Untitled Document


register
REGISTER HERE FOR EXCLUSIVE OFFERS & INVITATIONS TO OUR READERS

REGISTER YOURSELF
Register to participate in monthly draw of lucky Readers & Win exciting prizes.

EXCLUSIVE SUBSCRIPTION OFFER
Free 12 Print MAGAZINES with ONLINE+PRINT SUBSCRIPTION Rs. 300/- PerYear FREE EXCLUSIVE DESK ORGANISER for the first 1000 SUBSCRIBERS.

   >> सम्पादकीय
   >> पाठक संपर्क पहल
   >> आपकी शिकायत
   >> पर्यटन गाइडेंस सेल
   >> स्टुडेन्ट गाइडेंस सेल
   >> आज खास
   >> राजधानी
   >> कवर स्टोरी
   >> विश्व डाइजेस्ट
   >> बेटी बचाओ
   >> आपके पत्र
   >> अन्ना का पन्ना
   >> इन्वेस्टीगेशन
   >> मप्र.डाइजेस्ट
   >> निगम मण्डल मिरर
   >> मध्यप्रदेश पर्यटन
   >> भारत डाइजेस्ट
   >> सूचना का अधिकार
   >> सिटी गाइड
   >> लॉं एण्ड ऑर्डर
   >> सिटी स्केन
   >> जिलो से
   >> हमारे मेहमान
   >> साक्षात्कार
   >> केम्पस मिरर
   >> हास्य - व्यंग
   >> फिल्म व टीवी
   >> खाना - पीना
   >> शापिंग गाइड
   >> वास्तुकला
   >> बुक-क्लब
   >> महिला मिरर
   >> भविष्यवाणी
   >> क्लब संस्थायें
   >> स्वास्थ्य दर्पण
   >> संस्कृति कला
   >> सैनिक समाचार
   >> आर्ट-पावर
   >> मीडिया
   >> समीक्षा
   >> कैलेन्डर
   >> आपके सवाल
   >> आपकी राय
   >> पब्लिक नोटिस
   >> न्यूज मेकर
   >> टेक्नोलॉजी
   >> टेंडर्स निविदा
   >> बच्चों की दुनिया
   >> स्कूल मिरर
   >> सामाजिक चेतना
   >> नियोक्ता के लिए
   >> पर्यावरण
   >> कृषक दर्पण
   >> यात्रा
   >> विधानसभा
   >> लीगल डाइजेस्ट
   >> कोलार
   >> भेल
   >> बैरागढ़
   >> आपकी शिकायत
   >> जनसंपर्क
   >> ऑटोमोबाइल मिरर
   >> प्रॉपर्टी मिरर
   >> सेलेब्रिटी सर्कल
   >> अचीवर्स
   >> पाठक संपर्क पहल
   >> जीवन दर्शन
   >> कन्जूमर फोरम
   >> पब्लिक ओपिनियन
   >> ग्रामीण भारत
   >> पंचांग
   >> येलो पेजेस
   >> रेल डाइजेस्ट
 
