Untitled Document


register
REGISTER HERE FOR EXCLUSIVE OFFERS & INVITATIONS TO OUR READERS

REGISTER YOURSELF
Register to participate in monthly draw of lucky Readers & Win exciting prizes.

EXCLUSIVE SUBSCRIPTION OFFER
Free 12 Print MAGAZINES with ONLINE+PRINT SUBSCRIPTION Rs. 300/- PerYear FREE EXCLUSIVE DESK ORGANISER for the first 1000 SUBSCRIBERS.

   >> सम्पादकीय
   >> राजधानी
   >> कवर स्टोरी
   >> विश्व डाइजेस्ट
   >> बेटी बचाओ
   >> आपके पत्र
   >> अन्ना का पन्ना
   >> इन्वेस्टीगेशन
   >> मप्र.डाइजेस्ट
   >> मध्यप्रदेश पर्यटन
   >> भारत डाइजेस्ट
   >> सूचना का अधिकार
   >> सिटी गाइड
   >> अपराध मिरर
   >> सिटी स्केन
   >> जिलो से
   >> हमारे मेहमान
   >> साक्षात्कार
   >> केम्पस मिरर
   >> फिल्म व टीवी
   >> खाना - पीना
   >> शापिंग गाइड
   >> वास्तुकला
   >> बुक-क्लब
   >> महिला मिरर
   >> भविष्यवाणी
   >> क्लब संस्थायें
   >> स्वास्थ्य दर्पण
   >> संस्कृति कला
   >> सैनिक समाचार
   >> आर्ट-पावर
   >> मीडिया
   >> समीक्षा
   >> कैलेन्डर
   >> आपके सवाल
   >> आपकी राय
   >> पब्लिक नोटिस
   >> न्यूज मेकर
   >> टेक्नोलॉजी
   >> टेंडर्स निविदा
   >> बच्चों की दुनिया
   >> स्कूल मिरर
   >> सामाजिक चेतना
   >> नियोक्ता के लिए
   >> पर्यावरण
   >> कृषक दर्पण
   >> यात्रा
   >> विधानसभा
   >> लीगल डाइजेस्ट
   >> कोलार
   >> भेल
   >> बैरागढ़
   >> आपकी शिकायत
   >> जनसंपर्क
   >> ऑटोमोबाइल मिरर
   >> प्रॉपर्टी मिरर
   >> सेलेब्रिटी सर्कल
   >> अचीवर्स
   >> पाठक संपर्क पहल
   >> जीवन दर्शन
   >> कन्जूमर फोरम
   >> पब्लिक ओपिनियन
   >> ग्रामीण भारत
   >> पंचांग
   >> रेल डाइजेस्ट
  
ऑटोमोबाइल मिरर










मेट्रोमिरर ऑटोडेस्क
Q-महिंद्रा एक्सयूवी 500 और महिंद्रा स्कॉर्पियो में से कौन-सी सेवन सीटर गाड़ी अच्छी रहेगी?
समीक्षा
A-आपने जिन दोनों गाड़ियों का चयन किया है उनें से एक भी आधिकारिक तौर पर सेवन सीटर नहीं है। हां, आप इसमें कोशिश करके सात लोग बैठा सकते हैं। यदि आप सही में सेवन सीटर कार लेना चाहते हैं तो आपको अर्टिगा, जॉय, मोबिलियो के बारे में विचार करना चाहिए। आप इनके डीजल या पेट्रोल वर्जन में से किसी एक का चुनाव कर सकते हैं। यदि आपको महीने में एक हजार किलोमीटर से अधिक चलना होता है तो आप डीजल वर्जन चुनें, अन्यथा पेट्रोल वर्जन ही ठीक रहेगा।
Q-होंडा सिटी और हुंडई वर्ना में से कौन-सी सिडान कार अच्छी रहेगी?
रवि
A-मेरी सलाह यही होगी कि आप वर्ना खरीदें। यह बहुत ही शानदार गाड़ी है। इसमें बहुत सारे फीचर्स हैं जो आपको आराम देने के लिए काफी हैं। इसमें सामान रखने का स्पेस भी तुलनात्मक तौर पर ज्यादा है। ऐसे में यह आपकी सारी जरूरतों को पूरा करने में मददगार साबित होगी।
Q-हमें पांच या सात सीटर गाड़ी लेनी है। हमारा बजट चार लाख रुपए है। डस्टन गो बाजार में कब आएगी? क्या यह ठीक ऑप्शन है?
गरिमा
A-डस्टन गो अब बाजार में आ चुकी है। यह आपके बजट में भी है। यह अच्छी गाड़ी है। इसे लेने का विचार बनाया जा सकता है। फिर भी मेरी सलाह यही होगी कि आप किसी भी गाड़ी के चयन से पहले परिवार के साथ उसकी टेस्ट ड्राइव जरूर लें। ऐसा करने से आपको सही वाहन का चुनाव करने में मदद मिलेगी। आप अपने परिवार की पसंद से वाहन चुनेंगी तो यह आपकी खुशियों को बढ़ाने के लिए काफी होगा।
Q-मेरे पति एसयूवी लेना चाहते हैं। हमारे परिवार में तीन ही सदस्य हैं। इसलिए मैं ज्यादा पैसा खर्च नहीं करना चाहती। आप कोई बेहतर ऑप्शन बताएं?
स्वाति
A-आजकल लो बजट में भी एसयूवी मिल जाती है। आप भविष्य का ध्यान रखते हुए इसका चयन कर सकती हैं। एसयूवी हर मामले में अच्छी ही होती है। इसमें स्पेस भी बहुत होता है और इसे ऑफ रोड भी चलाया जा सकता है। इसलिए आपके पति का चयन बेहतर होगा। आप फोर्ड ईको स्पोर्ट का चयन कर सकती हैं। यह लुक में छोटी है और बहुत महंगी भी नहीं है। इसके साथ आप यह ध्यान रखें कि पेट्रोल वर्जन का चयन बेहतर होगा। यह डीजल वर्जन के मुकाबले सस्ता होता है। इससे आपके बजट पर ज्यादा दबाव नहीं आएगा आैर पति की इच्छी भी पूरी हो जाएगी।
Q-मुझे महीने में 300 किलोमीटर चलना होता है। मैं डीजल वर्जन कार खरीदना चाहता हूं। हुंडई एक्सेंट और मारुति स्विफ्ट डिजायर में से कौन-सा ऑप्शन अच्छा रहेगा?
राजेश
A-धीरे-धीरे पेट्रोल और डीजल के दामों में अंतर कम होता जा रहा है। इसलिए डीजल वर्जन का चयन करना अब बहुत अच्छा विकल्प साबित नहीं होता। जब आपको बहुत अधिक सफर करना हो तभी डीजल कार खरीदनी चाहिए। इससे आपको उसकी अधिक कीमत वसूलने में मदद मिल सकेगी। आपने जिन दो कारों का चयन किया है वे दोनों ही अच्छी हैं। इनमें से किसी का भी चयन किया जा सकता है। लेकिन मैं मारुति को ज्यादा पंसद करता हूं। यदि आपकी जगह मैं होता ताे उसे ही चुनता।
Q-मुझे सेकंड हैंड गाड़ी खरीदना है। मेरा बजट सत्तर हजार है। मुझे महीने में बहुत कम सफर करना होता है। मेरे लिए कौन-सा ऑप्शन ठीक रहेगा?
आदित्य
A-आप अपने परिवार के हिसाब से कार का चयन कर सकते हैं। मेरी सलाह यही होगी कि आप कार निर्माता कंपनी के सेकंड हैंड डिपार्टमेंट से वाहन खरीदें। इसके लिए मारुति या हुंडई के शोरूम में संपर्क किया जा सकता है। वे लोग अपने यहां अच्छी सेकंड हैंड गाड़ियां बेचते हैं। वे आपको गाड़ी देने से पहले उसकी अच्छे से जांच कर लेते हैं। इसके साथ ही कुछ गाड़ियों पर वे एक साल की वारंटी भी देते हैं। इससे आपको सर्विसिंग में कोई दिक्कत नहीं आती।
Q-मुझे गाड़ी में वूफर लगाना है। इसके लिए क्या कम्प्यूटर वाले वूफर का इस्तेमाल किया जा सकता है या कार के लिए अलग से वूफर होते हैं?
अभिषेक
A-आप किसी अच्छे मैकेनिक के पास जाएं। वह आपकी कार के हिसाब से सही वूफर के बारे में आपको जानकारी दे सकेगा। आपकी कार में कैसी जगह है और कितने साउंड की जरूरत है इसके हिसाब से वूफर का चयन करना बेहतर होगा।



