Untitled Document



register
REGISTER HERE FOR EXCLUSIVE OFFERS & INVITATIONS TO OUR READERS

REGISTER YOURSELF
Register to participate in monthly draw of lucky Readers & Win exciting prizes.

EXCLUSIVE SUBSCRIPTION OFFER
Free 12 Print MAGAZINES with ONLINE+PRINT SUBSCRIPTION Rs. 300/- PerYear FREE EXCLUSIVE DESK ORGANISER for the first 1000 SUBSCRIBERS.

   >> सम्पादकीय
   >> राजधानी
   >> कवर स्टोरी
   >> विश्व डाइजेस्ट
   >> बेटी बचाओ
   >> आपके पत्र
   >> अन्ना का पन्ना
   >> इन्वेस्टीगेशन
   >> मप्र.डाइजेस्ट
   >> मध्यप्रदेश पर्यटन
   >> भारत डाइजेस्ट
   >> सूचना का अधिकार
   >> सिटी गाइड
   >> अपराध मिरर
   >> सिटी स्केन
   >> जिलो से
   >> हमारे मेहमान
   >> साक्षात्कार
   >> केम्पस मिरर
   >> फिल्म व टीवी
   >> खाना - पीना
   >> शापिंग गाइड
   >> वास्तुकला
   >> बुक-क्लब
   >> महिला मिरर
   >> भविष्यवाणी
   >> क्लब संस्थायें
   >> स्वास्थ्य दर्पण
   >> संस्कृति कला
   >> सैनिक समाचार
   >> आर्ट-पावर
   >> मीडिया
   >> समीक्षा
   >> कैलेन्डर
   >> आपके सवाल
   >> आपकी राय
   >> पब्लिक नोटिस
   >> न्यूज मेकर
   >> टेक्नोलॉजी
   >> टेंडर्स निविदा
   >> बच्चों की दुनिया
   >> स्कूल मिरर
   >> सामाजिक चेतना
   >> नियोक्ता के लिए
   >> पर्यावरण
   >> कृषक दर्पण
   >> यात्रा
   >> विधानसभा
   >> लीगल डाइजेस्ट
   >> कोलार
   >> भेल
   >> बैरागढ़
   >> आपकी शिकायत
   >> जनसंपर्क
   >> ऑटोमोबाइल मिरर
   >> प्रॉपर्टी मिरर
   >> सेलेब्रिटी सर्कल
   >> अचीवर्स
   >> पाठक संपर्क पहल
   >> जीवन दर्शन
   >> कन्जूमर फोरम
   >> पब्लिक ओपिनियन
   >> ग्रामीण भारत
   >> पंचांग
   >> रेल डाइजेस्ट
 
कोलार

प्रमुख इलाक़ो मे प्लॉट के दाम
स्थान
  नए दाम 
  
पुराने दाम 
   आवासीय   व्यावसायिक   आवासीय   व्यावसायिक 
चूना भट्टी( कोलार तिराहे से शाहपुरा पुलिया तक मेन रोड पर ) 60000 90000 50000 75000
चूना भट्टी( कोलार तिराहे से शाहपुरा पुलिया तक मेन रोड से हटकर ) 40000 60000 30000 45000
कोलार मेन रोड पर सर्वधर्म से कोलार थाने तक (सभी वार्डो मे) 55000 82500 50000 75000
कोलार मेन रोड पर थाने से क्रिसेंट पुलिया तक (सभी वार्डो मे) 45000 67500 40000 60000
कोलार मेन रोड पर क्रिसेंट पुलिया से नपा सीमा तक (सभी वार्डो मे ) 35000 52500 30000 45000
परफ़ेक्ट प्लाज़ा, मानसरोवर कैम्पस 40000 40000 15000 22500
सर्वधर्म 18000 27000 15000 22500
मंदाकिनी 18500 27750 18000 27000
अमरनाथ, शालीमार, साईनाथ, सिग्नेचर 99 18000 27000 15000 22500
पैलेस आर्चर्ड 18500 27750 15000 22500
राजहर्ष 16000 24000 15000 22500
दानिशकुंज 18500 27750 15000 22500
प्रियंका नगर 20000 30000 10000 15000
विनीतकुंज 180000 27000 14000 21000
बंजारी 17000 25500 14000 21000
अकबरपुर 16000 24000 15000 22500
नयापुरा 15000 22500 12500 18750
सलैया व सनखेड़ी 14000 21000 15000 22500
इनायतपुर की कॉलोनिया 12000 18000 8000 12000
बोरदा की कॉलोनिया 10000 15000 5000 7500
सतगढी की कॉलोनिया 8000 12000 6000 9000
सतगढी की कॉलोनिया 4000 6000 - -


phone
पुलिस कंट्रोल रूम
100/ 2555922
2555933
नगर पालिका हेल्पिंग
(बैरागढ़ चिचली)
0755 - 2879451
(शांति वाहन)
0755 - 2414772
( फायर ब्रिगेड )
0755 - 2414772
(एम्बुलेंस)
0755 - 2411111
bulb
बिजली सब स्टेशन
दानिश कुंज
2678398
बैरागढ़ चिचली
2879400

sinn
अनुपम हॉस्पिटल
2414151
हरसिद्धि हॉस्पिटल
2495508, 2495581
आयुष्मान अस्पताल
5422981
कोलार मेटरनिटी
6462468
हमीदिया अस्पताल
2540222
जेपी अस्पताल
2557142
कैंसर अस्पताल
2540849, 2546720
काटजू अस्पताल
2774251
blood
अर्पण ब्लड बैंक
2574940
भोपाल ब्लड बैंक
2538891
भोपाल ब्लड बैंक
2538891
तत्पर ब्लड बैंक
2766566
रेडक्रॉस
2556707
bus
बस स्टेंड हलालपुर
2715858
rail
131, 133, 1331 , 1332
रेल रिज़र्वेशन
1335, 1336
abk
एम्बुलेंस
108

