Untitled Document


register
REGISTER HERE FOR EXCLUSIVE OFFERS & INVITATIONS TO OUR READERS

REGISTER YOURSELF
Register to participate in monthly draw of lucky Readers & Win exciting prizes.

EXCLUSIVE SUBSCRIPTION OFFER
Free 12 Print MAGAZINES with ONLINE+PRINT SUBSCRIPTION Rs. 300/- PerYear FREE EXCLUSIVE DESK ORGANISER for the first 1000 SUBSCRIBERS.

   >> सम्पादकीय
   >> पाठक संपर्क पहल
   >> आपकी शिकायत
   >> पर्यटन गाइडेंस सेल
   >> स्टुडेन्ट गाइडेंस सेल
   >> सोशल मीडिया न्यूज़
   >> नॉलेज फॉर यू
   >> आज खास
   >> राजधानी
   >> कवर स्टोरी
   >> विश्व डाइजेस्ट
   >> बेटी बचाओ
   >> आपके पत्र
   >> अन्ना का पन्ना
   >> इन्वेस्टीगेशन
   >> मप्र.डाइजेस्ट
   >> निगम मण्डल मिरर
   >> मध्यप्रदेश पर्यटन
   >> भारत डाइजेस्ट
   >> सूचना का अधिकार
   >> सिटी गाइड
   >> लॉं एण्ड ऑर्डर
   >> सिटी स्केन
   >> जिलो से
   >> हमारे मेहमान
   >> साक्षात्कार
   >> केम्पस मिरर
   >> हास्य - व्यंग
   >> फिल्म व टीवी
   >> खाना - पीना
   >> शापिंग गाइड
   >> वास्तुकला
   >> बुक-क्लब
   >> महिला मिरर
   >> भविष्यवाणी
   >> क्लब संस्थायें
   >> स्वास्थ्य दर्पण
   >> संस्कृति कला
   >> सैनिक समाचार
   >> आर्ट-पावर
   >> मीडिया
   >> समीक्षा
   >> कैलेन्डर
   >> आपके सवाल
   >> आपकी राय
   >> पब्लिक नोटिस
   >> न्यूज मेकर
   >> टेक्नोलॉजी
   >> टेंडर्स निविदा
   >> बच्चों की दुनिया
   >> स्कूल मिरर
   >> सामाजिक चेतना
   >> नियोक्ता के लिए
   >> पर्यावरण
   >> कृषक दर्पण
   >> यात्रा
   >> विधानसभा
   >> लीगल डाइजेस्ट
   >> कोलार
   >> भेल
   >> बैरागढ़
   >> आपकी शिकायत
   >> जनसंपर्क
   >> ऑटोमोबाइल मिरर
   >> प्रॉपर्टी मिरर
   >> सेलेब्रिटी सर्कल
   >> अचीवर्स
   >> पाठक संपर्क पहल
   >> जीवन दर्शन
   >> कन्जूमर फोरम
   >> पब्लिक ओपिनियन
   >> ग्रामीण भारत
   >> पंचांग
   >> येलो पेजेस
   >> रेल डाइजेस्ट
  

:: इंदौर ::