भारत में लॉन्च हुआ सैमसंग गैलेक्सी एस7, गलैक्सी S7 Edge
Our Correspondent :09 March 2016
नई दिल्ली: कोरियाई इलेक्ट्रानिक्स कंपनी सैमसंग ने मंगलवार को भारत में गैलेक्सी एस7 और गैलेक्सी एस7 एज स्मार्टफोन पेश किए। इनकी कीमत 48,900 रुपये से शुरू होती है। ये फोन इस महीने के आखिर तक बाजार में आ जाएंगे। सैमसंग इंडिया के मोबाइल कारोबार के निदेशक मनु शर्मा ने यहां संवाददाताओं को बताया, ‘ गैलेक्सी एस7 और एस7 एज (56,900 रुपये) परिष्कृत डिजाइन, उन्नत इमेजिंग क्षमता, जबरदस्त साफ्टवेयर एवं बेजोड़ संपर्क का आदर्श उदाहरण है।’
भारतीय उपभोक्ताओं को फोन को जरूरत के मुताबिक उपयोग करने की सुविधा देने के लिए कंपनी ने फोन के भीतर ‘सैमसंग कॉनसियर्ज’ डाला है। गैलेक्स एस7 में 5.1 इंच का डिसप्ले और 3000 एमएएच की बैटरी लगी है, जबकि एस7 एज में 5.5 इंच का डिसप्ले और 3,600 एमएएच की बैटरी है। साथ ही इसमें 4जीबी का रैम लगा है।


मारुति ने लॉन्च की COMPACT SUV विटारा ब्रेजा, कीमत 6.99 लाख रुपए
Our Correspondent :09 March 2016
मुंबई: देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया ने अपना बहुप्रतीक्षित मॉडल ‘विटारा ब्रेजा’ को मंगलवार को लांच किया गया। इस कार की दिल्ली के शोरूम में आमंत्रण मूल्य 6.99 रुपये से 9.68 लाख रुपये के बीच है। इसके साथ कंपनी ने कांपैक्ट एसयूवी खंड में कीमत को लेकर जंग छेड़ दी है। कंपनी का यह माडल फोर्ड की ईकोस्पोर्ट और महिन्द्रा की टीयूवी300 से मुकाबला करेगा जिनकी कीमतें 7 लाख रुपये से 10.65 लाख रुपये के बीच है।
मारुति सुजुकी इंडिया के प्रबंध निदेशक व सीईओ केनिची आयुकावा ने यहां संवाददाताओं को बताया, ‘भारतीय बाजार के सबसे महत्वपूर्ण खंडों में से एक कांपैक्ट एसयूवी में हमारी उपस्थिति नहीं थी। विटारा ब्रेजा ने इस खंड में हमारी उपस्थिति दर्ज करा दी है।’ इस नए माडल के लिए बुकिंग आज से शुरू हो गई, जबकि डिलीवरी इस महीने के अंत तक की जाएगी। नए कांपैक्ट एसयूवी के विकास पर उन्होंने कहा, ‘ यह मारुति सुजुकी के इंजीनियरों का काम है जिन्होंने सुजुकी की मुख्य प्रौद्योगिकी एवं वैश्विक विकास प्रक्रिया का उपयोग किया।’
कंपनी का दावा है कि यह नया एसयूवी एक लीटर में 24.3 किलोमीटर का माइलेज देगा जोकि ‘एसयूवी वर्ग में सबसे अधिक और इस खंड में मौजूदा माडलों से 10-20 प्रतिशत अधिक है।’ यह वाहन केवल डीजल इंजन में उपलब्ध है और इसमें 1300 सीसी का इंजन लगा है।