निःशुल्क स्वास्थ्य शिविर का सफल आयोजन
Our Correspondent :28 November 2016
भोपाल 27 नवंबर 16/ अखिल भारतीय ग्राहक पंचायत कोलार इकाई द्वारा जागरण कर व्यवस्था सुधार के आंदोलन हेतु लगातार प्रयासरत है। इसी क्रम में स्वास्थ्य क्षेत्र में समाज जागरण हेतु आज मंदाकिनी कालोनी कोलार रोड स्थित शिव मंदिर प्रागंण में निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया गया। बडी संख्या में रहवासी नागरिकों ने शिविर में आकर ब्लड प्रेशर, शूगर, वजन की जांच कराकर चिकित्सकों से सलाह एवं परामर्श लेकर उपचार कराया। शिविर में वरिष्ठ सर्जन डॉ. ए.के. खरे, अस्थि एवं जोड़ रोग विषेषज्ञ डॉ. संजय उपाध्याय, स्त्री एवं प्रसूति रोग विषेषज्ञ डॉ. ऋचा उपाध्याय, एमबीबीएस डॉ. विशाल दीक्षित, बीएएमएस डॉ. अतुल पवार, बीएचएमएस डॉ. अरूण लोधी, डॉ. शिवम कुमार, डॉ. हर्षा पटले, पैथालाजिस्ट श्री महेश मीणा एवं श्री उत्तम सिंह ने अपनी सेवाएं प्रदान की एवं स्वस्थ भारत की रचना हेतु आने वाले समय में अपनी सेवाएं देने की इच्छा व्यक्त की। इस अवसर पर मंदाकिनी रहवासी समिति के अध्यक्ष श्री आत्माराम गुर्जर एवं ग्राहक पंचायत के सदस्य श्री मनीष राजौरिया, श्री राजकुमार चावरिया, श्री नरेन्द्र चावरिया, श्री उत्तम सिंह, श्री ईश्वर सेन, श्री राहुल चावरिया, श्रीमती आशा देवलिया, श्री शंकर चौहान, श्री अमित अहिरवार, श्री हरीश बारी, श्री कमलेश पटेल, श्री सचिन शर्मा, श्री राजेन्द्र नेगी, श्री हेमंत तैलंग, श्री दीपांश बारी, श्री उपेन्द्र जुगादे, श्री यू.आर. गावंडे, श्री अजय सोनी, श्री प्रकाश सालवार, श्री संजय वाजपेयी, श्री के.पी. वर्मा सहित बडी संख्या में रहवासी उपस्थित थे।


कोलार नगर पालिकाका वित्त वर्ष 2014-15 का बजट पारित
भोपाल। कोलार नगर पालिका का वित्त वर्ष 2014-15 का बजट पारित कोलारवासीयो को वित्तीय वर्ष 2014-15 ने 10 से 12 फीसदी संपति कर अधिक देना होगा| नगर पालिका प्रशासन ने कोलार मुख्य मार्ग और कोलार उप मार्ग के वार्षिक भाडे मे करीब 25फीसदी मे वृद्धि कर दी है| यह वृद्धि एक अप्रेल से लागू हो जाएगी| इसके साथ ही नगर पालिका कोलार का वर्ष 2014-15 का अनुमानित बजट पास कर दिया गया है| इसमे 129करोड़ अनुमानित आ है और 122करोड़ रुपए अनुमानित व्यय| इस तरह करीब 7 करोड़ रुपए बचत का अनुमान है| नगर पालिका कोलार की परिषद् डेढ साल से भंग है| लगातार दूसरी बार यहा का बजट प्रभारी अधिकारी (पदेन एसडीएम) ने पास किया है| यहा प्रशासन को भेज दिया गया है|

इन योजनाओ के लिए मिलेगा पैसा

जल आवर्धन योजना- 53 करोड़ रुपए, सीवेज नेटवर्क योजना -44 करोड़ , राजीव गाँधी आवास योजना -16 करोड़ , जल कष्ट निवारण- 7 करोड़ , मुख्यमंत्री अधोसंरचना - पोने दो करोड़ रुपए सहित अन्य शासकीय मद से होने वाली आय|

यहा होगा पैसा खर्च

सड़्क निर्माण-10 करोड़ रुपए , नाला निर्माण- 8 करोड़ रुपए , जल परिवहन- 5 करोड़ रुपए , पार्क/ पाथवे निर्माण- 1 करोड़ रुपए, हाट बाजार निर्माण- 2 करोड़ रुपए, मुख्य मार्ग विधुत पोल शिफ्टिंग- पोने दो करोड़ रुपए , स्टेडियम निर्माण-1 करोड़ रुपए , विश्राम घाट - 60 लाख रुपए , सुलभ शोचालय निर्माण - 60 लाख रुपए , अन्य जन सुविधाओ पर खर्च होने वाली राशि|

ऐसे समझे कैसे बढ़ेगा सम्पति कर

कोलार मुख्य मार्ग और उप मुख्य मार्ग मे व्यवसायिक और आवासीय वार्षिक भाड़े को बढ़ाया गया है| इसमे मुख्य मार्ग व्यवसायिक की दर 48रु से बढ़ा कर 60रु प्रति वर्गफीट कर दी गयी है| इसी तरह आवासीय मे 36रू की जगह 45रु देने होंगे| उप मुख्य मार्ग मे व्यवसायिक का 36रु से 45रु और आवासीय मे 24रु की जगह 30रु कर दिया गया है|