इंदौर जिले में इस वर्ष 100 करोड़ रुपये राजस्व वसूली का अनुमान
20 February 2018
मुख्य सचिव श्री बसंत प्रताप सिंह ने आज इंदौर में राजस्व प्रकरणों के निराकरण की संभाग-स्तरीय समीक्षा की। बैठक में बताया गया कि इंदौर संभाग में इस वर्ष अभी तक 80 करोड़ 71 लाख रुपये से अधिक की राजस्व बकाया वसूली हो चुकी है। इंदौर जिले में मार्च तक 100 करोड़ रुपये वसूली का लक्ष्य है। मुख्य सचिव ने कहा कि इंदौर संभाग में राजस्व प्रकरणों के निराकरण में अपेक्षित सुधार हुआ है, जो आगे भी जारी रहना चाहिये। उन्होंने मॉनीटरिंग सिस्टम और नवाचारों की प्रशंसा की। श्री सिंह ने कहा कि राजस्व प्रकरणों के निराकरण की नियमित समीक्षा की जायेगी। कार्यों के प्रति लापरवाही बरतने वाले अधिकारियों के विरुद्ध कार्रवाई होगी। आगामी बैठकों में एसडीएम स्तर तक के अधिकारी ही भाग लेंगे। तहसीलदार और नायब तहसीलदार स्तर के कार्यों की समीक्षा संबंधित एसडीओ राजस्व द्वारा की जायेगी। श्री सिंह ने कहा कि राजस्व न्यायालय में निर्णय पारित होने पर तुरंत रिकार्ड दुरुस्त करें। रिकार्ड-रूम को साफ, सुरक्षित एवं व्यवस्थित रखें। जल्द भरे जायेंगे पटवारियों के 9,235 रिक्त पद बैठक में बताया गया कि प्रदेश में पटवारियों के 9,235 रिक्त पदों की पूर्ति की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। इस भर्ती के बाद पटवारियों को गहन प्रशिक्षण देकर जिलों में पदस्थ किया जायेगा। चयनित उम्मीदवारों की नियुक्ति की प्रक्रिया अगले एक माह में पूरी हो जायेगी। 3.21 लाख को मिलेंगे आवासीय पट्टे और भू-अधिकार-पत्र संभागायुक्त श्री संजय दुबे ने बताया कि संभाग में 3 लाख 21 हजार 320 हितग्राहियों को आवासीय पट्टे और भू-अधिकार-पत्र आदि से लाभान्वित करने का लक्ष्य है। सीमांकन के शत-प्रतिशत प्रकरणों में टीसीएम से सीमांकन किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मॉनीटरिंग सिस्टम में अधीनस्थ न्यायालयों के निरीक्षण के लिये अलग-अलग दल बनाये गये हैं। दलों ने 296 न्यायालयों का निरीक्षण किया है। प्रवाचकों को प्रशिक्षित किया गया। सीमांकन के सर्वे के लिये हेल्प डेस्क बनाने से अच्छे परिणाम सामने आये हैं। भू-राजस्व संहिता और राजस्व कानून में होगा बदलाव प्रमुख सचिव राजस्व श्री हरिरंजन राव ने बताया कि भू-राजस्व संहिता, अन्य राजस्व कानून और नियमों में आवश्यक बदलाव किये जायेंगे। इसके लिये प्रारूप बनाया जा रहा है। राजस्व विभाग का सुदृढ़ीकरण होगा और आवश्यकतानुसार नई तहसीलें गठित की जायेंगी। बैठक में जिला कलेक्टरों और राजस्व अधिकारियों ने अपने-अपने क्षेत्र में किये जा रहे कार्यों, नवाचारों, चुनौतियों और समस्याओं की जानकारी दी। बैठक में प्रमुख राजस्व आयुक्त श्री मनीष रस्तोगी, आयुक्त भू-अभिलेख श्री एल. सेलवेन्द्रम सहित सभी जिलों के कलेक्टर तथा राजस्व अधिकारी मौजूद थे।
सौभाग्य योजना से इंदौर, मंदसौर, नीमच जिलों के शत-प्रतिशत घरों में पहुंची बिजली
27 January 2018
मध्यप्रदेश में सहज बिजली हर घर योजना सौभाग्य के क्रियान्वयन के बाद इंदौर, मंदसौर और नीमच जिलों के शत-प्रतिशत घरों में बिजली-कनेक्शन उपलब्ध करवाये जा चुके हैं। राज्य शासन ने इन जिलो के सौ फीसदी घरों का विद्युतीकरण निर्धारित समय से पहले पूरा होने पर संबंधित अधीक्षण यंत्री को प्रशस्ति-पत्र जारी किये हैं। प्रशस्ति-पत्र में ऊर्जा विभाग के अधिकारियों की लगन एवं उत्कृष्ट कार्यप्रणाली के लिए सराहना की गई। इंदौर के अधीक्षण यंत्री श्री अशोक कुमार शर्मा, मंदसौर के श्री देवी सिंह चौहान और नीमच के श्री सुरेश चन्द्र वर्मा को प्रशस्ति-पत्र जारी किये गये है। तीनों जिलों में विद्युत कनेक्शन के लिये मुनादी भी करवाई गई है, ताकि कोई घर छूट न गया हो। पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी के क्षेत्र में आने वाले इन जिलों के सभी रहवासियों से निरंतर जानकारी ली जा रही है कि उनके घर में बिजली कनेक्शन मिल चुका है या नहीं। सौभाग्य योजना में अब तक प्रदेश के सभी 51 जिलों के 6 लाख 14 हजार 215 घरों को बिजली कनेक्शन मुहैया करवाये जा चुके हैं। बिजली कनेक्शन की सुविधा न होने से पहले इन घरों को लालटेन या मोमबत्ती का सहारा लेना पड़ता था। केन्द्र और राज्य शासन की पहल पर अब इन घरों को बिजली कनेक्शन देकर रोशनी से जगमग किया जा चुका है। घरों में बिजली पहुंचाने से हितग्राहियों के चेहरे पर संतोष और उत्साह की झलक स्पष्ट देखी जा सकती है। प्रदेश में पूर्व विद्युत वितरण कम्पनी के 20 जिलों के 2 लाख 1 हजार 564, मध्य क्षेत्र विद्यत वितरण कम्पनी के 16 जिलों के 2 लाख 21 हजार 937 और पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी के 15 जिलों के एक लाख 90 हजार 714 घरों को बिजली कनेक्शन से जोड़ा चुका है
अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर महिला अधिकारों एवं कर्तव्य की दी गई जानकारी
10 March 2016
यहां महिला पॉलीटेक्निक कॉलेज में हाल ही में जिला महिला सशक्तिकरण महिला एवं बाल विकास के तत्वावधान में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर आयोजित हुए कार्यक्रम में महिला अधिकारों एवं कर्तव्यों की जानकारी दी गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता श्रीमती अलका जैन विधि सह परिवीक्षा अधिकारी ने की, जबकि श्रीमती चंचला जोशी सहायक प्रबंधक इलाहबाद बैंक कार्यक्रम की मुख्य अतिथि थीं। इस मौके पर श्रीमती अनिता शुक्ला कृषि अनुसंधान अधिकारी भी उपस्थित थीं।
उक्त अवसर पर पिछले दस वर्षों में महिलाओं द्वारा हर क्षेत्र में की गई प्रगति पर प्रकाश डाला गया। महिलाओं से संबंधित कानूनों जैसे घरेलू हिंसा अधिनियम, कार्य स्थल पर यौन उत्पीड़न, बाल विवाह रोको अधिनियम एवं महिलाओं से संबंधित अन्य कानूनी प्रावधानों की जानकारी दी गई। डॉ. डीके जैन वाइस प्रिंसिपल महिला पॉलीटेक्निक खरगोन द्वारा मातृशक्ति की महत्ता पर प्रकाश डाला गया। सुश्री मीना कानपुरी, विकासखंड महिला सशक्तिकरण अधिकारी, श्रीमती सुधा मोयदे निर्देशिका सिलाई केंद्र, श्री कमलेश जोशी बाल संरक्शण अधिकारी, श्रीमती जैन विधि सह परिवीक्षा अधिकारी द्वारा विभाग की विभिन्न योजनाओं जैसे घरेलू हिंसा से महिलाओं का संरक्षण अधिनियम, लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012, बेटी बचाओ अंतर्गत बाल विवाह उन्मूलन एवं पीसीएंडपीएनडीटी एक्ट, समेकित बाल संरक्षण योजना एवं किशोर न्याय अधिनियम 2000, शिक्षा का अधिकार अधिनियम 2009 के साथ अन्य आवश्यक जानकारी जैसे एफआईआर कैसे कराएं, राशन कार्ड एवं आधार कार्ड के महत्व पर प्रकाश डालते हुए पोषक तत्वों, शारीरिक व्यायाम एवं जीवन में स्वच्छता हेतु प्रेरित भी किया गया।
कार्यक्रम में उपस्थित प्रतिभागियों द्वारा चर्चा के दौरान समसामयिक विषयों पर रोचक एवं मूल्यवान सुझाव भी दिए गए। आभार प्रदर्षन सुश्री मीना कानपुरी विकासखंड महिला सशक्तिकरण अधिकारी द्वारा किया गया।
साधिकार अभियान में प्राप्त आवेदनों का तत्परता से निराकरण करने के निर्देश
10 March 2016
अपर कलेक्टर श्री पीआर कतरोलिया ने साधिकार अभियान के दौरान प्राप्त आवेदन पत्रों का निराकरण ना करने वाले अधिकारियों को फटकार लगाते हुए लंबित आवेदनों का तत्परता से निराकरण करने के निर्देश दिए हैं। अपर कलेक्टर आज यहां कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक ले रहे थे।
अपर कलेक्टर श्री कतरोलिया ने अनुविभागीय अधिकारियों राजस्व एवं तहसीलदारों को निर्देश दिए कि वे यह सुनिश्चित करें कि साधिकार अभियान के तहत प्राप्त आवेदन किसी भी विभाग के पास लंबित ना रहें और उनका तत्परता से निराकरण हो जाए। उन्होंने सीएम हेल्प लाईन के तहत प्राप्त आवेदन पत्रों का प्राथमिकता के आधार पर निराकरण करने के कार्यालय प्रमुखों को निर्देश दिए।
अपर कलेक्टर ने जिला स्तर पर संपन्न हुई जिला परामर्षदात्री समिति का पालन प्रतिवेदन जल्द जिला कार्यालय को भिजवाने के अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने गौण खनिज की रायल्टी 16 मार्च के पूर्व जमा कराने के निर्माण एजेंसियों से जुड़े अधिकारियों को निर्देश दिए।
अपर कलेक्टर ने पशु बीमा योजना का चालू वित्तीय वर्ष का लक्ष्य इसी माह मार्च में पूरा करने के उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं को निर्देश दिए। अपर कलेक्टर ने सेवा निवृत्त होने वाले शासकीय सेवकों के पेंशन प्रकरण समय सीमा में पेंशन कार्यालय को भिजवाने के आहरण एवं संवितरण अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने इस कार्य में उदासीनता बरतने वाले कतिपय अधिकारियों को फटकार भी लगाई।
सुकून देने वाला अदभुत और रमणीक पर्यटन स्थल है हनुवंतिया
22 February 2016
दस दिवसीय जल-महोत्सव हनुवंतिया का आज शाम समापन हुआ। उल्लास, उमंग और उत्सवी माहौल में दूर-दूर से आये सैलानियों ने जल-महोत्सव में भागीदारी की और नर्मदा बेकवाटर से प्राकृतिक रूप से निर्मित टापुओं की सैर की।
राज्य पर्यटन विकास निगम द्वारा आयोजित प्रथम जल-महोत्सव अपने उददेश्यों में सफल रहा है। इंदिरा सागर बाँध के बेकवाटर से बने टापुओं और लगभग निर्जन स्थानों से पर्यटक परिचित हुए वहीं हनुवंतिया टूरिस्ट कॉम्पलेक्स की पहचान स्थापित हुई है। दूर-दूर से आये पर्यटकों ने इस स्थान को अदभुत, अत्यन्त सुन्दर, मनोरम और सुकून देने वाला पर्यटक-स्थल बताया। दूर-दूर तक भरा नीला पानी का अकूत भंडार किसी बड़ी जल राशि का आभास देता है।
पर्यटकों ने जहाँ बैलगाड़ी से सैर का आंनद उठाया वहीं पतंगबाजी, पैरासेलिंग और वाटर स्कूटर जैसी साहसिक गतिविधियों में उत्साह से भाग लिया। जल-महोत्सव में रोजाना शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति हुई। निमाड़-मालवा अंचल की समृद्ध सांस्कृतिक धरोहर इन कार्यक्रम के जरिये सजीव हो उठी।
पर्यटकों ने हनुवंतिया से लगभग 15 किलोमीटर दूर स्थित बोरियामाल, मेल टापू की मोटर बोट एवं जलपरी से सैर की । सैलानियों ने रेवा क्रूज की सवारी भी की। रविवार का दिन होने से आज पर्यटकों की आवाजाही अधिक रही। राज्य पर्यटन विकास निगम के अध्यक्ष श्री तपन भौमिक, सचिव मुख्यमंत्री एवं पर्यटन निगम के एमडी श्री हरिरंजन राव सहित निगम की टीम ने समापन दिवस तक व्यवस्थाओं की स्वयं देखरेख की। जल महोत्सव को सफल बनाने के लिए निगम की ओर से सभी संबंधित का आभार व्यक्त किया गया है।
पल्स पोलियो महा अभियान सम्पन्न
22 February 2016
राष्ट्रीय पल्स पोलियो कार्यक्रम के अंतर्गत आज 21 फरवरी,2016 को इंदौर जिले में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय पर संभागायुक्त श्री संजय दुबे द्वारा पल्स पोलियो बूथ का बच्चों को पोलियो की दवा पिलाकर शुभारंभ किया गया। इस अवसर पर डॉ. एस. पोरवाल मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला इंदौर जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. एस. अवधिया व समस्त प्रोग्राम अधिकारी एवं रोटरी क्लब इंदौर, जैन सोशल ग्रुप के पदाधिकारी उपस्थित थे। शहर में बंगाली चौराहे पर क्षेत्रीय विधायक श्री महेन्द्र हार्डिया एवं अन्य स्थानों के पर जनप्रतिनिधियों के द्वारा बच्चों को पोलियो की दवा पिलाकर पोलियो बूथ का शुभारंभ किया गया। शहर में विभिन्न स्वयंसेवी संस्थाओं के द्वारा मोबाइल टीम एवं बूथ बनाकर सराहनीय योगदान दिया गया। आज 21 फरवरी, 2016 के चरण हेतु जिले में 4 हजार बूथे पर जन्म से 5 वर्ष तक के लगभग 4 लाख से अधिक बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई गई। शेष छूटे हुये बच्चों को 22 एवं 23 फरवरी,2016 को घर-घर जाकर पोलियो की दवा पिलाई जायेगी।
लोकसेवा केंद्र हरसूद के संचालन हेतु निविदा 8 मार्च तक जमा होंगी
16 February 2016
हरसूद में लोकसेवा केंद्र की स्थापना कर उसका संचालन व संधारण करने के लिये इच्छुक फर्मो से निविदाएं आमंत्रित की गयी हैं। कलेक्टर डॉ. एम के अग्रवाल ने बताया कि इच्छुक फर्म इसकें लिये निविदा प्रपत्र 8 मार्च को अपरान्ह 3 बजे तक जिला कार्यालय में जमा करा सकते हैं। तकनीकी निविदाएं 8 मार्च को अपरान्ह 3.30 बजे खोली जाएंगी। जबकि वित्तीय निविदाएं 10 मार्च को दोपहर 12 बजे खोली जाएंगी। अधिक जानकारी के लिये कार्यालयीन समय में कार्य दिवसों में कलेक्ट्रेट स्थित जिला लोक सेवा प्रबंधन कार्यालय में सम्पर्क किया जा सकता हैं।
बैंकर्स की खंडस्तरीय बैठकें 16 से 24 फरवरी तक
16 February 2016
बैंकर्स की खंडस्तरीय बैठकें 16 से 24 फरवरी तक विभिन्न विकासखंड मुख्यालयों पर आयोजित होंगी। अग्रणी जिला प्रबंधक श्री जी के सोनी ने बताया कि यह सभी बैठकें जनपद पंचायतो के सभाकक्षों में अपरान्ह 4 बजे से आयोजित की गयीं हैं। खंडवा में यह बैठक 16 को, हरसूद में 17 को, खालवा में 18 फरवरी को, पंधाना में 19 फरवरी, छःगांव माखन में 23 फरवरी को, व पुनासा में 24 फरवरी को आयोजित की गयी हैं।
विधिक साक्षरता शिविर के माध्यम से दी विद्यार्थियो को कानून की जानकारी
10 February 2016
स्कूल में या कालेज में अगर जान-पहचान के नाम पर कोई आपको शारीरिक या मानसिक रूप से परेशान करे तो उसे सहे नही वरन् अपनी संस्था में रखी शिकायत पुस्तिका में लिखित में अपना नाम गोपनीय रखकर सूचना करे या संस्था में गठित एंटी रेगिंग कमेटी के पास जाकर इसकी सूचना दे। अगर संस्था द्वारा रेगिंग करने वाले विद्यार्थियो पर कोई कार्यवाही नही की जाती है तो विद्यार्थी संबंधित थाने में जाकर भी इसकी रिपोर्ट दर्ज करा सकता है। शासन के नियमानुसार कोई विद्यार्थी रेगिंग करता है तो उसके प्रमाणपत्रो पर लिख दिया जाता है कि उक्त छात्र रेगिंग में दोषी पाया गया, ऐसी स्थिति में उसे आगे पढ़ने के लिए किसी भी संस्था में प्रवेश नही मिलता और ना ही कोई नौकरी मिलती है, अतः विद्यार्थी रेगिंग न करे, जिससे उनका भविष्य खराब न हो। उक्त बाते राजकुमार खण्डेलवाल स्मृति हायर सेकेण्डरी स्कूल बड़वानी में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा आयोजित विधिक साक्षरता शिविर में व्यवहार न्यायाधीश एवं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री संजय कुमार गुप्ता ने कही। न्यायाधीश श्री गुप्ता ने विद्यार्थियो को बताया कि अगर विद्यार्थियो को सोशल मीडिया जैसे व्हाट्सअप या फेसबुक या अन्य साइट्स पर कोई परेशान करता है तो वे इसकी जानकारी अपने माता-पिता या शिक्षको को दे। इसके लिए भी कानून में आईटी एक्ट बनाया गया है, जिसमें अलग-अलग धाराओ में सजा का प्रावधान है। इसी तरह विद्यार्थी भी सोशल मीडिया पर ऐसी कोई चीज शेयर या पोस्ट न करे जिससे समाज की सामाजिक या धार्मिक भावना को ठेस पहुंचे। शिविर में उपस्थित अधिवक्ता श्री कैलाश शर्मा ने विद्यार्थियो को मोटर व्हीकल एक्ट के बारे में बताते हुए जानकारी दी कि 16 वर्ष से अधिक उम्र के विद्यार्थी बिना गैर वाली गाड़ी चला सकते है, इसके लिए उन्हे जिला परिवहन कार्यालय से शिक्षार्थी अनुज्ञप्ती लायसेंस बनाना अनिवार्य है। शिविर में जिला विधिक सहायता अधिकारी कुमारी अंकिता प्लास, संस्था के संचालक डॉ. ओमप्रकाश खण्डेलवाल, अधिवक्ता श्री कैलाश शर्मा, पैरालीगल वालिंटियर्स श्रीमती अनिता चोयल, श्री नरसिंह माली सहित बड़ी संख्या में संस्था का स्टाफ एवं विद्यार्थी उपस्थित थे।
विधानसभा मुख्यालयो पर होगी विधायक खेल प्रतियोगिता
10 February 2016
खेल एवं युवा कल्याण विभाग जिले के प्रत्येक विधानसभा मुख्यालय पर विधायक कप का आयोजन करेगा। इसके तहत 15 एवं 16 फरवरी को विधानसभा बड़वानी के तहत जिला मुख्यालय पर फुटबाल प्रतियोगिता का आयोजन रखा गया है। जिला खेल अधिकारी श्री रूपसिंह कलेश से प्राप्त जानकारी अनुसार यह प्रतियोगिता केवल पुरूष वर्ग के लिए है, इसमें उम्र का कोई बंधन नही है। यह प्रतियोगिता शासकीय शहीद भीमा नायक स्नातकोत्तर महाविद्यालय के मैदान पर आयोजित की जावेगी। प्रतियोगिता प्रातः 9 बजे से प्रारंभ होगी। जिसमें विजेता टीम को विधायक ट्राफी देकर सम्मानित किया जावेगा। अधिक जानकारी के लिए खेल अधिकारी के मोबाइल नम्बर 9009310688 पर सम्पर्क किया जा सकता है।
भृत्य पद के लिये चयनित आवेदकों के दस्तावेजों का सत्यापन आज से
09 February 2016
मध्यप्रदेश व्यावसायिक परीक्षा मण्डल भोपाल द्वारा चतुर्थ श्रेणी (भृत्य) पद के लिये सीधी भर्ती से इन्दौर जिला कार्यालय (राजस्व स्थापना) में 34 अभ्यर्थियों का चयन किया गया है। इन चयनित आवेदकों के शैक्षणिक योग्यता संबंधी दस्तावेजों एवं अन्य प्रमाण-पत्रों का सत्यापन 9 फरवरी को कलेक्टर कार्यालय के कक्ष क्रमांक-104 में चयन समिति द्वारा किया जायेगा।
फोटोयुक्त मतदाता सूची संबंधी प्रशिक्षण 17 से 19 फरवरी तक
09 February 2016
राज्य निर्वाचन आयोग में 17 से 19 फरवरी तक फोटोयुक्त मतदाता-सूची पुनरीक्षित करने के संबंध में उप जिला निर्वाचन अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। प्रशिक्षण प्रात: 11 से शाम 5 बजे तक होगा। राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री आर.परशुराम से प्राप्त जानकारी के अनुसार 17 फरवरी को इंदौर, सागर एवं शहडोल संभाग के जिलों के उप जिला निर्वाचन अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा। इसी तरह 18 फरवरी को ग्वालियर, रीवा, नर्मदापुरम एवं भोपाल संभाग और 19 फरवरी को जबलपुर, चम्बल तथा उज्जैन संभाग के सभी जिलों के उप जिला निर्वाचन अधिकारियों को प्रशिक्षण दिया जायेगा।
30 करोड़ की लागत से निर्मित केसरबाग ब्रिज लोकार्पित
18 January 2016
केन्द्रीय संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री श्री रवि शंकर प्रसाद और जिले के प्रभारी मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ठाकुर ने आज 30 करोड़ की लागत से निर्मित केसरबाग ब्रिज का लोकार्पण किया। इस अवसर पर केन्द्रीय मंत्री श्री प्रसाद ने कहा कि केन्द्र और राज्य सरकार विकास के लिये कृतसंकल्पित है। उन्होने कहा कि यह ब्रिज पूर्व और पश्चिम दो क्षेत्रों को जोड़ने का काम करेगा। इससे इस क्षेत्र की जनता को आवागमन में सुविधा होगी। इस अवसर पर परिवहन मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि राज्य शासन जनता को मूलभूत सूविधा उपलब्ध कराने के लिये कृत संकल्पित है। राज्य शासन पानी, बिजली और सड़क पर विशेष जोर दे रहा है। यह रेलवे आव्हेर ब्रिाज जन कल्याण के लिये उपयोगी है। इंदौर प्रदेश की औद्योगिक राजधानी है। इलेक्ट्रोनिक के क्षेत्र में भी इंदौर में उल्लेखनीय कार्य हुआ है। विश्व बैंक की रिपार्ट के मुताबित मध्यप्रदेश देश के 5 सर्वाधिक तेजी से विकास करने वाला राज्य बन गया है। इस अवसर पर मध्यप्रदेश पिछड़ा वर्ग आयोग के अध्यक्ष श्री मधु वर्मा ने कहा कि इस पुल के निर्माण में बहुत सी बाधायें थी। कई सम्पर्क मार्ग बनाना जरूरी था। 40 परिवारों को विस्थापित करना था। इस लिये इस पुल के निर्माण में थोड़ा विलम्ब हुआ। इस अवसर पर इंदौर विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री शंकर लालवानी ने बताया कि इस पुल के निर्माण में 30 करोड़ रूपये खर्च हुये है। यह पुल 800 मिटर लम्बा और 21.3 मिटर चौड़ा है यह यह फ्लाई ओवर ब्रिाज भी और रेल्वे ओवर ब्रिज भी है। इसमें 72 बिजली के खम्बे प्रकाश हेतु लगाये गये हैं। कार्यक्रम को विधायक श्री जीतू जिराती और ललित पोरवाल ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम में विधायक श्री मनोज पटेल, श्री राजेश सोन्कर महेन्द्र हार्डिया श्री रमेश मेंदोला, सुश्री उषा ठाकुर, श्री कैलाश शर्मा श्रीमती अंजु माखिजा आदि मौजूद थे।
सामाजिक क्षेत्र में पुरस्कार के लिये आवेदन-पत्र आमंत्रित
18 January 2016
सामाजिक क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाली संस्थाओं को पुरस्कृत करने के लिये आवेदन आमंत्रित किये गये हैं। ऐसी सामाजिक संस्थायें जिन्होंने समाजसेवा, स्वास्थ्य, नि:शक्तजन, वृद्धों, शिक्षा, साक्षरता, नशामुक्ति एवं पर्यावरण आदि के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य किया हो एवं कार्यों के द्वारा समाज को दिशा दिखायी हो। ऐसी संस्थाओं को पुरस्कृत करने के लिये आवेदन आमंत्रित किये गये हैं। ये सामाजिक संस्थायें जिन्होंने उपरोक्त क्षेत्र में कोई विशेष उल्लेखनीय कार्य किया हो, अपनी विस्तृत रिपोर्ट, फोटोग्राफ के साथ दिनांक 20 जनवरी,2016 तक संयुक्त संचालक, सामाजिक न्याय इंदौर में प्रस्तुत कर सकते हैं। चयनित होने पर ऐसी संस्थाओं को उनके उत्कृष्ट कार्य के लिये गणतंत्र दिवस समारोह में सम्मानित किया जायेगा।
सम्पूर्ण जिले में किया गया सूर्य नमस्कार
12 January 2016
स्वामी विवेकानंद के जन्म दिवस पर मंगलवार को जिले के शिक्षण संस्थानो में सामूहिक सूर्य नमस्कार किया गया। युवा दिवस पर आयोजित इस कार्यक्रम में भाग लेने वालो में जनप्रतिनिधि, गणमान्यजन, विद्यार्थी, शिक्षक, अधिकारी सम्मिलित थे। मुख्य समारोह हुआ फुटबाल मैदान पर जिले में सूर्य नमस्कार के तहत मुख्य कार्यक्रम फुटबाल मैदान बड़वानी में आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में 3 हजार से अधिक विद्यार्थियो एवं गणमान्यजनो ने सूर्य नमस्कार किया। इस अवसर पर कलेक्टर श्री अजयसिंह गंगवार, मध्यप्रदेश प्रायवेट स्कूल एसोसियेशन बड़वानी के अध्यक्ष श्री राम सहाय यादव, सचिव श्री रामसागर मिश्रा, कोषाध्यक्ष श्री चन्द्रशेखर जोशी, उपाध्यक्ष श्री मनीष तिवारी ने भी युवाओं के साथ सूर्य नमस्कार किया। सूर्य नमस्कार में भाग लिया मुस्लिमो ने भी मंगलवार को आयोजित मुख्य समारोह में सूर्य नमस्कार करने वालो में क्रिसेंन्ट स्कूल के संचालक एवं प्रायवेट स्कूल एसोसियेशन बड़वानी के प्रवक्ता श्री मोहम्मद जुबेर शेख, इकरा स्कूल के संचालक श्री आरीफ शेख एवं प्राचार्य श्री अमजद खान ने भी सभी के साथ सूर्य नमस्कार एवं योग की क्रियाए की।
ग्राम पंचायतो में रिक्त ग्राम रोजगार सहायको के पद हेतु आवेदन आमंत्रित
12 January 2016
महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत जनपद पंचायत पाटी की ग्राम पंचायत पाटी, बुदी, बोरखेड़ी एवं पखाल्या में रिक्त ग्राम रोजगार सहायको की संविदा नियुक्ति हेतु इच्छुक व पात्र अभ्यर्थियों से आवेदन पत्र आमंत्रित करने की सूचना ग्राम पंचायत, जनपद पंचायत पाटी व तहसील कार्यालय पाटी में सोमवार को प्रकाशित की गई है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी पाटी श्री आरसी हालु ने बताया कि ग्राम रोजगार सहायको की संविदा नियुक्ति हेतु शासन निर्धारित दिशा-निर्देश, शैक्षणिक अर्हताओ, आयु सीमा, संविदा शर्तो, कार्य दायित्व, आवेदन पत्र प्रारूप आदि की सम्पूर्ण जानकारी इन कार्यालयो में चस्पा की गई है। आवेदक जानकारी प्राप्त कर सूचना प्रकाशन तिथि से 15 दिवस की अवधि में अपने आवेदन मय आवश्यक दस्तावेजों सहित कार्यालय जनपद पंचायत पाटी में जमा कर सकते है। अंतिम तिथि उपरान्त आवेदन पत्र स्वीकार्य नही होंगे।
मेघदूत गार्डन रोड पर इंदौर मार्निंग कार्यक्रम सम्पन्न
11 January 2016
महापौर श्रीमती मालिनी गौड़ और कलेक्टर श्री पी.नरहरि की मौजूदगी में आज मेघदूत गार्डन रोड पर सायाजी होटल से विजय नगर चौराहा तक विशाल मिनी मैराथन दौड़ का आयोजन किया गया। इसमें लगभग 10 हजार लोगों ने भाग लिया। इस अवसर पर मेघदूत गार्डन के सामने आयोजित औपचारिक समारोह को सम्बोधित करते हुये महापौर श्रीमती मालिनी गौड़ ने कहा कि राज्य और केन्द्र सरकार के निर्देशानुसार इंदौर शहर को पर्यावरण प्रदूषण से मुक्ति दिलाना हम सबका नैतिक कर्त्तव्य है। इस काम में जनता की भागीदारी जरूरी है। पर्यावरण सुधार के लिये प्रदूषण मुक्त वाहन और वृक्षारोपण जरूरी है। उन्होंने उपस्थित जनसमुदाय को प्रदूषण मुक्ति की शपथ भी दिलायी, जिसमें उन्होंने कहा कि हम परिवहन कानूनों का पालन करते हुये अधिक कार्बन उत्सर्जित करने वाले वाहनों का उपयोग हम नहीं करेंगे। इस अवसर पर कलेक्टर श्री नरहरि ने कहा कि इंदौर को प्रदूषण मुक्त शहर बनाना है। इसके लिये जनसहयोग जरूरी है। प्रत्येक रविवार को इस तरह के प्रदूषण जागरुकता कार्यक्रम आयोजित होते रहेंगे और हर रविवार की थीम अलग होगी। आज के रविवार की थीम पर्यावरण प्रदूषण से मुक्ति है। कार्यक्रम में सामाजिक कार्यकर्ता श्री जगतनारायण जोशी को शॉल-श्रीफल और स्मृति चिन्ह भेंट कर सार्वजनिक अभिनंदन किया गया। ज्ञातव्य है कि श्री जोशी ने परिवहन व्यवस्था सुधार पर तीन पुस्तकें लिखी हैं। कार्यक्रम का आयोजन जिला प्रशासन, एआईसीटीएसएल और परिवहन विभाग के संयुक्त तत्वावधान में किया गया। इस कार्यक्रम में 10 हजार से अधिक लोगों ने भाग लिया। संगीत की धुन पर कोच के निर्देशन में उपस्थित जनसमुदाय ने एरोबिक्स का आनंद लिया। इस अवसर पर पर्यावरण सुधार के लिये उल्लेखनीय कार्य करने वाले व्यक्तियों को प्रशंसा-पत्र दिया गया तथा चित्रकला, निबंध कला और नारे लिखने वालों को भी प्रशंसा-पत्र दिया गया। 71 महिलाओं को निःशुल्क वाहन लायसेंस भी वितरित किये गये। इस अवसर पर विधायक श्री सुदर्शन गुप्ता,एडिशनल एस.पी. यातायात श्री पंकज श्रीवास्तव, आरटीओ श्री एम.पी.सिंह, डिप्टी कलेक्टर श्री संदीप सोनी और श्री गोविन्द मालू व सुश्री पूजा पाटीदार आदि मंचासीन थे। कार्यक्रम का संयोजन डिप्टी कलेक्टर श्री संदीप सोनी ने किया।
गत वित्तीय वर्ष 2015-16 में 110 सोनोग्राफी सेंटरों का आकस्मिक निरीक्षण
11 January 2016
इंदौर जिले में गर्भधारण पूर्व एवं प्रसव पूर्व निदान तकनीक अधिनियम का प्रभावी पालन सुनिश्चित कराया जा रहा है। गत वित्तीय वर्ष 2015-16 में माह अप्रेल से दिसम्बर माह अंत तक कुल 110 केन्द्रों का अनुविभागीय अधिकारी एवं जिला पर्यवेक्षण दल के सदस्यों द्वारा आकस्मिक निरीक्षण किया गया। जिसमें से 03 केन्द्रों पर पाई गयी त्रुटियों हेतु कारण बताओं सूचना पत्र जारी किये गयें। जिनके जवाब को जिला सलाहकार समिति की बैठक में अनुमोदन पश्चात 01 केन्द्र का पंजयीन 01 माह के लिए निलंबित किया गया तथा 02 केन्द्रों के कारण बताओं सूचना पत्र के जवाब जिला सलाहकार समिति की बैठक में रखे जाने हेतु विचाराधीन है। कलेक्टर कार्यालय की पीसीपीएनडीटी एक्ट शाखा से प्राप्त जानकारी के अनुसार वर्ष 2003 से जिले में समस्त अल्ट्रा सोनोग्राफी मशीनों में एक्टीव ट्रेकर डिवाईस की स्थापना एवं फार्म एफ को ऑन लाईन किया गया है। वर्ष दिसम्बर 2015 तक जिले में गर्भवती महिलाओं की एक लाख 81 हजार 320 सोनोग्राफी की गयी जिसमें अत्यधिक जोखिम (High Risk) वाली गर्भवती महिलाओं के भौतिक सत्यापन हेतु महिला बाल विकास विभाग में कार्यरत परियोजना पर्यवेक्षण तथा आंगनवाडी द्वारा किया जा रहा है। जन्म के समय शिशु लिंगानुपात में वृद्वि प्रशासकीय अधिकारी एवं जिला पर्यवेक्षण दल के सदस्यों द्वारा नियमित निरीक्षण किये जाने के फलस्वरूप जिले में शिशु लिंगानुपात की गिरावट को रोकने में सफलता मिली है। भारत शासन के द्वारा वार्षिक स्वास्थ्य सर्वेक्षण की रिपोर्ट से स्पष्ट होता है कि जिले में जन्म के समय शिशु लिंगानुपात वर्ष 2010-11 में 862, वर्ष 2011-12 में 871 तथा वर्ष 2012-13 में 871 था। योजना एवं सांख्यिकी विभाग इन्दौर के कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जनवरी 2015 से अगस्त 2015 तक कुल 14 हजार 485 बालक एवं 13 हजार 118 बालिकाओं ने जन्म लिया है। इसके अनुसार जन्म के समय लिंगानुपात 905 है। भारत की जनगणना 2001 के अनुसार जिले में वर्ष का शिशु लिंगानुपात 908 था वर्ष 1991 से 2001 के मध्य शिशु लिंगानुपात में 940 से 908 कुल 32 बालिकाओं के जन्म में गिरावट दर्ज की गयी। उक्त अवधि में जिले में केवल 91 अल्ट्रा सोनोग्राफी मशीन पंजीकृत थी। इसी प्रकार जनगणना 2011 में शिशु लिंगानुपात में गिरावट 908 से 901 हो गयी केवल 07 बालिका के जन्म में गिरावट दर्ज की गयी। वर्ष 2001 से 2011 तक की अवधि के पंजीकृत सोनोग्राफी मशीनों की संख्या 298 थी। भारत शासन के निर्देशानुसार अप्रेल 2007 में राज्य शासन ने गर्भधारण पूर्व एवं प्रसव पूर्व निदान तकनीक अधिनियम के क्रियान्वयन हेतु जिला दण्डाधिकारी को सक्षम प्राधिकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के स्थान पर नामांकित किया। उसके पश्चात अधिनियम के सम्पूर्ण क्रियान्वयन हेतु कलेक्टर ने अतिरिक्त जिला दण्डाधिकारी एवं संयुक्त कलेक्टर को प्रभारी नामांकित कर कलेक्टर कार्यालय में सेल की स्थापना की गयी। तत्कालीन कलेक्टर द्वारा सितम्बर 2012 में समस्त गर्भवती महिलाओं के सोनोग्राफी हेतु पहचान परिचय पत्र अनिवार्य किया। प्रशासन द्वारा जिले के समस्त पंजीकृत चिकित्सकीय गर्भ समापन केन्द्रों के सघन निरीक्षण हेतु दल का गठन किया गया तथा गर्भपात केन्द्र में पायी गयी अनियमितताओं के कारण 04 केन्द्रों को कारण बताओं सूचना पत्र दिये गये। नोबल हास्पीटल का पंजीयन निलंबित किया गया। प्रशासन द्वारा लिंग चयन के सूचना हेतु टोल फ्री नंबर 1800-233-3130 कार्यरत है। सूचना देने पर जानकारी सही पायी गयी तो शासन द्वाराएक लाख रूपये के पुरस्कार नियमानुसार प्रदाय किये जायेंगे।
ग्रामीणो की समस्याओ का निराकरण न करने वाले छोटी कसरावद के सचिव पर होगी कार्यवाही-कलेक्टर
07 January 2016
पुर्नवास स्थल छोटी कसरावद की समस्याओ का निराकरण प्राथमिकता से न करवाने वाले पंचायत सचिव के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही करवाई जायेगी। साथ ही रहवासियो द्वारा बताई गई मूलभूत समस्याओ का निराकरण भी प्राथमिकता से करवाया जायेगा। कलेक्टर श्री अजयसिंह गंगवार ने उक्त बाते पुर्नवास स्थल छोटी कसरावद के वासियो से कही। गुरूवार को इस स्थल पर मिशन इन्द्रधनुष अभियान का शुभारंभ करने पहुंचे कलेक्टर से रहवासी महिलाओ ने पंचायत सचिव पर आरोप लगाया कि वह पंचायत की नियमित बैठक नही करवा रहा है। पंचायत का हर कार्य अपनी मनमर्जी से करता है, कहने पर कहता है कि इस पंचायत का प्रभार उसके पास अतिरिक्त है। इस अपर कलेक्टर ने जिला पंचायत सीईओ बी कार्तिकेयन को मोबाईल लगाकर निर्देशित किया कि वे इस ग्राम के पंचायत सचिव के कार्यो का परीक्षण कराकर उचित कार्यवाही करवाये। साथ ही सुनिश्चित करवाये की पूर्व सचिव द्वारा आहरित राशि से प्रांरभ करवाये गये शौचालयो का कार्य पूर्ण हो जिससे रहवासियो को इन शौचालयो का लाभ मिल सके। इसी प्रकार रहवासियो द्वारा स्ट्रीट लाईट नही होने, पानी की टंकी के बाद भी नल-जल योजना प्रारंभ नही होने की शिकायत पर कलेक्टर ने इन दोनो समस्याओ का निराकरण प्राथमिकता से करवाने का आश्वासन भी दिया।
जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर निरस्त
07 January 2016
जिला पंचायत सीईओ बी कार्तिकेयन से प्राप्त जानकारी अनुसार सजवानी में आज अर्थात 08 जनवरी को लगने वाला जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर अपरिहार्य कारणो से निरस्त कर दिया गया है।
युद्ध स्तर पर किया जाये किसानों को राहत भुगतान का कार्य
03 December 2015
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि किसानों को राहत राशि का भुगतान सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए यु़द्ध-स्तर पर किया जाये। उन्होंने इसमें आय कर की शर्त इस वर्ष के लिये समाप्त करने के निर्देश दिये। साथ ही स्पष्ट कहा कि योजनाओं का लाभ हितग्राहियों को सरलता से समय पर मिलना सुनिश्चित करने की जवाबदारी कलेक्टरों की होगी। इसमें गड़बड़ी मिलने पर सख्त कार्रवाई की जायेगी। मुख्यमंत्री मंगलवार को मंत्रालय भोपाल से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। इसके पहले उन्होंने समाधान ऑनलाइन के जरिये विभिन्न जन शिकायतों के निराकरण का जायजा लिया और लापरवाही पाये जाने पर संयुक्त संचालक मंडी बोर्ड सहित 5 कर्मियों को निलम्बित किया।

