Untitled Document


register
REGISTER HERE FOR EXCLUSIVE OFFERS & INVITATIONS TO OUR READERS

REGISTER YOURSELF
Register to participate in monthly draw of lucky Readers & Win exciting prizes.

EXCLUSIVE SUBSCRIPTION OFFER
Free 12 Print MAGAZINES with ONLINE+PRINT SUBSCRIPTION Rs. 300/- PerYear FREE EXCLUSIVE DESK ORGANISER for the first 1000 SUBSCRIBERS.

   >> सम्पादकीय
   >> राजधानी
   >> कवर स्टोरी
   >> विश्व डाइजेस्ट
   >> बेटी बचाओ
   >> आपके पत्र
   >> अन्ना का पन्ना
   >> इन्वेस्टीगेशन
   >> मप्र.डाइजेस्ट
   >> मध्यप्रदेश पर्यटन
   >> भारत डाइजेस्ट
   >> सूचना का अधिकार
   >> सिटी गाइड
   >> अपराध मिरर
   >> सिटी स्केन
   >> जिलो से
   >> हमारे मेहमान
   >> साक्षात्कार
   >> केम्पस मिरर
   >> फिल्म व टीवी
   >> खाना - पीना
   >> शापिंग गाइड
   >> वास्तुकला
   >> बुक-क्लब
   >> महिला मिरर
   >> भविष्यवाणी
   >> क्लब संस्थायें
   >> स्वास्थ्य दर्पण
   >> संस्कृति कला
   >> सैनिक समाचार
   >> आर्ट-पावर
   >> मीडिया
   >> समीक्षा
   >> कैलेन्डर
   >> आपके सवाल
   >> आपकी राय
   >> पब्लिक नोटिस
   >> न्यूज मेकर
   >> टेक्नोलॉजी
   >> टेंडर्स निविदा
   >> बच्चों की दुनिया
   >> स्कूल मिरर
   >> सामाजिक चेतना
   >> नियोक्ता के लिए
   >> पर्यावरण
   >> कृषक दर्पण
   >> यात्रा
   >> विधानसभा
   >> लीगल डाइजेस्ट
   >> कोलार
   >> भेल
   >> बैरागढ़
   >> आपकी शिकायत
   >> जनसंपर्क
   >> ऑटोमोबाइल मिरर
   >> प्रॉपर्टी मिरर
   >> सेलेब्रिटी सर्कल
   >> अचीवर्स
   >> पाठक संपर्क पहल
   >> जीवन दर्शन
   >> कन्जूमर फोरम
   >> पब्लिक ओपिनियन
   >> ग्रामीण भारत
   >> पंचांग
   >> रेल डाइजेस्ट
 

यूनाईटेड मलयाली एसोसिएशन एक नवंबर को 34 वाँ स्थापना दिवस मनायेगा
Our Correspondent :30 October 2017
यूनाईटेड मलयाली एसोसिएशन (UMA), भोपाल, केरल और मध्य प्रदेश के स्‍थापना दिवस के साथ-साथ अपना 34वाँ स्‍थापना दिवस समारोह 1 नवंबर, 2017 को मनायेगा। समारोह का आयोजन कैम्पियन स्कूल के ऑडिटोरियम सभा कक्ष, अरेरा कॉलोनी भोपाल में किया जायेगा। समारोह की शुरूआत केरल की समृद्ध संस्कृति, परंपराओं और सभी वर्गों तथा आयु के व्यक्तियों के अधिकारों और सम्मानों को कायम रखते हुए, कार्यक्रम केरल के विभिन्न प्रकार के पारंपरिक गीत और संगीत कलाओं से शुरू होगा। समारोह में पारंपरिक गीत और संगीत निरुपम थियेटर्स, थिरुवनंतपुरम के 60 से अधिक प्रसिद्ध कलाकारों के एक समूह द्वारा किया जाएगा। समारोह को मनाने के लिए, ड्रम की धड़कन, कथकली, भीम, माइलट्टम (मयूर नृत्य), मार्शल आर्ट्स आदि के साथ जुलूस के रूप में आईसीयूएफ आश्रम / कैम्पियन स्कूल परिसर से प्रारंभ होकर अरेरा कॉलोनी, बिट़टन मार्केट से होकर कैंपियन स्कूल परिसर पहुंचेगा। केरल के डॉ लक्ष्मिदासन डी. लिट्, मुख्य अतिथि, श्री पी.पी. बर्गीस, विशेष कर्तव्यस्थ अधिकारी, वित्त मंत्री, मध्यप्रदेश, विशेष अतिथि होंगे। उमा के अध्यक्ष श्री सी. अशोकन और महासचिव श्री थॉमस कोचुपुराकल कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।


ध्यप्रदेष सनाढय ब्राहमण समाज परिचय एवं स्नेह सम्मेलन 29 जनवरी को भोपाल में होंगा
Our Correspondent :28 November 2016
मध्यप्रदेष सनाढय ब्राहमण समाज के मीडिया प्रभारी मोहन शर्मा घंटे वाले एवं लक्ष्मीनारायण शर्मा ने संयुक्त रूप से जानकारी दी कि मध्यप्रदेष सनाढय ब्राहमण समाज की कौर कमेटी की बैठक समाज के महासचिव हरिकृष्णदत्त राजोरिया के निवास पत्रकार कालोनी कोलार रोड भोपाल मध्यप्रदेष में सम्पन्न हुई। बैठक में मध्यप्रदेष सनाढय ब्राहमण समाज के विवाह योग्य युवक युवतियों का परिचय एवं स्नेह सम्मेलन 29 जनवरी 17 रविवार को प्रदेष में एक साथ इंदौर एवं भोपाल जिलें में आयोजित करने का निर्णय लिया गया सम्मेलन के सफल आयोजन के लिये एवं उपसमिति बनाई जायेंगी जिसकी घोषणा भोपाल में 4 दिसम्बर रविवार को समाज की मासिक बैठक में की जायेंगी । 5 दिसम्बर से 14 जनवरी तक समिति के पदाधिकारी भोपाल के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों में सनाढय ब्राहमण समाज के परिवारों से घर-घर जाकर सम्पर्क करेंगे एवं विवाह योग्य युवक युवतियों का विवरण प्राप्त करने हेतु निर्धारित आवेदन पत्र भरवायेंगे तथा सामाजिक बंधुओं को सम्मेलन में आने हेतु आमंत्रण देंगे । भोपाल के कुछ क्षे़त्रों को चिंहित कर पदाधिकारी नियुक्त कर आवेदन पत्र प्राप्त करने हेतु काउंटर भी बनाये जायेंगे । इसके अतिरिक्त विवाह योग्य लडके लडकियों की जानकारी समाज के प्लाट पर स्थित कार्यालय में एवं मिडिया प्रभारी मोहन शर्मा घंटे वाले एवं लक्ष्मीनारायण शर्मा को भी उपलब्ध कराई जा सकेंगी । 29 जनवरी 17 रविवार को राजधानी में परिचय सम्मेलन समाज को आवंटित प्लाट षिव नगर, 74 बंगला क्षेत्र, अंकूर स्कूल के पास, लिंक रोड़ नं. एक भोपाल में आयोजित किया जायेंगा। इस सम्मेलन में राजधानी, ग्रामीणक्षेत्र एवं आस-पास के जिलों से लगभग 2000 परिवारों के सम्मिलित होने का अनुमान है। सम्मेलन में समाज के विवाह योग्य लडके लडकियों की जानकारी संबंधी एक स्मारिका का विमोचन भी किया जायेंगा तथा समाज में उत्कृष्ट कार्य करने वाले व्यक्तियों को सम्मानित किया जायेंगा। बैठक की अध्यक्षता मध्यप्रदेष सनाढय ब्राहमण समाज के अध्यक्ष श्री सी.बी. चंसोरिया ने की तथा सर्वश्री हरिकृष्ण दत्त राजोरिया, वरिष्ठ प्रोफेसर डा0 हरिबाबू खुरासिया श्रमश्री के अध्यक्ष रामबाबू शर्मा, मोहन शर्मा घंटे वाले, विजय नारायण चैबे, लक्ष्मीनारायण शर्मा, दिनेष उपाध्यय,अरन रावत,देवेन्द्र पटसारिया विकास शुक्ला,एम.जे. मिश्रा ने अपने विचार रखें ।