पाठक संपर्क पहल










Metro Mirro


मानसून पूर्व रखरखाव के काम को जल्दी पूरा करें : डॉ. संजय गोयल मीटरीकृत उपभोक्ता को मीटर रीडिंग के आधार पर ही देयक जारी किए जाएं
भोपाल 25 मई। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक डॉ. संजय गोयल ने कहा कि मानसून पूर्व रखरखाव के काम को जल्दी पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि ऐसा नहीं होना चाहिए कि एक ही फीडर मरम्मत के लिए बार-बार बन्द किया जाए। उन्होंने कहा कि शहरों में ट्रिपिंग का स्तर न्यूनतम हो और ट्रिपिंग आने पर विद्युत आपूर्ति को तत्परता से सुचारू किया जाए। डॉ. संजय गोयल ने कहा कि सौभाग्य योजना, दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना, आईपीडीएस, मुख्यमंत्री स्थाई कृषि पंप योजना के कार्य समय-सीमा में पूर्ण किए जाएं। उन्होंने कंपनी के अभियंताओं एवं कार्मिकों से कहा कि बिजली वितरण में दक्षता एवं उत्कृष्ट उपभोक्ता सेवा पर विशेष ध्यान दें और हमारा प्रयास हो कि उपभोक्ता संतुष्टि में वृद्धि के हर संभव प्रयास करें। डॉ. गोयल भोपाल रीजन के विदिशा सहित अन्य जिलों की विद्युत आपूर्ति की समीक्षा कर रहे थे। डॉ. गोयल ने कहा कि उपभोक्ताओं के खराब तथा जले मीटरों को प्राथमिकता से बदला जाए और मीटरीकृत उपभोक्ता को मीटर रीडिंग के आधार पर ही देयक जारी किया जाए। डॉ. गोयल ने कहा कि फीडरवार राजस्व का विश्लेषण किया जाए तथा अधिकारियों और कार्मिकों को अपने प्रयासों में सजगता और सक्रियता लाना होगा। उन्होंने कहा कि कंज्यूमर इंडेक्सिंग का कार्य शत-प्रतिशत किया जाए और शहरी क्षेत्रों के शत-प्रतिशत उपभोक्ताओं के यहॉं मोबाइल पर एसएमएस अलर्ट भेजा जाए। बिजली से संबंधित हर जानकारी और समस्याओं के समाधान हेतु काल सेंटर स्थापित किया गया है। जहां 18002331912, 1912 एवं 0755-2551222 पर काल कर बिजली से संबंधित शिकायतों का तत्परता से निराकरण किया जाता है। मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी में अब आनलाइन भी बिजली से संबंधित शिकायतों को दर्ज कराने और उसके समाधान की व्यवस्था है।


नई सर्विस केबल के साथ सौभाग्य योजना में कनेक्शन दिये जाएं : श्री केशरी
भोपाल 15 जनवरी। प्रमुख सचिव, ऊर्जा श्री आई.सी.पी.केशरी ने कहा है कि सौभाग्य योजना के अंतर्गत नई सर्विस केबल उपभोक्ताओं के यहॉं लगाई जाए तभी सौभाग्य योजना में उस कनेक्शन को शामिल माना जाएगा। उन्होंने कहा कि जहॉं-जहॉं विद्युत सामग्री आ गई है वहॉं नई केबल के साथ मीटर और पूरी किट के साथ सौभाग्य योजना में कनेक्शन दिया जाए। यह बात आज भोपाल में प्रदेश में कार्यरत तीनों विद्युत कंपनियों की समीक्षा बैठक में प्रमुख सचिव, ऊर्जा श्री केशरी ने कही। इस अवसर पर एम.पी.पॉवर मैनेजमेंट कंपनी के प्रबंध संचालक श्री संजय कुमार शुक्ल, पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री आकाश त्रिपाठी, पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक श्री मुकेश चंद गुप्ता और मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के प्रबंध संचालक डॉ. संजय गोयल उपस्थित थे। इस अवसर पर प्रमुख सचिव ऊर्जा श्री केशरी ने फीडर विभक्तिकरण योजना, दीनदयाल ग्राम ज्योति योजना, आईपीडीएस योजना, उदय योजना, सौभाग्य योजना, मुख्यमंत्री स्थाई कृषि पम्प योजना की विस्तार से समीक्षा की।    प्रमुख सचिव, ऊर्जा ने विद्युत कंपनियों के मैदानी अधिकारियों को स्पष्ट कहा है कि दूर-दराज के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों और ए.पी.एल. परिवारों को गुणवत्तापूर्ण और विश्वसनीय बिजली आपूर्ति सुनिश्चित की जाए, इसके लिए किसी प्रकार की कोताही बर्दाशत नहीं की जाएगी। सौभाग्य योजना के अंतर्गत गुणवत्तापूर्ण केबल लगाई जाए और उपभोक्ताओं को सौभाग्य योजना में शत-प्रतिशत संतुष्टि होना चाहिए। उन्होंने कहा कि सौभाग्य योजना के अंतर्गत जिन मजरा-टोलों और गावों में लाईनों के विस्तार की आवश्यकता है और उन गांवों के कामों को प्राथमिकता से पूरा किया जाए ताकि सौभाग्य योजना के अंतर्गत शत-प्रतिशत लक्ष्य अक्टूबर के पहले पूरा कर लिया जाए।   प्रमुख सचिव, ऊर्जा श्री केशरी ने पंचायत, ब्लॉक, तहसील एवं जिला स्तर पर सौभाग्य योजना के अंतर्गत जागरूकता अभियान चलाने की जरूरत बताई। उन्होंने कहा कि कॉन्ट्रेक्टरों से संवाद स्थापित कर यह सुनिश्चित किया जाए कि सभी निर्माण कार्य निर्धारित समयावधि में पूरे किये जाएं। प्रमुख सचिव, ऊर्जा ने कहा कि गर्मी का मौसम अपै्रल माह से शुरू हो जाएगा। इसके लिए नल-जल योजना के लंबित प्रकरणों का तत्काल निपटारा किया जाए ताकि गर्मियों में पेयजल की समस्या नहीं हो।   एम.पी.पॉवर मैनेजमेंट कंपनी के प्रबंध संचालक श्री संजय कुमार शुक्ल ने कहा कि विद्युत वितरण कंपनियों को अपनी बिलिंग दक्षता में सुधार करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि भोपाल शहर के कोलार इलाके में जले तथा खराब मीटरों को प्राथमिकता पर बदला जाए। श्री शुक्ल ने कहा कि शत-प्रतिशत उपभोक्ताओं को एसएमएस अलर्ट भेजा जाना चाहिए। इसके लिए मोबाइल नंबर को बिलिंग प्रणाली में जोड़ने के लिए अभियान चलाया जाए। उन्होंने कहा कि सौभाग्य योजना के अंतर्गत आधार नंबर, मोबाइल नंबर आदि की जानकारी कनेक्शन देते समय ही ले ली जाए। इस मौके पर तीनों कंपनियों के प्रबंध संचालकों ने अपने-अपने क्षेत्रों में चल रही योजनाओं की प्रगति और लक्ष्यों की पूर्ति के लिए किए जा रहे कार्याें की जानकारी दी।  