राहत राशि के वितरण में आयकरदाता की शर्त समाप्त

श्री चौहान ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि किसानों के राहत के राशि के वितरण का कार्य चुनौती के रूप में लें। इसे सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए युद्ध-स्तर पर किया जाये। इसमें विभिन्न विभाग के कर्मचारियों की सेवाएँ ली जायें। उन्होंने कहा कि इस वर्ष राहत वितरण में किसानों के आयकरदाता नहीं होने की शर्त समाप्त की जाती है। इसके घोषणा-पत्र किसानों से भरवाने के कारण राहत राशि वितरण में काफी देरी हो रही है। उन्होंने कहा कि राहत वितरण में व्यवधान पैदा करने वाले कर्मियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाये। उन्होंने जिलेवार राहत राशि वितरण की जानकारी ली। साथ ही एक निश्चित समय-सीमा में राहत वितरण के लिये कलेक्टरों को निर्देशित किया। बताया गया कि प्रदेश में 337 करोड़ की राहत राशि स्वीकृत की जा चुकी है, जो सीधे किसानों के खातों में भुगतान की जा रही है।

पेंशन का वितरण ग्राम सभा में करवायें

मुख्यमंत्री ने कलेक्टरों से स्पष्ट कहा कि विभिन्न योजनाओं का लाभ निचले स्तर तक सरलता से समय पर पहुँचना चाहिये। इसमें किसी तरह की देरी और गड़बड़ी सहन नहीं की जायेगी। उन्होंने कहा कि वे स्वयं जिलों के भ्रमण के दौरान आमजन से सीधे संवाद कर योजनाओं की मैदानी हकीकत जानेंगे। विभिन्न योजनाओं का डिलेवरी मेकेनिज्म दुरूस्त किया जाये। इससे हितग्राहियों को कोई परेशानी नहीं हो। उन्होंने पेंशन का वितरण डोंडी पिटवाकर एक दिन ग्रामसभा में सबके सामने करवाने के निर्देश दिये, ताकि हितग्राहियों को बैंक के चक्कर नहीं लगाने पड़ें। श्री चौहान ने योजनाओं के क्रियान्वयन को बेहतर बनाने के लिये कलेक्टरों से सुझाव भी मांगे। साथ ही कहा कि कलेक्टर मुख्यमंत्री के प्रतिनिधि के रूप में कार्य करते हैं। योजनाओं के क्रियान्वयन में किसी तरह की गड़बड़ी नही होना चाहिये।
बैंकर्स किसानों को मुआवजे की राशि का वितरण सुनिश्चित करें - कलेक्टर डॉ. अग्रवाल
03 December 2015
कलेक्टर डॉ. एम. के. अग्रवाल ने जिले के सभी बैंकों के शाखा प्रबंधकों व उनके जिला समन्वयकों को निर्देश दिये हैं कि किसानों के खातों में खरीफ फसल सम्बंधी मुआवजे की जो राशि जमा की जा रही है उसे किसानों को आवश्यक रुप से भुगतान करें। उस राशि को किसी भी स्थिति में समायोजित न किया जाए। उन्होंने बताया कि जिले के कुछ किसानों द्वारा मुआवजे की राशि, किसानों कों भुगतान न करते हुए उसे अतिदेय खातों में बैंकर्स द्वारा समायोजित करने की शिकायत की गयी थी जिस पर यह निर्देश जारी किये गये हैं। कलेक्टर डॉ. एम. के. अग्रवाल ने बताया कि यह राशि किसानों को तात्कालिक मदद के लिये जारी की गयी है अत: किसान द्वारा नगद मांगे जाने पर राशि का भुगतान बैंकर्स को अनिवार्यत: करना ही होगा। उन्होंने सभी एस डी एम तहसीलदारों व जनपद पंचायतों के सी ई ओ को भी निर्देश दिये हैं कि वे सुनिश्चित करें कि इन निर्देशों का पालन उनके क्षैत्र में बैंकर्स द्वारा किया जाए।
विज्ञान प्रदर्शनी 9 सितम्बर से होगी शुरू
07 September 2015
स्कूल शिक्षा विभाग मध्यप्रदेश शासन के निर्देशानुसार इंस्पायर अवार्ड योजना अंतर्गत जिला स्तरीय विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन 9 सितम्बर,2015 से 14 सितम्बर, 2015 तक शासकीय बाल विनय मंदिर उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय इंदौर पर किया जा रहा है।
इस संबंध में श्री किशोर शिंदे जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा जानकारी दी गयी कि 9 सितम्बर, 2015 से 11 सितम्बर, 2015 तक इंदौर विकासखण्ड (इंदौर शहरी एवं ग्रामीण) के अवार्डी विद्यार्थियों के लिये एवं 12 सितम्बर, 2015 से 14 सितम्बर, 2015 तक इंदौर विकासखण्ड महू, देपालपुर एवं सांवेर विकासखण्ड के अवार्डी विद्यार्थियों हेतु जिला स्तरीय इंस्पायर अवार्ड प्रदर्शनी का आयोजन उत्कृष्ट विद्यालय शासकीय बाल विनय मंदिर में किया जाएगा। इस विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन उत्कृष्ट विद्यालय शासकीय बाल विनय मंदिर में किया जाएगा। इस विज्ञान प्रदर्शनी में जिले के समस्त शासकीय/अशासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, हाई स्कूल एवं माध्यमिक विद्यालयों के अवार्डी छात्रों के द्वारा अपनी वैज्ञानिक विचारधारा को मॉडल तथा प्रोजेक्ट के रूप में प्रदर्शित किया जावेगा।
प्राचार्य बाल विनय मंदिर श्रीमती पूजा सक्सेना ने बताया कि विद्यालयों में बच्चों के वैज्ञानिक अभिव्यक्ति के प्रदर्शन हेतु शासन द्वारा चयनित विद्यार्थियों को वित्तीय सहायता प्रदान की गयी है। इस मेले में चयनित होने वाले विद्यार्थी राज्य स्तर पर अपने कौशल का प्रदर्शन करेंगे। जिला शिक्षा अधिकारी श्री शिन्दे द्वारा जिले के विद्यार्थियों से इस मेले में अपने अधिकतम कौशल का प्रदर्शन करने का आह्वान किया है।
मतदाता सूची में नाम जुड़वाने का कार्य 15 सितम्बर से होगा शुरू
07 September 2015
भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार इन्दौर जिले में भी मतदाता सूची के पुनरीक्षण का कार्य आगामी 15 सितम्बर से शुरू होगा। इसके लिये प्रारूप मतदाता सूची का प्रकाशन भी इसी दिन किया जायेगा। मतदाता सूची में नाम जुड़वाने, हटाने तथा संशोधन के लिये 14 अक्टूबर 2015 तक संबंधित बीएलओ को आवेदन किये जा सकेंगे।
जिला निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त जानकारी अनुसार मतदाता सूची के पुनरीक्षण का कार्य एक जनवरी 2016 के आधार पर किया जायेगा। आगामी एक जनवरी 2016 तक 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले लोगों के नाम मतदाता सूची में जुड़वाये जा सकेंगे। कलेक्टर श्री पी. नरहरि ने सभी मतदाताओं से अपील की है कि वे संबंधित मतदान केन्द्र में जाकर मतदाता सूची का अवलोकन करें। मतदाता सूची में नाम नहीं होने पर प्रारूप-6 में आवेदन कर अपना नाम मतदाता सूची में जुडवायें। इसके लिये उन्हें आवश्यक दस्तावेज प्रस्तुत करना होंगे। अप्रवासी भारतीय मतदाता सूची में नाम दर्ज करवाने के लिये प्रारूप-6 (क) में आवेदन कर सकते हैं। मतदाता सूची से अपना नाम हटवाने के लिये प्रारूप-7 में आवेदन करना होगा। इसमें उन्हें मूल फोटो परिचय पत्र तथा नाम हटवाने का कारण स्पष्ट रूप से बताना होगा। मतदाता सूची में दर्ज नाम तथा अन्य प्रविष्ठियों में संशोधन के लिये प्रारूप-8 में आवेदन किया जा सकता है। मतदाता फोटो परिचय पत्र बनवाने के लिये 25 रूपये का चालान मेजर हेड- 0070 अन्य प्रशासनिक प्राप्तियां, मायनर हेतु- 01 निर्वाचन में जमा करना होंगे। निर्वाचक नामावली में उपलब्ध प्रविष्ठियों को अन्यत्र रखने के लिये प्रारूप-8 (क) में आवेदन करना होगा। मतदाता परिचय पत्र गुम होने अथवा नष्ट होने की दशा में डुप्लीकेट मतदाता परिचय पत्र भी प्राप्त किया जा सकता है। इसके लिये 25 रूपये का चालान जमा कर प्रारूप-002 में आवेदन किया जा सकता है। डुप्लीकेट मतदाता परिचय पत्र प्राप्त करने के लिये पुराने मतदाता परिचय पत्र की छायाप्रति (उपलब्ध होने पर), गुम अथवा नष्ट होने की दशा में पुलिस थाने में की गई सूचना की छायाप्रति लगाना होगी।
जनसुनवाई में आवेदकों की समस्याओं का वीडियो कांफ्रेंस एवं दूरभाष से हुआ निराकरण
01 September 2015
आज 01 सितम्बर 2015 को शासन के निर्देशानुसार प्रातः 11 बजे से जनसुनवाई कार्यक्रम आयोजित किया गया। जनसुनवाई में आवेदकों की समस्याओं का निराकरण कलेक्टर डॉ. अरूणा गुप्ता ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से किया। आवेदक जनपदों के कांफ्रेंस हाल में उपस्थित हुए एवं झाबुआ के वीडियों कांफ्रेंस हॉल में आवेदकों की समस्याएं सुनी एवं अधिकारियों को निराकरण के लिए आवश्यक निर्देश दिये। जनसुनवाई में अन्य ब्लाको से आये आवेदकों को पूर्व में उनके द्वारा दिये गये आवेदन पर हुई कार्यवाही से भी अवगत करवाया गया एवं कलेक्टर डॉ. अरूणा गुप्ता ने अधिकारियों से दूरभाष पर चर्चा कर आवेदकों की समस्याओं का समाधान किया।
मोटे अनाज के उपार्जन के लिए पंजीयन 8 सितम्बर से 12 अक्टूबर तक
01 September 2015
शासन द्वारा धान एवं अन्य मोटे अनाज की खरीदी के लिए पूर्व से पंजीकृत किसानों के पंजीयन में संशोधन करने एवं नवीन पंजीयन में संशोधन करने एवं किसानों के नवीन पंजीयन के लिए 8 सितम्बर से 12 अक्टूबर तक तिथि निर्धारित की गई है एवं सभी जिला आपूर्ति अधिकारियों को नियमानुसार कार्यवाही करने के लिए निर्देशित किया गया है। झाबुआ में मोटे अनाज मक्का की शासकीय दर पर खरीदी एवं पंजीयन के लिए 10 केन्द्र निर्धारित किये गये है।

इन केन्द्रों पर होगा पंजीयन

अ.जा.सेवा सहकारी संस्था कालीदेवी,अ.जा.सेवा सहकारी संस्था खवासा, अ.जा.सेवा सहकारी संस्था झाकनावदा, अ.जा.सेवा सहकारी संस्था झाबुआ, अ.जा.सेवा सहकारी संस्था थान्दला, अ.जा.सेवा सहकारी संस्था पेटलावद, अ.जा.सेवा सहकारी संस्था बामनिया, अ.जा.सेवा सहकारी संस्था मेघनगर, अ.जा.सेवा सहकारी संस्था रानापुर, अ.जा.सेवा सहकारी संस्था सारंगी में किसानों के पंजीयन संबंधी जानकारी अपडेट करने एवं नवीन किसानों का पंजीयन करने संबंधी कार्य किया जाएगा।
जाति प्रमाण-पत्रों के लंबित आवेदन पत्रों का जल्द निराकरण करने के निर्देश
24 August 2015
प्रभारी कलेक्टर श्री पी.आर. कतरोलिया ने जाति प्रमाण पत्रों के लंबित आवेदन पत्रों का जल्द निपटारा करने के अनुविभागीय अधिकारियों राजस्व को निर्देश दिए हैं। बैठक में सहायक आयुक्त आदिवासी विकास, जिला परियोजना समन्वयक एवं समस्त अनुविभागीय अधिकारी राजस्व उपस्थित थे।
प्रभारी कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारियों से कहा कि लंबित आवेदन पत्रों का निराकरण करने के लिए समयसीमा का ध्यान रखते हुए लक्ष्य बनाकर कार्य करें। उन्होंने कहा कि जो पुराने आवेदन पत्र निराकरण से छूटे हुए हैं, वहा विशेष अभियान चलाकर उनका जल्द निराकरण करना सुनिश्चित करें।
विकेन्द्रीकृत एवं एकीकृत जिला योजना में शामिल होने से कोई गतिविधि छूटे नहीं-कलेक्टर
24 August 2015
प्रभारी कलेक्टर श्री पी.आर. कतरोलिया ने आज यहां विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक लेते हुए अधिकारियों से कहा कि वर्ष 2015-16 के लिए प्रस्तावित विकेंद्रीकृत एवं एकीकृत जिला योजना में शामिल होने से किसी भी विभाग की महत्वपूर्ण गतिविधि छूटनी नहीं चाहिए। इस मौके पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री मनोज खत्री समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद थे।
प्रभारी कलेक्टर ने कहा कि जिला योजना से किसी विभाग की गांव स्तरीय या खंड स्तरीय योजनाएं छूट रही हैं, तो यह संबंधित विभाग के अधिकारी का दायित्व है कि वह फौरन उन गतिविधियों को जिला योजना में शामिल करा दे। प्रभारी कलेक्टर ने कहा कि जिले में आयोजित होने वाले खंड स्तरीय लोक कल्याण शिविरों में खंड स्तरीय अधिकारी एवं जिला स्तरीय लोक कल्याण शिविर में जिला स्तरीय अधिकारी अनिवार्य रूप से उपस्थित होकर वहां विभागीय योजनाओं की जानकारी देना तथा जनसमस्याएं सुलझाना सुनिश्चित करेंगे।
प्रभारी कलेक्टर श्री कतरोलिया ने तहसीलदारों को निर्देशित किया कि अनुसूचित जाति एव जनजाति वर्ग के पट्टेधारियों की जमीन पर अगर कहीं किसी दूसरे व्यक्तियों का कब्जा है, तो उन्हें तत्काल पट्टेधारियों की जमीन से बेदखलकर उन्हें कब्जा दिलाना सुनिश्चत करें। श्री कतरोलिया ने गिरदावरी का कार्य सही तरीके से कराने के तहसीलदारों को निर्देश दिए और कहा कि इस कार्य के लिए लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इस कार्य को लक्ष्य के अनुसार समयसीमा में पूरा किया जाए।
प्रभारी कलेक्टर ने अतिकुपोषित बच्चों को गोद लिए जाने हेतु उठाए गए कदमों की समीक्षा करते हुए जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास को निर्देशित किया कि अतिकुपोषित बच्चों को गोद लिए जाने हेतु आम लोगों को प्रेरित किया जाए। उन्होंने इस कार्य को परिणाममूलक बनाने के निर्देश दिए। प्रभारी कलेक्टर ने बाल भिक्षावृत्ति की रोकथाम हेतु किए जा रहे उपायों की जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास से जानकारी लेते हुए इसकी रोकथाम हेतु कारगर उपाय सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने सरकारी अभिलेख में सरकारी परिसम्पत्तियों को दर्ज करवाने के अधिकारियों को निर्देश दिए।
कृषि महोत्सव आयोजन अंतर्गत कंट्रोल रूम स्थापित
17 September 2014
मध्यप्रदेश शासन भोपाल से प्राप्त निर्देशानुसार प्रदेश में 25 सितंबर से 20 अक्टूबर 2014 तक कृषि महोत्सव का आयोजन किया जाना है। जिले मे आयोजित होने वाले कृषि महोत्सव की विभागवार गतिविधियों, पेपर कटिंग, फोटोग्राफ्स, वीडियो क्लिपिंग्स, विशेष कार्यक्रमो एवं प्रगति का प्रतिवेदन राज्य शासन को आनलाईन भेजने हेतु एवं कृषक एवं महोत्सव मे संलग्न अधिकारी/कर्मचारियो को मार्गदर्शन देने हेतु श्री नीरज दुबे कलेक्टर खरगोन के दिशा निर्देशन में जिला स्तरीय एवं विकासखण्ड स्तरीय कंट्रोल रुम की स्थापना की गई है। निम्नानुसार दल प्रभारी एवं नोडल अधिकारी नियुक्त किये गये है। जो कि प्रतिदिन राज्य शासन को जानकारी भेजकर कलेक्टर खरगोन को अवगत करायेंगे।