कोलार में मोर के शिकार की आशंका, पहाड़ी पर मिले पंख!
भोपाल। कोलार की कान्हाकुंज कॉलोनी के पीछे स्थित पहाड़ी पर मोर पंख मिले हैं। पंखों को देखकर अंदाजा लगाया जा रहा है कि किसी ने मोर का शिकार करने के बाद पंख मौके पर छोड़ दिए होंगे। एक अनुमान यह भी लगाया जा रहा है कि मोर का शिकार किसी जानवर ने किया होगा। हालांकि घटना की जांच के बाद ही यह बताया जा सकेगा कि, मोर का शिकार किसी जानवर ने किया है या इंसान ने।
पहले भी दी गई थी सूचना: कान्हाकुंज फेज-1 निवासी सनातन धर्मश्री के अध्यक्ष आचार्य ध्रुव शास्त्री ने बताया कि कालोनी के पीछे स्थित पहाड़ी नयापुरा जंगल-2 के अंतर्गत आती है। पहाड़ी पर नयापुरा के लोग मवेशी चराने भी जाते हैं। उनके द्वारा पहले भी जंगल में जगह-जगह पर मोर पंख पड़े होने के बारे में बताया गया था। इस घटना के बाद जब संबंधित अधिकारियों एवं लोगों ने मौके पर जा कर देखा तो वहां काफी संख्या में मोर पंख पड़े थे।
हरकर में आया वन विभागः सूचना मिलते ही मौके पर पहुंचे वन विभाग के अधिकारी मामले की जांच में जुट गए है। रहवासियों का कहना है कि वे पहले भी इसकी सूचना संबंधित थाने में दे चुके हैं, लेकिन अब तक कोई कार्यवाही नहीं हुई। उधर संबंधित अधिकारियों ने घटना की जानकारी वन मंत्रालय को देने की बात कही है। ताकि राष्ट्रीय पक्षी मोर के गायब होने या मारे जाने की सच्चाई का पता लगाया जा सके। गौरतलब है कि यह पहली बार नहीं है जब कोलार क्षेत्र के आसपास मोर पंख मिले हैं। इससे पहले भी दामखेड़ा से लगी कलियासोत नदी के नजदीक मोर पंखे मिले थे। इन्हें वन विभाग के अमले ने बरामद किया था।


भाजपाइयों ने वार्डों में जाकर मांगा एक वोट और एक नोट
भोपाल। कोलार के वार्डों में रविवार को भाजपा कोलार मंडल के कार्यकर्ताओं ने जनसंपर्क अभियान चलाया। कार्यकर्ता पार्टी द्वारा दिए गए कलश को लेकर वार्ड दो, चार और वार्ड दस में रहने वाले रहवासियों के घर एवं दुकानों में गए। उनसे कलश में चंदा लिया और साथ ही नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए भाजपा को वोट देने की अपील की।
क्षेत्र के पूर्व पार्षद अमित शुक्ला ने बताया कि कोलार के सभी 21 वार्डों में अभियान चलेगा। एक-एक घर, दुकान और व्यक्ति को अभियान से जोडऩे का लक्ष्य तय किया गया है। लोगों का भी सहयोग मिल रहा है। अभियान में मंडल अध्यक्ष ताराचंद मारन, संजय श्रीवास्तव, श्याम सिंह मीना और प्रमोद शर्मा समेत कई कार्यकर्ता शामिल थे।


भूमि पूजन करसड़क बनवाना भूले मंत्री जी
भोपाल. प्रदेश के उच्च शिक्षा मंत्री उमाशंकर गुप्ता के विधान सभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले चूनाभट्टी इलाके की पॉश कॉलोनी दीपक सोसायटी के रहवासी सड़क निर्माण नहीं होने के कारण परेशानियों का सामना कर रहे हैं। उनकी विधायक निधि से प्रस्तावित दीपक सोसायटी की एप्रोच रोड का निर्माण नहीं किया गया है। जबकि उसके आसपास की सड़क बनवा दी गईं हैं।
हैरानी की बात यह है कि करीब-पांच महीने पहले उमाशंकर गुप्ता ने खुद इस सड़क का भूमि पूजन किया था। मगर उसके बाद काम शुरू नहीं हुआ। स्थानीय लोगों का कहना है कि वर्तमान सड़क की स्थिति बहुत खराब हो चुकी है। उसका सीमेंट जगह-जगह से उखड़ गया है। गड्ढे हो गए हैं।
इस वजह से वाहन और वाहन चालक दोनों पर विपरीत असर हो रहा है। इसके बाद भी कोलार मेन रोड को जोडऩे वाली सोसायटी की एप्रोच रोड का निर्माण नहीं किया जा रहा है। जबकि इस सड़क से कॉलोनी के सभी लोग आना-जाना करते हैं। वहीं कॉलोनी की दो आंतरिक सड़कें बना दी गईं हैं।

भूमि पूजन किसी का और बना दी कोई और सड़क

इधर, दीपक सोसायटी में विधायक निधि से प्रस्तावित सड़क निर्माण को लेकर गफलत की बातें भी सामने आ रही हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि नगर निगम में सड़क निर्माण के लिए भूमि पूजन एप्रोच रोड का किया था। करीब 12 लाख की लागत से यहां पर सीसी रोड बनाई जानी थी, लेकिन निर्माण अंदर की सड़क का करवा दिया है।


स्कूल के पास ताश खेलते हैं असामाजिक तत्व
भोपाल. उपनगर के 610 क्वार्टर स्थित शासकीय स्कूल परिसर के पास असामाजिक तत्वों का डेरा रहता है। वे लोग स्कूल परिसर के नजदीक सुबह से शाम तक ताश खेलते रहते हैं। चिल्ला-चोट, शोर शराबा करते हैं। इस कारण बच्चों की पढ़ाई प्रभावित होती है। बच्चे स्कूल परिसर के आसपास खेल-कूद नहीं पाते। खुद को असुरक्षित भी महसूस करते हैं। स्कूल में पढ़ाने वाली शिक्षिकाएं भी इस समस्या से परेशान हैं, लेकिन वरिष्ठ अधिकारियों के नाराज होने के डर से कुछ कर नहीं पाती हैं।
यही नहीं, पालक शिक्षक संघ की तरफ से स्कूल के पास की जमीन को खेल मैदान के रूप में विकसित करने की मांग की है। मगर उसको भी अनदेखा कर दिया गया है। पालक शिक्षक संघ के अध्यक्ष सईद खान का कहना है कि स्कूल के पास खाली पड़ी जमीन पर खेल मैदान बन सकता है।