वरिष्ठ नागरिक अभिनंदन समारोह एवं भव्य सांस्कृतिक कार्यक्रम सम्पन्न
12 September 2016
भोपाल 11 सितंबर 2016। नेपाली समाज के पूर्व अध्यक्ष एवं सृष्टि डी. आर. बी. ग्रुप के संचालक श्री डोलराज भण्डारी द्वारा राजधानी भोपाल के न्यू कैम्पियन स्कूल परिसर आडिटोरियम हाल अरेरा कालोनी में आज सांय 5 बजे आयोजित वरिष्ठ नागरिकों के अभिन्ंदन तत्पष्चातभव्य सांस्कृतिक एवं रंगारंग कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता श्री पी.सी.शर्मा, पूर्व मेजर जनरल श्री आर.एस. सिन्हों] बम्हकुमारी किरण दीदी] नेपाली कांग्रेस के केन्द्रीय नेता श्री महेन्द्र शर्मा] पार्षद मोनू शर्मा ने 20 से अधिक वरिष्ठ नागरिकों का अभिनंदन कर शाल-श्रीफल से सम्मानित किया। अतिथियों ने कार्यक्रम के आयोजनकर्ता सृष्टि ग्रुप के संचालक श्री डोलराज भन्डारी की प्रषंसा करते हुए कहा कि वरिष्ठजनों को सम्मान करना हमारे समाज की परम्परा है] इस परंपरा को श्री डोलराज भन्डारी ने आगे बढ़ाया है जो कि प्रशंसनीय एवं सराहनीय पहल है, समाज को इससे प्रेरणा लेना चाहिए। कार्यक्रम का संचालन श्री श्री जगन्नाथ पौडेल ने किया। शाम को नेपाली लोकगीत एवं नृत्य सहित भव्य सांस्कृतिक आयोजन हुए जिसमें 2 हजार से अधिक लोगों ने कार्यक्रम का आनन्द लिया। इस अवसर पर श्रीमती कमला भंडारी] श्री डोलराज गैरे] श्री केबी खड़कर] श्री पंफा गैरे] श्री रमेश राणा] श्री नरेन्द्र ढकाल] श्री विष्णु शर्मा] श्री लिलामणी पांडे] श्री एएन पंथ] श्री रामू शर्मा] श्री केआर शर्मा] श्री बोधराज पांडे] श्री दिवाकर आर्याल] श्री घनश्याम बेलवासे सहित गणमान्य नागरिक एवं सामाजिक जन उपस्थित थे।

लायंस क्लब भोपाल लेकसिटी द्वारा विशाल रक्त दान शिविर का आयोजन
15 January 2016
शुक्रवार को लायंस क्लब भोपाल लेक सिटी के तत्वाधान में एक विशाल रक्त दान शिविर का आयोजन आकांक्षा बिल्डिंग परिसर प्रेस काम्प्लेक्स एम पी नगर भोपाल में प्रात: 10 बजे से शाम 5 बजे तक आयोजित किया गया हैं। इस अवसर पर केबिनेट मंत्री डाॅ. गौरीशंकर शेजवार म.प्र. शासन मुख्य अतिथि के रूप् में रक्त दाताओं का उत्साह बढ़ाने के लिए उपस्थित होगें। इस पुनीत कार्य हेतु हमीदिया हास्पिटल के डाॅक्टर्स का एक दल उपस्थित रहेगा। इस अवसर पर लांयस क्लब भोपाल लेकसिटी के समस्त सदस्य, शोरवीन के कर्मचारी, इनसाइट टीवी न्यूज़ के कर्मचारी ,आनंद कंस्ट्रक्शन के कर्मचारी , आकांक्षा वेलफेयर सोसायटी के सदस्य ,पत्रकार गण एवं अन्य कई लोग रक्तदान करेंगे। लायन्स क्लब भोपाल लेक सिटी ने सभी जनमानस से आग्रह किया है कि अधिक से अधिक संख्या में इस शिविर में भाग लेकर मानस सेवा के इस पुनीत कार्य में सहयोंग करें।

10 जनवरी को भव्य चित्रगुप्त मंदिर का होगा भूमि पूजन
अभाकाम की राष्ट्रीय बैठक,युवक युवती परिचय सम्मेलन एवं सांस्कृतिक संध्या का होगा आयोजन
समागम मे कायस्थ महासभा के समस्त प्रांतो से पदाधिकारी, सदस्य एवं समाज के लोग जुटेंगे