क्र. नाम एवं पद प्रभारी अधिकारी नाम एवं पद नोडल अधिकारी जिला/विकासखण्ड स्तरीय कंट्रोल रुम कंट्रोल रुम के नंबर
1 श्री नानसिंह मंडलोई उप.परि. सचां. आत्मा श्री रेवासिंह सिसौदिया उप संचालक कृषि,श्री विजय चौरसियापरियोजना संचालक आत्मा जिला स्तरीयकार्या. उप संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास खरगोन 07282-232728, 07282-232729
2 श्री शिवकुमार राठोर एस.एम.एस आत्मा खरगोन श्री अखिलेश पटेल प्रभारी बी.टी.एम खरगोन कार्या. वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी खरगोन 07282-243042
3 श्री शंकरलाल कुमरावत ग्रामीण कृषि अधिकारी गोगांवा कु. मंदाकिनी वर्मा बी.टी.एम आत्मा गोगांवा कार्या. वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी गोगांवा 07287-221300
4 श्री अभिषेक चौहान एस.एम.एस आत्मा सेगांव श्री कमलेश लौवंशी बी.टी.एम आत्मा कार्या. वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी सेगांव 07282-261215
5 श्री आशुतोष पिप्पल सहायक ग्रेड-3  श्री राजेंश पाटीदार बी.टी.एम आत्मा भगवानपुरा कार्या. वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी भगवानपुरा 07282-263613
6 श्री सचिन वर्मा सहायक ग्रेड-3 श्रीमती मेघा बटानिया बी.टी.एम आत्मा भीकनगांव कार्या. वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी भीकनगांव 07288-242448
7 श्री अंकेशसिंह सावनेर एस.एम.एस आत्मा झिरन्या श्री अनिल कुमार नामदेव बी.टी.एम आत्मा झिरन्या कार्या. वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी झिरन्या 07282-247499
8 श्री जे.एस. मंडलोई ग्र.कृ.वि. बडवाह श्री रविंद्र पाटीदार बी.टी.एम आत्मा बडवाह कार्या. वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी बडवाह 07280-223299
9 श्री वैद प्रकाश जाट सहायक ग्रेड-3 श्री मोहन पाटीदार बी.टी.एम आत्मा महेश्वर कार्या. वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी महेश्वर 07283-273038
10 श्री सुनिल बर्फा एस.एम.एस कसरावद श्री देंवेद्र चौहान    बी.टी.एम आत्मा कसरावद कार्या. वरिष्ठ कृषि विकास अधिकारी कसरावद 07285-231964
कृषि महोत्सव 2014 को प्रभावी ढंग से आयोजन करने हेतु श्री नीरज दुबे कलेक्टर खरगोन द्वारा समन्वय एवं नोडल अधिकारी नियुक्त किये
17 September 2014
म.प्र. शासन के निर्णय अनुसार खरगोन जिले में 25 सितंबर से 20 अक्टूबर 2014 तक आयोजित होने वाले कृषि महोत्सव को प्रभावी ढंग से आयोजन करने हेतु श्री नीरज दुबे कलेक्टर खरगोन द्वारा निम्नानुसार अधिकारीयों को उनके अनुभाग एवं तहसील के लिए समन्वय एवं नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। उक्त अधिकारी विकासखण्ड स्तरीय तथा ग्राम स्तरीय अधिकारी/कर्मचारीयों को शासन की मंशानुसार कृषि महोत्सव के निर्देश, मार्गदर्शन देना एवं प्रत्येक दिन आयोजित कार्यक्रमों की आनलाईन फीडिंग कराना अधिकारीयो का मुख्य दायित्व होगा। श्री के.के. मालवीय अनुविभागीय अधिकारी राजस्व भीकनगांव एवं प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व खरगोन, श्री भूरला सोलंकी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व कसरावद, श्री अनूकूल जैन अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मण्डलेश्वर एवं प्रभारी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व बडवाह को समन्वय अधिकारी का दायत्वि सौपा गया तथा श्री आशीष खरे तहसीलदार खरगोन एवं प्रभारी तहसीलदार सेगांव, श्रीमती रंजना पाटीदार तहसीलदार भीकनगांव, श्री संजय शर्मा तहसीलदार बडवाह, श्री सुदीप मीणा तहसीलदार महेश्वर, हुकुमचंद निगवाल तहसीलदार झिरन्या, श्री एस.पी. सिंह तहसीलदार कसरावद, श्रीमती बसंती ठाकुर तहसीलदार भगवानपुरा, श्री पी.एल. देवडा तहसीलदार गोगांवा, श्री सत्येंद्र बैरबा तहसीलदार सनावद, श्री आर. एस. राजपूत अति. तहसीलदार करही को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। उक्त समन्वय एवं नोडल अधिकारी प्रतिदिन की रिर्पोटिंग से कलेक्टर खरगोन को अवगत करायेगें।
गोपाल पुरूस्कार योजना के अंतर्गत नोड्ल अधिकारी नियुक्त
16 September 2014
गोपाल पुरूस्कार योजना वर्ष 2014-15 के अंतर्गत प्रतियोगिता के सुचारू रूप से आयोजन के लिए डॉक्टर एके पटेरिया, को जिला स्तरीय नोड्ल अधिकारी नियुक्त किया गया है। इसके अतिरिक्त उपसंचालक पशु पालन विभाग ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रत्येक विकासखण्ड में भी विकासखण्ड स्तरीय प्रतियोगिता को समयावधि में सम्पन्न कराने के लिए नोडल अधिकारी नियुक्त कर दिए गए है। जिसमें - डॉ. नरेन्द्र कनारे को विकासखण्ड छैगॉव माखन का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। डॉ. नवीन तिवारी को विकासखण्ड खण्डवा का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। डॉ. कडवा चौहान को विकासखण्ड पंधाना का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। डॉ. कमल शंकर ध्रुर्वे को विकासखण्ड हरसूद का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। डॉं. निरज कुमुद को विकासखण्ड किल्लौद का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। डॉ. अनिल डावर को विकासखण्ड पुनासा का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है। और डॉ. अनिल कश्यप को विकासखण्ड खालवा का नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।
जिला जल उपयोगिता समिति की बैठक सम्पन्न
16 September 2014
सोमवार को जिला जल उपयोगिता समिति की बैठक सम्पन्न हुई। कलेक्टर श्री महेश अग्रवाल की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में उन्होंने कार्यपालन यंत्री जल संसाधन विभाग को जिले में अधिक से अधिक सिंचित क्षेत्र बढ़ाने के निर्देश दिए। उन्होंने आदेश देते हुए कहा कि सभी वर्तमान संचालित सभी सिंचाई योजनाओ को दुरूस्त रखे। कलेक्टर सभागृह में आयोजित बैठक में कलेक्टर श्री अग्रवाल ने - वर्ष 2014-15 में जिले में निर्मित सिंचाई जलाशयों के जल भराव की स्थिति की समीक्षा की। वही वर्ष 2014-15 में खरीफ सिंचाई हेतु लक्ष्य का निर्धारण तय करने के संबंध में चर्चा करते हुए आवश्यक दिशा निर्देश भी जल संसाधन विभाग के अधिकारियों को दिए। इसी प्रकार खण्डवा शहर को पेयजल उपलब्ध कराने के संबंध में नगर पालिक निगम खण्डवा को इस वर्ष हेतु अनुमानित जल आवश्यकता का निर्धारण कर उपलब्धता कराने के निर्देश दिए। वही जल कर वसूली की अ़द्यत्न स्थिति की समीक्षा करते हुए इस कार्य में तेजी लाने और जल कर वसूली सुनिश्चित करने के निर्देश भी संबंधित अधिकारियों को दिए। इसी प्रकार बैठक में कलेक्टर श्री अग्रवाल ने नेहरों के रखरखाव एवं चालन की व्यवस्था की भी समीक्षा की। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अमित तोमर और कार्यपालन यंत्री जल संसाधन विभाग श्री गुप्ता समेत जिला जल उपयोगिता समिति के सम्मानित सदस्यगण उपस्थित थे।
जिले में शस्त्र लायसेंसो का बनेंगा डाटा बेस
15 September 2014
जिले में जारी किये गये सभी शस्त्रों के लायसेंसो का डाटा बैस तैयार किया जायेगा। इस डाटा बेस के लिये थाने वार निर्धारित प्रारूप में जानकारी संकलित करने का कार्य शुरू कर दिया गया है। कलेक्टर कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार समस्त शस्त्र लायसेंसधारियों से आग्रह किया गया है कि वे अपने क्षेत्र के थाने पर जाकर शासन द्वारा निर्धारित प्रपत्र प्राप्त करें तथा उसकी पूर्ति कर प्रारूप के साथ लायसेंस की छायाप्रति संलग्न कर संबंधित थाने पर जमा करें। बताया गया है कि मध्यप्रदेश शासन के गृह विभाग भोपाल के प्रमुख सचिव द्वारा दिए गए निर्देशानुसार समस्त शस्त्र लायसेंस का ऑनलाइन नेशनल डाटा बैस तैयार किया जायेगा।
गीत-संगीत के माध्यम से बतायी जायेगी आंखों की महत्ता
15 September 2014
जिला अंधत्व निवारण समिति, इंदौर के समन्वयक डॉ. टी.एस. होरा ने जानकारी दी हाल में सम्पन्न हुए नेत्रदान पखवाड़े की कड़ी में 15 सितम्बर को प्रीतमलाल दुआ सभागृह में शाम 7 बजे से आंखों की महत्ता पर आधारित पर गीतों की संगीत-निशा का आयोजन किया गया है। जिसमें नेत्रदान संबंधी जानकारी भी दी जायेगी। संगीत निशा का संयोजन इन्टरनेशल रिदम के श्री राजेश मिश्रा का होगा, जिसमें गायक विवेक वाधोलीकर, राजेश शर्मा, सिमरन होरा, श्रद्धा जगताप, अलका सक्सेना एवं सोनाली पौराणिक होंगे। इस कार्यक्रम में लांयस कलब District 323GI एवं एम.के. इन्टरनेशनल आई बैंक सहयोगी हैं। कार्यक्रम की शुरूआत "तेरे नैनों के मैं दीप जलाऊँगा" के गीत से होगी। डॉ. होरा ने जिले के जागरूक नागरिकों से इस कार्यक्रम में उपस्थित होकर सफल बनाने और अधिकाधिक नेत्र दान करने की अपील की है। उन्होंने कहा है कि नेत्र प्रत्यारोपण से अंधे व्यक्ति के जीवन में नया सवेंरा होता हैं। वह व्यक्ति जब पहली बार दुनिया को देखता है तो हमे अत्याधिक आनंद की अनुभूति होती है। हमारे कैरियर का वह पल सबसे महत्वपूर्ण होता है। हम अपने आप को गौरवान्वित महसुस करते हैं।
शस्त्र अनुज्ञप्तिधारियो को अपने शस्त्र की जानकारी भरना होगी निर्धारित प्रपत्र में
12 September 2014
जिला दण्डाधिकारी श्री रवीन्द्र सिंह ने जिले के समस्त शस्त्र अनुज्ञप्तिधारियो को आदेशित किया है कि वे अपने शस्त्र से संबंधित जानकारी निर्धारित प्रपत्र में भरकर 30 सितम्बर तक अनिवार्य रूप से जिला दण्डाधिकारी कार्यालय बड़वानी में जमा कराये। ऐसा न करने पर होने वाली कार्यवाही के लिये वे स्वयं जिम्मेदार होंगे। जिला दण्डाधिकारी से प्राप्त जानकारी अनुसार भारत सरकार के नवीनतम दिशा-निर्देशानुसार सभी प्रकार की शस्त्र अनुज्ञप्तिधारियो का राष्ट्र स्तरीय डाटा बैस तैयार किया जाना है और सभी अनुज्ञप्तिधारियो को एक विशिष्ट संख्या आवंटित की जाना है। अतः प्रत्येक शस्त्र अनुज्ञप्तिधारियो से विहित प्रपत्र में वांछित जानकारी प्राप्त की जायेगी। विहित प्रपत्र के साथ उन्हें शस्त्र अनुज्ञप्ति (लायसेंस) की छायाप्रति एवं अनुज्ञप्तिधारी का एक अद्यतन फोटो तथा शस्त्र क्रय करने का बिल भी संलग्न करते हुए शस्त्र सहित स्वयं उपस्थित होना होगा, निर्धारित तिथि तक प्रपत्र नहीं भरने वाले अनुज्ञप्तिधारियो का डाटाबेस तैयार नहीं हो सकेगा, जिसके लिऐ वे पूर्णतया जिम्मेदार होंगे।
मुख्यमंत्री का दौरा कार्यक्रम
12 September 2014
प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान आज अर्थात 12 सितम्बर को दोपहर 2.30 बजे हेलीकाप्टर से सेंधवा आकर स्थानीय कार्यक्रम में भाग लेंगे। तत्पश्चात् वे दोपहर 3.05 बजे सेंधवा से महेश्वर के लिये हेलीकाप्टर से उड़ान भरेंगे।
खान नदी पुनर्जीवन परियोजना दो चरण में पूरी होगी
11 September 2014
लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन ने गंगा बेसिन में शामिल इंदौर की सरस्वती-चंद्रभागा (खान) नदियों के शुद्धिकरण के बारे में आज नई दिल्ली में एक महत्वपूर्ण बैठक ली। बैठक में परियोजना की विस्तृत रिपोर्ट दो भाग में तैयार करने पर चर्चा हुई। प्रथम भाग सिंहस्थ के पूर्व पूर्ण किया जा सकता है। दूसरे भाग में परियोजना को पूर्णत: लागू करने के बारे में कार्य होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने राज्य सरकार की ओर से दोनों नदी को जीवंत करने की 2719 करोड़ रुपये की योजना रखी। उन्होंने बताया कि वर्ष 2016 में होने वाले सिंहस्थ के दौरान श्रद्धालुओं को स्वच्छ जल में स्नान करने का अवसर मिले, इसके लिये शासन कटिबद्ध है। दिसम्बर, 2015 तक पहले चरण का कार्य पूरा करने की बात भी श्री चौहान ने कही। मुख्यमंत्री ने कहाकि दो हिस्सों में यह कार्य-योजना पूरी हो सकेगी। पहले चरण में सीवरेज ट्रीटमेंट का कार्य होगा। दूसरे चरण में अगले पाँच साल की प्लानिंग की जायेगी। बैठक में, केन्द्रीय शहरी विकास मंत्री श्री वैंकेया नायडू, जल-संसाधन, नदी विकास एवं गंगा पुन:द्धार मंत्री सुश्री उमा भारती, राज्य मंत्री श्री संतोष कुमार गंगवार, ग्रामीण विकास मंत्री श्री नितिन गडकरी तथा वन एवं पर्यावरण मंत्री श्री प्रकाश जावड़ेकर और मध्यप्रदेश के नगरीय प्रशासन और विकास मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीय वरिष्ठ अधिकारियों सहित शामिल हुए। बैठक में जल प्रवाह में जल-मल की रोकथाम, सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट का पूर्ण क्षमता से संचालन, जल प्रवाह के किनारों पर बसी आबादी के विस्थापन, जल प्रवाह के शुद्ध जल का निरंतर प्रवाह सुनिश्चित करना आदि बिन्दु पर चर्चा हुई। इंदौर-उज्जैन को स्थाई रूप से बेहतर पर्यावरण और स्वच्छ जल की उपलब्धता और सिंहस्थ-2016 में आने वाले लाखों श्रद्धालुओं की सुविधा पर भी चर्चा हुई। श्रीमती महाजन ने कहा कि प्रोजेक्ट को पायलट प्रोजेक्ट के रूप में लिया जाए। उन्होंने कहा कि गंगा बेसिन में आने वाली इंदौर की इन नदियों को स्वच्छ और जीवंत करने से क्षिप्रा सहित अन्य नदियाँ भी स्वच्छ रह सकेंगी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में एक कमेटी बनाकर प्रोजेक्ट का क्रियान्वयन किया जाये। केन्द्रीय मंत्री श्री गडकरी ने सलाह दी कि धनराशि की व्यवस्था के लिये पीपीपी पद्धति का भी उपयोग किया जाये। उन्होंने कहा कि इंदौर के अधिकारी नागपुर जाकर वहाँ गंदे पानी का ट्रीटमेंट कर उद्योगों में उपयोग की जानकारी लें। साथ ही सुझाव दिया कि खान नदी का जल मार्ग के रूप में उपयोग करने की संभावना भी तलाशी जाना चाहिये। केन्द्रीय मंत्री श्री वैंकेया नायडू ने भी विविध पक्ष पर अपनी राय रखी। केन्द्रीय मंत्री सुश्री उमा भारती ने कहा कि तकनीकी सलाह के अनुसार उनका मंत्रालय गंगा बेसिन की इन नदियों के लिये कार्य करेगा। उन्होंने नदियों को पुनर्जीवित करने की अपनी प्रतिबद्धता दोहरायी। केन्द्रीय मंत्री श्री जावड़ेकर ने भी सुझाव दिये। इंदौर के महापौर श्री कृष्णमुरारी मोघे ने निगम द्वारा किये जा रहे सीवरेज लाइन के कार्यों की जानकारी दी। बैठक में संभागायुक्त इंदौर श्री संजय दुबे ने बताया कि नदी की लम्बाई 78 किलोमीटर है, जो नगरीय क्षेत्रों में 33 किलोमीटर है। स्थाई एवं अस्थाई अतिक्रमणें के कारण भी ये नदियाँ प्रदूषित हुई हैं। उन्होंने बताया कि नदी क्षेत्रों में 33 स्लम्स हैं। प्रोजेक्ट के लिये लगभग 10 हजार परिवार को विस्थापित करना होगा। नदी तक आने-जाने के रास्ते, फुटपाथ और हरित क्षेत्र विकसित करने होंगे। नर्मदा-शिप्रा लिंक से चार-पाँच साल तक पानी छोड़ना होगा और फिर यहाँ जल-ग्रहण क्षेत्र विकसित हो जाएगा। प्रोजेक्ट के लिए एसपीवी का गठन करना प्रस्तावित है। सीवरेज सहित छह उपयोजनाएँ बनाना होगी। कुल 6 माह में डीपीआर बनाई जाएगी। आईआईटी, कानपुर के प्रो. विनोद तारे ने दोनों नदी को बारहमासी बनाने संबंधी प्रेजेंटेशन दिया। तय हुआ कि प्रो. तारे और संभागायुक्त श्री दुबे नेशनल रिवर मिशन के अंतर्गत कार्य-योजना प्रस्तुत करेंगे। प्रथम चरण में इंदौर की सीवरेज प्रणाली को सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट तक जोड़ा जाएगा। इसके बाद उपचारित जल को उज्जैन के पूर्व डायवर्ट कर उज्जैन के आगे कालियादेह महल के पश्चात जोड़ा जाएगा। इंदौर के प्रस्तावित कार्य वर्तमान में लगभग 400 करोड़ रुपये के होंगे, जिसके लिये केन्द्र की विभिन्न योजनाओं में राशि स्वीकृत की जायेगी। दूसरे चरण में किनारों की बसाहट का विस्थापन और रिवर फ्रंट डेवलपमेंट का कार्य किया जाएगा। दोनों चरण की योजना के लिए शीघ्र ही विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत की जाकर स्वीकृति ली जाएगी। बैठक में मुख्य सचिव श्री अंटोनी डिसा, इंदौर कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी और उज्जैन कलेक्टर श्री कविन्द्र कियावत भी शामिल हुए।
अतिवृष्टि से हुई क्षति की जानकारी भिजवाएं
11 September 2014
कलेक्टर श्रीमती जयश्री कियावत ने ग्रामीण विकास विभाग, एनव्ही.डी.ए., जल संसाधन, लोक निर्माण, ग्रामीण यांत्रिकीसेवा विभाग, सरदार सरोवर परियोजना के भू-अर्जन अधिकारी, किसान कल्याण एवं कृषि विभाग, एमपीआरडीसी व प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अधिकारियों को वर्ष 2014 में वर्षा के कारण जिले में हुई विभागीय शासकीय सम्पत्तियों की क्षति जैसे तालाब, सड़क, पुल-पुलिया, भवन इत्यादि की जानकारी तत्काल जिला कलेक्टर कार्यालयको भिजवाना सुनिश्चित करे। उन्होने सभी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व व तहसीलदारों को भी जिले में अतिवृष्टि से हुई जनहानि, पशुहानि, मकान क्षति के अतिरिक्त फसल क्षति की जानकारी भी निर्धारित प्रारूप में तत्काल भिजवाना सुनिश्चित करे।
शांतिपूर्ण गणेश विसर्जन समारोह के लिए कलेक्टर श्री अग्रवाल ने किया आभार प्रकट
10 September 2014
अनंत चतुर्दशी अवसर पर चल समारोह व श्री गणेश विसर्जन के शांतिपूर्वक आयोजन के लिए कलेक्टर श्री महेश अग्रवाल ने खण्डवा जिले के सभी नागरिकों, जनप्रतिनिधियों, सभी समुदाय के लोगों, एवं पत्रकार गणों का आभार प्रकट किया है। इसके साथ ही उन्होंने पुलिस विभाग के अधिकारियों व जवानों व प्रशासनिक अधिकारियों, जिन्होंने समारोह के दौरान शांतिपूर्ण व्यवस्था बनाए रखने में अपना योगदान दिया उनके प्रति भी आभार व्यक्त किया है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान खान नदी के शुद्धिकरण की परियोजना लेकर दिल्ली पहुँचे
10 September 2014
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान इन्दौर नगर के बीचों-बीच से निकली खान नदी के शुद्धिकरण एवं विकास की 2720 करोड़ रुपये की परियोजना 10 सितम्बर को दिल्ली में केन्द्र सरकार के समक्ष प्रस्तुत करेंगे। श्री चौहान ने कहा है परियोजना स्वीकृत होने पर साढ़े चार-पाँच साल के भीतर पूर्ण कर ली जायेगी। खान नदी शुद्धिकरण परियोजना संबंधी बैठक में लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन तथा संबंधित केन्द्रीय मंत्री मौजूद रहेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज भोपाल में प्रदेश के अधिकारियों की बैठक में खान नदी शुद्धिकरण की प्रस्तावित योजना की समीक्षा की। बताया गया कि खान नदी के दोनों तट पर बसे हजारों घरों की गंदगी तथा प्रदूषित जल सीधे नदी में पहुँचता है। सरस्वती तथा चद्रभागा नदियाँ भी इस नदी में मिलती हैं। खान नदी क्षिप्रा में मिलती है जो आगे चलकर चम्बल और यमुना से जुड़ते हुए गंगा में मिल जाती है। इस तरह नदी के प्रदूषण का दुष्प्रभाव क्षिप्रा तथा गंगा पर भी पड़ता है। बैठक में इंदौर राजस्व संभाग के कमिष्नर श्री संजय दुबे ने इस संबंध में बिन्दूवार जानकारी दी। गंगा सफाई अभियान की सफलता में खान नदी का शुद्धिकरण भी आवश्यक है। खान नदी शुद्धिकरण के लिये नदी पर आने वाले प्रदूषित जल का ट्रीटमेंट कर उसका उद्यानिकी सहित अन्य कार्यों में उपयोग, नदी को आम जनजीवन से जोड़ने, नदी में गंदे पानी का प्रवेश रोकने की कार्य-योजना बैठक में प्रस्तुत की गयी। नदी तट की बस्तियों का व्यवस्थित पुनर्वास तथा औद्योगिक क्षेत्र पोलोग्राउंड एवं सांवेर से निकल कर खान में मिलने वाले पानी का ट्रीटमेंट भी योजना में शामिल रहेगा। सफाई के साथ नदी को निरंतर प्रवाहित करने के लिये इसे नर्मदा-गंभीर वाटर लिंक परियोजना से जोड़े जाने का प्रस्ताव है। मुख्यमंत्री श्री चौहान इन प्रस्ताव के साथ दिल्ली में उच्च स्तरीय बैठक में शामिल होंगे।
वर्षा के मद्देनजर कलेक्टर ने शिक्षण संस्थानो में घोषित किया अवकाश
09 September 2014
जिले में पिछली रात से हो रही तेज वर्षा के मद्देनजर कलेक्टर श्री रवीन्द्र सिंह ने जिले में सोमवार एवं मंगलवार को सभी शासकीय/अशासकीय शिक्षण सस्थानों में अवकाश घोषित किया है।
कलेक्टर खरगोन द्वारा हो रही अधिक वर्षा को ध्यान में रखते हुये स्कूलों में अवकाश घोषित किया
09 September 2014
श्री नीरज दुबे कलेक्टर खरगोन द्वारा जिलें में अत्यधिक वर्षा को दृष्टिगत रखते हुए जिलें की समस्त शासकीय/अशासकीय (केन्द्रीय विद्यालय सहित) कक्षा 1 से 12 वी तक की शालाओं में दिनांक 08/09/2014 एवं 09/09/2014 तक दो दिवस का अवकाश घोषित किया जाता है।
विद्युत उपभोक्ता शिकायत निवारण शिविर
08 September 2014
जिले के उपभोक्ताओ की विद्युत संबंधी समस्याओं के निराकरण के लिये विद्युत वितरण कम्पनी द्वारा 10 सितम्बर को दोपहर 3 बजे से संभागीय कार्यालय परिसर बड़वानी में विद्युत उपभोक्ता शिकायत निवारण शिविर का आयोजन किया गया है। इस शिविर में विद्युत उपभोक्ताओ की शिकायत का निवारण शिकायत निवारण फोरम के अध्यक्ष एवं उनके सदस्य करेंगे। इस फोरम में शिकायत दर्ज करने के लिये उपभोक्ता संभागीय कार्यालय से निःशुल्क आवेदन प्राप्त कर सकते है।
ठीकरी में हुई साढ़े आठ इंच वर्षा
08 September 2014
सोमवार की प्रातः 8 बजे से पिछले 24 घण्टों में जिले में औसत रूप से 4 इंच वर्षा (102.8 मिलीमीटर) हुई है। इस दौरान सबसे अधिक साढे आठ इंच वर्षा (216.0 मिलीमीटर) ठीकरी में हुई है, जबकि सबसे कम लगभग 2 इंच वर्षा (48 मिलीमीटर) पानसेमल में हुई है। वही इस दौरान लगभग ढाई इंच वर्षा (60.8 मिलीमीटर) बड़वानी में, सवा दो इंच वर्षा (56 मिलीमीटर) पाटी में, साढे पांच इंच वर्षा (138 मिलीमीटर) राजपुर में, चार इंच वर्षा (103 मिलीमीटर) सेंधवा में, चार इंच वर्षा (98 मिलीमीटर) निवाली में हुई है। जिले में आज दिनांक तक औसत रूप से 630.9 मिलीमीटर वर्षा हो चुकी है, जबकि गत वर्ष आज ही के दिन तक 739.8 मिलीमीटर वर्षा हो चुकी थी। इस वर्ष अभी तक हुई 630.9 मिलीमीटर जिले की औसत वर्षा 772.5 मिलीमीटर से अभी भी 141.6 मिलीमीटर कम है।
पदम कुण्ड पहुँचकर कलेक्टर एवं एसपी ने लिया व्यवस्थाओं का जायजा
06 September 2014
श्री गणेश प्रतिमा विसर्जन समारोह की तैयारियों का जायजा लेने के उद्देश्य से कलेक्टर श्री महेश अग्रवाल एवं पुलिस अधीक्षक श्री मनोज शर्मा ने चल समारोह मार्ग का निरीक्षण किया। इसके साथ ही दोनों ही अधिकारी प्रतिमा विसर्जन स्थल पदम कुण्ड भी पहुँचे। जहॉ पर व्यापक व्यवस्था संबंधित दिशा निर्देश भी कलेक्टर श्री अग्रवाल ने संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने नगर निगम आयुक्त को आदेश देते हुए कहा कि विसर्जन स्थल पर पर्याप्त गोताखोरो की व्यवस्था रखे। वही अन्य व्यवस्थाएँ भी माकूल रहे। इसके बाद 12 सितम्बर को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के संभावित दौरे की तैयारियों की मद्देनजर कलेक्टर श्री अग्रवाल एवं जिला पुलिस अधीक्षक श्री शर्मा नागचून हवाई पट्टी भी पहुँचे। जहॉ पर उन्होंने हवाई पट्टी का अवलोकन करने के साथ ही मुख्यमंत्री जी के कार्यक्रम स्थल तक जाने के रूट का भी निरीक्षण किया। इस दौरान अपर कलेक्टर एस.एस. बघेल और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गोपाल खाण्डेल समेत सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।
ई-पंजीयन सॉफ्टवेयर के उपयोग से कार्यप्रणाली में आएगी पारदर्शिता - कलेक्टर श्री अग्रवाल
06 September 2014
विभाग में ई-पंजीयन साफ्टवेयर के उपयोग से कार्यप्रणाली में पारदर्शिता आएगी। यह बात कलेक्टर श्री महेश अग्रवाल ने महानिरीक्षक पंजीयन एवं सूचना प्रोद्योगिकी विभाग के संयुक्त तत्वावधान में ई-गवर्नेंस परियोजना अन्तर्गत संचालित क्षेत्रीय क्षमता संवर्द्धन केन्द्र पर पंजीयन विभाग की ऑनलाईन प्रक्रिया आधारित ई-पंजीयन सॉफ्टवेयर का विभागीय प्रशिक्षण शिविर में कही। उन्होंने कहा कि इस साफ्टवेयर के प्रचालन में कोई दिक्कत की बात नही है। अधिकारी एवं कर्मचारी जब इसका सतत् उपयोग करेंगे तो सब सीख जाएगें। नही तो स्पष्ट शब्दों में यह कहा जाए कि आपको सीखना ही होगा। इसके साथ ही कलेक्टर श्री अग्रवाल ने 4 जिलों के पंजीयन विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों को प्रशिक्षण का प्रमाण पत्र भी वितरित किया। इसके साथ ही प्रमाण पत्र वितरण के पूर्व स्वयं कलेक्टर श्री अग्रवाल ने कम्प्यूटर सिस्टम पर बैठकर मास्टर ट्रेनर्स से ई- पंजीयन साफ्टवेयर की विभिन्न बारिकियों के विषय में जानकारी प्राप्त की। इस दौरान उन्होंने कहा कि इस सॉफ्टवेयर का उपयोग तो विभाग विगत सात वर्षो पूर्व ही प्रारंभ हो जाना था। उन्होंने क्रिप्टो मार्क की जानकारी भी प्रशिक्षणार्थी और मास्टर ट्रेनर्स को दी। साथ ही रेल्वे टिकट बुकिंग, आरटीओ पंजीयन, पासपोर्ट निर्माण, इंनकम टेक्स जमा करने, की प्रक्रिया के उदाहरण के माध्यम से प्रशिक्षणार्थीयों को इस पंजीयन सॉफ्टवेयर के विषय में समझाया। इस दौरान जिला पंजीयक भी उपस्थित थे। कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन डिप्टी कलेक्टर एवं नोडल अधिकारी ई-गवर्नेस श्रीमती प्रियंका गोयल ने किया। उल्लेखनीय है कि 01 सितम्बर से आयोजित छः दिवसीय प्रशिक्षण के प्रथम बैच में खण्डवा, बडवानी, खरगोन, बुरहानपुर आदि जिलों से पंजीयन विभाग के जिलास्तरीय अधिकारी, कर्मचारी, प्रशिक्षार्थी के रूप में सम्मिलित हो रहे हैं। इसके पूर्व कलेक्टर श्री अग्रवाल ने केन्द्र पर पहुंचकर व्यवस्थाओं एवं प्रशिक्षण कार्यक्रमों की जानकारी ली थी। साथ ही आगामी कुछ दिनों बाद 16 अधिकारियों के द्वितीय चरण के प्रशिक्षण भी आयोजित होगा।
शपथ समारोह
27 August 2014
लायन्स क्लब बड़वानी का शपथ समारोह प्रथम वाईस डिस्ट्रिक्ट गवर्नर एम.जे.एफ. लॉयन राजेन्द्र गर्ग के मुख्य आतिथ्य एवं लॉयन वनिता बेन एवं लॉयन केटी पेरी फेरी क्लब सलाहकार मण्डलोई के विशेष आतिथ्य में संपन्न हुआ। मुख्य अतिथि लॉयन राजेन्द्र गर्ग ने अपने उद्बोधन में कहा कि सकारात्मक सोच ही व्यक्ति का निर्माण करती हैं। उसके कार्यो से ही व्यक्तित्व की छलक देखने को मिलती हैं लायन्स क्लब का मुख्य उद्देश्य सेवा है अतः उन्होने अपनी सेवा गतिविधीयो में परिवारो को विघटन से बचाने व बच्चो को संस्कारवान बनाने जैसी गतिविधीयो को शामिल किये जाने पर ध्यान आकर्षित किया। मुख्य अतिथी एवं शपथ अधिकारी लॉयन राजेन्द्र गर्ग ने वर्ष 2014-15 की नवीन कार्यकारिणी अध्यक्ष पद हेतू लॉयन संदीप पटेल, उपाध्यक्ष पद हेतू लॉयन राम जाट, लॉयन रामकृष्ण गुप्ता, सचिव लॉयन डॉ. कविता भदौरिया, कोषाध्यक्ष संतोष शवसार, सह कोषाध्यक्ष लॉयन दिपेश पाण्डे, सह सचिव लॉयन जया शर्मा, टेमर लॉयन साबीर रौनक टेलट्विस्टर लॉयन अनिल जोशी , पी. आर. ओ. लॉयन मोहन गोले को शपथ दिलाई। साथ ही लायनेस क्लब बड़वानी अध्यक्ष लायनेस जया शर्मा सचिव लायनेस अनिता जैन प्रथम उपाध्यक्ष लायनेस निर्मला जोशी कोशाध्यक्ष लायनेस वन्दना शर्मा को शपथ दिलाई। नविन क्लब सचिव लॉयन डॉ. कविता भदौरिया द्वारा वर्ष 2014-15 की कार्य योजना प्रस्तुत की गई। इस अवसर पर लायन्स क्लब अंजड़ के लॉयन माणक वडनेरे लॉयन धर्मेन्द्र जैन लॉयन रमेश कुकरेजा। लायन्स क्लब राजपुर से लॉयन संगीता मण्डलोई, लॉयन डॉ. पटेल आदि उपस्थित थे। शपथ समारोह के अवसर पर समस्त लायन्स क्लब परिवार उपस्थित था, कार्यक्रम का संचालन लॉयन अनिल जोशी ने किया, आभार लॉयन महेश जोशी ने व्यक्त किया।गी।
वर्षा की जानकारी
27 August 2014
खंडवा जिले में दिनांक 27 अगस्त, 2014 की दैनिक वर्षा की स्थिति निम्नानुसार है:-