सैमसंग का धमाका,बेहतरीन फीचर्स के साथ लॉन्च हुए Galaxy S7, Galaxy S7 Edge
22 February 2016
नई दिल्ली: स्पेन के बर्सिलोना में शुरू हुए दुनिया का सबसे बड़े स्मार्टफोन मेले मोबाइल वर्ल्ड कॉन्ग्रेस 2016 से एक दिन पहले ही कोरियाई स्मार्टफोन मेकर कंपनी सैमसंग ने धमाका किया है. सैमसंग ने अपने इस साल के फ्लैगशिप डिवाइसेस – Galaxy S7 और Galaxy S7 Edge से पर्दा उठा लिया है. मंगलवार से प्री-ऑर्डर के साथ ही 11 मार्च से ये दोनों स्मार्टफोन कुछ चुनिंदा देशों में मिलना शुरू हो जाएंगे.
पिछले साल सैमसंग के फ्लैगशिप – Galaxy S6 ने इस साल लांच होने वाले Galaxy S7 से उम्मीदें काफी बढ़ गई थीं. सैमसंग ने इस बार अपने दोनों फ्लैगशिप वेरिएंट में खुद का एक्सायनस 8890 प्रोसेसर और क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 820 प्रोसेसर को जगह के हिसाब से चुना है. कुछ जगहों पर इन दोनों स्मार्टफोन को हाइब्रिड डुअल सिम के साथ पेश किया जायेगा. हाइब्रिड सिम होने से यूजर एक सिम कार्ड और एक माइक्रोएसडी कार्ड या फिर दोनों सिम को एक साथ चला सकते हैं.
सैमसंग Galaxy S7 में 5.1 इंच का क्यूएचडी सुपर एमोलेड डिस्प्ले है जबकि सैमसंग Galaxy S7 Edge में 5.5 इंच की क्यूएचडी सुपर एमोलेड डिस्प्ले पैनल है. यह हैंडसेट आईपी68 सर्टिफाइड है यानी डस्ट और वाटर प्रूफ है. दोनों ही एलजी के जी5 स्मार्टफोन की तरह ऑलवेज-ऑन डिस्प्ले फीचर के साथ आते हैं, जिससे बिना फोन को टच किये ही टाइम और तारीख जैसे जरूरी नोटिफिकेशन चेक किये जा सकते हैं.
बात की जाये कैमरे की दोनों ही फोन में 12 मेगापिक्सल का डुअल पिक्सल रियर कैमरा है जो स्मार्ट ओआईएस फीचर से लैस है. सेल्फी सेंसर के साथ फ्रंट कैमरा 5 मेगापिक्सल का है. सैमसंग के इस फ्लैगशिप के दोनों वेरिएंट में 4 जीबी की दमदार रैम है. साथ ही Galaxy S7 और एस7 एज 32 जीबी और 64 जीबी की इंटरनल मेमोरी के दो वेरिएंट में है. इनकी मोमोरी को (200 जीबी तक) माइक्रोएसडी कार्ड की मदद से बड़ाया जा सकता है. Galaxy S7 और Galaxy S7 Edge में एक्सायनस 8890 ऑक्टा-कोर (2.3 गीगाहर्ट्ज़ क्वाडकोर+ 1.7गीगाहर्ट्ज़ क्वाड-कोर) प्रोसेसर या क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 820 क्वाडकोर (2.15 गीगाहर्ट्ज़ डुअलकोर+ 1.6 गीगाहर्ट्ज़ डुअल कोर) प्रोसेसर दिया गया है.
सैमसंग Galaxy S7 में 3000 एमएएच की बैटरी है जो वायरलेस और वायर के साथ फास्ट चार्जिंग को सपोर्ट करती है,वहीं Galaxy S7 Edge में बैटरी 3600 एमएएच की है. Galaxy S7 और Galaxy S7 Edge एंड्रॉयड 6.0 मार्शमैलो पर चलता है. स्मार्टफोन में कैटेगरी 9 के साथ एलटीई सपोर्ट है जो 450 एमबीपीएस की डाउनलोड स्पीड जबकि 50 एमबीपीएस की अपलिंक स्पीड देता है.

फेरारी की नई कार: स्पीड- 325 किलोमीटर/घंटा, कीमत- 3.88 करोड़ रुपए
19 February 2016
नई दिल्ली: एक कार जिसकी कीमत लगभग चार करोड़ रुपए हो और उसकी रफ्तार प्रति घंटे 325 किलोमीटर है। क्या आपको यकीन नहीं है? लेकिन यह सच बात है। महंगी स्पोर्ट्स कार बनाने वाली कंपनी फेरारी ने भारत में 488 जीटीबी माडल पेश किया है जिसकी कीमत दिल्ली के शोरूम में 3.88 करोड़ रुपए है। कार की उच्चतम गति 325 किलोमीटर प्रति घंटा है और यह विश्व भर में उपलब्ध कानूनी तौर पर सड़क पर चलने वाली सबसे तेज कार है।

फेरारी 488 जीटीबी की खासियत

फेरारी 488 जीटीबी में 3.9 लीटर वी8 टर्बो इंजन लगा हुआ है। यह 659.78 बीएचपी की ताकत और 760 एनएम तक का टॉर्क उत्पन्न करने में सक्षम है। इसमें 7 स्पीड एफ वन डुअल स्पीड ट्रांसमिशन इंजन लगा हुआ है। यह ​अधिकतम 325 किमी प्रति घंटे की रफ्तार भर सकती है। 0 (जीरो) से 100 किमी प्रति घंटे की स्पीड की रफ़्तार पकड़ने में इसे महज 3 सेकंड का समय लगता है। जबकि 100 से 200 किमी प्रति घंटे की रफ्तार यह महज 5.3 सेकंड में बना सकती है। इसके इंजन को फ्यूल एफिशिएंट बनाया गया है। यह 11.4 किमी प्रति लीटर तक का माइलेज दे सकती है।