11 January 2016
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा 10 जनवरी को भोपाल के प्राचीन नेवरी मंदिर मे चित्रांश समागम का आयोजन करने जा रही है, अखिल भारतीय स्तर के इस कार्यक्रम मे कायस्थ महासभा के मध्य प्रांत, उत्तरप्रदेश, राजस्थान, बिहार, झारखंड, दिल्ली, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़ सहित कई राज्यो से महासभा के पदाधिकारी, सदस्य, कार्यकर्ता एवं कायस्थ समाज के लोग भोपाल आएंगे l
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय मंत्री श्री अजय श्रीवास्तव “नीलू” ने चित्रांश समागम की जानकारी देते हुए बताया कि प्रातः कार्यक्रम का शुभारंभ सुबह 10 बजे से कायस्थ समाज कि प्राचीन धरोहर नेवरी मंदिर मे होगा, सर्वप्रथम 5 श्रेणी मे युवक युवती परिचय सम्मेलन का आयोजन किया जाएगा जिसमे 35 वर्ष से कम आयु के युवक युवती, 35 वर्ष से अधिक आयु के युवक युवती, दिव्यांग, विधवा-विधुर एवं तलाखशुधा युवक युवती विवाह हेतु अपने परिचय देंगे, परिचय सम्मेलन के साथ चित्रांश समागम मे राष्ट्रीय परिषद की बैठक का आयोजन भी किया जाएगा l
श्री श्रीवास्तव ने बताया कि दोपहर के समय कायस्थ महासभा भव्य एवं विशाल चित्रगुप्त मंदिर के लिए भूमि का पूजन करेगी, मंदिर के भूमि पूजन एवं शिलान्यास के लिए प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान विशेष तौर पर उपस्थित रहेंगे, भूमि पूजन उपरांत मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान चित्रांश समागम -2016 को संबोधित करेंगे
कायस्थ महासभा भोपाल के प्रचार सचिव श्री सत्येंद्र खरे ने बताया कि चित्रांश समागम 2016 मे शाम के समय सांस्कृतिक संध्या का आयोजन किया जाएगा जिसमे पार्श्व गायक अमित श्रीवास्तव (के फॉर किशोर), सुश्री माधवी श्रीवास्तव एवं हास्य कलाकार सुनील सावरा चित्रांश समागम का मनोरंजन करेंगे l

कायस्थ महासभा के वार्षिक कलेंडर का विमोचन
चित्रांश समागम के लिए अखिल भारतीय स्तर पर समाज के लोग जुटे - श्री सुनील श्रीवास्तव

01 January 2016
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की समीक्षा बैठक महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कैलाश नारायण सारंग के नेतृत्व में महासभा के राष्ट्रीय कार्यालय 90/8 शीश महल में संपन्न हुई
श्री कैलाश नारायण सारंग ने 10 जनवरी को भोपाल में आयोजित होने वाले चित्रांश समागम की विभाग वार समीक्षा कर उचित निर्देश दिए, उन्होंने स्वागत, वाहन, निवास, प्रतिनिधि पंजीयन, भोजन, सुरक्षा, परिषद् बैठक, बिजली एवं साउंड, मंच सज्जा, स्मारिका, युवक-युवती परिचय सम्मलेन, सांस्कृतिक कार्यकृम, मंदिर निर्माण भूमि पूजन, मीडिया व्यवस्था सहित कार्यक्रम की समीक्षा एवं तैयारियों को लेकर समस्त विभागों को निर्देशित किया, उन्होंने कार्यकृम को अद्वितीय बनाने के लिए समाज के लोगो को अधिक से अधिक संख्या में सम्मिलित होने के लिए आहवाहन किया, बैठक के उपरांत कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कैलाश नारायण सारंग ने कायस्थ महासभा के वार्षिक कलेंडर 2016 का विमोचन किया
कार्यक्रम की जानकारी देते हुए महासभा के प्रांतीय अध्यक्ष श्री सुनील श्रीवास्तव ने बताया कि 10 जनवरी को प्रातः 10 बजे से युवक युवती परिचय सम्मेलन की शुरुआत होगी, जिसमे 35 वर्ष से कम युवक युवती, 35 वर्ष से अधिक आयु के युवक युवती, विधवा विधुर , विकलांग और तलाकशुधा युवक युवतियों के परिचय सम्मलेन आयोजित किये जायेंगे, महासभा के राष्ट्रीय मंत्री श्री अजय श्रीवास्तव “नीलू” जी ने बताया कि दोपहर के समय मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान मंदिर निर्माण, भूमि पूजन एवं चित्रांश समागम को संबोधित करेंगे, शाम के समय सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे जिसमे पार्श्व गायक अमित श्रीवास्तव (के फॉर किशोर), सुश्री माधवी श्रीवास्तव एवं हास्य कलाकार सुनील पाल रवां सुनील सावरा चित्रांश समागम का मनोरंजन करेंगे
बैठक मे विशेष तौर पर कायस्थ महासभा की महिला राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मति शीला भटनागर, प्रांतीय अध्यक्ष श्री सुनील श्रीवास्तव प्रांतीय महामंत्री श्री ब्रजेश श्रीवास्तव, वरिष्ठ उपाध्यक्ष श्री अभय प्रधान, महिला प्रांतीय अध्यक्ष श्रीमति दीपा खरे भोपाल जिला अध्यक्ष श्री महेंद्र श्रीवास्तव, महामंत्री मनोज सक्सेना, भोपाल महिला अध्यक्ष विनीता श्रीवास्तव ,सयुंक्त महामंत्री आराधना संजर, अंजलि खरे सहित प्रांतीय एवं जिला कार्यकारिणी के सदस्य, समाज के प्रबुद्धजन उपस्थित रहे l

कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय चुनाव एवं कायस्थ समागम 10 जनवरी को
कायस्थ समागम के लिए कार्यकर्ता प्राणप्रण से जुटे-कैलाश नारायण सारंग