क्र. केन्द्र का नाम (तहसील) वर्ष 2014 की वर्षा वर्ष 2013 की वर्षा


आज दिनांक की वर्षा दिनांक 01 जून, 2014 से आज दिनांक तक की कुल वर्षा गत वर्ष आज दिनांक तक की वर्षा गत वर्ष 01 जून, 2013 से आज दिनांक तक कुल वर्षा
1 खंडवा निरंक 1046 निरंक 1621
2 नया हरसूद निरंक 483 2 1171.3
3 पंधाना 9 616 निरंक 847

जिले का योग 9 2145 2 3639

जिले की औसत वर्षा 3 715 0.7 1213
जनसुनवाई में आये 90 आवेदन
26 August 2014
प्रति मंगलवार को कलेक्टरेट कार्यालय में होने वाली जनसुनवाई में इस बार 90 आवेदन प्राप्त हुए। इन आवेदनो में व्यक्तिगत सुनवाई करते हुए कलेक्टर रवीन्द्रसिंह ने आवेदनो को संबंधित विभागो को भेजकर समय सीमा में कार्रवाई करने के निर्देश दिए। पूर्व सचिव से दिलवाई जाये पास बुक व सीले जनसुनवाई में ग्राम छापरी की मॉ दुर्गा स्व सहायता समूह की महिलाओ ने आवेदन देकर बताया कि मध्यान्ह भोजन का संचालन सही तरीके से न करने के कारण समूह की महिलओ ने अपने समूह की सचिव श्रीमती धनकौर बाई को हटाकर सचिव का पदभार कुसुमबाई को सौंपा है। किन्तु पूर्व सचिव न तो बैंक की पासबुक दे रही है और न ही समूह की सीले व दस्तावेज सौंप रही है। ऐसे में समूह का संचालन करने में अत्यधिक परेशानी आ रही हैं अतः पूर्व सचिव से उक्त दस्तावेज व सीले दिलवाई जाये। इस पर कलेक्टर रवीन्द्र सिंह ने जनपद पंचायत राजपुर के सीईओ को आवेदन भेजकर प्रकरण में समुचित पहल कर निराकरण कराने के निर्देश दिये। ननद ने कर लिया पैतृक मकान पर कब्जा जनसुनवाई में नगर के मोटीमाता क्षेत्र की रहवासी एक महिला ने आवेदन देकर शिकायत दर्ज कराई कि उनके ससुर की मृत्यु उपरांत उनकी ननद ने नगर पालिका के तथाकथित कुछ कर्मियो की मिली भगत से पूरा मकान अपने नाम करा लिया है, जबकि उनके पति एक मात्र वारिस है। इस पर कलेक्टर रवीन्द्र सिंह ने नगर पालिका अधिकारी को आवेदन भेजकर समुचित परीक्षण कराने व नियमानुसार कार्यवाही करने के निर्देश दिये। छात्रवृत्ति की राशि पहुंच गई गलत बैंक में जनसुनवाई में एक छात्रा ने आवेदन देकर शिकायत दर्ज कराई कि उन्हे मिलने वाली छात्रवृत्ति की राशि सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग की त्रुटि के कारण गलत बैंक में पहुंच गई है। इसके लिये वे तीन महिने से प्रयास कर रही है, किन्तु अभी तक राशि उनके बैंक खाते में दर्ज नही हो पाई है। इस पर कलेक्टर रवीन्द्रसिंह ने सहायक आयुक्त आदिवासी विकास को आवेदन भेजकर एक सप्ताह में निराकरण कराते हुए की गई कार्यवाही से आवेदिका तथा जिला कार्यालय को अवगत कराने के निर्देश दिये। पुत्र को दिलवाई अनुकम्पा नियुक्ति अब नही कर रहा है भरण-पोषण जनसुनवाई में घटवा की रहवासी एक महिला ने आवेदन देकर शिकायत दर्ज कराई कि उनके शिक्षक पति की मृत्यु उपरांत उन्होने अपने पुत्र का अनुकम्पा नियुक्ति दिलवाई थी। किन्तु सन् 2007 से अनुकम्पा नियुक्ति पर लगा उनका यह पुत्र अब न तो उनका ईलाज करवा रहा है और ना ही उनका भरण पोषण कर रहा है। अतः उनके पुत्र से उन्हे प्रतिमाह खर्चा पानी दिलवाया जाये। जिससे वे अपना गुजर-बसर अच्छी तरह से कर सके। इस पर कलेक्टर रवीन्द्रसिंह ने सहायक आयुक्त आदिवासी विकास को मानवीय दृष्टिकोण को ध्यान रखते हुए शिक्षक पुत्र को बुलाकर समझाने के निर्देश दिये। एसडीएम करेंगे पटवारी की शिकायत की जांच जनसुनवाई में ग्राम सिदड़ी के कुछ किसानो ने सामूहिक रूप से आवेदन देकर ग्राम के पटवारी पर ओला प्रभावित फसलो का सर्वे ठीक से नही करने, कई पीड़ित किसानो का प्रकरण नही बनाने की शिकायत दर्ज कराई। इस पर कलेक्टर रवीन्द्रसिंह ने आवेदन राजपुर एसडीएम को भेजकर आदेशित किया कि इस शिकायत की समुचित जांच करवाई जाये व सही पाये जाने पर दोषियो पर कार्यवाही प्रस्तावित की जाये। कालोनी में सुविधा न देने पर बंधक प्लाट को किया जाये राजसात जनसुनवाई में नेमीनाथ नगर कालोनी के वासियो ने सामूहिक रूप से उपस्थित होकर बताया कि उनकी कालोनी में मूलभूत सुविधाये मानक स्तर की नही होने के कारण सीवेज लाईन जगह-जगह से ध्वस्त हो गई है। जिसके कारण पूरे कालोनी में गंदा पानी सड़को पर बह रहा है। इस कारण कालोनी वासियो के सामने गंभीर स्वास्थ्य संबंधी समस्या उत्पन्न हो गई है। कालानीनाईजर से कहने पर वह कहता है कि नगर पालिका कार्य करवायेगी नगर पालिका कहती है कि कालोनी हेण्ड ओवर नही होने से वह कार्य करवाने में असमर्थ है। इस पर कलेक्टर रवीन्द्रसिंह ने नगर पालिका अधिकारी को निर्देशित किया कि वे कालोनीनाईजर द्वारा बंधक रखे प्लाटो को राजसात करे व उसकी निलामी की प्रक्रिया पूर्ण कराकर समुचित विकास के कार्य करवाये। अंजड़ में बिक रही है अवैध शराब जनसुनवाई में अंजड़ की कुछ महिला-पुरूषो ने आवेदन देकर शिकायत दर्ज कराई कि अंजड़ में विभिन्न मोहल्ले में जगह-जगह अवैध शराब बिक रही हे। जिम्मेदार विभागो द्वारा कोई कार्यवाही नही की जा रही हे। इस पर कलेक्टर रवीन्द्रसिंह ने आबकारी विभाग को आवेदन भेजकर समुचित कार्यवाही करवाने के निर्देश दिये। आवास योजना का दिलवाया जाये लाभ जनसुनवाई में खेतियो नगर की 40-50 महिलाओ ने आवेदन देकर बताया कि वे अभी किराये के मकानो में रह रही है व मेहनत-मजदूरी कर जैसे-तैसे अपने परिवार का भरण पोषण करती है। अतः उन्हे शासन की आईएचएसडीपी (इन्टीग्रेटेड हाउसिंग एण्ड स्लम डेवलेपमेंट प्रोग्राम) के तहत बने हुए मकान दिलवाया जाये। इस पर कलेक्टर रवीन्द्रसिंह ने बताया कि जिले में इस योजना के तहत पानसेमल में मकान बनाये गये है। शेष स्थानो हेतु यह योजना स्वीकृत नही है। किन्तु महिलाओ की मांग को देखते हुए शीघ्र ही खेतिया में इस योजना के तहत मकान बनाने का प्रस्ताव भेजा जायेगा।
वर्षा की स्थिति
26 August 2014
भू-अभिलेख कार्यालय से प्राप्त जानकारी अनुसार जिले में इस वर्ष व गत वर्ष आज ही के दिनांक तक हुई वर्षा की स्थिति इस प्रकार है।