रिंगिंग बेल्स आज लॉन्च करेगी सबसे सस्‍ता स्‍मार्टफोन Freedom 251, बुकिंग कल से शुरु
17 February 2016
नई दिल्ली। देश की मोबाइल कंपनी रिंगिंग बेल्स आज देश का सबसे सस्ता स्मार्टफोन लांच करने जा रही है। कंपनी ने इस फोन की कीमत सिर्फ 251 रुपए रखी है। इसलिए इस फोन का नाम फ्रीडम 251 (Freedom 251) रखा गया है। रिंगिंग बेल्‍स के इस फोन के मार्केट में आने से स्‍मार्टफोन बाजार में नया कंप्‍टीशिन शुरू होगा। कंपनी की योजना 500 रुपए से कम के स्‍मार्टफोन मार्केट में उतारने की है।
इस फोन के लिए गुरुवार (18 फरवरी) से 21 फरवरी तक बुकिंग शुरू होगी। इसके बाद 30 जून तक डिलिवरी मिल जाएगी। बुकिंग सुबह छह बजे से शुरू होगी। बताया जा रहा है कि फ्रीडम 251 फोन में जबरदस्‍त फीचर है।
रिंगिंस बेल्स के स्मार्टफोन Freedom 251 को केंद्रीय रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर आज लांच करेंगे। कंपनी ने प्रधानमंत्री के मेक एन इंडिया के प्रोजेक्ट को ध्यान में रखकर यह फोन बनाया है। नोएडा की इस कंपनी ने मीडिया को बताया कि फोन की कीमत 500 रुपए के अंदर रखी गई है। लांचिग से पहले किये गये सभी टेस्ट सफल रहे हैं।
फोन में 1.3 गीगाहर्टज क्‍वाडकोर प्रोसेसर है। साथ ही 1जीबी रैम और 2जीबी इंटरनल मैमेरी है। यह फोन पूरी तरह स्वदेशी है। मैन्युफैक्चरिंग से लेकर असेंबलिंग तक भारत में ही हुआ है।
गौर हो कि इस समय बाजार में सबसे सस्ते स्मार्टफोन की कीमत 1500 रुपए के आसपास है। ऐसे में यह फोन अन्य फोन दूसरी कंपनियों के लिए परेशानी और चुनौती का कारण बन सकता है। हाल ही में रिंगिंग बेल्‍स ने 2,999 रुपए में 4जी स्‍मार्टफोन को मार्केट में लॉन्‍च कि‍या था। इसके अलावा, मार्केट में कंपनी के दो फीचर फोन भी मौजूद हैं।

Tata Motors ने पेश की ZICA, 25KM प्रति लीटर का माइलेज
21 December 2015
मुंबई। टाटा मोटर्स ने अपनी बहुचर्चित हैचबैक कार Zica की तस्वीरें जारी कर दी हैं. कंपनी की इस कार को लेकर बाजार में काफी उत्साह देखा जा रहा है. इसी के साथ कंपनी इसी हफ्ते इस कार को मीडिया के सामने पेश करने जा रही है. इससे पहले कंपनी ने आज ऑफिशियल ट्विटर हैंडल पर नई कारों की तस्वीरें भी जारी की है. सबसे ज्यादा खास बात ये है कि कंपनी की ये कार उस सेगमेंट में उतर रही है जिस सेगमेंट में कंपनी ने आज तक कोई प्रोडक्ट लॉन्च नहीं किया था.

क्या है इस कार की खासियत

टाटा जीका में 1.05 लीटर का 3 सिलिंडर वाला डीजल इंजन लगाया गया है, जिससे कार को 64BHP की शक्ति मिलेगी तथा 25 किमी प्रतिलीटर का माइलेज भी मिलेगा. वहीं पेट्रोल वेरिएंट में 3 सिलिंडर का 1.2 लीटर वाला रेवोट्रोन इंजन लगा है. पूरा इंजन एल्‍युमिनियम से बनाया गया है. ऐसी उम्‍मीद है कि जीका का AMT गियरबॉक्‍स युक्‍त वेरिएंट भी पेश किया जाएगा. जीका में टच स्‍क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्‍टम, स्‍टीयरिंग माउंटेड कंट्रोल्‍स, फोन तथा ऑडियो सिस्‍टम भी लगाया गया है. इसके अलावा ब्‍लूटूथ सपोर्ट, डुअल फ्रंट एयरबैग्‍स, एबीएस, इलेक्ट्रिक्‍ली एडजस्‍टेबल रियर व्‍यू मिरर्स तथा फॉगलैम्‍प भी दिए गए हैं.

क्या हो सकती है कीमत

कंपनी टाटा जीका की कीमत 3.5 लाख रुपए से लेकर 4 लाख रुपए के बीच रख सकती है. बाज़ार में Tata Zica का इंतज़ार बेसब्री से किया जा रहा है. हालांकि इसकी कीमत के बारे में पुष्टि नहीं हुई है.।

माइक्रोसॉफ्ट ने लॉन्च किए 20MP कैमरे वाले हाईटेक स्मार्टफोन्स
21 December 2015
मुंबई। माइक्रोसॉफ्ट आज भारत में अपनी लुमिया सीरीज के दो नए स्मार्टफोन लुमिया 950 और लुमिया 950 XL लॉन्च किए है. भारत में लॉन्च होने वाले ये पहले स्मार्टफोन हैं जो विंडोज 10 ऑपरेटिंग सिस्टम पर काम करेंगे. लॉन्चिंग इवेंट दिल्ली में आयोजित किया गया. इवेंट के दौरान माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के चेयरमैन भास्कर प्रमाणिक और माइक्रोसॉफ्ट मोबाइल डिवाइस के कंट्री हेड अजय मेहता भी मौजूद थे.
यह फोन 11 दिसंबर से उपभोक्ताओं के लिए उपलब्ध होंगे. कंपनी ने लुमिया 950 की कीमत 43,699 रुपए रखी है.

क्या है खासियत

माइक्रोसॉफ्ट ने लुमिया 950 में 3GB रैम लगाई है. इस स्मार्टफोन की इंटरनल मैमोरी 32GB है जिसे आप माइक्रोएसडी कार्ड की सहायता से बढा सकते हैं. साथ ही इसमें लिकि्वड कूलिंग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल भी किया गया है. कैमरे की बात करें तो इसमें 20MP का कैमरा ट्रिपल LED फ्लैश के साथ दिया गया है और फ्रंट में 5MP का कैमरा दिया गया है. इस फोन में 4K वीडियो रिकॉडिंग की जा सकती है.

