा रहा है। - डिप्रेशन आकर उसने पास में खेल रहें उसके बेटे मोंटी को चाकू से लहूलुहान कर दिया और खुद भी मरने की मंशा से चाकू से घायल हो गया। रामगंज थाना पुलिस मामले की जांच कर रही है।


रात को घरवालों से झगड़ा करके निकला था, सुबह पेड़ से झूलता मिला शव

5 September 2016
चूरू।सांडवा गांव में मंगलवार को बेरासर सड़क मार्ग पर सुने बाड़े में एक व्यक्ति ने शीशम के पेड़ पर फांसी लगाकरअपनी जीवन लीला समाप्त की। फांसी लगाने वाला पिराग कंजर पहले तो गांव में हो रहे जागरण मे गया, फिर घर आने के बाद परिवार के लोगों के साथ देर रात तक झगड़ा कर रहा था। यह है पूरा मामला... - फिर देर रात पिराग कंजर घर से निकल गया और शीशम के पेड़ से अपने पहने हुए शर्ट को खोलकर पेड़ से फांसी का फंदा लगाकर खुदकुशी कर ली। - पेड़ के मुख्य तने के पास चप्पल खोलकर रखी हुई थी। सुबह पड़ोस के लोगों ने देखा की एक व्यक्ति शीशम के पेड़ पर झूल रहा है। - पेड़ पर फांसी खाकर जान देने की खबर गांव में आग की तरह फैलते ही मौके पर ग्रामीणों की भीड़ लग गई । - मोहल्ले के लोगो ने पुलिस को फोन करके फांसी खाने की सूचना दी।


राजस्थानी हवाओं से सिस्टम अटका बंगाल की खाड़ी में, प्रदेश में 3 दिन तक बारिश की उम्मीद नहीं

5 September 2016
जयपुर। प्रदेश में बारिश का दौर थम गया है। मौसम विभाग के अनुसार राजस्थानी हवाओं के चलते सिस्टम बंगाल की खाड़ी में अटक गया है। इससे अगले तीन से चार दिन तक बारिश की कोई उम्मीद नहीं है। तीन-चार दिन तक नहीं होगी बरसात... - अगले तीन से चार दिन के दौरान अधिकतम तापमान सामान्य से ऊपर रहेगा है और न्यूनतम तापमान सामान्य से नीचे। यह तापमान लोगों को बीमार करने लगा है। - मौसम विभाग के अनुसार तीन किमी ऊपर पूर्वी हवा चल रही है। लेकिन जमीन पर हवा पश्चिमी (राजस्थान की ओर से) चल रही है। हवाएं विपरीत होने से बंगाल की खाड़ी में सिस्टम ठहर गया है। वह मजबूत नहीं हो रहा है। इसके चलते आसमान साफ हो गया है। हल्के बादल छा रहे हैं। -मौसम विभाग के अनुसार अभी मानसून के लौटने का समय है इसलिए बरसात हिमालय की ओर आने वाली हवाओं पर निर्भर करती है। - हवा की दिशा बदलने से नमी घट गई है, जिससे बारिश की उम्मीद कम है। पश्चिमी हवा बंगाल की खाड़ी में सिस्टम को मजबूत नहीं होने दे रही है।


ससुराल से पीहर आई थी, उस पर गिर गया मकान, नींद में ही तोड़ा दम

3 September 2016
बेड़ा (पाली)।पाली के बेड़ा में एक कच्चा मकान ढहने से विवाहिता की मौत हो गई। विवाहिता ससुराल से पीहर आई थी। उसे क्या पता था कि नींद में ही उसकी मौत हो जाएगी। जानिए क्यों ढहा मकान .... - रोनवाडा कस्बे के उपरली फली में खुमाराम पुत्र वीताराम गरासिया कच्चे मकान में अपने परिवार के साथ रहता है।
- मकान में परिवार के चार सदस्य सो रहे थे। रात में बारिश के साथ तेज हवा चलने से मकान गिर गया। - मकान गिरने से खुमाराम की पुत्री सुखी (24) के सिर पर चोट लगने से मौके पर ही मौत हो गई तथा तीन पुत्रियां घायल हो गईं। - मकान गिरने की आवाज से आस-पास के लोग वहां पहुंचे तथा मदद में जुट गए।