वर्षा मापी केन्द्र का नाम आज की वर्षा मिलीमीटर में दिनांक 1 जून से आज दिनांक तक की कुल वर्षा मिलीमीटर में गत वर्ष इसी दिनांक तक की कुल वर्षा मिलीमीटर में
बड़वानी 0 238 443.5
पाटी 10 448 607
राजपुर 3 429 704
ठीकरी 0 395 824
सेंधवा 31 486 789
पानसेमल 0 397 857
निवाली 1 569 853
जिले की औसत वर्षा 6.4 423.1 725.3
मध्यप्रदेश में 2 महत्वपूर्ण योजनाएँ शुरू होंगी
25 August 2014
मध्यप्रदेश में 2 महत्वपूर्ण योजनाएँ शुरू होने जा रही हैं। प्रधानमंत्री जन-धन योजना का मकसद प्रदेश के हर परिवार का बैंक खाता खोलना है। दूसरी योजना का मकसद इस वर्ष के अंत तक सभी स्कूलों में शौचालय की व्यवस्था करना है। प्रधानमंत्री जन-धन योजना मध्यप्रदेश में कुल एक करोड़ 50 लाख परिवार हैं, जिनमें से 62 लाख के पास बैंक खाते नहीं हैं। इनमें 50 लाख ग्रामीण और 12 लाख शहरी परिवार शामिल हैं। योजना को लागू करने के लिये समयबद्ध कार्य-योजना तैयार की गई है, जिसे पूरी तत्परता से लागू कर योजना के उद्देश्य को 14 अगस्त, 2015 तक पूरा कर लिया जायेगा। योजना के पहले पिलर में सभी परिवारों को बैंकिंग सुविधा उपलब्ध करवाई जायेगी। दूसरे पिलर में ओवर ड्राफ्ट सुविधा के साथ बेसिक बैंक अकाउंट खोलना और तीसरे पिलर में वित्तीय साक्षरता प्रोग्राम चलाना शामिल हैं। वर्ष 2015 से 2018 तक पिलर 4 में क्रेडिट गारंटी फण्ड की स्थापना की जायेगी, पाँचवें पिलर में माइक्रो इंश्योरेंस की व्यवस्था और छठे पिलर में असंगठित क्षेत्र के लिये पेंशन योजना शामिल है। योजना के लिये तैयार किये गये एक्शन प्लान में परिवारों का सर्वे किया जायेगा और केम्प लगाकर खाते खोले जायेंगे। प्रत्येक खातेदार को रुपाय डेबिट कार्ड दिये जायेंगे। छह माह की बचत/साख हिस्ट्री के बाद 5000 रुपये तक ओवर ड्राफ्ट सुविधा उपलब्ध करवाई जायेगी। सभी प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के भुगतान इन खातों के माध्यम से होंगे। सभी स्कूलों में शौचालय व्यवस्था प्रदेश में कुल 18 हजार 619 स्कूल में शौचालय की व्यवस्था नहीं है। इनमें इस वर्ष ही यह व्यवस्था कर दी जायेगी। इनमें 17 हजार 743 प्राथमिक/माध्यमिक विद्यालय और 876 हाई/हायर सेकेण्डरी स्कूल हैं। कुल 1338 हाई/हायर सेकेण्डरी स्कूल में से 700 भवन विहीन हैं। इनके भवन बन जाने पर बालक और बालिकाओं के लिये पृथक शौचालय की व्यवस्था स्वत: हो जायेगी। शेष 438 स्कूल में पृथक बालक व बालिका शौचालय बनाये जायेंगे। शाला शौचालयों का निर्माण शाला प्रबंधन समितियों द्वारा किया जायेगा। जिन शौचालयों में साफ-सफाई के लिये पर्याप्त पानी की व्यवस्था नहीं है वहाँ यह व्यवस्था की जायेगी। शौचालयों के रख-रखाव के लिये मरम्मत निधि से कार्य करवाये जायेंगे। पंचायत विभाग की पंच परमेश्वर योजना में भी शौचालयों की साफ-सफाई की व्यवस्था करवाई जायेगी।
आईटीआई तृतीय चरण की काउंसलिंग के आवंटन निरस्त
25 August 2014
तकनीकी शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग द्वारा आईटीआई-2014 काउंसलिंग में तृतीय चरण का आवंटन अपरिहार्य कारणों से निरस्त कर दिया गया है। तृतीय चरण का आवंटन 20 अगस्त को जारी किया गया था। इसमें 21 से 25 अगस्त तक आवेदकों को प्रवेश लेना था। अब तृतीय चरण की काउंसलिंग 26 अगस्त से पुन: होगी। इसमें 18 हजार 946 रिक्त सीट के लिये आवंटन को दोबारा जारी किया जायेगा। चयनित आवेदक 26 से 30 अगस्त तक संस्थाओं में प्रवेश ले सकेंगे। यह काउंसलिंग एमपी ऑनलाइन के माध्यम से हो रही है।
दस्तावेजों के पंजीयन शुल्क की नई दरें 15 अगस्त से
25 August 2014
राज्य शासन द्वारा दस्तावेजों के पंजीयन पर देय पंजीयन शुल्क की नवीन दरें 15 अगस्त 2014 से लागू की जा रही हैं। उल्लेखनीय है कि यह परिवर्तन लगभग 40 वर्ष बाद हो रहा है। वर्तमान दरें 1975 से प्रभावशील हैं। सम्पत्ति के विक्रय पत्र दस्तावेजों पर ली जाने वाली पंजीयन शुल्क की दरों में परिवर्तन न करते हुए इसकी गणना को सुगम और सरल बनाकर इसे बाजार मूल्य का 0.8 प्रतिशत किया जा रहा है। पॉवर ऑफ अटॉर्नी, दत्तक विलेख दस्तावेज पर पंजीयन शुल्क की नई दर 500 रुपये रखी गई है। पंजीयन विभाग के कम्प्यूटराइजेशन के तहत रजिस्ट्रीकृत दस्तावेज की डिजिटल हस्ताक्षरित प्रति को डाउनलोड करने के लिये 200 रुपये का शुल्क रखा गया है। पंजीयन शुल्क की नई दरों से राज्य शासन को लगभग 10 करोड़ रुपये का अतिरिक्त राजस्व प्राप्त होगा।
शिक्षा प्रोत्साहन योजना की पात्र बालिकाओं की जानकारी 15 अगस्त तक माँगी
25 August 2014
राज्य शासन ने बालिका शिक्षा प्रोत्साहन योजना में पात्र हितग्राही बालिकाओं की जानकारी 15 अगस्त तक माँगी है। समस्त जिला शिक्षा अधिकारी को यह जानकारी एजुकेशन पोर्टल पर 15 अगस्त तक अनिवार्य रूप से अपलोड करने के निर्देश दिये गये हैं। निर्धारित समय-सीमा में जानकारी की प्रविष्टि नहीं होने की स्थिति में यदि कोई पात्र हितग्राही बालिका केन्द्र प्रवर्तित योजना का लाभ लेने से वंचित रहती है तो संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी एवं प्रभा
ताप्ती सलिला शुद्धीकरण कार्ययोजना पर अमल होगा
13 August 2014
बुरहानपुर नगर में पवित्र पौराणिक ताप्ती सलिला शुद्धीकरण कार्ययोजना पर प्राथमिकता से अमल किया जायेगा। ताप्ती नदी में नाले-नालियों का गंदा पानी रोकना अतिआवश्यक है। चूंकि नगर की जीवन दायनी की शुद्धता बनाये रखने से जल आपूर्ति संभव हो सकेगी। जिससे उद्योग, कृषि, उद्यानिकी का भी क्षेत्र विस्तारित होगा। इस प्रकार से ताप्ती नदी का नगर विकास में अहम योगदान रहेगा। यह बात कलेक्टर श्रीमती आईरिन सिंथिया ने आज विभागीय समीक्षा बैठक में कही। उन्होनें नगर निगम को पर्यावरण को दृष्टिगत रखते हुए ताप्ती शुद्धीकरण के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश भी दिये। इस दरम्यान लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग से ताप्ती जल शुद्धीकरण के बारे में जानकारी प्राप्त की। उक्त कार्ययोजना में प्राथमिकता तय करते हुए संबंधित अधिकारियों को दिशा-निर्देशित किया गया। उन्होनें लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग से कहा कि 13 अगस्त को मेरे द्वारा पूर्वान्ह 11 बजे नगर के निकासी गंदे पानी ट्रीटमेंट प्लान्ट का अवलोकन किया जायेगा। यहां संबंधित अधिकारी भी उपस्थित रहेगें। सूचना के अधिकार के संबंध में आवेदक को जानकारी 30 दिवस के भीतर देना सुनिश्चित करें। इस हेतु अलग से रजिस्टर मेंटेन किया जाये। मेरे पास किसी भी विभाग की सूचना के अधिकार के तहत जानकारी देने की शिकायत नहीं आनी चाहिए। खनिज विभाग गहरी खदानों खतरनाक स्थलों जहां पर गौण खनिज खनन किया गया हो। ऐसे स्थानों पर चेतावनी बोर्ड अवश्य लगाये। नगरीय निकाय और ग्रामीण निकाय समग्रता पर्ची अनुसूचित जाति, जनजाति वर्ग के लोगों को वितरण कराना सुनिश्चित करें। लोधीपुरा में विस्थापित लोगों के लिए मूलभूत सुविधाएं जनपद पंचायत अवश्य उपलब्ध कराये। इसमें पेयजल, विद्युत, सड़क आदि की व्यवस्था अनिवार्य रूप से कराई जावे। जल संसाधन विभाग कार्यपालन यंत्री ने बताया कि जिले में भावसा और छोटी उतावली 2 मध्यम सिंचाई योजनाएं शासन को स्वीकृति हेतु प्रेषित की गयी है। लोक निर्माण विभाग भवन कार्यपालन यंत्री ने बताया कि विभाग द्वारा 69 कार्य स्वीकृत किये गये है। जिसमें 36 कार्य पूर्ण हो चूके है। बाकी कार्य प्रगति पर है। उपसंचालक कृषि ने बताया कि खरीफ में कपास और सोयाबीन फसलें अधिक मात्रा में बोई गयी है। उद्यानिकी विभाग उपसंचालक ने अवगत कराया कि जिले में केला प्रमुख फसल है। उत्तम क्वालिटी का केला फसल की पैदावार होती है। इसके अलावा सब्जी, फल-पुष्प, औषधी और मसाले की भी खेती यहा हो रही है। सी.एम.एच.ओ. ने जानकारी दी कि 200 बेड का हॉस्पिटल निर्माणाधीन है। जिले में 13 प्राथमिक, 4 सामुदायिक एवं 17 उपस्वास्थ्य केन्द्र है। कलेक्टर ने कहा कि किसी भी केन्द्र पर दवाईयों की कमी नहीं होना चाहिए। विभाग यह सुनिश्चित करें कि एक्सपायरी डेट की दवाओं का वितरण कतई नहीं करें। महिला एवं बाल विकास विभाग से कहा गया कि पोषण पुनर्वास केन्द्रो में नेपानगर, खकनार व धुलकोट में 5-5 पलंग और बढ़ाये जाये। इस प्रकार का प्रस्ताव शीघ्र तैयार कराये। जिससे कुपोषित बच्चों का ईलाज एनआरसी में भर्ती कराकर स्वस्थ्य श्रेणी में लाया जा सके। कलेक्टर ने स्कूल चले हम अभियान का भी जायजा लिया। जिला शिक्षा अधिकारी श्री आर.एल.उपाध्याय ने बताया कि जिले में 522 प्राथमिक, 218 माध्यमिक और 18 हाई और हॉयर सेकेण्डरी स्कूल है। कही भी शासकीय स्कूल खोलने की डिमांड नही है। इन सभी शालाओं में अभियान को सफल बनाने की हजारो बच्चों को प्रवेश दिलाया गया है। इस अभियान में विभाग ने 92 प्रतिशत प्रगति हासिल की है। कलेक्टर ने प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना, पशु चिकित्सा सेवाएं, श्रम, वन, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, समग्र स्वच्छता, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा, लोक निर्माण विभाग सड़क, आदिम जाति कल्याण विभाग, नागरिक आपूर्ति निगम, विद्युत, राजस्व, सहकारिता, आबकारी, लोक सेवा प्रबंधन, होमगार्ड, आयुष विभाग से सहित अन्य विभागों की गहनता से क्रियान्वित योजनाओं व कार्यक्रमों तथा शासकीय सुविधाओं व सेवाओं का जायजा लिया गया। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री प्रकाश रेवाल, सीईओ जिला पंचायत श्री सुरेश्वरसिंह, डिप्टी कलेक्टर श्री के.एल.यादव, डिप्टी कलेक्टर श्री शंकरलाल सिंगाडे, डिप्टी कलेक्टर श्री सुमेरसिंह मुजाल्दा सहित सभी विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।
जिले में अब तक 346.4 औसत वर्षा दर्ज
13 August 2014
जिले में अब तक कुल 346.4 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज की गई है, जबकि गत वर्ष इस अवधि में 732.5 मि.मी. औसत वर्षा दर्ज हुई थी। जो गत वर्ष की तुलना में इस वर्ष 362.9 मि.मी. अभी भी कम दर्ज की गई है। अधीक्षक भू-अभिलेख कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार जिले में वर्षा की स्थिति निम्नानुसार है।

अ.क्र. वर्षा मापक केन्द्रों का नाम दिनांक 12 अगस्त 14 को हुई वर्षा मि.मी. में 01 जून से 12 अगस्त 14 तक हुई वर्षा मि.मी. में गत वर्ष 01 जून 13 से दि. 12 अगस्त 13 तक हुई वर्षा मि.मी. में
1 धार 0.2 360.8 820.5
2 बदनावर नील 426.6 743.8
3 सरदारपुर नील 419 1007
4 कुक्षी नील 289.4 478.4
5 मनावर नील 245 755
6 धरमपुरी नील 197 652
7 गंधवानी नील 352.5 660
8 नालछा नील 422 843.2
9 तिरला नील 336 818.5
10 बाग नील 405 715
11 डही 0.2 357.5 655

औसत 0 346.4 732.5
वर्षा की जानकारी
21 July 2014
खंडवा जिले में दिनांक 21 जुलाई, 2014 की दैनिक वर्षा की स्थिति निम्नानुसार है:-

क्र. केन्द्र का नाम (तहसील) वर्ष 2014 की वर्षा वर्ष 2013 की वर्षा


आज दिनांक की वर्षा दिनांक 01 जून, 2014 से आज दिनांक तक की कुल वर्षा गत वर्ष आज दिनांक तक की वर्षा गत वर्ष 01 जून, 2013 से आज दिनांक तक कुल वर्षा
1 खंडवा निरंक 382 निरंक 1031
2 नया हरसूद निरंक 268 निरंक 721
3 पंधाना 1 210 निरंक 469

जिले का योग 1 860 निरंक 2221

जिले की औसत वर्षा 0.3 286.3 निरंक 740.3
निर्वाचन व्यय की जानकारी नहीं देने पर 468 अभ्यर्थी 5 वर्ष के लिये निरर्हित घोषित
21 July 2014
नगर पालिका आम निर्वाचन वर्ष 2010 एवं आम निर्वाचन तथा उप निर्वाचन वर्ष 2011 के ऐसे अभ्यर्थी जिन्होंने निर्वाचन व्यय की जानकारी निर्धारित समय में नहीं दी उन्हें राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा नगरीय निकाय निर्वाचन के लिये निरर्हित घोषित किया गया। आम निर्वाचन वर्ष 2010 के 394, वर्ष 2011 के 68 और वर्ष 2013 के 6 अभ्यर्थी को 5 वर्ष के लिये निरर्हित घोषित किया गया है। आम निर्वाचन वर्ष 2010 सचिव राज्य निर्वाचन आयोग श्री जी.पी. श्रीवास्तव ने बताया कि जिला भोपाल के 7, श्योपुर 5, ग्वालियर के 1, शिवपुरी के 15, गुना के 4, अशोकनगर के 21, मंदसौर के 1, नीमच के 3, रतलाम के 24, शाजापुर के 10, उज्जैन के 22, देवास के 17, राजगढ़ के 5, विदिशा के 15, सीहोर के 2, रायसेन के 20, बैतूल के 4, होशंगाबाद के 4, इंदौर के 13, धार के 1, खरगोन 2, बड़वानी के 7, खण्डवा के 2, बुरहानपुर के 4, टीकमगढ़ के 34, छतरपुर के 23, पन्ना के 10, सागर के 17, दमोह के 6, कटनी के 8, छिन्दवाड़ा के 5, सिवनी के 4, बालाघाट के 2, रीवा के 20, सतना के 35, शहडोल के 9, उमरिया के 2, सीधी के 4, अनूपपुर के 6 और मण्डला के 1 अभ्यर्थी को निरर्हित घोषित किया गया है। आम निर्वाचन/उप निर्वाचन वर्ष 2011 जिला सीहोर के 2, सीधी के 9, टीकमगढ़ के 5, अनूपपुर के 10, धार के 10, छिन्दवाड़ा के 4, मंडला के 1, शहडोल के 12, रतलाम के 1, बड़वानी के 12 और खण्डवा के 2 अभ्यर्थियों को निरर्हित घोषित किया गया है। आम निर्वाचन/उप निर्वाचन वर्ष 2013 गुना जिले के 1, शाजापुर के 2 और अनूपपुर के 3 अभ्यर्भियों को 5 वर्ष के लिये निरर्हित घोषित किया गया है।
रामेश्वर जाने वाले यात्रियो को 20 जुलाई को उपस्थित होना होगा
19 July 2014
मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन यात्रा के तहत रामेश्वर जाने वाले यात्रियो को 20 जुलाई अर्थात रविवार को प्रातः 7 बजे नगरपालिका बड़वानी में अपनी पासपोर्ट फोटो के साथ उपस्थित होना होगा। जहॉ से उन्हें बसो द्वारा खण्डवा पहुंचाया जायेगा। खण्डवा से उन्हें इसी दिन दोपहर 1 बजे ट्रेन मिलेगी। जिससे वे रामेश्वर जायेंगे।
वर्षा की स्थिति
19 July 2014
जिले 24 घण्टे में जिले के सम्पूर्ण क्षेत्र में हल्की से मध्यम वर्षा हुई है। इस दौरान सबसे अधिक 19.0 मिलीमीटर वर्षा निवाली में दर्ज हुई है। भू-अभिलेख कार्यालय से प्राप्त जानकारी अनुसार जिले में इस वर्ष व गत वर्ष आज ही के दिनांक तक हुई वर्षा की स्थिति इस प्रकार है।
वर्षा मापी केन्द्र का नाम आज की वर्षा मिलीमीटर में दिनांक 1 जून से आज दिनांक तक की कुल वर्षा मिलीमीटर में गत वर्ष इसी दिनांक तक की कुल वर्षा मिलीमीटर में
बड़वानी 3.6 65.6 238.9
पाटी 5 148 381
राजपुर 2 94 327
ठीकरी 12.5 127.1 424
सेंधवा 6 120 392
पानसेमल 10 98 435
निवाली 19 126 325
जिले की औसत वर्षा 8.3 111.2 360.4
वर्षा की जानकारी
क्र. केन्द्र का नाम (तहसील) वर्ष 2014 की वर्षा वर्ष 2013 की वर्षा
आज दिनांक की वर्षा दिनांक 01 जून, 2014 से आज दिनांक तक की कुल वर्षा गत वर्ष आज दिनांक तक की वर्षा गत वर्ष 01 जून, 2013 से आज दिनांक तक कुल वर्षा
1 खंडवा 2 342 9 1019
2 नया हरसूद 8 215 8 710
3 पंधाना 7 190 5 454