स्क्रीन और डिस्प्ले में क्या है खास

माइक्रोसॉफ्ट लुमिया 950 में 5.2 इंच स्क्रीन है, QHD (2560x1440 पिक्सल रेजोल्यूशन) डिस्प्ले क्वालिटी देती है. इसके साथ, ये 564ppi (पिक्सल पर इंच) डेनसिटी भी देती है. दूसरी तरफ, माइक्रोसॉफ्ट लुमिया 950 XL की 5.7 इंच स्क्रीन है, QHD (2560x1440 पिक्सल रेजोल्यूशन) डिस्प्ले क्वालिटी देती है. इसके साथ, ये 518ppi (पिक्सल पर इंच) डेनसिटी भी देती है. डेनसिटी के मामले में लुमिया 950 ज्यादा बेहतर है. दोनों हैंडसेट में स्क्रीन के प्रोटेक्शन के लिए कॉर्निंग गोरिल्ला ग्लास का इस्तेमाल किया गया है.।

बजाज ऑटो ने बाजार में उतारी सफेद रंग में 'Pulsar RS200'
21 December 2015
मुंबई। बजाज ऑटो ने पल्सर RS-200 मोटरसाइकिल सफेद रंग में भी पेश की. इस स्पोर्ट्स बाइक की कीमत 1,18,500 रुपए और ABS संस्करण की कीमत 1,30,268 रुपए हैं.
कंपनी ने कहा कि उनकी योजना प्रतिमाह पल्सर RS-200 की 2,500 इकाइयां बेचने की है. बाइक की पॉपुलैरिटी के चलते बजाज इसे और भी कई रंगों में उतारने की योजना बना रहा है. लॉन्च होने के समय ये बाइक सिर्फ लाल, पीले और काले रंग में आई थी.

फोर्ड नें लांच की नई इकोस्पोर्ट कार
09 October 2015
इंडिया ने आज अपनी लोकप्रिय एसयूवी इकोस्पोर्ट का नया मॉडल लॉन्च किया जिसकी कीमत 6.79 लाख रुपए से 10.44 लाख रुपए के बीच रखी गई है।
नयी इकोस्पोर्ट तीन तरह के ईंजन के विकल्प में आएगी। पेट्रोल मॉडल में 1.5 लीटर का ईंजन होगा जिसकी कीमत 6.79 लाख रुपए होगी से 9.93 लाख रुपए के बीच होगी। इसके अलावा फोर्ड ने एक लीटर इकोबूस्ट पेट्रोल ईंजन भी लॉन्च किया जिसकी कीमत 8.53 लाख रुपए से 9.89 लाख रुपए है। इधर 1.5 लीटर वाले डीजल ईंजन वाले मॉडल की कीमत दिल्ली के शोरूम में 7.98 लाख रुपए से 10.44 लाख रुपए है।


भारत में मर्सिडीज ने बेचीं 10 हजार से ज्यादा गाड़ियां
09 October 2015
नई दिल्ली। लक्जरी कार बनाने वाली प्रमुख कंपनी मर्सिडीज बेंज ने चालू वर्ष के पहले नौ महीने जनवरी से सितंबर के दौरान देश में 10079 कारें बेंची है जो पिछले वर्ष इसी अवधि में बेची गई 7529 कारों से 34 फीसदी अधिक है। कंपनी ने बुधवार को यहां बताया कि नए माडलों के बल पर उसकी बिक्री में तेजी बनी हुई है। कंपनी ने इस वर्ष 15 नए माडल पेश करने का लक्ष्य रखा था जिसमें से अधिकांश कारें बाजार में आ चुकी हैं। उसने कहा कि वर्ष 2014 में उसने कुल मिलाकर 10210 कारें बेची थीं जबकि इस वर्ष पहले नौ महीने में ही उसने 10 हजार से अधिक कारें बेची हैं। जुलाई से सितंबर के दौरान 3420 कारें बेची गई हंै।


अशोक लेलैंड के दोस्त ने सेल्स में छूआ एक लाख का आंकड़ा
18 August 2015
भोपाल| हिंदुजा समूह की प्रमुख कंपनी अशोक लेलैंड ने शुक्रवार को उसके हल्के वाणिज्यिक वाहन (एलसीवी) दोस्त की एक लाख बिक्री का जश्न मनाया जा रहा है। कंपनी ने एक बयान में कहा कि दोस्त अशोक लेलैंड और निसान के बीच संयुक्त उपक्रम का पहला प्रोडक्ट है। चार साल में यह उपलब्धि हासिल करने वाला दोस्त अपने क्षेत्र में तेज विकास करने वाले ब्रांड्स में एक है। इसके साथ ही यह अशोक लेलैंड पोर्टफोलियो में सबसे बड़े वोल्यूम वाला ब्रांड भी है। इस अवसर पर अशोक लीलैंड के रीजनल मैनेजर साइबल सिन्हा ने कहा कि एलसीवी की एक लाख की सेल 11 देशों में हुई जोकि इसके बेहतर प्रॉडक्ट डिजाइन, जानदार इंजीनियरिंग और मजबूत मार्केट स्वीकृति का प्रतीक है। अपने क्षेत्र में नंबर दो ब्रांड बन चुके इस एलसीवी की हर 6 वर्किंग मिनट में एक बिक्री हो रही है। वहीं कंपनी के एरिया मैनेजर मप्र शनिज गुप्ता ने कहा कि देशभर में 350 एक्सक्लूसिव मॉडर्न आउटलेट्स पर इसका एक्सपीरियंस लिया जा सकता है। इस उपलब्धि पर देशभर में मुफ्त सर्विस चेकअप कैंप, लॉयल्टी और रेफरल प्रोग्राम प्लान आयोिजत िकये जा रहे हैं।


पहली फोर्ड फिगो एस्पायर की चाभी सौंपी गई, ग्राहक ने सराहे कार के फीचर्स
18 August 2015
भोपाल| सभी आधुनिक तकनीकी, फीचर्स और खूबियों से लबरेज फोर्ड फिगो एस्पायर के पहले ग्राहक बने हैं हिमांशु डाबर। साईं फाेर्ड पर ग्रुप के बिजनेस हेड पवन कोहली ने उन्हें कार की चाभी सौंपी। श्री डाबर ने कार के फीचर्स की खूब सराहना की। इस अवसर पर श्री कोहली ने कहा कि कॉम्पैक्ट सेडान सेगमेंट की फोर्ड एस्पायर ग्राहकों के लिए एक बेहतरीन ऑप्शन है। तीन इंजन ऑप्शंस, दो पेट्रोल और एक डीजल, 5 स्पीड मैन्युअल ट्रांसमिशन के साथ 1.5 लीटर डीजल इंजन, डैश माउंटेड स्क्रीन के साथ फोर्ड सिंक सिस्टम, ब्लूटुथ टेलीफोनी, वॉइस कमांड, एयूएक्स-इन, यूएसबी-इन, म्यूजिक स्ट्रीमिंग जैसे फीचर्स इसे और अधिक शानदार बनाते हैं।