डरते-डरते कटता है 3.80 किमी का सफर
भोपाल. कोलार व चूना भट्टी क्षेत्र को नेहरू नगर से जोडऩे और उनके बीच का फासला कम करने के लिए सड़क निर्माण तो कर दिया गया है, लेकिन प्रकाश की व्यवस्था नहीं की गई है। सड़क बनने के दो साल से ज्यादा समय गुजरने के बाद भी स्ट्रीट लाइट नहीं लगाई गईं हैं।
इस वजह से रात के वक्त इस सड़क पर पौने चार किलोमीटर लंबी सड़क पर अंधेरा छाया रहता है। यहां से गुजरने वालों के मन में दुर्घटना होने और आपराधिक घटना होने का खौफ बना रहता है। पूर्व में कई बार वाहन सड़क हादसे का शिकार हुए हैं और लूट व छेड़छाड़ के मामले भी सामने आते रहे हैं। इसके चलते अब स्ट्रीट लाइट लगाने की मांग उठने लगी हैं।
लोगों का कहना है कि सड़क का निर्माण हुए तीन साल का वक्त गुजर गया है। मगर अब तक स्ट्रीट लाइटें नहीं लगाई गई हैं। जबकि नेहरू नगर जाने वाले तकरीबन सभी लोग इस रास्ते से ही गुजरते हैं। स्ट्रीट लाइट लगने पर इस रास्ते का सफर सुगम होने के साथ ही सुरक्षित भी हो जाएगा।
जानकारी के मुताबिक वर्ष 2009-10 में राजधानी परियोजना प्रशासन (सीपीए) ने इस 3.80 किलोमीटर लंबी सड़क का निर्माण किया था। कोलार जंक्शन (वाल्मी रोड) से लेकर पंडित खुशीलाल कॉलोनी होते हुए नेहरू नगर तक सड़क बनाई गई थी। इसके निर्माण पर करीब तीन करोड़ 42 लाख रुपए खर्च हुए थे।

सड़क बनने से नेहरू नगर का सफर सुगम हो गया है। दिन में इसी रास्ते से जाना-आना होता है, लेकिन रात के वक्तडर लगता है। दुर्घटना और लूट, छेड़छाड़ की वारदात होने का खौफ सताता है। यहां पर स्ट्रीट लाइट लगाई जाना चाहिए।- आरती सोनी, छात्रा


टीन शेड लगाकर बनाई अवैध बाउंड्रीवॉल को नपा ने उखाड़ फेंका
भोपाल। कोलार में नगर पालिका ने अतिक्रमण के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए एक बिल्डर द्वारा बनाए गए अवैध निर्माण को हटा दिया। दरअसल विनीत कुंज के पास शासकीय जमीन पर बिल्डर ने काफी समय से बाउंड्रीवॉल बना रखी थी, जो कि अवैध पाई गई, जेसीबी मशीन से टीन लगाकर किए गए इस अतिक्रमण को नगर पालिका ने उखाड़ फेंका।
नगर पालिका के उपयंत्री नितिन खरे ने बताया कि सीआई बिल्डर ने उनकी निजी भूमि के अतिरिक्त करीब एक-डेढ़ मीटर में शासकीय जमीन पर अस्थाई कब्जा कर लिया था। टीन के शेड खड़े कर बाउंड्रीवॉल बना ली थी। उनका यह अतिक्रमण शुक्रवार को चिह्नित किया गया था। उनको अतिक्रमण हटाने के लिए चेतावनी भी दी गई थी। उन्होंने नपा को लिखित आवेदन देकर शनिवार सुबह खुद से अतिक्रमण हटाने का समय मांगा था, लेकिन शनिवार सुबह तक उन्होंने अतिक्रमण नहीं हटाया था।
इसके बाद नपा का अतिक्रमण अमला मौके पर पहुंचा और एक-डेढ़ घंटे तक वहां बिल्डर द्वारा खुद से अतिक्रमण हटाने का इंतजार करता रहा था, लेकिन जब काफी समय बाद भी अतिक्रमण नहीं हटाया गया, तो नपा के अमले ने कार्रवाई करते हुए जेसीबी मशीन से बाउंड्रीवॉल को धराशायी कर दिया।
गौरतलब है कि शुक्रवार को विधायक रामेश्वर शर्मा ने तहसीलदार आकाश श्रीवास्तव व सीएमओ एसएस धाकरे के साथ विनीत कुंज में निरीक्षण किया था। इस दौरान 80 फीट रोड के पर बिल्डर द्वारा अवैध बाउंड्रीवॉल बनाने का मामले सामने आया था। इसके बाद विधायक ने नजूल व नपा के अधिकारियों को अतिक्रमण की जांच कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। इसी दौरान बिल्डर के चौकीदार ने विधायक से बदतमीजी भी की थी।


सिलेंडर की आरती उतार किया राज्य सरकार के खिलाफ प्रदर्शन
भोपाल। घरेलू गैस सिलेंडर पर एंट्री और वेट टैक्स कम करने की मांग को लेकर शुक्रवार को युवक कांग्रेस ने कोलार के कल्पना चावला गार्डन में विरोध प्रदर्शन किया। कार्यकर्ताओं ने राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। रघुपति राघव राजा राम, शिवराज सरकार को सद्बुद्धि दे भगवान गाया। इतना ही नहीं, महिलाओं ने सिलेंडर सामने रखकर उसकी आरती भी उतारी।
कांग्रेस के युवा नेता राहुल सिंह ने बताया कि केंद्र सरकार ने सबसिडी वाले सिलेंडरों की संख्या नौ से बढ़ाकर 12 कर दी है। अब राज्य सरकार को भी एंट्री और वेट टैक्स घटाना चाहिए। इस मांग को लेकर कोलार में हस्ताक्षर अभियान की शुरुआत की गई है। इसमें कोलार की 100 से ज्यादा महिलाओं ने हस्ताक्षर कर समर्थन दिया है।