जिले का योग 17 747 22 2183

जिले की औसत वर्षा 5.6 249 7.3 727.6
 टीप:- सभी आँकडे मि.मी. में हैं।     
शासकीय उमावि कालीबावड़ी के शिक्षकों व अन्य स्टॉफ का एक-एक दिन का वेतन रोकने के निर्देश
18 July 2014
कलेक्टर श्री सी.बी. सिंह ने उमरबन विकासखण्ड के भ्रमण के दौरान स्कूलों, स्वास्थ्य केन्द्रों, छात्रावासों व आश्रमों का आकस्मिक निरीक्षण किया। प्रारंभ में शासकीय हायर सेकेण्डरी स्कूल का निरीक्षण किया। इस दौरान कक्षाओं में प्रकाश की व्यवस्था पर्याप्त न होने पर स्कूल के प्रभारी प्राचार्य से गहरी नाराजगी व्यक्त की तथा कन्टेजेंसी फण्ड से सीएफएल बल्ब लगवाने के निर्देश दिए। उन्होने उमरबन में ही आदिवासी बालक आश्रम उमरबन, आदिवासी कन्या आश्रम उमरबन तथा प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र उमरबन का निरीक्षण किया।
मलेरिया, डेंगू एवं चिकनगुनिया से बचाव की अपील
15July 2014
कलेक्टर जिला खरगोन डॉ. श्री नवनीत मोहन कोठारी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी खरगोन डॉ. श्रीमती विराज भालके एवं प्रभारी जिला मलेरिया अधिकारी खरगोन, डॉ. श्री कमल जाधव द्वारा जिलें में डेंगू/मलेरिया एवं अन्य वैक्टर जनित बीमारियों की रोकथाम एवं बचाव के लिए जन समुदाय से बचाव की अपील करते हुऐ अपने आस-पास साफ-सफाई, सजगता एवं समय पर उपचार द्वारा बीमारियों से बचाव कर सकते हैं :- लक्षणः- सर्दी व कंपन के साथ बुखार, तेज बुखार,उल्टियॉ सिरदर्द। पसीना आकर बुखार उतरने के बाद थकावट व कमजोरी होना। यदि बुखार हो तो क्या करे......? बुखार आने पर तुरंत रक्त की जॉच कराऍ। मलेरिया की पुष्टि होने पर पूरा उपचार ले। खाली पेट दवा कदापि न ले। मलेरिया हेतु खून की जॉच व उपचार सुविधा समस्त शासकीय अस्पतालों पर निःषुल्क उपलब्ध है। डेंगू व मलेरिया फैलाने वाले मच्छर कहॉ पैदा होते है ? छत एवं छत पर रखी पानी की खुली टंकियॉ। टूटे बर्तन, मटके, कुल्हड, गमलों मे एकत्र जल मे। बेकार फेके हुए टायरों मे एकत्र जल मे। बिना ढॅके बर्तनों मे एकत्र जल मे। कूलर मे एकत्र जल मे। किचन गार्डन मे रूका हुआ पानी। गमले, फूलदान, सजावट के लिए बन फव्वारे में एकत्र जल मे। डेंगू कैसे करें पहचान ? कैसे रहें सावधान ? डेंगू एडीज नामक मच्छर के काटने से फैलता है, और यह दिन के समय काटता है, तेज बुखार, सिरदर्द, जोडो तथा मांसपेषियों मे दर्द, जी मचलाना तथा थकावट डेंगू के लक्षण हो सकते हैं। मसूढों से खून आना, त्वचा पर चकते गम्भीर अवस्था के लक्षण है। कैसे करें पहचान ? कैसे रहें सावधान ? सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करें। घर के आस-पास के गढढों को भर दें। पानी से भरे रहने वाले स्थानों पर टेमोफॉस, मिट्टी का तेल या जला हुआ इंजन आईल डाले। घर एवं आस-पास अनुपयोगी सामग्री मे पानी जमा न होने दें। सप्ताह मे एक बार अपने टीन, डब्बा, बाल्टी इत्यादि का पानी खाली कर दे। दोबारा उपयोग होने पर उन्हे अच्छी तरह सुखाये। सप्ताह मे एक बार अपने कूलर का पानी खाली कर दे, फिर सुखाकर ही उनका उपयोग करे। पानी के बर्तनों आदि को ढॅक कर रखे। हेण्डपंप के पास पानी एकत्र न होने दें।
डॉ. नवनीत मोहन कोठारी द्वारा ली गई आदान समीक्षा बैठक
15 July 2014
आज डॉ. नवनीत मोहन कोठारी द्वारा आदान समीक्षा बैठक ली गई जिसमें उप संचालक कृषि रेवासिंह सिसौदिया द्वारा बताया गया कि अभीतक जिले में 101.7 मिली मीटर वर्षा हुई है जिससे कृषक बुआई कार्य में लग गये है आगे बताया कि यूरिया खाद की 15 दिन में 10000 मैट्रिक टन की आवश्यकता होगी। अभी जिले में 3000 मेट्रिक टन यूरिया उपलब्ध है। जिले में यूरिया की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए कलेक्टर खरगोन द्वारा कमिश्नर इन्दौर को भी अवगत कराया है तथा बोनी एवं वर्षा की जानकारी से भी अवगत कराया गया साथ ही कलेक्टर खरगोन द्वारा यूरिया की पूर्ति हेतु शासन को अर्धशासकीय पत्र लिखने के आदेश उप संचालक कृषि को दिये गये है। उप संचालक कृषि द्वारा बताया गया कि इस खरीफ की बोनी के लक्ष्य की पूर्ति पानी गिरने से हो जायेगी। उप संचालक कृषि द्वारा बीजो को अंकुरण परीक्षण उपरांत बोने की सलाह कृषको को दी जा रही है। आगे बताया कि अभीतक जिले में कुल बोनी 100211 हेक्टयर में हो चुकी है। जिसमें 93618 हेक्ट. में कपास लगाया गया है।
डायवर्शन सहित अन्य राजस्व प्रकरणों के समय-सीमा में निराकरण के लिये 18 जुलाई को कलेक्टर कार्यालय में विशेष शिविरब
14 July 2014
इंदौर जिले में लंबित डायवर्शन सहित अन्य राजस्व प्रकरणों को समय सीमा में निराकृत करने के लिये 18 जुलाई को कलेक्टर कार्यालय के कक्ष क्रमांक 108 में विशेष शिविर लगाया जायेगा। इस शिविर में इंदौर शहरी क्षेत्र के अविवादित नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन आदि राजस्व प्रकरणों के भी समय-सीमा में निराकरण सुनिश्चित करने की कार्यवाही की जायेगी। नागरिकों से आग्रह किया गया है कि वे इस शिविर में अपने लंबित राजस्व प्रकरणों के निराकरण के संबंध में तथा नये राजस्व प्रकरणों के संबंध में आवेदन दे सकते हैं। कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी इस शिविर में डायवर्शन सहित अन्य लंबित राजस्व प्रकरणों के संबंध में प्राप्त आवेदनों की समीक्षा कर प्रकरणों का निराकरण समय-सीमा में सुनिश्चित करायेंगे। यह शिविर सुबह 11 बजे से प्रारंभ होगा । कलेक्टर श्री त्रिपाठी ने बताया कि इस शिविर में जिले में लंबित डायवर्शन प्रकरणों का विशेष रुप से निराकरण सुनिश्चित किया जायेगा । नागरिक लंबित तथा नये डायवर्शन प्रकरणों के संबंध में आवेदन दे सकते हैं। शिविर में इंदौर शहरी क्षेत्र में लंबित अविवादित नामांतरण, बंटवारा, सीमांकन आदि के लंबित आवेदनों के समय सीमा में निराकरण सुनिश्चित करने की कार्यवाही की जायेगी। बताया गया है कि कलेक्टर श्री त्रिपाठी स्वयं उपस्थित रहकर प्रकरणों के निराकरण की कार्यवाही की समीक्षा करेंगे। शिविर में सभी एसडीओ, तहसीलदार एवं अन्य संबंधित अधिकारी शामिल होंगे।
नामांकन फार्म के साथ पार्षद पद के लिए 1000 से 5000 एवं अध्यक्ष तथा महापौर पद के लिए 10000 से
14 July 2014
नगरीय निकायों मे निर्वाचन के लिए अभ्यर्थियों को नाम निर्देशन-पत्र के साथ निर्धारित राशि भी जमा करवानी होगी। यह राशि पार्षद पद के लिए 1000 से 5 हजार एवं अध्यक्ष के लिए 10 हजार से 20 हजार रूपये हागी। पार्षद पद - नगर परिषद के लिए 1000, नगरपालिका के लिए 3 हजार और नगर पालिक निगम के पार्षद पद के लिए 5 हजार रूपये जमा करने होंगे। अध्यक्ष पद - नगर परिषद के लिए 10 हजार, नगरपालिका के लिए 15 हजार और नगरपालिक निगम के अध्यक्ष/महापौर पद के लिए 20 हजार रूपये जमा करने होंगे। महिला, अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और अन्य पिछड़ा वर्ग के अभ्यर्थी के लिए यह राशि आधी जमा करनी होगी।
एसडीएम ने 200 ट्राली से अधिक रेत पकड़ी
08 July 2014
एसडीएम बड़वानी डॉ. अभयसिंह खरारी ने सोमवार की सायं को बायपास तिराहे पर स्थिम मारूति शो-रूम के पीछे लगभग 200 ट्रेकटर ट्राली रेत का अवैध संग्रह को जप्त किया। हनुमान टेकरी के पीछे स्थित पड्त मैदान पर अवैध रूप से संग्रहित इस रेत में लगभग 100 ट्राली काली रेत व 100 ट्राली बाल रेत को जप्त किया गया है। मौके पर उपस्थित ग्रामीणो द्वारा बताया गया कि यह रेत सेंगाव के महेन्द्र दरबार द्वारा संग्रहित की गई है।
मुख्य लिपिक की दो वेतन वृद्धि रोकने के निर्देश
08 July 2014
कलेक्टर श्री आकाश त्रिपाठी की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में विकलांगों की स्थानीय स्तर की बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक की अध्यक्षता करते हुए कलेक्टर श्री त्रिपाठी ने कहा कि जिले में विकलांगों का सघन सर्वेक्षण जरूरी है। बहुत से विकलांगों को शासन की योजनाओं का लाभ नही मिल पा रहा है। इस काम में मैदानी अमले को लगाना जरूरी है। ग्रामीण और शहरी दोनों ही क्षेत्रों में विकलांगों का पुनः सर्वे कराया जाए। श्री त्रिपाठी ने बैठक में समीक्षा के दौरान पाया कि बहु विकलांगों को पांच सौ रूपये प्रतिमाह मिलने वाली पेंशन पिछले छः महीने से नहीं मिली है। अतः उन्होंने सामाजिक न्याय विभाग के मुख्य लिपिक श्री हेमंत मुरमकर की दो वेतन वृद्धि असंचयी प्रभाव से रोकने के निर्देश दिये। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि विकलांगों को निरामय स्वास्थ्य योजना, पेंशन योजना आदि का समय सीमा में लाभ मिलना जरूरी है। पात्र विकलांगों की लीगल गार्जियनशिप भी मिलनी चाहिए। एक भी विकलांग योजनाओं के लाभ से वंचित नहीं रहना चाहिए। इस अवसर पर कलेक्टर श्री त्रिपाठी ने कहा कि जिले मुख्यालय पर शिविर लगाकर विकलांगों का न केवल स्वास्थ्य परीक्षण एवं इलाज किया जाएगा बल्कि करेक्टिव सर्जरी भी की जाएगी। इस काम में निजी अस्पताल-वर्मा यूनियन और अरिहंत हास्पिटल इंदौर का भी सहयोग लिया जाएगा। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री आशीष सिंह ने कहा कि जिले में बहुविकलंगों को पांच रूपये प्रतिमाह नियमित रूप से पेंशन मिलना चाहिए तथा सभी विकलांगों का 250 रूपये शुल्क लेकर निरामय स्वास्थ्य बीमा योजना का लाभ दिया जाये। विकलांगों से संबंधी योजनाओं की सतत समीक्षा निगरानी और प्रशिक्षण की जरूरत है। बैठक में विकलांग बच्चों के स्वास्थ्य परीक्षण एवं करेक्टिव सर्जरी, निरामय स्वास्थ्य बीमा योजना और बहुविलांगों को विशेष पेंशन आदि के संबंध में चर्चा की गयी। बैठक में प्रभारी संयुक्त संचालक श्रीमती अनुपमा निनामा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.अशोक डागरिया, जिले के जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिले की नगर पंचायतों के मुख्यकार्यपालन अधिकारी तथा विकलांग आश्रमों के प्रतिनिधि मौजूद थे।
आशादेवी दरबार पर पहुँचे मंत्री श्री शाह
07 July 2014
गुलाईमाल पहुँचने के पूर्व प्रदेश के खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री कुँवर विजय शाह आशापुर में आशादेवी के दरबार पर पहुँचे। जहॉं पर उन्होंने माता की पूजा अर्चना करने के साथ ही आरती की। जिसके बाद उन्होंने कन्याओं का पूजन कर कन्या भोज कराया।
गुलाईमाल में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र का लोकार्पण कर खाद्य आपूर्ति मंत्री श्री शाह ने क्षेत्रवासियों को दी बेहतर स्वास्थ्य सुविधा की सौगात
07 July 2014
जीवन में कोई भी काम असंभव नहीं हैं। बशर्ते आप दृढ़संकल्प लेते हुए प्रण लेकर वह काम करें। यह बात प्रदेश के खाद्य आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री कुँवर विजय शाह ने खालवा विकासखण्ड के दूरस्थ अंचल के ग्राम गुलाईमाल में प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के लोकार्पण समारोह में कही। उन्होनें कहा कि पूर्व में जब हम इस क्षेत्र के बेहतर विकास के लिए डामरीकृत सड़क का निर्माण कराने, बिजली पहुँचाने, बेहतर शिक्षा की व्यवस्था करने और स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने की बात करते थे। तो लोगों को इस पर भरोसा नहीं होता था। लेकिन आज प्रदेश के मुखिया श्री शिवराजसिंह चौहान के नेतृत्व में दृढ़संकल्प लेकर यह सपना हमने पूरा किया है। इसके साथ ही श्री शाह ने लोकार्पित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र के महत्व को बताते हुए कहा कि पूर्व में जब इस क्षेत्र में कोई भी आदिवासी भाई बीमार होता था। तो उसे उपचार के लिये कहीं भी, कैसी भी, कोई भी, सुविधा नहीं थी। लेकिन अब यहां पर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र खुल जाने से गुलाईमाल के साथ ही इस क्षेत्र के सभी क्षेत्रवासियों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा मुहैया हो पायेगी। लोकार्पण कार्यक्रम में मंत्री श्री शाह ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी को प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र गुलाईमाल में जल्द से जल्द विद्युत आपूर्ति बनाये रखने हेतु जनरेटर की व्यवस्था कराने और प्रसव कक्ष में ए.सी.लगवाने के निर्देश दिये। उन्होनें आदेश देते हुए कहा कि प्रत्येक 4 माह में यहां पर स्वास्थ्य परीक्षण शिविर आयोजित किया जाये। लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए खाद्य आपूर्ति मंत्री श्री विजय शाह ने ग्रामवासियों की मांग पर सीईओ जिला पंचायत को वन विभाग को नोडल एजेन्सी बनाते हुए निस्तार तालाब बनाने के निर्देश दिये। वहीं क्षेत्र की बालिकाओं को उच्च शिक्षा के लिए परेशान ना होना पडे़ इसलिए 15 अगस्त से गुलाईमाल में एक ओर 50 सीटर बालिका छात्रावास प्रारंभ करने की घोषणा भी की। इस अवसर पर कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत अमित तोमर ने प्राप्त शिकायतों के निराकरण की बात कहते हुए जल्द से जल्द गुलाईमाल में समस्या निवारण शिविर आयोजित करने के निर्देश सीईओ जनपद पंचायत खालवा को दिये। वही कार्यक्रम को जिला वनमंडलाधिकारी ने भी संबोधित करते हुए ग्रामीणों से जंगलों को सुरक्षित रखने की अपील करते हुए वन विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की जानकारी भी दी। इसके साथ ही कार्यक्रम में मंत्री श्री शाह ने हितग्राहियों को किसान क्रेडिट कार्ड वितरित करने के साथ ही 1 करोड़ 16 लाख रूपये की राशि से वन विभाग द्वारा तेन्दु पत्तें का बोनस और लकड़ी के लाभांश का वितरण भी हितग्राहियों को किया। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र गुलाईमाल के लोकापर्ण के अवसर पर जिला स्वास्थ्य विभाग द्वारा गॉंव में स्वास्थ्य परीक्षण शिविर भी आयोजित किया गया। जिसमें 321 महिलाओं और 311 पुरूष समेत कुल 632 ग्रामीणों का स्वास्थ्य परिक्षण कर दवाईयों का वितरण किया गया। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी आर.सी. पनिका और एस.डी.एम. हरसूद एस.सी. वर्मा समेत सम्मानित जनप्रतिनिधिगण उपस्थित थे। (1 days ago)
आज पंधाना में आयोजित होगा मानसिक एवं बहुविकलांग बच्चों के लिए विशेष शिविर
11 June 2014
सामाजिक न्याय एवं निःशक्त जन कल्याण विभाग द्वारा मानसिक रूप से अविकसित एवं बहुविकलांग बच्चों को समाज कि मुख्यधारा से जोड़ने के लिए विशेष शिविरों के आयोजन का किया जाना है। जिसके कि निर्देश कलेक्टर श्रीमती शिल्पा गुप्ता ने जारी कर दिए है। जिसके अंतर्गत जिले में आठ विशेष शिविर आयोजित किए जाएगें। इस कड़ी का पहला शिविर आज 12 जून को जनपद पंचायत मुख्यालय पंधाना में आयोजित होगा।
वन्य-प्राणी द्वारा जन घायल क्षतिपूर्ति में संशोधन
11 June 2014
वन्य-प्राणियों द्वारा लोगों को घायल करने पर दी जाने वाली राशि में राज्य शासन ने आंशिक संशोधन किया है। अब वन्य-प्राणी द्वारा घायल करने पर इलाज पर हुआ वास्तविक व्यय तथा अस्पताल में भर्ती होने की अवस्था में अतिरिक्त रूप से 500 रुपये प्रतिदिन का भुगतान किया जायेगा। क्षतिपूर्ति की अधिकतम सीमा 30 हजार रुपये तक होगी। वन्य-प्राणियों द्वारा जन हानि, जन घायल तथा पशु हानि प्रकरण में पूर्व में निर्धारित क्षतिपूर्ति की दरों को जुलाई 2012 से दुगुना कर दिया गया है। वर्तमान में जन हानि पर डेढ़ लाख रुपये एवं इलाज पर हुए व्यय, स्थाई रूप से अपंग होने पर एक लाख रुपये एवं इलाज पर हुआ व्यय तथा घायल होने के प्रकरण में 30 हजार रुपये तथा पशु हानि के लिये राजस्व पुस्तक परिपत्र के प्रावधान के अनुसार राशि दी जाती है। जन हानि, जन घायल, पशु हानि एवं फसल हानि की क्षतिपूर्ति को नयी सेवाओं के रूप में लोक सेवा प्रदाय गारंटी अधिनियम में शामिल किया गया है।
महाविद्यालयों में रेगिंग रोकने कार्यवाही के निर्देश
10 June 2014
आयुक्त उच्च शिक्षा ने समस्त क्षेत्रीय अतिरिक्त संचालक, कुल सचिव और प्राचार्य को निर्देशित किया है कि महाविद्यालयों में रेगिंग रोकने के लिये पूर्व में जारी निर्देशों के अनुसार समुचित कार्यवाही करें। सभी शिक्षण संस्थाओं में एंटी-रेगिंग कमेटी गठित करने के निर्देश भी दिये गये हैं।
महाविद्यालय परिसर होंगे धूम्रपान-मुक्त
10 June 2014
प्रदेश के महाविद्यालयों में अध्ययनरत विद्यार्थियों को तम्बाकू सेवन से होने वाली बीमारियों से बचाने के लिये उच्च शिक्षा विभाग द्वारा महाविद्यालय परिसरों को धूम्रपान एवं तम्बाकू-मुक्त बनाने का संकल्प लिया गया है। संस्थान के 100 गज के दायरे में किसी भी प्रकार के तम्बाकू उत्पादन बेचने एवं सेवन पर 200 रुपये तक जुर्माना हो सकता है। इस तरह की जानकारी का बोर्ड भी प्रत्येक महाविद्यालय के प्रवेश द्वार पर लगवाने के निर्देश प्राचार्यों को दिये गये हैं। संस्थान में अगर कोई धूम्रपान करते हुए मिलता है और उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होती है, तो अर्थ-दण्ड संस्था प्रमुख से वसूला जायेगा। सिगरेट और अन्य तम्बाकू उत्पाद अधिनियम 2003 की धारा 4 के उल्लंघन में किये गये अपराधों के लिये प्राचार्य एवं शिक्षक कार्रवाई के लिये अधिकृत हैं। अर्थ-दण्ड के लिये निर्धारित प्रारूप की रसीद-बुक जिले के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय से प्राप्त की जा सकती है। अर्थ-दण्ड द्वारा वसूल की गई राशि भी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय में जमा किया जाना है। अधिनियम 2003 में सभी सार्वजनिक स्थान जैसे शासकीय कार्यालय, मनोरंजन केन्द्र, पुस्तकालय, अस्पताल, स्टेडियम, होटल, शॉपिंग मॉल, कॉफी हाउस, निजी कार्यालय, न्यायालय परिसर, रेलवे स्टेशन, बस स्टॉप, सभागृह, लोक परिवहन, शिक्षण संस्थान, टी-स्टॉल, ढाबा एवं अन्य सार्वजनिक स्थान पर धूम्रपान प्रतिबंधित है। इन स्थान पर धूम्रपान करने वालों पर 200 रुपये तक के जुर्माने का प्रावधान है।