ऑटो पार्ट्स कारोबार में आया उतार चढाव
नई दिल्ली । वाहनों की बिक्री में कमी, ऊंची लागत और ब्याज दरों में कमी तथा निवेश में 50 प्रतिशत से ज्यादा की गिरावट के कारण वाहनों के कलपुर्जे बनाने वाली कंपनियों के कारोबार में 2013-14 में पिछले छह वित्त वर्ष के दौरान पहली बार उतार देखा गया। ऑटोमोबाइल कंपोनेंट मेनुफेक्चरिंग एसोसिएशन (एसीएमए) की ओर से गुरूवार को जारी आंकड़ों के अनुसार पिछले वित्त वर्ष के दौरान ऑटो पार्ट्स उद्योग में कुल 2117 करोड़ रूपए का कारोबार हुआ जो वित्त वर्ष 2012-13 के 2160 करोड़ रूपए के मुकाबले लगभग दो प्रतिशत कम है।
उल्लेखनीय है पिछले वित्त वर्ष से पहले लगातार चार साल इसमें बढ़ोतरी हुई थी। एसोसिएशन के अध्यक्ष हरीश लक्ष्मण ने बताया कि देश में इस समय ब्याज दरें दुनिया के किसी अन्य देश के मुकाबले अधिक हैं जिससे पूंजी लागत बढ़ रही है। साथ ही निवेश गिरकर पांच साल के न्यूनतम स्तर 32 से 44 करोड़ रूपए के बीच रह गया जबकि वित्त वर्ष 2012-13 में यह 69 से 95 करोड़ रूपए के बीच रहा था। हालांकि उन्होंने कहा कि बुरा वक्त अब पीछे छूट चुका है और वाहनों की बिक्री एक बार फिर रफ्तार पकड़ रही है जिससे आने वाले समय में ऑटो पार्ट्स के कारोबार को भी गति मिलेगी।
लक्ष्मण ने कहा कि इस दौरान अच्छी बात यह रही कि निर्यात में 16.7 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गई और यह 2012-13 के 526 करोड़ रूपए से बढ़कर 614 करोड़ रूपए हो गया। हालांकि आयात भी 744 करोड़ रूपए से बढ़कर 771 करोड़ रूपए पर पहुंच गया। उन्होंने कहा कि चालू वित्त वर्ष में ऑटो पार्ट्स उद्योग की विकासदर चार से छह प्रतिशत रहने की उम्मीद है जबकि वित्त वर्ष 2015-16 में 10 प्रतिशत विकास की उम्मीद की जा सकती है।
एसीएमए के उपाध्यक्ष रमेश सूरी ने बताया कि पिछले दो साल की मंदी से उबरने में उद्योग को समय लगेगा और चालू वित्त वर्ष की तीसरी और चौथी तिमाही में सकारात्मक परिणाम मिलने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि बिजली और आधारभूत ढांचा उद्योग के सामने दो सबसे बड़ी समस्या है। नई सरकार आने के बाद उन्होंने इस दिशा में नीतियों में बदलाव की उम्मीद की। सूरी ने कहा कि इस क्षेत्र में प्रशिक्षित कामगारों की कमी और अनुसंधान एवं विकास का उपेक्षित रहना भी एक बड़ी समस्या है।
उन्होंने कहा कि एसीएमए सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मेनुफेक्चरर्स और राष्ट्रीय कौशल विकास परिषद (एनएसडीसी) के साथ मिलकर प्रशिक्षित कामगार तैयार कर रहा है। इसके तहत वर्ष 2020 तक दो करोड़ लोगों को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है। सूरी ने बताया कि अनुसंधान एवं विकास में सरकार से भी सहयोग की अपील की गई है। उन्होंने बताया कि इस समय देश की आटो पार्ट्स कंपनियां इस दिशा में सिर्फ एक प्रतिशत निवेश करती हैं जबकि जापान तथा जर्मनी जैसे देशों में इस दिशा में तीन से पांच प्रतिशत खर्च किया जाता है।



बेहतर परफॉर्मेंस और अलग अंदाज में एक्स 5 का लेटेस्ट मॉडल
बीएमडब्ल्यू एक्स5 एक्सड्राइव 30 डी, एक्स5 का फेसलिफ्ट मॉडल है, लेकिन कंपनी ने नए मॉडल में कई महत्वपूर्ण बदलाव किये हैं । चार में अंदर और बाहर भी नयापन देखने को मिलेगा । नई कार की परफॉर्मेंस, हैंडलिंग और राइड क्वालिटी जबरदस्त है । जबकि इसकी रीयर-सीट थाई सपोर्ट कम है और इसमे अब भी कोई स्पेयर व्हील नहीं है । जानिए कार के बाकी फीचर्स

माइलेज : इसमें 3.0 लीटर २९९३ सीसी बीएमडब्ल्यू सिक्स सिलेंडर इन-लाइन डीज़ल इंजन है । ये एसयूवी शहर की सड़कों पर 5.8 किलोमीटर प्रति लीटर माइलेज देती है । जो पुराने मॉडल से बेहतर है ।

पावर : बीएमडब्ल्यू कार अपने बेहतरीन फीचर और परफॉर्मेंस के लिए प्रसिद्ध है । यही एक्स ५ रेंज पर लागू होता है । इसमें इनोवेटिव इंजन है जो बेहतरीन टॉर्क और पावर पैदा करता है । पावरप्लांट के आउटपुट का अच्छे तरीके से फायदा मिल सके इसलिए कार में स्टेप्ट्रोनिक ८- स्पीड ऑटोमैटिक गियरबॉक्स लगा हुआ है ।