विधायक से पूछा कौन हैं आप, सुरक्षाकर्मी ने लगाई पिटाई
भोपाल। कोलार में विनीत कुंज के पास मेन रोड पर हुए अतिक्रमण का जायजा लेने पहुंचे विधायक रामेश्वर शर्मा से एक बिल्डर के चौकीदार ने बदतमीजी की। इस पर विधायक के सुरक्षाकर्मी ने चौकीदार की पटाई लगा दी। विधायक तहसीलदार आकाश श्रीवास्तव, सीएमओ सत्येंद्र सिंह धाकरे के साथ विनीत कुंज में सड़क पर हुए अतिक्रमण शिकायत की जांच करने पहुंच थे।
इससे पहले पूर्व विधायक ने दशहरा मैदान के पास करीब 68 एकड़ में स्थित बहादुरी नगर का निरीक्षण किया। यहां पार्क विकसित करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। इसके बाद विधायक ने सनखेड़ी में प्रस्तावित श्मशान घाट का निरीक्षण किया। उन्होंने यहां पर सीएमओ एसएस धाकरे को एप्रोच रोड का निर्माण कराने के लिए कहा।
इसके बाद विधायक का काफिला सलैया पहुंचा। यहां पर उन्होंने बीडीए द्वारा 45 एकड़ में बनाए जा रहे हाउसिंग प्रोजेक्ट का जायजा लिया। बीडीए के अधिकारियों को पार्क और सामुदायिक भवन का निर्माण कराने का सुझाव दिया।


पुलिस ने पढ़ाया नशा मुक्ति का पाठ, निकाली जागरूकता रैली
भोपाल। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्य तिथि के उपलक्ष्य में गुरुवार को पुलिस और नगर सुरक्षा समिति चूनाभट्टी व कोलार थाना ने नशा मुक्ति अभियान शुरू किया। इसके तहत समिति के लोगों ने पुलिस के साथ चूनाभट्टी थाने से एक जागरूकता रैली निकाली।
इसके बाद चूनाभट्टी चौराहे पर स्थित चौकी पोस्टर, बैनरों के माध्यम से नशा मुक्ति को लेकर संदेश दिया। समिति के सदस्यों व पुलिस ने वहां से गुजरने वाले नागरिकों को पेम्पलेटस बांटे। इसमें नशे के सेवन के दुष्परिणामों की जानकारी लिखी हुई थी।
चूनाभट्टी टीआई जितेंद्र पाठक व नगर सुरक्षा समिति संयोजक महेश चंद्र भटनागर ने बताया कि नशे मुक्ति को लेकर 15 दिवसीय जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। हर दूसरे रोज समिति के लोग व पुलिस के जवान नागरिकों से नशा छोडऩे की अपील करेंगे। उन्हें बीड़ी, सिगरेट, धारु के सेवन से होने वाली जान लेवा बीमारियों के बारे में बताएंगे।


वार्ड कार्यालय पर पूर्व पार्षदों का मोबाइल नंबर लिखने पर विवाद
भोपाल। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने भाजपा के पूर्व पार्षदों के नंबर लिखे जाने का विरोध कर दिया। उन्होंने नगर पालिका पर पूर्व पार्षदों को उपकृत करने का आरोप लगाते हुए सीएमओ एसएस धाकरे को शिकायत कर दी। साथ ही वार्ड कार्यालय पर धरना देने की धमकी दे डाली। विवाद बढ़ता देख नपा सीएमओ ने पूर्व पार्षदों के नाम मिटाने के निर्देश दिए। इसके बाद वार्ड कार्यालय से नाम हटवा दिया गया।
दरअसल, कोलार में रहवासियों की समस्याओं सुनने और वार्डों कार्यालय बनाकर वहीं पर उनका निराकरण करने के लिए नपा प्रशासन ने हाल ही में वार्ड कार्यालय बनाए हैं। इसके तहत वार्ड एक व वार्ड दो का कार्यालय सर्वधर्म कॉलोनी के कल्पना चावला गार्डन में बनाया गया है। इस पर क्षेत्रीय विधायक रामेश्वर शर्मा के साथ ही दोनों पूर्व पार्षद आरती बोराना व अमित शुक्ला का नाम लिख दिया गया था। इस पर कांग्रेसियों को आपत्ति थी।

मोबाइल नंबर लिखने को लेकर भाजपाई-कांग्रेसी आमने-सामने :

कांग्रेस कार्यकर्ता राहुल सिंह ने बताया कि कल्पना चावला गार्डन में वार्ड कार्यालय खोलने को लेकर कोई आपत्ति नहीं है। इससे तो स्थानीय लोगों को फायदा ही है, लेकिन पूर्व पार्षदों के मोबाइल नंबर उस पर लिखना ठीक नहीं है। यह उनका प्रचार करना है। यदि वे वर्तमान में पार्षद होते तो नंबर लिखा जा सकता था। वहीं, वार्ड दो से भाजपा के पूर्व पार्षद अमित शुक्ला का कहना है कि उनके कार्यकाल में विकास कार्य हुए हैं। कांग्रेस के पास कोई मुद्दा नहीं है। इसलिए मोबाइल नंबर पर को लेकर राजनीति कर रहे हैं।


