Untitled Document


register
REGISTER HERE FOR EXCLUSIVE OFFERS & INVITATIONS TO OUR READERS

REGISTER YOURSELF
Register to participate in monthly draw of lucky Readers & Win exciting prizes.

EXCLUSIVE SUBSCRIPTION OFFER
Free 12 Print MAGAZINES with ONLINE+PRINT SUBSCRIPTION Rs. 300/- PerYear FREE EXCLUSIVE DESK ORGANISER for the first 1000 SUBSCRIBERS.

   >> सम्पादकीय
   >> राजधानी
   >> कवर स्टोरी
   >> विश्व डाइजेस्ट
   >> बेटी बचाओ
   >> आपके पत्र
   >> अन्ना का पन्ना
   >> इन्वेस्टीगेशन
   >> मप्र.डाइजेस्ट
   >> मध्यप्रदेश पर्यटन
   >> भारत डाइजेस्ट
   >> सूचना का अधिकार
   >> सिटी गाइड
   >> अपराध मिरर
   >> सिटी स्केन
   >> जिलो से
   >> हमारे मेहमान
   >> साक्षात्कार
   >> केम्पस मिरर
   >> फिल्म व टीवी
   >> खाना - पीना
   >> शापिंग गाइड
   >> वास्तुकला
   >> बुक-क्लब
   >> महिला मिरर
   >> भविष्यवाणी
   >> क्लब संस्थायें
   >> स्वास्थ्य दर्पण
   >> संस्कृति कला
   >> सैनिक समाचार
   >> आर्ट-पावर
   >> मीडिया
   >> समीक्षा
   >> कैलेन्डर
   >> आपके सवाल
   >> आपकी राय
   >> पब्लिक नोटिस
   >> न्यूज मेकर
   >> टेक्नोलॉजी
   >> टेंडर्स निविदा
   >> बच्चों की दुनिया
   >> स्कूल मिरर
   >> सामाजिक चेतना
   >> नियोक्ता के लिए
   >> पर्यावरण
   >> कृषक दर्पण
   >> यात्रा
   >> विधानसभा
   >> लीगल डाइजेस्ट
   >> कोलार
   >> भेल
   >> बैरागढ़
   >> आपकी शिकायत
   >> जनसंपर्क
   >> ऑटोमोबाइल मिरर
   >> प्रॉपर्टी मिरर
   >> सेलेब्रिटी सर्कल
   >> अचीवर्स
   >> पाठक संपर्क पहल
   >> जीवन दर्शन
   >> कन्जूमर फोरम
   >> पब्लिक ओपिनियन
   >> ग्रामीण भारत
   >> पंचांग
   >> रेल डाइजेस्ट
 

भोपाल खुश रहने में जयपुर-मुंबई से आगे
नई दिल्ली| भोपाल खुश रहने और जीवन को अपने हिसाब से जीने के मामले में जयपुर और अहमदाबाद से बेहतर स्थान बन रहा है। शहर के लोग व्यस्त जीवन के बावजूद अपने और अपनों के लिए समय निकाल रहे हैं। इस हैप्पीनेस स्टडी में चंडीगढ़ पहले नंबर पर है।
एक निजी कंपनी द्वारा देश के 16 शहरों में कराई गई 'हैप्पीनेस स्टडी' में कहा गया है कि उत्तर भारत के लोग अन्य क्षेत्रों के मुकाबले ज्यादा खुश रहते हैं। राजधानी दिल्ली को खुश रहने वालों की इस लिस्ट में तीसरा स्थान मिला है। गुरुवार को जारी रिपोर्ट के अनुसार चंड़ीगढ़वासी अन्य शहरों के मुकाबले ज्यादा खुश हैं। यहां लोग अपने फिजिकल अपीयरेंस को लेकर सबसे ज्यादा खुश रहते हैं। रिसर्च कंपनी पीक्यूआर-आईएमआरबी इंटरनेशनल द्वारा देश के बड़े शहरों में कराए गए शोध में राजधानी दिल्ली को तीसरे स्थान पर रखा गया है।

रैंक शहर हैप्पीनेस इंडेक्स

1 चंडीगढ़ 190
2 लखनऊ 157
3 दिल्ली 149
4 चेन्नई 131
5 बेंगलुरू 115
6 पटना 105
7 पुणे 104
8 भोपाल 103
9 भुवनेश्वर 98
10 कोलकाता 82
11 अहमदाबाद 76
12 हैदराबाद 75
13 कोच्चि 72
14 जयपुर 68
15 मुंबई 55
16 गुवाहाटी 23

हैप्पीनेस स्टडी में एक बात सामने आई कि कम आय वर्ग के लोग ज्यादा खुश रहने की कोशिश करते हैं उच्च आय वर्ग के लोगों में अभी भी खुश रहने के मामले में कमी नजर आती है। -नीलाद्री दत्ता, शोध कराने वाली कंपनी एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स के कॉर्पोरेट मार्केटिंग हेड


बारिश में अलग हो पहनावा
१- बारिश में आप सिंथेटिक फेब्रिक से बने वाशेबल कपड़ों का ही चयन करें। ये कपड़े भीग जाने पर शरीर से चिपकते नहीं हैं और जल्दी सूख जाते हैं।
२- बारिश में कपडों को बहुत अधिक निचे न पहनें अन्यथा भीग जाने पर यह जमीन में लगकर गंदी हो सकते है। लड़कियां बारिश में caipry का इस्तेमाल कर सकती है ।
३- बारिश में रंग छोड़ने वाले कपड़े नहीं पहनें। ऐसे कपड़े भीग जाने पर आपके शरीर को ही रंग-बिरंगा बना सकते हैं। जहाँ तक संभव हो इस मौसम में आसमानी या गुलाबी, पीले और हल्के हरे रंग के कपड़े पहनें। इनमें रंग छोड़ने का डर कम रहता है।
४- हो सके तो बारिश में हलके रंगों का जैसे पीला,सफ़ेद, क्रीम इन रंगों का इस्तेमाल ना करे । हलके रंगों के कपड़ों में दाग लगने का डर ज्यादा होता है ।
५- बारिश का मौसम खिलखिलाने का मौसम है, कपड़ों का चयन करते समय फ्लावर प्रिंट या कलरफुल डिज़ाइन हो तो अच्छा होगा ।
६-मौसम का भी असर पड़ता है हम पर इसलिए बारिश से बचने के लिए अपने साथ एक छटा जरूर हो ।
७- बारिश के मौसम में अपने साथ एक कॉटन रुमाल या कपड़ा जरूर होना चाहिए, अगर कभी बारिश से गीले हो तो साफ़ कर सके ।
८- इस मौसम में अच्छी कंपनी के सिंथेटिक लेदर की बरसाती चप्पल या जूतों का ही प्रयोग करें। हल्की चप्पल बिलकुल नहीं पहनें, क्योंकि इनसे उछलने वाले कीचड़ से आपके कपड़ों पर पीछे की ओर छींटे लग सकते हैं।

प्रियंका पारे

 
Copyright © 2014, BrainPower Media India Pvt. Ltd.
All Rights Reserved
DISCLAIMER | TERMS OF USE