Our Correspondent :30 November 2015
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा की विशेष बैठक का आयोजन आज 74 बंगले स्थित विधायक विश्वास सारंग के निवास पर किया गया, बैठक की अध्यक्षता अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कैलाश नारायण सारंग जी ने की, बैठक मे कायस्थ महसभा के राष्ट्रीय चुनाव एवं कायस्थ समागम की तैयारियों को लेकर चर्चा की गई
बैठक को संबोधित करते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री कैलाश नारायण सारंग ने बताया की कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय चुनाव आगामी 10 जनवरी 2016 को भोपाल मे सम्पन्न कराये जाएंगे, चुनाव मे नामांकन करने हेतु 8 एवं नाम वापसी हेतु 9 जनवरी का दिन निश्चित किया गया है, चुनाव परिणाम की घोषणा 10 जनवरी को शाम मे की जाएगीl उन्होने 10 जनवरी को भोपाल मे आयोजित कायस्थ समागम हेतु प्रदेश के सदस्यो, कार्यकर्ताओं का आहवाहन करते हुए कहा कि कार्यक्रम की सफलता एवं मेजबान की सक्रीय भूमिका का निर्वहन करने हेतु प्राणप्रण से जुटे
महासभा की राष्ट्रीय महिला अध्यक्ष श्री मती शीला भटनागर ने बताया की 10 जनवरी को ही भोपाल मे कायस्थ समागम का आयोजन किया जाएगा जिसमे कायस्थ युवक युवती परिचय सम्मेलन एवं शाम मे सांस्क्रतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा, उन्होने महिला सदस्यो से आग्रह किया कि सांस्क्रतिक कार्यक्रम हेतु अपना ज्यादा से ज्यादा योगदान सुनिश्चित करे l
महासभा के राष्ट्रीय मंत्री श्री अजय श्रीवास्तव ”नीलु ” ने बताया कि कायस्थ कायस्थ रत्न जो कि सांसद, विधायक पद को सुशोभित कर रहे है उनका समागम के दौरान विशेष सम्मान किया जाएगा
विशेष बैठक को संबोधित करते हुए महासभा के मध्य प्रांत के अध्यक्ष श्री सुनील श्रीवास्तव जी ने बताया कि कायस्थ समागम की तैयारियों को लेकर भोपाल मे क्षेत्रवार बैठके आयोजित की जा रही है, उन्होने जानकारी देते हुए बताया कि क्षेत्रीय बैठको कि मोनिट्रिंग प्रांतीय अध्यक्ष श्री सुनील श्रीवास्तव, एवं प्रांतीय कार्यालय मंत्री श्री अनिल श्रीवास्तव करेंगे, उन्होने बताया कि 2 दिसंबर को अरेरा कालोनी श्रीमति उषा वर्मा,1100 क्वाटर श्री अभय प्रधान एवं सविता रक्षिता, 3 दिसंबर को करोंद श्री सतीश श्रीवास्तव, अयोध्या नगर श्रीमति सुमन श्रीवास्तव, बी एच ई एल श्री अनिल गौड़ ,कोटरा श्री ओ पी श्रीवास्तव,जहांगीराबाद श्री प्रदीप श्रीवास्तव, 4 दिसंबर को प्रोफेसर कालोनी श्री अभय प्रधान, अजय कूदेशिया एवं रचना नगर श्री वीरेंद्र नारायण श्रीवास्तव,5 दिसंबर लाल घाटी श्री अनिल श्रीवास्तव,होशंगाबाद रोड श्री आर बी सक्सेना , 6 दिसंबर को तलैया श्री संजीव श्रीवास्तव, एवं 13 दिसंबर को कोलार कि बैठक श्री नरेंद्र सक्सेना एवं डाक्टर कुलश्रेष्ठ के नेत्रत्व मे आयोजित की जाएगी l प्रांतीय महामंत्री श्री ब्रजेश श्रीवास्तव ने इस अवसर पर बताया कि कायस्थ समागम के अवसर पर प्रकाशित होने वाली स्मारिका हेतु 100 लेख एवं 1500 युवक युवती के बाओ –डाटा महासभा के राष्ट्रीय कार्यालय के पते 90/8 शीश महल, मोती मसजिद के पास भोपाल मे आमंत्रित किए गए है
विशेष बैठक के दौरान कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय, प्रांतीय एवं जिले के पदाधिकारी, सदस्य एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे


श्री सहस्त्रबाहु कलचुरी महासभा (कलार समाज)
Our Correspondent :13 November 2015
भोपाल- कलचुरी कलार समाज का निशुल्क युवक युवति परिचय सम्मेलन 5 और 6 दिसम्बर को भोपाल में आयोजित किया जा रहा है। इस आयोजन को सफल बनाने के लिए रविवार दिनांक 8-11-15 को एक बैठक आयोजित की गई। बैठक में आयोजन को सम्मपन्न कराने के लिए आयोजन समिति का गठन किया गया। इसमें कार्यशाला समिति का समन्वयक श्री प्रकाश मालवीय, प्रचार प्रसार समिति का समन्वयक श्री कौशल राय अतिथी आवास एवं यातायात समिति का समन्वयक श्री एचपी जायसवाल, पत्रिका प्रकाशन समिति श्री कैलाश चंद्र जायसवाल को बनाया गया है। इसके अलावा महासभा ने बजट एवं वित्त समिति, धन संग्रह समिति, परिसर एवं मंच व्यवस्था, भोजन व्यवस्था, स्वागत समिति, सुरक्षा समिति, मंच संचालन समिति, वाहन व्यवस्था समिति, सामुहिक विवाह समित, परिचय सम्मेलन समिति, छात्रवृत्ति एवं अलंकरण समिति, पंजीयन समिति की जिम्मेदारी भी सदस्यों को सौंपी है। बैठक में कार्यकारी अध्यक्ष विंग कमांडर विनोद राय, ओम प्रकाश चौकसे, आशुतोष मालवीय, शंकर लाल राय, जीसी जायसवाल, राजेश राय, जीएन वर्मा, श्रीमती सरोज राय, शिवा जायसवाल सहित महासभा के पदाधिकारी शामिल हुए। दो दिवसीय इस आयोजन में 5 दिसंबर 2015 को कलचुरी कलार समाज का एकीकरण एवं सशक्तिकरण विषय पर कार्यशाला आयोजित की जायेगी। इसमे देश भर के कलार समाज के (कलचुरी) के 125 संगठनो के अध्यक्ष और उनके प्रतिनिधी भाग लेंगे। जो समाज के सश्क्तिकरण पर चर्चा करेंगे। दूसरे दिन 6 दिसम्बर 2015 को कलचुरी भवन, लिंक रोड नंबर-3 एकांत पार्क के पास युवक युवती परिचय सम्मेलन और निशुल्क विवाह समारोह आयोजित किया जायेगा। विवाह सम्मेलन में शादी के लिए आये जोडो को महासभा की ओर से पारिवार को चलाने के लिए जरुरी सामान भी दिया जायेगा। भोपाल में हो रहे इस आयोजन में कलचुरियन कीर्ति मासिक पत्रिका के विशेषांक का लोकार्पण किया जायेगा। साथ ही समाज सेवा के क्षेत्र में काम कर रहे समाजसेवियों को अलंकरण समारोह में सम्मानित किया जावेगा। महासभा के जिलाध्यक्ष और प्रचार प्रसार समिति के समन्वयक कौशल राय ने बताया कि महासभा राष्ट्रीय अध्यक्ष दिलीप सूर्यवंशी के नेतृत्व में निरंतर प्रगति कर रही है। आज समाज का हर संगठन महासभा से जुड रहा है। राय ने बताया कि विवाह सम्मेलन के बाद समाज को एकता के सूत्र में पिरोने के लिए कई अभियान चलाये जायेंगे।


लाल बहादुर शास्त्री जयंती पर कायस्थ महासभा करेगी पुण्य स्मरण
Our Correspondent :03 October 2015
कायस्थ महासभा भोपाल ने आई ऍफ़ एस होत्गी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव पारित किया
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा भोपाल की जिला बैठक आज नरेला विधायक श्री विस्वास सारंग के 74 बंगले स्थित कार्यालय में संपन्न हुई , बैठक की अध्यक्षता कायस्थ महासभा के प्रांतीय अध्यक्ष श्री सुनील श्रीवास्तव ने की , बैठक में कायस्थ महासभा भोपाल के आगामी कार्यो , महासभा की रीति नीतियों , कायस्थ सदस्यता अभियान , राज्य स्तरीय प्रतिभाशाली छात्र-छात्राओं के सम्मान, छात्रों केलिए बुक बैंक एवं आई ऍफ़ एस होत्गी द्वारा भृत्य अशोक सक्सेना की पिटाई मामले में निदा प्रस्ताव पर विस्तार से चर्चा की गई