प्रॉपर्टी खरीदने से पहले वेबसाइट पर देखें कॉलोनी वैध है या नहीं

यदि आप नगर निगम सीमा के भीतर कोई प्रॉपर्टी खरीद रहे हैं तो ये जरूर देख लें कि कॉलोनी वैध है या नहीं| www.bmconline.gov.in पर आप वैध और अवैध कॉलोनी की सूची देख सकते हैं| नगर निगम ने कॉलोनी की नई सूची वेबसाइट पर अपलोड की है| यदि आप नगर निगम सीमा के बाहर कोई प्रॉपर्टी खरीद रहे हैं तो संबंधित एसडीएम के कार्यालय मे जाकर इसकी वैधता की जानकारी ले सकते हैं|


किराएदार की जानकारी देने के लिए वेरिफिकेशन फॉर्म

1.  मकान मलिक का नाम..................................................................
       पिता का नाम .............................................................................
2.    मकान मलिक का पता....................................................................
                                  ...................................................................
3.    किराएदार का नाम.......................................................................
       पिता का नाम..............................................................................
4.    किराए से लिए गए घर का पता ..........................................................
5.    किस तारीख से किराए पर दिया ..........................................................
6.    किराएदार का व्यवसाय......................................................................
7.    किराएदार का फ़ोन नंबर .....................................................................
8.    किराएदार का स्थायी पता.....................................................................
                                      ...................................................................
9.    किराएदार को क्षेत्र मे पहचानने वाला व्यक्ति ..............................................
10.    किराएदार के पूर्व निवास का पता...........................................................
                                              ..............................................................
11.    किराएदार के परिवार मे रहने वाले ,..........................................................
        सदस्यो की जानकारी व उनके फोन नंबर .......................................................
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
(साथ मे किराएदार के दो फोटोग्राफ व पहचान के लिए वोटर आईडी/ राशन कार्ड / ड्राइविंग लाइसेंस/ पेन कार्ड की किराएदार द्वारा प्रमाणित फोटो कॉपी भी लगाए।)
 
Copyright © 2014, BrainPower Media India Pvt. Ltd.
All Rights Reserved
DISCLAIMER | TERMS OF USE