कोलार नपा के नये सीएमओ का वादा-गड़बडिय़ां रोकने उठाएंगे सख्त कदम
भोपाल। भोपाल। नगर पालिका कोलार के रहवासियों के लिए स्थाई पेयजल आपूर्ति के इंतजाम करने की यूआईडीएसएसएमटी के तहत 52 करोड़ की प्रस्तावित योजना का काम जल्द शुरू कराया जाएगा। इसके साथ ही तमाम गड़बडिय़ों पर रोक लगाने के लिए कारगर कदम उठाए जाएंगे।
यह बात नगर पालिका कोलार के नव नियुक्त सीएमओ सत्येंद्र सिंह धाकरे ने सोमवार को कही। वे गेहूंखेड़ा स्थित नपा कार्यालय में सीएमओ का चार्ज लेने पहुंचे थे। तहसीलदार आकाश श्रीवास्तव ने उन्हें चार्ज दिलाया। इसके बाद उन्होंने कहा कि कोलार में पानी, रोड नेटवर्क और बिजली को लेकर सबसे ज्यादा शिकायतें मिली हैं। उनका निराकरण करना प्राथमिकता में होगा। साथ ही जो गड़बडिय़ां हैं, उनको भी तत्काल दूर करने के प्रयास किए जाएंगे। धाकरे के साथ उपयंत्री राकेश गुप्ता ने भी पदभार ग्रहण किया। दोनों मंगलवार से अपना कामकाज शुरू कर देंगे।


3 कॉलोनियों के 200 से ज्यादा फोन डेड, नाली निर्माण के दौरान हुई खुदाई
भोपाल. उपनगर की मंदाकिनी कॉलोनी, शिरडीपुरम और सर्वधर्म बी-सेक्टर के करीब दो सौ से ज्यादा टेलीफोन डेड हो गए हैं। मंदाकिनी कॉलोनी के गेट के नजदीक नाली निर्माण के लिए की गई खुदाई की वजह से यह स्थिति निर्मित हुई है। फोन डेड होने के कारण लोगों को परेशानी हो रही है। बीते दो दिनों से यह स्थिति बनी हुई है। रहवासियों ने इस बारे में बीएसएनएल और आइडिया व एयरटेल कंपनी कार्यालय में शिकायत भी की है, मगर वे लोग भी कुछ नहीं कर पा रहे हैं। कंपनी अधिकारियों के अनुसार लाइन ठीक होने में दो दिन का समय और लग सकता है। मंदाकिनी निवासी अंबर पाटिल ने बताया कि बीते दो दिनों से फोन बंद पड़ा है। इस कारण परेशानी हो रही है।
पीडब्ल्यूडी के उपयंत्री मुकेश सेन ने बताया कि मंदाकिनी के पास कोलार रोड के चौड़ीकरण का काम चल रहा है। इसके लिए वहां पर खुदाई की गई है। जेसीबी से हुई खुदाई के दौरान फोन लाइन कट गईं होंगी। अभी वहां पर काम जारी है, जो दो-तीन दिन और चलेगा। इस कारण से स्थिति सामान्य होने में समय लग जाएगा।


पिकनिक स्पॉट बना बेतवा का उद्गम स्थल झिरी
भोपाल। विंध्याचल की पर्वतमाला के मध्य स्थित है बेतवा नदी का उद्गम स्थल झिरी। रातापानी अभयारण्य के अंतर्गत आने वाले इस स्थल पर प्राकृतिक रूप से पानी की एक झिर निकली हुई है। इस झिर से कई सौ वर्षों से पानी निकल रहा है। यह पानी भोपाल, रायसेन और विदिशा जिले से होता हुआ यमुना नदी में मिलता है। इसके दर्शन के करने व पिकनिक मनाने के लिए सैकड़ों लोग आते हैं। कोलार के सर्वधर्म पुल से करीब 19 किलोमीटर दूर स्थित झिरी के विकास पर कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। इस धार्मिक स्थल की उपेक्षा हो रही है। करीब दो साल पहले यहां पर उद्गम स्थल पर पक्का निर्माण किया गया है। कुंड बनाने के बजाए एक गोलाकार दीवार उठा दी गई है। बीच में उद्गम पर एक नंदी बना दिया गया है, जिसके मुख से पानी निकल रहा है। यह निर्माण भी यहां दो साल पहले ही किया गया है। वो भी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के निर्देश पर। मुख्यमंत्री बनने के बाद शिवराज सिंह चौहान जब अपनी कैबिनेट की बैठक के लिए कोलार डेम आए थे उस वक्त वे झिरी दर्शन के लिए रुके थे। तब उन्होंने इसका विकास करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिया था।

पुरातत्व की दृष्टि से भी महत्वपूर्ण

झिरी के आसपास कई शैलाश्रय बने हुए हैं, जिनमें आदि मानव निवास करते थे। यहां हुए पुरातत्व सर्वेक्षण में करीब 15 लाख साल प्राचीन पत्थर के औजार भी मिले हैं। ताम्र संस्कृति के अवशेष भी पाए गए हैं। इस क्षेत्र की खोज 1975 में प्रोफेसर शंकर तिवारी ने की थी। वन विभाग के सर्वेक्षण में भी इसे बेतवा उद्गम बताया गया है।

यमुना नदी में मिल जाता है झिरी का पानी

झिरी क्षेत्र में कोलार मेन रोड से करीब 500-600 मीटर की दूरी पर एक प्राकृतिक पानी की झिर निकली हुई है। सैकड़ों सालों से इस झिर से पानी ऊपर आ रहा है। यह पानी झिरी से निकलकर भोजपुर, रायसेन, विदिशा, होते हुए झांसी के निकट सुल्तानपुर स्थित यमुना नदी में जाकर मिलता है।

लोग मनाते हैं पिकनिक

झिरी कोलार ही नहीं बल्कि पूरे शहर में पिकनिक स्पॉट के रूप में फेमस है। कोलार डेम से छह किलोमीटर पहले पड़ता है। लोग यहां परिवारजनों के साथ पिकनिक मनाते हैं।