राज्य स्तरीय कायस्थ प्रतिभाशाली छात्र -छात्राओं का सम्मान
Our Correspondent :03 October 2015
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा द्वारा पिछले दिनों लिए गए निर्णय प्रतिभाशाली कायस्थ छात्र-छात्राओं के सम्मान को लेकर जिला बैठक में चर्चा की गई जिसमे संपूर्ण मध्यप्रदेश से कक्षा 10वी एवं 12वी में सीबीएसई एवं एम् पी बोर्ड से उत्तीर्ण हुए छात्र छात्राओं जिनके 80 प्रतिशत से ज्यादा अंक प्राप्त हुए है उनके आवेदन आमंत्रित किये गए है , साथ ही इंजीनियरिंग , मेडिकल विधा में जिन छात्र-छात्राओं के अपने संश्थान में प्रथम तीन स्थान अर्जित किये , प्रतिभाशाली खिलाडी,संगीत,नृत्य,गायन विधाओं में राज्य या राष्ट्रीय स्तर पर कोई मैडल प्राप्त किया गया हो उनके भी आवेदन आमंत्रित किये जा रहे है , आवेदन हेतु छात्र छात्राएं अपनी अंक सूची,प्रमाण पत्र की छाया प्रति kayashamahasabhbhopal@gmail.com पर मेल कर सकते है या भोपाल में कायस्थ महासभा के जिला अद्याक्ष श्री महेंद्र श्रीवास्तव (09826935924), प्रचार सचिव श्री सत्येन्द्र खरे (09993888677), महामंत्री श्री मनोज सक्सेना (09826075273) एवं युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्री व्योम खरे(09826637405) से संपर्क कर आवेदन जमा करा सकते है, राज्य स्तरीय कायस्थ छात्र-छात्राओं का सम्मान 15 नवम्बर को भोपाल स्थित कायस्थ समाज की प्राचीन धरोहर नेवरी मंदिर में किया जायेगा बैठक में कायस्थ छात्र-छात्राओं को निशुल्क पुस्तके उपलब्ध कराने हेतु भी विस्तार से चर्चा की गई एवं समाज के प्रबुद्धजनो से आग्रह किया गया कि अपने बच्चो की पुस्तके बेचने की जगह कायस्थ महासभा के कार्यालय ९०/८ शीश महल , मोती मस्जिद के समीप जमा कराये , बैठक में कायस्थ समाज के सदस्यता अभियान का भी अवलोकन कर निर्णय लिया गया कि महासभा के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता अपने अपने क्षेत्र के कायस्थ बंधुओं से मिलकर उन्हें अखिल भारतीय कायस्थ महासभा से जोड़ने एवं सदस्य बनाने के अभियान में प्राणप्रण से जुटे


शास्त्री जी की ११०वी जयंती पर पुण्य स्मरण
Our Correspondent :03 October 2015
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा भोपाल इकाई के पदाधिकारी , सदस्य एवं कार्यकर्ता 2 ओक्टूबर को प्रातः 9.30 बजे मिंटो हाल के समीप स्थित लाल बहादुर शाष्त्री चौक पर पहुचकर भारत के पूर्व प्रधानमंत्री एवं कायस्थ रत्न श्री शाष्त्री जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर 110वी जयंती मनाएंगे एवं उनका पुण्य स्मरण करेंगे । इस अवसर पर कायस्थ महासभा भोपाल इकाई के जिला अद्यक्ष श्री महेंद्र श्रीवास्तव जी के नेतृत्व में जिला इकाई के पदाधिकारी , सदस्य एवं कार्यकर्ता उपस्थित होकर श्री लाल बहादुर शास्त्री जी के राष्ट्र निर्माण में दिए गए अमूल्य योगदान की चर्चा कर उन्हें श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे । बैठक में भोपाल के सभी चित्रांश बंधुओं से आग्रह किया गया है की प्रातः 9 बजे लाल बहादुर शाष्त्री चौक पर बड़ी संख्या में पहुचकर हमारे पूर्व प्रधानमंत्री और कायस्थ रत्न शाष्त्री जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करे ।


आई ऍफ़ एस अफसर होत्गी के खिलाफ निंदा प्रस्ताव
Our Correspondent :03 October 2015
अखिल भारतीय कायस्थ महासभा भोपाल इकाई ने अशोक सक्सेना पिटाई मामले में कड़ा रोष व्यक्त किया है , आई ऍफ़ एस अधिकारी वी एस होत्गी द्वारा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी अशोक सक्सेना की पिटाई के मामले में निंदा प्रस्ताव पारित करते हुए कहा कि समाज के किसी भी कर्मचारी पर इस प्रकार की घटना बर्दास्त नहीं की जावेगी, होत्गी द्वारा की गई शर्मनाक घटना बेहद अशोभनीय एवं निंदनीय है, बैठक में यह भी निर्णय लिया गया कि आई ऍफ़ एस अफसर होत्गी पर उचित कार्यवाही नहीं की गई तो समाज वरिष्ठ अधिकारीयों एवं मुख्यमंत्री जी को कार्यवाही हेतु ज्ञापन सौपेगा बैठक में अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के प्रदेश महामंत्री ब्रजेश श्रीवास्तव, जिला अध्यक्ष श्री महेंद्र सक्सेना,जिला महामंत्री श्री मनोज सक्सेना, नरेन्द्र श्रीवास्तव, अनिल श्रीवास्तव, जिला युवा प्रकोष्ठ अध्यक्ष श्री व्योम खरे, श्री आर पी श्रीवास्तव, श्री कीर्ति अस्थाना,श्री मुकेश सक्सेना सहित महासभा के पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहे


भगवान सहस्त्रबाहु जयंती पर शासकीय अवकाश की मांग करेगी महासभा
कलार समाज के एकीकरण और सशक्तिकरण कार्यशाला बनी सहमति
कार्यशाला में आये सुझावों को राष्ट्रीय कार्यशाला में रखा जायेगा
प्रदेश के हर जिलें में सहायता केंद्र होंगे स्थापित- व्हीके राय

Our Correspondent :03 October 2015
भोपाल- श्री सहसत्रबाहू कलचुरी महासभा(कलार समाज), 18 नबंवर को भगवान सहस्त्रबाहु जयंती पर शासकीय अवकाश घोषित करने को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात करेगी । महासभा का तर्क है कि जिस तरह गांधी जयंती, परशुराम जयंती, महर्षि वाल्मिकी जयंती, गुरुनानक जयंती, अंबेडकर जयंती, संत रविदास जयंती और महावीर जयंती पर सरकार शासकीय अवकाश घोषित करती है उसी तरह कलार समाज के अराध्य देव सहस्त्रबाहू जयंती पर भी शासकीय अवकाश घोषित किया जाये यह सुझाव कलार समाज के एकीकरण और सशक्तिकरण हेतु कार्यशाला में यह सुझाव समाज के प्रबुद्ध ने दिये। सबसे पहले कार्यशाला का शुभारंभ समाजसेवी श्रीमती जानकीदेवी सूर्यवंशी ने भगवान सहस्त्रबाहू की पूजा अर्चना कर किया। इसके बाद महासबा ने महात्मा गांधी, शहीद सरदार भगत सिंह, लाल बहादुर शास्त्री और कलचुरी समाज के गौरव डॉ. हीरालार राय की 148 वे जन्मदिवस भी मनाया। और उनके आदर्शों को युवाओं के सामने रखा। इसके बाद समाज के साहित्यकार, समाजसेवियों, राजनीतिक, और युवाओँ ने कार्यशाला में समाज के एकीकरण और सशक्तिकरण को लेकर अपने सुझाव महासभा को दिये। उपस्थित सदस्यों ने