पत्रकारगण स्कूल चलें हम अभियान में प्रेरक की भूमिका अदा करें-कलेक्टर श्री अवस्थी
06 June 2014
आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में कलेक्टर श्री आशुतोष अवस्थी की अध्यक्षता में पत्रकारों का विशाल सम्मेलन आयोजित किया गया। सम्मेलन में पत्रकारों ने स्वेच्छा से लगभग 25 शाला त्यागी विद्यार्थियों को स्कूल भेंजने तथा उन्हें नियमित स्कूल में बने रहने के संकल्प-पत्र भरकर गोद लिया। इस अवसर पर कलेक्टर श्री अवस्थी पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि पत्रकारगण स्कूल चलें हम अभियान में प्रेरक की भूमिका अदा करें। पत्रकारगण अपनी सामाजिक जिम्मेदारी से बच नहीं सकते। समाज और शासन ने हमें शिक्षित किया है, अब समाज को उन्हें शिक्षित करना पडे़गा। कलेक्टर श्री अवस्थी ने इस अवसर पर यह भी कहा कि समाजसेवा सबसे महान कार्य है। एक शाला त्यागी बच्चें का प्रवेश 5 लाख रूपये दान से भी ज्यादा मूल्यवान है। पत्रकारों का एक छोटा-सा सहयोग जनआंदोलन का रूप ले सकता है। पत्रकारगण आगामी 16 जून को प्रवेशोत्सव के दिन स्कूलों में जाकर नव प्रवेशी बच्चों को तिलक लगायें। उन्हें पेंसिल जैसी छोटी-सी वस्तु भेंट करें तथा प्रेरणा स्वरूप शाला-त्यागी बच्चों के लिये नुक्कड़ नाटक और निबंध प्रतियोगिता का आयोजन करें। शाला त्यागी बच्चों पर सफलता की कहानी और समाचार छापें। गोद लेने वाले पत्रकारों को न केवल धन्यवाद पत्र दिया जायेगा बल्कि 15 अगस्त या 26 जनवरी को सावर्जनिक अभिनंदन भी किया जायेगा। इस अवसर पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सुरेश्वरसिंह ने कहा कि स्कूल चलंे हम अभियान का मुख्य लक्ष्य शाला त्यागी बच्चें हैं। समाज के पढे़-लिखे जागरूक नागरिक प्रेरक की भूमिका अदा करें। स्कूल चलें हम अभियान-2014 के अंतर्गत पत्रकारों को न केवल अभियान का व्यापक प्रचार-प्रसार करना है, बल्कि स्कूलों अथवा गांव अथवा विद्यार्थियों को गोद लेना है और उन्हें समझाइश भी देना है। इस अवसर पर श्री सिंह ने यह भी बताया कि आगामी 9 जून को इस अभियान को सफल बनाने के लिये जन अभियान परिषद के कार्यकर्ताओं की बैठक होगी। 11 जून को व्यापारियों और उद्योगपतियों को सम्मेलन होगा। 13 जून को निर्वाचित जनप्रतिनिधियों, जिनमें सांसद, विधायक, महापौर और पार्षद का कलेक्ट्रेट में सम्मेलन होगा। 14 जून को धर्मगुरूओं का सम्मेलन होगा। इस अभियान में समाजसेवियों, स्वयंसेवी संगठनों और पत्रकारों आदि का व्यापक रूप से सहयोग लिया जायेगा। इस अभियान को जनआंदोलन का रूप दिया जायेगा। बैठक में इलेक्ट्रॉनिक और प्रिन्ट मीडिया के पत्रकारों ने जिला प्रशासन को सुझाव दिया कि बाल श्रमिकों और गरीब विद्यार्थियों पर विशेष फोकस की जरूरत है। उन्होनें यह भी सुझाव दिया कि स्कूलों में शिक्षकों की नियमित उपस्थिति जरूरी है। अनुपस्थित शिक्षकों के खिलाफ कठोर कार्यवाही जरूरी है। इस अवसर पर बड़ी संख्या में इलेक्ट्रॉनिक और प्रिन्ट मीडिया के जिला स्तरीय एवं ग्रामीण स्तर के पत्रकारगण उपस्थित थे।
पप्पू केवजी पटेल निर्विरोध निर्वाचित
06 June 2014
जिला पंचायत के वार्ड क्रमांक 2 से पप्पू केवजी पटेल निर्विरोध निर्वाचित हुए है। नाम वापसी के अंतिम दिवस इस पद से नाम निर्देशन फार्म प्रस्तुत करने वाले 5 अन्य प्रत्याशियो द्वारा अपना नाम निर्देशन फार्म वापस ले लेने के कारण कलेक्टर एवं रिटर्निंग अधिकारी शोभित जैन ने पप्पू केवजी पटेल को इस पद पर निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया है।
"मॉ तुझे प्रणाम योजनान्तर्गत युवाओं का चयन"
28 May 2014
भारतीय अन्तर्राष्ट्रीय सर्हदों हेतु समर्पण व राष्ट्रीय भावना से ओतप्रोत ‘‘मॉ तुझे प्रणाम‘‘ योजना के लिये खेल एवं युवा कल्याण म.प्र. शासन के निर्देशन व कलेक्टर श्री सी.बी.सिंह एवं पुलिस अधीक्षक श्री भागवतसिंह चौहान के मार्गदर्शन में चयन समिति द्वारा एक्पोजर विजिट के लिए 10 युवाओं का चयन निर्देशानुसार वांछनीय संख्यानुसार किया गया, जो राज्य शासन की ओर से भारतीय अन्तर्राष्ट्रीय सीमाओं पर तैनात सैनिकों की दिनचर्या व क्रियाकलापों से परिचित होगें। खेल एवं युवा कल्याण अधिकारी श्री हेमन्त सुवीर ने बताया कि चयनित युवाओं में प्रतीक राजेन्द्र जैन राजगढ सरदारपुर, दीपिका परसराम जाट ग्राम आली नालछा, (राष्ट्रीय सेवा योजना वर्ग), अश्विन दामोदर चतुर्वेदी सरस्वतीनगर धार, मीनाक्षी सुभाषचंद्र शर्मा धार (एन.सी.सी. वर्ग), शुभम श्रीराम मंडलोई, धार, मेघा महेन्द्र खोडे धार (खिलाडी वर्ग), सामाजिक कार्यकर्ता-मुकेश बाबूलाल कुमरावत धरमपुरी, नवीन रमेशचंद्र चौहान बदनावर, उर्वशी महेन्द्र खोडे धार, दीपिका ईश्वरलाल शर्मा धार शामिल है।
टंट्या भील स्वरोजगार योजना के व्यापक प्रचार-प्रसार के निर्देश
28 May 2014
कलेक्टर श्री सी.बी. सिंह ने मध्यप्रदेश आदिवासी वित्त एवं विकास निगम के माध्यम से क्रियान्वित की जा रही टंट्या भील स्वरोजगार योजना का आदिवासी विकासखण्डों में व्यापक प्रचार-प्रसार के निर्देश दिए है। इस संबंध में माह मई एवं जून 2014 में ग्राम पंचायत एवं विकासखण्ड स्तर पर जागृति शिविर एवं मेलों के आयोजन के लिए निर्देशित किया गया है। विकासखण्ड स्तर पर स्थानीय हाट-बाजार के दिन एक दिवसीय जागृति शिविर आयोजित किया जाए, जिसमें अधिक से अधिक आदिवासीजनों को पेम्पलेट/ब्रोसर्स को वितरण किया जाए। टट्या भील स्वरोजगार योजना के बैनर, पोस्टर लगाए जाकर शिविरों में विभाग/निगम के स्थानीय अधिकारी जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक, जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, स्थानीय बैंक के अधिकारी/कर्मचारी, विभागीय उत्कृष्ट विद्यालय के प्राचार्य, कौषल विकास केन्द्र, आरसेटी शेडमेप व ग्राम व विकासखण्ड के गणमान्य नागरिकों की भागीदारी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है।
त्रि-स्तरीय पंचायतो के रिक्त पदो के उप निर्वाचन की अधिसूचना का प्रकाशन होगा आज
26 May 2014
जिले में त्रि-स्तरीय पंचायतो के रिक्त 11 पदो के उप निर्वाचन की अधिसूचना का प्रकाशन आज अर्थात् 26 मई को होगा। इसके साथ ही इन पदो से खड़े होने वाले अभ्यर्थियो से नामांकन फार्म लेने का कार्य प्रारंभ हो जायेगा। घोषित कार्यक्रम होगा इस प्रकार उप जिला निर्वाचन अधिकारी से प्राप्त जानकारी अनुसार नाम निर्देशन फार्म लेने का कार्य अधिसूचना के प्रकाश के साथ ही प्रारंभ हो जायेगा। नाम निर्देशन फार्म भरने की अंतिम तिथि 2 जून को दोपहर 3 बजे तक रहेगी। अभ्यर्थिता से नाम वापस लेने की अंतिम तिथि 05 जून को दोपहर 3 बजे तक रहेगी। मतदान 16 जून को प्रातः 8 से दोपहर 3 बजे तक होगां मतो की गणना मतदान के तुरन्त पश्चात् मतदान केन्द्रो पर ही होगी। पंच-सरपंच के निर्वाचन परिणाम की घोषणा 17 जून को प्रातः 9 बजे से संबंधित जनपद पंचायत कार्यालय में तथा जिला पंचायत सदस्य के निर्वाचन परिणाम की घोषणा 18 जून को प्रातः 9 बजे से जिला पंचायत बड़वानी कार्यालय में की जायेगी। यहां जमा होंगे नाम निर्देशन फार्म जिला पंचायत के वार्ड क्रमांक 2 में रिक्त पद हेतु नामांकन फार्म कलेक्टरेट कार्यालय में तथा रसगांव सरपंच, चिकल्या के वार्ड क्रमांक 14 व चारणखेड़ा के वार्ड क्रमांक 13 में रिक्त पंच के नामांकन जनपद पंचायत कार्यालय बड़वानी में, ग्राम पंचायत टेमला के वार्ड क्रमांक 6, ग्राम पंचायत नंदगांव के वार्ड क्रमांक 6, ग्राम पंचायत सनगांव के वार्ड क्रमांक 6 एवं 13, ग्राम पंचायत वासवी के वार्ड क्रमांक 2, ग्राम पंचायत मटली के वार्ड क्रमांक 5 में रिक्त पंच के नामांकन जनपद पंचायत कार्यालय राजपुर में, ग्राम पंचायत बावड़िया के वार्ड क्रमांक 12 में रिक्त पंच का नामांकन जनपद पंचायत कार्यालय ठीकरी में संबंधित रिटर्निंग अधिकारियो द्वारा लिये जायेंगे।
श्रम मंत्री का दौरा कार्यक्रम
26 May 2014
प्रदेश के श्रम, पिछड़ा वर्ग एवं अल्प संख्यक कल्याण विमुक्त घुमक्कड़ एवं अर्द्ध घुमक्कड़ कल्याण मंत्री तथा सेंधवा के विधायक श्री अंतरसिंह आर्य आज अर्थात् 26 मई को सेंधवा के स्थानीय कार्यक्रम में भाग लेंगे। श्रम मंत्री 27 मई को प्रातः 9 बजे सेंधवा से भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे।
एक बैठक में दो विभाग की समीक्षा
23 May 2014
कट्ठीवाडा जनपंद पंचायत के सभा कक्ष में कलेक्टर एन.पी.डेहरीया की अध्यक्षता में दो विभागों की समीक्षा की एक और मनरेगा से जुडे निर्माण कार्यो की प्रगति से संतुष्ट नजर आये तो। विद्यार्थियों की समूचित छात्रवृती के कार्य में मनवांछित प्रगति नहीं दिखाने पर बीआरसी पर बरसे। 24 मई तक विभागीय समीक्षा बीआरजीफ के अधिकारियों प्रस्तुत करेंगें के जानकारी एवं जिला पंचायत सीईओ बघेल द्वारा जनपद पंचायत कट्ठीवाड़ा के सभाकक्ष में गुरुवार को सरपंच, सचिव व सहायक सचिव की समीक्षा बैठक ली गई। बैठक में जिला स्तरीय एवं जनपद स्तरीय सभी कर्मचारीयों ने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। कलेक्टर डेहरीया ने मनरेगा और बीआरजीएफ के अधूरे कार्यो को जल्द पूर्ण करने के निर्देश दिए। कार्यो में किसी भी प्रकार की बाधा आने पर तुरंत कलेक्टर को सूचित करने के निर्देश भी दिए। बैठक में एक्जिक्यूटिव इंजीनियर जी.वी.तिवारी, अपर कलेक्टर सफदरी और तेहसीलदार रघुवंशी भी उपस्थित रहे। सामान उठा ले गए लोग कुछ सरपंच-सचिवों ने शिकायत की कि पुराने कार्यो के कच्ची सामग्री जैसे गिट्टी, रेत, ईट जो विरान पड़ी थी उसे लोग उठाकर ले गए। बैंक में रुपये होने पर कलेक्टर ने तुरंत उन अधूरे कार्यो को पूरा करने के आदेश दिए। अन्यथा अगर पुराना सरपंच भी होगा तो हम उससे रुपया वसुलेंगे। ग्राम रठौड़ी के सचिव से भी अपूर्ण कार्य होने का विवरण मांगा जिसपर सचिव द्वारा कहा गया कि पुराने सरपंच द्वारा जितना कार्य था उतना ही रुपया अब तक खर्च किया गया है। इसपर कलेक्टर ने रठौड़ी सचिव से कहा कि अगर आप इसमें दोषी पाए जाते है तो आपकी तनख्वाह से रुपया काटा जाएगा। काछला सचिव, बेज सचिव और पुनियावाट के सचिव से भी जानकारी प्राप्त की जिनसे सन्तोषप्रद जवाब मिला। सामाजिक कार्यो के भी निर्देश सहायक सचिवों को निर्देश दिए कि आपको आपके कार्यो के अलावा सामाजिक कार्य भी करना है। बच्चों को सहायक सचिव और पटवारी दोनों मिलकर स्कूल में भर्ती करवाए। छात्रवृति का कार्य पूर्ण करवाना। गांवों में हर घर में शौचालय बना है यी नहीं इसे देखकर लोगों को इसके उपयोग हेतु प्रोत्साहित करना। एस.डी.ओ. सुरेन्द्र सिंह गौड़ से एक पंचायत में औसत से अधिक तालाबों के वितरण को लेकर कलेक्टर ने नाराजगी जताई और आगे से ऐसा ना करने के निर्देश दिए। अधूरे कार्य हो जल्द पूर्ण कलेक्टर ने अधूरे कामों को जल्द पूरा करने के निर्देश देते हुए कहा कि जब तक आप कार्यो को पूर्ण नहीं करते तब तक आपको अन-आपत्ती प्रमाण-पत्र नहीं दिया जाएगा और आप सरपंच का चुनाव नहीं लड़ पाएंगे। बोर्ड परीक्षाओं के रिजल्ट पर भी कलेक्टर ने खण्ड शिक्षा अधिकारी पर नाराजगी जताई और वहीं मुख्य कार्यपालन अधिकारी डुंगरसिंग सोलंकी पर भी वे नाराज हुए और कहा कि आप निर्माण कार्यो पर नजर रखने में असफल रहे। बैठक के बाद कलेक्टर ने कौशल ट्रेनर सेंटर पर जाकर स्थिति का जायजा लिया।
योग साधक मोहताज नही रहता
23 May 2014
स्थानीय लालबाग उद्यान में चल रहे योग शिविर में व्यक्तित्व विकास व्यायानमाला के अन्तर्गत मुख्य अतिथि डॉं. श्रीकांत द्विवेदी शिक्षाविद्व ने योग साधना की महिमा बताते हुए विद्यार्थियो/खिलाडियों व उपस्थित योग साधकों को सीख देते हुए कहा कि सच्चा योग साधक कभी मोहताज नही होता, वह स्वयं अनुशासित होकर समाज में सम्मान के साथ वे सभी सुविधाए प्राप्त कर लेता है, जिसके लिए एक साधारण व्यक्ति कई बार अनेकों प्रयासों के बावदूज भी वंचित रह जाता है। इस अवसर पर योग क्रिया के साथ-साथ विद्यार्थियों/खिलाडियों में स्वविचार व्यक्त करने की क्षमता बढाने के उद्देश्य से बालक/बालिकाओं से तात्कालिक भाषण की भी शुरूआत डॉं. दिनेश कश्यप जिला योग प्रभारी द्वारा की गई। जिसे उपस्थित कई वरिष्ठ समाजजनों से सराहा। जिला योग प्रशिक्षण श्री रमेशचन्द्र कश्यप सहित योग स्वयंसेवी रेखा अग्रवाल, काजल भूरिया, राजकुमार, दीपक यादव आदि ने प्राणायम, आसन व ध्यान का अभ्यास सभी को करवाया। उक्त जानकारी जिला योग प्रशिक्षक डॉं. दिनेश कश्यप ने दी।
कार्यालयो में आंतक विरोधी शपथ दिलाई गई
21 May 2014
आंतक विरोधी दिवस पर बुधवार को प्रातः 11 बजे जिले के समस्त शासकीय कार्यालयो में आंतक विरोधी शपथ दिलाई गई। कलेक्टरेट कार्यालय में आंतक विरोधी शपथ अपर कलेक्टर जयेन्द्र कुमार विजयवत ने दिलाई। इस अवसर पर कलेक्ट्रेट कार्यालय के कर्मियो के साथ-साथ प्रशासनिक अधिकारी भी उपस्थित थे।
शासकीय प्रायोजित योजनाओ में बैंक उदारता से दे ऋण-कलेक्टर
22 May 2014
गत वित्तीय वर्ष में बैंको ने शासकीय प्रायोजित योजनाओ के लक्ष्य पूर्ति में जो सहयोग दिया है उसके लिए सभी शाखा प्रबंधक बधाई के पात्र है। सभी बैंको के पदाधिकारी से आशा है कि वे इस वित्तीय वर्ष में प्राप्त लक्ष्यो को इसी प्रकार पूरा करने में अपना योगदान देंगे, जिससे जिला पुनः प्रदेश के ऐसे जिलो में शुमार हो सके, जिन्होने समय सीमा में अपने लक्ष्यो को प्राप्त किया है। मंगलवार को जिला स्तरीय बैंकर्स समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए उक्त बाते कलेक्टर शोभित जैन द्वारा कही गई। बैठक में लीड बैंक मैनेजर किशोर कुमार तोलानी, आंचलिक कार्यालय खण्डवा के उप आंचलिक प्रबंधक श्री एसबी राय, रिजर्व बैंक भोपाल के प्रबंधक जेआर अहिरवार, जिला सहकारी बैंक के सीईओ एनआर मण्डलोई सहित जिले में कार्यरत बैंको के शाखा प्रबंधक सहित विभिन्न विभागो के जिला अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में विभिन्न विभागो को इस वित्तीय वर्ष में प्राप्त स्वरोजगार मूलक योजनाओ के लक्ष्यो का पुर्नआवंटन बैंकवार किया गया। इस दौरान कलेक्टर ने बैंको के पदाधिकारियो से आव्हान किया कि इन लक्ष्यो को प्राप्त करने के प्रयास अभी से प्रारंभ कर दे व कोशिश करे कि स्वीकृति के साथ-साथ ऋण वितरण का कार्य भी सतत् चलता रहे, जिससे बेरोजगार युवको को अपना स्वरोजगार स्थापित करने में सहूलियत हो सके। बैठक के दौरान लीड बैंक मैनेजर किशोर तोलानी ने वर्ष 2014-15 का जिला क्रेडिट प्लान भी प्रस्तु किया, जिसका अनुमोदन बैठक के दौरान किया गया। बैठक के दौरान जिले में विगत दिनो हुई ओलावृष्टि, असामयिक वर्षा से प्रभावित ग्रामो व ऐसे किसान जिनकी फसल 50 प्रतिशत से अधिक खराब हुई है उनकी सूची भी बैंको के पदाधिकारियो को दी गई, जिसके आधार पर बैंक इन किसानो के अल्पकालीन फसल ऋण को मध्यकालीन ऋण में परिवर्तन तथा शेष ऋणो में नाबार्ड, रिजर्व बैंक के दिशा निर्देशानुसार सुविधा देगी। बैठक में तय किया गया कि विकासखण्डवार होने वाली बैठको के दौरान जहां बैंको के प्रतिनिधि उपस्थित रहेंगे वही विभागो के जिला अधिकारी भी उपस्थित रहकर विभिन्न शासकीय प्रायोजित योजनाओ में युवको के ऋण प्रकरण फार्म भी भरवायेंगे। इन फार्मो को बैंको के प्रतिनिधि आगामी 15 दिनो में परीक्षण कर ऋण स्वीकृतत करने व वितरण करने की कार्यवाही करेगी। बैठक के दौरान बैंको द्वारा विभिन्न शासकीय योजनाओ में जारी ऋण की वसूली में राजस्व अधिकारियो के सहयोग पर भी चर्चा की गई।
मकान जलने से मृत्यु होने पर 1.50 लाख रूपये की आर्थिक सहायता
20 May 2014
ग्राम अंजदी की रूपाबाई पति जलाल की मृत्यु मकान में अचानक आग लगने से हो जाने पर उसके परिजन को 1.50 लाख रूपये की आर्थिक सहायता जिला प्रशासन द्वारा स्वीकृत की गई है। उक्त राशि मृतक के निकटतम वारिस पुत्र बंशीलाल को तत्काल वितरित करने के आदेश अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) राजपुर श्रीमती उषा सिंह ने दिए है।
कार्यालयो में आज दिलवाई जायेगी आतंकवाद विरोधी शपथ
20 May 2014
आतंकवाद विरोधी दिवस पर आज अर्थात् 21 मई को प्रातः 11 बजे जिले के समस्त शासकीय कार्यालयो में कर्मियो को अहिंसा एवं सहनशीलता की परम्परा में दृढ़ विश्वास रखते हुए आतंकवाद और हिंसा का डटकर विरोध करने, सभी वर्गो के बीच शांति, सामाजिक सद्भाव तथा सूझबूझ कायम करते हुए मानव जीवन मूल्यो को खतरा पहुचाने वाली और विघटनकारी शक्तियो से लड़ने की शपथ दिलाई जाएगी।







 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 
Copyright © 2014, BrainPower Media India Pvt. Ltd.
All Rights Reserved
DISCLAIMER | TERMS OF USE