धार्मिक महत्व

प्राचीन साहित्य में बेतवा नदी को वेत्रवती कहा है। इसका वर्णन कालीदास द्वारा रचित मेघदूत पुस्तक में है। इसके किनारे कई सभ्यताओं का विकास हुआ। बेतवा नदी के किनारे रामायण और महाभारत कालीन दशाण क्षेत्र था। उस समय इसकी राजधानी विदिशा थी।
बेतवा नदी का उद्गम स्थल झिरी कई मायनों में महत्वपूर्ण है। उसका विकास ठीक उसी तरह होना चाहिए, जिस तरह से अमरकंटक में नर्मदा नदी के उद्गम स्थल का किया गया है। इसके अलावा झिरी में पुरातत्व सर्वेक्षण किए जाने पर कई अहम जानकारियां प्राह्रश्वत हो सकती हैं।- डॉ. नारायण व्यास, पुरातत्वविद्


कोलार के 20 गांवों में 24 घंटे बिजली मिलना शुरू
भोपाल। कोलार नगर पालिका से जुड़े करीब 26 गांवों में 24 घंटे बिजली सप्लाई का काम पूरा होने वाला है। अब तक करीब 20 गांवों में बिजली सप्लाई शुरू भी हो चुकी है तथा आधा दर्जन गांवों में लाइन बिछाने का काम चल रहा है। फीडर्स लाइट कंपनी को इस काम का जिम्मा दिया गया है। कोलार में सर्वधर्म से बैरागढ़ चीचली तक ही शहरी फीडर से बिजली सप्लाई थी। इसके आसपास के कई क्षेत्रों में ग्रामीण फीडर होने से यहां के लोगों को 8 से 10 घंटे ही बिजली मिल पाती थी। बिजली कंपनी द्वारा नपा सीमा में आने वाले और सीमा से बाहर दो दर्जन से अधिक गांवों में शहरी फीडर लगाने का का शुरू किया था, जिसमें अधिकांश जगह सप्लाई शुरू हो चुकी है। आधा दर्जन गांव और शेष है। जानकारी के अनुसार गांवों में बिजली खपत के हिसाब से अलग-अलग ट्रांसफार्मर और फीडर स्थापित किए जा रहे हैं, जो सर्विस लाइन से अटैच रहेंगे। घरों के लिए कनेक्शन सीधे शहरी फीडर से होगा। जबकि कृषि के लिए अलग ग्रामीण फीडर स्थापित किए जाएंगे।


छह इमारतों के बेसमेंट पर बनेगी पार्किंग
भोपाल। कोलार मेनरोड के किनारे बनी बहुमंजिला इमारतों के बेसमेंट पर पार्किंग बनेगी। उपनगर की आधा दर्जन बहुमंजिला इमारतों को इसके लिए चिन्हित किया गया है। कलेक्टर निकुंज श्रीवास्तव के निर्देश पर यह काम शुरू किया जा रहा है। इस बार इन इमारतों के बेसमेंट पर रैंप व स्लोप बनाने का काम नगर पालिका खुद करवाएगी। बाद में खर्च होने वाला व्यय भवन मालिकों से वसूला जाएगा। नगर पालिका अधिकारियों का कहना है कि पहले भवन मालिकों को नोटिस जारी होंगे। अगर व तीन दिनों में काम चालू नहीं करते हैं तो खुद नगर पालिका काम करवाएगी। यह पार्किंग शालीमार गार्डन स्थित गुरूकृपा टावर, शालीमार पार्क स्थित शैफी शूज हाउस, राजहर्ष नयापुरा स्थित मायाराम काम्पलेक्स, मंदाकिनी स्थित आपूर्ति बाजार की इमारत, महाबली नगर स्थित बग्गा जी का बहुमंजिला भवन तथा महाबली नगर में ही बने दिलीप बच्चानी के भवन में बनायी जाएगी।


कोलार में वाहन पार्किंग पर देना होगा शुल्क
भोपाल। कोलार उपनगर के मेन मार्केट में वाहन पार्क करने पर अब शुल्क देना होगा। नगर पालिका प्रशासन वाहन मालिकों से पार्किंग शुल्क वसूलने वाला है। वित्त वर्ष 2013-14 के बजट में इसका प्रावधान किया गया है। गुरुवार को नपा प्रशासक व एसडीएम राजेश श्रीवास्तव ने वित्त वर्ष 2013-14 के लिए 95 करोड़ 84 लाख 90 हजार रुपए का बजट पेश किया। इसमें दो करोड़ 92 लाख 56 हजार 320 का मुनाफा बताया गया है। हालांकि, पार्किंग के लिए कितना शुल्क देना होगा और यह कब से वसूला जाएगा, इसकी घोषणा फिलहाल नहीं की गई है।
नपा कोलार का भोपाल ननि में विलय प्रस्तावित है। इसके चलते बजट में कोई नई घोषणाएं नहीं की गई हैं। सीवेज व पानी सप्लाई के नपा के पुराने प्रोजेक्ट को जस का तस शामिल कर लिया गया है। ऐसे में नए वित्त वर्ष के बजट की राशि 95 करोड़ का आंकड़ा पार कर गई है। वित्त वर्ष 2012-13 में यह राशि 87 करोड़ थी। हालांकि लोगों को राहत देते हुए किसी तरह का टैक्स नहीं लगाया गया है और न ही बढ़ाया गया है। इसके अलावा पार्क, खेल मैदान, स्वीमिंग पूल, सामुदायिक भवन का प्रावधान कर लोगों को खुश करने की भी कोशिश की गई है। सीवेज सेक्शन मशीन, सीवेज लाइनों की मरम्मत व निर्माण पर सात करोड़ 72 लाख की राशि खर्च करने का प्रावधान कर समस्या को दूर करने का प्रयास किया गया है।