1. भगवान सहस्त्रबाहु आराध्यदेव के रुफ में हर कलचुरीजन के घर में स्थापित कर उनका पूजन करने
2. समाज के सभी स्तर के संगठन हर ग्राम/शहर में सहस्त्रबाहु के मंदिर बनाने के लिए अभियान चलाने।
3. प्रत्येक समाजिक कार्यक्रमों का शुभारंभ भगवान सहस्त्रबाहु के पूजन से करने
4. कलचुरी समाज के पौराणिक व ऐतिहासिक गौरव का प्रचार करने
5. समाज के नामकरण में एकरुपता लाने के लिए नाम के आगे ‘‘कलचुरी’’ लगाकर सामाजिक पहचान प्रदर्शि करने
6. संचार साधन ईमेल, बेब साईट, सोशल नेटवर्किंग व अन्य साधनों से एकजुट करने
7. समाज के सभी संगठन हर ग्राम/तहसील स्तर पर समाज के भवन, धर्मशाला, व विद्यालय स्थापित करने के प्रयास करने
8. समाज के बेरोजगार युवक युवतियों को समाज के उद्योगपतियों/व्यावसायी और कंपनी संचालक को अपने प्रतिष्ठान में नौकरी देने
8. प्रदेश व जिला स्तर पर पारिवारिक परामर्श केन्द्र, चिकित्सा केन्द्र और विधिक सहायता केन्द्र स्थापित करने
और उक्त प्रस्तावों के क्रियान्वयन हेतु जिला, प्रदेश व राष्ट्रीय स्तर पर समन्वय समितियों के गठन करने के सुझाव दिये।
कार्याशाला में कार्यकारी अध्यक्ष व्हीके राय ने कहा कि देश में कलार समाज की संख्या पटेल, गुर्जर, जैन, बौद्द, ब्राह्मण, समुदाय से ज्यादा है बावजूद इसके समाज में एकीकरण नही होने के कारण समाज बिखरा है। राय ने ग्रामीण क्षेत्रों में रह रहे परिवारों को एकजुट करने पर जोर दिया। वही जिला अध्यक्ष कौशल राय ने कहा कि समाज को एकजुट कर युवाओं को राजनीतिक क्षेज्ञ में समाज की भागीदारी बढाने की आवश्यकता है जिससे युवा समाज के कार्यक्रमों के साथ सामाजिक क्षेत्रों में अपनी अलग पहचान बनाए। राष्ट्रीय उपसचिव और मीडिया प्रभारी राजेश राय ने बताया कि महासभा 5 दिसंबर को राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन करने जा रही है जिसमें देश और प्रदेश के हर जिले में समाज के अलग- अलग संगठनो की राय और सुझाव लिए जा रहे है जिन्हे राष्ट्रीय कार्यशाला में रखा जायेगा। राय ने बताया कि 6 दिसंबर को अखिल भारतीय निशुल्क सामूहिक विवाह, युवक युवति परिचय सम्मेलन किया जायेगा। कार्यशाला में कार्यकारी अध्यक्ष विंग कमांडर व्हीके राय, प्रदेशाध्यक्ष आशुतोष मालवीय, जिला अध्यक्ष कौशल राय, डॉ. एससी राय, डॉ. सुनील राय, तनीषा चौकसे, सुधीर राय, घनश्याम राय, डीडी चौकसे सहित समाज के पदाधिकारी बडी संख्या में शामिल हुए