पिक उप: बेहतरीन इंजन और गियरबॉक्स के कारण मैक्सिमम ड्राइविंग कम्फर्ट और परफॉमेंस मिलता है , ये कार ८ सेकंड से कम में 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार पर दौड़ती हैं । इसकी टॉप स्पीड- २२२ किलोमीटर प्रति घंटा है ।



अब नहीं मिलेगी हरे और मैरून रंग की एनफील्ड क्लासिक 350
नई दिल्ली। दमदार बाइक बुलेट बनाने वाली कंपनी रॉयल एनफील्ड ने अपने सबसे लोकप्रिय मॉडल 'क्लासिक 350' के हरे व मैरू न रंग के वैरिएंट्स की बिक्री बंद कर दी है। अब क्लासिक 350 व बाइक सिर्फ सिल्वर और काले रंगों में मिलेगी। इसी तरह क्लासिक 500 मॉडल के भी डेजर्ट स्ट्रोर्म व क्लासिक क्रोम फिनिश मॉडलों को वापस लिया जा रहा है। यह बाइक भी अब सिर्फ सिल्वर व काले रंगों में मिलेगी। रॉयल एनफील्ड क्लासिक 350 बाइक में 346 सीसी का यूनिट कंस्ट्रक्शन फोर-स्ट्रोक इंजन, 19.8 बीएचपी का पावर, 28 एनएम का टॉर्क, 5-स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स जैसी विशेषताएं हैं। इसी तरह, क्लासिक 500 बाइक में 500 सीसी इंजन, 27.2 बीएचपी का पावर, 41.3 एनएम का टॉर्क मिलता है।



युवा कारो का बाजार
यंगस्टर्स सिटी के में स्पोर्टी कार की दिवानगी बढ़ती जा रही है| इसे ध्यान में रखते हुए ज़्यादातर कार कंपनियों ने मिडिल सेगमेंट और टारगेटेड गाड़ियों के मॉडल्स लॉंच करने का फेसला किया है| महंगी हाई रेंज की गाड़ियाँ बनाने वाली कंपनियां भी लेटेस्ट मॉडल्स लॉंच करने की तेयारी में है|

कॉम्पेक्ट कार का दोर

स्टाइलिश और लग्जरी कार के लिए मशहूर कंपनी मर्सडीज भी आपनी मिडिल सेंगमेंट और न्यू जनरेशन कॉम्पेक्ट कार लॉंच कर रही है| इससे पहले मर्सडीज कॉप यूथ के बजट से बाहर समझा जाता था| वहीं, इस कंपनी ने ब मार्केट की डिमांड को देखते हुए आपने प्रोडेक्ट में बढ़ोतरी की है| कंपनी के मार्केटिंग मेनेज़र रोहन शर्मा ने बताया कि आने वाले कुछ समय में हेचबेक और कॉम्पेक्ट कार के मॉडल्स लॉंच करने की तेयरी है| इसमें मर्सडीज बी क्लास और ए क्लास का डीजल वर्जन लॉंच होगा | इन दोनो की कीमत 20 से 25 लाख रुपए हैं|



अब नहीं मिलेगी हरे और मैरून रंग की एनफील्ड क्लासिक 350
Our Correspondent :26 April 2014
नई दिल्ली। दमदार बाइक बुलेट बनाने वाली कंपनी रॉयल एनफील्ड ने अपने सबसे लोकप्रिय मॉडल 'क्लासिक 350' के हरे व मैरू न रंग के वैरिएंट्स की बिक्री बंद कर दी है। अब क्लासिक 350 व बाइक सिर्फ सिल्वर और काले रंगों में मिलेगी। इसी तरह क्लासिक 500 मॉडल के भी डेजर्ट स्ट्रोर्म व क्लासिक क्रोम फिनिश मॉडलों को वापस लिया जा रहा है। यह बाइक भी अब सिर्फ सिल्वर व काले रंगों में मिलेगी। रॉयल एनफील्ड क्लासिक 350 बाइक में 346 सीसी का यूनिट कंस्ट्रक्शन फोर-स्ट्रोक इंजन, 19.8 बीएचपी का पावर, 28 एनएम का टॉर्क, 5-स्पीड मैन्युअल गियरबॉक्स जैसी विशेषताएं हैं। इसी तरह, क्लासिक 500 बाइक में 500 सीसी इंजन, 27.2 बीएचपी का पावर, 41.3 एनएम का टॉर्क मिलता है।



कपड़ा मारना छोड़ो! खुद को साफ करती है निसान की ये कार
Our Correspondent :26 April 2014
लंदन। कार बनाने वाली जापान की कंपनी निसान ने दुनिया की पहली सेल्फ-क्लीनिंग कार पेश की है। मतलब यह कि धूल-भरी सड़कों पर लंबी यात्रा करने के बाद भी यह कार पूरी तरह साफ-सूथरी रहेगी। निसान ने इस कार में नैनो-पेंटटेक्नोलॉजी इस्तेमाल की है, जो पेंट पर गंदगी जमने से पहले ही उसे हटा देती है। कंपनी के एक प्रवक्ता ने कहा, 'निसान नोट पहली कार है जिसमें ऐसी पेंट टेक्नोलॉजी इस्तेमाल की गई है, जिसकी वजह से कार को धुलने की जरूरत नहीं रह जाती।' मीडिया रिपोर्टो में कहा गया है कि 'सुपर हाइड्रोफोबिक' और 'ओलियोफोबिक' पेंट पानी और तेल को भी सतह पर जमने नहीं देता। निसान की तरफ से जारी एक बयान के मुताबिक, पेंट और बाहरी माहौल के बीच हवा की सुरक्षात्मक परत बनाने से कार पर गंदगी नहीं जमती।