होली खेलने के दौरान बच्चे की करंट से मौत
भोपाल। कोलार रोड की पैलेस ऑर्चर्ड कॉलोनी में होली खेलने के दौरान बच्चे की करंट लगने से मौत हो गई। हादसा उस वक्त हुआ, जब लोग बुधवार को कॉलोनी पार्क में जमा होकर होली खेल रहे थे। इसी बीच छात्र देवांश का पैर फिसला और उसका हाथ वहां लगे पोल को छू गया। पोल में करंट था, जिससे वह बेहोश हो गया। उसे तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। सेंट जोसेफ को-एड स्कूल के छात्र देवांश के पिता भी हादसे के वक्त पास ही मौजूद थे। जिस पोल में करंट आने से हादसा हुआ, उसे कॉलोनी के लोगों ने बैडमिंटन खेलने के लिए लगाया था। हादसे में अपने इकलौते बेटे देवांश को गंवाने वाले चंद्रभूषण बादल पैलेस ऑर्चर्ड के बी-३५ मकान में रहते हैं। वे स्कूल संचालक हैं। उनके मुताबिक उस वक्त सुबह के करीब साढ़े दस बजे थे। पांचवीं में पढऩे वाला उनका बेटा देवांश भी पार्क में अपने दोस्तों के साथ होली खेल रहा था। तभी देवांश पोल के पास पहुंचा और अचानक उसका पैर फिसल गया। संभलने के लिए उसने जैसे ही पोल को पकड़ा, वह गिरकर बेहोश हो गया। आनन-फानन में उसे अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। गौरतलब है कि पार्क में बैडमिंटन खेलने के लिए दो पोल लगाया गया था। समझा जा रहा है कि लाइट के लिए लगे किसी तार के पोल से छू जाने के कारण उसमें करंट आया।


कोलार को नगर निगम में शामिल करने की अनुशंसा
भोपाल। कोलार नगर पालिका के नगर निगम सीमा में विलय का रास्ता साफ हो गया है। सोमवार को कलेक्टर निकुंज श्रीवास्तव ने विलय की अनुशंसा करते हुए राज्य शासन को इस संबंध में रिपोर्ट भेज दी। अब इस पर अंतिम निर्णय शासन को करना है। कोलार में पीने के पानी की समस्या को देखते हुए लंबे समय से इसे निगम में शामिल किए जाने की मांग हो रही थी। नवंबर 2012 में सांसद कैलाश जोशी व महापौर कृष्णा गौर के बीच इस मसले पर सहमति बनने के बाद कोलार के निगम में विलय की कवायद शुरू हुई थी। इस पर नगरीय प्रशासन मंत्री बाबूलाल गौर ने भी सहमति जताई। इसके बाद कलेक्टर के आदेश से इसकी प्रारंभिक सूचना का प्रकाशन हुआ। राज्य सरकार की सैद्धांतिक सहमति मिलने के बाद ही 22 नवंबर को कोलार को निगम में शामिल करने की प्रारंभिक सूचना का प्रकाशन राजपत्र में किया गया था। इस पर दावे आपत्ति के लिए महीने भर का समय दिया गया था। जानकारी के मुताबिक इसके पक्ष में 1400 से ज्यादा दावे प्रस्तुत हुए। कुछ आपत्तियां भी लगीं। कलेक्टर ने शासन को भेजी गई अनुशंसा में इन आपत्तियों पर भी टिप्पणी लिखी है।


कोलार के 20 गांवों में 24 घंटे बिजली मिलना शुरू
भोपाल। कोलार नगर पालिका से जुड़े 26 गांवों में 24 घंटे बिजली सप्लाई का काम पूरा होने वाला है। अब तक करीब 20 गांवों में बिजली सप्लाई शुरू भी हो चुकी है तथा आधा दर्जन गांवों में लाइन बिछाने का काम चल रहा है। फीडर्स लाइट कंपनी को इस काम का जिम्मा दिया गया है। कोलार में सर्वधर्म से बैरागढ़ चीचली तक ही शहरी फीडर से बिजली सप्लाई थी। इसके आसपास के कई क्षेत्रों में ग्रामीण फीडर होने से यहां के लोगों को 8 से 10 घंटे ही बिजली मिल पाती थी। बिजली कंपनी द्वारा नपा सीमा में आने वाले और सीमा से बाहर दो दर्जन से अधिक गांवों में शहरी फीडर लगाने का का शुरू किया था, जिसमें अधिकांश जगह सप्लाई शुरू हो चुकी है। आधा दर्जन गांव और शेष है। जानकारी के अनुसार गांवों में बिजली खपत के हिसाब से अलग-अलग ट्रांसफार्मर और फीडर स्थापित किए जा रहे हैं, जो सर्विस लाइन से अटैच रहेंगे। घरों के लिए कनेक्शन सीधे शहरी फीडर से होगा। जबकि कृषि के लिए अलग ग्रामीण फीडर स्थापित किए जाएंगे।


छह इमारतों के बेसमेंट पर बनेगी पार्किंग
भोपाल। कोलार मेनरोड के किनारे बनी बहुमंजिला इमारतों के बेसमेंट पर पार्किंग बनेगी। उपनगर की आधा दर्जन बहुमंजिला इमारतों को इसके लिए चिन्हित किया गया है। कलेक्टर निकुंज श्रीवास्तव के निर्देश पर यह काम शुरू किया जा रहा है। इस बार इन इमारतों के बेसमेंट पर रैंप व स्लोप बनाने का काम नगर पालिका खुद करवाएगी। बाद में खर्च होने वाला व्यय भवन मालिकों से वसूला जाएगा। नगर पालिका अधिकारियों का कहना है कि पहले भवन मालिकों को नोटिस जारी होंगे। अगर व तीन दिनों में काम चालू नहीं करते हैं तो खुद नगर पालिका काम करवाएगी। यह पार्किंग शालीमार गार्डन स्थित गुरूकृपा टावर, शालीमार पार्क स्थित शैफी शूज हाउस, राजहर्ष नयापुरा स्थित मायाराम काम्पलेक्स, मंदाकिनी स्थित आपूर्ति बाजार की इमारत, महाबली नगर स्थित बग्गा जी का बहुमंजिला भवन तथा महाबली नगर में ही बने दिलीप बच्चानी के भवन में बनायी जाएगी।


 
Copyright © 2014, BrainPower Media India Pvt. Ltd.
All Rights Reserved
DISCLAIMER | TERMS OF USE