कार्यशाला में आए सामाजिक, साहित्यकार, राजनीतिक और युवाओं ने भगवान सहस्त्रबाहु के वैभव पर प्रकाश डाला। कुछ तत्थ भगवान सहस्त्रबाहू से संबंधित नीचे दिये जा रहे है जो भगवान सहस्त्रबाहू की गाथा बयां करते है भगवान् सहस्त्रबाहू की जयंती सम्पूर्ण हिन्दू समाज मनाता है. भगवान् सहस्त्रबाहू को वैसे तो सम्पूर्ण सनातनी हिन्दू समाज अपना आराध्य और पूज्य मान कर इनकी जयंती पर इनका पूजन अर्चन करता है किन्तु हैहय कलार समाज इस दिवस को विशेष रूप से उत्सव-पर्व के रूप में मनाकर भगवान् सहस्र्त्रबाहू की आराधना करता है. भगवान् सहस्त्रबाहू के विषय में शास्त्रों और पुराणों में अनेकों कथाएं प्रचलित है. किंवदंती है कि, राजा सहस्त्रबाहू ने विकट संकल्प लेकर शिव तपस्या प्रारम्भ की थी एवं इस घोर तप के दौरान वे के प्रतिदिन अपनी एक भुजा काटकर भगवान शंकर को अर्पण करते थे। इस तपस्या के फलस्वरूप भगवान् नीलकंठ ने सहस्त्रबाहू को अनेकों दिव्य, चमत्कारिक और शक्तिशाली वरदान दिए थे.
Our Correspondent :03 October 2015
हरिवंश पुराण के अनुसार महर्षि वैशम्पायन ने राजा भारत को उनके पूर्वजों का वंश वृत्त बताते हुए कहा कि राजा ययाति का एक अत्यंत तेजस्वी और बलशाली पुत्र हुआ था “यदु”. यदु के पांच पुत्र हुए जो सहस्त्रद, पयोद, क्रोस्टा, नील और अंजिक कहलाये. इनमें से प्रथम पुत्र प्रथम पुत्र सहस्त्रद के परम धार्मिक ३ पुत्र “हैहय”, हय तथा वेनुहय नाम के हुए थे. हैहय के ही प्रपोत्र राजा महिष्मान हुए जिन्होंने महिस्मती नाम की पुरी बसाई, इन्ही राजा महिष्मान के वशंज कृतवीर्य के पुत्र अर्जुन हुए जो सहस्त्रबाहू अर्थात सहस्त्रार्जुन नाम से विख्यात है. यही सहस्त्रबाहू सूर्य से दैदीप्यमान और दिव्य रथ पर चढ़कर सम्पूर्ण पृथ्वी को जीत कर सप्तद्वीपेश्वर कहलाये और सम्पूर्ण विश्व में अधिष्ठित हुए. कहा जाता है कि सहस्त्र बाहू ने अत्रि पुत्र दत्तात्रेय की आराधना दस हजार वर्षो तक कर परम कठिन तपस्या की और कई दिव्य व चमत्कारिक वरदान प्राप्त किये.
वीर राजा हैहय के प्रपौत्र महिष्मान ने महिस्मती नामक जो धर्म नगरी बसाई थी वह आज भी धर्मध्वजा को लहरा रही है एवं मध्यप्रदेश के मालवा क्षेत्र में महेश्वर के नाम से प्रसिद्द है. महेश्वर शहर मध्य प्रदेश के खरगोन जिलें में माँ नर्मदा के किनारें स्थित है. राजा सहस्त्रार्जुन या सहस्त्रबाहू जिन्होनें राजा रावण को पराजित कर उसका मान मर्दन कर दिया था उन्होंने इस महेश्वर नगर की स्थापना कर इसे अपनी राजधानी घोषित किया था. यही प्राचीन नगर महेश्वर आज भी मध्यप्रदेश में शिवनगरी के नाम से जाना जाता है और जिसे पवित्र नगरी का राजकीय सम्मान भी प्राप्त है, पूर्व में महान देवी अहिल्याबाई होल्कर की भी राजधानी रहा है. वास्तुकला और स्थापत्य कला के उच्च मान दंडों के अनुसार निर्मित यह नगर अपनें भव्य, विशाल और तंत्र-यंत्र पूर्ण किन्तु कलात्मक शिवमंदिरों और मनोरम घाटों के लिए विख्यात है. हैहय राजा महिस्मान द्वारा बसाई गई यह महेश्वर नगरी जहां कि आदिगुरु शंकराचार्य तथा पंडित मण्डन मिश्र का एतिहासिक, बहुचर्चित व प्रसिद्ध शास्त्रार्थ हुआ था आज भी अपनें पुरातात्विक धरोहरों और सांस्कृतिक व पौराणिक विरासतों को अपनें आप में समेटें हैहय राजाओं का इतिहास गान कर रही है और अपनें पौराणिक महत्व का बखान कर रही है.कलार शब्द का शाब्दिक अर्थ है मृत्यु का शत्रु, या काल का भी काल, अर्थात हैहय वंशियों को बाद में काल का काल की उपाधि दी जानें लगी जो शाब्दिक रूप में बिगड़ते हुए काल का काल से कल्लाल हुई और फिर कलाल और अब कलार हो गई.
भगवान् सहस्त्रबाहू के विषय में एक कथा यह भी प्रचलित है कि इन्ही राजा यदु से यदुवंश प्रचलित आ था, जिसमे आगे चलकर भगवन श्री कृष्णा ने जन्म लिया था. शास्त्रों में कहा गया है कि यदु के समकालीन ही भगवान् विष्णु एवं माँ लक्ष्मी के नियोग के फलस्वरूप एक तेजस्वी बालक का जन्म हुआ और भगवान् विष्णु ने इस बालक को भगवान् शंकर जी को सौप दिया. भगवान् शंकर जी ने इस बालक की उज्जवल भविष्य रेखाओ और तेजस्वी ललाट को देखकर बहुत ही प्रसन्न हुए, और उसकी भुजा पर अपने त्रिभुज से “एकाबीर हैहय” लिख दिया. इसी से बालक का नाम “हैहय” हुआ, जो आज भी एक कुल नाम या जाति के रूप में प्रचलित है. देवी भागवत में यह कथा अत्यंत विस्तार व यश-महिमा के साथ उल्लेखित है.
भगवान् सहस्त्रबाहू को आराध्य मानने वाले कलार या हैहय समाज की तेजस्विता, बल और शोर्य का वर्णन करते हुए किसी कवि ने इन समाज बंधुओं के विषय कहा है कि-

हैहय वंशी जगे तो, लाते है भयंकरता,
शिव साज तांडव सा, युद्ध में सजाते है।
शत्रु तन खाल खींच, मांस को उलीच देत,
गीध, चील, कौए तृप्त , 'प्रचंड' हो जाते है।।
रुंड, मुंड, काट-काट, रक्त मज्जा मेदा युक्त,
अरि सब रुंध-रुंध, गार सी मचाते है।।
बढ़ाते शक्ति उर्बर, भावी संतान हेतु,
मातृ-ऋण उऋण कर, मुक्त हो जाते है।।
भगवान् सहस्त्रबाहू के वंशजों के जाति नाम या कुल नाम या गोत्र नाम “कलार” शब्द के विषय में जो एक भ्रान्ति प्रचलित है उसका भी स्पष्टीकरण आवश्यक हो जाता है. यह शब्द कलाल, कलार या कलवार एक स्थान विशेष या क्षेत्र विशेष का नाम है जो चंद्रवंशी (सोमवंशी) कलवार राजपूतों और राजस्थान के कलवार ठिकाना के ठाकुरों का निवास क्षेत्र रहा है. उल्लेखनीय है कि इतिहास कारों के अनुसार अखंड भारत के समय कलवार राजस्थान के अलावा पाकिस्तान और अज़रबैजान में कलाल; ईरान और ईराक में कलार; अफ़ग़ानिस्तान अल्जेरिया बहरीन बर्मा ईरान इराक सऊदी अरबिया टूनीसिया सिरिया में कलाट आदि शब्दों को भी आज के कलारी अथवा कलाली से ही सम्बंधित माना जाता है.
मध्यकालीन इतिहास के वृतांतों में कलाल शबद का प्रयोग पाकिस्तान के कलाल क्षेत्र में निवासरत जातियों के सम्बन्ध में किया जाता है. उस समय मुस्लिम आक्रमणों के चलते इन जातियों का जबरन धर्मांतरण भी हुआ जिनकी वंशज जातियां अब भी उस क्ष्रेत्र में निवासरत हैं जिसे कलाल क्षेत्र कहा जाता था. कलार शब्द का शाब्दिक अर्थ है मृत्यु का शत्रु, या काल का भी काल, अर्थात हैहय वंशियों को बाद में काल का काल की उपाधि दी जानें लगी जो शाब्दिक रूप में बिगड़ते हुए काल का काल से कल्लाल हुई और फिर कलाल और अब कलार हो गई. ज्ञातव्य है कि भगवान शिव के कालांतक या मृत्युंजय स्वरूप को बाद में अपभ्रंश रूप में कलाल कहा जानें लगा. वस्तुतः भगवान् शिव के इसी कालांतक स्वरुप का अपभ्रंश शब्द ही है “कलार”. इस कलवार या कलाल या कलार जैसे भगवान् शंकर के नाम के पवित्र शब्द का शराब के व्यापारी के अर्थों या सामानार्थी शब्द के रूप में प्रयोग संभवतः इस समाज के शराब के व्यवसाय के कारण उपयोग किया जानें लगा जो कि घोर अनुचित है. भगवान् सहस्त्रबाहू के वंशज, पुरातन या मध्यकालीन युग में कलाल या कलार इस देश के बहुत से हिस्सों के शासक रहे और उन्होंने बड़ी ही बुद्धिमत्ता, वीरता से न्यायप्रिय शासन किया किन्तु कालांतर में ये मधु या शराब का व्यवसाय करनें लगे. यद्दपि आज के युग में यह समाज शराब के अतिरिक्त और भी कई प्रकार के प्रतिष्ठा पूर्ण व्यवसायों में संलग्न होकर राष्ट्र निर्माण में अग्रणी भूमिका निभा रहा है तथापि इस समाज की सामाजिक पहचान अब भी इस व्यवसाय से ही जुड़ी हुई हैए