मुनाफे की पटरी से उतरी मारुति, 35 फीसद घटा लाभ
Our Correspondent :26 April 2014
नई दिल्ली। भारत की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी का शुद्ध मुनाफा जनवरी-मार्च तिमाही के दौरान 800 करोड़ रुपये रहा। इस मुनाफे में 35 फीसद की गिरावट दर्ज की गई है। इस खबर ने दलाल स्ट्रीट तक को हैरान कर दिया। वित्त वर्ष 2014 की चौथी तिमाही में मारुति सुजुकी का मुनाफा 35.5 फीसद घटकर 800 करोड़ रुपये हो गया है। वित्त वर्ष 2013 की चौथी तिमाही में मारुति सुजुकी का मुनाफा 1,240 करोड़ रुपये रहा था। वित्त वर्ष 2014 की चौथी तिमाही में मारुति सुजुकी की आय 9 फीसद घटकर 12,101 करोड़ रुपये हो गई है। वित्त वर्ष 2013 की चौथी तिमाही में मारुति सुजुकी की आय 13,304 करोड़ रुपये रही थी। मारुति सुजुकी के चेयरमैन आर सी भार्गव के मुताबिक वॉल्यूम में गिरावट से मुनाफे पर असर पड़ा है। वहीं डीलर्स के मुआवजे के कारण कंपनी के मुनाफे पर असर पड़ा है। चुनाव के बाद कार बाजार में सुधार की उम्मीद है। हालांकि वित्त वर्ष 2015 में भी बिक्त्री में बहुत ज्यादा सुधार की उम्मीद नहीं है। वित्त वर्ष 2014 की जनवरी-मार्च तिमाही में मारुति सुजुकी का एबिटडा मार्जिन 10.3 फीसद हो गया है। इससे पिछले वित्त वर्ष की जनवरी-मार्च तिमाही में मारुति सुजुकी का एबिटडा मार्जिन 15 फीसद रहा था। वित्त वर्ष 2014 की चौथी तिमाही में मारुति सुजुकी की अन्य आय सालाना आधार पर 117 करोड़ रुपये से बढ़कर 407 करोड़ रुपये हो गई है। भार्गव ने कहा कि सुजुकी गुजरात प्लांट में 3000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त निवेश कर सकती है। सेल्स प्रमोशन का खर्च बढ़ने का असर भी कंपनी के मुनाफे पर पड़ा है। इस साल कंपनी की 3 नए मॉडल लॉन्च करने की योजना है।


एक माह में आएगी नई टोयोटा कोरोला, जानें क्या है इसमें नया
Our Correspondent :26 April 2014
बेंगलुरू । टोयोटा की नई कोरोला (2014 मॉडल) भारत में एक महीने से भी कम समय में लॉन्च कर दी जाएगी। इसमें पेट्रोल और डीजल इंजन के विकल्प होंगे। टोयोटा की कोरोला 1966 से बिक रही है। यह दुनिया की बेस्ट सेलिंग कार बन गई है। बेंगलुरू के निकट बिदादी स्थित कंपनी के कारखाने में यह तैयार हो रही है। यहीं से इसका विदेशी वर्जन भी निर्यात हो रहा है। कंपनी जल्द इसका 2014 लॉन्च करने वाली है। इसकी बुकिंग शुरू हो गई है। पहली खेप मई 2014 में आएगी। इसकी कीमत 13-19 लाख रुपये हो सकती है। - पुरानी वाली कोरोला से 80एमएम ज्यादा लंबी, 15एमएम ज्यादा चौड़ी और 5 एमएम कम ऊंची - स्पोर्टी लुक के साथ-साथ 15 और 16 इंच वाले व्हील के विकल्प, मौजूदा वर्जन से ज्यादा स्पेसियस - आकर्षक डैशबोर्ड में बड़ा टच स्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम, मैनुअल और ऑटोमेटिक गियरबॉक्स के विकल्प - 4 सिलिंडर 1.4 लीटर डी-4डी टर्बोचा‌र्ज्ड डीजल और 1.8 लीटर 4 सिलिंडर पेट्रोल वीवीटी-आई इंजन - 1800 आरपीएम का पीक टॉर्क देने वाली डीजल टोयोटा कोरोला में कम ईधन खपत का दावा।


अगर ऐसा हुआ तो गायब हो जाएंगी 70 लाख गाड़ियां!
Our Correspondent :26 April 2014
नई दिल्ली। क्या होगा अगर सड़कों पर दौड़ रही पुरानी कारें अचानक गायब हो जाएं। एक प्रस्ताव ऐसा है जो इस बात को सच साबित कर सकता है। अगर नया सरकारी प्रस्ताव अमल में आया तो कई पुराने वाहनों को एक फिटनेस टेस्ट से गुजरना होगा। इस टेस्ट के जरिये रोड़ पर उनकी कीमत का पता लगाया जा सकेगा। कुछ दिन पहले सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के केंद्रीय मोटर वाहन नियम-तकनीक की स्टेंडिंग कमेटी कांफ्रेंस में कहा गया कि निजी वाहनों की 15 वर्ष बाद जांच की जानी चाहिए। इसमें इसके बाद हर पांच वर्ष बाद जांच किये जाने का भी प्रावधान है। इस जांच से यह बात स्पष्ट हो जाएगी कि क्या वे वाहन निर्धारित उत्सर्जन और सुरक्षा सीमाओं के मानकों पर खरे उतरते हैं। व्यावसायिक वाहनों के लिए दो वर्ष बाद और उसके बाद वार्षिक जांच का प्रावधान सुझाया गया है। इस प्रस्ताव को सोसायटी ऑफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैनुफैक्रर्स (सियाम) के पहले पेश किए गए प्रस्ताव के विकल्प में सुझाया गया था। इस संस्था ने कहा था कि 1996 से पहले बने सभी वाहनों का इस्तेमाल बंद किया जाना चाहिए। सियाम का तर्क था कि क्योंकि भारत में उत्सर्जन संबंधी नियम 1996 के बाद से प्रभाव में आए हैं, इसलिए इससे पहले बने वाहनों को सड़क से हटाकर प्रदूषण को कम करने में मदद मिलेगी। यह बात समझी जा सकती है कि एसआईएएम के इस प्रस्ताव का हर किसी ने विरोध किया। कई लोगों का यह भी मानना था कि यह नयी कारों की बिक्त्री बढ़ाने की एक चाल हो सकती है। अधिकारियों का कहना है कि यदि इस कदम को अमल में लाने के लिए 60-70 लाख वाहनों को सड़कों से हटाना पड़ेगा। फिटनेस टेस्ट अधिक व्यावहारिक समाधान लगता है। अमेरिका, और युनाइटेड किंगडम जैसे देशो में यही तरीका आजमाया भी जाता है।


 
Copyright © 2014, BrainPower Media India Pvt. Ltd.
All Rights Reserved
DISCLAIMER | TERMS OF USE