Metro Mirro वेबसाइट www.bhojpurirajput.in का विमोचन
Our Correspondent :22 December 2014
आज दिंनाक २१ दिसंबर स्व. पं. शीतल प्रसाद तिवारी स्मृति वषणालय एवं योगकेंद्र में भोजपुरी क्षत्रिय (राजपूत ) समाज ,भोपाल में उपस्थित लगभग १००० परिवारों के बीच समाज के डायरेक्टरी एवं वेबसाइट www.bhojpurirajput.in का विमोचन का कार्यक्रम श्री सुरेन्द्र नाथ सिंह जी (विधायक -मध्य क्षेत्र ) के उपस्थिति में संपन्न हुआ | जिसमे समाज के लगभग 100 बुजुर्ग का सम्मान पार्षद श्री श्याम नारायण सिंह एवं संस्था के अद्द्यक्ष श्री अजीत सिंह द्वारा किया गया | साथ ही समाज के सभी लोगो का भोज का कार्यक्रम भी संपन्न हुआ ! अंततः संस्था के प्रमुख अजित सिंह जी द्वारा समाज के सभी नागरिको को नववर्ष की शुभकामनाये.


अखिल भारतीय कायस्थ महा सभा की राष्ट्रिय पदाधिकारियों की बैठक
Our Correspondent :06 October 2014
अखिल भारतीय कायस्थ महा सभा की राष्ट्रिय पदाधिकारियों की बैठक 90/8 शीश महल भोपाल में संपन्न हुई जिसमे राष्ट्रिय अध्यक्ष श्री कैलाश नारायण जी सारंग जी की अध्क्षता में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए इसमें मुख्य रूप से सदस्यता अभीयान चलाने हेतु सुनियोजित योजना बनाकर अधिक से अधिक समाज के बंधुओं को जोड़ा जाये साथ ही राष्ट्रिय अध्यक्ष द्वारा सभी प्रदेशॉन में चल रही संगठन की गतिविधियों की समीक्षा की एवम् राष्ट्रिय स्तर के चुनांव अक्टूबर तक कराने का निर्णय लिया निर्णय गया ।
इस अवसर पर राष्ट्रिय महामंत्री श्री निर्मल शंकर जी,राष्ट्रिय अधयक्ष महिला प्रकोष्ठ श्रीमती शीला भटनागर,17 प्रान्तों के प्रांतीय अध्यक्ष,प्रांतीय महामंत्री,प्रांतीय चुनाव प्रभारी विशेष रूप से ओडिसा से रतन पुरश्रेष्ट झार खंड से योग्रन्द्र वर्मा,उत्तराखंड से वी के श्रीवास्तव महारष्ट्र से पी एन श्रीवास्तव कर्णाटक से जी पी माथुर, मध्य प्रदेश के नव निर्वाचित प्रांत अध्यक्ष सुनील श्रीवास्तव व् राष्ट्रिय मंत्री अजय श्रीवास्तव नीलू,प्रांतीय महामन्त्री बृजेश श्रीवास्तव, श्रीमती दीपा खरे,उषा खरे,सुरेश श्रीवास्तव अदि ने बैठक में हिस्सा लिया ।सभी अतिथियों का स्वागत महेंद्र श्रीवास्तव जिला अध्यक्ष द्वारा किया गया ।


लॉयंस क्लब भोपाल ने मनाया लॉयंस सेवा वीक
Our Correspondent :06 October 2014
भोपाल, 6 अक्टूबर 2014। लॉयंस क्लब भोपाल के द्वारा शाहपुरा लेक के पास ऋृषभदेव उद्यान में लायंस सेवा वीक (2-8th Oct,2014) का आयोजन किया गया। इस अभियान का आयोजन लोगों को सफाई की पद्धतियों से परिचित करवाने और भोपाल को ग्रीन सिटी बनाने के उद्देश्य से किया गया।
अभियान में सकिय रूप सेभाग लेनेकेलिए हर किसी को प्रोत्साहित करने के लिए डिस्ट्रिक गवर्नर और लॉयंस क्लब के सदस्यों ने हाथों में झाड़ू लेकर सफाई की। उन्होंने सदस्यों और उपस्थित लोगों से आग्रह किया कि सिर्फ अपने घरों को साफ नहीं रखें, बीमारियों और अन्य समस्याओं से निजात पाने के लिए अपने आस-पास भी साफ-सफाई रखें।
समारोह को संबोधित करतेहुए डिस्ट्रिक गवर्नर लॉयन डॉ. प्रकाश सेठ और क्षेत्रीय अध्यक्ष लॉयन प्रदीप करम बेल कर ने कहा कि हमारा लक्ष्य भोपाल और आस-पास के क्षेत्र को स्वच्छ और सुंदर रखना है। हमें विश्वास है कि जनता की सहायता से हमारी इस अनूठी पहल को जरूर सफलता मिलेगी। हम आने वाले समय मे ंशहर के अन्य सार्वजनिक पार्कों में इस अभियान को चलाऐंगे। सफाई अभियान में जनता का सहयोग बहुत जरूरी है। हम शारीरिक और मानसिक रूप सेतभी स्वस्थ रह सकतेहैं, जब हमारेआस-पास का वातावरण साफ-सुथरा हो।
वास्तव में क्लब के सदस्यों ने हमारे सभी अभियानों में भरपूर सहयोग दिया है। आगे उन्होंने बताया कि साफ-सुथरा समाज सुखद जीवनशैली तो प्रदान करता ही है। साथ ही लोगों के मनोबल का ऊंचा रखता हैऔर उन्हें बीमारियों से दूर रखता है। इससे उच्च आर्थिक विकास के लिए आवश्यक सामाजिक परिस्थितियों का निर्माण होता है। मैं इस पहल को बढ़ावा देने और प्रत्येक व्यक्ति को इससे जोड़ने के लिए क्लब के सदस्यों के प्रयासों की सरहाना करता हूं और उनके सहयोग व समपर्ण के प्रति आभार व्यक्त करता हूं।


 
Copyright © 2014, BrainPower Media India Pvt. Ltd.
All Rights Reserved
DISCLAIMER | TERMS OF USE